मनी प्लांट लगाते समय रखें इन बातों का ख़्याल.. (Keep these things in mind while planting a money plant)

अपने घर के खुले कक्ष, बरामदे, बालकनी, बगीचे आदि को सुंदर बनाने के लिए लोग अंदर और बाहर कई तरह के पेड़-पौधे लगाते हैं. पिछले…

अपने घर के खुले कक्ष, बरामदे, बालकनी, बगीचे आदि को सुंदर बनाने के लिए लोग अंदर और बाहर कई तरह के पेड़-पौधे लगाते हैं. पिछले तीन दशक से घर के बाहर या भीतर साफ़ हवा के लिए कुछ पेड़ों को लगाना बहुत फ़ायदेमंद बताया गया है. सिर्फ साफ़ हवा ही नहीं, बल्कि पौधे मन की बैचेनी को दूर कर दिलो-दिमाग़ में सुकून और वैचारिक समद्धि तक लाते हैं. इस लिहाज से मनी प्लांट एक पसंदीदा बेलदार पौधा है, क्योंकि ये घर के किसी भी हिस्से में आराम से लग जाता है. ज़्यादातर लोग इसे घर की सुंदरता बढ़ाने के लिए लगाते हैं.
हमारे घरों में कारपेट, गलीचे, डोरमैट, फर्नीचर आदि में बहुत से ऐसे कण होते हैं, जो घर के अंदर भी हवा को प्रदूषित करते हैं. मनी प्लांट के एक-दो पौधे भी हों, तो यह हवा को प्योरिफाई करने का काम करते हैं.

इसकी बहुत-सी वैरायटी होती हैं. कोई गहरे हरे रंग का, तो कोई बहुत ही हल्के रंग का होता है. किसी में छोटे पत्ते होते हैं, तो किसी में काफ़ी बड़े पत्ते होते हैं. लेकिन सबसे अच्छी बात है कि आप मनी प्लांट को मिट्टी और पानी, दोनों में ही उगा सकते हैं.

बागवानी विशेषज्ञों के अनुसार, मनीप्लांट का पौधा जहां रखें, वहां कुछ बातों पर गौर करना ही चाहिए. दरअसल, मनीप्‍लांट बेल है ना की पौधा और इसे बढ़ने के लिए सहारे की ज़रूरत होती है. इसलिए इसे थोड़ा बढ़ने के बाद किसी डोरी की सहायता से ज़रूर बांध दें. इसके तने को किसी लकड़ी या प्‍लास्‍टिक के खंबे के साथ बांध दें, तो यह जल्‍दी बढे़गा.

पानी में लगाए मनीप्लांट
अच्‍छा होगा कि मनीप्‍लांट को किसी बोतल में लगाया जाए. जब उसकी जड़े निकल आएंगी, तब उसे किसी गमले में लगा दिया जाए. इससे वे जल्‍दी उगेंगे.

पानी की सही मात्रा का ध्यान रखें
ऎसा नही है कि मनीप्‍लांट को हरा बनाए रखने के लिए आप इसमें हर वक़्त पानी डालते रहें. इसमें ज़्यादा पानी नहीं डालना चाहिए. इन्‍हें उगने के लिए ज़्यादा पानी की आवश्‍यकता नहीं होती. हमेशा मौसम के हिसाब से पानी डालें.

यह भी पढ़ें: क्या आप जानते हैं, भारतीय संगीत की उत्पत्ति साम वेद से मानी जाती है और वैदिक चांट्स हैं मूल व प्राचीनतम भारतीय संगीत! (Music Therapy: The Vedic Origin Of Indian Music)

सूरज की हल्की धूप में रखें
मनीप्‍लांट को सूरज की धूप बहुत पसंद है, लेकिन ज़्यादा तेज धूप इसे नुक़सान पहुचा सकती है. आप उसे खुली खिड़की पर रखेगें, तो आप पाएंगे कि वह सूरज की ही ओर ग्रो कर रहा होगा. इसलिए मनीप्‍लांट को रोज़ तो नहीं, पर फिर भी एक-एक दिन छोड़ कर धूप दिखाएं.

खाद भी डालें
जब आप मनीप्लांट को पानी से निकाल कर मिट्टी के गमले में लगा दें, तो इसमें आपको खाद भी डालनी चाहिए. इसमें आप किसी भी प्रकार की खाद प्रयोग कर सकते हैं.

कटिंग
प्‍लांट की सूखी प‍त्तियां और लतों को काट कर आप उनकी ग्रोथ को बढ़ा सकते हैं.

सावधानियां
मनी प्लांट ऎसी जगह रखें जहां अधिक धूप ना हो. इसे घर में भी रखा जा सकता है.
अगर बगीचा नहीं है, तो इसे हमेशा पानी में रखें और इस पानी को हर सप्ताह बदलते रहें.
ज़मीन पर लगा है, तो इसकी बेलों को नहीं फैलाना चाहिए. उन बेलों को ऊपर जाने दीजिए, आप महसूस करेंगी कि सुंदरता बढ़ जाएगी.

अच्छा होगा कि मनीप्लांट घर की किसी ऐसी दिशा में हो, जहां हवा और हल्की रोशनी आ रही हो. इसे बंद गोदाम या बाथरूम में रखना और छोड़ देना सही नहीं है, क्योंकि वहां इस पौधे को घुटन होगा और इसकी पत्तियां सूख कर झड़ सकती हैं.
हफ़्ते या दो हफ़्ते में एक बार प्लांट की मिट्टी को चेक करते रहें. मिट्टी में अगर पानी की मात्रा ज़्यादा लग रही हो, तो उसमें पानी की मात्रा कम डालें या इसके थोड़ा सूखने का इंतज़ार करें. ध्यान दें कि मिट्टी पूरी तरह सूखे नहीं. हमेशा हल्की नमी वाली खाद इस पौधे के लिए बेहतर होती है. इसका सबसे अच्छा तरीक़ा है कि पॉट के नीचे एक होल कर दें, ताकि अतिरिक्त पानी निकल जाए.

पूनम पांडे


यह भी पढ़ें: कहीं आप भी बॉडी शेमिंग के शिकार तो नहीं? (How To Handle Body Shaming?)


Photo Courtesy: Freepik

Share
Published by
Usha Gupta

Recent Posts

कहानी- अढ़ाई कोस (Story- Adhai Kos)

सारा वापसी की ओर चल पड़ी. वह घर से निकलकर होटल की ओर चल दी.…

© Merisaheli