क्यों आती है उठते-बैठते वक्त हड्डियां चटकने की आवाज़? जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स? (Why Your Bones Make Noise When You Walk Up Or Move, Know Everything About Joint Cracks And Pops)

हमारे अंग कई बार शरीर में किसी असमान्यता या बीमारी का संकेत देते हैं, ताकि आप समय रहते अलर्ट हो जाएं और डॉक्टरी जांच कराकर सही समय पर इलाज करवाएं और बीमारी बढ़ने न पाए. आप शुरुआती स्टेज पर ही ट्रीटमेंट करा सकें. हड्डियों से उठते-बैठते समय आनेवाली आवाज़ भी ऐसा ही संकेत है, जिस पर समय रहते ध्यान ज़रूरी है.

आपने नोट किया होगा कि कभी-कभी उठते-बैठते या चलते समय हड्डियों से आवाज़ आती है, ऐसा लगता है कि हड्डियां चटक रही हैं. आमतौर पर लोग हड्डियों से आने वाली इस तरह की आवाज़ को अनदेखा कर देते हैं. उन्हें लगता है ये नॉर्मल बात है और इसके लिए डॉक्टर के पास जाने की क्या ज़रूरत. लेकिन ऐसा नहीं है. हड्डियों से आनेवाली ये कट-कट की आवाज़ हड्डियों के किसी बीमारी या शरीर के भीतर चल रही किसी गंभीर समस्या का संकेत भी हो सकती है. इसलिए इसे नज़रअंदाज़ न करें.

एक नज़र इन फैक्ट्स पर:

  • हड्डियों में आवाज आने को क्रैकिंग या पॉपिंग कहा जाता है.
  • मेडिकल भाषा में जोड़ों से आने वाली इस तरह की आवाज़ को क्रेपिटस के रूप में जाना जाता है.
  • जिन लोगों को उंगलियां चटकाने की आदत होती है, उनमें यह समस्या अधिक पाई जाती है.
  • हालांकि एक्सपर्ट्स के अनुसार हड्डियों से आनेवाली इस तरह की आवाज़ हड्डियों के स्वास्थ्य में किसी गड़बड़ी का संकेत नहीं है.

हड्डियों के चटकने के कारण
हड्डियों से आवाज़ आने के अलग-अलग कई कारण हो सकते हैं. कुछ लोग मानते हैं कि यह हड्डियों की किसी गंभीर स्थिति का संकेत है जबकि कुछ लोग इसे सीरियस स्थिति नहीं मानते. आइए जानते हैं कि क्यों आती है हड्डियों से इस तरह की आवाज़?

एयर बबल्स
कई बार जोड़ों के बीच में एयर बबल्स जमा हो जाते हैं, जिससे हड्डियों में आवाज़ होती है. यदि इससे आपको चलने-फिरने में कोई समस्या नहीं हो रही है, तो चिंता की कोई बात नहीं. हड्डियों से कट-कट की आवाज़ आने का मतलब है कि हड्डियों में एयर बबल्स बन गए हैं, जिस वजह से उठते-बैठते समय आवाज़ आती है.

बढ़ती उम्र
मेडिकल एक्सपर्ट्स के अनुसार जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है, जोड़ों में इस तरह की आवाज़ आना बढ़ सकता है. दरअसल उम्र बढ़ने के साथ जोड़ों के कुछ कार्टिलेज खराब हो जाते हैं, जिससे यह समस्या हो सकती है.

स्टियो आर्थराइटिस
ऑस्टियोआर्थराइटिस की समस्या के कारण भी आपको हड्डियों और जोड़ों से कट-कट की आवाज़ का सामना करना पड़ सकता है. इस समस्या में आपके जोड़ों में सूजन बढ़ जाती है और इसकी वजह से गंभीर परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.

चोट लगने पर
कई बार इस तरह की आवाज़ दर्द या सूजन के साथ होती हैं या चोट लगने के बाद होती है. ऐसी स्थिति में डॉक्टर को कंसल्ट करना बेहतर होता है, ताकि सही कारण का पता चल सके और समय पर इलाज कराया जा सके.

मसल्स में खिंचाव
एक अध्ययन के अनुसार, जब मसल्स में खिंचाव आ जाता है, तो ऐसी स्थिति में भी हड्डियों के चटकने की आवाज़ आ सकती है. यह संकेत है कि आपकी मसल्स पर किसी तरह का स्ट्रेस है. इसकी वजह से आपको जोड़ों में दर्द और सूजन भी हो सकती है. लंबे समय तक हड्डियों से कट-कट की आवाज़ आए तो आपको डॉक्टर की सलाह ज़रूर लेनी चाहिए.

गठिया
गठिया भी इसकी वजह हो सकती है. गठिया होने पर कार्टिलेज खराब हो सकता है, जिससे हड्डियों से ऐसी आवाज आ सकती है.

कैसे करें बचाव?

  • अगर आपको ये समस्या है, तो सबसे पहले अपना फिजिकल चेकअप करवाएं.
  • नियमित रूप से एक्टिव रहें और कुछ व्यायाम करते रहें. यदि आप ज़्यादा देर तक बैठे रहते हैं या एक ही स्थिति में बहुत अधिक खड़े होते हैं, तो आपकी बॉडी में अकड़न आ सकती है और आपके जोड़ों में आवाज आ सकती है. यदि आप पूरे दिन डेस्क पर बैठते हैं, तो कम से कम हर आधे घंटे में ब्रेक लें और थोड़ी देर टहल लें.
  • इससे बचने का एक अन्य उपाय स्ट्रेचिंग है. रोजाना थोड़ी देर स्ट्रेचिंग करें. इससे आराम मिलेगा.
  • दिमाग और शरीर को शांत रखने की कोशिश करें.
  • स्ट्रेस से दूर रहें. कुछ लोग स्ट्रेस की वजह से जोड़ों को चटकाते रहते हैं. स्ट्रेस से निपटने के लिए डीप ब्रीदिंग एक्सरसाइज़ करें. मेडिटेशन करें या स्ट्रेस बॉल का सहारा लें.
  • बचाव के लिए कभी-कभी जोड़ों की एक्सरसाइज़ भी कर सकते हैं.
  • कैल्शियम की पूर्ति के लिए हल्दी वाले दूध का सेवन करें. इसके अलावा दिन में एक बार गुड़ और भुने हुए चने जरूर खाएं. इससे हड्डियों की कमजोरी दूर हो जाएगी.
  • कार्टिलेज कोलेजन से बने होते हैं. इसके प्रोटीन को बनाने के लिए आपके शरीर को विटामिन सी की आवश्यकता होती है. इसके लिए ब्रोकली, पालक, संतरा, नींबू, ओमेगा-3 एसिड को डायट में ज़रूर शामिल करें. इसके अलावा सीड्स और ड्रायफ्रूट्स को भी अपने डायट में शामिल करना न भूलें.
  • अपने शरीर को भरपूर आराम दें. अगर हो सके तो कम से कम 8 घंटे की नींद ज़रूर लें.

हड्डियों से आती है कट-कट की आवाज़ तो ये 3 चीजें देंगी तुरंत राहत


मेथी दाने: मेथी दाने का सेवन हड्डियों के लिए फायदेमंद है. इसके लिए रात को आधा चम्मच मेथी दाना पानी में भिगो दें, फिर सुबह मेथी दानों को चबा-चबा कर खाएं. साथ ही इसके पानी को भी पी लें. नियमित रूप से ऐसा करने से हड्डियों से आवाज़ आना बंद हो जाएगी और जोड़ों के दर्द से भी राहत मिलेगी.

दूध पीएंः हड्डियों से कट-कट की आवाज़ आने का मतलब ये भी हो सकता है कि उनमें लुब्रिकेंट की कमी हो गई है. अक्सर उम्र बढ़ने के साथ-साथ यह समस्या बढ़ने लगती है. इसलिए शरीर को पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम मिलना बहुत ज़रूरी है. कैल्शियम के अन्य स्रोत को अपने डायट में शामिल करने के साथ ही रोज़ाना दूध पीने की आदत भी डालें.

गुड़ और चना खाएंः भुने हुए चने के साथ गुड़ का सेवन भी हड्डियों के लिए फायदेमंद माना जाता है. भुने हुए चने में कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन और विटामिन भरपूर मात्रा में पाया जाता है. दिन में एक बार गुड़ और भुने हुए चने ज़रूर खाएं. इससे हड्डियों की कमज़ोरी दूर हो जाएगी और कट-कट की आवाज़ आना भी बंद हो जाएगी.

Pratibha Tiwari

Share
Published by
Pratibha Tiwari

Recent Posts

कहानी- देवदास (Short Story- Devdas)

“तुम इतने असंस्कारी कैसे हो सकते हो?” उसकी आंखों में आंसू थे. शायद उसे गहरा…

July 7, 2024
© Merisaheli