क्या आप भी अपने रिश्तों में करते हैं ये ग़लतियां? इनसे बचें ताकि रिश्ते टिकाऊ बनें (Common Marriage Mistakes To Avoid: Simple And Smart Tips For A Healthy And Long-Lasting Relationship)

रिश्तों की डोर काफ़ी नाज़ुक होती है इसमें ज़रा सा ढीलापन या ज़रूरत से ज़्यादा खिंचाव इसे तोड़ सकता है. बेहतर होगाकि हम अपने रिश्तों को संतुलित और सहज रखें. छोटी-छोटी बातों और ग़लतियों को इतना बड़ा ही न बनने दें कि रिश्तेपर आंच आ जाए. फ़ॉलो करें ये टिप्स जिन्हें आप भी जानते-समझते हैं लेकिन बस नज़रअंदाज़ कर देते हैं.  डाउनलोड करें हमारा मोबाइल एप्लीकेशन https://merisaheli1.page.link/pb5Z और रु. 999 में हमारे सब्सक्रिप्शन प्लान का लाभ उठाएं व पाएं रु. 2600 का फ्री गिफ्ट बचें इन ग़लतियों से… …

रिश्तों की डोर काफ़ी नाज़ुक होती है इसमें ज़रा सा ढीलापन या ज़रूरत से ज़्यादा खिंचाव इसे तोड़ सकता है. बेहतर होगाकि हम अपने रिश्तों को संतुलित और सहज रखें. छोटी-छोटी बातों और ग़लतियों को इतना बड़ा ही न बनने दें कि रिश्तेपर आंच आ जाए. फ़ॉलो करें ये टिप्स जिन्हें आप भी जानते-समझते हैं लेकिन बस नज़रअंदाज़ कर देते हैं. 

डाउनलोड करें हमारा मोबाइल एप्लीकेशन https://merisaheli1.page.link/pb5Z और रु. 999 में हमारे सब्सक्रिप्शन प्लान का लाभ उठाएं व पाएं रु. 2600 का फ्री गिफ्ट

बचें इन ग़लतियों से… 

  • रिश्ते में ठंडापन न पनपने दें, क्योंकि रिश्तों में ऐसी उदासीनता ख़तरे की निशानी है. अगर आपका रिश्ता भी इसीस्थिति से गुज़र रहा है, तो अलर्ट हो जाएं.
  • वक़्त के साथ क्या आप अपने रिश्ते को भी वक़्त देना लगभग भूल सा गए? समय के साथ हम अपने रिश्ते को बहुतही कैज़ुअली लेने लगते हैं. 
  • दूसरों के लिए तो वक़्त है पर अपनों के लिए नहीं. हम अपने प्रोफेशन से लेकर दोस्तों तक को हम समय देते हैं, लेकिन धीरे-धीरे अपने रिश्ते को ही समय देना भूल जाते हैं और उनके प्रति लापरवाह हो जाते हैं.
  • एक्स्ट्रा एफ़र्ट न डालना और अपने रिश्ते के लिए अतिरिक्त प्रयास न करना बहुत बड़ी भूल है. दरअसल शादी केकुछ समय बाद हम ये सोच लेते हैं कि अब रिश्ते को ज़्यादा या अतिरिक्त समय देने की या अपनों के लिएकुछ स्पेशल करने की ज़रूरत नहीं, लेकिन ये सोच ग़लत है. रिश्तों को हमेशा प्यार और अपनेपन से सींचना पड़ताहै. 
  • रिश्ते को ऊर्जावान बनाए रखने के लिए आपके प्रयास ज़रूरी हैं. हमेशा कुछ नया करते रहें और पार्ट्नर कोस्पेशल फ़ील करवाते रहें. हमको लगता है हमारा रिश्ता स्टेबल हो गया और यहीं हम ग़लती करते हैं. धीरे-धीरेरिश्ते में बोरियत पनपने लगती.
  • अक्सर हमें एहसास ही नहीं हो पाता और हमारे बीच मौन पसर जाता है. ये कम्यूनिकेशन गैप धीरे-धीरे बड़ी खाईबन सकता है. अंजाने में ही हम अपने रिश्ते के प्रति इतने बेपरवाह होते चले जाते हैं कि आपस में बातचीत करनाहमारी प्राथमिकता में रहता ही नहीं. 
  • छोटी-छोटी बातों को हम अक्सर अपने अहम यानी ईगो का विषय बनाकर अपनों से ही उलझ पड़ते हैं. किसी भीरिश्ते की मज़बूती के लिए बहुत ज़रूरी है ईगो को बीच में न आने दिया जाए, लेकिन  हम अपने अहम् को इतनामहत्व देते हैं कि अधिकतर रिश्ते इसी के भेंट चढ़ जाते हैं.
  • रिश्तों में हमेशा झुककर चलने की, एडजेस्ट करने की और एक-दूसरे को सपोर्ट करने की ज़रूरत होती है लेकिनआपका ईगो आपको यह सब करने से रोकता है.
  • अपने रिश्ते को झूठ और अविश्‍वास जैसी चीज़ों से बचाएं, क्योंकि विश्‍वास की बुनियाद पर ही रिश्ते खड़े होते हैं. चाहे कोई भी बात या परेशानी हो या किसी चीज़ को लेकर निर्णय लेना हो, अपने पार्टनर से ज़रूर शेयर करें, क्योंकि बातें छिपाने पर ग़लतफ़हमियां बढ़ती हैं.
  • कई कपल यह ग़लती करते हैं कि जब भीउनमें कोई झगड़ा या विवाद हो जाए तो वोउसको सुलझाने की बजाए बात करना बंद कर देंगे हैं और अपने बीच केविवाद को अनसुलझा ही छोड़ देते हैं, लेकिन वो बैक फायर भी बैकफ़ायर करती सकती है.
  • ग़ुस्से में किसी भी बात का हल न ढूंढ़ें, बल्कि जब ग़ुस्सा शांत हो जाए तब उस पर बात की जाए.
  • एक दूसरे का सम्मान न करना भी रिश्ते की डोर को ढीला कर देता है. पार्टनर की बात और विचारों को महत्व दें औरउनके निर्णय का भी सम्मान करें. साथ ही उनसे विचार विमर्श करके ही आगे बढ़ें. 
  • ग़ुस्से में कभी भी एक-दूसरे के परिवारवालों को लेकर ताने न दें. इससे आप दोनों के बीच दूरियां ही बढ़ेंगी.
  • धोखा देने और एक्स्ट्रा मैरिटल एफ़ेयर से अपने रिश्ते को खोखला न करें, क्योंकि ये कुछ पलों का आकर्षण आपकेबरसों के रिश्ते को तोड़ सकता है जिसमें नुक़सान आपका ही होता है. 
  • इमोशनल ब्लैक मेलिंग से बचें. अक्सर कपल एक-दूसरे की कमज़ोरी जानते हैं और फिर उसी को लेकर अपनी बातया ज़िद मनवाते हैं. ऐसा करने से आप दोनों के बीच सम्मान व प्यार ख़त्म होता चला जाएगा.
  • बात-बात पर या बेवजह शक करना या बहुत अधिक रोक-टोक व सवाल-जवाब करना सही नहीं. इससे पार्टनर कोलगेगा कि आपको उन पर भरोसा नहीं.
  • अनरियलिस्टिक अपेक्षाएं पालना भी बहुत बड़ी गलती है. फ़िल्मी दुनिया और हक़ीक़त me बेहद फ़र्क़ होता है तोवहां से प्रेरणा लेकर अपने रिश्ते से ऐसी उम्मीदें न रखें जो पूरी न हो सकें. इससे आपको दुख होगा और रिश्ताकमज़ोर. यथार्थ में जीएं, कल्पना के संसार को वहीं तक सीमित रहने दें. 
  • अक्सर ऐसा देखा गया है कि घर के सदस्य या कपल आपस में ही प्रतियोगिता करने लग जाते हैं यह जताने के लिएकि वो श्रेष्ठ हैं या उनकी सोच हमेशा सबसे सही होती है. इतना ही नहीं वो एक-दूसरे की कामयाबी से भी ईर्ष्याकरने लगते हैं. ये न भूलें आप साथी हैं, हमसफ़र हैं, इसलिए साथ दें, कामयाबी पर जश्न मनाएं और गर्व करें.
  • इसी तरह रिश्तों में झूठ बोलने से भी बचें. भले ही झूठ किसी भी कारणवश बोला गया हो लेकिन जब वो खुलता हैतो रिश्ते में अविश्वास पनपता है और भरोसा टूटता है.
  • सेक्स को नज़रअंदाज़ करना भी बहुत बड़ी गलती है. अपनी सेक्स लाइफ़ में बोरियत न पसरने दें. कुछ न कुछ नयाट्राई करें. 

रिश्तों को टिकाऊ बनाने के ईज़ी टिप्स…

  • परिपक्वता से काम लें, और पार्टनर की भावनाओं का सम्मान करें.
  • शेयर करें, कम्यूनिकेट भी करें.
  • अपनी भावनाएं सकारात्मक रखें. नकारात्मक विचार मन से निकाल दें. 
  • न स़िर्फ अपने सुख-दुख, बल्कि छोटी-छोटी बातें भी शेयर करने का अलग ही सुख होता है. इससे रिश्ते मज़बूतबनते हैं.
  • यदि किसी में कोई कमी या कमज़ोरी भी है, तो भी उसके गुणों पर ध्यान दें.
  • भरोसा करना सीखें. इससे रिश्तों में अपनापन और प्यार बढ़ता है और सामनेवाला भी आप भी भरोसा करके ख़ुद कोसहज महसूस करता है.
  • रिश्तों में त्याग, समर्पण और एडजेस्टमेंट करना ही पड़ता है, तभी वे टिकते हैं. 
  • समय-समय पर अपने रिश्ते का विश्‍लेषण ज़रूर करें और नकारात्मक चीज़ों को बाहर करें.
  • पार्टनर को कॉम्प्लीमेंट्स दें. रोमांटिक बातें करें. 
  • रोमांटिक पलों को एंजॉय करें और ऐसे पलों को ज़रूर चुराएं, जो आप दोनों को क़रीब लाएं.
  • कुछ नया करें, ताकि एक्साइटमेंट बना रहे.
  • सरप्राइज़ दें, डेट्स प्लान करें.
  • समय के साथ-साथ सेक्स के प्रति अरुचि होने लगती है, जिससे रिश्ता उबाऊ होने लगता है. एक-दूसरे के प्रतिआकर्षण बना रहे, इसका प्रयास जारी रखें.
  • बेडरूम का डेकोर भी रोमांटिक ही रखें. बीच-बीच में डेकोर बदलते रहें, ताकि नीरसता न आए.
  • अपने लुक्स और ड्रेसिंग पर भी ध्यान दें. 
  • अपनी फिटनेस व पर्सनल हाइजीन का ख़्याल भी रखें. साथ ही ओरल हाइजीन भी ज़रूरी है.
  • बेवजह फैट्स न बढ़ने दें. एक साथ वॉक या एक्सरसाइज़ करें. डान्स या स्विमिंग क्लास जॉइन कर लें. 
  • अगर टाइम नहीं तो घर पर ही साथ में योगा करें. छुट्टी के दिन कुछ ख़ास करें. 
  • पार्टनर को स्पेशल फ़ील कराएं. उनको ये महसूस कराएं कि आपको उनकी ज़रूरत ही नहीं बल्कि उनसे प्यार भी है. 
  • ज़िम्मेदारियां बांटें, काम में मदद करें. 
  • पिंकी शर्मा 
Share
Published by
Geeta Sharma

Recent Posts

फिल्म समीक्षा- रक्षाबंधन/लाल सिंह चड्ढा: भावनाओं और भोलेपन की आंख-मिचोली खेलती… (Movie Review- Rakshabandhan / Lal Singh Chaddha…)

अक्षय कुमार की फिल्मों से अक्सर मनोरंजन, देशभक्ति, इमोशन की अपेक्षा की जाती है और…

तो इस वजह से भारत छोड़कर कनाडा जाना चाहते थे अक्षय कुमार, खुद किया खुलासा (So Because Of This, Akshay Kumar Wanted To Leave India And Go To Canada, Disclosed Himself)

बॉलीवुड सुपरस्टार अक्षय कुमार इन दिनों अपनी मच अवेटेड फिल्म 'रक्षा बंधन' को लेकर चर्चा…

कहानी- डिस्काउंट (Short Story- Discount)

अपनी पत्नी का जोश और उसका विश्वास देखकर रघुवर ने सोचा, 'इसमें बुराई ही क्या…

© Merisaheli