Pauranik Katha

निर्दोष होने पर भी क्यों मिला सुकरात को मृत्यु दण्ड? (Why did Socrates get the death penalty even though he was innocent?)

प्लैटो ने अपने गुरु से कहा,‌ “यूनानी समाज आपके उच्च कोटि के विचारों के लायक नहीं है, अतः आप यहां…

November 19, 2021

लघुकथा- सूखे पत्तों का महत्व (Short Story- Sukhe Patto Ka Mahtav)

शिष्यों की सहायता करने के लिए उसने एक बूढ़ी स्त्री का पता बताया, जो रोज़ जंगल में पत्ते बीनने जाया…

August 1, 2021

लघुकथा- सुकरात और आईना (Short Story- Sukrat Aur Aaina)

“मैं आईना इसलिए देखता हूं, ताकि मुझे अपनी कुरूपता का भान होता रहे और मैं अच्छे काम करने का प्रयत्न…

June 25, 2021

पौराणिक कथा- समस्या का सामना (Short Story- Samasya Ka Samna)

पहरे पर खड़े बलराम ने कुछ समय पश्चात एक भयानक राक्षस की आकृति पास आती देखी. राक्षस ज़ोर से दहाड़ा,…

June 18, 2021

लघुकथा- दोपहर का भोजन (Laghukatha- Dopahar Ka Bhojan)

सब पशोपेश में पड़ गए, यह कैसे सम्भव है? बिना कोहनी मोड़े निवाले को मुंह तक कैसे ले जाया जा…

May 3, 2021

लघुकथा- दंड संहिता (Short Story- Dand Sanhita)

क्षत्रिय को चार गुनी सज़ा मिलनी चाहिए, क्योंकि उसे शस्त्रों का ज्ञान अन्य लोगों की रक्षा करने हेतु दिया गया…

March 18, 2021

लघुकथा- सत्य और झूठ की विवेचना (Laghukatha- Satya Aur Jhuth Ki Vivechna…)

युधिष्ठिर की संतुष्टि हो गई. गुरु द्रोण के पूछने पर अब वह कह सकते थे कि ‘अश्वस्थमा मारा गया है’…

February 20, 2021
© Merisaheli