कविता- आज हमारा दिन है… (Poetry- Aaj Hamara Din Hai…)

सुनो, तुम आज मना लेना ये दिवस.. कोई टोके अगर कि बस एक ही दिन? तो कह देना, हां एक और दिन.. कोई पूछे अगर…

सुनो,
तुम आज मना लेना ये दिवस..
कोई टोके अगर कि बस एक ही दिन?
तो कह देना, हां एक और दिन..
कोई पूछे अगर कि आज ऐसा क्या ख़ास है,
तो कह देना आज मेरा मन मेरे आस-पास है..
आज के थोड़े गैरज़रूरी काम,
कल पर छोड़ देना..
मन को परेशान करने वाली हलचलों को,
शांति के रास्ते पर मोड़ देना..
कोई बधाई न दे अगर,
तो भुनभुनाते हुए बालों का जूड़ा बनाकर
‘किसी को कुछ पड़ी ही नहीं’, कहकर दिन ख़राब मत करना..
बाल खुले छोड़कर, मनपसंद कपड़े पहनकर,
थोड़ा सा सज लेना और अपनी ही नज़र उतार लेना..
सुनो,
आज महिला-दिवस है,
थोड़ा सा ही सही, इतरा ज़रूर लेना…

लकी राजीव

यह भी पढ़े: Shayeri

Photo Courtesy: Freepik

Share
Published by
Usha Gupta

Recent Posts

बॉयफ्रेंड को किस करने से पहले ही जब पकड़ी गईं प्रियंका चोपड़ा, आंटी को देख हालत हुई थी खराब (When Priyanka Chopra was Caught by Aunty Before Kissing Her Boyfriend)

बॉलीवुड से हॉलीवुड तक अपने टैलेंट का परचम लहराने वाली देसीगर्ल प्रियंका चोपड़ा को हाल…

आख़िर लोग ज्योतिष को क्यों खारिज करते हैं और दावा करते हैं कि यह सब अंधविश्वास है? (Is Astrology A Science Or Superstition?)

ज्योतिष सदियों से मौजूद है और हिंदू संस्कृति का एक अभिन्न अंग है. वेदों में…

रणबीर कपूर ने अपनी पहली कमाई से किया था कुछ ऐसा, जिसे देख मां नीतू कपूर की आंखों से छलक पड़े थे आंसू (Ranbir Kapoor did Something Like This With His First Salary, Seeing That mother Neetu Kapoor had Tears in Her Eyes)

बॉलीवुड के टैलेंटेड एक्टर्स में शुमार रणबीर कपूर इन दिनों अपनी अपकमिंग फिल्म 'शमशेरा' और 'ब्रह्मास्त्र'…

© Merisaheli