Categories: Skin CareBeauty

10 ब्यूटी हैबिट्स आपकी स्किन खराब कर सकती हैं (10 Beauty Habits Can Spoil Your Skin)

ऐसी बहुत सारी ब्यूटी हैबिट्स होती हैं, जो आपकी स्किन के लिए अच्छी नहीं होतीं, लेकिन शायद उनकी तरफ़ आपका ध्यान ही नहीं जाता. आपको ऐसी ब्यूटी हैबिट्स से बचना चाहिए, जो आपकी स्किन खराब कर सकती हैं. आइए, हम आपको उन ब्यूटी हैबिट्स के बारे में बताते हैं, जिन्हें बदलकर आप अपनी स्किन को हेल्दी और खूबसूरत बना सकती हैं.

1) स्किन को मॉइश्‍चराइज़ न करना
अधिकांश महिलाएं आज भी इसे ज़रूरी नहीं मानतीं. कभी बिज़ी शेड्यूल के चलते तो कभी लापरवाही में वे स्किन को मॉइश्‍चराइज़ नहीं कर पातीं, लेकिन यह आपकी त्वचा के लिए सही नहीं है. त्वचा की नमी समय के साथ खोती जाएगी और आपको ड्राई स्किन की समस्या हो जाएगी. त्वचा की नमी बरक़रार रखने के लिए मॉइश्‍चराइज़ करना बेहद ज़रूरी है.

2) बहुत अधिक गर्म पानी से नहाना
हॉट शावर आपको भले ही राहत दिलाता हो या आपकी थकान मिटाता हो, लेकिन यह आपकी त्वचा की सबसे बाहरी परत को डैमेज कर सकता है, जिससे ड्राई स्किन की समस्या हो सकती है. बेहतर होगा गुनगुने पानी से नहाएं.

3) सोने से पहले चेहरा क्लीन न करना
अगर आप दिनभर की गंदगी के साथ सोएंगी, तो ज़ाहिर है त्वचा संबंधी समस्याएं होंगी. आप फेशियल वाइप्स या माइल्ड क्लींज़र से चेहरा क्लीन करें, वरना मुंहासों की समस्या हो जाएगी.

4) मेकअप बिना उतारे ही सो जाना
बिना मेकअप उतारे सोने का मतलब है समय से पहले एजिंग प्रोसेस का शुरू हो जाना.

यह भी पढ़ें: इन उबटन की मदद से घर बैठे पाएं चेहरे का निखार (Homemade Face Packs For Glowing Skin)

5) सनस्क्रीन न लगाना
आज भी बहुत सी महिलाओं को लगता है कि उन्हें सनस्क्रीन की ज़रूरत ही नहीं, लेकिन सूरज की हानिकारक किरणें आपकी त्वचा पर बढ़ती उम्र के लक्षणों को उभार सकती हैं. यही नहीं त्वचा संबंधी अन्य कई समस्याएं भी हो सकती हैं. प्रीमैच्योर एजिंग के साथ-साथ स्किन कैंसर तक की आशंका बढ़ जाती है. भारत में कम-से-कम 30 एसपीएफ युक्त सनस्क्रीन लगाएं और हर दो-तीन घंटे में रीअप्लाई करें. स़िर्फ फेस पर ही नहीं, गर्दन, हाथ व शरीर का जो भाग सीधे धूप के संपर्क में हो, वहां अप्लाई करें.

6) जल्दी-जल्दी वैक्सिंग कराना
हल्के बाल आने पर वैक्सिंग अवॉइड करें. अपनी स्किन को रीजनरेट होने के लिए कम-से-कम 3-4 हफ़्तों का समय दें, वरना स्किन रफ व लूज़ हो जाएगी.

7) एक्सफोलिएट बहुत ज़्यादा या न करना
ये दोनों ही स्किन के लिए नुक़सानदायक हैं. ज़्यादा स्क्रबिंग से त्वचा को ग्लोइंग इफेक्ट देनेवाले नेचुरल ऑयल्स निकल जाते हैं और त्वचा रफ और ड्राई होने लगती है. यदि आपको मुंहासों व फ्लेकी स्किन की समस्या है, तो वो एक्सफोलिएट करने से बढ़ सकती है. इसी तरह बहुत-सी महिलाएं स्क्रब करती ही नहीं, जिससे डेड स्किन सेल्स व रोमछिद्रों में जमी गंदगी साफ़ नहीं हो पाती और स्किन डल होने लगती है. बेहतर होगा हफ़्ते में एक या दो बार स्क्रब ज़रूर करें.

8) लिप्स को इग्नोर करना
अधिकांश महिलाएं डेली ब्यूटी व स्किन रूटीन में होंठों की स्किन पर ध्यान ही नहीं देतीं, जिससे फटे व ड्राई लिप्स की समस्या हो जाती है. यह आपके एजिंग प्रोसेस को फास्ट कर सकता है. बेहतर होगा कि लिप्स को मॉइश्‍चराइज़ व स्क्रब भी करती रहें. ऐसी लिपस्टिक यूज़ करें, जिसमें मॉइश्‍चर हो या फिर नियमित रूप से लिप बाम का प्रयोग करें.

9) पिंपल्स को हाथ लगाना
अगर आपको मुंहासों की समस्या है, तो उन्हें बार-बार छूने व फोड़ने से बचें, वरना संक्रमण ज़्यादा फैल जाएगा और स्किन पर उनके मार्क्स भी पड़ जाएंगे.

यह भी पढ़ें: डार्क सर्कल दूर करने के आसान घरेलू उपाय (Natural Home Remedies To Remove Dark Circles)

10) लाइफस्टाइल हैबिट्स, जो कर सकती हैं स्किन को डैमेज

  • स्मोकिंग और अल्कोहल आपकी स्किन को ड्राई करते हैं व प्रीमैच्योर एजिंग की भी समस्या पैदा कर सकते हैं.
  • बहुत ज़्यादा शुगर खाने से भी एजिंग प्रोसेस तेज़ होता है, क्योंकि शुगर आपकी स्किन के कोलाजन को डैमेज करके सैगी स्किन यानी त्वचा का ढीलापन बढ़ाता है.
  • नींद पूरी न लेना भी त्वचा के लिए नुक़सानदेह है. इससे पफी आईज़ व डार्क सर्कल की समस्या भी बढ़ती है.
  • एक्सरसाइज़ न करने से स्किन की इलास्टिसिटी और फ्लेक्सिबिलिटी प्रभावित होती है. इसके अलावा एक्टिव रहने से शरीर के टॉक्सिंस भी बाहर निकलते हैं और त्वचा हेल्दी रहती है.
  • पानी कम पीना भी आपकी त्वचा की प्राकृतिक नमी के लिए ख़तरनाक है. बेहतर होगा हाइड्रेटेड रहें.
  • गंदे बिस्तर पर सोने से भी आपको स्किन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं. इसके अलावा ग़लत सोने की पोज़ीशन भी आपको असमय रिंकल्स व लूज़ स्किन दे सकती है.
  • बहुत ज़्यादा स्ट्रेस स्किन के लिए अच्छा नहीं. कोशिश करें कि ख़ुश रहें और पॉज़िटिव बनें.
  • बार-बार और बहुत अधिक डायटिंग भी आपकी त्वचा को लूज़ कर सकती है और इससे स्ट्रेचमार्क की समस्या भी होती है, क्योंकि बार-बार वज़न घटने-बढ़ने से त्वचा भी फैलती व सिकुड़ती है, जिससे वो लूज़ होने लगती है.
    – विजयलक्ष्मी
Kamla Badoni

Recent Posts

कामाच्या ठिकाणी फिटनेसचे तंत्र (Fitness Techniques In The Workplace)

अनियमित जीवनशैलीने सर्व माणसांचं आरोग्य बिघडवलं आहे. ऑफिसात 8 ते 10 तास एका जागी बसल्याने…

April 12, 2024

स्वामी पाठीशी आहेत ना मग बस…. स्वप्निल जोशीने व्यक्त केली स्वामीभक्ती ( Swapnil Joshi Share About His Swami Bhakti)

नुकताच स्वामी समर्थ यांचा प्रकट दिन पार पडला अभिनेता - निर्माता स्वप्नील जोशी हा स्वामी…

April 12, 2024

कहानी- जादूगरनी (Short Story- Jadugarni)

"ऐसे नहीं पापा, " उसने आकर मेरी पीठ पर हाथ लगाकर मुझे उठाया, "बैठकर खांसो……

April 12, 2024

एकच प्रश्‍न (Short Story: Ekach Prashna)

प्रियंवदा करंडे आजींच्या मनात नुसतं काहूर उठलं होतं. नुसता अंगार पेटला होता. हे असं होणं…

April 12, 2024
© Merisaheli