ग़ज़ल- याद तुम आए बहुत (Gazal- Yaad Tum Aaye Bahut)

जब ज़िक्र फूलों का आया याद तुम आए बहुत चांद जब बदली से निकला, याद तुम आए बहुत कुछ न पूछो किस तरह परदेस में जीते हैं हम ख़त तो आया है किसी का, याद तुम आए बहुत यार आए थे वतन से प्यार के क़िस्से लिए दिल है धड़का बेतहाशा, याद तुम आए बहुत मैं हूं कोसों दूर तुम से उड़ के आ सकता नहीं जब भी चाहा है भुलाना, याद तुम आए बहुत जब हवा पूरब से आ सरगोशियां करने लगी दिल में एक तूफ़ां उठा था, याद तुम आए बहुत वेद प्रकाश पाहवा ‘कंवल’ यह भी पढ़े: Shayeri

जब ज़िक्र फूलों का आया याद तुम आए बहुत

चांद जब बदली से निकला, याद तुम आए बहुत

कुछ न पूछो किस तरह परदेस में जीते हैं हम

ख़त तो आया है किसी का, याद तुम आए बहुत

यार आए थे वतन से प्यार के क़िस्से लिए

दिल है धड़का बेतहाशा, याद तुम आए बहुत

मैं हूं कोसों दूर तुम से उड़ के आ सकता नहीं

जब भी चाहा है भुलाना, याद तुम आए बहुत

जब हवा पूरब से आ सरगोशियां करने लगी

दिल में एक तूफ़ां उठा था, याद तुम आए बहुत

वेद प्रकाश पाहवा ‘कंवल’

यह भी पढ़ेShayeri

Share
Published by
Usha Gupta

Recent Posts

करिश्मा तन्ना की अपने Pet के साथ मोटिवेशनल और क्यूट पोस्ट, लग रही हैं सुपर हॉट (Karishma Tanna Shares Motivational & Cute Post With Her Pet)

करिश्मा तन्ना (Karishma Tanna) की हॉटनेस का भला कौन दीवाना नहीं है. उनमें हर खूबी…

हनुमान जयंती की शुभकामनाएं!.. ॐ श्री हनुमंते नम: (Happy Hanuman Jayanti 2020.. Om Shree Hanumante Namah:)

हनुमान जयंती(Hanuman Jayanti) की सभी को ढेर सारी शुभकामनाएं! हिंदू कैलेंडर के अनुसार यह हर…

पीसीओडी (PCOD)/पीसीओएस (PCOS) से घर बैठे छुटकारा पाने के लिए करें ये 4 योगासन (4 Effective Yoga Poses To Treat PCOD/PCOS At Home)

पीसीओडी (PCOD) यानी पॉलीसिस्टिक ओवरी डिसीज़ या सिंड्रोम. यह महिलाओं में पाया जानेवाला बहुत ही…

© Merisaheli