Short Stories

कविता- इंद्रधनुष सी ज़िंदगी (Poem- Indradhanush Si Zindagi)

बहुत ख़ूबसूरत है यह ज़िंदगी
हर रंग चुराया इसका मैंने जीने के लिए
उम्मीद का दामन पकड़े रही हमेशा
ज़िंदगी के जाम का हर घूंट पीने के लिए
कभी ज़हर सा कड़वा
तो कभी गुड़ सी मिठास लिए
कभी सुख का हिंडोला
तो कभी दुख अकस्मात लिए
छलक उठती हैं जब कभी आंखें
तो बह जाने देती हूं ग़म को
काजल के गहरे रंग के साथ
लगा लेती हूं हल्का गुलाबी रंग चेहरे पर
थपक कर दिल पर उम्मीदों भरा हाथ
टूट कर बिखर जाना मेरी फ़ितरत में नहीं
लड़ जाती हूं जब कहे कोई ये तेरी क़िस्मत में नहीं
ज़िंदगी है… इसे जीना तो बनता है
क़िस्मत की आड़ लेकर ना हौसलों का पहिया थमता है
अनवरत संघर्ष ही तो ज़िंदा होने का एहसास करवाता है
नित नई अड़चनों को पार करना मुझे सुहाता है
अड़ जाती हूं कभी अपने नाम के लिए
उलझ बैठती हूं कभी अपनी पहचान के लिए
जीती हूं सबके लिए पर ख़ुद के लिए भी जीना जानती हूं
उधड़ रहे ख़्वाबों को तुरपाई करके सीना जानती हूं
हर हासिल व नुक़सान को त्योहार की मानिंद मनाया मैंने
ज़िंदगी के इंद्रधनुष का हर रंग चुराया मैंने…

– शरनजीत कौर

यह भी पढ़े: Shayeri

Photo Courtesy: Freepik

अभी सबस्क्राइब करें मेरी सहेली का एक साल का डिजिटल एडिशन सिर्फ़ ₹599 और पाएं ₹1000 का कलरएसेंस कॉस्मेटिक्स का गिफ्ट वाउचर.

Usha Gupta

Share
Published by
Usha Gupta

Recent Posts

फिल्म समीक्षा: भैया जी- वही पुरानी कहानी पर बिखरता अंदाज़… (Movie Review- Bhaiyya Ji)

आख़िर ऐसी फिल्में बनती ही क्यों है?.. जिसमें वही पुरानी घीसी-पीटी कहानी और बिखरता अंदाज़,…

May 25, 2024

कहानी- मुखौटा (Short Story- Mukhota)

"तुम सोच रहे होगे कि‌ मैं बार में कैसे हूं? मेरी शादी तो बहुत पैसेवाले…

May 25, 2024

श्वेता तिवारी माझी पहिली आणि शेवटची चूक, ‘या’ अभिनेत्याची स्पष्ट कबुली (When Cezanne Khan Called His Kasautii… Co-Star Shweta Tiwari “First & Last Mistake”)

श्वेता तिवारी तिचा अभिनय आणि फोटोंमुळे नेहमी चर्चेत असते. सोशल मीडियावर हॉट फोटो पोस्ट करुन…

May 25, 2024

सुट्टीचा सदुपयोग (Utilization Of Vacation)

एप्रिलच्या मध्यावर शाळा-कॉलेजला सुट्ट्या लागतील. सुट्टी लागली की खूप हायसे वाटते. थोड्या दिवसांनंतर मात्र सुट्टीचा…

May 25, 2024
© Merisaheli