कविता- दिवाली की शुभकामनाएं… (Poetry- Diwali Ki Shubhkamnayen…)

प्रभु इतनी सद्बुद्धि देना हमें उज्जवल सबकी दिवाली हो कोई न घायल या बीमार पड़े कल भी घर में ख़ुशहाली हो लाडला आपका कोई न…

प्रभु इतनी सद्बुद्धि देना हमें
उज्जवल सबकी दिवाली हो

कोई न घायल या बीमार पड़े
कल भी घर में ख़ुशहाली हो

लाडला आपका कोई न

कल नेबुलाइजर पर हांफता हो

प्यारा डॉगी या परिंदा न
सहमा भूखा कांपता हो

अपनापन बांटें दीप जलाएं
गाती चहुंदिशा हरियाली हो

प्रभु इतनी सद् बुद्धि देना हमें
उज्जवल सबकी दिवाली हो…

भावना प्रकाश

यह भी पढ़े: Shayeri

Photo Courtesy: Freepik

Share
Published by
Usha Gupta

Recent Posts

© Merisaheli