काव्य: तुम्हारे शहर की अजब कहानी… (Poetry: Tumhare Shahar Ki Ajab Kahani…)

तुम्हारे शहर की अजब कहानी है… काग़ज़ों की कश्ती है, बारिशों का पानी है… मिलते तो हैं लोग मुस्कुराकर यहां, पर ये भी दिखावे की…

तुम्हारे शहर की अजब कहानी है… काग़ज़ों की कश्ती है, बारिशों का पानी है…
मिलते तो हैं लोग मुस्कुराकर यहां, पर ये भी दिखावे की ही एक निशानी है…
चाशनी में लिपटे रिश्ते हैं, पर इनको अपना समझ बैठना महज़ एक नादानी है…
चेहरे पे चेहरा है, राज़ ये गहरा है… अपनों को ही ठगने की यहां रीत पुरानी है…
किसे अपना कहें, किसे पराया… यही तो सबसे बड़ी परेशानी है…
ज़ुबां है जुदा, आंखें हैं ख़फ़ा… ख़ाक हो गए ख़्वाब, सुनो ये दास्तान मेरी ही ज़ुबानी है…
बेलौस मुहब्बत हुआ करती थी कभी यहां भी… लेकिन अब खो सी गई उसकी जवानी है…
भीतर से बदरंग है सबकी काया… झूठा है बाहरी दिखावा, पर ये कहते हैं हमारा चेहरा नूरानी है…
कहने को रौनक़ें हैं, रातें भी गुलाबी हैं… पर वो इक शाम कहीं नज़र नहीं आती, जो तुम संग मुझे बितानी है…

  • गीता शर्मा
Share
Published by
Geeta Sharma

Recent Posts

सिद्धार्थ मल्होत्रा को इस चीज से लगता है सबसे ज्यादा डर (Sidharth Malhotra Is Most Afraid Of This Thing)

बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता सिद्धार्थ मल्होत्रा को एक ऐसी चीज का सबसे ज्यादा डर सताता…

गीत- अबकी नवरात्रि कुछ यूं मनाएं… (Geet- Abki Navratri Kuch Yun Manayen…)

बहुत ज़रूरी काम है ये, भाई मेरे मत झुठलाना इक बेटी की हंसी खो गई,…

आप भी हैं एसिटीडी, गैस और अपच से परेशान, तो अपनाएं ये आसान उपाय (How to Treat Indigestion, Acidity And Gastric Problems at Home, Try These Easy Home Remedies)

अनियमित खान-पान, लंबे समय तक खाली पेट रहना, तनाव आदि से एसिडिटी/गैस की समस्या हो…

12 साल की उम्र के बाद बच्चों को ज़रूर सिखाएं ये काम (12 Years And Above Children Should Learn These Things)

बच्चों की अच्छी परवरिश के साथ ज़रूरी है कि उन्हें आत्मनिर्भर बनाया जाए. लेकिन कुछ…

© Merisaheli