Psychological

कहानी- एक बदलाव की उम्मीद… 4 (Story Series- Ek Badlav Ki Umeed 4)

... “मंजरी ले ये दादी को टमाटर का सूप दे आ और देख उनका सूप उनके ग्लास में ऊपर से…

कहानी- एक बदलाव की उम्मीद… 3 (Story Series- Ek Badlav Ki Umeed 3)

इससे पहले बुआ कुछ कहतीं पीछे खड़ी दादी बोल पड़ीं, "पागल हो गई है क्या छोरी. तू तो इस शगुनवाली…

कहानी- एक बदलाव की उम्मीद… 2 (Story Series- Ek Badlav Ki Umeed 2)

ये छूत-अछूत, पवित्र-अपवित्र की सनक धीरे-धीरे उनके अस्तित्व और व्यक्तित्व दोनों पर हावी होने लगी. दादाजी अपने अंतिम समय तक…

कहानी- एक बदलाव की उम्मीद… 1 (Story Series- Ek Badlav Ki Umeed 1)

ये क्वॉरंटीन का दृश्य मुझे उस ज़माने की तरफ़ खींच रहा था, जब छुआ-छूत, जात-पात समाज का एक महत्वपूर्ण हिस्सा…

कहानी- बदलाव की आहट 4 (Story Series- Badlav Ki Aahat 4)

"तुम मेरी कमी स्वीकारने को तैयार हो न? अथवा यह जानकर कि मैं तुम्हें संतान देने में अक्षम हूं मुझे…

कहानी- बदलाव की आहट 3 (Story Series- Badlav Ki Aahat 3)

आश्चर्य यह हुआ कि पूरी बात सुनकर भी कपिल निश्चिन्त हो सो गए, बिना कुछ कहे. परन्तु मुझे रातभर नींद…

कहानी- बदलाव की आहट 2 (Story Series- Badlav Ki Aahat 2)

जिस घाव को मैंने पुराना जान भर जाने दिया था, मस्तिष्क से निकाल दिया था, वही आज मेरे सम्मुख उघड़ा…

कहानी- बदलाव की आहट 1 (Story Series- Badlav Ki Aahat 1)

मैं किस बूते पर अपनी जीवनगाथा लिखने की ज़ुर्रत कर रही हूं? मैं एक सामान्य-सी गृहिणी! और एक गृहिणी के…

कहानी- सभीता से निर्भया तक 8 (Story Series- Sabhita Se Nirbhaya Tak 8)

"ये चोट तुम्हारी गुरु है इस चोट ने तुम्हें सिखाया कि गिर कर कैसे उठा जाता है. इस चोट ने…

कहानी- सभीता से निर्भया तक 7 (Story Series- Sabhita Se Nirbhaya Tak 7)

"तुम आसपास कोई डांस स्कूल क्यों नहीं देख लेतीं? मैं नेट पर सर्च करुं तुम्हारे लिए?" पति ने बड़े ही…

कहानी- सभीता से निर्भया तक 6 (Story Series- Sabhita Se Nirbhaya Tak 6)

"मम्मी, क्या मैं अपनी कोई पहचान बनाए बिना ही शादी कर लूंगी?" मैं सुबकने लगी, तो मम्मी भी विह्वल हो…

कहानी- सभीता से निर्भया तक 5 (Story Series- Sabhita Se Nirbhaya Tak 5)

"देखो तो शैतान को. कैसे आंखों से शरारत टपक रही है." दादी ने मुझे बांहों में समेट लिया और बात…

© Merisaheli