Parenting

मेरी सहेली के पैरेंटिंग (Parenting) आर्टिकल्स अभिभावकों के लिए कंप्लीट पैरेंटिंग गाइड (Parenting Guide) हैं. इसमें बच्चों की सही परवरिश, व्यवहार, आदतें, पढ़ने-लिखने से संबंधित टिप्स(Parenting Tips), स्मार्ट ट्रिक्स (Smart Parenting Tricks) यानी बच्चों के संपूर्ण विकास से जुड़ी हर जानकारी दी जाती है.

 

 

bachcho ke jhagde 1

उफ़! ये बच्चों के झगड़े (Children And Their Fights)

  बच्चों की आपसी नोंक-झोंक उनकी मानसिक खुराक को पूरा करती है. लेकिन बात का बतंगड़ न बन जाए, इस बात का भी ख़याल रखना ज़रूरी है. उनकी शरारतों, शैतानियों को कुछ इस तरह संभालें कि बात झगड़े तक पहुंचे ही ना.   आज के ज़माने में तो दो बच्चे ही पूरा घर सिर पर … Continue reading उफ़! ये बच्चों के झगड़े (Children And Their Fights) »

web-1

बच्चों को कितनी पॉकेटमनी दें? (What Should Be Your Child’s Pocket Money?)

पॉकेटमनी बच्चों को मनी मैनेजमेंट का पाठ सिखाने के साथ-साथ उनमें आर्थिक आत्मनिर्भरता के गुण भी विकसित करता है. बच्चों को पॉकेटमनी देने की सही उम्र क्या है और पैसे देते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए? जानने की कोशिश की है मृदुला शर्मा ने. कब शुरू करें पॉकेटमनी? * वैसे तो पॉकेटमनी शुरू … Continue reading बच्चों को कितनी पॉकेटमनी दें? (What Should Be Your Child’s Pocket Money?) »

Exam Stress

एग्ज़ाम टाइम को न बनाएं स्ट्रेस टाइम (How To Deal With Exam Stress?)

  अक्सर एग्ज़ाम के समय स्टूडेंट्स बहुत अधिक तनाव से घिर जाते हैं. इसकी कई वजहें होती हैं, जैसे- सही प्लानिंग न करना, समय पर कोर्स पूरा न होना, पैरेंट्स का दबाव आदि. ये सभी प्रॉब्लम्स न हों, इसके लिए ज़रूरी है पैरेंट्स की समझदारी व अन्य ज़रूरी तैयारियां. आइए, इसी से जुड़ी छोटी-छोटी बातों … Continue reading एग्ज़ाम टाइम को न बनाएं स्ट्रेस टाइम (How To Deal With Exam Stress?) »

sex_ed2

सेक्स एज्युकेशन: ख़त्म नहीं हुई है पैरेंट्स की झिझक (sex education is necessary for child)

आज के पढ़े-लिखे मॉडर्न पैरेंट्स भले ही अपने बच्चों के साथ दोस्ताना व्यवहार रखने का दावा करें, लेकिन सेक्स जैसे मुद्दे पर बच्चों के साथ बात करते हुए उनकी ज़ुबान लड़खड़ाने लगती है. बच्चे के सेक्स से जुड़े किसी भी सवाल का जवाब देने में वो आज भी हिचकिचाते हैं. सेक्स जैसे ज़रूरी मुद्दे पर … Continue reading सेक्स एज्युकेशन: ख़त्म नहीं हुई है पैरेंट्स की झिझक (sex education is necessary for child) »

child growth

शर्म-संकोच और बच्चों का विकास (hesitation will impact child growth)

मासूम बचपन….. निश्छल मन में न जाने कितनी सही-ग़लत बातें घर कर जाती हैं. लेकिन जागरुक अभिभावकों के कारण कुछ बच्चे आगे निकल जाते हैं. वहीं ध्यान न देने पर कुछ शर्म-संकोच में उलझ कर रह जाते हैं. अतः बच्चों के बहुमुखी विकास के लिए उनका शर्म-संकोच से उबरना बेहद ज़रूरी है. संकेत के माता-पिता … Continue reading शर्म-संकोच और बच्चों का विकास (hesitation will impact child growth) »

shutterstock_29687320

महत्वपूर्ण हैं परवरिश के शुरुआती दस वर्ष (parenting- initial ten years are important)

बच्चों की परवरिश में शुरुआती वर्ष बेहद महत्वपूर्ण होते हैं. जन्म के साथ ही व्यवहार व संस्कारों के प्रति माता-पिता यदि सचेत रहें और कोशिश करें कि बच्चे बड़े-बुज़ुर्गों की छत्रछाया में अच्छे संस्कार, अच्छा व्यवहार व अच्छी आदतों का पालन करना सीखें, तो इसमें कोई दो राय नहीं कि आगे चलकर वे एक बेहतर … Continue reading महत्वपूर्ण हैं परवरिश के शुरुआती दस वर्ष (parenting- initial ten years are important) »

Parenting

घर का काम बढ़ाता है बच्चों का आत्मविश्‍वास (Household work boost your children’s confidence)

  बच्चों पर हुए एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि उन्हें घरेलू कामों में शामिल करने से बच्चों का आत्मविश्‍वास व आत्मसम्मान बढ़ता है. एक्सपर्ट्स की राय में हाउसहोल्ड वर्क यानी घरेलू काम को बच्चे एंजॉय करते हैं, बशर्ते उसे रुचिकर तरी़के से कराया जाए और काम को बोझ न बनाया जाए. … Continue reading घर का काम बढ़ाता है बच्चों का आत्मविश्‍वास (Household work boost your children’s confidence) »

dreamstime_l_19407784

पैरेंट्स समझें बच्चों की भावनाओं को (Understand your children’s emotions)

अगर आपके बच्चे का भावनात्मक स्तर किसी भी वजह से बिगड़ा हुआ है, तो वह कुछ संकेत देता है, उसे समझना आपकी ज़िम्मेदारी है. ये संकेत कुछ इस प्रकार हो सकते हैं- ♦ यदि बच्चा अंगूठा चूसे या नाख़ून काटे. ♦ बहुत रोए. ♦ नज़रें मिलाने से बचे. ♦ बहुत हिंसक, आक्रामक और विनाशकारी प्रवृत्ति … Continue reading पैरेंट्स समझें बच्चों की भावनाओं को (Understand your children’s emotions) »

Food During Exams

एग्ज़ाम के समय बच्चों की डायट का रखें ख़्याल (Provide healthy food to children during exams)

  एग्ज़ाम पीरियड में बच्चों को स्ट्रेस फ्री और हेल्दी रखने में डायट की भी अहम् भूमिका होती है. अतः उनके खाने-पीने का ख़ास ध्यान रखें. * ब्रेकफास्ट में स्टार्च से भरपूर व मीठी चीज़ें, जैसे- हलवा और व्हाइट ब्रेड की जगह फाइबरयुक्त चीज़ें, जैसे- दलिया, पोहा, उपमा और होलवीट ब्रेड सैंडविच दें. * रोज़ाना … Continue reading एग्ज़ाम के समय बच्चों की डायट का रखें ख़्याल (Provide healthy food to children during exams) »

Brain exercises for kids

बच्चों के लिए ब्रेन एक्सरसाइज़ (Sharpen your child’s brain with effective exercises)

हर बच्चे का दिमाग़ एक-सा नहीं होता, कोई किसी चीज़ को जल्दी समझ जाता है, तो किसी को एक ही बात दस बार समझानी पड़ती है. यही वजह है कि एग्ज़ाम में हर बच्चे के मार्क्स में भी फ़र्क़ रहता है. लेकिन ऐसा नहीं है कि आप बच्चे की ब्रेन पावर बढ़ा नहीं सकतीं. हालांकि … Continue reading बच्चों के लिए ब्रेन एक्सरसाइज़ (Sharpen your child’s brain with effective exercises) »

parenting tips

डरना मना है (Don’t be scared of all these…)

हंसने-रोने की तरह ही डरना भी बच्चों के विकास का अहम् हिस्सा है, लेकिन यही डर कभी-कभी बच्चों के कोमल मन पर गहरी छाप छोड़ देता है. आमतौर पर ये डर उनकी काल्पनिक दुनिया से उपजते हैं, लेकिन इनका प्रभाव उनके वास्तविक जीवन पर पड़ता है. किस तरह के होते हैं ये डर और इन्हें … Continue reading डरना मना है (Don’t be scared of all these…) »

web-3

ट्यूशन फीवर (How to get rid of tution fever?)

एक समय था जब ट्यूशन पढ़ने की ज़रूरत स़िर्फ उन बच्चों को पड़ती थी, जो स्कूल की पढ़ाई के साथ कोपअप नहीं कर पाते थे, लेकिन आज पैरेंट्स अपने मंथली बजट में बच्चों की स्कूल फ़ीस के साथ-साथ ट्यूशन फ़ीस भी शामिल करना नहीं भूलते. बच्चों के लिए भी ट्यूशन जाना अब उनकी एज्युकेशन का … Continue reading ट्यूशन फीवर (How to get rid of tution fever?) »

1 2 3 7