Psychological

कहानी- पतन 2 (Story Series- Patan 2)

कप्तान की शातिर हंसी, “डंडे पड़ने से नज़र खुलती है. सेल्फ कॉन्फिडेंस हाई होता है. डंडे खाकर लोग नेता बन…

कहानी- पतन 1 (Story Series- Patan 1)

अम्मा खाने का कितना प्रबंध करती थीं. अम्मा को याद कर मनोरथ का दिल भर आया. कुछ दिन पहले तक…

कहानी- किसी से जुड़कर 3 (Story Series- Kisi Se Judkar 3)

“वह भावुक होकर सोच रही है. बाद में पछताएगी.” “तो यही होगा न, हम फिर वहीं आ जाएंगे जहां से…

कहानी- किसी से जुड़कर 2 (Story Series- Kisi Se Judkar 2)

एक रात मौसा बिल्कुल बदले हुए रूप में थे. उनकी आंखों में मुग्धता थी, हाथों में मज़बूत पकड़ थी, उसका…

कहानी- किसी से जुड़कर 1 (Story Series- Kisi Se Judkar 1)

“मौसी, विवाह जीवनभर का मामला होता है, इसमें ईमानदारी बेहद ज़रूरी है. बाद में कोई यह न कहे कि ग़लत,…

कहानी- होम स्वीट होम 3 (Story Series- Home Sweet Home 3)

प्रतिमाजी विस्फारित नेत्रों से रोशनी में नहाए अपने घर को निहार रही थीं. रिया ट्रॉली में सूप और स्नैक्स ले…

कहानी- होम स्वीट होम 2 (Story Series- Home Sweet Home 2)

“कितनी सयानी है हमारी बेटी! ख़ुद की तबीयत की परवाह न कर दीपू की शादी की तैयारियों के बारे में…

कहानी- होम स्वीट होम 1 (Story Series- Home Sweet Home 1)

“तुम्हें लगा उसे अब इस घर से मोह नहीं रह गया है. ऐसा नहीं है. घर के सदस्यों के प्रति…

कहानी- आईना 3 (Story Series- Aaina 3)

“यह तो तू सही कह रहा है यार.” वीरेन के चेहरे की संजीदगी, शिवम के चेहरे को भी संजीदा बना…

कहानी- आईना 2 (Story Series- Aaina 2)

वह घर-बाहर, आजकल की स्वतंत्र व स्वच्छंद युवतियों के नए विचार सुनता व पढ़ता था. जिन्हें विवाह एक ग़ुलामी से…

कहानी- आईना 1 (Story Series- Aaina 1)

“आत्मनिर्भर? मैं पैसे नहीं कमाती, इसलिए कह रहे हो. अच्छी-ख़ासी डिग्री है मेरे पास. चाहूं तो मैं भी कमा सकती…

कहानी- समझौता एक्सप्रेस 3 (Story Series- Samjhota Express 3)

‘जूते एक साथ उतारकर क्यों नहीं रखते?’ भड़कती नेहा और यश की ठंडी बयार-सी बातें, ‘पूरा दिन तो बेचारे साथ…

© Merisaheli