कविता- हर प्रलय में… (Kavita- Har Pralay Mein…)

आज के हालातों में हर कोई 'बचा' रहा है कुछ न कुछ पर, नहीं सोचा जा रहा है 'प्रेम' के लिए कहीं भी.. हां, शायद…

आज के हालातों में
हर कोई ‘बचा’ रहा है कुछ न कुछ
पर, नहीं सोचा जा रहा है
‘प्रेम’ के लिए
कहीं भी..

हां, शायद
‘उस प्रलय’ में भी
नाव में ही बचा रह गया था ‘कुछ’
कुछ संस्कृति..
कुछ सभ्यताएं..
और
.. थोड़ा सा आदमी!

प्रेम तब भी नहीं था
आज भी नहीं है
.. वही ‘छूटता’ है हर बार
हर प्रलय में
पता नहीं क्यों…

नमिता गुप्ता

यह भी पढ़े: Shayeri

Share
Published by
Usha Gupta

Recent Posts

Bigg Boss 14: सबसे अधिक पेमेंट मिल रहा है प्रतियोगी राधे मां को, फीस जानकर हैरान रह जाएंगे आप… (Radhe Maa, One Of The Highest-Paid Contestants Of Bigg Boss 14)

बिग बॉस 14 जल्दी आनेवाला है और इसके सभी प्रतियोगियों को लेकर चर्चाएं ज़ोरों पर…

बॉलीवुड एक्ट्रेसेस की तरह पहनें गोल्डन ड्रेस, गाउन और साड़ी (Bollywood Actresses In Golden Dress)

बॉलीवुड एक्ट्रेसेस की तरह गोल्डन ड्रेस पहनकर आप भी सेलिब्रिटी लुक पा सकती हैं. बॉलीवुड…

बॉलीवुड की 7 एक्ट्रेसेस, जिन्होंने फिल्मों में गैंगस्टर की भूमिका निभाई, नहीं जानते होंगे इनके बारे में? (7 Bollywood Actresses Who Played Gangster Role In Movies)

पिछले कुछ दशकों से बॉलीवुड में ऐसी फ़िल्में बनी हैं, जिनमें गैंगस्टर या अंडरवर्ल्ड डॉन…

9 बॉलीवुड स्टार्स जिनकी एक्टिंग है ज़ीरो, फिर भी बन गए हीरो! (9 Worst Bollywood Actors Who Are Expressionless)

सलमान खान भले ही दबंग हों लेकिन एक्टिंग के मामले में इनका हाथ तंग ही…

© Merisaheli