Most Popular North Indian ...

आलू (Potato) सभी को बेहद पसंद होता है. लेकिन जब बात व्रत के खाने की हो, तो सबसे पहले आलू का नाम आता है. व्रत में भी आलू को अलग-अलग फ्लेवर में ट्राई कर सकते हैं, जैसे- जीरे वाले आलू, आलू की टिक्की, सिंघाड़े-आलू के पकौड़े आदि. पर हम यहां पर बता रहे हैं आलू की रसेदार सब्ज़ी बनाने की आसान विधि. तो ज़रूर ट्राई करें.

Potato Curry

सामग्रीः

  • 250 ग्राम उबले हुए आलू
  • 2 टीस्पून बारीक कटी हुई हरी मिर्च
  • करीपत्ता
  • 1 टीस्पून जीरा
  • 150 ग्राम दही की छाछ
  • 350 मि.ली. पानी
  • 2 टीस्पून सेंधा नमक
  • 1 टीस्पून जीरा
  • 2 टीस्पून मूंगफली पाउडर
  • 1 टेबलस्पून हरी धनिया

और भी पढ़ें: फास्टिंग ट्रीट: सागो-पोटैटो बॉल्स (Fasting Treat: Sago-Potato Balls)

विधिः

  • एक पैन में तेल गरम करें.
  • जीरा, करीपत्ता, हरी मिर्च व मूंगफली पाउडर डालकर भूनें.
  • उबले व कटे हुए आलू डालें.
  • कुछ आलू को मसलकर डालें.
  • सेंधा नमक व छाछ डालें और 5 मिनट तक धीमी आंच पर पकाएं.
  • हरी धनिया डालकर सर्व करें.

और भी पढ़ें:  नवरात्रि स्पेशल-फ्रूटी साबूदाना पुडिंग (Navratri Special-Fruity Sago Pudding)

व्रत के अवसर पर आपने आलू को अलग-अलग फ्लेवर में ट्राई किया होगा, लेकिन अब ड्राय पोटैटो सब्ज़ी (Dry Potato Sabzi) ट्राय करें. और इसका स्वाद लें गरम-गरम राजगिरा-कुट्टू की पूरी के साथ. इसे आप इंस्टेंट रेसिपी के तौर पर बना सकती हैं. तो ज़रूर ट्राई करें ड्राय पोटैटो सब्ज़ी.
Dry Potato Sabzi
सामग्री:

  • 2-3 आलू उबले हुए
  • 8-10 करी पत्ता
  • आधा टीस्पून जीरा
  • सेंधा नमक स्वादानुसार
  • 1 टेबलस्पून तेल,
  • 1-2 हरी मिर्च (बारीक़ कटी हुई)
और भी पढ़ें: लौकी का हलवा 

विधि:

  • उबले हुए आलुओं को छोटे टुकड़ों में काट लें.
  • एक पैन में तेल गरम करें.
  • करीपत्ता और जीरा डालें.
  • फिर आलू और हरी मिर्च मिलाकर  3-4 मिनट तक भूनें..
  • सेंधा नमक मिलाकर कम आंच पर 2-3 मिनट तक भूनें.
  • राजगिरा-कुट्टू की पूरी के साथ गरम-गरम सर्व करें.

और भी पढ़ें: शकरकंदी हलवा

व्रत के मौके पर अगर साबूदाना और राजगिरा खाकर बोर हो गए हैं, तो आलू-अनार (Aloo-Anar Ka Raita) का रायता ट्राई करें. इसे आप इंस्टेंट रेसिपी के तौर पर बना सकती हैं. आलू, अनार और पुदीने को कॉम्बिनेशन आपको ज़रूर पसंद आएगा. तो ज़रूर ट्राई करें ये फराली रायता.

सामग्रीः

  • 1 कप गाढ़ा दही
  • 1 आलू (उबला व चौकोर टुकड़ों में कटा हुआ)
  • 1 टीस्पून कटा हुआ पुदीना
  • 1/4 कप अनार के दाने
  • आधा टीस्पून सेंधा नमक
  • 1 टीस्पून शक्कर
और भी पढ़ें: राजगिरा का हलवा 

विधिः

  • दही फेंट लें.
  • दही में आलू, पुदीना, अनार के दाने, सेंधा नमक और शक्कर डालकर मिला लें.
  • ठंडा करके सर्व करें.
और भी पढ़ें: फ्रूटी साबूदाना पुडिंग

फास्टिंग के अवसर पर अगर साबूदाना और सामा खाकर बोर हो गए हैं और कुछ नया ट्राई करना चाहते हैं, तो मूंगफली-मखाने की कढ़ी (Makhana-Moongphali Ki Kadhi) बनाएं. इसे आप राजगिरा या कुट्टू की पूरी के साथ खा सकते हैं, तो फिर देर किस बात की. उपवास के मौके पर ज़रूर ट्राई करें ये ईज़ी करी रेसिपी.Farali Recipe, Makhana-Moongphali Ki Kadhi
सामग्री:

  • आधा कप मखाने
  • 2 टेबलस्पून कच्ची मूंगफली (उबली हुई)
  • 1 कप दही
  • 1 टेबलस्पून राजगिरा का आटा
  • 1 हरी मिर्च (कटी हुई)
  • आधा टीस्पून शक्कर
  • सेंधा नमक स्वादानुसार
  • 1 टेबलस्पून घी,

छौंक के लिए:

  • आधा टीस्पून जीरा
  • 1 टीस्पून घी
  • दालचीनी का 1 छोटा टुकड़ा

और भी पढ़ें: साबूदाना पैनकेक

विधि:

  • बाउल में दही, राजगिरा का आटा, शक्कर, सेंधा नमक और 2 कप पानी डालकर अच्छी तरह मिक्स करें.
  • कड़ाही में इस मिक्स्चर को डालकर 5 मिनट तक धीमी आंच पर पकाएं.
  • लगातार हिलाते रहें.
  • एक दूसरे पैन में घी गरम करके मखाने डालकर कुरकुरे होने तक भून लें.
  • भुने हुए मखाने और मूंगफली डालकर 3-4 मिनट तक पकाएं.
  • करी के गाढ़ा होने पर आंच से उतार लें.
  • कड़ाही में घी गरम करके जीरा, हरी मिर्च और दालचीनी का टुकड़ा डालें.
  • आंच से उतारकर कढ़ी में मिलाएं.
  • राजगिरा की पूरी के साथ गरम-गरम सर्व करें.

और भी पढ़ें: सिंघाड़े की पूरी 

व्रत के दिनों में साबूदाना, सामा के अलावा कुछ नया एक्सपेरिमेंट करना चाहते हैं, तो लौकी का हलवा बनाएं. बेहद स्वादिष्ट यह हलवा बनाने में बेहद ही आसान है. बच्चों को यह हलवा बहुत पसंद आता है. तो ज़रूर ट्राई करें.

Lauki Ka Halwa
सामग्रीः

  • 250 ग्राम लौकी
  • 2 टेबलस्पून घी
  • 90 ग्राम शक्कर
  • 250 मि.ली. दूध
  • 50 ग्राम मावा
  • 1/4 टीस्पून इलायची पाउडर
  • 1 टेबलस्पून भुनी हुई चिरौंजी

और भी पढ़ें: शकरकंदी हलवा

विधिः

  • दूधी को कद्दूकस कर लें.
  • एक पैन में घी गरम करें.
  • दूधी डालकर पानी सूखने तक उसे लगातार भूनते रहें.
  • दूध डालें और दूध सूखने तक चलाते रहें.
  • शक्कर, इलायची पाउडर व मावा डालकर 10 मिनट तक भूनें.
  • भुनी हुई चिरौंजी डालें और आंच पर से उतार लें.
  • गरम-गरम सर्व करें.

और भी पढ़ें: एप्पल खीर

व्रत के अवसर फराली खाना चाहते हैं, तो सिंघाड़े का आटा बेस्ट ऑप्शन है. आप सिंघाड़े के आटा से बहुत सारी फराली डिशेज़ बना सकते हैं. तो ज़रूर ट्राई करें ये फराली रेसिपी. ये रेसिपी बनाने में जितनी आसान है, खाने में बेहद टेस्टी भी. 

Singhare Ki Puri
सामग्रीः

  • 1 कप सिंघाड़े का आटा
  • 200 ग्राम अरवी
  • 1 टीस्पून सेंधा नमक
  • आधा टीस्पून कालीमिर्च पाउडर
  • 1 टेबलस्पून हरी धनिया बारीक कटी हुई
  • तलने के लिए तेल

और भी पढ़ें: राजगिरा की पूरी

विधिः

  • अरवी को उबाल-छीलकर मसल लें.
  • सिंघाडे के आटे में अरवी, सेंधा नमक, कालीमिर्च पाउडर व हरी धनिया डालकर गूंध लें और 10-15 मिनट के लिए ढंक दें.
  • अब छोटी-छोटी लोइयां बनाकर पूरी बेल लें.
  • गरम तेल में सुनहरी होने तक तल लें.

और भी पढ़ें: शकरकंदी हलवा 

व्रत के अवसर फराली खाना चाहते हैं, तो राजगिरा बेस्ट ऑप्शन है. आप  राजगिरा से बहुत सारी फराली डिशेज़ बना सकते हैं, जैसे- राजगिरा की चिक्की, लड्डू, पूरी और परांठा आदि. ये सभी बनाने में जितनी आसान है, खाने में बेहद टेस्टी भी. तो ज़रूर ट्राई करें ये फराली रेसिपी.

Fasting Treat, Rajgira ki Puriसामग्रीः

  • 100 ग्राम राजगिरा का आटा
  •  2 आलू (उबले व मैश किए हुए)
  • सेंधा नमक स्वादानुसार
  • लाल मिर्च पाउड
  • तलने के लिए तेल
और भी पढ़ें: राजगिरा का हलवा

विधिः

  • राजगिरी के आटे में आलू, नमक और लाल मिर्च पाउडर डालकर अच्छी तरह मिक्स करें.
  • आवश्यकतानुसार पानी मिलाकर गूंध लें.
  • छोटी-छोटी पूरियां बेलकर गरम तेल में तल लें.
  • सब्ज़ी के साथा सर्व करें.
और भी पढ़ें: शकरकंदी हलवा

व्रत के अवसर फराली खाना चाहते हैं, तो राजगिरा बेस्ट ऑप्शन है. आप  राजगिरा से बहुत सारी फराली डिशेज़ बना सकते हैं, जैसे- राजगिरा की चिक्की, लड्डू, पूरी और परांठा आदि. ये सभी बनाने में जितनी आसान है, खाने में बेहद टेस्टी भी. तो ज़रूर ट्राई करें ये फराली रेसिपी.

Rajgira hawla

सामग्रीः

  • 1 कप राजगिरा का आटा
  • 1 कप शक्कर
  • आधा कप देसी घी
  • आधा टीस्पूून इलायची पाउडर
  • 1 कप दूध, थोड़े-से ड्रायफ्रूट्स (बारीक कटे हुए)

और भी पढ़ें: फ्रूटी साबूदाना पुडिंग

विधिः

  • कड़ाही में घी गरम करके राजगिरी के आटे को गुलाबी होने तक भून लें.
  • दूध और थोड़ा पानी डालकर लगातार चलाते रहें.
  • जब गाढ़ा होने लगे तब शक्कर और इलायची पाउडर डालकर 3-4 मिनट तक पकाएं.
  • ड्राय फ्रूट्स से सजाकर सर्व करें.

और भी पढ़ें: सामा का ढोकला

 व्रत के अवसर पर फराली खाना चाहते हैं, तो सामा बेस्ट ऑप्शन है. आप  सामा से बहुत सारी फराली डिशेज़ बना सकते हैं, जैसे- सामा की खिचड़ी, खीर और चावल आदि. ये सभी बनाने में जितनी आसान है, खाने में बेहद टेस्टी भी. तो ज़रूर ट्राई करें ये फराली रेसिपी.

Sama ka Dhokla

सामग्रीः

  • 2 कप सामा का आटा
  • 250 ग्राम उबली हुई अरवी
  • 2 टीस्पून अदरक-हरी मिर्च का पेस्ट
  • 1 टीस्पून सेंधा नमक
  • 1 कप दही
  • 2 टीस्पून कालीमिर्च
  • 1/4 कप तेल
  • 1 टीस्पून जीरा,
  • थोड़े-से करीपत्ते
  • थोड़ा-सा हरा धनिया (बारीक़ कटा हुआ)

नारियल की चटनी बनाने के लिए:

  • आधा नारियल (कद्दूकस किया हुआ)
  • अदरक का 1 टुकड़ा
  • 2-3 हरी मिर्च
  • डेढ़ टीस्पून मूंगफली पाउडर
  • सेंधा नमक स्वादानुसार

विधिः

  • अरवी को मैश करके आटे में मिला लें.
  • ज़रूरत के अनुसार गाढ़ा घोलकर तीन-चार घंटे तक ढंककर रखें.
  • इसमें नमक व अदरक-हरी मिर्च का पेस्ट मिला लें.
  • इसे चिकनाई लगी थाली में फैलाकर 10 मिनट तक धीमी आंच पर स्टीम दें.
  • आंच पर से उतारकर ठंडा होने दें.
  • छोटे टुकड़ों में काट लें.
  • एक पैन में तेल गरम करके जीरे का छौंक लगाकर ढोकले पर डालें.
  • हरा धनिया डालकर नारियल की चटनी के साथ सर्व करें.

नारियल की चटनी बनाने के लिए:

  • सारी सामग्री को मिलाकर मिक्सर में पीस लें.

और भी पढ़ें: सामा की खिचड़ी