Spinach Puree

अधिकतर बच्चों को पालक पसंद नहीं होता है, लेकिन हम सभी जानते हैं कि पालक सेहत के लिए बहुत फ़ायदेमंद होता है, तो क्यों नहीं पालक को कुछ अलग फ्लेवर में ट्राई किया जाए. जी हां हम बात कर रहे हैं पालक डोसा (Palak Dosa) की. इसका क्रिस्पी और क्रंची फ्लेवर बच्चों को ज़रूर पसंद आएगा.

Palak Dosa

सामग्री:

  • 1-1 कप पालक प्यूरी और चावल का आटा
  • 1 पैकेट फ्रूट सॉल्ट
  • 1-1 हरी मिर्च और प्याज़ (दोनों बारीक़ कटे हुए)
  • आधा कप उड़द दाल का आटा
  • थोड़े-से करीपत्ते
  • 2 टीस्पून सेंकने के लिए तेल/घी
  • नमक स्वादानुसार

और भी पढ़ें: हेल्दी ब्रेकफास्ट: व्हीट डोसा (Healthy Breakfast: Wheat Dosa)

विधि:

  • सेंकने के लिए तेल और फ्रूट सॉल्ट को छोड़कर बाउल में सारी सामग्री को मिक्स करें.
  • यदि आवश्यकता हो, तो थोड़ा-सा पानी मिलाएं.
  • 10 मिनट तक घोल को ढंककर रखें.
  • नॉनस्टिक पैन में तेल लगाकर 1 टेबलस्पून डोसे का घोल डालकर डोसे बनाएं.
  • धीमी आंच पर क्रिस्पी होने तक सेंक लें.
  • नारियल चटनी के साथ सर्व करें.

और भी पढ़ें: इंस्टेंट रवा डोसा: साउथ इंडियन ब्रेकफास्ट (Instant Rawa Dosa: South Indian Breakfast)

कचोरी खाने का मन है, तो अब बा•ज़ार से •ख़रीदने की बजाय अब घर मेें ही ट्राई करेें. इस रेसिपी को पार्टी, त्योहार या फिर सफर के लिए बना सकते हैं. यह कचौरी 3-4 दिन तक आराम तक ख़राब नहीं होती. तो ज़रूर ट्राई करें.

सामग्री:

कवरिंग के लिए:

  • 2 कप मैदा,
  • 1/4 कप पालक प्यूरी
  • 2 टेबलस्पून तेल (मोयन के लिए)
  • नमक स्वादानुसार
  • तलने के लिए तेल

स्टफिंग के लिए:

  • 1 कप हरी मटर (उबली व मैश की हुई)
  • थोड़ा-सा हरा धनिया (कटा हुआ)
  • डेढ़ टीस्पून अदरक-हरी मिर्च का पेस्ट
  • आधा टीस्पून जीरा
  • 1 टीस्पून धनिया पाउडर
  • 1 टीस्पून लाल मिर्च पाउडर
  • 1 टीस्पून  गरम मसाला पाउडर
  • 1 टीस्पून  अमचूर पाउडर
  • 1 टीस्पून  सौंफ पाउडर
  • नमक स्वादानुसार

और भी पढ़ें: खस्ता मूंग दाल कचोरी 

विधि:

  • स्टफिंग की सामग्री को मिक्स करके अलग रखें.
  • कवरिंग की सारी सामग्री (तलने के लिए तेल छोड़कर) को मिलाकर गूंध लें.
  • गुंधे हुए मिश्रण से लोई लेकर थोड़ी-सी स्टफिंग भरकर अच्छी तरह सील कर दें.
  • सारी कचोरियां इसी तरह से बनाएं.
  • गरम तेल में सुनहरा होने तक तल लें.
  • टोमैटो केचअप या हरी चटनी के साथ सर्व करें.

और भी पढ़ें: दही-राज कचोरी