कहानी- व़क्त का एक टुकड़ा 1 (Story Series- Wqat Ka Ek Tukda 1)

… पर आज मेरे रातभर जागने एवं करवटें बदलने का कारण मां-बेटे के बीच मन-मुटाव नहीं है, बल्कि बहुत ...

कहानी- व़क्त का एक टुकड़ा 2 (Story Series- Wqat Ka Ek Tukda 2)

एक बार हिम्मत करके मैंने बाबा के सम्मुख अपने मन की बात रखी. उन्होंने मां से कहा, “ऐसा कुछ किया, ...

कहानी- व़क्त का एक टुकड़ा 3 (Story Series- Wqat Ka Ek Tukda 3)

प्यार हार गया था. परंपराओं के आगे, सामाजिक नियमों के आगे, बुज़ुर्गों के आदेशों के आगे मुंह सिये ...