कहानी- सबसे बड़ी सौग़ात 1 (Story Series- Sabse Badi Saugat 1)

बात भाभी ठीक ही बोल रही थीं, पर न जाने क्यूं ये बात शूल की तरह मेरे अंतस में कहीं चुभ रही थी. थोड़ी ...

कहानी- सबसे बड़ी सौग़ात 2 (Story Series- Sabse Badi Saugat 2)

मुझे लगा अचानक मेरे पांव जैसे किसी दहकते अंगारे पर पड़ गए हों. मैं क्या इतनी पराई हो गई थी कि अब ...

कहानी- सबसे बड़ी सौग़ात 3 (Story Series- Sabse Badi Saugat 3)

सच पूछिए तो भैया, क़ानून ने स्त्रियों को चाहे जितने अधिकार दिए हों, चाहे वे कितनी ही अत्याधुनिक ...