104 satellites

ISRO

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने आंध्रप्रदेश के श्रीहरिकोटा से सुबह एकसाथ 104 सैटलाइट्स को अंतरिक्ष में भेजकर इतिहास रच दिया है. इसके साथ ही भारत ने एक बार में सबसे ज़्यादा सैटलाइट लॉन्च करने का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है. अब तक रूस के नाम एक बार में 37 सैटलाइट्स अंतरिक्ष में भेजने का रिकॉर्ड था. इससे पहले जून 2016 में इसरो ने 20 सैटलाइट्स लॉन्च किए थे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसरो की इस शानदार सफलता पर बधाई दी है.

क्या है खासियत? पीएसएलवी रॉकेट की यह 39वीं उड़ान है. इसका वजन 320 टन और ऊंचाई 44.2 मीटर है. इसमें इसरो के 2 नैनो सैटलाइट भी भेजे गए हैं. यह रॉकेट 15 मंजिल इमारत जितना ऊंचा है. प्रक्षेपित किए जाने वाले सभी सैटेलाइट का वज़न क़रीब 1378 किलोग्राम है.

इन देशों के रॉकेट जाएंगे स्पेस में : भारत के दो नैनो सैटेलाइट के अलावा इजरायल, कजाकस्तान, द नीदरलैंड्स, स्विट्जरलैंड व संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के एक-एक और अमेरिका के 96 उपग्रह इसमें शामिल हैं.