Tag Archives: 2017

आज मैं अपने सपने को जी रही हूं… श्‍वेता मेहता: फिटनेस एथलीट/रोडीज़ राइज़िंग 2017 विनर (I Am Living My Dream: Shweta Mehta- Fitness Athlete/Roadies Rising 2017 Winner)

Shweta Mehta, Fitness Athlete, Roadies Rising 2017 Winner

हर नज़र में सवाल था, हर लफ़्ज़ पर ख़ामोशी… मुझसे मेरा वजूद पूछ रहा था, कितनी तन्हा है तू और कितनी है टूटी… मैंने अपने ख़्वाबों की धड़कनों को सुना, तो हर आहट में एक और नया सपना बुना… देखनेवाले देखते रह जाएंगे, मैंने फूलों को नहीं, है कांटों को चुना… हर मोड़ पर उलझी हूं मैं, हर राह पर अपना ही अक्स देखा है मैंने… वजूद मेरा इतना कमज़ोर नहीं, सूरज में तपकर रातों में चलना सीखा है मैंने…
ये पंक्तियां ख़ासतौर से हमने एक ऐसी शख़्सियत के मुकम्मल व्यक्तित्व को बयां करने के लिए लिखी हैं, जो शब्दों से परे है… अपने सपनों को उसने अपने हौसलों से जीवंत किया और आज हर ज़ुबान से उसका नाम बेहद सम्मान और गर्व से लिया जाता है. हम बात कर रहे हैं फिटनेस एथलीट और रोडीज़ राइज़िंग 2017 की विनर (Roadies Rising 2017 Winner) श्‍वेता मेहता (Shweta Mehta) की. क्या कुछ महसूस करती हैं श्‍वेता अपनी इस मुश्किल, लेकिन ख़ूबसूरत जर्नी के बारे में, ख़ुद उनसे ही पूछ लेते हैं…

Shweta Mehta, Fitness Athlete, Roadies Rising 2017 Winner

एक आईआईटी प्रोफेशनल से फिटनेस एथलीट तक का सफ़र ज़ाहिर है आसान नहीं रहा होगा?
जी हां, आसान तो नहीं था और वैसे भी जो आसानी से मिल जाए, उसकी क़ीमत भी कहां समझ पाते हैं हम. अगर मैं अपनी बात करूं, तो एक अच्छी-ख़ासी नौकरी थी, सभी पैरेंट्स की तरह मेरे भी पैरेंट्स चाहते थे कि शादी होकर बेटी सेटल हो जाए. अच्छा घर हो, बेहतर ज़िंदगी हो… लेकिन मुझे यह मंज़ूर नहीं था. मैं कुछ अलग करना चाहती थी. यही वजह है कि आज मैं अपने सपने को जी रही हूं.

क्या आप बचपन से ही फिटनेस फ्रीक थीं?
आप शायद विश्‍वास भी नहीं करेंगे कि मैंने जिम जाना मात्र 3 साल पहले ही शुरू किया था. इस बीच मैंने लगभग 5-6 कॉम्पटीशन्स जीते. आज फिटनेस मेरी पहचान बन चुकी है, वरना एक समय था जब मैं बैक पेन से बेहद परेशान थी और मेरा 12 घंटे का डेस्क जॉब इस दर्द को और बढ़ा रहा था. मुझे एक्सरसाइज़ करने का समय ही नहीं मिलता था, लेकिन मेरे लिए यह ज़रूरी हो गया था कि सेक्योर फ्यूचर, जॉब, सैलरी के मायाजाल से बाहर निकलूं. मैंने हिम्मत की और आज रिज़ल्ट सबके सामने है.

घरवालों की क्या प्रतिक्रिया थी?
ज़ाहिर है कि शुरुआत में तो वो भी थोड़े से परेशान हुए थे. मेरी बिकनी में पिक्चर्स देखकर मॉम को थोड़ा बुरा लगा था, क्योंकि आस-पड़ोसवाले, रिश्तेदार, समाज के लोग उन्हें ताने भी देते थे कि क्या तुम्हारी बेटी नाइट क्लब में काम करती है, जो ऐसे कपड़े पहनती है… लेकिन मैं ख़ुशनसीब हूं कि मेरे पैरेंट्स ने मुझे बहुत सपोर्ट किया, जबकि मैं हरियाणा से हूं और मैंने पहले कभी स्लीवलेस ड्रेस तक नहीं पहना था. पापा को भी स्किन रिवीलिंग कपड़े पसंद नहीं थे. उसके बावजूद भी मेरे पैरेंट्स ने स़िर्फ मुझे सपोर्ट किया, बल्कि लोगों की बहुत-सी बातें मुझ तक पहुंचने तक नहीं दीं कि कहीं मैं निराश न हो जाऊं. यह ज़रूर था कि उन्होंने मुझे एक बात कही थी कि हम अगर तुम्हें सपोर्ट कर रहे हैं, तो तुम्हारी ज़िम्मेदारी बनती है कि तुम कुछ बनकर दिखाओ. फिर रोडीज़ में भी मैं ऑडिशन्स में सिलेक्ट नहीं हुई थी, तो उनका कॉन्फिडेंस थोड़ा हिला हुआ ज़रूर था, लेकिन मेरे भाई को मुझ पर भरोसा था, तो मैंने फिर क़िस्मत आज़माई और मैं न स़िर्फ सिलेक्ट हुई, बल्कि विनर भी बनी.

अब समाज के लोगों की क्या प्रतिक्रिया रहती है?
जो लोग ताने मारते थे, आज वही सम्मान देते हैं. मैंने हिम्मत नहीं हारी, न अपना रास्ता बदला, बल्कि बदले वो लोग, जो मुझे और मेरे परिवार को बातें सुनाते थे. समाज ने अपनी सोच बदली, इसी तरह लोगों को अपना नज़रिया बदलना चाहिए. जब तक वो नहीं बदलेंगे, इसी तरह से चीज़ें चलती रहेंगी.
मेरा निजी अनुभव है, मेरी मम्मी टीचर हैं और वो अक्सर मुझे कहती थीं कि अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर बिकनी की पिक्चर्स डिलीट कर दे… मैं जानती हूं कि उन्हें क्या-क्या नहीं सुनना पड़ता होगा, लेकिन मैं दूसरों के लिए अपने सपने नहीं तोड़ना चाहती थी, मुझे ख़ुद पर भरोसा था, इसलिए इन बातों ने मेरा कॉन्फिडेंस और बढ़ाया.

रोडीज़ का सफ़र कैसा रहा?
सच पूछो, तो रोडीज़ की जर्नी आसान नहीं थी. अलग-अलग तरह के लोगों के साथ रहना, उनके साथ कॉम्पटीशन करना बेहद मुश्किल था, क्योंकि सब अपने आप में बेस्ट थे और मेरी प्रॉब्लम यह थी कि मैं शुरुआत में इतना समझ नहीं पाती थी कि कैसे रिएक्ट करूं, क्या बोलूं, क्योंकि हमारी तहज़ीब और संस्कार यही सिखाते हैं कि जब कोई और बोल रहा हूं, तो बीच में मत बोलो, जब कोई बड़ा बात कर रहा तो बीच में मत टोको… लेकिन वहां तो सब कुछ अलग था… कैमरे के लिए भी बहुत कुछ किया जाता था, छीना-झपटी और लड़ाई-झगड़े… एक व़क्त ऐसा आ गया था, जब मुझे लगा कि मैं गिवअप कर दूंगी… लेकिन फिर मुझे समझ में आया कि ऐसे तो गेम नहीं खेला जा सकता. मैंने गिवअप का आइडिया ड्रॉप किया और बोलना शुरू किया. जहां ज़रूरत महसूस हुई, वहां टोकना शुरू किया. इस तरह मैं गेम को समझ पाई और फिर विनर भी बनी.

यह भी पढ़ें: क्रिकेट के हॉटेस्ट बॉय विराट कोहली का स्टाइलिश अंदाज़, जानें अनुष्का के साथ परफेक्ट केमिस्ट्री का राज़ और दिलचस्प बातें 

सीरियल बढ़ो बहू में भी आप नज़र आ रही हैं, तो एक्टिंग की तरफ़ रुझान बढ़ रहा है?
एक्टिंग से मुझे परहेज़ नहीं है, लेकिन रोल ऐसा हो, जो मुझे मेरी फिटनेस से दूर न करे. मुझे ख़ासतौर से इस रोल के लिए अप्रोच किया गया, क्योंकि मेकर्स को लगा कि मेरे अलावा कोई और नहीं कर पाएगा, तो यह सुनकर अच्छा लगा कि मेरी पर्सनैलिटी के अनुरूप रोल मिल रहा है, इसलिए हामी भर दी.

बॉलीवुड भी करना चाहेंगी आप?
क्यों नहीं, हर वो चीज़, जो मेरी फिटनेस के आड़े न आए, मैं करूंगी. आज भी सीरियल की शूटिंग में भी काफ़ी बिज़ी रहती हूं, लेकिन चाहे रात के 11 बज जाएं मैं अपना जिम रूटीन नहीं छोड़ती.
वैसे भी मुझे लगता है कि अगर रियलिटी शो के बाद टीवी सीरियल्स और बॉलीवुड का मौका मिल रहा है, तो करना ही चाहिए, क्योंकि हर जगह के ऑडियंस अलग होते हैं. मुझे अपनी पहचान हर तरह के ऑडियंस में बनानी है, चाहे यंगस्टर्स हों, फैमिली हो या देश की आम पब्लिक. रोडीज़ के ऑडिंस अलग हैं, इसी तरह बढ़ो बहो फैमिली शो है और बॉलीवुड तो देश की जनता की धड़कन है.

आज की लाइफस्टाल में फिटनेस का क्या रोल देखती हैं आप? समय बदल गया है, लोग फिटनेस को लेकर थोड़े अलर्ट हुए हैं, लेकिन संख्या अब भी कम है…
हमारे यहां प्रॉब्लम यह है कि हम समय और परिस्थितियों के अनुसार न ख़ुद को ढालते हैं और न ही अपना डायट बदलते हैं. उदाहरण के तौर पर कोई कहता है कि भई हम तो पंजाबी हैं, हम तो तगड़ा ही खाते हैं, कोई कहता है हम गुजराती हैं, मीठा तो छोड़ नहीं सकते… इसी तरह से हम ट्रेडिशन के नाम पर वही डायट फॉलो करते हैं, जो हमारे दादाजी के समय में खाया जाता था. लेकिन यह भी तो सोचो कि वो समय अलग था, उनका काम अलग था. आज हम सभी डेस्क जॉब करते हैं, कहां से पचेगा तगड़ा खाना…?
बेहतर होगा कि मीठा कंट्रोल करें, ऑयली फूड अवॉइड करें, एक्सरसाइज़ करें. ख़ुद की बॉडी से प्यार करें. तब जाकर आप हेल्दी बनोगे.

आप अपने डायट प्लान के बारे में बताइए
कुछ चीज़ें हम सभी को पता होती हैं, लेकिन हम फॉलो नही करते, जैसे- पानी भरपूर पीएं, ऑयली-फैटी फूड कम खाएं, मीठा ज़्यादा न खाएं, प्रोटीन अधिक लें… आदि… लेकिन हम जानते हुए भी फॉलो नहीं करते.
मैं बस हेल्दी चीज़ें लेती हूं और अनहेल्दी चीज़ें अवॉइड करती हूं, यही है डायट.
मैं अपना खाना ख़ुद बनाती हूं. दिन में 6 बार खाती हूं, 2 बार जिम जाती हूं… मैं अपना ये रूटीन नहीं बदलती और इसीलिए फिट रहती हूं.

फ्यूचर प्लान्स क्या हैं?
मैं रियलिटी शोज़ करना चाहती हूं. मैं दिल से चाहती हूं कि फियर फैक्टर का हिस्सा बनूं. मुझे चैलेंजेस पसंद हैं.
वैसे भी आपको वही करना चाहिए, जो आपको पसंद हो, इसीलिए मेरा यूट्यूब चैनल भी आ रहा है, जिसमें हमारी टैगलाइन यही है- Do what you want to do (डू व्हाट यू वॉन्ट टु डू) यानी आप वही करें, जो आप करना चाहते हैं.

शहर में अपने प्रदेश की कोई ख़ास बात जो आप मिस करती हैं?
जो अपनापन वहां है, वो इन शहरों में नहीं है. एक अलग ही एनर्जी होती है वहां. कोई घर पर आ जाए, तो उसकी मेहमांनवाज़ी में हमें अलग ही ख़ुशी होती है. हमें लगता है कि क्या बनाकर खिला दें, क्या नहीं… कहीं कोई कमी न रह जाए. लेकिन यहां तो कोई पानी भी नहीं पूछता… तो एक चीज़ बहुत मिस करती हूं मैं.

फ्री टाइम में क्या करना पसंद है?
सच पूछो, तो फ्री टाइम मिलता ही कहां है. बाकी जो समय है वो मैं अपने मील्स बनाने में बिताती हूं, मैं ख़ुद को बेटर कैसे कर सकती हूं इसी कोशिश में रहती हूं और हम सभी को यही कोशिश करनी चाहिए.

आपके तो लाखों फैंस हैं, आप किसकी फैन हैं?
मुझे ड्वेन जॉनसन पसंद है. हां, अगर बात इंडिया की है, तो एक बंदा है जिसकी मैं ज़बर्दस्त फैन हूं, वो है दिलजीत दुसांज. उनकी स्ट्रगल स्टोरी हमेशा मुझे इंस्पायर करती है. किस तरह एक गांव से निकलर लाखों-करोड़ों की भीड़ में अपनी पहचान बनाई और उसके बाद भी वो इतने सहज हैं, उनके पांव ज़मीन से जुड़े हैं… न कोई घमंड, न एटीट्यूड. वो सच में एक प्रेरणास्रोत हैं.

हिंदू नव वर्ष: इस साल अमेरिका और लंदन में भी मनाया जाएगा हिंदू नव वर्ष (Hindu New Year)

हिंदू नव वर्ष

हिंदू नव वर्ष

चैत्र नवरात्र से नए साल की शुरुआत मानी जाती है. यह दिन हर हिंदुस्तानी के लिए पवित्र दिन होता है. मां दुर्गा का आगमन होने से घर में पवित्र शक्तियों का आगमन होता है और परिवार में सुख-शांति बनी रहती है. हिंदुओं के लिए नए साल की शुरुआत में देशभर में अलग-अलग तरी़के से इसे सेलिब्रेट किया जाता है. उत्तर से लेकर दक्षिण और पूर्व से लेकर पश्‍चिम तक इस नए साल के अवसर पर कई तरह के पकवान बनाए जाते हैं. हर साल चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा से ही विक्रमी सम्वत शुरू होता है और इस बार नए विक्रमी सम्वत 2074 का शुभारम्भ चैत्र मास की तिथि 15 अर्थात 28 मार्च मंगलवार को होगा. मंगलवार के दिन नए साल के शुरुआत होने से ऐसा माना जा रहा है कि पूरा साल हर किसी के लिए सुखद रहेगा.

मां दुर्गा के 9 रूपों की पूजा-आराधना इन दिनों होती है. 9 कन्याओं को खिलाने की भी प्रथा है. कुछ घरों में कलश की स्थापना की जाती है. हर दिन सुबह-शाम मां दुर्गा की पूजा होती है. इस नव वर्ष से आप हर शुभ कार्य कर सकते हैं. नवरात्री के ये 9 दिन आपके लिए हर तरह से शुभ और फलदायी होते हैं. इस दिन आप नई वस्तुएं भी ख़रीद सकते हैं. कुछ लोग नई गाड़ी, नया घर सोने के गहने आदि की ख़रीददारी करते हैं. महाराष्ट्र में इसे गुड़ी पड़वा के नाम से मनाते हैं. इस दिन मीठा चावल और पूरन पोली बनती है. इस दिन गहने ख़रीदने का ख़ास प्रावधान है.

हिंदू नव वर्ष

साल 2017 कई मामलों में हिंदुओं के लिए अच्छा है. इस साल पहली बार विदेशों में भी हिंदुओं का नया साल मनाया जाएगा. अमेरिका और लंदन के लोग इस साल हिंदु नव वर्ष मनाएंगे. पूजा-आराधना की विधि वो मेल के ज़रिए भारतीय पंडितों से मंगवाएंगे. विदेशों में हिंदु नव वर्ष मनाया जाना गौरव की बात है.

क्या न करें?
हिंदु नव वर्ष के साथ ही नवरात्रि भी शुरू हो रही है. नवरात्रि के मौ़के पर इस तरह की ग़लतियां करने से बचें.
– इस 9 दिन नाख़ून काटने से लेकर पुरुषों के दाढ़ी और बाल काटने की भी मनहाई होती है.
– अगर आपने कलश की स्थापना की है, तो घर को खाली छोड़कर न जाएं.
– इन 9 दिन घर में मांसाहारी भोजन न पकाएं.
– अगर आप 9 दिन का व्रत रख रहे हैं, तो भूलकर भी अनाज और नमक का सेवन न करें.
– 9 दिन का उपवास रखने वालों को काले कपड़े नहीं पहनने चाहिए.

IPL 2017 नीलामी: कौन खिलाड़ी कितने में बिका और किसे नहीं मिला कोई ख़रीददार? (IPL 2017 auction: England’s Ben Stokes is first multi-millionaire )

IPL 2017 Auction

IPL 2017 Auction

नया साल, नई नीलामी, नए प्लेयर, जी हां, आईपीएल की नीलामी में खिलाड़ियों की जमकर बोली लगी. इस नीलामी में कुल 8 टीमों के लिए 143.33 करोड़ का बजट रखा गया. हर बार की तरह इस बार भी कई खिलाड़ियों को कोई ख़रीददार नहीं मिला, तो किसी का बेस प्राइज़ कम होने पर उसे ज़्यादा में ख़रीदा गया. आइए, एक नज़र डालते हैं खिलाड़ियों की नीलामी लिस्ट पर.

सबसे महंगे बिके ये खिलाड़ी

  • बेन स्टोक्स (इंग्लैंड) 14.5 करोड़ में पुणे ने ख़रीदा.
  • टायमल मिल्स (इंग्लैंड) 12 करोड़ में बंगलुरु ने ख़रीदा.
  • कागिसो रबाडा (द. अफ्रीका) 5 करोड़ में दिल्ली ने ख़रीदा.
  • ट्रेंट बोल्ट (न्यूजीलैंड) 5 करोड़ में कोलकाता ने ख़रीदा.
  • पैट कमिंस (ऑस्ट्रेलिया) 4.5 करोड़ में दिल्ली ने ख़रीदा.

खिलाड़ी जो बिक गए

  • राजस्थान के अनिकेत चौधरी को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने 2 करोड़ में ख़रीदा.
  • अफगानिस्तान के लेग स्पिनर राशिद ख़ान को सनराइजर्स हैदराबाद ने 4 करोड़ में ख़रीदा.
  • प्रवीण तांबे, बेस प्राइस 10 लाख, 10 लाख में हैदराबाद ने खरीदा.
  • मुंबई इंडियंस ने कर्ण शर्मा को 3.20 करोड़ में ख़रीदा, जबकि कर्ण की बेस प्राइज़ काफ़ी कम थी. 30 लाख थी उनकी बेस प्राइज़.
  • केरल के 23 साल के बासिल थंपी को गुजरात लायंस ने 85 लाख में ख़रीदा.
  • किंग्स इलेवन पंजाब ने वरुण एरॉन को 2.80 करोड़ में ख़रीदा.

IPL 2017 Auction

खिलाड़ी जो नहीं बिके

  • ईशांत शर्मा को किसी टीम ने नहीं खरीदा. उनका बेस प्राइज़ 2 करोड़ रु. था. पिछले साल वो हैदराबाद की ओर से खेले थे.
  • इरफान पठान में किसी फ्रेंचाइजी ने रुचि नहीं दिखाई. पिछली बार वे पुणे की टीम में थे.
  • इमरान ताहिर भी नहीं बिके. वे मौजूदा आईसीसी रैंकिंग- टी-20 और वनडे में नंबर वन गेंदबाज हैं.
  • इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज जेसन रॉय को भी किसी ने नहीं खरीदा.
  • मार्टिन गुप्टिल पिछले साल की तरह इस बार भी नहीं बिके.
  • चेतेश्‍वर पुजारा को कोई ख़रीददार नहीं मिला.
  • मनोज तिवारी को भी कोई ख़रीददार नहीं मिला.
  • ऑस्ट्रेलिया के माइकल क्लींगर, बेस प्राइज़ 50 लाख, किसी ने नहीं खरीदा.
  • एस बद्रीनाथ को भी किसी फ्रेंचाइज़ी ने नहीं ख़रीदा.
  • आरपी सिंह को किसी ने नहीं ख़रीदा.
  • श्रीलंका के तिसारा परेरा को भी कोई ख़रीददार नहीं मिला.

अंग्रेज़ खिलाड़ी रहे मालामाल, इंडियन का रहा बुरा हाल
आईपीएल 2017 में अंग्रेज़ खिलाड़ियों को बोलबाला दिखा. भारतीय खिलाड़ियों की स्थिति कुछ ठीक नहीं रही. ईशांत शर्मा जैसे प्लेयर को अभी तक किसी ने नहीं ख़रीदा.

IPL 2017 Auction

धोनी से छिनी कप्तानी
नीलामी शुरू होने से पहले ही चौंकाने वाली ख़बर सामने आई. महेंद्र सिंह धोनी अब आईपीएल में भी कप्तानी नहीं कर पाएंगे. राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स ने उन्हें कप्तानी के पद से हटा दिया है. अब आप धोनी को कप्तानी करते नहीं देख पाएंगे.

श्वेता सिंह 

हैदराबाद मैच जीत सफल कप्तानों में शुमार हुए विराट (Hyderabad test Match: India wins by 208 runs)

India's captain Virat Kohli (centre R) with teammates celebrate after winning a solo Test match against Bangladesh at the Rajiv Gandhi International Cricket Stadium on February 13, 2017. IMAGE RESTRICTED TO EDITORIAL USE - STRICTLY NO COMMERCIAL USE----- / GETTYOUT / AFP PHOTO / NOAH SEELAM / ----IMAGE RESTRICTED TO EDITORIAL USE - STRICTLY NO COMMERCIAL USE----- / GETTYOUT

हैदराबाद में बांग्लादेश के ख़िलाफ़ टेस्ट मैच जीतकर कप्तान विराट का क़द और भी विराट हो गया है. विराट की कप्तानी में हर खिलाड़ी अपना बेहतरीन प्रदर्शन किया और मैच को 208 रनों से जीत लिया. इस मैच में बल्लेबाज़ी और गेंदबाज़ी का बेहतरीन कॉम्बो पैक देखने को मिला. पहले टीम के बैट्समैन ने अपना काम किया और बाद में बॉलर्स ने मेहमान टीम को आउट करके पवेलियन का रास्ता दिखाते हुए मैच को जीत लिया.

Hyderabad : India's Ravichandran Ashwin celebrates with teammates the dismissal of Bangladesh's captain Mushfiqur Rahim during the last day of their one-off cricket test match in Hyderabad on Monday. PTI Photo (PTI2_13_2017_000092B)

भारत की ओर से इस मैच में 2 सेंचुरी और एक डबल सेंचुरी लगी. गेंदबाज़ों में रविंद्र जड़ेजा और ईशांत शर्मा ने बेहतरीन बॉलिंग की. भारतीय गेंदबाज़ों ने पांचवें दिन पिच से मिल रही मदद का फायदा उठाते हुए बांग्लादेश की दूसरी पारी 250 रनों पर समेट दी. दूसरी पारी में ईशांत शर्मा और जड़ेजा के रूप में बेहतरीन गेंदबाज़ी देखने को मिली. लंच के बाद ज़्यादा देर तक भारतीय गेंदबाज़ों ने मेहमान टीम को टिकने नहीं दिया.

kohlidoublecentury_reuters_647_021017120108

विराट हुए सफल कप्तानों में शामिल
बांग्लादेश के ख़िलाफ़ एकमात्र टेस्ट में जीत हासिल करते ही विराट कोहली कप्तान के रूप मे 15 वां टेस्ट जीत मो. अज़हरुद्दीन को पीछे छोड़ दिया. अज़हर की कप्तानी में भारत ने 14 टेस्ट मैच जीते थे. जिससे कप्तान के तौर पर सर्वाधिक जीत हासिल करने वालों की सूची में विराट तीसरे स्थान पर आ गए. उनसे ऊपर स़िर्फ महेंद्र सिंह धोनी (27 जीत) और सौरव गांगुली (21 जीत) रह गए हैं. इस मैच के मैन ऑफ द मैच भी विराट कोहली रहे. इस मैच के साथ ही विराट ने कई रिकॉर्ड बनाए.

ground

मैच जीतने के बाद विराट कोहली ने ग्राउंड स्टाफ के साथ फोटो खिंचवाई.

श्वेता सिंह 

क्या रहा 2017 के आम बजट में ख़ास? (Main pointers of 2017 Budget)

Budget 2017

Budget 2017

अपना चौथा बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बसंत पंचमी का दिन चुना. इस बजट में सबके लिए कुछ न कुछ था. ये बजट इसलिए भी ख़ास था, क्योंकि इसी के साथ रेल बजट भी पेश किया गया. आइए, एक नज़र डालते हैं वित्त मंत्री अरुण जेटली के 2017 के बजट पर.

इनकम टैक्स छूट
वैसे नौकरीपेशा लोगों को अरुण जेटली से ये उम्मीद थी कि कम से कम 5 लाख तक की आय पर किसी तरह का टैक्स नहीं लगेगा, लेकिन बित्त मंत्री ने इस स्लैब को स़िर्फ 3 लाख तक रखा. तीन लाख तक की आय पर कोई टैक्स नहीं लगेगा, लेकिन साढ़े तीन लाख रुपये तक की आय पर ढाई हज़ार रुपये टैक्स देना होगा. भले ही अरुण जेटली ने लोगों के अनुसार इनकम स्लैब नहीं बढ़ाया, लेकिन उस पर लगने वाले टैक्स को कम ज़रूर किया है. 5 लाख तक की आय पर 10 फ़ीसदी की बजाय 5 फ़ीसदी टैक्स ही चुकाना पड़ेगा. 5 लाख से अधिक की आय पर टैक्स स्लैब पहले की तरह ही रहेगा. इस तरह से करदाताओं को हर साल साढ़े 12 हज़ार रुपये तक का फ़ायदा होगा.

महिला एवं बाल कल्याण
इस बजट में महिलाओं का ख़ास ध्यान रखा गया. महिला एवं बाल कल्याण के लिए 1.56 लाख करोड़ रुपये की राशि को बढ़ाकर 1.84 लाख करोड़ रुपये करने की घोषणा की वित्त मंत्री ने.

किसानों के लिए
किसानों के लिए वित्त मंत्री के पिटारे में काफ़ी कुछ अच्छा था. फसल बीमा 30 की बजाय 40 फ़ीसदी कर दिया गया है. किसानों के खाते में 10 लाख करोड़ रूपया गया है, जो वो सरकार से कर्ज़ के रूप में ले सकते हैं. 10 लाख तलाबों का लक्ष्य पूरा किया जाएगा. 8 हज़ार करोड़ का डेयरी विकास कोष. 5 हज़ार करोड़ सिंचाई फंड के लिए तय किया गया है. गांव की बुनियादी ज़रूरतों को सुधारा जाएगा और उस पर विशेष ध्यान दिया जाएगा.

राजनीतिक चंदे पर लगा फंदा
राजनीति में अब तक मनमानी चंदा लिया और दिया जाता था, लेकिन इस बजट में इस पर कमान कस ली गई है. अरुण जेटली ने बजट पेश करते हुए कहा कि अब सभी राजनीतिक पार्टियां एक व्यक्ति से कैश में स़िर्फ 2000 रुपये तक ही ले सकती हैं. 2000 से ज़्यादा चंदा लेने पर हिसाब देना होगा.

हेल्थ केयर
वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अपने चौथे बजट में स्वास्थ्य का भी विशेष ध्यान रखा है 2018 तक चेचक और 2022 तक टीबी पूरी तरह से ख़त्म करने की कोशिश होगी. दिल्ली की ही तरह झारखंड और गुजरात में 2 नए एम्स बनेंगे.

शिक्षा बजट
अरुण जेटली ने शिक्षा पर भी ध्यान देते हुए इस क्षेत्र के लिए विशेष बजट पेश किया. स्किल इंडिया के लिए 1000 कौशल केंद्र खोले जाएंगे. 350 ऑनलाइन पाठ्यक्रमों की शुरूआत होगी.

रेल बजट
आम बजट के साथ ही आज रेल बजट भी पास हुआ. क्या था रेल बजट में ख़ास? आइए, जानते हैं.
♦ रेल संरक्षा के लिए 1 लाख करोड़ रुपये का फंड.
♦ 2020 तक मानव रहित क्रासिंग पूरी तरह ख़त्म हो जाएगी.
♦ ई-टिकट पर सर्विस चार्ज नहीं लगेगा.
♦ रेलवे विकास के लिए 1 लाख 31 हज़ार करोड़.
♦ 3500 किमी. नई रेल लाइन बनेंगी.
♦ 7000 हज़ार स्टेशनों पर सोलर लाइनें होंगी.
♦ 500 रेलवे स्टेशनों को दिव्यांगों के लिए आसान बनाया जाएगा.
♦ 2019 तक सभी ट्रेनों में बॉयो टॉयलेट की सुविधा होगी.
♦ टूरिज़्म और धार्मिक यात्राओं के लिए अलग से ट्रेनें चलाई जाएंगी.
♦ कोच की शिकायतों के लिए कोच मित्र योजना लाई जा रही है.

श्वेता सिंह

अधिक फाइनेंस आर्टिकल के लिए यहां क्लिक करें: FINANCE ARTICLES 

HOT! डब्बू रतनानी के 2017 के कैलेंडर पर कौन हुआ टॉपलेस, किस सेलेब ने लगाई पानी में आग? (Dabboo Ratnani calendar 2017)

Dabboo Ratnani

फोटोग्राफर डब्बू रतनानी के कैलेंडर का इंतज़ार सेलेब्स के साथ उनके फैन्स को भी होता है. हर साल डब्बू इन स्टार्स को बड़े ही अलग अंदाज़ में कैलेंडर में पेश करते हैं. इस बार भी 12 पन्नों पर 24 सितारों का एक अलग ही अंदाज़ समेटे हुए साल 2017 के कैलेंडर पर डब्बू ने अपने कैमरे का जादू चलाया है. देखें ये पिक्चर्स.

Dabboo Ratnani

ऐश्वर्या राय बच्चन

Dabboo Ratnani

अक्षय कुमार

Dabboo Ratnani

आलिया भट्ट

Dabboo Ratnani

अनुष्का शर्मा

Dabboo Ratnani

अर्जुन रामपाल

Dabboo Ratnani

दिशा पटानी

Dabboo Ratnani

ऋतिक रोशन

Dabboo Ratnani

शाहरुख खान

Dabboo Ratnani

सनी लिओनी

Dabboo Ratnani

जैकलीन फर्नांडिस

Dabboo Ratnani

कृति सैनन

Dabboo Ratnani

सोनाक्षी सिन्हा

Dabboo Ratnani

परिणीति चोपड़ा

Dabboo Ratnani

प्रियंका चोपड़ा

Dabboo Ratnani

रणवीर सिंह

Dabboo Ratnani

श्रद्धा कपूर

Dabboo Ratnani

सिद्धार्थ मल्होत्रा

Dabboo Ratnani

टाइगर श्रॉफ़

Dabboo Ratnani

वरुण धवन

Dabboo Ratnani

विद्या बालन

Whatt! जब हॉलीवुड बना हॉलीवीड…! (New Year Prank: HOLLYWOOD iconic Sign Changed to HOLLYWEED)

Hollyweed

Hollyweed

हॉलीवुड का आइकॉनिक साइन बदलकर हो गया हॉलीवीड (Hollyweed). जी हां, नए साल का नया मज़ाक बना हॉलीवीड. दरअसल, ये एक प्रैंक था. किसी प्रैंकस्टर ने हॉलीवुड के इस आइकॉनिक साइन के साथ छेड़छाड़ करके इसे हॉलीवीड में बदल दिया. लॉस एंजेलिस के लोग जब सुबह सोकर उठे, तो इस बदले हुए नाम को देखकर चौंक गए. O को बदलकर किसी ने E बना दिया था. प्रैंकस्टर वहां लगे कैमरे में रिकॉर्ड तो हुआ है, लेकिन अंधेरा और बारिश की वजह से कैमरे में कुछ क्लियर रिकॉर्ड नहीं हुआ है. यूं तो इसमें सेंसर लगे हुए हैं, जिसे छूने पर पुलिस स्टेशन में अलार्म बज जाता है, लेकिन इन सेंसर को चकमा भी दिया जा सकता है, क्योंकि कुछ हिस्सों में सेंसर नहीं लगा हुआ है. ख़ैर, इसे बाद में ठीक करके दोबारा हॉलीवुड कर दिया गया, लेकिन इस प्रैंक ने लोगों का ख़ूब मनोरंजन किया. वैसे ये कोई पहली बार नहीं है, जब इस आइकॉनिक साइन के साथ छेड़छाड़ की गई हो, इससे पहले भी कई बार ऐसा हो चुका है. देखें पिक्चर्स.

 

la-lnelson-1483296624-snap-photo (1)

la-lnelson-1483297193-snap-photo (1) (1)

la-lnelson-1483297335-snap-photo (1)

– प्रियंका सिंह

Fresh! फिर आया जॉली! जॉली एलएलबी 2 का ट्रेलर रिलीज़ (JOLLY LLB 2 trailer out)

Jolly LLB 2

jolly-llb-2-trailer (1)जॉली एलएलबी 2 (JOLLY LLB 2) का ट्रेलर रिलीज़ हो चुका है. ये फिल्म साल 2013 की फिल्म जॉली एलएलबी की सिक्वल है. अक्षय कुमार वकील के किरदार में जंच रहे हैं. इस बार जॉली स्टेट से लड़ने को तैयार है. ट्रेलर की शुरुआत होती है कोर्ट में बहस के साथ, जो काफ़ी इंट्रेस्टिंग है, इसमें अक्षय ने सलमान खान की शादी का सवाल भी कर दिया है. इसके अलावा डायलॉग्स, जैसे- जो वकील पैसे वापस कर दे, वो वकील नहीं होता या इस दुनिया के सबसे बड़े जाहिल ने कहा था कि इश्क और जंग में सब कुछ जायज़ है, क्योंकि अगर ऐसा है, तो बॉर्डर पर सिपाहियों के सिर काटने वाले भी जायज़ हैं और जवान लड़कियों पर एसिड फेकने वाले आशिक़ भी काफ़ी दमदार हैं. फिल्म में हुमा कुरैशी भी हैं. अनु कपूर और अक्षय के बीच कोर्ट में चलने वाली बहस भी मज़ेदार है. आप भी देखें फिल्म का ट्रेलर.

ट्रेलर से पहले अक्षय ने इंस्टाग्राम पर फिल्म के कई पिक्चर्स भी रिलीज़ किए थे.

‪Teen Ghante Mein #JollyLLB2Trailer, Taiyaar ho? Theek 11 baje aa raha hai Jolly! ‬

A photo posted by Akshay Kumar (@akshaykumar) on

‪Sirf ek ghanta aur #JollyLLB2Trailer aa raha hai!! ‬

A photo posted by Akshay Kumar (@akshaykumar) on

– प्रियंका सिंह