Tag Archives: 3 idiots

हैप्पी बर्थ डे शान! देखें उनके टॉप 10 गाने (Happy Birthday Shaan)

अपनी मैजिकल आवाज़ से लोगों को अपना दिवाना कर देने वाले शान का आज जन्मदिन है. शान यानी शांतनु मुखर्जी ने बॉलीवुड को कई बेहतरीन गाने दिए हैं. हमेशा मुस्कुराने वाले शान की मुस्कुराहट यूं ही बनी रही.

मेरी सहेली की तरफ़ से उन्हें जन्मदिन की ढेरों शुभकामनाएं. आइए, देखते हैं उनके 10 सुपरहिट गाने.

फिल्म- पीके

फिल्म- फ़ना 

यह भी पढ़ें: बर्थडे स्पेशल: हैप्पी बर्थ डे महमूद साहब

फिल्म- प्रेम रतन धन पायो

फिल्म- तारे ज़मीन पर

यह भी पढ़ें: हैप्पी बर्थडे देव साहब, जानें कुछ बातें, देखें उनके 10 गानें 

फिल्म- ता रा रम पम

फिल्म-  3 इडियट्स 

यह भी पढ़ें: 67 की हुईं शबाना आज़मी, पहली ही फिल्म में मिला था नेशनल अवॉर्ड, जानें दिलचस्प बातें 

फिल्म- जब वी मेट

फिल्म- वांटेड

यह भी पढ़ें: हैप्पी बर्थडे गुलज़ार साहब! देखें उनके 10 बेहतरीन गाने 

फिल्म- सांवरिया

फिल्म- लक्ष्य

यह भी पढ़ें: बर्थ डे स्पेशल: ऋषि कपूर को बतौर चाइल्ड ऐक्टर मिला था पहला नेशनल अवॉर्ड, देखें टॉप 10 गाने

फ्रेंड्स के साथ शेयर करें ये गाने और मनाएं Friendship Day! (Top 10 Bollywood Songs About Friendship)

Bollywood Songs About Friendship

Bollywood Songs About Friendship, meri saheli magazine

प्यार क्या है… प्यार दोस्ती है… दोस्ती में नो सॉरी…नो थैंक्यू… दोस्ती की है निभानी तो पड़ेगी ही. ऐसे ही ढेर सारे डायलॉग्स ने दोस्ती के इस रिश्ते को और भी ख़ास बना दिया है. दोस्त बस दोस्त होते हैं. दोस्तों से आप वो सब कुछ शेयर कर सकते हैं, जो किसी और से नहीं कर सकते. बॉलीवुड में कई ऐसी फिल्में हैं, जो दोस्ती पर बनी हैं. कभी दोस्त के लिए कुर्बानी देना हो या दोस्तों के साथ मिलकर मज़ें करना. फ्रेंडशिप के हर ख़ास पलों को फिल्मों में गानों के ज़रिए बेहतरीन ढंग से पेश किया गया है.

आइए, आपको देखते हैं इस प्यारे से रिश्ते पर बने बॉलीवुड के टॉप 10 गाने, जो आप अपने दोस्तों को डेडीकेट कर सकते हैं.

फिल्म- दिल चाहता है

फिल्म- 3 इडियट्स

फिल्म- दोस्ताना

फिल्म- ज़ंजीर

यह भी पढ़ें: ‘जब हैरी मेट सेजल’ बनी ‘बाहुबली 2’ से बड़ी ओपनर फुल पैसा वसूल फिल्म, ‘गुड़गांव’ है डार्क फिल्म 

फिल्म- याराना

फिल्म- सुहाग

फिल्म- दोस्ताना

फिल्म- नसीब

फिल्म- दोस्ताना

फिल्म- शोले

बॉलीवुड और टीवी से जुड़ी और ख़बरों के लिए क्लिक करें.

मैडी यानी आर माधवन हो गए है ४७ साल के, देखें उनके 5 हिट गाने (Happy Birthday R Madhavan)

R Madhavan

R-Madhavan-1 (1)

दक्षिण भारतीय फिल्म इंडस्ट्री के टॉप के अभिनेताओं की लिस्ट में आर.माधवन का नाम भी शामिल है. 1 जून, १९७० को जमशेदपुर में जन्मे आर माधवन पढ़ाई में अव्वल दर्जे के थे. माधवन ने कभी नहीं सोचा था कि वो अभिनेता बनेंगे. माधवन आर्मी ऑफिसर बनना चाहते थे, लेकिन आर्मी ज्वाइन करने के लिए उनकी उम्र ६ महीने ज़्यादा हो चुकी थी, इसके बाद उन्होंने अभिनय करने की सोची.

छोटे पर्दे से ऐक्टिंग करियर की शुरुआत करने वाले माधवन बनेगी अपनी बात, साया, ये कहां आ गए हम और सी होक्स जैसे सीरियल्स से टीवी के लोकप्रिय अभिनेता बन गए.

साउथ की फिल्मों के अलावा माधवन ने बॉलीवुड में भी अपनी जगह बनाई है. रहना है तेरे दिल में, रंग दे बसंती, 3 इडियट्स, साला ख़डूस, तनु वेड्स मनु और तनु वेड्स मनु रिटर्न जैसी फिल्मों में आर माधवन की ऐक्टिंग को सराहा गया.

मेरी सहेली की ओर से आर माधवन को ए वेरी हैप्पी बर्थ डे.

आइए, देखते हैं उनके टॉप 5 गाने.

फिल्म- तनु वेड्स मनु

फिल्म- रहना है तेरे दिल में

फिल्म- 3 इडियट्स

फिल्म- रंग दे बसंती

फिल्म- तनु वेड्स मनु रिटर्न्स

 

असली ‘फुंसुख वांगडु’ को मिला अवॉर्ड, ‘3 इडियट्स’ का किरदार इनसे था इंस्पायर्ड (The Real Phunsuk Wangdu wins prestigious Rolex Award)

Sonam Wangchuk

असली फुंसुख वांगडु को सम्मानित किया गया रोलेक्स अवॉर्ड से. हम बात कर रहे हैं लद्दाख के इंजिनियर सोनम वांगचुक की. मॉडर्न एजुकेशन और पर्यावरण को बेहतर बनाने के लिए सोनम कई सराहनीय काम कर रहे हैं. उन्होंने एजुकेशनल एंड कल्चरल मूवमेंट ऑफ लद्दाख नाम का संगठन बनाया है, जहां सौर ऊर्जा का पूरा इस्तेमाल किया जाता है. ऐसा ही कुछ आपने फिल्म 3 इडियट्स में भी देखा था. आमिर खान भी लद्दाख में एक ऐसा ही स्कूल चलाते नज़र आए थे. दरअसल आमिर ने जो फुंसुख वांगडु का किरदार निभाया था, वो सोनम वांगचुक से इंस्पायर्ड था. आमिर फिल्म में उन बच्चों की प्रतिभा को संवारने का काम करते नज़र आए थे, जिन्हें पैसों के अभाव में आगे बढ़ने का मौक़ा नहीं मिलता. लद्दाख के 50 साल के सोनम भी यही काम करते हैं. वांगचुक ने जब शिक्षा के लिए काम करना शुरू किया, तो उन्हें एहसास हुआ कि भाषा की वजह से बच्चे सवालों के जवाब पता होने के बावजूद उसका जवाब नहीं दे पाते थे, इसलिए उन्होंने स्थानीय भाषा में ही बच्चों की शिक्षा के लिए कोशिश करनी शुरू कर दी. वांगचुक सहित पूरी दुनिया से 140 लोगों को ये रोलेक्स अवॉर्ड दिया जाना है.

– प्रियंका सिंह