Tag Archives: 500

घबराएं नहीं, जानें क्यों बंद हुए 500 व 1000 के नोट (Do not Panic- 500 and 1000 notes were down, Learn why?)

Do not Panic

header-image-narendra-modi-1478619531_980x457
सरकार द्वारा 500 और 1000 के नोट बंद करने का फैसला किसी आनन-फानन योजना के तहत नहीं है. इसकी तैयारी तो कई महीने पहले से हो रही थी. सरकार के इस फैसले से आम जनता के बीच घबराहट-सी फैल गई है. अगर आप भी इस फैसले से घबरा गए हैं, तो चलिए हम आपको बताते हैं इससे जुड़ी कुछ अहम् बातें.

1- क्या है यह स्कीम?
सरकार ने 500 व 1000 के नोटों को 8 नवंबर 2016 की आधी रात से बंद कर दिया. अब किसी भी दुकान, हॉस्पिटल, शॉपिंग मॉल आदि जगहों पर आप इसे यूज़ नहीं कर सकते. यह पूरी तरह से बैन हो चुका है.

2- क्यों लॉन्च की यह स्कीम?
मार्केट में पड़े काले धन की बढ़ते ढेर को कम करने के लिए इस योजना को लागू किया गया है. इससे आम जनता को काफ़ी फ़ायदा मिलेगा.

3- क्या करें आप?
अगर आपने कल रात ही बैंक से अपनी सैलरी निकाली है और आपको 500 व हज़ार के नोट मिले हैं या घर पर पहले से कुछ पैसे रखें हैं, तो घबराने की ज़रूरत नहीं है. बस आप अपने बैंक में इसे जमा करवा दें. आप पोस्ट ऑफिस में भी इन नोटों को जमा करके उसके बदले 100-100 के नोट ले सकते हैं.

4- कितने दिन का समय है?
पैनिक होने की ज़रूरत नहीं है. आपके पास अभी बहुत समय है. अपने पास पड़े पुराने नोटों को बैंक या पोस्ट ऑफिस में बदलने या जमा करने के लिए अभी आपके पास 50 दिन हैं.

5- क्या नोट जमा करने के बदले कम पैसे मिलेंग?
अगर आप ऐसा सोच रहे हैं कि आपको अपने पुराने नोट जमा करने के बदले में कम पैसा मिलेगा, तो बिल्कुल ग़लत सोच रहे हैं. ऐसा नहीं है. आपको आपके द्वारा दिए गए अमाउंट का पूरा मूल्य मिलेगा.

6- क्या एक-साथ पूरा कैश मिलेगा?
नहीं, एक दिन में पूरा कैश नहीं मिलेगा. एक दिन में केवल 4000 रुपए आपको मिलेंगे.

7- बैंक में अकाउंट नहीं है, तो?
वैसे तो आजकल सभी का बैंक अकाउंट होता है. कुछ लोग पोस्ट ऑफिस में पैसे जमा करते हैं, लेकिन किसी कारणवश अगर आपका बैंक/पोस्ट ऑफिस अकाउंट नहीं है, तो निराश मत होइए. ज़रूरी काग़ज़ात लेकर आप बैंक/पोस्ट ऑफिस जाएं और अपना खाता खुलवाएं. उसके बाद पुराने नोट जमा करवाएं.

8- क्या किसी भी बैंक में पुराने नोट जमा हो सकते हैं?
हां, आप किसी भी बैंक में जाकर पुराने नोटों को देकर उसके बदले पैसा ले सकते हैं.

9- क्या इसका असर इंटरनेट बैंकिंग पर भी है?
जी नहीं, आप किसी को भी इंटरनेट बैंकिंग के ज़रिए पैसा ट्रांसफर कर सकते हैं. कार्ड पेमेंट में भी कोई बदलाव नहीं है.

10- कैसे करें ज़रूरी चीज़ों का भुगतान?
ये सच है कि सरकार की ये योजना कुछ पल के लिए आपको मुसीबत भरी लगे, लेकिन आगे के लिए बड़ी फ़ायदेमंद है. अगर आपके पास अभी कैश नहीं है और आपको हॉस्पिटल, लैब आदि जगह भुगतान करना है, तो कार्ड से पे करें.

11- क्या है 72 घंटे की स्कीम?
शुरुआती 72 घंटों के लिए सरकारी कंपनियों के अधिकृत पेट्रोल, डीज़ल और सीएनजी स्टेशनों, दूध के बूथों, सरकारी को-ऑपरेटिव स्टोर्स पर पुराने नोट चलेंगे.

12- क्या चेक से पैसे निकाले जा सकेंगे?
हां, आप कैश निकाल सकते हैं. लेकिन इसकी अधिकतम सीमा 10,000 और ओवर ऑल लिमिट 20,000 एक हफ़्ते में (एटीएम से भी इसी तरह निकाल सकते हैं) ये पहले दो हफ्तों तक है यानी 24 नवंबर 2016 तक लागू है.

13- क्या करें टूरिस्ट?
अगर आप भारत घूमने आए हैं और आपके पास बड़ी नोट है, तो चिंता की बात नहीं. एयरपोर्ट एक्सचेंज काउंटर से नोटों को बदल सकते हैं.

14- कहां करें संपर्क?
ज़्यादा जानकारी के लिए आप आरबीआई की वेबसाइट www.rbi.org.in पर जाएं. इन नंबर्स पर फोन करके भी आप अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं. ये इस प्रकार हैं- 022- 22602201/ 22602944

15- कब आएंगे नए नोट?
10 नवंबर से आएंगे नए नोट.

अधिक फाइनेंस आर्टिकल के लिए यहां क्लिक करें: FINANCE ARTICLES 

 

Twitter reaction: बॉलीवुड को पसंद आया पीएम नरेंद्र मोदी का फ़ैसला, बोले ”सौ सोनार की एक लोहार की” (Bollywood supports PM Narendra Modi’s decision)

Untitled-6_5fe185f31b6808512dbbfc65af38efc2_thumbnailप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 500 और 1000 के नोटों को मंगलवार आधी रात के बाद बंद करने के फ़ैसले का स्वागत बॉलीवुड ने खुलकर किया है. अमिताभ बच्चन, रजनीकांत से लेकर अजय देवगन, इमरान हाशमी तक हर किसी ने अपने अंदाज़ में पीएम मोदी को बधाई दी और इस फ़ैसले को जमकर सराहा. किसने क्या ट्वीट किया है? आइए, देखते हैं,

अमिताभ बच्चन – ”2000 का नोट पिंक कलर में है… द पिंक इफेक्ट..!!”

रजनीकांत – ”हैट्स ऑफ नरेंद्र मोदी जी. नए भारत का जन्म हुआ है, जयहिंद.”

अनुपम खेर- ”सौ सोनार की, एक लोहार की. जय हो.:)”

ऋषि कपूर ने एक बेहद ही मज़ेदार वीडियो शेयर करने के साथ यह भी लिखा है – ”पीएम मोदी जी, बॉल स्टेडियम से बाहर चली गई है, वाह!!!!. डी मोनेटाइज़ेशन सही जवाब है. बधाई!”

अनुष्का शर्मा – ”देश के निर्माण के लिए पीएम मोदी के इस बोल्ड और साहसी क़दम का स्वागत है. हर किसी को व्यापक रूप से देश के हित के लिए सहयोग देना चाहिए.”

अजय देवगन – ”100 सोनार की, 1 लोहार की.”

करण जौहर – ”ये सच में एक मास्टरस्ट्रोक मूव है!!!!.”

इमरान हाशमी – ”करप्शन से लड़ने के लिए नरेंद्र मोदी का बेहद ही साहसी क़दम.”

रितेश देशमुख – ”पीएम नरेंद्र मोदी जी का बोल्ड क़दम, 1000 और 500 के नोट अमान्य और बेमानी हो गए हैं.” नयाभारत.

 

 

 

 

500 व 1000 के नोट बंद- वाह! क्या सरकारी चाल है… (500 & 1000 notes are banned- interesting move of Government)

Rs-500-and-Rs-1000
इसे कहते हैं सरकार द्वारा कुछ विशेष वर्ग की रातों की नींद उड़ाना. ये तो वही हो गया कि बैंक में नहीं है रुपया, लेकिन घर में नोटों के गद्दे पर सोते हैं, लोग. अगर यह क्रिकेट की पिच होती, तो नज़ारा कुछ ऐसा होता कि मैदान पर आते ही मोदी सरकार विरोधी खेमे की हर बॉलर की धुनाई कर रही है. वाह! कुछ इसी तरह बीती रात अचानक जब हर जगह 500 और हज़ार के नोट बंद होने की न्यूज़ फ्लैश होने लगी, तो लोगों की नींद उड़ गई.

काले धन वालों की बढ़ी मुसीबतें
वैसे तो सरकार के इस निर्णय से आम से लेकर कुछ ख़ास लोगों की मुश्किलें बढ़ गईं, लेकिन सबसे ज़्यादा मुसीबत तो उन लोगों की बढ़ी है, जिनकी आमदनी कागज़ पर कम, लेकिन घर में ज़्यादा है. इसे कहते हैं वाह क्या सरकारी चाल है!

अधिक फाइनेंस आर्टिकल के लिए यहां क्लिक करें: FINANCE ARTICLES