Tag Archives: a flying jatt

FILM REVIEW- क्रिश के बाद जट्ट सुपरहीरो पसंद आएगा बच्चों को!

फिल्म- अ फ्लाइंग जट्ट
डायरेक्टर- रेमो डिसूज़ा
रेटिंग- 2 & 1/2 स्टार

देसी सुपरहीरो क्रिश पहले ही सबके दिलों में अपनी जगह बना चुका है. जहां तक बात है विदेशी सुपरहीरोज़ की तो वो तो बच्चों की पहली पसंद में शामिल ही हैं. क्रिश के बाद अब एक और देसी सुपरहीरो मिल गया है बच्चों को.Tiger-Shroff-A-Flying-Jattअ फ्लाइंग जट्ट में टाइगर श्रॉफ़ जट्ट सुपरहीरो बनकर अच्छे लग रहे हैं. हालांकि फिल्म की कहानी में कोई नयापन नहीं है. हमेशा की तरह बुराई और लोगों पर हो रहे ज़ुल्म को ख़त्म करने के लिए एंट्री होती है सुपरहीरो की. चलिए, एक नज़र कहानी पर डालते हैं.

स्टोरी

कहानी शुरू होती है पंजाब की ‘करतार सिंह कॉलोनी’ से, जहां अमन (टाइगर श्रॉफ) अपनी मां (अमृता सिंह) के साथ रहता है. अमन एक स्कूल में मार्शल आर्ट टीचर है. वहीं उसकी मुलाकात कीर्ति (जैकलीन) से होती है और दोनों में प्यार हो जाता है. टाइगर की सुपरहीरो वाली एंट्री तब होती है, जब इंडस्ट्रियलिस्ट मल्होत्रा (के के मेनन) अमन की कॉलोनी को तबाह कर देना चाहता है. इस काम के लिए वो राका (नाथन जोन्स) को बुलाता है. कहानी में टि्वस्ट तब आता है, जब अमन को अपनी शक्तियों का एहसास होता है और वो बन जाता है सुपरहीरो फ्लाइंग जट्ट. अपनी कॉलोनी और शहर के लोगों को बचाने के लिए फ्लाइंग जट्ट, राका से लड़ता है और उसका सफ़ाया कर देता है.

क्या है फिल्म की कमज़ोरी?

फिल्म की सबसे बड़ी कमज़ोरी है इसकी लंबाई. चूंकि कहानी में कोई नयापन नहीं है, इसलिए फिल्म की शुरुवात में ही आप अंदाज़ा लगा सकते हैं कि फिल्म में आगे क्या होने वाला है, ऐसे में कहानी को ज़्यादा लंबा करने की वजह से फिल्म बोरिंग लगने लगती है. फिल्म का क्लाइमेक्स भी निराश करता है, हालांकि इसे दमदार बनाया जा सकता था. इंटरवल से पहले फिल्म अच्छी लगेगी, लेकिन सेकंड हाफ में बोर करेगी.

फिल्म की यूएसपी

जब फिल्म में टाइगर श्रॉफ हों, तो एक्शन तो दमदार होगा ही. फिल्म में दिखाए गए स्टंट्स काफ़ी दमदार हैं.

यह फिल्म कुछ अच्छी बातें भी सिखाएगी, जैसे- कार चलाते वक़्त सीट बेल्ट लगाएं, प्रदूषण से कैसे बचें आदि.

फिल्म की तीसरी यूएसपी है फिल्म का संगीत. इस फिल्म का गाना बीट पे बूटी… हिट गानों की लिस्ट में अपनी जगह बना चुका है. शुरुआत में क्रेडिट लाइन्स के साथ आने वाला गाना चल चलिए… अच्छा है.

एक और बात जो इस फिल्म को ख़ास बनाती है, वो है टाइगर का सुपरहीरो वाला किरदार जिसे रेमो डिसुज़ा ने इंसानों वाला ही टच दिया है. जैसे कि टाइगर को फिल्म में ऊंचाई से डर लगता है और ये डर उसके सुपरहीरो बन जाने के बाद भी बना रहता है.

किसने दिखाया ऐक्टिंग का दम?

टाइगर की तारीफ़ तो हम पहले ही कर चुके हैं. अमृता सिंह का किरदार यक़ीनन आपको पसंद आएगा, वो इस फिल्म की सरप्राइज़ पैकेज हैं. उनकी कॉमिक टाइमिंग कमाल की है. हॉलीवुड ऐक्टर नाथन जोन्स भी विलेन के रोल में अच्छे लग रहे हैं. जैकलिन फर्नांडिस और के के मेनन का काम भी ठीक है.

फिल्म देखें या नहीं? 

अगर आप टाइगर श्रॉफ़ के फैन हैं या सुपरहीरो वाली फिल्में आपको पसंद हैं, तो आप ये फिल्म एक बार देख सकते हैं. लेकिन टाइम की कमी या पैसे ख़र्च न करने की वजह से अगर ये फिल्म आपसे छूट जाती है या आप इस फिल्म को नहीं देख पाएं, तो कोई ख़ास नुक़सान नहीं होगा आपका. जहां तक बात है बच्चों की तो उन्हें सुपरहीरो वाली फिल्में ज़्यादातर पसंद होती हैं, ऐसे में उन्हें ये फिल्म दिखाई जा सकती है.

SHOCKING! सुपरहीरो टाइगर कभी कॉलेज नहीं गए! (वीडियो)

टाइगर श्रॉफ करण जौहर की फिल्म स्टूडेंट ऑफ दी ईयर के सिक्वल के लिए फाइनल कर लिए गए हैं. वरुण और सिद्धार्थ के बाद स्टूडेंट की ट्रॉफी लेने की बारी है टाइगर की. लेकिन एक बात जो शायद आपको पता नहीं होगी टाइगर के बारे में और वो ये कि टाइगर कभी कॉलेज ही नहीं गए. चौंक गए ना आप ये सुनकर! लेकिन ये सच है और ये बात ख़ुद टाइगर ने एक इवेंट के दौरान बताई है. ऐसा नहीं है कि टाइगर का मन पढ़ाई में नहीं लगता था, दरअसल उन्हें कॉलेज जाने का मौक़ा नहीं मिला, क्योंकि स्कूलिंग के बाद उन्हें हीरोपंती फिल्म का ऑफर आ गया और उन्होंने कॉलेज के बदले फिल्म को चुन लिया. भले ही टाइगर कॉलेज न जाए पाए हों, लेकिन उनकी हीरोपंती में कोई कमी नहीं है. ख़तरनाक स्टंट्स करना हो या डांस फ्लोर पर जलवे दिखाने हों, हर फील्ड में माहिर हैं टाइगर श्रॉफ़.