actor

लॉकडाउन में सोनू सूद ने प्रवासी मज़दूरों के लिए काफ़ी काम किया था और आज भी वो लोगों की और ज़रूरतमंदों की मदद करते रहते हैं. सोनू को उनके काम के लिए काफ़ी सराहा भी जाता है और अब निर्वाचन आयोग ने भी सोनू को पंजाब का स्टेट आइकॉन बनाकर सम्मानित किया है.

Sonu Sood

पंजाब के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एस करुणा राजू ने इस बारे में जानकारी दी कि उनके कार्यालय ने भारत निर्वाचन आयोग को इस संबंध में एक प्रस्ताव भेजा था, जिसे मंजूर कर लिया गया. सोनू अब पंजाब ने चुनाव संबंधी जागरूकता फैलाएंगे. वो एथिकल वोटिंग यानी नैतिक मतदान के लिए लोगों को प्रेरित करेंगे!

Sonu Sood

सोनू पंजाब के मोगा ज़िले के रहनेवाले हैं और यह सम्मान मिलने पर उन्होंने कहा कि मेरे राज्य को मुझ पर गर्व है यह जानकर काफ़ी सम्मानित महसूस कर रहा हूं, इमोशनली यह मेरे लिए बहुत मायने रखता है और मुझे आगे भी बेहतर काम करने के लिए प्रेरित करेगा.

Sonu Sood

सोनू अपनी आत्मकथा पर भी काम कर रहे हैं जिसका शीर्षक होगा मैं मसीहा नहीं हूं… इतना ही नहीं सोनू को उनके द्वारा किए गए सामाजिक कार्यों के लिए यूनाइटेड नेशन्स डेवलपमेंट प्रोग्राम (UNDP) द्वारा प्रतिष्ठित एसडीजी स्पेशल ह्यूमैनीटेरीयन एक्शन अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था और सोनू उनके साथ भी मिलकर काम करने की मंशा ज़ाहिर कर चुके हैं.

Sonu Sood

जैसाकि सभी जानते हैं कि सोनू ने प्रवासी मज़दूरों से लेकर विद्यार्थियों तक की काफ़ी मदद की थी, ना सिर्फ़ उन्हें घर पहुंचाया बल्कि उनके खाने- पीने, दवा और मोबाइल फ़ोन तक का इंतज़ाम सोनू ने किया था और अभी भी वो कभी किसी की पढ़ाई में मदद करते हैं तो कभी किसी के अस्पताल का बिल चुकाकर मदद करते ही रहते हैं. सोनू आम लोगों में काफ़ी लोकप्रिय हो चुके हैं और इसी के चलते अब उन्हें चुनाव में भी जागरूकता फैलाने का ज़िम्मा दिया गया है!

Sonu Sood

यह भी पढ़ें: द कपिल शर्मा शो में अपने मामा गोविंदा के सामने परफ़ॉर्म नहीं करना चाहते कृष्णा अभिषेक… कृष्णा ने बताई दोनों के बीच अनबन की ये वजह! (Krushna Abhishek Refuses To Perform in ‘The Kapil Sharma Show’ Episode With Govinda As Guest)

कपिल शर्मा शो के सभी दीवाने हैं और इसमें जबसे कृष्णा अभिषेक आए हैं तो शो में चार चांद लग गए हैं. उनका सपना पार्लरवाली का कैरेक्टर काफ़ी हिट है, शो में फ़िलहाल सब ठीक ठाक ही नज़र आ रहा था कि अचानक कृष्णा ने ऑन एयर ही शो छोड़ने की धमकी दे डाली. सभी हैरान हो गए लेकिन कृष्णा की बात मानकर उन्हें बेस्ट विशेज़ भी देने लगे.

लेकिन कृष्णा और कपिल शो के फैंस बेहद दुखी हुए क्योंकि जैसे ही यह खबर सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो फैंस के मन में मायूसी छा गई और वो यह जानने को उत्सुक हो गए कि अख़िर कृष्णा ने यह फ़ैसला क्यों लिया?

Krushna Abhishek

दरअसल कृष्णा रेमो और उनकी डान्सिंग टीम के शो पर आने से नाराज़ दिखे. रेमो को देखते ही वो बोल उठे कि वो अब शो का हिस्सा नहीं रहना चाहते. कृष्णा की बात से सब हक्के-बक्के हो गए और जब उनसे इसका कारण पूछा तो वो बोले अरे इतने सारे गेस्ट एकसाथ कोई शो पर बुलाता है क्या! बस फिर क्या था, सब हंसने लगे और समझ गए कि कृष्णा मज़ाक़ कर रहे थे.

Krushna Abhishek

यही नहीं कृष्णा रेमो से वाक़ई नाराज़ हैं क्योंकि उन्होंने रेमो की खिंचाई करते हुए कहा कि दुनियाभर ने नॉन डांसर्स को काम देते हो और अपनी बिल्डिंग में रहनेवाला लड़का नज़र नहीं आता. दरअसल रेमो और कृष्णा एक ही बिल्डिंग में रहते हैं और कृष्णा रेमो की टांग खींच रहे थे.

अब तो फैंस जान गए कि कृष्णा शो का हिस्सा बने रहेंगे.

यह भी पढ़ें: कृष्णा अभिषेक ने कश्मीरा की सेक्सी पिक शेयर कर उसे बिरयानी कहा, तो ट्रोलर्स बोले- पत्नी की ऐसी तस्वीर पोस्ट करते शर्म नहीं आती? (Actor Krushna Abhishek Gets Trolled For Posting Kashmera Shah’s Sexy Pic And Calling Her Biryani)

मिलिंद सोमन सबकी इंस्पिरेशन हैं, उनकी उम्र जितनी बढ़ रही है वो उतने ही फिट और हॉट होते जा रहे हैं. वो ना सिर्फ़ फ़िटनेस फ़्रीक हैं बल्कि दूसरों को भी मोटीवेट करते रहते हैं.
हाल ही में वो अपने 55वे जन्मदिन पर एक अनोखे अंदाज़ में नज़र आए, वो गोवा के समंदर किनारे बिना कपड़ों के दौड़ लगा रहे थे और उन्होंने अपनी यह तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर भी की, जिसको कैप्शन दिया हैप्पी बर्थडे टु मी!

लोगों ने इस तस्वीर पर खूब मज़ेदार कमेंट्स किए और मिलिंद को जन्मदिन की शुभकामनाएं भी दीं. दरअसल मिलिंद इस तस्वीर के ज़रिए फिटनेस के लिए लोगों को मोटिवेट करना चाहते थे और यही संदेश छिपा था उनकी इस न्यूड फोटो में.

हालाँकि यह कोई पहला मौक़ा नहीं है जब मिलिंद इस तरह बिना कपड़ों के नज़र आई. अपने मॉडलिंग के दोनों में टफ़ शूज का एड करके वो काफ़ी सुर्खियाँ बटोर चुके हैं. इसमें वो न्यूड थे और साथ थीं उनकी गर्लफ़्रेंड मधु सप्रे.

Milind Soman

मिलिंद ने इससे पहले भी एक थ्रोबैक पिक शेयर की थी वो भी काफ़ी हॉट थी. मिलिंद स्विमिंग चैम्पियन रह चुके हैं और अब वो रनिंग पे ध्यान देते हैं. उनका फ़िटनेस लेवल ग़ज़ब का है.

Milind Soman

बहरहाल लोग उनको हाल की तस्वीर से काफ़ी खुश हैं और ग़ज़ब के कमेंट्स भी कर रहे हैं.

Milind Soman
Milind Soman
Milind Soman
Milind Soman
Milind Soman

कुछ लोग उनसे मोटिवेशन भी ज़रूर लेते दिखे.

Milind Soman
Milind Soman
Milind Soman
Milind Soman
Milind Soman

यह भी पढ़ें: कृष्णा अभिषेक ने कश्मीरा की सेक्सी पिक शेयर कर उसे बिरयानी कहा, तो ट्रोलर्स बोले- पत्नी की ऐसी तस्वीर पोस्ट करते शर्म नहीं आती? (Actor Krushna Abhishek Gets Trolled For Posting Kashmera Shah’s Sexy Pic And Calling Her Biryani)

एक्टर फराज़ खान काफ़ी समय से अस्पताल में भर्ती थे और कुछ समय पहले ही यह खबर आई थी कि उनके इलाज के लिए पच्चीस लाख की ज़रूरत है. उनके परिवार ने अपील भी की थी कि उन्हें इलाज के लिए मदद मिले तो बेहतर होगा, ऐसे में सलमान खान ने उनके अस्पताल का पूरा बिल चुकाया था जिसकी सभी ने तारीफ़ की थी लेकिन अफ़सोस कि यह मदद काम ना आ सकी और फराज़ की जान नहीं बच पाई. फराज़ जानेमाने एक्टर यूसुफ़ खान के बेटे थे और कई फ़िल्मों में काम कर चुके थे. वो बैंगलुरु के अस्पताल में लाइफ़ सपोर्ट सिसटम पर थे, उन्हें न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर की समस्या हो गई थी. सलमान की मदद की बात भी कश्मीरा शाह ने ही सोशल मीडिया पर शेयर की थी और उन्होंने कहा था कि सलमान इंडस्ट्री के सबसे अच्छे इंसान हैं और अगर लोगों को सलमान की तारीफ़ से समस्या है तो उन्हें परवाह नहीं.

बहरहाल बात फराज़ की करें तो उन्होंने मेहंदी में रानी मुखर्जी के साथ लीड रोल किया था, इसके अलावा वो दुल्हन बनूँ मैं तेरी, फ़रेब और चांद बुझ गया में भी काफ़ी दमदार भूमिका में नज़र आए थे. उनकी मृत्यु की खबर पूजा भट्ट ने ट्वीट के ज़रिए दी.

यह भी पढ़ें: एक्टर विजय राज गिरफ़्तार, महिला क्रू मेंबर से छेड़छाड़ का लगा आरोप! (Actor Vijay Raaz Arrested For Allegedly Molesting Female Co-Actor)

लॉकडाउन के दौरान सोनू सूद का अलग ही व्यक्तित्व उभरकर आया और वो बन गए ग़रीबों के मसीहा. जब जहां से जो भी मदद मांगता सोनू उनकी मदद के लिए आगे हाथ बढ़ा देते. सोनू को इस काम के लिए काफ़ी वाहवाही और लोगों का प्यार भी मिला. इसके बाद भी सोनू कई तरह के समाजिक काम करते रहे, कभी किसी बच्चे के इलाज के लिए आगे आए तो कभी किसी की अन्य मदद के लिए… लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्हें सोनू की नेकी रास नहीं आ रही और वो इसे शक की निगाह से देख रहे हैं.

Sonu Sood

ऐसा ही एक बंदा ट्वीटर पर सोनू से सवाल करने लगा और उनकी मंशा पर संदेह जताने लगा. उसने लिखा- एक नया ट्विटर अकाउंट, सिर्फ 2 या 3 ही फॉलोअर, एक ही ट्वीट, कभी सोनू को टैग भी नहीं किया… कोई लोकेशन नहीं, कोई कॉन्टैक्ट डीटेल, इमेल एड्रेस नहीं, पर फिर भी सोनू ने इस ट्वीट को ढूंढ लिया और मदद की पेशकश की. पीआर टीम इसी तरह काम करती है.
पहले भी जो हैंडल्स मदद मांगने आए थे, वे सब अपने ट्वीट डिलीट कर चुके हैं. कुल मिलाकर इस बंदे ने सोनू की मदद को पीआर स्टंट बता दिया.

Sonu Sood
Sonu Sood

सोनू ने भी इसे जवाब देने में देर नहीं की, सोनू ने रसीद और टेस्ट्स की रिपोर्ट्स के स्क्रीन शॉट शेयर करते हुए लिखा- ये सही है भाई, मैंने ज़रूरतमंद को खोजा और उन्होंने ने भी किसी तरह मुझे ढूँढ लिया, ये सब इरादों की बात है जो तुम नहीं समझोगे! आगे सोनू ने लिखा कि वो मरीज़ कल अस्पताल में होगा बेहतर होगा उसके लिए कुछ फल भेज दें, 2-3 फॉलोअर वाला व्यक्ति भी बहुत खुश होगा, जब उसे कई फॉलोअर्स वाले व्यक्ति से कुछ प्यार मिलेगा…

Sonu Sood

लेकिन हैरानी की बात यह है कि यह व्यक्ति इसके बाद भी बाल की खाल निकालते हुए सोनू पर सवाल उठाता रहा और अपनी बात को सही साबित करने के लिए मदद माँगने की तारीख़, मदद की पेशकश की तारीख़ ढूँढता रहा और कहता रहा कि आपने पहले से इलाज करवा रहे किसी व्यक्ति को मदद का आश्वासन दिया. यह सब पीआर स्टंट ही है और आप फ़र्ज़ी काम कर लोगों को धोखा दे रहे हैं.

यह भी पढ़ें: ना अश्लील डायलॉग, ना फूहड़ता, अपनी नेचुरल कॉमेडी से दर्शकों को खूब हंसाया और जीता सबका दिल इन 12 क्लासिक हास्य कलाकारों ने! (12 Classic Bollywood Comedians Who Made Us Laugh Really Hard)

रामजन्म भूमि अयोध्या में रामायण का मंचन चल रहा था जिसमें भोजपुरी अभिनेता मनोज तिवारी अंगद की भूमिका निभा रहे थे और रावण बने थे शाहबाज़ खान. लेकिन इस दौरान एक हास्यास्पद घटना हो गई, मनोज तिवारी रावण के साथ अपने सीन में अंग्रेज़ी बोलते नज़र आए.

वो बोल उठे… एक सेकंड… एक सेकंड… इसके अलावा उन्होंने और भी कई अंग्रेज़ी शब्दों का इस्तेमाल किया, जिस वजह से वो सोशल मीडिया पर लोगों के निशाने पर आ गए और लोग भड़क गए.

यूज़र्स लिखने लगे… इतना भी नहीं हो पाया… एक ने मनोज के डायलॉग को ही लिखकर अपना रोष जताया, उसने लिखा एक सेकंड एक सेकंड? इनकी टीम का बंदर? ये रामलीला है या मज़ाक़!आप भी देखें वो वीडीयो…

लोग कहने लगे हिंदी का अपमान है ये और मनोज का जमकर मज़ाक़ उड़ाया.

जहां एक तरफ़ लोग मज़ाक़ उड़ा रहे हैं वहीं काफ़ी लोग ग़ुस्से में भी नज़र आए… और कहने लगे कैसे कैसों को अभिनय दिया है…

दरअसल राज्य के संस्‍कृति और पर्यटन विभाग तथा अयोध्‍या शोध संस्‍थान के सहयोग से होनेवाली यह रामलीला आकर्षण का केंद्र बनी हुई थी. कोरोना संकट के दौर में प्रोटोकॉल के चलते रामलीला के ऑनलाइन प्रसारण का ही फैसला किया गया था और इसका प्रसारण सोशल मीडिया और यूटयूब पर हो रहा था.

मनोज के अलावा रवि किशन, असरानी, राकेश बेदी, विंदु दारा सिंह भी इसका हिस्सा हैं. इसे 14 भाषाओं में दिखाया गया, लेकिन इसकी ख़ामियाँ लोगों की नज़रों से बच नहीं पाई, ख़ासतौर से मनोज ने जिस तरह हल्के अंदाज़ में इसे लिया उससे लोग नाराज़ हैं.

यह भी पढ़ें: दुर्गाष्टमी पर मिलिए क्यूटेस्ट छोटी दुर्गा नुर्वी से, नील नितिन मुकेश ने बिटिया के लिए लिखा- हमारे घर की लक्ष्मी! (Durgashtami Special: Neil Nitin Mukesh Shares Cutest Pictures of Daughter Nurvi)

जी हां, दर्शकों का फ़ेवरेट शो पवित्र रिश्ता फिर से दर्शकों के बीच आ रहा है. खुद अंकिता लोखंडे ने अपने इंस्टाग्राम पर भी यह खबर शेयर की और कैप्शन दिया- फिर एक बार ❤️… देखना ना भूलें 🙏🏻
जैसाकि हम सभी जानते हैं सुशांत की मौत के बाद लोग उन्हें बेहद मिस कर रहे हैं और उनकी न्याय की लड़ाई में एक साथ आवाज़ भी उठा रहे हैं. खुद अंकिता भी इस मुहिम में लगी हुई हैं तो ऐसे में लोग बार बार यही चाह रहे थे कि काश अंकिता और सुशांत यानी अपने मानव और अर्चना को वो साथ साथ देख पाते. क्योंकि यही वो शो था जिसने अंकिता और सुशांत की रील ही नहीं रियल लाइफ जोड़ी भी बनाई थी और उन दोनों को घर घर में सबका फेवरेट बनाया था.

कामयाबी के ऐसे झंडे गाड़े थे कि सुशांत एक सुपर स्टार बन गए थे और अंकिता पसंदीदा बहू. दोनों जल्द ही शादी करने वाले थे लेकिन अचानक ही उनका ब्रेकअप हो गया जिससे फैंस सबसे ज़्यादा आहत थे. उन्हीं फैंस के लिए और सुशांत को एक ट्रिब्यूट देने के लिहाज़ से भी यह शो फिर से प्रसारित होगा.

पवित्र रिश्ता ज़ी पर रोज़ दोपहर 3 बजे से शाम 6 बजे तक दिखाया जाएगा. अंकिता भी काफ़ी खुश हैं इस बात से.

यह भी पढ़ें: पहले चलना सिखाया, अब रास्ता दिखाएगी… सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन की ‘इंडिया वाली मां’ (Pehle Chalna Sikhaya Tha, Ab Rasta Dikhayegi… Sony Entertainment Television’s ‘Indiawaali Maa’)

आज फिल्म इंडस्ट्री के लाजवाब गायक सोनू निगम का जन्मदिन है. इन दिनों फिल्मी दुनिया में चल रहे भाई-भतीजावाद, कंगना रनौत को सपोर्ट करने से लेकर संगीत की दुनिया में हो रहा घालमेल, भूषण कुमार से पंगे आदि को लेकर सोनू काफ़ी सुर्ख़ियों में है. वे अपनी बात भी बेबाकी से रख रहे हैं. लेकिन आज हम उनके जन्मदिन पर उनकी सुमधुर बेहतरीन गानों का रस लेगे…

ज़िंदगीनामा…

  • सोनू निगम का जन्म 30 जुलाई 1973 को फरीदाबाद में हुआ था.
  • सोनू ने करियर की शुरुआत चार वर्ष के छोटे उम्र में कर दी थी.
  • उन्होंने चार वर्ष की उम्र में अपने पिता अगम कुमार निगम के साथ मोहम्मद रफ़ी का गाना “क्या हुआ तेरा वादा” गाया था.
  • सोनू ने हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत की ट्रेनिंग उस्ताद गुलाम मुस्तफ़ा ख़ान से ली.
  • सोनू प्लेबैक सिंगिंग के अलावा क्लासिकल, सेमी क्लासिकल व गजल भी गाते हैं.
  • हिंदी के साथ-साथ वह अन्य कई भाषाओं, जैसे- कन्नड़, मराठी, गुजराती भाषाओं में भी गाना गा चुके हैं. 
  • उन्होंने फिल्म ‘आजा मेरी जान’ में ओ आसमान वाले… गाने के साथ बॉलीवुड में कदम रखा.
  • फिल्म बॉर्डर के संदेशे आते हैं… और अग्निपथ के अभी मुझमें कहीं… गाने से उन्हें ख़ास पहचान मिली.
  • उसके बाद कल हो न हो, तुम बिन, दीवाना, संघर्ष, दिल चाहता है, दिल से, फना, मैं हूं ना, कहानी, थ्री इडियट्स, ब्रदर्स जैसी कई फिल्मों में सुपरहिट्स गाने गाए.
  • यह साल सोनू के लिए कई मायनों में यादगार है. गाने के अलावा कई अन्य कारणों से सोनू बहुत चर्चे में रहे हैं.
    मेरी सहेली की ओर से सोनू निगम को जन्मदिन की ढेर सारी शुभकामनाएं!..
    सुनिए सोनू निगम के बेहतरीन गाने…
Sonu Nigam

बॉर्डर- संदेशे आते हैं…

अग्निपथ- अभी मुझ में कहीं…

कल हो ना हो- हर घड़ी बदल रही है रूप ज़िंदगी…

दीवाना अलबम- अब मुझे रात दिन…

कभी ख़ुशी कभी ग़म- सूरज हुआ मध्यम…

फना- मेरे हाथ में तेरा हाथ हो…

रोमांटिक ट्रैक…

सदाबहार…

सुशील गौड़ा कन्नड़ फिल्म इंडस्ट्री का उभरता सितारा थे. उन्होंने कई टीवी शो किए थे. जब उनके आत्महत्या करने की ख़बर आई, तो हर कोई हैरान रह गया. उनके फैन्स को गहरा सदमा लगा. सुशांत सिंह राजपूत की तरह ही वे अपने प्रशंसकों के बीच काफ़ी फेमस थे.
कर्नाटक के अपने होम टाउन मंडया में उन्होंने फांसी लगाकर अपना जीवन समाप्त कर लिया. टीवी और फिल्म इंडस्ट्री उनके निधन से बेहद दुखी है. फिल्मी दुनिया का एक उभरता सितारा अचानक ऐसे चला जाएगा किसी ने सोचा ना था.
टीवी सीरियल अंतपुरा में सुशील ने रोमांटिक मुख्य किरदार निभाया था. 30 वर्षीय सुशील हैंडसम और आकर्षक एक्टर होने के साथ-साथ फिटनेस ट्रेनर भी थे. कर्नाटक के अपने मंडया गांव में उन्होंने कल रात आत्महत्या की थी. उनकी साथी कलाकार अमिता रंगनाथ ने उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए यह दुखद ख़बर दी. उन्हें दुख हो रहा था कि इतने प्यारे व नर्म स्वभाव के सुशील ने आख़िर ऐसा क्यों किया. अभी तो उनका करियर शुरू ही हुआ था. उन्होंने कई ख़्वाब संजोए थे.
अंतपुरा धारावाहिक में उनके साथ काम कर चुके इसके निर्देशक अरविंद कौशिक ने भी सुशील के निधन पर दुख प्रकट किया. उन्हें ऐसे बढ़िया स्टार के यूं जाने का बहुत ग़म था. बहुत-सी संभावनाएं थी उनमें और ख़ूब आगे बढ़ने का ज़ज्बा था.
जबसे सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या की है, तब से कई संघर्ष करनेवाले नौजवानों के दिलो-दिमाग़ में ना जाने किस बात की खलबली मची हुई है. परेशानी-संघर्ष कहां नहीं है, पर इसके लिए ज़िन्दगी ख़त्म कर लेना हल तो नहीं.
निर्देशक दुनिया विजय के अनुसार, सुशील में एक हीरो बनने की सब क्वालिटी थी. वे उनके साथ सलगा फिल्म में एक पुलिस अफसर की भूमिका में थे. उन्हें इस बात का दुख है कि अब तक तो फिल्म रिलीज भी नहीं हुई और वो ऐसे चले गए.
एक तरह से देखें, तो पिछले दो-तीन महीनों में कई सितारों ने आत्महत्या की है. अब तो ऐसा लग रहा है, जैसे कहीं-न-कहीं हम सहनशक्ति खोते जा रहे हैं. अब वक़्त आ गया है कि हम सभी को मिलकर तनाव व डिप्रेशन जैसे मुद्दों पर खुलकर चर्चा करनी चाहिए. सेमिनार करना चाहिए. ख़ासकर जो नौजवान हैं उनके लिए, क्योंकि उनमें धैर्य चूकता जा रहा है.
युवाओं के टेंशन और डिप्रेशन के लिए काउंसलिंग भी होनी चाहिए. सुशांत सिंह राजपूत को ही देख लीजिए, जो छह महीने से अपने डिप्रेशन का इलाज करा रहे थे. आख़िर यंग जेनरेशन और उनसे जुड़े हम सभी से कहां ग़लती हो रही है के बारे में गंभीरता से सोचना होगा.
सुशील गौड़ा के निधन से टीवी व फिल्म इंडस्ट्री में शोक की लहर दौड़ गई है. वैसे अब तक उनकी मौत के कारण का तो पता नहीं चल पाया है. लेकिन कह सकते हैं कि सुशांत सिंह राजपूत के बाद सुशील गौड़ा, जो तीस साल के युवा थे का आत्महत्या करना ने हर किसी को झिंझोड़कर रख दिया है. मनोरंजन की दुनिया के लिए यह एक और बड़ा झटका साबित हुआ है.

Susheel Gowda

कार्तिक आर्यन ने कोरोना वायरस को लेकर एक बेहतरीन संदेश सोशल मीडिया पर दिया है, जो वायरल हो गया है. उन्होंने दिलचस्प तरीक़े से लोगों को घर पर रहने और बाहर ना निकलने की अपील की है.

https://www.instagram.com/tv/B961N24Jzmc/?igshid=9131uu0eg15h

उनके कहने का स्टाइल इतना मज़ेदार है कि सभी इसे ख़ूब पसंद कर रहा है और उनके दिल को लग भी रहा है. वो कहते हैं ना कि दिल पर लगेगी, तो बात बनेगी, यही करने की कोशिश की है कार्तिक ने.
उनके संदेश का निचोड़ यह है कि जब डॉक्टर, हेल्थ एक्सपर्ट, सरकार हर कोई कह रहे हैं कि घर पर रहें, तो प्लीज़ सभी सुनें. कुछ दिन घर पर ही रहें, बाहर ना निकले. चाहे बिज़नेस का काम हो या नौकरी हो, प्यार-मोहब्बत, रिश्ते-नाते, मनोरंजन कुछ भी हो, सब घर बैठकर करें. स्कूल, कॉलेज, ऑफिस सभी जगह छुट्टियां दी जा रही हैं, तो इसका मतलब यह नहीं कि आप छुट्टी का फ़ायदा उठाने के लिए घूमे-फिरे, दोस्तों-रिश्तेदारों से मिले, होटल, पब आदि जाएं, आप ये सब बिल्कुल ना करें. घर पर रहकर माता-पिता के साथ समय बिताएं.
अपनी छुट्टियों का घर में बैठकर सदुपयोग करें. अपनी सफ़ाई का ध्यान रखना है. बार-बार हाथों को साबुन से धोना है. कोशिश करें कि आप जितना हो सके उतना घर पर ही रहें, बस कुछ दिनों की तो बात है.
यही संदेश हमारे माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी ने भी दिया है. उन्होंने देशवासियों को घर पर रहकर एक होकर कोरोना से लड़ने की बात कही. साथ ही सभी को 22 मार्च यानी रविवार को सुबह सात बजे से लेकर रात नौ बजे तक एकांत में रहने यानी घर पर ही रहने का भी आव्हान किया है. इसके अलावा 22 मार्च को ही शाम 5 बजे पांच मिनट के लिए उन सभी लोगों का धन्‍यवाद करने की गुजारिश भी की है, जो दिन-रात कोरोना से संक्रमित मरीज़ों की सेवा में लगे हैं.
कार्तिक आर्यन ने अपनी अपील में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का भी ज़िक्र किया है. उनका कहना है कि जब सारी दुनिया कह रही कि घर पर ही रहें, कहीं बाहर न निकलें. मिले-जुले ना, तो इसे हम सभी को मानना चाहिए.
उनका कहने का यह अंदाज़ सबको बहुत पसंद आ रहा है और यह सोशल मीडिया पर वायरल भी हो गया है. सभी इसे शेयर कर रहे हैं. लाइक कर रहे हैं. आप भी देखें, सुने और कृपया इस पर अमल करें यानी कुछ दिन घर पर ही बिताएं. सभी स्वस्थ्य रहें.. मस्त रहें.. धन्यवाद!

https://www.instagram.com/tv/B961N24Jzmc/?igshid=1ca8iiw2m79wx

आज अनुपम खेर का जन्मदिन है और उसे उन्होंने अपने तरी़के से यादगार बना दिया. उनकी कई ख़ासियत है- अपने मज़ाक, चुटकुलों, कभी दार्शनिक, तो कभी शायराना अंदाज़, ज्वलंत विषयों पर अपनी बेबाक़ राय, हर मुद्दे पर निष्पक्ष व बेखौफ़ कहना, मां के प्रति समर्पण, एक आदर्श बेटे, पति, पिता, भाई, दोस्त और सहयोगी ये तमाम ख़ूबियां समेटे हुए हैं.

हर कोई उन्हें प्यार करता है. आज अपने जन्मदिन भी उन्होंने मज़ेदार अंदाज़ में हॉलीवुड के स्टार रॉबर्ट डिनिरो के साथ मनाया. पिछले तीन साल से वे इस दिग्गज अभिनेता के साथ अपना बर्थडे मना रहे हैं. इससे जुड़ा वीडियो भी उन्होंने शेयर किया. साथ ही ख़ुशी प्रकट की कि रॉबर्ट ने उनके लंच इन्वाइट को स्वीकारा. साथ ही इस पर उन्होंने मज़ाक में यह भी कहा कि इसको कहते हैं कुछ भी हो सकता है बाप!…

उन्होंने अपने जन्मदिन पर उन सभी लोगों को धन्यवाद और शुक्रिया भी कहा जिनकी वजह से वे हैं और उनकी अस्तित्व खिल रहा है. उन्होंने अपने माता-पिता, ग्रैंड पैरेंट्स, परिवार, दोस्त, सहयोगियों, फिल्म इंडस्ट्री, लोग, प्रशंसक हर एक को थैंक्स कहा. बकौल अनुपमजी के उनके जीवन को सजाने-संवारने में हरेक का सहयोग रहा है.

मां के प्रति उनका प्यार-दुलार तो जगज़ाहिर है, तभी उनकी मां दुलारीजी को जो उन्होंने दुलारी रॉक्स नाम दिया है हर किसी को लुभाता है. इस नाम से वे इस कदर मशहूर हुई हैं कि पूछो मत. यदि बहुत दिनों तक अनुपम खेर मां से जुड़ा कोई वीडियो, संदेश नहीं शेयर करते हैं, तो उनके फैन्स सवाल करने लग जाते हैं. कहां हैं हमारी दुलारी रॉक्स. सच ऐसा होनहार बेटा हर मां को मिले, जिन्होंने अपने साथ-साथ मां को भी वर्ल्ड फेमस कर दिया. तभी तो उनकी मां उन्हें प्यार, दुलार, दुआएं देती नहीं थकतीं.

अनुपमजी के प्रशंसक, दोस्तों व फिल्मी हस्तियों की बधाइयों का सिलसिला लगातार जारी है. जहां अभिषेक बच्चन ने महाराज… कहकर उन्हें आस्मां पर बैठा दिया, वहीं नीतू सिंह ने भी दिलचस्प तरी़के से बधाई दी. वैसे अनुपम दूसरों की छोड़ों ख़ुद के बर्थडे पर भी पहेली बूझाने से बाज नहीं आते. उन्होंने सभी को धन्यवाद देने के बाद अपनी उम्र को लेकर कहा कि पिछले तीस साल से वे अपना पैंतीसवां जन्मदिन मना रहे हैं, अब आप उनकी उम्र का अंदाज़ा लगाएं. हैं ना एक शानदार शख़्स का जानदार स्टाइल.

वे अपने कॉमेडी अंदाज़ के लिए भी ख़ूब जाने जाते हैं. आज उनके जन्मदिन पर उनकी कुछ दिलचस्प व मज़ेदार वीडियो शेयर करते हैं. मेरी सहेली की तरफ़ से उन्हें जन्मदिन की बहुत-बहुत बधाई! वे यूं ही हंसते-मुस्कुराते रहें, ज़िंदादिली से ज़िंदगी जीते रहें.




https://twitter.com/AnupamPKher?ref_src=twsrc%5Egoogle%7Ctwcamp%5Eserp%7Ctwgr%5Eauthor

यह भी पढ़े: कोरोना वायरस- कहीं किस सीन के लिए हिचक, तो कहीं पोर्न का बढ़ता बाज़ार, तो कहीं साजिश… (Corona Virus- Somewhere Hesitation For Kiss Scene, Then There Is A Growing Market Of Porn, Somewhere Conspiracy…)

आज जब धर्म को लेकर कई फिल्मी सितारे और असामाजिक तत्व बयानबाज़ी के ज़रिए राजनीति कर रहे हैं, ऐसे में अदनान सामी का यह कहना कि वे मुसलमान के तौर पर ख़ुद को भारत में बेहद सुरक्षित महसूस करते हैं, उन सभी के लिए करारा जवाब है.

Adnan Sami

अदनान सामी के गीतों, साफ़गोई व मधुरता के तो सभी दीवाने हैं ही, लेकिन अपने इस बयान से उन्होंने हिंदुस्तानियों का दिल जीत लिया. उन्होंने यह साबित कर दिखाया कि धर्म के नाम पर गंदी सोच का इस देश में कोई स्थान नहीं है. सामी ने यह भी स्पष्ट किया कि आज इस बात को समझने की ज़रूरत है कि सीएए (नागरिकता संशोधन क़ानून) भारत के लोगों के लिए नहीं, बल्कि उनके लिए है, जो भारत की नागरिकता चाहते हैं. ऐसे में समझ में यह नहीं आ रहा कि ग़लतफ़हमी कहां पर है. सब कुछ साफ़ व स्पष्ट तो है.

उनके अनुसार, मैंने भारत की नागरिकता इसलिए ली थी कि मैं ख़ुद को एक मुस्लिम के रूप में सबसे अधिक सेफ यही पर महसूस करता हूं. मुझे भारत से प्यार है.

उन्होंने अल्पसंख्यकों पर होनेवाले अत्याचारों का भी ज़िक्र किया. जब वे इस्लामाबाद के एफ सेक्टर में रहते थे, तब उन्होंने वहां पर ईसाई समुदाय के लोगों के साथ भेदभाव होते देखा था. चूंकि उन्होंने इसे जाना-समझा है, इसी कारण वे सीएए का समर्थन भी कर रहे हैं. इससे तमाम पीड़ित लोगों को मदद और उचित मान-सम्मान मिलेगा. पिछले दिनों अदनान को पद्मश्री पुरस्कार देने पर भी ख़ूब जमकर विपक्ष ने राजनीति की थी. वे भी क्या करें आदत से मजबूर हैं.

लंदन में जन्मे पाकिस्तान मूल के अदनान सामी को जब अपने लिए सुकूनभरे घर की तलाश थी, तब उन्हें सबसे सुरक्षित और प्यारा हिंदुस्तान ही लगा. देश ने भी उन्हें उतना ही प्यार व सम्मान भी दिया.

उन्होंने एक और सुलझी हुई महत्वपूर्ण बात कही कि वे एक मुसलमान हैं, पर वे सभी जाति-धर्म का सम्मान करते हैं. साथ ही वे इंसानियत का भी सम्मान करते हैं, फिर वह किसी भी रूप में क्यों न हो. आज हर किसी को अदनान सामी से प्रेरणा लेने की ज़रूरत है और सभी भेदभाव व ग़लतफ़हमियों को दरकिनार कर प्रेम, शांति व भाइचारे के साथ एकजुट होकर रहना है.

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जब अदनान सामी ने देश के हित व भाईचारे पर अपनी बात रखी हो. वे इसके पहले भी कई मौक़ों पर एकता व प्रेम का संदेश देते रहे हैं.

अदनान सामी भारत में अपने सबसे चर्चित गाने थोड़ी तो लिफ्ट करा दे… से इस कदर मशहूर हुए थे कि सभी उनको पसंद करने लगे थे. उसके बाद कभी तो नज़र मिलाओ… तेरा चेहरा… गीत ने भी उन्हें ख़ास मुक़ाम दिलाया. उनके तेरी क़सम व किसी दिन एलबम भी ख़ूूब पसंद किए गए थे. अब उनका नया एलबम तू याद आया भी ख़ूब पसंद किया जा रहा है.

यह भी पढ़ेसीएए पर इतना हंगामा क्यों?.. क्या इस रात की कोई सुबह नहीं…? फिल्ममेकर का बेबाक़ बयान… (Why So Much Uproar On CAA? .. Is There No Morning On This Night… Impeccable Statement Of Filmmaker…)