bahubali: the beginning

‘कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा?’ फ़िल्म बाहुबली द बिगनिंग को देखने के बाद पूरे देश में बच्चों से लेकर बूढ़ों तक सबकी ज़ुबान पर बस यही एक सवाल था. भारतीय सिनेमा के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ था कि किसी फ़िल्म का जुनून इस कदर फैन्स के सर चढ़कर बोल रहा था. इस फ़िल्म ने न सिर्फ़ तेलुगू फिल्मों को मेनस्ट्रीम सिनेमा से जोड़कर देखना सिखाया, बल्कि प्रभास और राणा दग्गुबाती को भीई पूरे देश में एक नई पहचान दिलाई. 10 जुलाई 2015 को यह फ़िल्म रिलीज़ हुई थी, आज फ़िल्म को 5 साल पूरे करने की ख़ुशी फ़िल्म के लीड कैरेक्टर्स प्रभास और राणा दोनों में सोशल मीडिया के ज़रिए अपने फैन्स से शेयर की. इस फ़िल्म के बाद कैसे क्या कुछ बदला भारतीय सिनेमा के संसार में आइए जानते हैं.

Bahubali

जानें फ़िल्म से जुड़ी कुछ ख़ास बातें

  • पहली बार इस फ़िल्म के लिए ख़ास भाषा तैयार की गई थी, जिसका नाम किलिकी रखा गया. कालकेय यही भाषा बोलता था.
  • इस फ़िल्म की ख़ासियत रही वीएफएक्स, जिसके लिए दुनियाभर के करीब 15 कम्प्यूटर कंपनियों ने काम किया, जिसमें 5000 के करीब विज़ुअल इफेक्ट्स डाले गए.
  • इसकी रिलीज़ के लिए 50 हज़ार स्क्वैर फुट का पोस्टर बनाया गया, जो दुनिया का सबसे बड़ा पोस्टर बना और गिनीज़ बुक और वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ.
  • प्रभास और राणा ने बॉडी बनाने के लिए पर्सनल जिम सेटअप किये, जिसमें करीब 1 डेढ़ करोड़ लग गए.
  • बीबीसी ने पहली बार किसी भारतीय फिल्म की डॉक्यूमेंट्री बनाई, जो पिछले 100 सालों में नहीं हुआ था.
  • इस फ़िल्म का बजट ही 250 करोड़ था और क्लाइमैक्स पर ही करोड़ों ख़र्च हो गए थे.
  • इस फ़िल्म के बाद भारत में पहली बार बाहुबली म्यूज़ियम बन रहा है, जहां सारे हथियार और अस्त्र-शस्त्र रखे जाएंगे.
Bahubali

क्या बदला इस फ़िल्म ने?

  • बाहुबली फ़िल्म ने भारतीय सिनेमा को बुलंदियों पर पहुंचाया, सालों बाद ऐसा हुआ था कि जो लोग सालों से थियेटर नहीं जा रहे थे, वो भी खुद को रोक नहीं पाए और फ़िल्म देखने गए. इस फ़िल्म ने लोगों पर जादू-सा कर दिया था.
  • बॉक्स ऑफिस पर फ़िल्म ने न सिर्फ़ ज़बर्दस्त कमाई की, साथ ही तेलुगू सिनेमा को भी लाइमलाइट में ला दिया.
  • इस फ़िल्म के बाद साउथ इंडियन फिल्म्स ख़ास तौर से तेलुगू फिल्म्स के डबिंग राइट्स और रीमेक राइट्स के प्राइस रेट बढ़ गए.
  • इससे पहले सिर्फ़ हिंदी फिल्मों को ही पूरे देश में वो सम्मान मिलता था, साउथ इंडियन फिल्म्स एक ज़ोन से जुड़ी मानी जाती थीं, लेकिन इस फ़िल्म ने तेलुगू सिनेमा को राष्ट्रीय स्तर पर सम्मान दिलाया.
  • इसके बाद से ही इस इंडस्ट्री में भी लोग पैसा लगाने लगे हैं और अब इन फिल्मों का बजट बढ़ गया है.
  • बॉलीवुड के राइटर्स और प्रोड्यूसर्स भी अब साउथ की तरफ़ देखने लगे हैं और उनके प्रोजेस्ट्स बढ़ रहे हैं और यह सब मुमकिन हुआ है सिर्फ़ बाहुबली के कारण.
Bahubali
  • 650 करोड़ का बिज़नेस करनेवाली इस फ़िल्म ने प्रभास, राणा दग्गुबाती, अनुष्का शेट्टी, तमन्ना जैसे कलाकारों को घर घर में मशहूर कर दिया. सोशल मीडिया पर रातोंरात प्रभास की फैन फॉलोइंग बढ़ गई.
  • बाहुबली का कंधे पर शिवलिंग लेकर चलनेवाला लुक इतना पॉप्युलर हुआ कि हज़ारों तरह से लोगों ने उन पर मेमे बनाये और कटप्पा का बाल्ड लुक आज भी उतना ही मशहूर है.
Bahubali

बाहुबली प्रभास ने फ़िल्म के 5 साल पूरे होने पर सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर की और अपनी ख़ुशी अपने फैन्स के साथ शेयर की.

बाहुबली में भल्लालदेव का निगेटिव किरदार निभानेवाले राणा दग्गुबाती ने भी इस मौके पर अपने ख़ुशी फैन्स के साथ शेयर की.

बाहुबली के 5 साल पूरे होने पर इसके फैन्स भी उतने ही ख़ुश हैं, जितने इसके कास्ट एंड क्रू. आपको यह फ़िल्म कितनी अच्छी लगती है, हमें ज़रूर बताएं.

यह भी पढ़ें: सोन परी की ‘फ्रूटी’ अब दिखती हैं ऐसी, जानें क्या करती हैं आजकल? (Where Is Son Pari Fame Tanvi Hegde These Days?)

Rana Daggubati

  • फिल्म बाहुबली के भल्लाल देव यानी राणा दग्गुबाती (Rana Daggubati) का जन्म 14 दिसंबर, 1984 को चेन्नई में हुआ था.
  • राणा का परिवार सालों से फिल्म मेकिंग से जुड़ा हुआ है, जहां उनके पिता सुरेश बाबू दग्गुबाती फिल्म प्रोड्यूसर रह चुके हैं, वहीं दादा डी. रामानायडू भी पद्म विभूषण से सम्मानित सुप्रसिद्ध फिल्म प्रोड्यूसर रहे हैं.
  • राणा (Rana) की अमेज़िंग पर्सनैलिटी के कारण कम समय में इनके चाहनेवालों की तादाद बहुत ज़्यादा बढ़ गई है.

    Rana Daggubati

  • तेलुगू सिनेमा से फिल्मी करियर की शुरुआत करनेवाले राणा ने कई तमिल और बॉलीवुड फिल्मों में भी काम किया है.
  • 2006 में फिल्म सैनीकुदू के लिए राणा को नंदी अवॉर्ड फॉर बेस्ट स्पेशल इफेक्ट्स मिला.
  • 2010 में राणा ने पॉलिटिकल थ्रिलर फिल्म लीडर से अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत की, जिसके लिए उन्हें काफ़ी सराहना मिली.

    Rana Daggubati

  • अब तक का उनका बेस्ट परफॉर्मेंस फिल्म बाहुबली: द बिगनिंग में भल्लाल देव के रोल में देखने को मिला.
  • भल्लाल देव के रोल के लिए राणा ने बहुत मेहनत करके अपना वज़न 100 किलो तक बढ़ा लिया था.

    Rana Daggubati

  • वज़न बढ़ाने के लिए उन्हें दिनभर में 8 बार खाना खाना होता था, जिसमें हर 2 घंटे में चावल और पूरे दिन में क़रीब 40 अंडे खाने होते थे.
  • इससे पहले राणा दम मारो दम, ये जवानी है दिवानी और बेबी जैसी हिंदी फिल्मों में नज़र आ चुके हैं.
  • उनकी अगामी फिल्म द गाज़ी अभी से चर्चा में है, इसमें राणा एक नेवी ऑफिसर के रोल में नज़र आएंगे.

    Rana Daggubati

  • वर्ष 2017 राणा के लिए बहुत ख़ास होनेवाला है, क्योंकि वो द गाज़ी के अलावा बाहुबली: द कंक्लुज़न जैसी बड़ी फिल्मों में नज़र आएंगे.
  • मेरी सहेली की ओर से राणा को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं.