Tag Archives: Basic gravies recipes

खाने का असली स्वाद छिपा है इन 5 इंडियन ग्रेवी रेसिपीज़ में (5 Different Types Of Gravies For Tasty Indian Food Recipes)

Types Of Indian Gravies

खाने का असली स्वाद उसकी ग्रेवी में छिपा होता है. लेकिन अगर आप एक ही रोज़ाना एक ही तरह की ग्रेवी से खाना बनाकर बोर हो चुकी हैं, तो परेशान होने की ज़रूरत नहीं है. क्योंकि हम आपके लिए लाए हैं, प्याज़, टमाटर और साबूत मसालों के फ्लेवर से बनी हुई अलग-अलग तरह की ग्रेवीज़, जिनका एक्सपेरिमेंट आप विभिन्न प्रकार के व्यंजनों को बनाने के लिए कर सकती हैं.
व्हाइट ग्रेवी बनाने के लिए:

white Gravy

काजू और खसखस को मिलाकर दो घंटे के लिए भिगो दें. फिर इन्हें मिक्सर में पीसकर डीप-फ्रीज़ कर दें. इसे भी 15-20 दिनों तक इस्तेमाल कर सकती हैं. मगजगिरी के दानों को भी दो घंटे तक भिगोकर पीस लें और डीप-फ्रीज़ करके इस्तेमाल करें. जब भी व्हाइट ग्रेवी बनानी हो, तो एक पैन में थोड़ा तेल गरम करें. उसमें आवश्यक मसाले डालकर प्याज़ और अदरक, लहसुन, मिर्च का पेस्ट डालकर गोल्डन-ब्राउन होने तक भूनें. इसमें काजू-खसखस, मगजगिरी के बीज का पेस्ट मिलाएं. अब जो सब्ज़ी बनानी है, वो इस ग्रेवी में डालें और नमक डालकर अच्छी तरह पका लें. सर्व करने से पहले इसमें दूध, फ्रेश क्रीम या फ्रेश दही डालें.

रेड ग्रेवी बनाने के लिए:

Red Gravy

टमाटर को मिक्सी में ब्लेंड करें. इस प्यूरी को डीप-फ्रीज़ करके रख लें. इसे 15 दिनों तक इस्तेमाल में ला सकती हैं. रेड ग्रेवी बनाने के लिए एक पैन में तेल गरम करें और इसमें आवश्यक मसाले, पिसा हुआ प्याज़, लहसुन-अदरक-मिर्च का पेस्ट मिलाकर गोल्डन-ब्राउन होने तक भूनें. इसमें टोमेटो प्यूरी मिलाएं और सब्ज़ी मिलाकर पका लें.

और भी पढ़ें: सीखें दाल बनाने के 10 नए तरी़के (10 Best And Easy Dal Recipes)

ग्रीन ग्रेवी बनाने के लिए:

Green Gravy

पालक को उबालें और मिक्सर में ब्लेंड करके डीप-फ्रीज़ कर दें. ग्रीन ग्रेवी बनाने के लिए प्याज़, लहसुन, अदरक और मिर्च के पेस्ट को भूनने के बाद उसमें पालक प्यूरी मिला दें. चाहें तो सब्ज़ी के पकने के बाद भी पालक मिला सकती हैं.

बेसिक अनियन टोमैटो ग्रेवी बनाने के लिए:

 Basic Onion Tomato Gravy

पैन में तेल गरम करके आधा टीस्पून जीरे का छौंक लगाएं. 4 कटे हुए प्याज़ डालकर सुनहरा होने तक भून लें. 2 टीस्पून अदरक-लहसुन का पेस्ट डालकर भून लें. 1/4 टीस्पून हल्दी पाउडर, 2 कटे हुए टमाटर और 1 कप टोमैटो प्यूरी डालकर भून लें. स्वादानुसार धनिया पाउडर, गरम मसाला पाउडर और लाल मिर्च पाउडर डालकर पैन के तेल छोड़ने तक भून लें. आंच से उतारकर ठंडा होने के लिए रखें. एयर टाइट कंटेनर में भरकर फ्रिज में रखें. जब भी सब्ज़ी बनानी हो तो इस ग्रेवी में सब्ज़ी मिलाकर पकाएं. सब्ज़ी की ग्रेवी को गाढ़ा बनाने के लिए इस ग्रेवी को मिलाएं. बेसिक ग्रेवी का इस्तेमाल रोज़ाना की सब्ज़ी बनाने के लिए कर सकते हैं. एक बार इस ग्रेवी को बनाकर फ्रिज में रख दें, 7-10 दिन तक यह ख़राब नहीं होती.

ब्राउन ग्रेवी बनाने के लिए:

Brown Gravy

पैन में तेल गरम करके धीमी आंच पर 2 प्याज़ (बड़े टुकड़ों में कटे हुए) को सुनहरा होने तक भून लें. ध्यान रहे प्याज़ जले नहीं. प्याज़ को आंच से उतार लें. ठंडा होने पर आधा कप पानी और 1 टेबलस्पून तेल मिलाकर पीस लें. पैन में बचे हुए तेल में सारे साबूत मसाले डालकर भून लें. अदरक-लहसुन का पेस्ट डालकर सुनहरा होने तक भून लें. भुने हुए प्याज़ का पेस्ट और भिगोए हुए काजू को पेस्ट डालकर भून लें. 2 टेबलस्पून पानी मिलाकर भून लें, ताकि काजू का पेस्ट नीचे चिपके नहीं. आधा कप फ्रेश क्रीम और स्वादानुसार गरम मसाला पाउडर मिलाकर पैन के तेल छोड़ने तक भून लें. आंच से उतारकर ठंडा होने दें. एयर टाइट कंटेनर में भरकर फ्रिज में रखें. 8-10 दिन तक यह ग्रेवी ख़राब नहीं होती. पंजाबी डिशेज़ बनाने के लिए इस ग्रेवी का यूज़ करें.

और भी पढ़ें: आपके खाने का स्वाद बढ़ाएंगे ये 6 होममेड मसाला रेसिपीज़ (These 6 Homemade Masala Recipes Will Increase The Taste Of Your Food)

                                    – देवांश शर्मा