Bhoomi

फिल्म- भूमि

स्टारकास्ट- संजय दत्त, अदिति राव हैदरी, शरद केलकर, शेखर सुमन

निर्देशक- ओमंग कुमार

रेटिंग- 3 स्टार

Movie Review, Bhoomi

जेल से आने के बाद संजय दत्त की पहली फिल्म है भूमि. एक ज़बरदस्त कमबैक किया है संजय दत्त ने. उन्होंने एक ऐसा रोल चुना है, जिसमें वो अपनी उम्र का ही किरदार निभा रहे हैं. आइए, जानते हैं कैसी है ओमंग कुमार निर्देशित फिल्म भूमि.

कहानी

कहानी है पिता अरुण सचदेव (संजय दत्त) की, जो अपनी बेटी भूमि (अदिति राव हैदरी) को बहुत प्यार करता है. भूमि की मां नहीं है, लेकिन अरुण मां और पिता दोनों का प्यार अपनी बेटी को देता है. भूमि की शादी बड़ी ही धूमधाम से कराने की तैयारी भ करता है, लेकिन बारात लौट जाती है, जिसकी वजह है धौली (शरद केलकर) जिसने अपने गुंडों के साथ मिलकर उसकी बेटी का शोषण किया है. अरुण बेटी का इंसाफ़ दिलाने के लिए पुलिस और अदालत के चक्कर भी लगाता है, लेकिन वहां इंसाफ़ नहीं मिलता. इस बाच से दुखी होकर भूमि और अरुण अदालत के चक्कर लगाना बंद कर देते हैं और सब बोतें भुला कर नई ज़िंदगी जीना चाहते हैं, लेकिन समाज उन्हें जीने नहीं देता. इन सबसे परेशान होकर अरुण आखिरकार अपनी बेटी के साथ हुए अन्याय के ख़िलाफ़ अपने तरीक़े से लडता है.

ऐक्टिंग का दम

संजय दत्त की ऐक्टिंग के बारे में कुछ कहने की ज़रूरत ही नहीं है, वो हमेशा की तरह अपने रोल में दमदार लगे हैं. एक प्यार करने वाला पिता और बेटी के सम्मान को बचाने के लिए विलन का सामना करने वाला पिता, इन दोनों ही रोल को बेहतरीन ढंग से उन्होंने पर्दे पर पेश किया है.

अदिति राव हैदरी भी संजय दत्त की बेटी के रोल में अच्छी लग रही हैं और उनका अभिनय भी ज़बरदस्त है.

शरद केलकर के पास भी अच्छे डायलॉग्स हैं, जो फिल्म में उनकी जगह को ख़ास बना देते हैं.

फिल्म देखने जाएं या नहीं?

ज़रूर जाएं. ये फिल्म देखनी तो बनती है. संजय दत्त को इतने लंबे समय बाद पर्दे पर देखकर यकीनन आपको अच्छा लगेगा. इलके अलावा एक अच्छी फिल्म है भूमि, जिसे न देखना फिल्म के साथ ग़लत होगा.

यह भी पढ़ें: Go Go Go Golmaal! लॉजिक नहीं मैजिक होगा ‘गोलमाल अगेन’ में, देखें ट्रेलर

Movie Review, Newton

फिल्म- न्यूटन

स्टारकास्ट- राजकुमार राव, पंकज त्रिपाठी, संजय मिश्रा और रघुवीर यादव 

निर्देशक- अमित मसुरकर

रेटिंग- 4 स्टार

रिलीज़ होते ही न्यूटन की टीम को मिली है ख़ुशख़बरी. न्यूटन को भारत की तरफ़ से आधिकारिक तौर पर ऑस्कर अवॉर्ड्स में एंट्री मिली है. राजकुमार राव न्यूटन के रोल में बेहतरीन लग रहे हैं. आइए, जानते हैं क्या खा़स है न्यूटन में?

कहानी

न्यूटन (राजकुमार राव) का नाम नूतन कुमार होता है. लड़कियों वाले इस नाम को दसवीं की परिक्षा के दौरान वो न्यूटन में बदल देता है. न्यूटन सरकारी कर्मचारी बन जाता है. एक ईमानदार और हर काम कायदे से करने वाले न्यूटन की ड्यूटी नक्सल प्रभावित इलाके में लग जाती है. उसे नक्सल प्रभावित इलाके में जाकर वोटिंग करवानी पड़ती है. ऊसूलों के पक्के न्यूटन के साथ वहां क्या-क्या होता है? ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी.

फिल्म की ख़ासियत

अमित मसुरकर का निर्देशन बेहतरीन है. लोेकेशन, सिनेमैटोग्राफी भी कमाल की है.

सरकारी कर्मचारी के रोल में राजकुमार राव ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि ऐक्टिंग का दम दिखाने के लिए बड़े बैनर और बड़े बजट की फिल्मों की ज़रूरत नहीं होती है.

वोटिंग और इलेक्शन जैसे मुद्दों को गहराई से लेकिन मनोरंजक अंदाज़ में पेश किया गया है.

पुलिस अफसर के रोल में पंकज त्रिपाठी ने बेहतरीन काम किया है. रघुबीर यादव, अंजलि पाटिल और संजय मिश्रा ने भी अपने अभिनय की छाप छोड़ी है.

फिल्म देखने जाएं या नहीं?

ज़रूर देखने जाएं ये फिल्म. अगर आप राजकुमार राव के फैन नहीं भी हैं, तो इस फिल्म को देखने के बाद आप उनकी ऐक्टिंग के कायल हो जाएंगे. इसके अलावा अगर आप कुछ अलग विषय पर फिल्म देखने के शौक़ीन हैं तो ये फिल्म आपके लिए ही है.

यह भी पढ़ें: Inside Pictures: करीना की Birthday Bash की पिक्चर्स देखें, पहले तैमूर फिर क्लोज़ फ्रेंड्स के साथ पार्टी 

 

Movie Review, Haseena Parkar

फिल्म- हसीना पारकर

स्टारकास्ट- श्रद्धा कपूर, सिद्धांत कपूर, अंकुर भाटिया

निर्देशक- अपूर्व लाखिया

रेटिंग- 2.5 स्टार

 

अपूर्वा लाखिया निर्देशित हसीना पारकर मोस्ट वांटेड अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की बहन हसीना पारकर की कहानी है. आइए, जानते हैं कैसी है फिल्म.

कहानी

कोर्ट रूम के इस ड्रामे को अच्छे से पेश नहीं कर पाए हैं अपूर्वा. सबसे अहम् बात ये है कि अंत तक फिल्म में वो यही समझा नहीं पाए कि वो दाऊद के परिवार को गलत दिखाना चाहते हैं या सही. फिल्म में दाऊद के क्रिमिनल से आंतकी बनने की कहानी नज़र आएगी. दाऊद के रोल में हैं श्रद्धा कपूर के भाई सिद्धार्थ कपूर, जबकि हसीना पारकर के रोल में हैं श्रद्धा कपूर. दाऊद के डॉन बनने की वजह से उसकी बहन हसीना पारकर को भी कोर्ट तक जाना पड़ता है. ख़ुद को पीड़ित बताने वाली हसीना पारकर की इस कहानी पर यकीन करना मुश्किल है. स्क्रीनप्ले भी बेहद कमज़ोर है. हसीना पारकर से ज़्यादा ये फिल्म दाऊद की कहानी लगती है. कोर्ट रूम का ड्रामा आपको बोर करेगा.

फिल्म देखने जाएं या नहीं?

अगर आप श्रद्धा कपूर के फैन हैं, तो भी ये फिल्म देखने से पहले एक बार सोच लें. श्रद्धा की ऐक्टिंग अच्छी ज़रूर है, लेकिन पूरी फिल्म को देखना केवल समय और पैसों की बर्बादी है.

यह भी पढ़ें: ये रिश्ता क्या कहलाता है सीरियल में नक्श और कीर्ति का मेहंदी सेलिब्रेशन

बॉलीवु़ड के संजु बाबा यानी संजय दत्त हो गए हैं 58 साल के. मान्यता ने संजय के बर्थडे पर शेयर की है एक बहुत ही क्यूट पिक्चर और उन्हें विश किया.

Happy Birthday Sanjay Dutt

संजय ने अपने जीवन में कई उतार-चढ़ाव देखे हैं. किसी फिल्म की कहानी से कम नहीं है उनकी लाइफ. शायद यही वजह है कि उन की ज़िंदगी पर फिल्म बन रही है, जिसमें संजय का रोल प्ले कर रहे हैं रणबीर कपूर. सुनील दत्त और नर्गिस जैसे महान कलाकर के बेटे संजय दत्त को भले ही बॉलीवुड में आने के लिए मेहनत न करनी पड़ी हो, लेकिन इंडस्ट्री में ख़ुद का नाम बनाने के लिए संजय ने काफ़ी मेहनत की. अपनी ऐक्टिंग से उन्होंने साबित किया की वो एक बेहतरीन कलाकार हैं.

बात अगर उनकी पर्सनल लाइफ की करें, तो अपनी पहली फिल्म रॉकी की रिलीज़ से तीन दिन पहले अपनी मां को खोना संजय की लाइफ का बुरा दिन था. संजय को कम उम्र में ही ड्रग्स की लत लग गई थी, उस लत को छोड़ने के लिए उन्हें रिहैब क्लिनिक में भी एक साल तक रहना पड़ा था.

   

ड्रग्स की लत तो छूट गई, लेकिन संजय को अवैध हथियार रखने के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया. संजय की लाइफ का सबसे डरावना दिन वो था, जब उन्हें 1993 मुंबई ब्लास्ट के केस में टाडा के तहत गिरफ़्तार किया गया था. 18 दिनों तक वो जेल में रहे. इसी साल रिलीज़ हुई उनकी फिल्म खलनायक सुपरहिट रही. इसके बाद संजय कई बार जेल गए. इसी बीच उनके अफेयर केे किस्से ख़ूब चर्चा में रहे, फिर चाहे वो माधुरी दीक्षित के साथ नज़दीकियों की ख़बरे हो या फिर संजय की तीन शादियां. ज़िंदगी के इतने सारे उतार-चढ़ाव के बीच माता-पिता को खोने के बाद उनकी दोनों बहनें प्रिया और नम्रता ने काफ़ी साथ दिया.

यह भी पढ़ें: ‘मुबारकां’- पैसा वसूल, ‘इंदू सरकार’- दमदार और ‘राग देश’ है अलग फिल्म

                What! बर्थडे से पहले ये चौंकाने वाली ख़बर, संजय दत्त फिर जा सकते हैं जेल? 

संजय अब अपनी 5 साल की सज़ा काटकर अपनी लाइफ में बिज़ी हैं. अपने दोनों बच्चों शाहरान, इकरा और पत्नी मान्यता दत्त के साथ वक़्त बिताने के अलावा वो फिल्मों में भी बिज़ी हैं. उनकी आने वाली फिल्म भूमि का पोस्टर पहले ही सुर्खियां बटोर चुका है.

मेरी सहेली की ओर से संजय दत्त को ए वेरी हैप्पी बर्थ डे.

बॉलीवुड और टीवी से जुड़ी और ख़बरों के लिए क्लिक करें.

संजय दत्त का बर्थडे एक दिन दूर है और उनके फैन्स और ख़ुद संजय के लिए एक बेहद ही चौंकाने वाली ख़बर ये है कि दोबारा जेल जा सकते हैं संजय दत्त. 

संजय दत्त मुंबई सीरियल ब्लास्ट में अवैध हथियार रखने के दोषी पाए गए थे और उन्हें पांच साल की सज़ा हुई थी, लेकिन उनके अच्छे बर्ताव को देखते हुए उन्हें सज़ा खत्म होने के 8 महीने पहले ही रिहा कर दिया गया था. पिछले महीने ही बॉम्बे हाई कोर्ट ने राज्य सरकार से जवाब मांगा था कि संजय को पांच साल की सज़ा पूरी हुए बगैर कैसे रिहा कर दिया गया.

सज़ा के दौरान संजय दत्त पैरोल पर 100 से भी ज़्यादा दिनों तक बाहर थे और उन्हें सज़ा पूरी होने के 8 महीने पहले रिहा भी कर दिया गया था, ऐसे में कोर्ट ने सरकार से विस्तार में रिपोर्ट पेश करने के लिए कहा है कि संजय दत्त ने जेल में कौन-से ऐसे अच्छे कार्य किए हैं, जिसकी वजह से उन्हें जल्दी रिहा किया गया. साथ ही सज़ा काटने के दौरान संजय दत्त को क्या कोई वीआईपी ट्रीटमेंट मिली है, इसकी जांच के भी आदेश दिए हैं.

यह भी पढ़ें: वाह! क्या कमबैक है! जेल से रिहा होने के बाद ये होगी संजय दत्त की पहली फिल्म

सरकार ने अपनी दलील में कहा है कि अगर संजय दत्त ने पैरोल के कोई नियम तोड़े होंगे या किसी तरह की कोई वीआईपी ट्रीटमेंट ली होगी तो उन्हें दोबारा जेल भेजा जा सकता है.

संजय को 8 महीने पहले ही जेल से रिहा किए जाने के ख़िलाफ़ बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई थी. जिसकी सुनवाई पिछले महीने 17 जुलाई को हुई थी. संजय दत्त फिलहाल अपनी फिल्म भूमि में व्यस्त हैं, जिसका फर्स्ट पोस्टर कुछ दिन पहले ही रिलीज़ हुआ था.

बॉलीवुड और टीवी से जुड़ी और ख़बरों के लिए क्लिक करें.

संजय दत्त बॉलीवुड में एक धमाकेदार कमबैक के लिए तैयार हैं. फिल्म का पोस्टर रिलीज़ हो गया है. वाक़ई काफ़ी दमदार पोस्टर है ये, संजय दत्त के मुंह से खून निकल रहा है और फिल्म का नाम है भूमि. ओमंग कुमार के डायरेक्शन में बनी ये फिल्म जेल से रिहा होने के बाद संजय की पहली फिल्म होगी. पोस्टर से ही नज़र आ रहा है कि काफ़ी गंभीर किस्म की फिल्म होगी ये. फिल्म में संजय दत्त के साथ आदिति राव हैदरी भी हैं, जो उनकी बेटी भूमि का किरदार निभा रही हैं.

यह भी पढ़ें: मिलिए ‘पोस्टर बॉयज़’ से, सनी, बॉबी देओल और श्रेयस तलपड़े छपे पोस्टर पर!

फिल्म की शूटिंग पूरी हो चुकी है और ये फिल्म 22 सितंबर को रिलीज़ होगी. ख़बरे हैं कि संजय दत्त के जन्मदिन के मौक़े पर यानी 29 जुलाई को फिल्म का ट्रेलर रिलीज़ किया जाएगा. ख़ैर पोस्टर से ही अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि फिल्म का ट्रेलर कैसा होगा.

बॉलीवुड और टीवी से जुड़ी और ख़बरों के लिए क्लिक करें.