biopic

बायोपिक फिल्मों में दर्शकों की दिलचस्पी बनाए रखने के लिए उसमें क्रिएटिव लिबर्टी के नाम पर कई बदलाव किए जाते हैं. ये बदलाव कई बार फिल्म के मुख्य किरदार की कई सच्चाइयां नहीं बता पाते. शकुंतला देवी से लेकर गुंजन सक्सेना, दंगल, संजू… बॉलीवुड की कई बायोपिक फिल्मों में पूरा सच नहीं दिखाया गया.

Bollywood Biopics

शकुंतला देवी
फिल्म शकुंतला देवी का निर्देशन अनु मेनन ने किया है, साथ ही इसका स्क्रीनप्ले उन्होंने नयनिका महतानी के साथ मिलकर लिखा है और फिल्म की डायलॉग राइटर इशिता मोइत्रा हैं यानी इस फिल्म में डायरेक्शन से लेकर राइटिंग और मेन लीड तक की कमान महिलाओं ने ही संभाली है. फिल्म की कहानी कुछ इस तरह है- बहुत छोटी उम्र से ही लोगों को शकुंतला के इस खास टैलेंट के बारे में पता लगना शुरू हो जाता है. पिता शकुंतला के इस टैलेंट को आय का माध्यम बनाना चाहते हैं. शकुंतला बचपन में जब पैसों और इलाज के अभाव में अपनी बड़ी बहन को दम तोड़ते देखती है, तो उसे अपने पिता से नफ़रत हो जाती है. धीरे-धीरे शकुंतला देवी बड़ी होती हैं और उनका नाम मशहूर होने लगता है. जवानी की दहलीज पर पहुंची शकुंतला देवी को प्यार हो जाता है, लेकिन उनका प्यार उन्हें धोखा दे देता है. इस घटना से शकुंतला देवी टूट जाती हैं. फिर शकुंतला देवी लंदन जाती हैं, जहां उनकी प्रतिभा को एक नई पहचान मिलती है. फिर उनकी जिंदगी में एंट्री होती है एक आईएएस ऑफिसर की. दोनों शादी करते हैं, उनकी एक प्यारी सी बेटी होती है, लेकिन फिर दोनों अलग हो जाते हैं और बेटी मां के साथ रहने लगती है. बाद में शकुंतला देवी की बेटी भी उनसे दूर हो जाती है. बायोपिक फिल्मों में दर्शकों की दिलचस्पी बनाए रखने के लिए उसमें क्रिएटिव लिबर्टी के नाम पर कई बदलाव किए जाते हैं और ऐसा इस फिल्म के साथ भी किया गया है. ये फिल्म कई सवाल छोड़ जाती है, जैसे- क्या एक असाधारण औरत को असाधारण तरीके से जीने का हक नहीं होना चाहिए? यदि कोई महिला किसी क्षेत्र में बहुत आगे है, तो ये जरूरी है कि वो एक परफेक्ट बेटी, पत्नी और मां भी साबित हो? क्या इसके लिए हमारा सामाजिक ढांचा जिम्मेदार है?

Shakuntala Devi

गुंजन सक्सेना
भारतीय वायुसेना ऑफिसर गुंजन सक्सेना के जीवन पर बानी फिल्म ‘गुंजन सक्सेना’ रिलीज़ होते ही विवादों से घिरी रही. इस फिल्म की मेकिंग को लेकर कई सवाल उठाए गए. ऑफिसर गुंजन सक्सेना के कई बैचमेट्स ने बताया था कि फिल्म में जिस तरह से इंंफ्रास्ट्रक्चर की कमी और लिंगभेद को लेकर पक्षपात दिखाया गया है, असल में ऐसा है नहीं. जो महिलाएं इन संस्थानों में पहले बैच में आई, उन्हें शुरू में तकलीफ हुई होगी, क्योंकि इससे पहले ये संस्थान पुरुषों के अनुसार बने थे, लेकिन फिल्म में कुछ ज्यादा ही दिखाया गया है. खबरों के अनुसार, इस फिल्म में भारतीय वायुसेना (IAF) और भारतीय थल सेना जैसे नामी और अनुशासित संस्थानों का गलत चित्रण किया है, जिसे लेकर दोनों संस्थानों ने फिल्म के निर्माताओं से सवाल किए थे.

यह भी पढ़ें: बॉलीवुड सितारों का अंधविश्वास: पैर में काला धागा बांधते हैं रणवीर सिंह, आईपीएल में दो घड़ियां पहनती हैं शिल्पा शेट्टी (Bollywood Celebrities And Their Superstitions)

Gunjan Saxena

संजू
संजू फिल्म में दिखाया गया है कि संजय दत्त कैसे ड्रग्स के चक्कर में फंस गए. वो ड्रग्स छोड़ना चाहते थे, लेकिन उनके लिए क्यों उससे निकलना नामुकिन था. फिल्म में संजय दत्त के अनगिनत अफेयर्स को भी ऐसे बताया गया जैसे ये बहुत आम बात है. संजू फिल्म में संजय दत्त पर लगे आरोपों से ज्यादा बाप-बेटे की बॉन्डिंग को दिखाया गया. मुंबई अटैक में संजय दत्त ने घर में हथियार क्यों रखे, इस बात को भी उनके परिवार के लिए डर और उनकी मासूमियत का जामा पहना दिया गया. संजू फिल्म में संजय दत्त के ड्रग एडिक्शन, उनके अफेयर्स और मुंबई अटैक की घटनाओं को इतने दिलचस्प तरीके से प्रस्तुत किया गया है, ताकि फिल्म में अंत तक दर्शकों का ध्यान आकर्षित किया जा सके. इस फिल्म में सिर्फ वही दिखाया गया, जो दर्शक पहले से जानते थे और जिससे संजय दत्त की इमेज को अच्छा बताया जा सके. फिल्म को देखकर ऐसा लगता है जैसे राजकुमार हिरानी ने संजय दत्त की छवि को सुधारने के लिए ये फिल्म बनाई है. फिल्म में बताया गया है कि मीडिया ने संजय दत्त की छवि को खराब किया है. राजकुमार हिरानी ये अच्छी तरह जानते हैं कि कैंसर से मां की मौत, बहनों को रेप की धमकी और बेटे के जेल में रहने पर तपती गर्मी में बाप का जमीन पर सोने जैसे दृश्य दिखाकर किस तरह दर्शकों की सहानुभूति बटोरी जा सकती है. कुल मिलाकर संजू फिल्म में सच्चाई पर भावनाओं का कवर लगाकर संजय दत्त की इमेज पॉलिशिंग का काम किया गया है.

Sanju

दंगल
फिल्म ‘दंगल’ देश की बेटियों का हौसला बढ़ाने वाली एक बेहतरीन फिल्म है. फिल्म में गीता फोगाट के संघर्ष की कहानी को बहुत ही भावुकता से प्रस्तुत किया गया है. मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान ने फिल्म को वास्तविक रूप देने के लिए पहले अपना वजन बढ़ाया और फिर घटाया. इस फिल्म के लिए सबने बहुत मेहनत की है, लेकिन इस फिल्म में भी कई दृश्यों को बहुत बढ़ा-चढ़ाकर दिखाया गया है, खासकर फिल्म का आखिरी दृश्य, जब गीता फोगाट मैच जीत जाती है. फिल्म के विनिंग मैच में दिखाया गया था कि शुरुआत में गीता फोगाट 1-5 के स्कोर के साथ अपने प्रतिद्वंद्वी से चार अंक पीछे थी और बाद में 6-5 के स्कोर के साथ उन्होंने जीत हासिल की, लेकिन सच्चाई ये है कि फोगाट ने यह मैच 8-0 से जीता था. फिल्म को और ज्यादा रोचक बनाने के लिए फिल्म में कई बदलाव किए गए.

यह भी पढ़ें: 10 बॉलीवुड एक्ट्रेस जिनकी पहचान उनके पापा से है (10 Actresses In Bollywood Because Of Their Papa)

Dangal

अज़हर
फिल्म ‘अज़हर’ भारतीय क्रिकेटर अज़हर मोहम्मद के जीवन पर आधारित है. बता दें कि भारतीय क्रिकेटर अज़हर मोहम्मद पर मैच फिक्सिंग का आरोप लगाया गया था, और बाद में उन्होंने सीबीआई के सामने यह बात स्वीकार भी की थी कि उन्होंने इसमें हिस्सा लिया था. फिल्म ‘अज़हर’ में सच नहीं दिखाया गया, बल्कि इतनी सारी गलतियां करने वाले इंसान को एक हीरो की तरह प्रस्तुत किया गया. फिल्म में बताया गया कि उन्होंने सिर्फ एक करोड़ रुपये लिए, ताकि टीम के बाकी खिलाड़ियों तक फिक्सर्स को पहुंचने से रोका जा सके.फिल्म में हीरो जिस काम के लिए पैसा लेता है, वह नहीं करता और जीत के बाद पैसे लौटा देता है. फिल्म में इतनी नाटकीयता से इमेज पॉलिशिंग का काम किया गया है कि इसे कम्प्लीट बायोपिक नहीं कहा जा सकता.

Azhar

आज भारत की मशहूर महिला क्रिकेटर मिताली राज (Mithali Raj) का जन्मदिन (Birthday) है. इस ख़ास मौ़के पर तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) ने उन पर बन रही बायोपिक ‘शाबाश मिठू’ (Biopic ‘Shabaash Mithu’) का ऐलान किया. इसमें तापसी मिताली की भूमिका में नज़र आएंगी.

Taapsee Pannu

मिताली राज को महिला क्रिकेट की दुनिया का सचिन तेंदुलकर माना जाता है. उन्होंने कई रिकॉर्ड बनाए हैं. अब टी20 क्रिकेट से सन्यास ले चुकी हैं और वनडे और टेस्ट में भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान हैं. उनके नाम दो सौ से अधिक वनडे खेलने का भी रिकॉर्ड है.

आज तापसी ने मिताली के साथ केक काटते हुए, उन्हें फूल देकर बधाई देते हुए, मस्तीभरे कई तस्वीरें शेयर करते हुए शाबाश मिठू फिल्म की घोषणा की. वायकॉम 18 प्रोडक्शन के बैनर तले बननेवाली इस फिल्म का निर्देशन राहुल ढोलकिया करेंगे.

मिताली को जन्मदिन की बधाई देते हुए तापसी ने दिल को छू लेनेवाली बातें भी कहीं. बकौल उनके सभी को मिताली की उपलब्धियों और कई बने हुए कीर्तिमान पर गर्व है. जन्मदिन पर वे यही उपहार दे सकती हैं कि उन्हें मिताली के रूप में स्क्रीन पर देखकर मिताली को भी ज़रूर गर्व होगा.

तापसी को स्पोर्ट्स से बेहद लगाव है. उनकी हमेशा से ख़्वाहिश रही है कि खेल से जु़ड़ी फिल्मों में काम करें. इसी के चलते वे गुजरात एथलीट रश्मि मे भी काम कर रही हैं. साल 2020 में शाबाश मिठू, रश्मि रॉकेट के अलावा थप्पड़ फिल्म में भी तापसी ख़ास अंदाज़ में नज़र आएंगी.

भारतीय महिला क्रिकेट की कप्तान मिताली राज को जन्मदिन की बहुत-बहुत बधाई और तापसी को मिताली के रोल के लिए ऑल द बेस्ट!…

Taapsee Pannu

फ्लैश बैक

* 3 दिसंबर जोधपुर, राजस्थान में जन्मी मिताली ने भरतनाटयम सीखा था और कई कार्यक्रम भी किए थे, लेकिन इसमें और क्रिकेट में से किसी एक को चुनने पर उन्होंने क्रिकेट को चुना.

* उनकी कामयाबी में उनकी मां लीला राज और पिता धीरज राज का महत्वपूर्ण साथ और योगदान रहा.

* मिताली 51 स्ट्राइक रेट के साथ टेस्ट क्रिकेट में दोहरा शतक बनानेवाली पहली महिला भी हैं.

* दाहिने हाथ की बल्लेबाज़ मिताली ने 14 जनवरी 2002 इंग्लैंड के विरुद्ध टेस्ट करियर की शुरुआत की. अंतिम टेस्ट 16 नवंबर, 2014 दक्षिण अफ्रीका के ख़िलाफ़ रहा.

* वनडे 26 जून, 1999 आयरलैंड के विरुद्ध रहा.

* टी20 का आगाज़ 5 अगस्त, 2006 इंग्लैंड के ख़िलाफ़ और अंतिम 4 दिसंबर, 2016 पाकिस्तान के विरुद्ध रहा.

* साल 2004 में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित.

* वे 2010, 2011 और 2012 में आईसीआई वर्ल्ड रैंकिंग में पहले स्थान पर रहीं.

Taapsee Pannu

मितालीशाइनिंग स्टार
* हैदराबाद की 34 वर्षीय मिताली ने भारत को दूसरी बार वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचाया.
* उन्होंने टूर्नामेंट में 9 मैचों में 409 रन बनाए, जिसमें एक शतक व तीन अर्द्ध शतक शामिल हैं.
* इंग्लैंड के विरुद्ध टूर्नामेंट के पहले ही मैच में उन्होंने शानदार 71 रन की पारी खेली थी.
* उनकी 109 रन की बेहतरीन पारी के दम पर ही भारत ने न्यूज़ीलैंड को 186 रन से हराया था.
* ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध भी उन्होंने 69 रन की उपयोगी योगदान दिया.
* मिताली ने इंडियन क्रिकेट वुमन्स का वर्ल्ड कप के दो बार फाइनल में नेतृत्व किया.
* अफ्रीका, 2005 के वर्ल्ड कप में टीम मिताली के ही नेतृत्व में फाइनल में पहुंची थी, जहां ऑस्ट्रेलिया से 98 रन से हार का सामना करना पड़ा था.
* बकौल मिताली भारत में भी महिला बिग बैश की शुरुआत होनी चाहिए, जैसे- आईपीएल है.

Mithali Raj In Biopic

यह भी पढ़ेउर्वशी रौतेला को नहीं इस अभिनेत्री को डेट कर रहे हैं क्रिकेटर हार्दिक पांड्या? दुबई में मना रहे हैं वेकेशन (Are Hardik Pandya, Natasa Stancovic Holidaying Together In Dubai? )

बॉलीवुड (Bollywood) में इन दिनों बायोपिक (Biopic) बनाने का ट्रेंड जारी है. इसी बीच सुनने में आया है कि माधुरी (Madhuri) ने भी अपनी बायोपिक के लिए हरी झंडी दिखा दी है. और तो और अपनी बायोपिक के लिए माधुरी ने एक एक्ट्रेस के नाम पर मुहर भी लगा दी है.

madhuri dixit

madhuri dixit

कलंक के प्रोमोशन के दौरान जब माधुरी से पूछा गया कि क्या उनकी बायॉपिक के लिए आलिया भट्ट सही अभिनेत्री होंगी ? तो इसका जवाब देते हुए माधुरी ने हामी भरी और कहा, “अगर मेरी बायॉपिक बनती है तो बिल्कुल आलिया भट्ट को ही मेरा रोल पर्दे पर निभाना चाहिए, सिर्फ थोड़ा और कथक सीखना पड़ेगा उनको.”

alia bhatt and madhuri dixit

माधुरी मुस्कुराते आगे कहती हैं, “मैं इसलिए चाहती हूं कि मेरी बायोपिक में आलिया मेरा रोल निभाएं, क्योंकि वे बहुत ही बेहतरीन अभिनेत्री हैं. हाइवे, गली बॉय और राज़ी जैसी फिल्मों में उनका बेहतरीन परफॉर्मंस देख चुकी हूं. अगर वह मेरी बायोपिक करती हैं तो मजा आ जाएगा, लेकिन डांस पर उनको थोड़ा और ध्यान देना पड़ेगा. वैसे कलंक में उन्होंने डांस तो किया है, जो अच्छा है, तम्मा-तम्मा में भी उनका डांस बढ़िया था,  मेरी बायोपिक के लिए आलिया आइडियल रहेंगी.“

alia bhatt and madhuri dixit

आपको बता दें कि कलंक में माधुरी के साथ संजय दत्त भी नज़र आएंगे. करीब 25 सालों बाद दोनों इस फिल्म में साथ नज़र आ रहे हैं. इस फिल्म में आलिया भट्ट, वरुण धवन, आदित्य रॉय कपूर और सोनाक्षी सिन्हा भी नज़र आएंगे. अभिषेक वर्मन द्वारा निर्देशित यह फिल्म 17 अप्रैल को रिलीज़ हो रही है.

ये भी पढ़ेंः OMG! एक्टर सुनील शेट्टी पर लगा यह आरोप, जारी किया गया पब्लिक नोटिस (Suniel Shetty Accused Of Over-Interference In Athiya’s Film; Motichoor Chaknachoor Makers Issue Public Notice)

कंट्रोवर्सियल एक्टर शाइनी आहूजा (Shiney Ahuja) की ज़िंदगी पर बायोपिक (Biopic) बनने की ख़बर जोरों पर हैं. आपको बता दें कि शाइनी अहूजा पर नौकरानी के रेप का आरोप लगा था, जिसके बाद उनका करियर पूरी तरह ख़त्म हो गया था. अब एक अख़बार में छपी खबर के अनुसार,  प्रोड्यूसर कुमार मंगत शाइनी की ज़िंदगी पर फिल्म बनाना चाहते हैं.हालांकि सूत्रों के अनुसार, कुमार मंगत को अभी तक शाइनी ने फिल्म के लिए हां नहीं कहा है और इसीलिए वे कह रहे हैं कि वह ऐसी कोई फिल्म नहीं बना रहे हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, बायोपिक शाइनी के इमेज को अच्छा करने के लिए नहीं बनाया जा रहा और न ही फिल्म में उन्हें बेकसूर दिखाया जाएगा.

Shiney Ahuja

आपको बता दें कि 2009 में शाइनी की नौकरानी (जो उस समय 18 साल की थी) ने बताया था कि घटना के वक्त वह और शाइनी घर में अकेले थे.शाइनी ने उसे अपने बेडरुम में बुलाया था और उसके साथ जबरदस्ती की थी.

Shiney Ahuja

Shiney Ahuja

एक्टर शाइनी आहूजा ने साल 2003 में सुधीर मिश्रा की फिल्म हज़ारों ख्वाहिशें ऐसी से अपना बॉलीवुड डेब्यू किया था.  इसके बाद वह ‘गैंगस्टर’, ‘लाइफ इन अ मेट्रो‘, ‘भूल भूलैया’ जैसी फिल्में कीं.  उनकी एक्टिंग की हमेशा से तारीफ हुई.  बॉलीवुड में उनका करियर और अच्छा हो सकता था, लेकिन 2009 में  रेप का आरोप लगने के बाद शाइनी का करियर खराब हो गया. शाइनी ने अनीस बज़मी की फिल्म ‘वेलकम बैक’ से अपना कमबैक किया था.उस समय उन्होंने एक पोर्टल से कहा था कि वह खुशनसीब हैं कि उन्हें दूसरा मौका मिला है.”मैं भगवान, अपने पेरेंट्स और अपने फैंस का शुक्रगुजार हूं. नके आशीर्वाद की वजह से यह सब हो रहा है.”

ये भी पढ़ेंः जॉन अब्राहम ने पहली बार अपनी पत्नी प्रिया के बारे में किया ये खुलासा (John Abraham First Time Opens Up About His Wife)

 

बॉलीवुड में बायोपिक की जैसे होड़ सी लग गई है. इसी होड़ में एक बार फिर बॉलीवुड में मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर ख़ान (Aamir Khan) नज़र आने वाले हैं. जी हां, आमिर ख़ान आमिर ख़ान (Aamir Khan) पहली बार करण जौहर (Karan Johar) के साथ काम करने जा रहे हैं, वो भी एक बायोपिक में.

Aamir Khan To Play Osho

 

बता दें कि आमिर खान और करण जौहर ने आज तक कभी साथ काम नहीं किया है. ख़बरों के अनुसार, पहली बार आमिर खान और करण जौहर ओशो (Osho) की बायोपिक में साथ काम करने वाले हैं.

यह भी पढ़ें: सोनाली बेंद्रे ने कैंसर के इलाज के ल‍िए कटवाए बाल

Aamir Khan & Karan Johar

सूत्रों के अनुसार, ओशो की बायोपिक के लिए आमिर खान को साइन किया गया है. अगर ऐसा हुआ तो ‘ठग्स ऑफ हिंदोस्तान’ के बाद इस फिल्म की अनाउंसमेंट हो सकती है या फिर ऐसा भी हो सकता है कि ‘ठग्स ऑफ हिंदोस्तान’ के प्रमोशन के दौरान आमिर का बदला हुआ लुक नज़र आए.

यह भी पढ़ें: पापा बोनी संग तिरुपति पहुंचीं जाह्नवी कपूर, फिल्म ‘धड़क’ की कामयाबी के लिए मांगी दुआ

 

आमिर इससे पहले गीता फोगाट की बायोपिक ‘दंगल’ में काम कर चुके हैं. मिस्टर परफेक्शनिस्ट अपने हर रोल के लिए बहुत मेहनत करते हैं, देखें इस बायोपिक में आमिर ख़ान दर्शकों को कितना चकित करते हैं.

 

arjun-daddy-story_120116105523 (1)

मुंबई के दगड़ी चॉल में रहने वाले अरुण गुलाब गवली की लाइफ पर बनी फिल्म डैडी का ट्रेलर रिलीज़ हो गया है. ट्रेलर काफ़ी दमदार है. अर्जुन रामपाल मुख्य भूमिका में हैं. इस फिल्म के ट्रेलर का इंतज़ार कई दिनों से था. फिल्म को डायरेक्ट किया है अशीम अहलूवालिया ने. इस फिल्म में अरुण गवली के रोल के लिए अर्जुन ने काफ़ी रिसर्च की है. वो अरुण गवली से मिले भी थे. अर्जुन ने इस रोल के लिए मराठी भी सीखी. 1970 की मुंबई को फिल्म में बेहद ही ख़ूबसूरती से रिक्रिएट किया गया है. देखें फिल्म का ट्रेलर.

Shraddha Kapoor

बॉक्सर मैरी कॉम के बाद अब दूसरी महिला खिलाड़ी पर बायोपिक बनने जा रही है. ये खिलाड़ी कोई और नहीं, बल्कि भारत की स्टार और पूर्व नंबर 1 बैडमिंटन प्लेयर साइना नेहवाल हैं. साइना नेहवाल की ज़िंदगी पर अमोल गुप्ते एक फिल्म बना रहे हैं. फिल्म की चर्चा तो बहुत पहले से थी, लेकिन इसके स्टारकास्ट को लेकर दुविधा थी. शुरुआत में एक बार ये हुआ था कि इस रोल को दीपिका पादुकोण निभाएंगी, लेकिन अब श्रद्धा कपूर के नाम की फाइनल मुहर लग गई है.

खेल प्रेमियों के लिए ये बेहद ख़ुशी की बात है कि उन्हें एक और बायोपिक देखने को मिलेगा. इस फिल्म पर निर्देशक अमोल गुप्ते की टीम रिसर्च में लग गई है. फिल्म को भूषण कुमार प्रोड्यूस करेंगे. साइना इन दिनों बैडमिंटन एशिया चैंपियनशिप के लिए चीन में हैं. इस खबर पर प्रतिक्रिया जताते हुए साइना ने कहा, वाह! मुझे फिल्म के बारे में तो जानकारी थी, लेकिन कास्टिंग के बारे में पता नहीं था. यह शानदार रहेगा, यदि श्रद्धा मेरी भूमिका में हों, क्योंकि वह बेहद टैलंटेड और मेहनती ऐक्ट्रेस हैं. मुझे यक़ीन है कि वह इस रोल के साथ पूरा न्याय करेंगी.

श्रद्धा कपूर भी अपने इस रोल से काफ़ी ख़ुश हैं. उन्होंने कहा कि ज़्यादातर लड़कियां अपने स्कूल के दिनों में कभी न कभी बैडमिंटन खेलती ही हैं. मुझे लगता है कि मैं काफी लकी हूं कि मुझे साइना का किरदार निभाने का मौका मिल रहा है, जो केवल दुनिया की नंबर वन बैडमिंटन प्लेयर ही नहीं, बल्कि एक यूथ आइकन भी हैं. मुझे अपने इस रोल की शुरुआत का बेसब्री से इंतज़ार है. श्रद्धा नेे अपने सोशल मीडिया पेज पर इस फिल्म से रिलेटेड कई पोस्ट किए.

हम आपको बता दें कि साइना अपने आप पर बनने वाली फिल्म से बहुत एक्साइटेड हैं. साथ ही वो इस बात से भी ख़ुश हैं कि उनका रोल कोई और नहीं, बल्कि उनकी अच्छी दोस्त श्रद्धा कपूर निभा रही हैं. साइना कहती हैं कि काफ़ी लोग कहते हैं कि वो और श्रद्धा एक जैसी दिखती हैं. ऐसे में फिल्म में श्रद्धा का चुना जाना पूरी तरह से बेहतरीन लग रहा है.

अब सारा दारोमदार श्रद्धा पर है कि वो फिल्म में कैसा अभिनय करती हैं. दर्शकों ने प्रियंका चोपड़ा को मैरी कॉम के रोल में देखकर बहुत सराहा था. फैन्स से लेकर क्रिटिक तक ने प्रियंका के अभिनय को सराहा था. इतना ही नहीं, जब मिल्खा सिंह पर फिल्म बनी थी, तो उसमें फरहान अख़्तर ने भी ज़बर्दस्त अभिनय किया था. इन दोनों की परफॉर्मेंस को देखकर श्रद्धा से लोगों की उम्मीदें बढ़ना लाज़मी है.

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

फिल्म– एम.एस. धोनी- द अनटोल्ड स्टोरी

निर्देशक नीरज पांडे

स्टारकास्ट- सुशांत सिंह राजपूत, कियारा आडवाणी, दिशा पटानी, अनुपम खेर, राजेश शर्मा.

रेटिंग- 4 स्टार

इंडियन क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की ज़िंदगी पर बनी फ़िल्म उनकी लाइफ के बारे में कई ऐसी बातें बयां करेगी, जिससे उनके फैन्स अनजान थे. निर्देशक नीरज पांडे ने धोनी की पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को बड़े ही बेहतरीन तरीक़े से पर्दे पर दिखाया है.sushant-sm_650_081216114137 (1) एम.एस. धोनी- द अनटोल्ड स्टोरी की कहानी

धोनी की कहानी किसी से छुपी नहीं है. छोटे से शहर रांची से इंडियन क्रिकेट टीम के कप्तान बनने का सफ़र माही के लिए आसान नहीं था. क्रिकेट के प्रति अपने जुनून को कायम रखते हुए, माता-पिता के सपनों की इज़्ज़त करते हुए अपने सपनों को साकार करने वाले धोनी रांची की तंग गलियों से निकलकर इंटरनेशनल क्रिकेट का सबसे बड़ा नाम बन जाते हैं. माता-पिता की बात मानकर भारतीय रेलवे में टीसी की नौकरी करने के साथ अपने सपनों को पूरा करने की ललक और आखिरकार अपने सपनों को हक़ीक़त में बदलने का ज़ज़्बा आप में भी एनर्जी भर देगा. धोनी की लव लाइफ का हिस्सा भी आपको फिल्म में नज़र आएगा, जिससे कई लोग अनजान हैं.1-29-1475158289 (1)किसने दिखाया एक्टिंग का दम?

सबसे पहले बात करते हैं सुशांत सिंह राजपूत की. सुशांत ने बढ़िया एक्टिंग की है. इसी एक्टिंग के दम पर वो माही के किरदार को बड़ी ही सहजता से निभा गए. सुशांत को इस रोल में देखकर यही लग रहा है कि नीरज ने ये किरदार उन्हें देकर कोई गलती नहीं की है. दिशा पटानी धोनी की एक्स गर्लफ्रेंड प्रियंका झा के किरदार में अच्छी लग रही हैं. कियारा आडवाणी साक्षी के किरदार में हैं और उनकी एक्टिंग भी आपको पसंद आएगी. अनुपम खेर माही के पिता पान सिंह धोनी के रोल में जंच रहे हैं. भूमिका चावला लंबे समय के बाद पर्दे पर धोनी की बहन के रोल में वापसी कर रही हैं.dhoni_mos-3_093016021758 (1)फिल्म की यूएसपी

इस फिल्म पर नीरज ने बड़ी ही बारीक़ी से काम किया है. धोनी के जीवन के उन अहम् पहलुओं को दिखाने की पूरी कोशिश की है, जिनके बिना माही पर बनी ये फिल्म कंप्लीट नहीं हो सकती थी. धोनी और युवराज की पहली मुलाक़ात, भारतीय टीम में उनका सिलेक्शन, धोनी और वीरेंद्र सहवाग के साथ विवाद जैसे कई सीन्स आपको पसंद आएंगे. फिल्म का अंत उनके वर्ल्ड कप जीतने के साथ किया गया है. फिल्म की कहानी आपको अंत तक बांधे रखेगी. कई विज़ुअल्स, जहां ग्राफिक्स के ज़रिए धोनी के चेहरे पर सुशांत सिंह का चेहरा फिट किया गया है, वो काबिले तारीफ़ है. म्यूज़िक भी फिल्म की कहानी को सपोर्ट करता है.M.S.-Dhoni-The-Untold-Story (1)फिल्म देखने जाएं या नहीं?

अगर आप माही के फैन हैं, तो ये फिल्म आपके लिए ही है. यह फिल्म आपको इंस्पायर करेगी. अगर आप क्रिकेट या धोनी के फैन नहीं भी हैं, तो भी ये फिल्म आपको निराश नहीं करेगी. कुल मिलाकर इस वीकेंड पर आप इस फिल्म का मज़ा उठा सकते हैं.

नीरजा जैसी बायोपिक कर चुकी सोनम कपूर(Sonam kapoor) चाहती हैं कि एथलीट पीटी उषा पर भी फिल्म बने. सोनम ने एक इवेंट के दौरान कहा, ”मैंने वैसे भी एक बायोपिक नीरजा की है, आगे भी जब कुछ अच्छा मिलेगा तो मैं जरूर करना चाहूंगी. लेकिन मैं चाहूंगी कि पहले पीटी उषा पर फिल्म बननी चाहिए, वो ज़्यादा रोचक होगी.”  वैसे नीरजा से पहले सोनम मिल्खा सिंह पर बनी बायोपिक भाग मिल्खा भाग में अहम् भूमिका निभा चुकी हैं.

22क्या आप सलमान खान की लाइफ के सीक्रेट्स जानना चाहते हैं? अगर आपका जवाब हां में है, तो निराशा ही हाथ लगेगी, क्योंकि सलमान अपनी लाइफ पर कभी कोई फिल्म नहीं बनाना चाहते. फिल्म सुल्तान की सक्सेस को सेलिब्रेट करने के लिए फिल्म की टीम ने मीडिया को बुलाया वहां, जहां हुई थी प्रेम रतन धन पायो की शूटिंग.21सलमान खान काफ़ी खुश लग रहे थे. कई सवालों के जवाब दिए सलमान ने. उसी बीच सलमान से पूछ लिया गया उनकी बायोपिक के बारे में एक सवाल कि क्या सलमान कभी अपनी लाइफ पर बायोपिक बनाएंगे, तो सलमान ने कहा, ”मेरी लाइफ बहुत ही बोरिंग है और बोरिंग लाइफ पर कोई बायोपिक करता नहीं है.”24सलमान नहीं चाहते कि उन पर बायोपिक बने. उनका कहना है कि बायोपिक बनाने के लिए मेरी लाइफ के बारे में पहले लिखना पड़ेगा और अगर कोई है जो मेरी लाइफ के बारे में लिख सकता है, वो केवल मैं हूं. सलमान ने ये भी कहा कि मेरे भाई और बहनें भी थोड़ा बहुत मेरे बारे में लिख सकती हैं, जितना वो मेरे बारे में जानते हैं, लेकिन सारा सच वो भी नहीं जानते हैं. जब सलमान से ये पूछा गया कि उनकी बायोपिक अगर बन भी जाती है, तो वो कौन-सा ऐक्टर होगा जो उनका किरदार निभा सकता है, तब सलमान ने बिना वक़्त लगाया कह दिया कोई भी नहीं.26यक़ीनन कई लोग सलमान की लाइफ, उनके अफेयर्स के बारें में जानना चाहते होंगे, लेकिन फिलहाल उनका सलमान के सीक्रेट्स जानने का सपना तो अधूरा ही रहेगा, क्योंकि सलमान अपनी बायोपिक बनाने के मूड में नहीं हैं.

अज़हर का फर्स्ट लुक लॉन्च हो गया है. इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान मोहम्मद अज़हरुद्दीन की बायोपिक अज़हर में इमरान हाशमी टाइटल रोल में हैं. अज़हर की पहली वाइफ नौरीन का किरदार निभा रही हैं प्राची देसाई, तो वहीं उनकी दूसरी वाइफ संगीता बिजलानी के रोल में हैं नर्गिस फाकरी. लारा दत्ता फिल्म में वकील के किरदार में नज़र आएंगी. फिल्म की कहानी अज़हरुद्दीन के पर्सनल और क्रिकेट करियर में आए उतर-चढ़ाव पर बेस्ड होगी.