Tag Archives: body fats

चार तरह के होते हैं बॉडी फैट्स: आपका कौन-सा है? (4 Types Of Body Fats: Which One Do You Have?)

आप क्या खाते हैं, कितना खाते हैं और किस तरह से खाते हैं- इसी के आधार पर हमारे शरीर (Body) की संरचना होती है और धीरे-धीरे हमारा शरीर एक विशेष आकार में आ जाता है. इसी आकार के कारण हमारी शारीरिक बनावट अलग-अलग होती है. हम यहां पर चार अलग-अलग तरह के बॉडी फैट्स (Types Of Body Fats) के बारे में बता रहे हैं, जिनसे आप अपने बॉडी फैट्स (Body Fats) के बारे में जान सकते हैं.

Types Of Body Fats

1. हाई स्ट्रेस टाइप

काम की व्यस्तता, घरेलू परेशानियां या अन्य कारणों से अधिकतर लोग तनाव में रहते हैं. तनाव होने पर शरीर में कार्टिसोल नामक हार्मोंस का उत्पादन अधिक होता है और अधिक कार्टिसोल होने पर वह पेट के आसपास फैट्स के रूप में जमा होने लगता है.

कैसे छुटकारा पाएं ऐसे बॉडी फैट से?

–    कपालभाति और अन्य प्राणायाम करें.

–     ख़ुद को लिखने-पढ़ने, खेलनेे, संगीत, डांस आदि में व्यस्त रखें.

–     उपरोक्त के अलावा ऐसी गतिविधियों में व्यस्त रहें, जिससे हैप्पी हार्मोंस का उत्पादन बढ़े.

2. हाई शुगर टाइप

शक्कर के शौकीन लोगों में यह फैट अधिक जमा होता है. जब हम बहुत अधिक शक्कर का सेवन करते हैं, तो हमारा शरीर बहुत अधिक मात्रा में इंसुलिन का उत्पादन करता है, जिसका शरीर पर साइड इफेक्ट होता है और कमर के आसपास फैट जमा होने लगता है.

कैसे छुटकारा पाएं ऐसे बॉडी फैट से?

–    शक्कर का सेवन कम करें.

–     लहसुन, दालचीनी, अजवायन को अपनी डायट में शामिल करें. ये मसाले शक्कर के प्रभाव को कम करते हैं.

–     प्लैंक, कोर टोनिंग, क्रंचेस जैसी एक्सरसाइज़ करें.

3. हाई एस्ट्रोजन टाइप

अगर आपके बट्स बहुत हैवी हैं, तो आपकी बॉडी में एस्ट्रोजन का लेवल बहुत हाई है.

कैसे छुटकारा पाएं ऐसे बॉडी फैट से?

–     हरी सब्ज़ियां, जैसे- ब्रोकोली, फाइटो केमिकल्स से भरपूर सब्ज़ियों का सेवन अधिक मात्रा में करें.

–     स्कवॉट एक्सरसाइज़ करके शरीर में एस्ट्रोजन का स्तर संतुलित रख सकते हैं.

4. लो टेस्टोस्टेरॉन टाइप:

अगर आपको अपने बाइसेप्स के पास जमा फैट्स को कम करना मुश्किल लगता है, तो इसका मतलब है कि आपके शरीर में टेस्टोस्टेरॉन का लेवल बहुत कम है.

कैसे छुटकारा पाएं ऐसे बॉडी फैट से?

–     विटामिन डी से भरपूर चीज़ें, जैसे- मशरूम आदि अधिक से अधिक खाएं.

–     डायट के अलावा विटामिन डी सप्लीमेंट्स भी ले सकते हैं.

–     बाइसेप्स को टोन करनेवाली एक्सरसाइज़ करें.

– बेला शर्मा

यह भी पढ़ें: सेहत का हाल बताता है मुंह (What Your Mouth Says About Your Health)

यह भी पढ़ेंः जानिए सीने में जलन के लक्षण, कारण, उपचार और परहेज (Heartburn Causes, Symptoms, Diagnosis, Treatment And Prevention)