Bollywood Actor

जून 2020 की वो 14 तारीख़ जिस दिन आई एक खबर ने पूरे देश, पूरे बॉलीवुड, पूरी मीडिया और यहां तक कि राजनीति को भी हिलाकर रख दिया था, सुशांत सिंह राजपूत की मौत की खबर! पहले कहा गया था कि ये आत्महत्या है लेकिन फिर इसमें साज़िश की बू आने लगी, कई लोगों पर इल्ज़ाम लगे और कइयों से सवालात हुए. शक के घेरे में अब भी कई लोग हैं लेकिन तमाम तहक़ीक़ात के बाद भी सुशांत की मौत एक राज़ ही बनी हुई है.

सुशांत की मौत के राज़ से पर्दा कब उठता है इस पर कुछ भी कहा नहीं जा सकता लेकिन उनकी मौत के बाद कई चीज़ें सामने आई, जैसे- किसी ने कहा वो डिप्रेशन में थे, किसी ने कहा ड्रग्स लेते थे, लेकिन इन सबके बावजूद देश के लोगों में इस एक्टर के लिए प्यार दिन ब दिन बढ़ता ही गया क्योंकि लोग जानते हैं कि इस एक्टर में न सिर्फ़ बेहद टैलेंट था बल्कि इसके मन में बाल सुलभ कोमल भावनाएं भी थीं.सुशांत बेहद इंटेलिजेंट थे, उन्हें चांद-सितारों को देखना बेहद पसंद था और वो नेचर प्रेमी भी थे. इन सबके अलावा वो वो थे ऐनिमल और बर्ड लवर!

उन्हें जानवरों और पंछियों से, कुल मिलाकर सभी बेज़ुबानों से था बेहद लगाव. उनकी कई ऐसी तस्वीरें उनकी मौत के बाद सामने आई जिन्हें देखकर ये अंदाज़ा लगाना मुश्किल नहीं कि सुशांत का मन इन बेज़ुबानों के लिए कितना प्यार से भरा था.

Sushant Singh Rajput

सुशांत की मौत की खबर के बाद एक और खबर तेज़ी से फैली थी कि उनके पेट डॉग जिसका नाम फज था वो बेहद ग़मगीन है सुशांत कि मौत के बाद. उसने खाना पीना छोड़ दिया था और वो सुशांत की तस्वीर के सामने उदास होकर बैठा रहता है…

Sushant Singh Rajput
Sushant Singh Rajput
Sushant Singh Rajput

इसके बाद ये भी खबर सुनाई दी कि फज लापता है या उसकी मौत हो गई लेकिन बाद में पता चला कि उसको सुशांत का परिवार अपने साथ ले गया था जहां वो धीरे-धीरे सुशांत की फ़ैमिली के साथ घुल-मिल रहा था. सुशांत की बहन ने उनके पिता के साथ फज की ये तस्वीर शेयर कर खबर दी थी कि फज बिल्कुल ठीक है.

Sushant Singh Rajput's Father

सुशांत और फज की यारी बहुत प्यारी थी…

Sushant Singh Rajput
Sushant Singh Rajput
Sushant Singh Rajput
Sushant Singh Rajput
Sushant Singh Rajput

लेकिन सुशांत सिर्फ़ फज और डॉग से ही प्यार नहीं करते थे उनको बिल्लियों और स्ट्रीट डॉग व स्ट्रे कैट्स से भी उतना ही लगाव था…

Sushant Singh Rajput
Sushant Singh Rajput
Sushant Singh Rajput
Sushant Singh Rajput
Sushant Singh Rajput

सुशांत को जानवरों के अलावा पंछियों से भी बेहद लगाव था…

Sushant Singh Rajput
Sushant Singh Rajput

सुशांत और अंकिता भी एक साथ अपने पेट्स को प्यार करते अक्सर नज़र आते थे…

Sushant Singh Rajput
Sushant Singh Rajput

बात करें सुशांत केस की तो एनसीबी ने चार्जशीट फ़ाइल की है जिसमें रिया समेत कइयों के नाम हैं, इससे पहले भी ड्रग्स मामले में बॉलीवुड के बड़े-बड़े नामों को तलब किया जा चुका है, देखते हैं ये मामला अब क्या मोड़ लेगा.

लेकिन इस टैलेंटेड एक्टर की इस तरह मौत से अभी तक लोग उबरे नहीं हैं, एक साल के बाद भी अभी तक लोग न्याय के इंतज़ार में है! उनके साथ न्याय हो यही सच्ची श्रधांजलि होगी उन्हें!

यह भी पढ़ें: टीवी के इन सेलेब्स की हो गई थी सगाई, लेकिन शादी के बंधन में बंधन से पहले खत्म कर लिया रिश्ता (These TV Celebs Got Engaged, But Ended Their Relationship Before Getting Married)

फिल्म इंडस्ट्री के अंडरडॉग हीरो विकी कौशल, जिन्होंने बहुत कम समय में ग्लैमर इंडस्ट्री में अपना सिक्का जमा लिया है, आज अपना जन्मदिन मना रहे हैं. इस ख़ास मौके पर हम आपको बता रहे हैं विकी कौशल के बारे में कुछ दिलचस्प बातें.

Vicky Kaushal
  • विकी कौशल पेशे से टेलीकम्यूनिकेशन इंजीनियर हैं. फिल्म इंडस्ट्री में आने से पहले वह विदेश मैं नौकरी किया करते थे. विकी को ज्यादा दिन तक नौकरी रास नहीं आई और एक्टिंग में बढ़ती दिलचस्पी की वजह से उन्होंने कुछ दिन बाद नौकरी छोड़ दी.
  • विकी कौशल मुंबई की चॉल में भी रह चुके हैं. उस वक्त उनके पिता श्याम कौशल बॉलीवुड में बतौर एक्शन डायरेक्टर काम करते थे.
Vicky Kaushal
  • इसके बाद विकी ने ‘किशोर नमित कपूर’ के एक्टिंग स्कूल में दाखिला लिया और वहीं से एक्टिंग सीखी. विकी को बचपन से ही एक्टिंग का शौक था. यहां तक कि कई सारे प्रतियोगिताओं में भी विकी ने हिस्सा लिया जिसमें डांसिंग भी शामिल है.
  • कहा जाता है कि विकी कौशल को ‘रमन राघव 2.0‘ में कास्ट करने को लेकर अनुराग कश्यप असमंजस में थे. अनुराग को लगता था विक्की नकारात्मक किरदार नहीं निभा पाएंगे. हालांकि विकी ने अनुराग को किसी तरह से ऑडिशन देने के लिए राजी किया और उनका यह किरदार इतिहास में हमेशा के लिए दर्ज हो गया.
Vicky Kaushal
  • विकी कौशल ने बतौर असिस्टेंट डायरेक्टर अनुराग कश्यप को ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ फिल्म के दोनों पार्ट में असिस्ट किया था. इस फिल्म के बाद ही विकी कौशल के करियर को उडा़न मिली.
  • विकी कौशल की बतौर लीड एक्टर फिल्म ‘मसान’ थी. जिसमें उनका रोल भले ही छोटा था लेकिन काफी इंप्रेसिव था. वहीं बॉलीवुड सफर की बात करें तो विक्की की पहली डेब्यू फिल्म ‘लव शव ते चिकन खुराना’ थी.
Vicky Kaushal

Photo Courtesy: Instagram (All Photos)

52 वर्षीय मेजर बिक्रमजीत कंवरपाल की कोरोना से जान चली गई. बिक्रमजीत कंवरपाल काफ़ी फेमस थे और उन्होंने कई बॉलीवुड फ़िल्मों और टीवी सीरीयल्स में काम करके इतना नाम कमाया था. मेजर बिक्रमजीत ने वर्ष 2002 में इंडियन आर्मी से रिटायरमेंट लिया था और उसके बाद साल 2003 में अपना फ़िल्मी सफ़र शुरू किया था क्योंकि एक्टिंग की फ़ील्ड में आना उनके बचपन का सपना था.
मेजर बिक्रमजीत ने पेज 3, पाप, कॉरपोरेट, हाईजैक, क्या लव स्टोरी है, रॉकेट सिंह, मर्डर 2, क्या कूल हैं हम, प्रेम रतन धन पायो, हेट स्टोरी 2 जैसी कई फ़िल्मों में काम किया था.

Bikramjeet Kanwarpal

बिक्रमजीत के निधन की खबर सुन बॉलीवुड और टीवी जगत में शोक पसर गया. मनोज बाजपेयी ने ट्वीट किया- हे भगवान! इतनी दुखद खबर! हम एक-दूसरे को 14 सालों से जानते थे जब 1971 बन रही थी! भगवान आपकी आत्मा को शांति दे मेजर! बेहद स्तब्ध और हैरान करनेवाली खबर है! शॉकिंग!

बिक्रमजीत के निधन पर फ़िल्म मेकर अशोक पंडित ने ट्वीट किया- कोरोना के कारण सुबह एक्टर मेजर बिक्रमजीत कंवरपाल की मौत की खबर मिली, ये बेहद दुखद है! रिटायर आर्मी अफसर, कंवरपाल ने कई फिल्मों व टीवी सीरियल्स में सपोर्टिंग रोल्स किए थे. उनके परिवार और करीबियों को मेरी संवेदनाएं. ॐ शांति!

मनोज और अशोक पंडित के अलावा श्रिया पिलगांवकर, रोहित रॉय, नील नितिन मुकेश व अन्य कई कलाकारों ने मेजर की मौत पर शोक और हैरानी भी जताई!

सभी ने अपने ट्वीट में लिखा कि वो एक जेंटलमैन थे और बेहद ख़ुशमिज़ाज, पॉज़िटिव इंसान… हमने एक और सितारा खो दिया, आपकी सेवाओं के लिए धन्यवाद, आप हमेशा याद रहेंगे!

मेजर बिक्रमजीत ने बॉलीवुड के अलावा कई टीवी शोज़ में भी काम किया था- जैसे, क्राइम पट्रोल, 24, दीया और बाती हम, अदालत, स्पेशल ops, तेनालीरामा आदि!

हमारी ओर से श्रद्धांजलि!

Photo Courtesy: Twitter

यह भी पढ़ें: अली गोनी की तबीयत नासाज़, फैंस हुए परेशान! एक्टर ने कराया कोरोना टेस्ट, कहा- आज रोज़ा नहीं रखा, आप भी अपना ख़्याल रखें, जल्द से जल्द वैक्सीन लें! (Aly Goni Shares, ‘Not Keeping Roza Today, Not Feeling Well’ Actor Gets Tested For Covid-19, Fans Praying For His Health)

साल 2018 का वो ब्रेकअप जिसकी चर्चा लोग आज भी करते हैं, जी हां, फेमस और मोस्ट पॉप्युलर सिंगर नेहा कक्कड़ और एक्टर हिमांश कोहली का ब्रेकअप काफ़ी सुर्ख़ियों में रहा था, क्योंकि दोनों ने कुछ समय पहले ही अपने प्यार का खुलासा खुलेआम किया था. लेकिन दोनों का रिश्ता टूट गया. उस वक़्त अक्सर नेहा कक्कड़ पब्लिक प्लेस पर भी फफक कर रोने लगती थीं. लेकिन आज नेहा खुश हैं, आगे बढ़ चुकी हैं, शादी कर चुकी हैं. पर उस ब्रेकअप पर अब जाकर हिमांश ने चुप्पी तोड़ी और अपना पक्ष रखा, क्योंकि आज तक लोग हिमांश को ही उसके लिए टार्गेट करते आए हैं.

Himansh Kohli

बॉलीवुड बबल को दिए इंटरव्यू में हिमांश ने कहा कि भई वो मेरा ब्रेकअप था, मैं सारी दुनिया को क्यों बताता फ़िरूं? वो मेरे घर का मामला था तो भला दूसरों को उससे क्या लेना-देना, उन्हें इसमें क्या दिलचस्पी? ये 2018 का मामला है लेकिन लोगों ने मुझे टार्गेट किया, मैं अब नेहा को भी इसके लिए दोष नहीं देता, वो मूवऑन कर चुकी है और अपनी लाइफ़ में खुश है, मैं भी उनके लिए खुश हूं और अपने लिए भी. मैं अपनी ड्रीम लाइफ़ जी रहा हूं, पैसे कमा रहा हूं और लोगों को एंटरटेन कर रहा हूं.

Himansh Kohli

हम दोनों आगे बढ़ चुके हैं लेकिन कुछ लोग आज भी वहीं 2018 में ही अटके हैं जबकि ये 2021 है. लेकिन लोग अब भी टार्गेट करते हैं क्योंकि उनको लगता है कि मैं चुप हूं तो इसका मतलब मैं ग़लत हूं. जबकि मैं जानता हूं कि मैं बुरा इंसान नहीं हूं, अगर मैं ग़लत होता तो रात को चैन की नींद नहीं सो पाता. मैं खुश हूं कि मैंने किसी के साथ कुछ ग़लत नहीं किया लेकिन लोगों की सोच टॉक्सिक है.

Neha Kakkar

उस वक़्त वो ग़ुस्से में थीं तो उन्होंने सोशल मीडिया पर कुछ पोस्ट कर दिया, मैं भी ग़ुस्से में था लेकिन मैंने कुछ भी पोस्ट नहीं किया, मैं चुप रहा. तो टॉक्सिक कौन है? टॉक्सिक वो लोग हैं वो बार बार टार्गेट और पोक करते हैं, जबकि इसकी कोई ज़रूरत नहीं. हमारे बीच अगर प्यार नहीं है तो नफ़रत भी नहीं है और जब हम इसको मेंटेन कर सकते हैं तो लोगों को भी यही करना चाहिए!

Neha Kakkar

जैसाकि सब जानते हैं कि नेहा और हिमांश अपने रिश्ते को लेकर काफ़ी गंभीर थे लेकिन इनका अचानक हुआ ब्रेकअप सबको सकते में डाल गया और खबर बन गया. रोहनप्रीत से शादी से कुछ अरसे पहले तक नेहा और हिमांश एक दूसरे को डेट कर रहे थे, लेकिन अब दोनों अपनी अपनी ज़िंदगी के आगे बढ़ गए और खुश हैं तो लोगों को भी अपने काम से काम रखना चाहिए!

Photo Courtesy: Instagram (All Photos)

कोरोना के बढ़ते संकट के बीच कई स्टार्स ने भी मदद का हाथ बढ़ाया है ताकि कोरोना मरीज़ों का इलाज हो सके. इसी कड़ी में अब अजय देवगन भी आगे आए हैं और उन्होंने BMC के साथ मिलकर मुंबई के शिवाजी पार्क में इमर्जेन्सी यूनिट की स्थापना की है जिसके लिए कुल एक करोड़ की रक़म जुटाई गई.

बीएमसी ने शिवाजी पार्क में भारत स्काउट्स एंड गाइड्स हॉल को वेंटिलेटर, ऑक्सीजन सपोर्ट और पैरा मॉनिटर के साथ 20-बेड के COVID-19 फैसिलिटी में तब्दील कर दिया है. इसके लिए ज़रूरी रक़म अजय देवगन फ़ाउंडेशन की ओर से जुटाई गई, ये रक़म एक करोड़ की थी, जिसमें अजय के साथ बोनी कपूर, आनंद पंडित (फिल्ममेकर), तरुण राठी (बिज़नेसमैन), आरपी यादव (ऐक्शन डायरेक्टर), लव रंजन, लीना यादव, आशिम बजाजा, रजनीश खनूजा, समीर नायर, दीपक धर, ऋषि नेगी शामिल हैं.

Ajay Devgn

यह पहली बार नहीं है जब अजय इस नेक काम के लिए आगे आए हैं, पिछले साल भी अजय ने कोरोना संकट में वेंटिलेटर की व्यवस्था की थी.

Photo Courtesy: Instagram

यह भी पढ़ें: राजीव कपूर की संपत्ति पर हक़ चाहते हैं भाई रणधीर कपूर और बहन रीमा जैन, कोर्ट ने कहा, पहले पेश करें तलाक़ के काग़ज़ात! (Rajiv Kapoor Property Case: Bombay HC Seeks Undertaking From Randhir Kapoor & Rima Jain)

ब्रेन स्ट्रोक से ठीक हुए आशिक़ी एक्टर राहुल रॉय और उनका परिवार भी अब कोरोना की चपेट में आ गया है, राहुल इससे काफ़ी हैरान हैं क्योंकि वो लंबे समय से क्वारेंटीन हैं. उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पर लंबी पोस्ट शेयर कर अपनी कोविड स्टोरी शेयर की है. राहुल हैरान हैं और वो समझ नहीं पा रहे हैं कि बिना घर से बाहर गए और लोगों से बिना संपर्क में आए, बिना बातचीत किए उनकी रिपोर्ट पॉज़िटिव कैसे आई!

Rahul Roy

राहुल लिखते हैं-

मेरा फ्लोर 27 मार्च को सील कर दिया गया था, क्योंकि मेरे पड़ोसी का कोविड टेस्ट पॉज़िटिव आया था, इसलिए एहतियातन कदम उठाते हुए हमें भी 14 दिनों के लिए घर में ही बंद कर दिया गया. मेरा परिवार और मैं 11 अप्रैल को दिल्ली जानेवाले थे, इसलिए हमने 7 अप्रैल को RTPCR टेस्ट कराया, जिसकी रिपोर्ट 10 अप्रैल को आयी और रिपोर्ट से पता चला कि मेरा पूरा परिवार रोमीर सेन और प्रियंका रॉय कोविड पॉज़िटिव हैं.

हमें कोविड के कोई भी लक्षण नहीं थे और उसी दिन हमें पता चला कि बीएमसी हमारी पूरी सोसाइटी में टेस्ट कर रही है, तो हमने एक बार फिर एंटीजन टेस्ट करवाया, जिसमें हम नेगेटिव पाए गए. हमने इसलिए RTPCR टेस्ट के लिए एक बार फिर सैंपल भेजे, लेकिन उसकी रिपोर्ट अभी तक मुझे मिली नहीं.

Rahul Roy

बीएमसी ने हमसे आइसोलेशन फॉर्म साइन करवाए, हमारे घर को सैनिटाइज़ किया और डॉक्टर द्वारा भी कई तरह के सवाल किए गए, जैसे- मेरा फैमिली बिज़नेस क्या है? हमारा ऑफ़िस कहां है? कहां-कहां ट्रैवल किया… हाहा पता नहीं इन सवालों का क्या कनेक्शन था. उन्होंने मुझे हॉस्पिटलाइज़ होने की सलाह दी, लेकिन मैंने उन्हें बताया कि हमें किसी भी तरह के कोई लक्षण नहीं. इस पर उन्होंने मुझे सलाह दी कि नियमित रूप से ऑक्सीजन का स्तर जांच करें और एक चार्ट बनाएं, साथ ही दवा लेते रहने की भी हिदायत दी. ब्रेन स्ट्रोक का इलाज करवाने के बाद से ही मैं दवाएं ले रहा हूं.

Rahul Roy

मैं जानता हूं और मुझे पता है कि कोविड है पर मैं ये समझ नहीं पा रहा कि बिना घर से बाहर गए, बिना लोगों के संपर्क में आए, बिना लोगों से बिना बातचीए किए, बिना वॉक पे गए हम पॉज़िटिव कैसे हैं? हम लोग तीन महीनों से घर से बाहर नहीं निकले और बिनी किसी लक्षण के हमारी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई गई! मेरी बहन तो योगिनी है और वो ब्रीदिंग एक्सपर्ट है. वो प्राचीन तरीक़ों से ब्रीदिंग प्रैक्टिस करती है और तीन महीनों से वो बिना घर से बाहर गए पॉज़िटिव कैसे है? इन सवालों का जवाब मैं कभी नहीं दे पाऊंगा. अब 14 दिन का दूसरा क्वारेंटीन पीरियड खत्म होने का इंतज़ार है और फिर से टेस्ट कराना है.

Rahul Roy

आप सभी को कहना चाहूंगा कि मास्क पहनें, हाथ धोएं और स्वच्छता का ख़्याल रखें. उम्मीद करता हूं कि आपमें से कोई भी वायरस की चपेट के ना आए, घर में रहें, सुरक्षित रहें! मैं भी आशा करता हूं कि जल्द ही हमारी रिपोर्ट निगेटिव आएगी, आप सभी को ढेर सारा प्यार!

Photo Courtesy: Instagram (All Photos)

यह भी पढ़ें: क्या आपने देखी हैं सुशांत सिंह राजपूत का रोल प्ले करनेवाले सचिन तिवारी की फोटोज? लगते हैं सुशांत के कार्बन कॉपी(Have You Seen Photos Of Sushant Singh Rajput’s Lookalike, Who Is playing Sushant Singh In His Biopic)

बॉलीवुड की अधिकांश फ़िल्मों में जहां हीरो होता है तो वहीं एक विलन भी ज़रूर होता है. बदले की कहानी अधिकांश हिंदी फ़िल्मों की हमेशा से ही जान रही है. ‘शोले’, ‘जंज़ीर’, ‘घायल’, ‘बाज़ीगर’ जैसी कई फ़िल्में हैं, जिनमें ड्रामा, रोमांस, एक्शन का भरपूर डोज़ दर्शकों के मनोरंजन के लिए दिया गया है. इसी तरह से रिवेंज ड्रामा पर आधारित फ़िल्मों को भी दर्शकों ने काफी सराहा है, जिनमें बदला लेने के लिए नायक को खलनायक बनते दिखाया गया है. चलिए जानते हैं आमिर खान से लेकर ऋतिक रोशन तक, बॉलीवुड के उन एक्टर्स के बारे में जो फ़िल्मों में बदला लेने के लिए नायक से खलनायक बन गए और अपने किरदार से दर्शकों का दिल जीत लिया.

1- फ़िल्म ‘गजनी’ में आमिर खान

Aamir Khan
Photo Courtesy: Instagram

सुपरहिट फ़िल्म ‘गजनी’ में आमिर खान ने अपने दमदार परफॉर्मेंस से दर्शकों का दिल जीत लिया था. उन्होंने एक बिज़नेस टाइकून की भूमिका निभाई थी, जिसकी मेमरी लॉस हो जाती है और वह अपनी प्रेमिका के खून का बदला लेने के लिए नायक से खलनायक बन जाता है. इस फ़िल्म को दर्शकों ने काफी पसंद किया था और इसने बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा दिया था. यह भी पढ़ें: बॉलीवुड के 10 बेवफा पति, शादी के बाद भी था इनका अफेयर, फिर भी बीवी ने साथ नहीं छोड़ा, नहीं टूटने दिया अपना घर (10 Married Bollywood Actors Who Cheated On Their Wives With Other Women, But Luckily Got A Second Chance)

2- फ़िल्म ‘अग्निपथ’ में ऋतिक रोशन

Hrithik Roshan
Photo Courtesy: Instagram

अभिनेता ऋतिक रोशन ने 1990 की हिट फ़िल्म ‘अग्निपथ’ के रीमेक में अपने दमदार किरदार से हर किसी को चौंका दिया था. फ़िल्म में ऋतिक अपने पिता की मौत का बदला लेते हैं, जो कांचा चीना (संजय दत्त) द्वारा क्रूरता से मारे गए गए थे. ‘अग्निपथ’ में ऋतिक के अलावा प्रियंका चोपड़ा और दिवंगत अभिनेता ऋषि कपूर नज़र आए थे.

3- फ़िल्म ‘एक विलन’ में सिद्धार्थ मल्होत्रा

Siddharth Malhotra
Photo Courtesy: Instagram

अपनी पहली ही फ़िल्म ‘स्टूडेंट ऑफ द ईयर’ के बाद सिद्धार्थ मल्होत्रा बॉलीवुड के दिल की धड़कन बन गए. उन्होंने मोहित सूरी की फ़िल्म ‘एक विलन’ में काम किया था और उनके किरदार ने दर्शकों को काफी प्रभावित किया. उन्होंने इस फ़िल्म में गुरु नाम के एक गैंगस्टर की भूमिका निभाई थी, जो अपने प्यार आयशा यानी श्रद्धा कपूर की मौत का बदला लेता है. इसमें रितेश देशमुख भी पहली बार एक खलनायक की भूमिका में नज़र आए थे.

4- फ़िल्म ‘बदलापुर’ में वरुण धवन

Varun Dhawan
Photo Courtesy: Instagram

बॉलीवुड में चॉकलेटी बॉय के तौर पर अपनी इमेज बनाने वाले एक्टर वरुण धवन ने श्रीराम राघवन की फ़िल्म ‘बदलापुर’ में नायक से खलनायक की भूमिका निभाई थी. फ़िल्म में वरुण अपनी पत्नी और बेटे की मौत का बदला लेते हुए नज़र आए थे. वरुण के अलावा फ़िल्म में नवाजुद्दीन सिद्दीकी और दिव्या दत्ता ने मुख्य भूमिका निभाई थी. यह भी पढ़ें: एक गलती से सितारों ने गंवाया करियर; गलत फैसलों में खोया स्टारडम (Actors who ruined their Own Careers; from Famous to Forgotten)

5- फ़िल्म ‘हैदर’ में शाहिद कपूर

Shahid Kapoor
Photo Courtesy: Instagram

विशाल भारद्वाज की फ़िल्म ‘हैदर’ में शाहिद कपूर का एक अलग ही किरदार दर्शकों को देखने को मिला था. फ़िल्म में हैदर की यात्रा दिखाई गई है, जो अपने चाचा और अपनी मां से अपने पिता की मौत का बदला लेने की कोशिश करता है. शाहिद को आलोचकों और दर्शकों से व्यापक तौर पर सराहना मिली. इस फ़िल्म में शाहिद के अलावा तब्बू, केके मेनन, इरफान खान और श्रद्धा कपूर जैसे सितारे नज़र आए थे.

लॉकडाउन में सोनू सूद ने प्रवासी मज़दूरों के लिए काफ़ी काम किया था और आज भी वो लोगों की और ज़रूरतमंदों की मदद करते रहते हैं. सोनू को उनके काम के लिए काफ़ी सराहा भी जाता है और अब निर्वाचन आयोग ने भी सोनू को पंजाब का स्टेट आइकॉन बनाकर सम्मानित किया है.

Sonu Sood

पंजाब के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एस करुणा राजू ने इस बारे में जानकारी दी कि उनके कार्यालय ने भारत निर्वाचन आयोग को इस संबंध में एक प्रस्ताव भेजा था, जिसे मंजूर कर लिया गया. सोनू अब पंजाब ने चुनाव संबंधी जागरूकता फैलाएंगे. वो एथिकल वोटिंग यानी नैतिक मतदान के लिए लोगों को प्रेरित करेंगे!

Sonu Sood

सोनू पंजाब के मोगा ज़िले के रहनेवाले हैं और यह सम्मान मिलने पर उन्होंने कहा कि मेरे राज्य को मुझ पर गर्व है यह जानकर काफ़ी सम्मानित महसूस कर रहा हूं, इमोशनली यह मेरे लिए बहुत मायने रखता है और मुझे आगे भी बेहतर काम करने के लिए प्रेरित करेगा.

Sonu Sood

सोनू अपनी आत्मकथा पर भी काम कर रहे हैं जिसका शीर्षक होगा मैं मसीहा नहीं हूं… इतना ही नहीं सोनू को उनके द्वारा किए गए सामाजिक कार्यों के लिए यूनाइटेड नेशन्स डेवलपमेंट प्रोग्राम (UNDP) द्वारा प्रतिष्ठित एसडीजी स्पेशल ह्यूमैनीटेरीयन एक्शन अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था और सोनू उनके साथ भी मिलकर काम करने की मंशा ज़ाहिर कर चुके हैं.

Sonu Sood

जैसाकि सभी जानते हैं कि सोनू ने प्रवासी मज़दूरों से लेकर विद्यार्थियों तक की काफ़ी मदद की थी, ना सिर्फ़ उन्हें घर पहुंचाया बल्कि उनके खाने- पीने, दवा और मोबाइल फ़ोन तक का इंतज़ाम सोनू ने किया था और अभी भी वो कभी किसी की पढ़ाई में मदद करते हैं तो कभी किसी के अस्पताल का बिल चुकाकर मदद करते ही रहते हैं. सोनू आम लोगों में काफ़ी लोकप्रिय हो चुके हैं और इसी के चलते अब उन्हें चुनाव में भी जागरूकता फैलाने का ज़िम्मा दिया गया है!

Sonu Sood

यह भी पढ़ें: द कपिल शर्मा शो में अपने मामा गोविंदा के सामने परफ़ॉर्म नहीं करना चाहते कृष्णा अभिषेक… कृष्णा ने बताई दोनों के बीच अनबन की ये वजह! (Krushna Abhishek Refuses To Perform in ‘The Kapil Sharma Show’ Episode With Govinda As Guest)

मुकेश खन्ना के एक इंटरव्यू की क्लिप पर इन दिनों काफ़ी बवाल मचा हुआ है. इस इंटरव्यू में मुकेश खन्ना कहते सुने कि औरत और मर्द बराबरी के नहीं हो सकते. दोनों की संरचना अलग अलग होती है. औरत का काम घर सम्भालना होता है. माफ़ कीजिए मैं कभी कभी बोल जाता हूं लेकिन ये मी टू की समस्या तभी शुरू हुई कब महिलाओं ने बाहर काम करना शुरू किया और आज महिलाएँ मर्दों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर बात करती हैं.

Mukesh Khanna

मुकेश की यह बात ज़ाहिर है लोगों को पसंद नाहीं आई और एक्ट्रेस दिव्यांका त्रिपाठी बेहद नाराज़ हुईं. उन्होंने ट्वीट किया कि यह पुराने ख़यालों को दर्शाता है और पीछे ले जानेवाला बयान है. ऐसे सम्मानित जगहों पर बैठे लोग जब ऐसी बातें करते हैं तो बेहद शर्मिंदगी महसूस होती है. मुकेश जी पूरे सम्मान के साथ मैं आपके इस बयान की कड़ी निंदा करती हूं!

Divyanka Tripathi

इस बयान पर सोना महापतत्रा का भी रिएक्शन आया और उन्होंने कहा कि मुकेश खन्ना कहते हैं औरतों को घर पर रहना चाहिए तो क्या घर पर मर्दों द्वारा उनका शोषण नहीं होता? ऐसे लोगों को नज़रंदाज़ करना चाहिए क्योंकि ये मंदबुद्धि है और ऐसी पिछड़ी सोच वाले हमारे इर्द गिर्द नज़र आएँगे ही.

Divyanka Tripathi

मुकेश खन्ना इस पर सफ़ाई पेश कर चुके हैं और उनका कहना है कि जितनी इज़्ज़त मैं महिलाओं की करता हूं इतना कोई नहीं करता लेकिन मेरे एक बयान को इतना ग़लत तरीक़े से दिखाया और लोगों ने ग़लत समझा है.

Divyanka Tripathi

यह भी पढ़ें: बिग बॉस 14: टास्क में बौखलाई कविता कौशिक ने एजाज़ खान की इतनी निजी बातें कहीं कि घरवाले और टीवी सेलेब भी बोल उठे, यह बहुत चीप है! (Bigg Boss 14: Kavita Kaushik Reveals Personal Details About Eijaz Khan, Housemates Call Her Cheap

लॉकडाउन के दौरान सोनू सूद का अलग ही व्यक्तित्व उभरकर आया और वो बन गए ग़रीबों के मसीहा. जब जहां से जो भी मदद मांगता सोनू उनकी मदद के लिए आगे हाथ बढ़ा देते. सोनू को इस काम के लिए काफ़ी वाहवाही और लोगों का प्यार भी मिला. इसके बाद भी सोनू कई तरह के समाजिक काम करते रहे, कभी किसी बच्चे के इलाज के लिए आगे आए तो कभी किसी की अन्य मदद के लिए… लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्हें सोनू की नेकी रास नहीं आ रही और वो इसे शक की निगाह से देख रहे हैं.

Sonu Sood

ऐसा ही एक बंदा ट्वीटर पर सोनू से सवाल करने लगा और उनकी मंशा पर संदेह जताने लगा. उसने लिखा- एक नया ट्विटर अकाउंट, सिर्फ 2 या 3 ही फॉलोअर, एक ही ट्वीट, कभी सोनू को टैग भी नहीं किया… कोई लोकेशन नहीं, कोई कॉन्टैक्ट डीटेल, इमेल एड्रेस नहीं, पर फिर भी सोनू ने इस ट्वीट को ढूंढ लिया और मदद की पेशकश की. पीआर टीम इसी तरह काम करती है.
पहले भी जो हैंडल्स मदद मांगने आए थे, वे सब अपने ट्वीट डिलीट कर चुके हैं. कुल मिलाकर इस बंदे ने सोनू की मदद को पीआर स्टंट बता दिया.

Sonu Sood
Sonu Sood

सोनू ने भी इसे जवाब देने में देर नहीं की, सोनू ने रसीद और टेस्ट्स की रिपोर्ट्स के स्क्रीन शॉट शेयर करते हुए लिखा- ये सही है भाई, मैंने ज़रूरतमंद को खोजा और उन्होंने ने भी किसी तरह मुझे ढूँढ लिया, ये सब इरादों की बात है जो तुम नहीं समझोगे! आगे सोनू ने लिखा कि वो मरीज़ कल अस्पताल में होगा बेहतर होगा उसके लिए कुछ फल भेज दें, 2-3 फॉलोअर वाला व्यक्ति भी बहुत खुश होगा, जब उसे कई फॉलोअर्स वाले व्यक्ति से कुछ प्यार मिलेगा…

Sonu Sood

लेकिन हैरानी की बात यह है कि यह व्यक्ति इसके बाद भी बाल की खाल निकालते हुए सोनू पर सवाल उठाता रहा और अपनी बात को सही साबित करने के लिए मदद माँगने की तारीख़, मदद की पेशकश की तारीख़ ढूँढता रहा और कहता रहा कि आपने पहले से इलाज करवा रहे किसी व्यक्ति को मदद का आश्वासन दिया. यह सब पीआर स्टंट ही है और आप फ़र्ज़ी काम कर लोगों को धोखा दे रहे हैं.

यह भी पढ़ें: ना अश्लील डायलॉग, ना फूहड़ता, अपनी नेचुरल कॉमेडी से दर्शकों को खूब हंसाया और जीता सबका दिल इन 12 क्लासिक हास्य कलाकारों ने! (12 Classic Bollywood Comedians Who Made Us Laugh Really Hard)

इन दिनों बॉलीवुड में काफ़ी बवाल चल रहा है. जया बच्चन ने जबसे थाली में छेद वाला बयान दिया है तब से कुछ ना कुछ विवाद हो ही रहा है. पहले रवि किशन और कंगना ने कहा कि हम जैसों को अपनी थाली खुद बनानी पड़ती है. कंगना ने तो यह भी कहा कि यहां तो हीरो के साथ सोने के बाद एक आइटम सॉन्ग मिलता है.

अब इस विवाद में एक्टर रणवीर शौरी की भी प्रतिक्रिया आई है और वो जया बच्चन पर बिफर पड़े. उन्होंने ट्वीट करके कहा कि आप लोग अपने बच्चों के लिए थाली सजाते हैं, हम जैसों को तो फेंके हुए टुकड़े दिए जाते हैं.

Ranvir Shorey

रणवीर शौरी बेहद उम्दा एक्टर हैं पर बावजूद इसके उन्हें उतना काम नहीं मिलता जिसके वो हक़दार हैं. रणवीर के इस बयान के बाद लोगों का काफ़ी समर्थन उन्हें मिल रहा है. फैंस ने कहा आप बेहद पसंद हैं लेकिन अब सम्मान और बढ़ गया.

यह भी पढ़ें: क्या पत्नी जया के बचाव में उतरे अमिताभ बच्चन, घुमा फिरा कर कंगना को घमंडी कह साधा निशाना? (Amitabh Bachchan Defends Jaya, Targets Kangana?)

राजकुमार राव भले ही नेशनल अवार्ड हासिल कर चुके हों लेकिन उन्हें आज भी वो स्टारडम नहीं मिला जिसके वो हक़दार हैं. लव सेक्स और धोखा जैसी एक्सपेरिमेंटल मूवी से अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत करनेवाले राजकुमार की गिनती मंजे हुए कलाकारों में होती है और हर किरदार पर उनकी वाहवाही भी होती है लेकिन अन्याय यह है कि उन्हें स्टार या सूपर स्टार की नज़र से आज भी नहीं देखा जाता. अलीगढ़, स्त्री, सिटीलाइट्स, न्यूटन जैसी फ़िल्में करने के बाद भी राजकुमार को बॉलीवुड ने अब तक वो नहीं दिया जिसके वो वाक़ई हक़दार हैं.

Underrated Actors In Bollywood

रणदीप हुड्डा अपने अलग अंदाज़ के लिए जाने जाते हैं और उनके इस अंदाज़ को सभी पसंद करते हैं लेकिन उनका फ़िल्मी सफ़र उन्हें स्टार का दर्जा नहीं दिला पाया. सरबजीत जैसी फ़िल्म करने के बाद भी उन्हें इतना क्रेडिट नाहीं मिला जितना ऐशवर्या को मिला. रणदीप की अदाकारी के क़ायल तो सभी हैं लेकिन बात जब स्टारडम की हो तो उन्हें उनका वो मुक़ाम नहीं मिल पाता जो मिलना चाहिए था. हाइवे जैसी फ़िल्म करने के बाद भी सारी वाहवाही आलिया भट्ट को मिली, हालाँकि रणदीप की भी तारीफ़ ख़ूब हुई लेकिन दबे लफ़्ज़ों में.

randeep hooda

राहुल बोस भले ही हार्डकोर कमर्शियल फ़िल्में नहीं करते लेकिन वो जो करते हैं कमाल करते हैं. अपने काम से उन्होंने यह साबित तो कर दिया कि हुनर की उनमें कोई कमी नहीं लेकिन इंडस्ट्री उन्हें इसके बदले ज़्यादा कुछ ना दे सकी. मिस्टर एंड मिसेज़ अय्यर के अलावा राहुल ने पैरलल सिनेमा में ही ज़्यादा काम किया है लेकिन उनकी चर्चा स्टार के तौर पर कभी नहीं होती.

Rahul Bose

मनोज बाजपेयी ने दूरदर्शन के स्वाभिमान नाम के सीरीयल से अपना करियर शुरू किया था. उसके बाद उन्हें बैंडिट क्वीन में काम मिला. मनोज मंजे हुए कलाकार हैं तभी तो उन्होंने शूल, सत्या, अलीगढ़, अक्स, गैंग्स ओफ वासेपुर जैसी फ़िल्मों में अपनी छाप छोड़ी. उनकी तारीफ़ बहुत होती है लेकिन उन्हें स्टार कलाकार के रूप में आज भी नहीं देखा जाता.

Manoj Bajpayee

अभय देओल के पास ना टैलेंट की कमी है और ना ही गुड लुक्स की लेकिन उन्हें भी इंडस्ट्री से वो नहीं मिला जिसके वो हक़दार थे. रांझना, देव डी, एक चालीस की लास्ट लोकल, ओए लकी लकी ओए… ऐसी कई फ़िल्में हैं जिसमें अभय ने अपने उम्दा अभिनय का लोहा मनवाया, लेकिन वो स्टार नहीं बन पाए.

Abhay Deol

नवाजुद्दीन सिद्दीक़ी भी अलग तरह के किरदार निभाने के लिए जाने जाते हैं. अपनी हर फ़िल्म में वो खूब तारीफ़ें बटोरते हैं लेकिन स्टार का दर्जा उन्हें भी हासिल नहीं हुआ. माँझी द माउंटन मैन जैसी फ़िल्म करने के बाद भी उन्हें पैरलल सिनेमा के लिए परफ़ेक्ट माना जाना लगा लेकिन उन्होंने कमर्शियल सिनेमा में भी उतना ही बेहतरीन काम किया फिर भी स्टार की नज़र से उन्हें नहीं देखा जाता.

Nawazuddin siddiqui

आयुष्मान खुराना को भले ही कामयाब अभिनेता का दर्जा मिला हो लेकिन वो स्टारडम अब तक नहीं मिला जो शायद बहुत पहले मिल जाना चाहिए था. विकी डोनर, ड्रीमगर्ल, अर्टिकल 15 जैसी फ़िल्मों ने ना सिर्फ़ एक कलाकार के रूप में बल्कि सिंगर के तौर पर भी उन्हें स्थापित कर दिया था पर फिर भी ऐसा लगता है कि जितनी उनमें खूबियाँ हैं उसके अनुसार उन्हें सब कुछ नहीं मिला.

Ayushman Khurana

के के मेनन ने अलग तरह का सिनेमा ज़रूर किया है लेकिन उनका हुनर बहुत ज़्यादा है. गुलाल, लाइफ इन ऐ मेट्रो जैसी फ़िल्मों के अलावा उन्होंने गुजराती, मराठी, तेलुगु और तमिल फ़िल्में भी की हैं और स्टेज व टीवी पर भी वो उतने ही एक्टिव हैं. लेकिन इतना सब होने के बाद भी इंडस्ट्री ने उन्हें बदले में देने में कंजूसी ही की.

Kk menon

आशुतोष राणा एक समय में सबके फेवरेट थे. उन्होंने भी स्वाभिमान धारावाहिक से अपना सफ़र शुरू किया और बड़े पर्दे पर अपना जोहार भी खूब दिखाया. दुश्मन का वो सिरफिरा पोस्ट मैन हो या फिर संघर्ष का वो डरावना अवतार आशुतोष ने हर भूमिका के साथ न्याय किया लेकिन इंडस्ट्री ने उनके साथ अन्याय किया इसीलिए देखते ही देखते इतना उम्दा कलाकार लगभग ग़ायब सा हो गया.

Ashutosh Rana

अक्षय खन्ना ने कम ही फ़िल्में की हैं लेकिन हमराज़, दिल चाहता है, ताल, हंगामा और गांधी माय फादर जैसी फ़िल्मों में उन्होंने अपने अभिनय से सबको जता दिया कि वो किसी से कम नाहीं लेकिन इंडस्ट्री उनके हुनर को वो सम्मान नहीं दे सकी जो उन्हें मिलना चाहिए था.

Akshay Khanna

इरफ़ान खान भले ही हमारे बीच नहीं रहे लेकिन उनकी बेजोड़ कलाकारी ने सबको मंत्र मुग्ध किया हुआ है. इंडस्ट्री के मोस्ट टैलेंटेड अभिनेताओं में इरफ़ान का नाम सबसे ऊपर रहा है लेकिन उन्हें भी वो स्टारडम कभी नहीं मिला जिसका सपना हर कलाकार करता है. सलाम बॉम्बे, पान सिंह तोमर, मक़बूल, अंग्रेज़ी मीडियम, लंच बॉक्स जैसी फ़िल्मों के अलावा इरफ़ान ने ब्रिटिश व अमेरिकन सिनेमा में भी काम किया है. उन्हें नेशनल अवार्ड के अलावा पद्मश्री से भी नवाज़ा जा चुका है.

Irrfan Khan

सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या ने सबको जहां चौंका दिया वहीं कई सवाल इस इंडस्ट्री के लिए भी खड़े कर दिए. धोनी, पीके, काई पो चे, छिछोरे जैसी फ़िल्मों के ज़रिए उन्होंने यह साबित कर दिया था कि वो यहां लम्बी पारी खेलने आए हैं लेकिन उन्हें भी कुछ ना कुछ तो साल रहा था इसीलिए वो स्टारडम नहीं मिला जिसके वो हक़दार थे.

Sushant Singh Rajput
×