bollywood latest news

जब से बिग बी अमिताभ बच्चन के कोरोना से संक्रमित होने की न्यूज़ आई है, आम से खास तक, हर फील्ड के सेलेब्स से लेकर उनके फैंस तक- लाखों लोग उनकी सलामती के लिए दुआ कर रहे हैं और बिग बी ने ये कहकर सबका आभार व्यक्त किया है कि दुआओं में ज़्यादा असर होता है. फिलहाल बिग बी और अभिषेक बच्चन दोनों मुम्बई के नानावटी हॉस्पिटल में एडमिट हैं, जहां दोनों का इलाज चल रहा है. दोनों की हालत स्थिर बताई जा रही है.

अमिताभ को ठीक होने में लग सकता है समय

amitabh bachchan


हालांकि अमिताभ और अभिषेक दोनों में कोरोना के माइल्ड सिम्पटम्स ही नज़र आ रहे हैं, लेकिन अमिताभ बच्चन की तबीयत पर खास नज़र रखी जा रही है. इसकी वजह है उनकी उम्र. वो 78 साल के हैं और दूसरा उन्हें पहले से ही कई सीरियस हेल्थ कंप्लीकेशन्स हैं. और बार बार कहा जा रहा है कि कोरोना 60 से अधिक उम्र के लोगों के लिए ज़्यादा कंप्लीकेशन्स पैदा कर रहा है, और उन लोगों के लिए ज़्यादा घातक साबित हो सकता है, जिन्हें पहले ही हेल्थ प्रॉबलम्स हों. हॉस्पिटल के एक डॉक्टर ने भी बताया कि अमिताभ के लिए कोरोना से लड़ना बहुत आसान नहीं होगा. डॉक्टर ने बताया, ‘हालांकि उनकी हालत स्थिर है, लेकिन उन्हें सांस लेने में दिक्कत हो रही है. उनकी उम्र और ट्यूबरक्यूलोसिस समेत पिछली बीमारियों को देखते हुए उनकी हालत में सुधार आने में समय लग सकता है.’


अमिताभ बच्चन को पहले से ही हैं कई हेल्थ प्रॉब्लम्स

amitabh bachchan


बिग बी का 75% लिवर काम नहीं करता. उनकी आंतें भी कमजोर हैं. इस वजह से कई बार उन्हें हॉस्पिटल में एडमिट होना पड़ता है और बार बार अपना हेल्थ चेकअप कराना पड़ता है. ऐसे में कोरोना को हराना उनके लिए बहुत आसान नहीं होगा. आइए जानते हैं कि अमिताभ को क्या हेल्थ कंप्लीकेशन्स हैं और उसकी वजह क्या है.

25 प्रतिशत लिवर के सहारे जिंदा हैं बिग बी
आपको जानकर हैरानी होगी कि बिग बी सिर्फ 25 प्रतिशत लिवर के सहारे जिंदा हैं. हेपेटाइटिस इंफेक्शन के कारण उनका 75 प्रतिशत लिवर खराब हो चुका है.

मायस्थेनिया ग्रेविस से लड़ चुके बिग बी
इतना ही नहीं इसके बाद उन्हें मांसपेशियों से संबंधी एक बीमारी माएस्थेनिया ग्रेविस भी हो गई थी. इस बीमारी में मांसपेशियों का नर्वस सिस्टम से कनेक्शन टूट जाता है. ‘कुली’ के दौरान हुई दुर्घटना के बाद दवाईयों के भारी डोज लेने की वजह से उन्हें ये बीमारी हुई. इसकी वजह से वह मानसिक और शारीरिक रूप से कमजोर हो गए. वह डिप्रेशन में चले गए थे.

amitabh bachchan


अस्थमा की भी है शिकायत

amitabh bachchan

बिग बी को अस्थमा भी है. अस्थमा फेफड़ों से जुड़ी बीमारी है। इसमें बॉडी के एयरवेज नैरो हो जाते हैं और ऑक्सीजन सही मात्रा में फेफड़ों तक नहीं पहुंच पाती.

आंतें भी हैं कमजोर
कुछ साल पहले उनकी एबडोमिनल सर्जरी भी हुई थी. साल 2005 में उनके पेट में तेज दर्द हुआ. पहले लगा कि ये गेस्ट्रो संबंधी समस्या है, लेकिन चेकअप में सामने आया कि उन्हें इंटेस्टाइन संबंधी समस्या है. डाइवर्टिक्युलाइटिस ऑफ स्मॉल इंटेस्टाइन नाम की इस बीमारी को ठीक करने के लिए अमिताभ ने सर्जरी करवानी पड़ी थी. डॉक्टरों का कहना था कि अगर इस समस्या का समय रहते उपाय न किया गया होता, तो ये घातक साबित हो सकता था. इस बीमारी में छोटी और बड़ी आंत कमजोर हो जाती है और उसमें सूजन आ जाती है.

लिवर सिरोसिस भी है
कुछ समय पहले अमिताभ बच्चन ने ये भी खुलासा किया था कि उन्हें लिवर सिरोसिस की समस्या भी है, जबकि वह शराब का सेवन नहीं करते. इस बीमारी के चलते 2012 में उनके लिवर का 75 फीसदी संक्रमित हिस्सा काटकर अलग कर दिया गया था. अब बिग-बी 25 फीसदी लिवर के साथ जी रहे हैं. इसके बाद से ही उनके लिवर का फंक्शन कमजोर हो गया. उस एक एक्सीडेंट ने उनके पेट के इंटरनल पोर्शन को इतना नुकसान पहुंचाया कि अभी तक उसके साइड इफेक्ट सामने आते रहते हैं.

टीबी से जंग लड़ चुके हैं अमिताभ
साल 2000 में उन्हें टीबी डिटेक्ट हुआ था. हालांकि उन्होंने समय रहते दवा ली और एकदम ठीक हो गए.


कुली की शूटिंग में एक्सीडेंट है इन हेल्थ प्रॉब्लम्स की वजह

amitabh bachchan


बिग बी की हेल्थ प्रॉब्लम्स का ये सिलसिला शुरू हुआ था 1982 में फिल्म ‘कुली’ की शूटिंग के दौरान हुए एक्सीडेंट के बाद, जब फिल्म की शूटिंग करते वक्त अमिताभ को चोट लग गई थी. इसमें उनका काफी खून बह गया था. स्थिति ऐसी थी कि डॉक्टरों ने उन्हें क्लीनिकली डेड घोषित कर दिया गया था. बताया जाता है कि काफी खून बह जाने के कारण एक्सीडेंट के बाद उन्हें 200 डोनर्स के जरिये 60 बोतल खून चढ़ाया गया था. इससे वह तब के खतरे से बाहर आ गए, मगर उसी दौरान एक और बीमारी ने उन्हें घेर लिया था, जिसका पता 18 साल बाद लगा. दरअसल एक्सीडेंट के दौरान उन्हें जिन डोनर्स का खून चढ़ाय़ा गया था, उनमें से एक को हेपेटाइटिस बी था. उसी के जरिये ये उनके शरीर में प्रवेश कर गया था. सन् 2000 तक वे ठीक रहे, मगर उसके बाद एक सामान्य मेडिकल चेकअप में सामने आया कि कि उनका लिवर इंफेक्टिड है. इसके बाद से ही लगातार उन्हें कई हेल्थ कंप्लीकेशन्स से गुजरना पड़ा.

बता दें कि बिग बी अक्सर अपने ब्लॉग और ट्विटर के जरिये अपनी हेल्थ अपडेट फैंस के साथ शेयर करते रहते हैं. फिर शायद फैंस की दुआएं और उनका जुनून है कि वह आज इतनी बीमारियों का सामना करने के बाद भी एक्टिव हैं और दिन भर जमकर काम करते हैं.

कोरोना की जंग भी जीत लेंगे, लोगों को है विश्वास

amitabh bachchan


एंग्री यंग मैन से लेकर शहंशाह, बिग बी और महानायक बनने तक अमिताभ बच्चन के लगभग 50 साल के करियर में कई बार उनकी हेल्थ ने उनका साथ छोड़ा है. कई बार ऐसा हुआ है जब अमिताभ अस्पताल में गम्भीर स्थिति में भर्ती हुए और दुनिया भर से फैंस ने उनकी जिंदगी के लिए दुआएं कीं और वो ज़िंदगी की जंग जीतकर फिर अपने फैंस के बीच आए. आज फिर उनके कोरोना संक्रमित होने पर देश ही नहीं, विदेश में भी लोग उनके शीघ्र स्वस्थ होने के लिए प्रार्थना कर रहे हैं, कई जगहों पर तो उनकी सलामती के लिए पूजा पाठ, हवन यज्ञ भी किए जा रहे हैं. ऐसे में सब लोगों को पूरा विश्वास है कि लोगों की दुआओं और बिग बी के जीतने के जज़्बे की फिर जीत होगी और वो जल्द ही स्वस्थ होकर सबके बीच फिर लौटेंगे.


महानायक अमिताभ बच्चन कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. उन्होंने ट्वीट कर खुद इस बात की जानकारी दी है. उन्हें मुम्बई के नानावटी हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है. अमिताभ ने अपने ट्वीट में लिखा है कि उनके परिवार और स्टाफ का भी कोरोना वायरस का टेस्ट किया गया है, जिसकी रिपोर्ट का इंतज़ार किया जा रहा है.

Amitabh Bachchan



जैसे ही अमिताभ को पता चला कि उनका कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया है, वैसे ही उन्होंने ट्विटर पर खुद के कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी दी. ये ट्वीट उन्होंने शनिवार रात करीब 11 बजे किया, जिसमें उन्होंने लिखा है, “मेरा कोरोना वायरस टेस्ट पॉजिटिव पाया गया है और मुझे हॉस्पिटल में शिफ्ट कर दिया गया है. हॉस्पिटल अथॉरिटीज़ को जानकारी दे रही हैं. मेरे परिवार और स्टाफ का भी कोरोना वायरस का टेस्ट किया गया है, जिसकी रिपोर्ट का इंतज़ार किया जा रहा है. साथ ही उन्होंने उन लोगों से भी अपना टेस्ट कराने की रिक्वेस्ट की है, जो उनके संपर्क में आये हैं, ” पिछले 10 दिनों में जो लोग भी मेरे करीब आए हैं, उनसे गुज़ारिश है कि वो अपनी जांच करा लें.”


बता दें कि अमिताभ लगातार सोशल मीडिया के जरिये लोगों से कोरोना के दौरान सेफ रहने की अपील करते रहे हैं. कभी अपनी कविता के ज़रिए तो कभी ट्वीट करके. इसी हफ्ते उन्होंने अपनी आवाज़ में लॉकडाउन पर एक खूबसूरत कविता..’वक़्त ही तो है गुज़र जाएगा…’ शेयर करके लॉकडाउन में लोगों की हौसला अफजाई करने का सराहनीय प्रयास किया था. उनकी ये कविता सोशल मीडिया पर वायरल भी हो रही थी.

Amitabh Bachchan



वर्क फ्रंट की बात करें तो अमिताभ बच्चन बहुत जल्द रणबीर कपूर और आलिया भट्ट की आने वाली फिल्म ‘ब्रह्मास्त्र’ में दिखाई देने वाले हैं. इसके अलावा लॉकडाउन में ही उनकी फिल्म ‘गुलाबो-सिताबो’ ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हुई थी. इस फिल्म में उनके साथ आयुष्मान खुराना लीड रोल में थे. इस फिल्म को मिला-जुला रिस्पॉन्स मिला.
आपको बता दें कि अमिताभ बच्चन इन दिनों अपने पॉपुलर गेम शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ के 12वें एडिशन की तैयारियों में जुटे हुए हैं. हालांकि कोरोना वायरस के मद्देनज़र सीनियर सिटीज़न्स को लेकर महाराष्ट्र सरकार ने काम करने के कुछ दिशा-निर्देश जारी किए हैं. इसमें सीनियर सिटीज़ंस को घर से बाहर निकलकर किसी भी तरह के काम करने की इजाज़त नहीं है. यही वजह है कि बिग बी भी इन दिशा निर्देशों के चलते अपने शो की शूटिंग नहीं कर पा रहे हैं.

News update

अभिषेक में भी कोरोना के लक्षण

Abhishek Bachchan


खबर लिखे जाने तक अभिषेक के भी कोरोना पॉजिटिव
होने की खबर आ रही है और अभिषेक ने भी अपने ट्विटर एकाउंट से इस बात की पुष्टि कर दी है. उन्हें भी उसी हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है.


बता दें कि आज ही एक्ट्रेस रेखा के बंगले सी स्प्रिंग्स का एक सुरक्षाकर्मी कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया, जिसके चलते उनके बंगले को बीएमसी द्वारा सील कर दिया गया है.

जब से अमिताभ के पॉजिटिव होने की खबर आई है, ट्विटर पर सिने जगत, अन्य फील्ड की हस्तियां और उनके फैंस लगातार उनकी सलामती के लिए प्रार्थना कर रहे हैं.
Get well soon Amit ji

फिल्म जगत को एक और बड़ा झटका लगा है. बॉलीवुड के लेजेंडरी एक्टर- कॉमेडियन जगदीप का 81 साल की उम्र में निधन हो गया है. बुधवार देर शाम 8.30 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली. उनके बेटे जावेद जाफरी और नावेद ने उनके निधन की पुष्टि की.

Soorma Bhopali


बॉलीवुड​ फिल्म इंडस्ट्री के सबसे बेहतरीन कॉमेडी कलाकारों में गिने जाने वाले जगदीप की कॉमेडी के आज भी लोग कायल हैं. उन्होंने हिंदी सिनेमा में कॉमेडी जोनर को एक अलग ही मुकाम पर पहुंचाया है. अपने करियर में जगदीप ने न जानें कितनी फिल्मों में कॉमेडी कर दर्शकों को हंसाया. आइए उनसे जुड़ी कुछ और अनसुनी बातें जानते हैं.
– जगदीप का असली नाम सैयद इश्तियाक अहमद जाफरी था, लेकिन
हिंदी सिनेमा उन्हें जगदीप के नाम से ही जानता है.
– 29 मार्च 1929 को मध्यप्रदेश में जन्में जगदीप ने बाल कलाकार के रूप में अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत बीआर चोपड़ा की फ़िल्म ‘अफसाना’ से की थी.
– इसके बाद कई फिल्मों में जगदीप ने बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट काम किया.
– चाइल्ड आर्टिस्ट के रूप में जगदीप को सबसे बड़ा ब्रेक दिया फ़िल्म मेकर बिमल राय ने अपनी फिल्म दो बीघा जमीन से.
– इसके बाद जगदीप ने भाभी और पुनर्मिलन जैसी फिल्मों में न सिर्फ कॉमिक रोल किया, बल्कि कुछ बेहतरीन गाने भी उन पर फिल्माए गए.
– जगदीप को असली पहचान मिली रमेश सिप्पी की फ़िल्म शोले से, जिसमें उनके द्वारा निभाया गया सूरमा भोपाली का किरदार दर्शकों को इतना पसंद आया कि बाद में वे इसी नाम से पहचाने जाने लगे. सूरमा भोपाली के इस किरदार ने जगदीप को हिंदी सिनेमा में एक नई ऊंचाई दी.

Soorma Bhopali


– बाद में सूरमा भोपाली नाम से जगदीप ने एक फ़िल्म भी बनाई, जिसका डायरेक्शन भी खुद जगदीप ने ही किया.
– इसके अलावा फिल्म ‘पुराना मंदिर’ में मच्छर के किरदार और फिल्म ‘अंदाज अपना अपना’ में सलमान खान के पिता के रोल में भी उन्होंने दर्शकों का जबरदस्त मनोरंजन किया था. 
– जगदीप ने करीब 400 फिल्मों में काम किया था और पूरी ज़िंदगी सबको हंसाते रहे.

Soorma Bhopali


– फिल्म ‘हम पंछी एक डाल के’ में उनके काम को लोगों ने काफी सराहा था और भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने भी जगदीप की तारीफ की थी. 
– जगदीप की पर्सनल लाइफ की बात करें तो उन्होंने तीन शादियां की थीं. उनकी पहली पत्नी का नाम नसीम बेगम, दूसरी पत्नी का नाम सुघ्र बेगम और तीसरी पत्नी का नाम नजीमा है.
– जगदीप की तीन शादियों से 6 बच्चे हैं. बेटा हुसैन जाफरी (पहली पत्नी), जावेद जाफरी और नावेद जाफरी (दूसरी पत्नी), तो वहीं दो बेटियां शकीरा शफी और सुरैया जाफरी (पहली पत्नी) और मुस्कान (तीसरी पत्नी) हैं.

Soorma Bhopali


– जावेद जाफरी और नावेद जाफरी एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री का जाना माना चेहरा हैं.
– जगदीप का अंतिम संस्कार उनके घर के पास सुबह 8 बजे उनके परिजनों और बेहद करीबी लोगों के बीच किया जाएगा.

बॉलीवुड की मास्टर जी यानी सरोज खान नहीं रहीं. कार्डियक अरेस्ट के चलते उनका निधन हो गया है. बीती रात 1.52 पर उन्होंने अंतिम सांस ली. सरोज खान को सांस लेने में तकलीफ के बाद 17 जून को मुंबई के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था, तब से उनकी हालत नाजुक बनी हुई थी. 71 साल की सरोज खान पिछले 40 साल से फिल्म इंडस्ट्री में एक्टिव थीं और लगभग 2000 गाने कोरियोग्राफ कर चुकी थीं. उन्होंने अपने करियर की शुरुआत साल 1974 में आई फिल्म ‘गीता मेरा नाम’ से की थी. सरोज खान ने श्रीदेवी से लेकर माधुरी दीक्षित तक को अपनी ताल पर नचाया और उन्हें बेहतरीन डांसर बनाया. इतना ही नहीं सरोज खान ने सलमान, शाहरुख और संजय दत्त को भी डांस करना सिखाया था.

Saroj Khan

सरोज खान का बचपन
22 नवंबर, 1948 को हिंदू परिवार में जन्मी सरोज खान का असली नाम निर्मला किशनचंद्र संधु सिंह नागपाल था. उनका जन्म साल किशनचंद संधु सिंह और नोनी ​संधु सिंह के घर में हुआ था. बंटवारे के बाद उनका परिवार पाकिस्तान से मुंबई आ गया था.

बड़ी दर्द भरी रही सरोज खान की ज़िंदगी

Saroj Khan


बॉलीवुड में जब कोई एक्टर या एक्ट्रेस बहुत अच्छा डांस करते हैं तो हर कोई उनके जैसे ही थिरकना चाहता है, लेकिन कोई ये नहीं जानता कि उन्हें इस तरह से नचाने वाले कोरियोग्राफर की जिंदगी में भी दर्द होता है, तकलीफें होती हैं. कुछ ऐसा ही हुआ था मास्टर जी सरोज खान के साथ. उनकी जिंदगी में बहुत ज्यादा उतार-चढ़ाव रहे. 13 साल की उम्र में इस कोरियोरग्राफर ने समाज और परिवार के खिलाफ जाकर शादी कर ली, लेकिन इस शादी में भी उन्हें धोखा ही मिला.

13 साल की उम्र में सरोज खान ने 43 साल के आदमी से की थी शादी

Saroj Khan

पैसों की तंगी के चलते सिर्फ 3 साल की उम्र में सरोज ने काम करना शुरू कर दिया था. बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट अपने करियर की शुरुआत उन्होंने फिल्म ‘नजराना’ से की थी. 50 के दशक में उन्होंने कई फिल्मों में बतौर बैकग्राउंड डांसर भी काम किया था. इसके बाद उन्होंने फिल्म कोरियोग्राफर बी. सोहनलाल से डांस की ट्रेनिंग ली थी.
आपको यह जानकर हैरानी होगी कि स्कूल जाने की उम्र में सरोज ने 43 साल के डांसर सोहनलाल से शादी कर ली थी, जिसके पहले ही 4 बच्चे थे. उस समय सरोज की उम्र महज़ 13 साल थी. दरअसल हुआ यूं कि एक दिन उनके गुरु सोहनलाल ने उनके गले में एक काला धागा बांध दिया और जब उन्होंने घर आकर ये बात सबको बताई तो उनके घरवालों ने कहा कि अब तुम्हारी शादी हो गई और अब तुम्हें उनके साथ ही रहना होगा.
एक इंटरव्यू में सरोज खान ने बताया था कि जब मेरी शादी हुई, उस वक्त मैं स्कूल जाया करती थी. मुझे शादी के मायने भी नहीं पता थे. मास्टर सोहनलाल ने उनके गले में एक धागा बांध दिया और उन्हें लगा कि उनकी शादी हो गई है. इस शादी के लिए उन्होंने इस्लाम कुबूल कर लिया था.

पति ने बच्चों को नाम देने से इनकार कर दिया था

सरोज से शादी के वक्त सोहनलाल ने अपनी पहली शादी की बात नहीं बताई थी, जबकि पहली शादी से उन्हें चार बच्चे भी थे. 1963 में सरोज खान के बेटे राजू खान का जन्म हुआ तब उन्हें सोहनलाल की शादीशुदा जिंदगी के बारे में बता चला. 1965 में सरोज ने दूसरे बच्चे को जन्म दिया, जिसकी 8 महीने बाद ही मौत हो गई. बच्चों के जन्म के बाद सोहनलाल ने उन्हें अपना नाम देने से इनकार कर दिया. इसके बाद दोनों के बीच दूरियां आ गईं. सरोज की एक बेटी कुकु भी हैं. सरोज ने दोनों बच्चों की परवरिश अकेले ही की. बाद में उन्होंने सरदार रोशन खान से दूसरी शादी की. दोनों की एक बेटी सुखाना खान है.

छोटी सी उम्र में नेम फेम सब मिला

Saroj Khan

30 साल की उम्र में ही सरोज को नेम फेम सब कुछ मिला. फिल्म ‘तेजाब’ के सुपरहिट डांस नम्बर ‘एक दो तीन….’ को कोरियोग्राफ करने के बाद फिल्मफेयर में बेस्ट कोरियोग्राफर की एक अलग कैटेगरी बनाई गई और उऩ्हें सबसे पहला अवॉर्ड दिया गया था. सरोज खान बॉलीवुड की सबसे पॉपुलर डांसर डाइरेक्टर थीं और उन्होंने कई एक्ट्रेसेस को डांस सिखाया था. इसके अलावा इनका एक डांस इंस्टिट्यूट भी है.

सरोज बेबाक थीं और सख्त भी

Saroj Khan

सरोज खान को ये बात बिल्कुल पसन्द नहीं थी कि कोई उनकी मिमिक्री भी करे, लेकिन अगर फिर भी उन्हें मजाक के पात्र बनाया गया, तो इस पर उन्होंने खुलकर गुस्सा जाहिर भी किया. हालांकि पिछले कुछ समय से उन्होंने बॉलीवुड में डांस सिखाना छोड़ दिया था, मगर कभी-कभी किसी रिएलिटी शोज में बहुत रिक्वेस्ट पर मेहमान बनकर आ जाती थीं. सरोज खान अपनी बेबाकी के लिए भी जानी जाती थीं. कुछ समय पहले ही उन्होंने कास्टिंग काउच पर बयान देकर खुद को बुरी तरह फंसा दिया था. उन्होंने कहा था कि कास्टिंग काउच इंडस्ट्री में कोई नई बात नहीं है, ये सब बाबा आदम के जमाने से होता आया है. मगर यहां पर किसी के साथ गलत करने पर उसे यूं ही छोड़ा नहीं जाता, बल्कि उसे रोटी, कपड़ा और मकान की सुविधा जरूर दी जाती है. 

इन एक्ट्रेस को सिखाया डांस

Saroj Khan

बॉलीवुड मे शायद ही ऐसा कोई बड़ा स्टार हो जिसे सरोज ने डांस न कराया हो. हर किसी को अपनी ताल पर नचाने वाली सरोज पूरे देश में डांस मास्टर के नाम से जानी जाती थीं. सरोज खान बॉलीवुड में दो हजार से ज्यादा गाने कोरियोग्राफ कर चुकी थीं. वैजयंतीमाला, साधना, शर्मिला टैगोर,  हेलन, जीनत अमन  वहीदा रहमान से लेकर रेखा, श्रीदेवी, माधुरी दीक्षित, करिश्मा, उर्मिला टैगोर, ऐश्वर्या राय, करीना कपूर और सनी लियोनी जैसी एक्ट्रेसेस ने सरोज खान से डांस सीखा था. पहले श्रीदेवी और बाद में माधुरी दीक्षित के साथ उनकी जोड़ी काफी जमी.

Saroj Khan


सरोज खान आठ फिल्मफेयर सहित अमेरिकन कोरियोग्राफी अवॉर्ड भी जीत चुकी थीं. इसके अलावा फ़िल्म ‘देवदास’ के ‘डोला रे डोला’, फ़िल्म ‘जब वी मेट’ के ‘ये इश्क हाय’ और फ़िल्म ‘श्रृंगारम’ के सभी गानों के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित हो चुकी थीं.