brand ambassador

भारत देश के रियल हीरो के तौर पर उभरे बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) अब भारत के एथलीट्स की अगुवाई करते नज़र आएंगे. सोनू के सानिध्य में एथलीट्स का मनोबल अब और ज्यादा बढ़ जाएगा. सोनू सूद (Sonu Sood) ने खुद ही इस बात का अनाउंसमेंट करते हुए कहा है कि, वो अब ओलंपिक विश्व शीतकालीन खेलों (Special Olympic World Winter Games)  में भारतीय टीम का हिस्सा बनने जा रहे हैं. 

Sonu Sood
फोटो सौजन्य – इंस्टाग्राम

सोनू सूद (Sonu Sood) अपने इस नए रोल को लेकर काफी ज्यादा एक्साइटेड हैं. उन्होंने कहा कि, “आज का दिन बहुत ही ज्यादा खास है. मैं इस गेम का अहम हिस्सा बनकर बहुत ज्यादा खुश हूं. इसके लिए मैं अपने आप को काफी खुशनसीब मान रहा हूं.” ये भी पढ़ें : Bigg Boss OTT : न्यूड योगा करने के लिए मिला था ऑफर, एक्स कंटेस्टेंट विवेक मिश्रा ने किया कंफर्म (Bigg Boss OTT : Was Offered To Do Nude Yoga, Ex-Contestant Vivek Mishra Confirmed)

Sonu Sood
फोटो सौजन्य – इंस्टाग्राम

अपने इस रियल लाइफ के इतने बड़े गौरवान्वित किरदार को पाने के बाद सोनू ने सभी स्पेशल एथलीट से खासतौर पर बातचीत की. उनके हर सवाल का सोनू ने बड़ी ही विनम्रता से जवाब दिया. बता दें कि यहां सोनू सूद (Sonu Sood) का रोल एक ब्रांड एम्बेसडर का होगा. वो देश की स्पेशल एथलीट टीम को लीड करेंगे, क्योंकि वर्ल्ड विंटर गेम्स में देश का प्रतिनिधित्व करने जा रहे हैं सोनू सूद.

Sonu Sood
फोटो सौजन्य – इंस्टाग्राम

सोनू सूद (Sonu Sood) ने कहा कि, “मैं खुद को बहुत खुशनसीब मानता हूं कि मैं अपनी टीम के साथ स्पेशल ओलंपिक वर्ल्ड विंटर गेम्स का हिस्सा बनूंगा. मैं अपने एथलीटों का हौसला बढ़ाऊंगा ताकि वो अपना बेस्ट दे पाएं और हमेशा उनको सपोर्ट करता रहूंगा. उनके सपोर्ट को लेकर मेरी गूंज भारत तक आएगी.” ये भी पढ़ें : Raj Kundra Case : राज कुंद्रा की बढ़ी मुश्किल, एप से मिली 51 अश्लील फिल्में, शिल्पा शेट्टी पर भी गहराया शक (Raj Kundra Case: Raj Kundra’s Troubles Increased, 51 porn Movies Found From The App, Doubts Also Deepened On Shilpa Shetty)

Sonu Sood
फोटो सौजन्य – इंस्टाग्राम

जानकारी हो कि ये गेम्स हर दो साल में ऑर्गेनाइज किए जाते हैं. अब जो इसका अगला एडिशन होगा, वो जनवरी 22-28, 2022 को होगा. सोनू सूद (Sonu Sood) का इसमे स्वागत करते हुए चेयरपर्सन डॉक्टर मल्लिका ने कहा, “सोनू सूद ने स्पेशल ओलंपिक परिवार में शामिल होने के हमारे निमंत्रण को स्वीकार कर लिया, इसके लिए मैं उनका आभार व्यक्त करना चाहता हूं. भारते की मूवमेंट को एक अलग डायरेक्शन पर ले जाने में सोनू सूद का काफी महत्वपूर्ण योगदान होगा.” ये भी पढ़ें : तो इसलिए अब सोनू निगम नहीं करते सिंगिंग रियलिटी शो को जज, बोले-“मुझे कोई नहीं बताएगा कि मुझे कैसा बर्ताव करना है ” (So That’s Why Now Sonu Nigam Does Not Judge The Singing Reality Show, Said – “No One Will Tell Me How To Behave”)

Sonu Sood
फोटो सौजन्य – इंस्टाग्राम

हाल ही में सोनू सूद ने अपना 48वां बर्थडे सेलिब्रेट किया है. इस दौरान उन्हें हर किसी ने बधाई दी. उनके लिए जिस कदर लोगों के दिलों में प्यार और अपनापन है उसे कहने की जरूरत नहीं. उन्हें जन्मदिन की बधाई देने के लिए उनके घर पर चाहने वालों की भीड़ उमड़ पड़ी. सोनू ने अपने किसी भी चाहने वालों का दिल नहीं तोड़ा. हर किसी के तोहफे को उन्होंने सच्चे दिल से एक्सेप्ट किया. 

यदि नियमों में बदलाव किए जाएं और मुझे आंखों पर पट्टी बांधकर क्रिकेट खेलने की अनुमति मिल जाए, तो भी मैं इतना बेहतरीन क्रिकेट कभी नहीं खेल पाऊंगा, जितना ये तमाम क्रिकेटर्स खेलते हैं… ये बात कही भारतीय क्रिकेट की दीवार कहे जानेवाले राहुल द्रविड़ ने. आख़िर क्यों कहा उन्होंने ऐसा, आइए जानें-

Rahul Dravid (2)

  • दरअसल भारत की मेज़बानी में अगले वर्ष होनेवाले नेत्रहीन टी20 वर्ल्ड कप के लिए के लिए भारतीय नेत्रहीन क्रिकेट संघ यानी सीएबीआई ने राहुल द्रविड़ को अपना ब्रांड एंबेसेडर बनाया है.
  • इस अवसर पर राहुल ने अपने मन की बात कही, “मैं नेत्रहीन क्रिकेट खेलने के लिए सक्षम ही नहीं हूं. उनकी क्षमताएं असाधारण हैं.”
  • गौरतलब है कि यह टूर्नामेंट 28 जनवरी से 12 फरवरी तक चलेगा. टूर्नामेंट का उद्घाटन समारोह नई दिल्ली में और ग्रांड फिनाले बैंगलुरू में होगा.
  • इसमें 10 देश हिस्सा ले रहे हैं- इंडिया, ऑस्ट्रेलिया, नेपाल, न्यूज़ीलैंड, बांग्लादेश, श्रीलंका, साउथ अफ्रीका, वेस्ट इंडीज़, इंग्लैंड और पाकिस्तान.

rahul-dravid-1

  • राहुल द्रविड़ ने ब्लाइंड क्रिकेट के भविष्य पर बात करते हुए कहा कि कुछ समय पहले तक जागरूकता, सुविधाओं व संभावनाओं की कमी के चलते यह अधिक पॉप्युलर नहीं था, लेकिन पिछले 4-5 सालों में इसका काफ़ी विस्तार हुआ है और अब यह सही दिशा में आगे बढ़ रहा है.
  • मैं उन लोगों को धन्यवाद देना चाहता हूं, जो इस पर काम कर रहे हैं और इसे आगे बढ़ाने की दिशा में मेहनत कर रहे हैं. ख़ासतौर से सीएबीआई के अध्यक्ष जीके महंतेश से मुझे काफ़ी कुछ सीखना है, क्योंकि उनकी उपलब्धियां मेरी उपलब्धियों से बड़ी हैं. मैं स़िर्फ जागरूकता पैदा कर सकता हूं, जबकि उन्होंने ब्लाइंड क्रिकेट का काफ़ी विकास किया है.

– गीता शर्मा

×