casting couch

कंगना रनौत अपने बेबाक बयानों के लिए हमेशा चर्चा में रहती हैं. इस बार कंगना रनौत ने कास्टिंग काउच को लेकर बड़ा खुलासा किया है. कंगना रनौत ने अपने एक इंटरव्यू में कहा है कि सफल अभिनेत्रियों को भी फिल्म पाने के लिए डायरेक्टर और एक्टर को खुश करना पड़ता है. कंगना के इस बयान में कितनी सच्चाई है, आइए जानते हैं.

Kangana Ranaut

कंगना रनौत ने कहा, “सुपरस्टार्स चाहते हैं कि एक्ट्रेस सेट पर उनके साथ पत्नी की तरह व्यवहार करे”
कंगना रनौत ने एक बार फिर अपने बयान से सबको चौंका दिया है. इस बार कंगना ने कास्टिंग काउच को लेकर एक बड़ा खुलासा किया है. कंगना ने टाइम्स नाउ को दिए गए अपने इंटरव्यू में कास्टिंग काउच पर खुलकर बात की और कई बड़े खुलासे भी किए. कंगना रनौत ने अपने इंटरव्यू में कहा कि सफल अभिनेत्रियों को भी फिल्म पाने के लिए डायरेक्टर और एक्टर को खुश करना पड़ता है. कंगना ने ये भी बताया कि सुपरस्टार्स चाहते हैं कि एक्ट्रेस सेट पर उनके साथ पत्नी की तरह व्यवहार करे.

सफल एक्ट्रेस पर भी प्रेशर रहता है
कंगना रनौत ने टाइम्स नाउ को दिए गए अपने इंटरव्यू में कहा, “मैं ये नहीं कहती कि मैं सबको जनरलाइज कर रही हूं, लेकिन मैं जिससे भी मिली हूं, ए लिस्ट, बी लिस्ट और बड़े सुपरस्टार्स… वे सभी यही उम्मीद करते हैं कि एक्ट्रेस उनके साथ पत्नी जैसा व्यवहार करे. अगली फिल्म आती है, तो अगला हीरो आता है, यह इंडसट्री का सच है.” कंगना ने अपने इंटरव्यू में परवीन बॉबी और जीनत अमान का जिक्र करते हुए कहा कि उनके साथ जो हुआ हम उसे झुठला नहीं सकते.

यह भी पढ़ें: कंगना रनौत ने अपने टूटे ऑफिस की तस्वीरें शेयर कर कहा- ये बलात्कार है मेरे सपनों का (Kangana Ranaut Shares Pictures Of Her Demolished Office, Writes ‘This Is Rape Of My Dreams, My Future’)

Kangana Ranaut

कंगना रनौत ने जाया बच्चन के लिए कहा ये
कंगना रनौत ने हाल ही में ट्वीट करके जया बच्चन पर निशाना साधा. जाया बच्चन के इस बयान पर कि जिस थाली में खाते हैं, उसी पर छेद करते हैं, कंगना ने ट्वीट करके कहा कि उन्होंने बॉलीवुड को कौन सी थाली दी है. साथ ही ये भी कहा कि एक थाली तो वो है जहां पर एक अभिनेत्री को एक आइटम सॉन्ग दिया जाता है, और छोटे रोल के लिए भी एक्टर के साथ सोना पड़ता है.

यह भी पढ़ें: कंगना रनौत को उर्मिला मातोंडकर ने फिर दिया जवाब- बोली, रुदाली कहने का कोई पछतावा नहीं, कंगना ने कहा ये (Urmila Matondkar On Calling Kangana Ranaut ‘Rudali’: ‘If It Was Offensive, Have No Qualms In Saying I Am Sorry’)

कंगना रनौत से पहले ये अभिनेत्रियां भी उठा चुकी हैं कास्टिंग काउच के खिलाफ आवाज़
कुछ समय पहले जब देशभर में ‘मी टू’ की मुहिम चली थी, उस समय कई अभिनेत्रियों ने आगे आकर कास्टिंग काउच का मुद्दा उठाया था. एक्ट्रेस राधिका आप्टे, कल्कि कोचलिन, टिस्का चोपड़ा, स्वरा भास्कर जैसी कई अभिनेत्रियां कास्टिंग काउच के बारे में खुलकर बोल चुकी हैं. अब कंगना रनौत ने एक बार फिर बॉलीवुड में कास्टिंग काउच का मुद्दा उठाया है.

कंगना रनौत के इस बेबाक बयान के बारे में आपका क्या कहना है, हमें कमेंट करके जरूर बताएं.

कास्टिंग काउच फ़िल्म इंडस्ट्री के लिए कोई नई बात नहीं है। फिल्मों में रोल देने के बदले प्रोड्यूसर डायरेक्टर द्वारा सेक्सुअल फ़ेवर की मांग करने के बारे में पहले भी कई स्टार्स खुलासा कर चुके हैं। अचरज की बात ये है कि कास्टिंग काउच का शिकार सिर्फ हीरोइन ही नहीं, बल्कि हीरो भी होते हैं।
रणवीर सिंह सहित कई हीरो इससे पहले भी इस बारे में खुलकर बोल चुके हैं और अब आयुष्मान खुराना ने भी अपने साथ हुए कास्टिंग काउच के बारे में खुलकर बोला है।

Ayushmann Khurana

आयुष्मान खुराना बॉलीवुड के उन चुनिंदा एक्टर्स में से हैं, जो हमेशा लीक से हटकर फिल्में करते हैं और उनकी हर फिल्म दर्शक को पसन्द भी आती है। उनकी पिछली सात फिल्में हिट रही हैं।
लेकिन उनके लिए भी यहां तक पहुंचने का सफर बहुत आसान नहीं रहा। उन्हें भी इंडिसेंट प्रपोजल से गुजरना पड़ा। हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने इस बारे में बताया,
“शुरुआती दौर में मैं एक फिल्म के लिए कास्टिंग डायरेक्टर से मिला था। जब रोल के लिए बातचीत होने लगी तो उसने मुझे कहा, मैं तुम्हें लीड रोल दूंगा, लेकिन इसकी एक शर्त होगी। ये रोल तभी आपको मिलेगा जब तुम मुझे अपना टूल दिखाओ। मैं उसकी बात सुनकर सन्न रह गया। पहले तो समझा ही मुझे कि ये क्या कह रहा है और क्यों कह रहा है। जब मुझे समझ आया कि ये सेक्सुअल फ़ेवर चाहता है मुझसे, तो मैंने उससे कहा कि आप जैसा समझ रहे हैं, मैं वैसा नहीं हूं। मैं स्ट्रेट हूं और मेरी दिलचस्पी महिलाओं में है। मैंने उसका प्रपोज़ल ठुकरा दिया और वहां से निकल आया। हालांकि इसके बाद कई दिनों तक मुझे अजीब सा फील होता रहा, लेकिन मुझे कोई शिकायत नहीं। बिना किसी को फ़ेवर किये भी मैंने अच्छी फिल्में कीं और लोगों में मुझे पसन्द भी किया।

Ayushmann Khurana

बता दें कि आयुष्मान खुराना ने साल 2012 में स्पर्म डोनेशन जैसे विषय पर बनी ‘विकी डोनर’ से डेब्यू किया था। पहली फिल्म से ही आयुष्मान खुराना को पहचान मिल गई थी। इसके बाद उनकी फिल्में ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’, ‘ड्रीम गर्ल’, ‘बाला’, ‘आर्टिकल 15’, ‘बधाई हो’, ‘अंधाधुन’, ‘बरेली की बर्फी’, ‘दम लगा के हईशा’ सभी हिट रहीं।