Tag Archives: celeb

डांस स्कूल में लड़कियों से घिरे रहते थे बर्थडे बॉय सुशांत (Happy Birthday Sushant Singh Rajput)

Sushant Singh Rajput

Sushant Singh Rajput

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) इस बात के जीते-जागते उदाहरण हैं कि अगर कोई कड़ी मेहनत करे तो नामुमक़िन कुछ भी नहीं होता. एक छोटे से शहर से आए लड़के ने बिना किसी गॉड फादर के बॉलीवुड में अपनी जगह बनाई. सुशांत की गिनती बॉलीवुड के लीडिंग एेक्टर्स में होती है. आज वे 31 वर्ष के हो गए. उनके जन्मदिन के अवसर पर हम उनकी प्रेरणास्पद सफर की एक झलक पेश कर रहे हैं.

सुशांत का जन्म पटना में हुआ था. दूसरे लड़कों की तरह वो भी इंजीनियर बनना चाहता था. यहां तक कि उसने दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से तीन साल मेकैनिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई भी की, फिर उसे एहसास हुआ कि उसे एेक्टिंग की दुनिया बुला रही है. फिर क्या उसने इंजीनियरिंग की पढ़ाई छोड़ दी और ग्लैमर की दुनिया में प्रवेश के लिए कोशिश करने लगा. इसके लिए एेक्टिंग क्लासेज़ से लेकर डांस ट्रेनिंग तक, उसने सब कुछ किया. सुशांत को सबसे पहला ब्रेक टीवी के लोकप्रिय सीरियल पवित्र रिश्ता में मिला. फिर टीवी से फिल्मों तक का सफर सुशांत ने तय किया.

Sushant Singh Rajput

डांस स्कूल में लड़कियों से घिरे रहते थे सुशांत
सुशांत के अनुसार, वे डांस सीखना चाहते थे और उनके इंजीनियरिंग क्लास में एक भी लड़की नहीं थी इसलिए उन्होंने दिल्ली में श्यामक दावर का डांस क्लास ज्वॉइन किया. उन्होंने बॉलीवुड के बहुत से इवेंट्स और अवॉर्ड सेरेमनीज़ में बैकग्राउंड डांसर के रूप में काम किया. उन्होनें बैरी जॉन का ड्रामा क्लास ज्वॉइन किया और यही से उन्हें एेक्टिंग की लत लगी. वे वर्ष 2005 में 51 फिल्मफेयर अवॉर्ड सेरेमनी के डांस ट्रूप में थे.

सुशांत ने ढ़ाई साल तक थियेटर किया
वे दिल्ली से मुंबई शिफ्ट हुए और उन्होंने नादिरा बब्बर का थियेटर ग्रुप ज्वॉइन किया. इस दौरान उन्होंने बहुत से टीवी कमर्शियल में भी काम किया.

यह भी पढ़ें: तैमूर के व्यवहार से परेशान हैं सैफ, जानिए क्यों? 

Sushant Singh Rajput

सुशांत का टीवी जगत में प्रवेश
हालांकि सुशांत नें किस देश में है मेरा दिल नाम के सीरियल में एक छोटे से रोल के साथ प्रवेश किया, उनका किरदार प्रीत जुनेजा बहुत लोकप्रिय गया.

बालाजी के कास्टिंग टीम की नज़र उन पर पड़ी
वर्ष 2009 में  सुशांत को टीवी में बड़ा ब्रेक अंकिता लोखंडे के विपरीत पवित्र रिश्ता नामक सीरियल से मिला. देखते ही देखते यह सीरियल बहुत लोकप्रिय हो गया, लेकिन उससे भी ज़्यादा चर्चे में आया अंकिता व सुशांत की लव स्टोरी.

 

Sushant Singh Rajput

झलक दिखला जा में सुशांत में दिखाया डांसिंग का हूनर
साल्सा, टैंगो से लेकर रुंमा तक, सुशांत ने झलक दिखला जा सीज़न 4 में हर तरह का डांस किया और वे फर्स्ट रनरअप भी बने. फिल्ममेकिंग कोर्स करने के लिए उन्होंने 2011 में टेलीविजन छोड़ दिया.

सुशांत को काई पो चे से मिला बॉलीवुड में ब्रेक
चेतन भगत के उपन्यास पर आधारित फिल्म काई पो चे के साथ सुशांत ने बॉलीवुड में कदम रखा. यह फिल्म हिट रही और सबसे उनके किरदार को ख़ूब सराहा गया. उसके बाद सुशांत ने पीछे मुड़कर नहीं देखा. उन्होंने शुद्ध देसी रोमांस, ब्योमकेस बक्शी सहित तरह-तरह के जोनर वाली फिल्में की, लेकिन एम एस धोनी की ज़िंदगी पर आधारित फिल्म एमएस धोनी एन अनटोल्ड स्टोरी उनके करियर की सबसे बड़ी हिट साबित हुई, यह तो बस शुरुआत है, इस टैलेंटेड एक्टर के लिए संभावनाएं बहुत हैं. सुशांत को जन्मदिन की ढेरों बधाइयां!

 

 

भारती ने शेयर की हर्ष के साथ हनीमून और क्रिसमस सेलिब्रेशन की रोमांटिक पिक्चर (Bharti Shares Romantic Pictures With Hubby Haarsh)

Bharti Singh, Romantic Pictures, Haarsh

Bharti Singh, Romantic Pictures, Haarsh

भारती ने शेयर की हर्ष के साथ हनीमून और क्रिसमस सेलिब्रेशन की रोमांटिक पिक्चर (Bharti Shares Romantic Pictures With Hubby Haarsh)

  • कमेडियन भारती सिंह (Bharti Singh) की हाल ही में शादी हुई है और उसके बाद अब वो चल पड़ी हैं अपने हनीमून (Honeymoon) पर.
  • जी हां, शादी के बाद भारती के वर्क कमिटमेंट्स को लेकर उन्हें अपना हनीमून पोस्टपोन करना पड़ा और अब वो बेहद ख़ुश हैं कि आख़िर वो हर्ष के साथ हनीमून पर हैं, वो भी पूरे 1 महीने के लिए.
  • जी हां, बिल्कुल सही पढ़ा आपने. भारती और हर्ष इस दौरान कई जगहों की सैर करेंगे, जिसकी शुरुआत उन्होंने की है दुबई (Dubai) से और उसके बाद वो करेंगे यूरोप (Europe) की सैर.
  • भारती ने पहले ही कहा था कि इस दौरान वो कोई भी फोन कॉल्स रिसीव नहीं करेंगे. भारती ने हर्ष के साथ अपनी रोमांटिक पिक्चर्स सोशल मीडिया पर शेयर की… साथ ही बेहद प्यारा और रोमांटिक मैसेज भी डाला

यह भी पढ़ें: Star Kids: तैमूर चले क्रिसमस मनाने, बहन इनाया की क्यूट पिक 

तैमूर चल पड़े हैं पटौदी अपना फर्स्ट बर्थडे सेलिब्रेट करने… (Papa Saif & Mommy Kareena Leave With Taimur For First Birthday At Pataudi Palace)

Taimur, First Birthday, Pataudi Palace

Taimur, First Birthday, Pataudi Palace
छोटे नवाब का बर्थडे बस आने ही वाला है, ऐसे में सभी एक्साइटेड हैं, क्योंकि छोटे नवाब हैं सबके फेवरेट. यही वजह है कि मीडिया क्यूट तैमूर का एक भी पिक्चर मिस नहीं करना चाहता, तो यहां हम लाए हैं तैमूर की लेटेस्ट पिक, जहां वो मॉमी करीना और पापा सैफ के साथ एयरपार्ट पर क्लिक हुए. ये सभी पटौदी जा रहे हैं, क्योंकि तैमूर का फर्स्ट बर्थडे होगा बेहद ख़ास…

Taimur, First Birthday, Pataudi Palace

Taimur, First Birthday, Pataudi Palace

Taimur, First Birthday, Pataudi Palace

Taimur, First Birthday, Pataudi Palace

यह भी पढ़ें: Cuteness Overloaded: झूला झूलते हुए बेहद प्यारे लग रहे हैं तैमूर

आज मैं अपने सपने को जी रही हूं… श्‍वेता मेहता: फिटनेस एथलीट/रोडीज़ राइज़िंग 2017 विनर (I Am Living My Dream: Shweta Mehta- Fitness Athlete/Roadies Rising 2017 Winner)

Shweta Mehta, Fitness Athlete, Roadies Rising 2017 Winner

हर नज़र में सवाल था, हर लफ़्ज़ पर ख़ामोशी… मुझसे मेरा वजूद पूछ रहा था, कितनी तन्हा है तू और कितनी है टूटी… मैंने अपने ख़्वाबों की धड़कनों को सुना, तो हर आहट में एक और नया सपना बुना… देखनेवाले देखते रह जाएंगे, मैंने फूलों को नहीं, है कांटों को चुना… हर मोड़ पर उलझी हूं मैं, हर राह पर अपना ही अक्स देखा है मैंने… वजूद मेरा इतना कमज़ोर नहीं, सूरज में तपकर रातों में चलना सीखा है मैंने…
ये पंक्तियां ख़ासतौर से हमने एक ऐसी शख़्सियत के मुकम्मल व्यक्तित्व को बयां करने के लिए लिखी हैं, जो शब्दों से परे है… अपने सपनों को उसने अपने हौसलों से जीवंत किया और आज हर ज़ुबान से उसका नाम बेहद सम्मान और गर्व से लिया जाता है. हम बात कर रहे हैं फिटनेस एथलीट और रोडीज़ राइज़िंग 2017 की विनर (Roadies Rising 2017 Winner) श्‍वेता मेहता (Shweta Mehta) की. क्या कुछ महसूस करती हैं श्‍वेता अपनी इस मुश्किल, लेकिन ख़ूबसूरत जर्नी के बारे में, ख़ुद उनसे ही पूछ लेते हैं…

Shweta Mehta, Fitness Athlete, Roadies Rising 2017 Winner

एक आईआईटी प्रोफेशनल से फिटनेस एथलीट तक का सफ़र ज़ाहिर है आसान नहीं रहा होगा?
जी हां, आसान तो नहीं था और वैसे भी जो आसानी से मिल जाए, उसकी क़ीमत भी कहां समझ पाते हैं हम. अगर मैं अपनी बात करूं, तो एक अच्छी-ख़ासी नौकरी थी, सभी पैरेंट्स की तरह मेरे भी पैरेंट्स चाहते थे कि शादी होकर बेटी सेटल हो जाए. अच्छा घर हो, बेहतर ज़िंदगी हो… लेकिन मुझे यह मंज़ूर नहीं था. मैं कुछ अलग करना चाहती थी. यही वजह है कि आज मैं अपने सपने को जी रही हूं.

क्या आप बचपन से ही फिटनेस फ्रीक थीं?
आप शायद विश्‍वास भी नहीं करेंगे कि मैंने जिम जाना मात्र 3 साल पहले ही शुरू किया था. इस बीच मैंने लगभग 5-6 कॉम्पटीशन्स जीते. आज फिटनेस मेरी पहचान बन चुकी है, वरना एक समय था जब मैं बैक पेन से बेहद परेशान थी और मेरा 12 घंटे का डेस्क जॉब इस दर्द को और बढ़ा रहा था. मुझे एक्सरसाइज़ करने का समय ही नहीं मिलता था, लेकिन मेरे लिए यह ज़रूरी हो गया था कि सेक्योर फ्यूचर, जॉब, सैलरी के मायाजाल से बाहर निकलूं. मैंने हिम्मत की और आज रिज़ल्ट सबके सामने है.

घरवालों की क्या प्रतिक्रिया थी?
ज़ाहिर है कि शुरुआत में तो वो भी थोड़े से परेशान हुए थे. मेरी बिकनी में पिक्चर्स देखकर मॉम को थोड़ा बुरा लगा था, क्योंकि आस-पड़ोसवाले, रिश्तेदार, समाज के लोग उन्हें ताने भी देते थे कि क्या तुम्हारी बेटी नाइट क्लब में काम करती है, जो ऐसे कपड़े पहनती है… लेकिन मैं ख़ुशनसीब हूं कि मेरे पैरेंट्स ने मुझे बहुत सपोर्ट किया, जबकि मैं हरियाणा से हूं और मैंने पहले कभी स्लीवलेस ड्रेस तक नहीं पहना था. पापा को भी स्किन रिवीलिंग कपड़े पसंद नहीं थे. उसके बावजूद भी मेरे पैरेंट्स ने स़िर्फ मुझे सपोर्ट किया, बल्कि लोगों की बहुत-सी बातें मुझ तक पहुंचने तक नहीं दीं कि कहीं मैं निराश न हो जाऊं. यह ज़रूर था कि उन्होंने मुझे एक बात कही थी कि हम अगर तुम्हें सपोर्ट कर रहे हैं, तो तुम्हारी ज़िम्मेदारी बनती है कि तुम कुछ बनकर दिखाओ. फिर रोडीज़ में भी मैं ऑडिशन्स में सिलेक्ट नहीं हुई थी, तो उनका कॉन्फिडेंस थोड़ा हिला हुआ ज़रूर था, लेकिन मेरे भाई को मुझ पर भरोसा था, तो मैंने फिर क़िस्मत आज़माई और मैं न स़िर्फ सिलेक्ट हुई, बल्कि विनर भी बनी.

अब समाज के लोगों की क्या प्रतिक्रिया रहती है?
जो लोग ताने मारते थे, आज वही सम्मान देते हैं. मैंने हिम्मत नहीं हारी, न अपना रास्ता बदला, बल्कि बदले वो लोग, जो मुझे और मेरे परिवार को बातें सुनाते थे. समाज ने अपनी सोच बदली, इसी तरह लोगों को अपना नज़रिया बदलना चाहिए. जब तक वो नहीं बदलेंगे, इसी तरह से चीज़ें चलती रहेंगी.
मेरा निजी अनुभव है, मेरी मम्मी टीचर हैं और वो अक्सर मुझे कहती थीं कि अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर बिकनी की पिक्चर्स डिलीट कर दे… मैं जानती हूं कि उन्हें क्या-क्या नहीं सुनना पड़ता होगा, लेकिन मैं दूसरों के लिए अपने सपने नहीं तोड़ना चाहती थी, मुझे ख़ुद पर भरोसा था, इसलिए इन बातों ने मेरा कॉन्फिडेंस और बढ़ाया.

रोडीज़ का सफ़र कैसा रहा?
सच पूछो, तो रोडीज़ की जर्नी आसान नहीं थी. अलग-अलग तरह के लोगों के साथ रहना, उनके साथ कॉम्पटीशन करना बेहद मुश्किल था, क्योंकि सब अपने आप में बेस्ट थे और मेरी प्रॉब्लम यह थी कि मैं शुरुआत में इतना समझ नहीं पाती थी कि कैसे रिएक्ट करूं, क्या बोलूं, क्योंकि हमारी तहज़ीब और संस्कार यही सिखाते हैं कि जब कोई और बोल रहा हूं, तो बीच में मत बोलो, जब कोई बड़ा बात कर रहा तो बीच में मत टोको… लेकिन वहां तो सब कुछ अलग था… कैमरे के लिए भी बहुत कुछ किया जाता था, छीना-झपटी और लड़ाई-झगड़े… एक व़क्त ऐसा आ गया था, जब मुझे लगा कि मैं गिवअप कर दूंगी… लेकिन फिर मुझे समझ में आया कि ऐसे तो गेम नहीं खेला जा सकता. मैंने गिवअप का आइडिया ड्रॉप किया और बोलना शुरू किया. जहां ज़रूरत महसूस हुई, वहां टोकना शुरू किया. इस तरह मैं गेम को समझ पाई और फिर विनर भी बनी.

यह भी पढ़ें: क्रिकेट के हॉटेस्ट बॉय विराट कोहली का स्टाइलिश अंदाज़, जानें अनुष्का के साथ परफेक्ट केमिस्ट्री का राज़ और दिलचस्प बातें 

सीरियल बढ़ो बहू में भी आप नज़र आ रही हैं, तो एक्टिंग की तरफ़ रुझान बढ़ रहा है?
एक्टिंग से मुझे परहेज़ नहीं है, लेकिन रोल ऐसा हो, जो मुझे मेरी फिटनेस से दूर न करे. मुझे ख़ासतौर से इस रोल के लिए अप्रोच किया गया, क्योंकि मेकर्स को लगा कि मेरे अलावा कोई और नहीं कर पाएगा, तो यह सुनकर अच्छा लगा कि मेरी पर्सनैलिटी के अनुरूप रोल मिल रहा है, इसलिए हामी भर दी.

बॉलीवुड भी करना चाहेंगी आप?
क्यों नहीं, हर वो चीज़, जो मेरी फिटनेस के आड़े न आए, मैं करूंगी. आज भी सीरियल की शूटिंग में भी काफ़ी बिज़ी रहती हूं, लेकिन चाहे रात के 11 बज जाएं मैं अपना जिम रूटीन नहीं छोड़ती.
वैसे भी मुझे लगता है कि अगर रियलिटी शो के बाद टीवी सीरियल्स और बॉलीवुड का मौका मिल रहा है, तो करना ही चाहिए, क्योंकि हर जगह के ऑडियंस अलग होते हैं. मुझे अपनी पहचान हर तरह के ऑडियंस में बनानी है, चाहे यंगस्टर्स हों, फैमिली हो या देश की आम पब्लिक. रोडीज़ के ऑडिंस अलग हैं, इसी तरह बढ़ो बहो फैमिली शो है और बॉलीवुड तो देश की जनता की धड़कन है.

आज की लाइफस्टाल में फिटनेस का क्या रोल देखती हैं आप? समय बदल गया है, लोग फिटनेस को लेकर थोड़े अलर्ट हुए हैं, लेकिन संख्या अब भी कम है…
हमारे यहां प्रॉब्लम यह है कि हम समय और परिस्थितियों के अनुसार न ख़ुद को ढालते हैं और न ही अपना डायट बदलते हैं. उदाहरण के तौर पर कोई कहता है कि भई हम तो पंजाबी हैं, हम तो तगड़ा ही खाते हैं, कोई कहता है हम गुजराती हैं, मीठा तो छोड़ नहीं सकते… इसी तरह से हम ट्रेडिशन के नाम पर वही डायट फॉलो करते हैं, जो हमारे दादाजी के समय में खाया जाता था. लेकिन यह भी तो सोचो कि वो समय अलग था, उनका काम अलग था. आज हम सभी डेस्क जॉब करते हैं, कहां से पचेगा तगड़ा खाना…?
बेहतर होगा कि मीठा कंट्रोल करें, ऑयली फूड अवॉइड करें, एक्सरसाइज़ करें. ख़ुद की बॉडी से प्यार करें. तब जाकर आप हेल्दी बनोगे.

आप अपने डायट प्लान के बारे में बताइए
कुछ चीज़ें हम सभी को पता होती हैं, लेकिन हम फॉलो नही करते, जैसे- पानी भरपूर पीएं, ऑयली-फैटी फूड कम खाएं, मीठा ज़्यादा न खाएं, प्रोटीन अधिक लें… आदि… लेकिन हम जानते हुए भी फॉलो नहीं करते.
मैं बस हेल्दी चीज़ें लेती हूं और अनहेल्दी चीज़ें अवॉइड करती हूं, यही है डायट.
मैं अपना खाना ख़ुद बनाती हूं. दिन में 6 बार खाती हूं, 2 बार जिम जाती हूं… मैं अपना ये रूटीन नहीं बदलती और इसीलिए फिट रहती हूं.

फ्यूचर प्लान्स क्या हैं?
मैं रियलिटी शोज़ करना चाहती हूं. मैं दिल से चाहती हूं कि फियर फैक्टर का हिस्सा बनूं. मुझे चैलेंजेस पसंद हैं.
वैसे भी आपको वही करना चाहिए, जो आपको पसंद हो, इसीलिए मेरा यूट्यूब चैनल भी आ रहा है, जिसमें हमारी टैगलाइन यही है- Do what you want to do (डू व्हाट यू वॉन्ट टु डू) यानी आप वही करें, जो आप करना चाहते हैं.

शहर में अपने प्रदेश की कोई ख़ास बात जो आप मिस करती हैं?
जो अपनापन वहां है, वो इन शहरों में नहीं है. एक अलग ही एनर्जी होती है वहां. कोई घर पर आ जाए, तो उसकी मेहमांनवाज़ी में हमें अलग ही ख़ुशी होती है. हमें लगता है कि क्या बनाकर खिला दें, क्या नहीं… कहीं कोई कमी न रह जाए. लेकिन यहां तो कोई पानी भी नहीं पूछता… तो एक चीज़ बहुत मिस करती हूं मैं.

फ्री टाइम में क्या करना पसंद है?
सच पूछो, तो फ्री टाइम मिलता ही कहां है. बाकी जो समय है वो मैं अपने मील्स बनाने में बिताती हूं, मैं ख़ुद को बेटर कैसे कर सकती हूं इसी कोशिश में रहती हूं और हम सभी को यही कोशिश करनी चाहिए.

आपके तो लाखों फैंस हैं, आप किसकी फैन हैं?
मुझे ड्वेन जॉनसन पसंद है. हां, अगर बात इंडिया की है, तो एक बंदा है जिसकी मैं ज़बर्दस्त फैन हूं, वो है दिलजीत दुसांज. उनकी स्ट्रगल स्टोरी हमेशा मुझे इंस्पायर करती है. किस तरह एक गांव से निकलर लाखों-करोड़ों की भीड़ में अपनी पहचान बनाई और उसके बाद भी वो इतने सहज हैं, उनके पांव ज़मीन से जुड़े हैं… न कोई घमंड, न एटीट्यूड. वो सच में एक प्रेरणास्रोत हैं.

जानें बर्थडे गर्ल पीवी सिंधु की ये दिलचस्प बातें… (Happy Birthday: Do You Know These Interesting Facts About P V Sindhu)

2-copy

जानें बर्थडे गर्ल पीवी सिंधु की ये दिलचस्प बातें… (Happy Birthday: Do You Know These Interesting Facts About P V Sindhu): भारतीय महिला टेनिस में आज सबसे बड़ा नाम हैं सिंधु, उनके जन्मदिन पर मेरी सहेली की ओर से उन्हें शुभकामनाएं! उम्मीद है वो देश का नाम रोशन करती रहेंगी, लेकिन अपनी पर्सनल पसंद-नापसंद के बारे में क्या सोचती हैं सिंधु, आइये उन्हीं से जानें 

अगर आप बैडमिंटन प्लेयर न होतीं, तो क्या होतीं?
हूं… जब मैं छोटी थी, तो डॉक्टर बनना चाहती थी, लेकिन अब बैडमिंटन के अलावा कोई दूसरा सपना नहींहै. इसी में आगे… बहुत आगे जाना चाहती हूं.

आपका फेवरेट फूड क्या है?
(मुस्कुराती हुई) इटैलियन. मुझे इटैलियन फूड बहुत पसंद है. इसके अलावा मुझे बिरयानी बहुत पसंद है. मां के हाथ की बिरयानी की बात ही कुछ और होती है.

लाखों प्रशंसकों की फेवरेट हैं आप. क्या आपका भी कोई फेवरेट प्लेयर है? 
(हंसती हुई) हां, बिल्कुल. टेनिस स्टार रॉजर फेडरर मेरे फेवरेट प्लेयर हैं.

इंडियन प्लेयर में किसी का नाम बताइए.
विराट कोहली, धोनी और सचिन तेंदुलकर पसंद हैं.

मैच प्रैक्टिस के अलावा क्या करना अच्छा लगता है?
वैसे तो मेरा बहुत-सा समय प्रैक्टिस में ही जाता है, लेकिन इससे समय मिलने पर मैं फैमिली के साथ फिल्म देखना, कज़िंस से मिलना और दोस्तों के साथ एंजॉय करना पसंद करती हूं.

 

 

9-copy

पहली बार ओलिंपिक में हिस्सा लिया आपने और पहली बार में ही देश को सिल्वर मेडल दिलाया, लेकिन आपके कोच गोपीचंद कहते हैं कि आप अभी भी अनफिनिश्ड प्रोडक्ट हैं. क्या ये सुनकर बुरा लगता है?
बिल्कुल नहीं. अभी तो मेरी शुरुआत है. मुझे बहुत से टूर्नामेंट खेलने हैं. कोच सर जो कहते हैं सही कहते हैं.

आपका स्ट्रॉन्ग पॉइंट क्या है?
अटैक. मैं अपने गेम में विरोधी खिलाड़ी पर शुरुआत से ही अटैक करने की कोशिश करती हूं, ताकि शुरुआत से ही मेरा प्रेशर उस पर बना रहे.

आपका वीक पॉइंट क्या है?
(सोचते हुए) फिलहाल तो ऐसा कुछ भी नहीं है.

कोर्ट पर और कोर्ट के बाहर भी आपको काफ़ी शांत प्लेयर के रूप में देखा जाता है. रियल सिंधु कैसी हैं?
हूं… सच कहूं तो रियल में भी मैं बहुत शांत हूं. हां, ये बात अलग है कि कोर्ट पर अब मैं अटैक के मूड में रहती हूं. ऐसा पहले नहीं था.

thumb_101916011307

फेवरेट फिल्म कौन-सी है?
मुझे सारी फिल्में अच्छी लगती हैं. चाहे वो बॉलीवुड हो या तेलगु या तमिल.

आपका पसंदीदा बॉलीवुड ऐक्टर कौन है?
(ख़ुश होते हुए) मुझे ऋतिक रोशन पसंद हैं. और हां, रणबीर कपूर भी.

आपकी फेवरेट बॉलीवुड एक्ट्रेस कौन हैं?
दीपिका पादुकोण.

घर पर रहने पर क्या करना पसंद करती हैं आप?
टीवी देखना और गाना सुनना. इससे मुझे बहुत सुकून मिलता है.

बाहर जाते समय पर्स में क्या रखना पसंद करती हैं?
(हंसती हुई) पैसा. वैसे मुझे लिपग्लॉस बहुत पसंद है. मेरे पर्स में ये रहता ही है.

क्या आप गैजेट्स लवर हैं?
(मुस्कुराती हुई) हां, मुझे मेरा मोबाइल बहुत पसंद है. रियो ओलिंपिक में मुझे इससे दूर रखा गया था.

आज की लड़कियों को क्या संदेश देना चाहेंगी?
अच्छा करो. जो जी में आए, उसी फील्ड में करियर बनाओ.

लड़कियों के पैरेंट्स के लिए कोई संदेश?
हां, बेटों की ही तरह अपनी बेटियों को प्रोत्साहित कीजिए. उन्हें आपके सपोर्ट की ज़रूरत है. उन पर विश्‍वास कीजिए और उन्हें आगे बढ़ने में मदद कीजिए. वो आपको कभी निराश नहीं करेंगी.