Comedy

कहते हैं अपनी एक्टिंग से रुलाना तो आसान है लेकिन हंसना मुश्किल. बॉलीवुड के कई दिग्गज कमेडीयंस थे जिन्हें कभी भी लोगों को हंसाने के लिए डबल मीनिंग डायलॉग या ऊटपटाँग वेशभूषा की ज़रूरत ही नहीं पड़ी. उनकी नेचुरल टाइमिंग और डायलॉग बोलने क अंदाज़ ही काफ़ी था, उनके एक्सप्रेशन इतने परफेक्ट होते थे कि लोग ना सिर्फ़ हंसते थे बल्कि उनकी अदाकारी के क़ायल हो जाते थे. हम यहां उन्हीं कमेडीयंस की बात करेंगे.

आई एस जौहर: कमेडीयंस की बिरादरी में इनका नाम बेहद अदब से लिया जाता था, ये हाइली क्वालिफ़ाइड थे, इकोनॉमिक्स और पॉलिटिक्स में एमए और एलएलबी की डिग्री इनके पास थी. यश जौहर इनके छोटे भाई थे और करण जौहर इनके भतीजे हैं. आई एस जौहर ने कई फ़िल्मों में काम किया और कई फ़िल्में डायरेक्ट और प्रोड्यूस भी कीं, उनकी कॉमेडी की टाइमिंग ग़ज़ब की थी और एक्सप्रेशन इतने नेचुरल कि लगता था ऊपरवाले का उनपर ख़ास आशीर्वाद है. इन्होंने महमूद के साथ अपने नाम के टाइटल्स से भी फ़िल्में बनाई, जौहर महमूद इन हाँगकाँग, जौहर महमूद इन गोआ जो काफ़ी पसंद की गई. यही नहीं इन्होंने कई इंटरनेशनल फ़िल्मों में भी काम किया और पंजाबी फ़िल्मों का भी हिस्सा रहे, लेकिन जौहर की पॉप्यूलैरिटी का आलम यह था कि उन्होंने अपने नाम के टाइटल्स से फ़िल्में बनाईं क्योंकि उन्हें पता था कि फ़िल्म के हिट होने के लिए उनका नाम ही काफ़ी है, जैसे- मेरा नाम जौहर, जौहर इन कश्मीर, जौहर इन बॉम्बे.

IS Johar

जॉनी वॉकर: इंदौर में जन्मे जॉनी का असली नाम था बदरूद्दीन जमालुद्दीन काज़ी. मुंबई आकर उन्होंने बस कंडक्टर का काम किया और सब्ज़ी तक बेची लेकिन उन्हें असली कामयाबी और पहचान तब मिली जब गुरु दत्त की नज़र उनपर पड़ी. गुरु दत्त ने ही उन्हें व्हिसकी के नाम पर नाम दिया और वो इसी नाम से मशहूर हुए. वो ऐसे कलाकार थे जिसके लिए अलग से गाने लिखे जाते थे… इसका सबूत ये मशहूर गाने हैं जो आज भी लोगों की ज़ुबान पर हैं- जाने कहां मेरा जिगर गया जी… सिर जो तेरा चकराए… तेल मालिश… जंगल में मोर नाचा किसी ने ना देखा…
वो पहले थे जिनकी उस ज़माने में सेक्रेटरी थी और जो संडे को काम नहीं किया करते थे. अगर गुरु दत्त की फ़िल्म में जॉनी नहीं तो फ़िल्म का चलना आसान नहीं होता था, गुरु दत्त उनके अच्छे दोस्त थे और दोनों की जोड़ी को खूब पसंद किया जाता था. जॉनी अपने डायलॉग बोलने के ख़ास अंदाज़ और आंखों के एक्सप्रेशन के लिए जाने जाते थे. हास्य कलाकारों में उनका उस ज़माने में काफ़ी सम्मान था.

Johnnie Walker

केष्टो मुखर्जी: इनका नाम आते ही शराब के नशे में धुत्त लड़खड़ाते हुए शख़्स का ख़याल आ जाता है क्योंकि ये शराबी के रोल के लिए काफ़ी मशहूर थे. इनसे अच्छा शराबी आज तक कोई नहीं, लेकिन ये भी हैरानी की बात है कि जिसमें फ़िल्मों में शराबी बन नाम कमाया उसने असल जीवन में कभी शराब नहीं पी. लेकिन ये जब आंखें घुमाकर हेहहे बोलते थे तो तालियाँ बज उठती थीं. इनके बेटे बबलू मुखर्जी भी एक हास्य कलाकार हैं और कई फ़िल्मों में काम कर चुके हैं.

Keshto Mukherjee

राजेंद्र नाथ: प्रेम नाथ के छोटे भाई थे राजेंद्र और ये कपूर परिवार व प्रेम चोपड़ा के भी रिश्तेदार थे. पेशावर में जन्मे थे लेकिन इनका परिवार मध्य प्रदेश में बस गया था. पढ़ाई में इनका मन नहीं लगता था इसलिए ये भी अपने भाई की राह पर चल पड़े. इन्होंने पृथ्वी थिएटर के लिए भी काम किया है लेकिन इन्हें पहचान मिली हास्य कलाकरी से. कई पंजाबी फ़िल्मों में भी काम किया है इन्होंने. इनके एक्सप्रेशन कमाल के होते थे इसलिए बिना बोले भी ये लोगों को हंसा देते थे. शशि कपूर, जॉय मुखर्जी और राजेश खन्ना की फ़िल्मों में ये अक्सर नज़र आते थे और अपनी छाप भी छोड़ जाते थे.

Rajendra Nath

असरानी: जयपुर में जन्मे गोवर्धन असरानी ने 350से अधिक फ़िल्मों में काम किया और शोले के वो अंग्रेज़ों के ज़माने के जो जेलर बने तो समझो उस रोल में वो अमर हो गए. उन्होंने हीरो और विलेन के कुछ रोल्स भी किए लेकिन उन्हें पसंद तो हास्य कलाकार के रूप में ही किया गया. इनके टैलेंट का पता इसी बात से चलता है कि अपने समय में वो हृषिकेश मुखर्जी और गुलज़ार जैसे डायरेक्टर के पसंदीदा कलाकारों में से एक थे.

Asrani

महमूद: इनकी पॉप्यूलैरिटी का आलम यह था कि इन्हें नेशनल कमेडीयन का दर्जा प्राप्त है और उनकी तस्वीरोंवाला एक डाक टिकट भी जारी किया गया था. 300 से ज़्यादा फ़िल्मों में काम कर चुके महमूद ने लीड रोल भी किया, सिंगर भी बने लेकिन उन्हें पसंद तो इसी रोल में किया गया जिसमें उन्होंने सबको हंसाया. जौहर के साथ इनकी जोड़ी बनी और ये कई बार अपने काम के लिए अवार्ड के लिए नॉमिनेट भी हुए. इनका ख़ास लुक भी काफ़ी मशहूर हुआ करता था और फ़िल्म कुँआरा बाप एक अलग ही स्तर पर इनके काम को ले गई थी जिसमें सबको हंसाने वाले इस कलाकार ने बेहद रुलाया और यह साबित कर दिखाया कि वो किस स्तर के कलाकार हैं. इसके अलावा पड़ोसन में इनके काम को भला कौन भूल सकता है, एक चतुर नार गाना आज भी लोगों का फ़ेवरेट है.

Mehmood

जगदीप: सैयद इश्तियाक़ अहमद जाफ़री इनका असली नाम. इन्होंने चाइल्ड एक्टर के तौर पर काम शुरू किया और पहचाने गए सुरमा भोपाली के नाम से. कई हॉरर फ़िल्मों में भी इन्होंने हंसाने का काम किया और कंकंपाते डायलॉग डिलीवरी से डर में भी हंसी का माहौल बना दिया.

Jagdeep

जॉनी लीवर: इन्होंने बतौर स्टैंड अप कमेडीयन अपना काम शुरू किया वो भी उस ज़माने में जब इस तरह की कॉमेडी को ख़ास दर्जा प्राप्त नहीं था. उनकी मिमिक्रि इतनी बढ़िया थी कि वो सबसे अलग दर्जे के हास्य कलाकार नज़र आते थे. वो तेलुगु क्रिशचियन परिवार से थे और शुरुआत में मुम्बई की धारावी में रहते थे. इन्होंने कई फ़िल्मों में यादगार काम किया है और इन्हें काफ़ी सम्मान से देखते हैं लोग.

Johnny lever

इन सबके अलावा यहां कुछ ऐसे कलाकारों का भी ज़िक्र ज़रूरी है जिन्होंने कैरेक्टर आर्टिस्ट और निगेटिव रोल भी किए लेकिन उन्हें बतौर हास्य कलाकार भी इतना ही पसंद किया गया.

कादर खान: विलन बने तो उम्दा, कैरेक्टर रोल किए वो भी ग़ज़ब के, डायरेक्टर बेहतरीन थे और डायलॉग राइटर तो क्या कहने… अमिताभ से लेकर राजेश खन्ना तक की कई हिट फ़िल्मों के डायलॉग इन्होंने लिखे. बड़ी फ़िल्मों के स्क्रीनप्ले भी इन्होंने लिखे. इन सबके बीच भी इन्होंने बतौर कमेडीयन अपनी पहचान बनाई, शक्ति कपूर के साथ भी इनकी जोड़ी खूब जमी. इनके कॉमिक डायलॉग लोगों को ख़ासे पसंद आते थे.

Kader Khan

बोमन ईरानी: ये थिएटर आर्टिस्ट रह चुके हैं और इनकी कलाकरी का स्तर बहुत ऊंचा है. इनके ग़ुस्से में भी हंसी छिपी रहती है और अगर ये किसी फ़िल्म में एक खड़ूस प्रोफ़ेसर या डॉक्टर का रोल भी करें तो भी लोगों को हंसी आ जाती है, क्योंकि इनका कॉमेडी का सेंस कुछ अलग ही है और अव्वल दर्जे क है. ये जानते हैं कि ज़्यादा कुछ ऊटपटाँग किए लोगों को कैसे आसानी से हंसाया जाता है.

Boman Irani

परेश रावल: ये भी एक कंप्लीट एक्टर हैं और हर रोल के साथ न्याय करते हैं. ये उतनी ही कमाल की कॉमेडी भी करते हैं. हेरा फेरी से लेकर हंगामा तक ना जाने कितनी ही फ़िल्में हैं जो इनके नाम से जानी जाती हैं. परेश की हर रोल में सहजता दर्शाती है कि उनका स्तर कितना ऊंचा है. वो विलेन बनकर डरा भी सकते हैं और बतौर कमेडीयन हंसा भी सकते हैं.

Paresh Rawal

राजपाल यादव: मुंगेरीलाल के हसीन सपने… दूरदर्शन पर इन्हें इसी सीरियल में देखा और पसंद किया गया था. निगेटिव रोल भी इन्होंने काफ़ी किए लेकिन ये खुद कॉमिक रोल करना ज़्यादा पसंद करते हैं और इन्हें लोग भी एक कमेडीयन के रूप में ही ज़्यादा पहचानते हैं. अपनी क़द काठी का भी इन्होंने भूमिकाओं के साथ न्याय करने के लिए बखूबी इस्तेमाल किया. नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा से पास आउट हुए राजपाल स्मूद एक्टर हैं और उनके डायलॉग बोलने का अंदाज़ और चेहरे की एक स्वाभाविकता उन्हें बेहतरीन कलाकारों में शुमार करती है.

Rajpal Yadav

यह भी पढ़ें: टीवी सेलिब्रिटीज़ के ब्रेकअप और तलाक की अनोखी दास्तान, ब्रेकअप के बाद भी इनकी दोस्ती में कोई कमी नहीं आई (Breakup Stories: TV Celebrities Who Remained Friends After An Ugly Breakup)

कॉमेडियन कपिल शर्मा का शो जितना पॉप्युलर है, उतनी ही मशहूर हैं कपिल शर्मा के साथ जुड़ी कंट्रोवर्सीज़. आइए, कपिल शर्मा की टॉप 10 कंट्रोवर्सीज़ पर एक नज़र डालते हैं.

1) कपिल शर्मा अपने को-स्टार सुनील ग्रोवर से फ्लाइट में मारपीट की वजह से सुर्ख़ियों में रहे. खबरों के अनुसार, ऑस्ट्रेलिया से स्टेज शो करने के बाद लौटते समय फ्लाइट में कपिल अपना आपा खो बैठे और उन्होंने अपने को-स्टार सुनील ग्रोवर के साथ गाली गलौच की और उन पर हाथ भी उठाया. इसका नतीजा ये हुआ कि दोनों ने ट्विटर पर एक-दूसरे को अन-फॉलो कर दिया.
2) खबरों के अनुसार कपिल ने सुनील ग्रोवर की फिल्म ‘डी कंपनी’ का अपने शो में प्रचार करने से भी इनकार कर दिया था, लेकिन कपिल अपनी फिल्म ‘फिरंगी’ का प्रचार शो में किया. हालांकि इस बात का खंडन करते हुए सुनील ने कहा था कि उनकी फिल्म का प्रचार न करने का फैसला निर्माताओं का था, कपिल और उनके बीच सबकुछ नॉर्मल है.
3) कपिल ने सनी लियोनी को अपने शो में बुलाने से इसलिए इनकार कर दिया था, क्योंकि वे पोर्न स्टार रह चुकी हैं, लेकिन कुछ समय बाद कपिल के ही शो में सनी लियोनी ‘रागिनी एमएमएस 2’ और ‘एक पहेली लीला’ के प्रमोशन के लिए आई थीं.
4) कपिल शर्मा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग करते हुए लिखा था, ‘ये हैं आपके अच्छे दिन?’ इस बात को लेकर भी कपिल विवादों में घिरे रहे.
5) कपिल ने मुम्बई की महानगरपालिका पर रिश्वतखोरी का आरोप लगाया था और बाद में खुद ही विवादों में फंसते नज़र आए. फिर बढ़ते विवाद पर विराम लगाने के लिए कपिल ने ट्वीट किया था, “मुझे कुछ लोगों के साथ जिस भ्रष्टाचार के अनुभव का सामना करना पड़ा, उसी को लेकर अपनी चिंता मैंने जाहिर की थी. यह किसी भी राजनैतिक दल के लिए आरोप नहीं है, फिर चाहे बीजेपी हो, शिवसेना या एमएनएस.”

यह भी पढ़ें: क्या इन 12 बॉलीवुड स्टार्स का सरनेम जानते हैं आप? (12 Bollywood Stars Who Removed Their Surname For These Odd Reasons)

6) कपिल शर्मा पर उनके अंधेरी स्थित बंगले में अवैध निर्माण करने और मैंग्रोव को कटवाने का आरोप भी लगा था.
7) कपिल अपने शो ‘कॉमेडी नाइट्स विद कपिल’ के बंद होने के लिए भी चर्चा में रहे. खबरों के अनुसार, कपिल का कहना था कि चैनल ने ‘कॉमेडी नाइट्स विद कपिल’ की तर्ज़ पर उसी तरह का शो ‘कॉमेडी नाइट्स बचाओ’ शुरू कर के उन्हें उनका शो बंद करने के लिए मजबूर किया और चैनल का मानना था कि कपिल अपने स्टारडम को संभाल नहीं सके.
8) ख़बरों के अनुसार, 2014 में CCL (सेलिब्रिटी क्रिकेट लीग) को होस्ट करने के लिए कपिल ने पहले 1.25 करोड़ रुपए का मेहनताना मांगा, उनकी यह मांग पूरी भी हो गई, लेकिन कपिल ने फिर इसलिए तेवर दिखाए, क्योंकि उन्हें वैनिटी वैन नहीं दी गई थी, हालांकि बाद में कपिल ने इसके लिए माफी भी मांगी थी.
9) कपिल शर्मा ने जब अपने शो में जब एक प्रेग्नेंट लेडी का मजाक उड़ाया, तो कई महिला संगठनों ने उनका विरोध किया और कपिल से माफ़ी मांगने के लिए कहा.
10) केआरके यानी कमाल आर खान के साथ ट्विटर वॉर के कारण भी कपिल शर्मा सुर्ख़ियों में रहे.

यह भी पढ़ें: तलाक के बाद भी टूटी नहीं हैं ये टीवी अभिनेत्रियां, हो गई हैं और भी मशहूर (6 TV Actresses Who Got Divorced But Now Are Successful)

इन दिनों लॉकडाउन के समय सबसे ज़्यादा हंसाने का काम कोई कर रहा है, तो वो तनाज़ ईरानी और बख्तियार ईरानी है. यह कपल एक-से-एक मज़ेदार चुटकुलों और हंसी के हंगामे लेकर आते हैं. इनके साथ इनके दोनों बच्चे ज़ीउस और ज़ारा भी कमाल की एक्टिंग करते हैं.
ये चारों यानी पूरा परिवार अक्सर मस्ती से भरपूर मज़ेदार वीडियो शेयर करते रहते हैं. इसमें कोई दो राय नहीं कि इनकी वजह से कई हंसी के पल लोगों को मिल जाते हैं. मानो ये कहना चाह रहे हैं कि हंसते, गाते व मुस्कुराते रहना ही ज़िंदगी है.
तनाज़ और बख्तियार दोनों का ही सेंस ऑफ ह्यूमर भी ग़ज़ब का है. तनाज़ ने टीवी और फ़िल्में दोनों में अपने अभिनय की जादूगरी दिखाई है. उन्होंने स्वाभिमान, नच बलिए, आहट, बड़ी दूर से आए हैं, बिग बॉस सीजन 3, जमाई राजा जैसे सीरियल्स में काम किया है. हद कर दी आपने तनाज़ की पहली फिल्म थी. मैं प्रेम की दीवानी हूं, कुछ ना कहो, 36 चाइना टाउन, रोडसाइड रोमियो, मान गए मुगले आजम आदि फिल्मों में उन्होंने अपने अभिनय का जलवा बिखेरा.
तनाज ने बख्तियार से साल 2007 में शादी की थी. अभी पिछले दिनों ही उन्होंने अपना जन्मदिन भी लॉकडाउन में घर पर ही मनाया था. बख्तियार भी कई मशहूर टीवी शो का हिस्सा रहे हैं. कई शो तनाज़ के साथ भी किए हैं. इन्होंने भी बिग बॉस व नच बलिये में पार्ट लिया था.
मज़ेदार जोक्स और मनोरंजन से भरपूर मसाला होता है इनके शेयर किए वीडियो में. कभी ये अंग्रेज़ी की टांग तोड़ते हैं, तो कभी स्कूल की पढ़ाई करते हुए दिखाते हैं. कभी-कभी तो इनके बोलने का अंदाज़ ही इतना लाजवाब होता है कि हंसी आ जाती है. आइए, थोड़ा लीक से हटकर इस हंसी के हंगामे में शामिल होते हैं और देखते हैं इनके अब तक के मज़ेदार और हंसी से लोटपोट कर देनेवाले चुनिंदा वीडियोज़, जो आपको हंसाएगी भी.. गुदगुदाएगी भी…

Laughter Time With Tanaz And Bhakhtyar Irani

बेव़कूफ़ बनाकर लूटकर लोगों को चकमा देकर अभिषेक बच्चन और रानी मुखर्जी की जोड़ी ने फिल्म बंटी और बबली में ख़ूब धमाल मचाया था. पैसों पर हाथ साफ़कर नौ दो ग्यारह हो जाना इन दोनों के बाएं हाथ का खेल था. यह फिल्म और इसके गाने बेहद हिट हुए थे. अब इसका सीक्वल आ रहा है बंटी और बबली 2. बस रानी मुखर्जी को छोड़कर बाकी क़िरदार अलग हैं. आख़िर होम प्रोडक्शन की मूवी जो है. जी हां, इसे उनके पति आदित्य चोपड़ा प्रोड्यूस कर रहे हैं. रानी के साथ अभिषेक की बजाय सैफ अली ख़ान गोलमाल करने की हुनर को दिखाएंगे. वहीं सिद्धांत चतुर्वेदी और शरवरी की भी फ्रेश जोड़ी ठगी के नए पैंतरे आज़माएगी.

Rani-Saif

मनोरंजन से भरपूर बीएबी 2 यानी बंटी और बबली 2 में आज के दौर के अनुसार मूर्ख बनाकर लूटना, धोखेबाज़ी और अन्य दांव-पेंच दिखाए जाएंगे. देखा जाए तो समय के साथ बहुत कुछ बदला है. बंटी और बबली साल 2005 में आई थी. फिल्म को चौदह साल हो चुके हैं. अतः व़क्त के साथ गोलमाल करने के तरीक़ों में भी काफ़ी नए-नए प्रयोग हुए हैं. उन मज़ेदार व दिलचस्प स्थितियों से ऑडियंंस दो-चार होंगे फिल्म में.  निर्देशन की ज़िम्मेदारी वरुण शर्मा निभा रहे हैं. यशराज बैनर की सुल्तान और टाइगर ज़िंदा है में वे असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में काम कर चुके हैं. फ़िलहाल फिल्म की शूटिंग अबू धाबी में हो रही है.

यूं तो ठगी पर एक से एक हिंदी फिल्में बनी हैं और दर्शकों ने उन्हें पसंद भी बहुत किया है. स्पेशल 26 फिल्म इसमें ख़ास रही. अक्षय कुमार और उनकी ठग ऑफिसर्स की टीम चौंकाती व आश्‍चर्य में भी डालती थी. ओए लक्की लक्की ओए मूवी में अभय देओल की ठगी को लोगों ने सराहा था और फिल्म ने भी अच्छा बिज़नेस किया था. इसका दिलचस्प स्लोगन कमाओ तो ज़ीरो, चुराओ तो हीरो… को ख़ूब एंजॉय किया गया था. लेडीज़ वर्सेस रिकी बहल जो रणवीर सिंह की ठगी पर थोड़ी अलग फिल्म थी. इसमें रणवीर लड़कियों को बुद्धू बनाकर उनका पैसा लूटकर चंपत हो जाते हैं. उनकी शुरुआती दौर की यह फिल्म भी मज़ेदार थी. इमरान हाशमी की राजा नटवरलाल भी हिट तो नहीं हो पाई, पर चर्चा में ज़रूर रही. हां, ठग्स ऑफ हिंदुस्तान इसमें अपवाद रही है. अमिताभ बच्चन, आमिर ख़ान, कैटरीना कैफ़ जैसे सितारों से सजी यह फिल्म ख़ास चल नहीं पाई थी.

एक बार फिर बात करते हैं बंटी और बबली 2 की. इसके मुख्य कलाकार सैफ और रानी की जोड़ी ने कई कामयाब फिल्में दी हैं. इनमें से ख़ास रही है हमतुम और ता रा रम पम.. अब सालों बाद एक बार फिर दोनों कुछ नया कमाल ज़रूर दिखाएंगे. वैसे भी दोनों की ही हालिया फिल्में सफल और लाजवाब रही हैं. रानी मुखर्जी की मर्दानी 2 बेहतरीन रहीं. इसके पहले पार्ट को भी लोगों ने बेहद पसंद किया था और दूसरा पार्ट तो विवादों में रहने के बावजूद ज़बर्दस्त रहा. वहीं सैफ अली ख़ान हीरो-विलेन दोनों ही रोल में ग़ज़ब कर रहे हैं. तान्हाजी- अनसंग वारियर में उनकी खलनायकी ने सभी का दिल जीत लिया. इसके अलावा जवानी जानेमन मूवी में प्लेबॉय के रोल में उन्होंने ख़ूब हंसाया. दोनों ही फिल्में कामयाब रहीं. अब ये दोनों धुरंधर एक साथ कितना कहर ढोते हैं, यह तो 26 जून को ही जान पाएंगे, क्योंकि इसी दिन फिल्म रिलीज़ होनेवाली है. हां, समय है सावधान हो जाएं, क्योंकि ठगी के लिए चंडाल चौकड़ी आ रही है…

यह भी पढ़ेखतरों के खिलाड़ी 10ः करण पटेल को एक एपिसोड के लिए मिल रहे हैं इतने लाख (Khatron Ke Khiladi 10: Karan Patel Becomes HIGHEST PAID Contestant Ever On Rohit Shetty’s Show; His Per Episode Fee Will Blow Your Mind)

सावधानी हटी, दुर्घटना घटी… कहा जाता है, पर कुछ सावधानियां ऐसी भी होती हैं कि परेशान भी करती हैं, गुदगुदाती भी हैं, जैसा कि शुभ मंगल ज़्यादा सावधान के साथ हो रहा है. आयुष्मान खुराना और जितेंद्र कुमार की जुगलबंदी इस फिल्म को और भी मज़ेदार और हास्य से भरपूर बना देती है ट्रेलर देखकर तो ऐसा ही लग रहा है.

Shubh Mangal Jyada Saavdhan Trailer

इसमें बधाई हो कि हिट जोड़ी नीना गुप्ता व गजराज राव भी दिलचस्प भूमिकाओं में नज़र आएंगे. वहीं भूमि पेडनेकर का केमियो रोल फिल्म का ख़ास आकर्षण है.

इसे ये नहीं… गे कहते हैं… जब मैंने पहली बार उसे देखा तो मेरी बड़ी हो गई थी पुतलियां,.. मैं मदर इंडिया बनूंगी… कुछ सरल, तो कुछ द्विअर्थी संवाद फिल्म को और भी मज़ेदार बना देते हैं. हमेशा की तरह आयुष्मान खुराना अपनी छाप छोड़ जाते हैं और उनका भरपूर साथ देते हैं जितेंद्र कुमार. नीना व गजराज भी ख़ूब जमे हैं. उन दोनों की इस रिश्ते को लेकर क्रियाएं-प्रतिक्रियाएं ग़ज़ब के हैं. दोनों जितेंद्र के अभिभावक बने हैं. आयुष्मान का बोल्ड अंदाज़, उनका व जितेंद्र का लिप लॉक कहानी को एक नया मोड़ देने लगता है. सभी कलाकारों ने फिल्म को मनोरंजन बनाने में कोई कोर कसर बाकी नहीं रखी है.

शुभ मंगल सावधान फिल्म का सीक्वल है शुभ मंगल ज़्यादा सावधान. उसमें जहां पुरुषों के इरेक्शन जैसे अछूते विषय को गहराई से समझाया गया था. वहीं इसमें होमोसेक्सुअल रिलेशन को हाइलाइट किया गया है. वैसे बकौल आयुष्मान खुराना के यह पूरी तरह से पारिवारिक फिल्म है, जिसे आप सभी के साथ देख सकते हैं. अक्सर इस तरह के विषयों पर कम बात होती है और समाज का दृष्टिकोण भी अलग रहता है. ऐसे में इस फिल्म का आना और उस पर कलाकारों का दावा करना कि यह थोड़ी अलग है और सभी को ज़रूर पसंद आएगी, क्योंकि इसमें एक सार्थक संदेश देने की भी कोशिश की गई है, इसके प्रति उत्सुकता बढ़ा देता है.

आज फिल्म के ट्रेलर के साथ-साथ इसके कई दिलचस्प पोस्टर्स भी देखने को मिले, जो फिल्म की कहानी को मनोरंजक ढंग से से बयां करते हैं, उस पर आयुष्मान का अंदाज़ कि- कार्तिक का प्यार हो कर रहेगा अमन!.. वे शादी के स्टेज पर जितेंद्र के साथ मस्तीभरे स्टाइल में हैं और जितेंद्र उन्हें प्यार से निहार रहे हैं. जबकि परिवार चिंता, ग़ुस्से, आक्रोश के मिलेजुले अंदाज़ में दोनों को आग्नेय नेत्रों से देख रहा है.

दूसरी तस्वीर भी कुछ कम रोचक नहीं है. इसमें दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे फिल्म के क्लाइमेक्स के सीन को रिक्रिएशन किया गया दिख रहा है. जहां आयुष्मान बैग लिए ट्रेन के दरवाज़े पर हाथ बढ़ाते हुए जितेंद्र को थामने की कोशिश कर रहे हैं, वहीं जितेंद्र कुमार ट्रेन के साथ भाग रहे हैं, उनके पीछे-पीछे उनका परिवार भी दौड़ रहा है. उ़फ् यह लव स्टोरी क्या गुल खिलाएगी, यह तो ऊपरवाला ही जानें.

तीसरी फोटो तो माशाअल्लाह अफ़लातून है. इसमें आयुष्मान घोड़ी पर सवार जितेंद्र को थामे हुए हैं और जितेंद्र के पैरेंट्स नीना गुप्ता व गजराज राव मानों दर्शकों से पूछ रहे हैं कि आख़िर इन दोनों का क्या करें. उस पर स्लोगन भी लाजवाब है कि जीतेगा प्यार सह-परिवार.. अब भाई यह क्या टोटका है, यह तो फिल्ममेकर ही जाने.

 

फिल्म के निर्माता आनंद एल. राय व भूषण कुमार के साथ-साथ निर्देशक हितेश केवालिया का भी मानना है कि उन्होंने इस संवेदनशील विषय को अलग ट्रीटमेंट दिया है. उनके अनुसार, हंसी-मज़ाक व मनोरंजन के साथ एक उद्देश्यपूर्ण बात भी कहती है फिल्म.

वैसे भी पिछले कुछ समय से आयुष्मान खुराना कई ऐसे विषयों पर फिल्म कर रहे हैं, जो भरपूर मसाला व हास्य के साथ-साथ समाज में फैले ग़लत बातों को भी उजागर करती है, जैसे- ड्रीम गर्ल, बाला आदि. यह फिल्म फरवरी में 21 तारीख़ को रिलीज़ होनेवाली है. समलैंगिकता पर आधारित शुभ मंगल ज़्यादा सावधान लोगों को कितना सावधान करेगी, यह तो फिल्म देखने के बाद ही जान पाएंगे. फ़िलहाल फिल्म के ट्रेलर का आनंद लीजिए…

 

 

यह भी पढ़ेदिशा पटानी से ज़्यादा खूबसूरत हैं उनकी बहन खुशबू, देखें उनका वायरल फिटनेस वीडियो (Khushboo Patani Viral Fitness Video)

Golmaal Again Official Trailer

इस दिवाली लॉजिक नहीं सिर्फ़ मैजिक होगा फिल्म गोलमाल अगेन से. गोलमाल की सीरिज़ की चौथी फिल्म गोलमाल अगेन में रोहित शेट्टी की पुरानी टीम में शामिल हुए हैं दो नए चेहरे परिणीति चोपड़ा और तब्बू. अजय देवगन, अरशद वारसी, तुषार कपूर, श्रेयस तलपड़े और कुनाल खेमू एक बार फिर साथ हैं. फिल्म के पोस्टर पर इस बार इन सबके अलावा नींबू मिर्च भी नज़र आ रहा है. अंदाज़ा लग ही गया होगा आपको, ये नींबू मिर्च भूतों को दूर भगाने के लिए लगाया गया है. रोहित की इस फिल्म में कॉमेडी के साथ-साथ भूत भी होंगे.

देखें फिल्म का ये मज़ेदार ट्रेलर.

यह भी पढ़ें: Inside Pictures: करीना की Birthday Bash की पिक्चर्स देखें, पहले तैमूर फिर क्लोज़ फ्रेंड्स के साथ पार्टी 

satish

वर्सटाइल ऐक्टर सतीश शाह (Satish Shah) हो गए हैं 66 साल के. उनका नाम आते ही याद आ जाते हैं उनके कॉमिक रोल्स, जो उन्होंने फिल्मों और टेलेविजन में निभाए हैं. टीवी सीरियल ये जो है ज़िंदगी, फिल्मी चक्कर से लेकर साराभाई वर्सेस साराभाई (Sarabhai Vs Sarabhai) तक उनका सफ़र मज़ेदार रहा है. जाने भी दो यारों में मरे हुए कमिश्नर डीमेलो का जो रोल उन्होंने निभाया था, वो याद कर अब भी हंसी आ जाती है. सतीश शाह अब भी फिल्मों और सीरियल्स में ऐक्टिव हैं, साराभाई वर्सेस साराभाई की वेब सीरिज़ भी ख़ूब पसंद की जा रही है.

25 जून 1951 को मुंबई में जन्मे सतीश का पूरा का नाम सतीश रवीलाल शाह है. 1978 में फिल्म अजीब दास्तां से फिल्मी सफ़र की शुरुआत करने वाले सतीश शाह ने दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे, जाने भी दो यारों जैसी कई सुपरहिट फिल्मों में अभिनय किया है. उनकी कॉमिक टाइमिंग के लोग तब भी कायल थे और आज भी हैं.

मेरी सहेली (Meri Saheli) की ओर से सतीश शाह को जन्मदिन की ढेरों शुभकामनाएं.

Sarabhai Vs Sarabhai

फर्स्ट लुक: साराभाई vs साराभाई (First Look: Sarabhai Vs Sarabhai)
  • सबका फेवरेट शो साराभाई ती साराभाई जल्द ही ऑन एयर होनेवाला है और इस शो को पसंद करनेवाले सभी फैंस इस ख़बर से बेहद ख़ुश हैं.
  • शो के मेकर्स ने हाल ही में शो का फर्स्ट लुक रिलीज़ किया, जिसे लेकर सभी एक्साइटेड हैं.
  • शो के सभी पुराने किरदार नज़र आएंगे और उम्मीद है कि इसका सीज़न 2 भी उतना ही मज़ेदार होगा, जितना सीज़न 1 था.
  • शो से जुड़े तमाम लोग अपने फैंस से सीधे जुड़े फेसबुक लाइव के ज़रिए. शो में जहां पुराने कैरेक्टर्स हैं, वहीं कुछ नए किरदारों को भी जोड़ा गया है.
  • शो में 7 सालों का लीप दिखाया जाएगा, जहां नए किरदार भी दर्शकों का मनोरंजन करेंगे.

Capture1

– कपिल शर्मा का शो इस कदर हिट है कि फिल्म स्टार्स ही नहीं, खिलाड़ी भी यहां आना और मौज-मस्ती करना बेहद पसंद करते हैं.
– इस शनिवार को ‘कबड्डी वर्ल्ड कप’ विजेता टीम के सदस्य कैप्टन अनूप कुमार, अजय ठाकुर, मोहित छिल्लर, राहुल चौधरी व जसवीर सिंह इस शो की शोभा बढ़ाएंगे.
– इससे पहले पैरालिंपिक्स विनर्स ने शो में ज़बरदस्त एंट्री की थी और सभी की ख़ूब वाहवाही लूटी थी.
– अब देखते हैं, कबड्डी प्लेयर्स कपिल के साथ कितना हु… तू… तू… कर पाते हैं.
– ऊषा गुप्ता

 

भेजिए अपनी ब्यूटी प्रॉब्लम्स… चुनिंदा सवालों के जवाब देंगे हमारे ब्यूटी एक्सपर्ट और साथ ही आपको फेयर एंड लवली की तरफ से मिलेगा आकर्षक गिफ्ट हैंपर

 

कपिल शर्मा

कई बार न चाहते हुए भी आपको अपने आत्मसम्मान के लिए बहुत कुछ करना पड़ता है और मैंने भी यही किया.
मुझे कॉमेडी नाइट्स विद कपिल शो ख़त्म होने की ख़ुशी हुई थी, क्योंकि तभी मुझे ‘द कपिल शर्मा शो’ में नया करने का मौक़ा मिला.
तब मैंने बिना ब्रेक के शो के लिए दिन-रात मेहनत की. हमने एक अलग तरह का शो बनाया और दर्शकों का इसे ज़बरदस्त रिस्पॉन्स मिला.
मैंने अपने जीवन में अनगिनत उतार-चढ़ाव देखे, पर कभी हारा नहीं. फिर चाहे, वो पिता की बीमारी व देहांत हो, अपनी पहचान बनाने का संघर्ष हो या आज इसे बरक़रार रखने की कोशिश ही क्यों न हो.
मैं अपने शो में नरेंद्र मोदीजी को बुलाने का इच्छुक हूं. एक बार मैंने एलेन के शो में अमेरिका के प्रेसिडेंट बराक ओबामा को देखा था, जो बहुत मज़ेदार था. हमारे यहां भी शो में नेताओं को बुलाना चाहिए, इससे दर्शकों को उन्हें क़रीब से जानने का मौक़ा मिलेगा.
यदि मोदीजी मेरे शो पर आते हैं, तो हम राजनीति की बजाय अन्य विषयों पर उनसे बात करेंगे. ख़ासतौर पर यह जानने की कोशिश करेंगे कि कैसे एक छोटे से शहर का शख़्स लंबा सफ़र तय करते हुए हमारे देश का प्रधानमंत्री बन गया, ये एक दिलचस्प व प्रेरणादायक कहानी होगी.
द कपिल शर्मा शो में मेरे साथ सुनील ग्रोवर, अली असगर, कीकू शारदा, सुमोना चक्रवर्ती, नवजोत सिंह सिद्धू, चंदन प्रभाकर आदि बेहतरीन कॉमेडी का तड़का दे रहे हैं.
हम अक्सर अलग-अलग फील्ड से लोगों को लेकर सरप्राइज़ेस देने की कोशिश कर रहे हैं, जो सभी को पसंद भी आ रहे हैं.

कपिल के व्यक्तिगत जीवन पर एक नज़र…

* कपिल शर्मा का जन्म अमृतसर, पंजाब और पढ़ाई हिंदू कॅालेज, अमृतसर से हुई है.
* इनके पिता पुलिस डिपार्टमेंट में हेड कॉन्स्टेबल थे और मां जनक रानी होममेकर हैं.
* कपिल ने एक लोकल पीसीओ से अपने काम की शुरुआत की थी.
* फरवरी 2013 में कपिल शर्मा फोर्ब्स इंडिया मैगज़ीन में शीर्ष 100 सेलिब्रिटीज़ के बीच में चुने गए थे और वे उस लिस्ट में 96वें स्थान पर थे.
* साल 2013 में सीएनएन-आईबीएन इंडियन ऑफ द ईयर अवॉर्ड्स में कपिल को ‘एंटरटेनर ऑफ द ईयर’ अवॉर्ड से नवाज़ा गया था.
* कपिल को जानवरों से ख़ास लगाव है. इन्होंने पुलिस के रिटायर्ड डॉगी ज़ंजीर को गोद भी लिया है.
* कपिल के साथ विवादों का सिलसिला भी कुछ कम नहीं रहा है. कभी बीएमसी ऑफिसर द्वारा उनसे रिश्‍वत मांगने के मुद्दे को लेकर, तो कभी उनके घर पर गैरक़ानूनी कंस्ट्रक्शन को लेकर. उस पर ओम पुरी का उन पर पाकिस्तानी कलाकारों की नकल करने का कटाक्ष… यानी आरोप-प्रत्यारोप की लंबी फेहरिस्त है. लेकिन इन सबसे परे इस सच्चाई को नहीं नकारा जा सकता कि यह शो ज़बरदस्त हिट है.

भारती सिंह

सात साल पहले जब मैं मुंबई आई थी, तब मैं इस बात से नफ़रत करती थी कि मेरा वज़न अधिक है, पर यही बात मेरे लिए वरदान साबित हुई.
मैंने कभी भी वज़न घटाने के बारे में नहीं सोचा.
कामयाब होने के लिए आपकी प्रतिभा मायने रखती है, न कि वज़न.
मेरी कामयाबी में कई लोगों का सहयोग रहा है, पर इनमें राजीव ठाकुर, कपिल शर्मा, सुदेश लहरी, जतिंदर बराड़ व मेरे पिता राम सिंह का बहुमूल्य योगदान रहा है.
जहां तक कपिल से मुक़ाबले की बात है, तो मैं एक बात स्पष्ट करना चाहती हूं कि कपिल से मेरा कोई मुक़ाबला नहीं है.
मुझे मेरे ‘लल्ली’ कैरेक्टर से एक अलग पहचान मिली. इसमें मुझे अपने टैलेंट को खुलकर दिखाने का मौक़ा भी मिला. मेरा यह नाम राजीव ठाकुर की देन है.
कपिल मेरे गुरु हैं. मैंने उनसे थिएटर सीखा है और मैं उनका सम्मान करती हूं.
मेरे पिता नेपाल के थे. जब मैं दो साल की थी, तब उनका देहांत हो गया था. मैंने काठमांडू में भी शो किए हैं.
मेरा छोटा-सा परिवार है, जिसमें मेरी मां कमला, बड़ी बहन पिंकी व छोटा भाई धीरज है.
मैं चाहूंगी कि मेरा हमसफ़र मैच्योर व समझदार होने के साथ मुझे बेहद प्यार भी करें.
रियल लाइफ में मैं बहुत बोलती हूं, ऐसे में मेरी यही ख़्वाहिश रहेगी कि मेरा जीवनसाथी मेरी बातों को धैर्य के साथ सुनें.
मैं शादी के बाद अधिक काम नहीं करूंगी. मेरी कोशिश रहेगी कि मैं होममेकर बनकर घर संभालूं.
मैं कॉमेडी व डांस शोज़ के अलावा पंजाबी व हिंदी फिल्मों में भी काम करती रही हूं.
आज सफल होने के बावजूद मैं नहीं बदली हूं. आज भी मुझे अपनी सहेलियां, टीचर्स, गोलगप्पे व आम पापड़वाला सभी याद हैं. उन सभी से मिलने की इच्छा है, पर मेरी सफलता ने मेरी आज़ादी छीन ली है.
मैं जब कुछ नहीं थी, तब भी हंसती थी और आज भी हंसती व ख़ुश रहती हूं. ज़िंदगी के संघर्ष के हर दौर में मैंने ख़ुशी का साथ कभी नहीं छोड़ा.
जब भी लोगों को अपने चुटकुलों पर हंसते हुए देखती हूं, तो मुझे दिली सुकून मिलता है.

सुदेश लहरी

मैं पंजाब के जालंधर से हूं. मैंने अपनी पढ़ाई भी वहीं की.
मैं अधिकतर पंजाबी फिल्में व कॉमेडी शोज़ करता रहा हूं.
मैंने द ग्रेट इंडियन लॉफ्टर चैलेंज से अपने कॉमेडी करियर की शुरुआत की थी.
लेकिन मुझे सही मायने में पहचान कॉमेडी सर्कस व कॉमेडी क्लासेस से मिली.
मुंबई में मैंने बहुत काम किया, पर यहां सुकून नहीं है.
यहां पर अपने टैलेंट के बलबूते पैसे तो कमाए जा सकते हैं, पर रूह की ख़ुराक अपने घर पर ही मिलती है.
इसलिए मुझे जब भी मौक़ा मिलता है, मैं अपने घर चला जाता हूं. अपनों से मिलने पर एक नई एनर्जी मिलती है.
आज की युवापीढ़ी की नशे की लत से काफ़ी परेशान हूं, ख़ासकर पंजाब में.
मेरी सभी यंग जेनरेशन से यही गुज़ारिश है कि ख़ुद को नशे में न झोंकें.
युवा अपने टैलेंट को पहचानें और मेरी तरह अपनी पसंद के फील्ड में आकर अपनी पहचान बनाएं.

कृष्णा अभिषेक

♦ मेरे द्वारा शुरू किए गए कॉमेडी शो के कारण कपिल इनसिक्योर्ड महसूस कर रहे थे. इसी कारण उन्होंने अपना शो कॉमेडी नाइट विद कपिल बंद कर दिया.
माना कि मेरे शो को उतनी अच्छी ओपनिंग नहीं मिली, पर मैं अपने शो को आगे बढ़ाने के लिए और भी अधिक मेहनत करूंगा.
मुझे लगता है कि मेरे और कपिल शर्मा के यानी दोनों शोज़ को पसंद कर रहे हैं.
मैं इस बात से इंकार नहीं कर सकता कि कपिल का शो हमें
अच्छी टक्कर दे रहा है. मुझे लगता है कि कपिल भी इस टक्कर को एंजॉय कर रहे हैं.
हमारे आपसी कम्प्टीशन की वजह से हम अच्छा करने की कोशिश कर रहे हैं, जो दोनों शोज़ के लिए फ़ायदेमंद है.
वैसे मुझे कपिल के शो में अपना कॉमेडी का टैलेंट दिखाने का इन्वाइट मिला था, पर मैंने उनका प्रस्ताव ठुकरा दिया, क्योंकि मुझे अपना स्पेस चाहिए था.
टीवी के साथ फिल्मों में भी एक्टिव रहना चाहता हूं. वैसे आनेवाली फिल्म हाउसफुल 3 में अक्षय कुमार व अभिषेक बच्चन के साथ कॉमेडी करता नज़र आऊंगा.

– ऊषा गुप्ता

520 1817415171437

क्रिकेटर मोहम्मद अज़हरउद्दीन की ज़िंदगी पर आधारित अज़हर फिल्म की पूरी टीम ने कॉमेडी नाइट लाइव में जमकर मस्ती की. जहां अज़हर भी कॉमेडी के बेहतरीन स्ट्रोक्स लगाने से नहीं चूके, वहीं इमरान हाशमी व नरगिस फाकरी ने अपने रोमांटिक अंदाज़ से समा बांध दिया. कुणाल राय कपूर के फन मूवमेंट्स भी काफ़ी मज़ेदार थे. साथ ही कृष्णा व भारती ने हंसी-मज़ाक के साथ सभी की खिंचाई करने में कोई कसर नहीं छोड़ी.