Corona Virus Test

मशहूर कलाकार ऋषि कपूर साउथ मुंबई के एचएन रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल में एडमिट हैं. उनकी तबीयत पिछले दिनों अचानक बिगड़ गई थी, तब उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया. वे आईसीयू में हैं. उन्हें कैंसर है, जिसका इलाज भी चल रहा है. ऋषि को सांस लेने में तकलीफ हो रही है और छाती में भी दर्द है. उनके बड़े भाई रणधीर कपूर ने इसकी सूचना दी. फ़िलहाल अस्पताल में उनकी पत्नी नीतू और बेटे रणबीर उनके साथ हैं. 

ऋषि कपूर कैंसर से जुझ रहे हैं. 11 महीने 11 दिन तक अमरीका के न्यूयॉर्क में कैंसर का इलाज करवाने के बाद पिछले साल सितंबर में वे भारत लौटे थे.
पिछले 3 महीने से उनकी तबीयत बार-बार अचानक बिगड़ जाती थी और फिर ठीक हो जाती थी. फरवरी महीने में अपने भांजे अरमान जैन के मेहंदी सेरिमनी के समय भी इंफेक्शन होने के कारण उनकी तबीयत ख़राब हो गई थी और उन्हें तुरंत हॉस्पिटल में एडमिट किया गया था. इसी कारण वे उस पारिवारिक समारोह में भी शामिल नहीं हो पाए थे. मुंबई लौटने के बाद अचानक उन्हें वायरल फीवर हो गया था और फिर हॉस्पिटल ले जाया गया. कुछ दिन ट्रीटमेंट के बाद ठीक होने पर घर वापस आ गए थे. इस तरह से फरवरी से लेकर अप्रैल तक इन तीन महीनों में कई बार उनकी तबीयत ख़राब हुई. उन्होंने कहा था कि उन्हें इंफेक्शन हो गया था चिंता करने की कोई बात नहीं है. अब वह बेहतर महसूस कर रहे हैं.
ऋषि कपूर सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहते हैं और अक्सर उनके कमेंट पढ़ने लायक होते हैं. वे अपनी हर बात बेबाक होकर कहते हैं. उनका आख़री कमेन्ट 2 अप्रैल को था, जिसमें उन्होंने कोरोना वायरस से लड़ने और सब को सहयोग देने, कोरोना योद्धाओं से सम्मानित  व्यवहार करें.. की बात कही थी.
ऋषि कपूर की बेटी रिद्धिमा, जो दिल्ली में रहती हैं ने सरकार से स्पेशल अनुमति मांगी है अपने पिता को मुंबई में देखने जाने के लिए. अभी तक उनके निवेदन पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है. लेकिन रिद्धिमा अपने पिता की हालत गंभीर होने पर उनसे मिलना चाहती हैं. उनकी देखभाल करना चाहती है. इस कारण उन्होंने दिल्ली सरकार से दिल्ली से मुंबई जाने की अनुमति मांगी है.
साल 2018 में ऋषि कपूर को कैंसर होने की ख़बर मिली थी, जिससे वे टूट गए थे. उनकी पत्नी नीतू और परिवार भी काफ़ी सकते में था. लेकिन बाद में नीतू ने हिम्मत दिखाई और वे ऋषि कपूर को लेकर इलाज के लिए अमेरिका चली गईं. नीतू ने हमेशा ऋषि कपूर का साथ दिया. उनकी देखभाल की. उनका कहना था कि बीमारी के बाद ऋषि एकदम बच्चे हो गए थे. मैं उनका हर तरह से ध्यान रखती. हमेशा उनके साथ हूं. इस बात को ऋषि कपूर ने भी कबूल किया. उन्होंने कहा कि नीतू ना होती, तो शायद वे इस बीमारी से लड़ नहीं पाते. ऋषि जब अपना इलाज करा रहे थे, तब फिल्मी हस्तियां उनसे मिलने के लिए और उनका हालचाल पूछने के लिए गई थीं. न्यूयॉर्क में उनसे आलिया भट्ट, दीपिका पादुकोण, शाहरुख ख़ान, आमिर ख़ान, अनुपम खेर आदि मिले थे. ऋषि-नीतू को अच्छा भी लगा था. फिल्म इंडस्ट्री एक परिवार की तरह ही है और हर कोई एक-दूसरे का सुख-सुख जानने के लिए मिलते रहते हैं.
ऋषि कपूर बीमारी से विदेश से लौटने के बाद उन्होंने फ्रेंच मूवी की रीमेक में काम किया था, जिसमें उनके साथ इमरान हाशमी भी थे. दिसंबर में यह फिल्म रिलीज हुई थी, पर चल ना सकी.
फ़िलहाल ऋषि कपूर शर्माजी नमकीन मूवी की शूटिंग कर दिल्ली में कर रहे थे. हेमंत त्रेहन की इस मूवी के समय भी उनकी तबीयत बिगड़ गई थी. शूटिंग रोक दिया गया था. त्रेहनजी का कहना था कि जब ऋषि ठीक हो जाएंगे, तो फिर से शूटिंग शुरू करेंगे.
सुनने में यह भी आया है कि ऋषि कपूर की कई बार तबीयत बिगड़ने के कारण उन्हें वेंटिलेटर पर भी रखा गया था. लेकिन इस बात में कितनी सच्चाई है अभी तक मालूम नहीं हो पाई है. हम दुआ करते हैं कि वे जल्दी से ठीक हो जाए और फिर से अपने अभिनय के रंग बिखेरे.

Rishi Kapoor