credit card protection and ...

Credit Card Safety Tips

हाल ही में क्रेडिट कार्ड (Credit Card) फ्रॉड से जुड़े कई मामले सामने आए. कहीं आप भी इसके शिकार न हो जाएं, इसलिए हम लेकर आए हैं क्रेडिट कार्ड फ्रॉड (Credit Card Fraud) से बचने के कुछ ख़ास सेफ्टी टिप्स (Tips).

क्रेडिट कार्ड फ्रॉड के तरी़के

क्लोनिंग: इस तरह के फ्रॉड में क्रेडिट कार्ड को मशीन में स्वाइप करते समय उसके मैग्नेटिक स्ट्राइप का डाटा रिकॉर्ड कर लिया जाता है. डाटा से डुप्लीकेट कार्ड बनाकर दुरुपयोग किया जाता है. यह किसी भी रेस्टॉरेंट, पेट्रोल पंप या शॉपिंग सेंटर में कहीं भी और कभी भी हो सकता है. इससे बचने के लिए अपने कार्ड को हमेशा अपने सामने स्वाइप करवाएं.

ऑनलाइन धोखाधड़ी: ऑनलाइन ट्रांज़ैक्शन के दौरान धोखे से आपके क्रेडिट कार्ड संबंधित जानकारी मांगकर फ्रॉड किए जाते हैं.

हैकिंग: आपके बैंक के डाटाबेस से सारी जानकारी हैक करके उसका ग़लत इस्तेमाल करना. हालांकि इसमें आप कुछ ख़ास नहीं कर सकते फिर भी नियमित तौर पर अपने बैंक स्टेटमेंट पर नज़र रखना बहुत ज़रूरी है.

फिशिंग: फिशिंग में धोखाधड़ी करनेवाले लोग ऐसी कंपनियों से आपको लुभावने ऑफर भेजते हैं, जो आमतौर पर सेफ दिखती हैं. लुभावने ऑफर के झांसे में ज़रूरी जानकारी हासिल कर ली जाती है. इसलिए कभी भी ऑनलाइन लुभावने ऑफर्स के चक्कर में न पड़ें.

डस्टबिन चेकर्स: क्रेडिट कार्ड बिल या बिलिंग स्टेटमेंट्स से जुड़े ग़ैरज़रूरी काग़ज़ों को नष्ट किए बिना रद्दी में न दें. रद्दी से ज़रूरी जानकारी इकट्ठा कर ये उसका दुरुपयोग करते हैं. इसलिए क्रेडिट कार्ड के ग़ैरज़रूरी काग़ज़ों को हमेशा नष्ट करें.

और भी पढ़ें:  जानें पोस्ट ऑफिस की 9 स्कीमों के बारे में (9 Post Office Schemes You Must Be Aware Of)

सेफ्टी टिप्स

Credit Card Safety Tips
1. क्रेडिट कार्ड का नंबर व पासवर्ड हमेशा गुप्त रखें.

2. क्रेडिट कार्ड लेते समय चिप बेस्ड कार्ड लें, क्योंकि मैग्नेटिक स्ट्राइप्स युक्त क्रेडिट कार्ड की बजाय चिप बेस्ड क्रेडिट कार्ड ज़्यादा सुरक्षित होते हैं.

3. एक्सपायर्ड या कैंसल्ड कार्ड को तुरंत काटकर नष्ट कर दें.

4. कार्ड खो जाए या चोरी हो जाए, तो तुरंत इसकी सूचना कार्ड इश्यूअर को दें.

5. कोई भी पेमेंट बिल साइन करने से पहले टोटल टैली कर लें. थोड़ी भी ब्लैंक जगह हो, तो उसे क्रॉस करके ही साइन करें.

6. अगर आपके बिलिंग स्टेटमेंट में कोई संदेहास्पद पेमेंट नज़र आए, तो तुरंत अपने कार्ड इश्यूअर से संपर्क करें.

7. अपने बिलिंग स्टेटमेंट को संभालकर रखें, ताकि क्रेडिट कार्ड बिल से टैली कर सकें.

8.  फॉरेन ट्रिप पर जाने से पहले अपने कार्ड इश्यूअर को ज़रूर सूचित करें, क्योंकि फॉरेन ट्रिप के दौरान फ्रॉड के चांसेज़ बढ़ जाते हैं.

9. अगर आप पता या कॉन्टैक्ट नंबर बदल रहे हैं, तो इसकी सूचना अपने कार्ड इश्यूअर को तुरंत दें.

10. क्रेडिट कार्ड से जुड़ी कोई भी जानकारी फोन पर देने से बचें.

11. क्रेडिट कार्ड पर कभी भी अपना पिन नंबर न लिखें.

12. क्रेडिट कार्ड अपडेट्स के लिए अपने मोबाइल पर एसएमएस या ईमेल एलर्ट्स ज़रूर करवाएं.

13. किसी भी तरह के ऑनलाइन ट्रांज़ैक्शन के लिए हमेशा सुरक्षित वेबसाइट्स का ही इस्तेमाल करें. जिन वेबसाइट्स के यूआरएल में एचटीटीपीएस है, वह सुरक्षित वेबसाइट्स हैं.

14. ऑनलाइन ट्रांज़ैक्शन्स के लिए लो लिमिट कार्ड इस्तेमाल करना सेफ है.

और भी पढ़ें: सीनियर सिटिज़न्स को क्या-क्या सुविधाएं मिलती हैं? (What Facilities Are Available For Senior-Citizens?)