credit card

 

Benefits Of Credit Cards

यदि आप किसी बैंक से क्रेडिट कार्ड (Credit Card) से ले रहे हैं, तो आपको उसके फ़ायदों के बारे में जानना बेहद ज़रूरी है. ताकि शॉपिंग के दौरान आप उसका पूरा-पूरा लाभ उठा सके. क्रेडिट कार्ड लोन की तरह होता है. जिसका यूज़ खरीदारी करने के बाद आपको बैंक को चुकाना होता है. पर अधिकतर लोगों को इसके फ़ायदों के बारे में पता नहीं होता है. आइए हम आपको बताते हैं क्या हैं क्रेडिट कार्ड के फ़ायदे-

क्रेडिट कार्ड के फ़ायदे
1. क्रेडिट कार्ड से आप अपने अकाउंट में जमा रक़म से अधिक की शॉपिंग कर सकते हैं.
2. इमर्जेंसी में क्रेडिट कार्ड से भुगतान करके आप परेशानी से बच सकते हैं.
3. इस बात से कोई फ़र्क नहीं पड़ता है कि आपके खाते में कितनी जमाराशि है. अकाउंट में कम रक़म होने पर भी क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग कर सकते हैं.

Benefits Of Credit Cards
4. क्रेडिट कार्ड से शॉपिंग करने पर आपको कैशबैक और रिवॉर्ड पॉइंट मिलते हैं, जिससे शॉपिंग के दौरान भुगतान करने पर लाभ मिलता है.

5. शॉपिंग के दौरान आप जितना ज़्यादा क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं, उतना ही कैशबैक और रिवॉर्ड पॉइंट अधिक मिलते हैं.

6. इन रिवॉर्ड पॉइंट का लाभ आप अगली शॉपिंग में उठा सकते हैं.

7. क्रेडिट कार्ड से क्रेडिट स्कोर का पता चलता है. यदि आप समय क्रेडिट बिल का भुगतान करते हैं, तो आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा है और क्रेडिट स्कोर अच्छा होने से लोन मिलने में आसानी होती है.

8. डेबिट कार्ड की तुलना में क्रेडिट कार्ड में धोखाधड़ी होने की संभावना कम होती है.

9. इत्तेफाकन यदि धोखाधड़ी होती भी है, तो आसानी से इसका पता चल जाता है और बैंक इस पर कोई चार्ज वसूल नहीं करता है.

10. क्रेडिट कार्ड पर कोई अनुअल चार्ज़ नहीं लगता है.

और भी पढ़ें:  लॉकर रेंट पर लेने से पहले जानें ये 10 ज़रूरी बातें (10 Things To Keep In Mind While Renting A Locker)

एक नज़र क्रेडिट कार्ड से होनेवाली हानि पर भी
1. समय पर क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान न करने पर बैंक आपसे फाइन चार्ज़ कर सकता है. यह फाइन बहुत अधिक होता है.
2. यदि निश्‍चित समय पर क्रेडिट कार्ड के बिल का भुगतान नहीं करते हैं, तो बैंक बकाया रकम के साथ-साथ उसपर लगनेवाला ब्याज़ भी आपसे वसूल करेगा.
3. क्रेडिट कार्ड की लिमिट से ज़्यादा ख़रीदारी करने पर बैंक उस अतिरिक्त फीस बिल में जोड़ देता है.
4. समय पर बिल का भुगतान न करने पर बैंक प्रतिदिन के हिसाब से चार्ज करता है.

और भी पढ़ें:  कैसे सुधारें अपना क्रेडिट स्कोर? (How To Improve Your Credit Score)

– पूनम शर्मा

Gold-Lock-Credit-Card-Design-Vector
ज़िंदगी को आसान बनाने वाले क्रेडिट कार्ड के ग़लत इस्तेमाल से कई बार आप मुसीबत में भी पड़ सकते हैं. यदि आप प्लास्टिक मनी का सही और सुरक्षित इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो कुछ बातों का ध्यान रखना ज़रूरी है.

  • क्रेडिट कार्ड मिलते ही सबसे पहले उस पर अपना साइन करें. इससे यदि कोई आपके कार्ड का ग़लत इस्तेमाल करने की कोशिश करता है, तो उसे आपके साइन की नकल करनी होगी.
  • कार्ड से संबंधित सभी जानकारी अपने पास नोट करके रखें, जैसे- कार्ड का नंबर, एक्सपायरी डेट, कार्ड कंपनी का नंबर और पता.
  • कार्ड के दोनों तरफ की फोटोकॉपी कराके रखें. इससे ग़ुम हो जाने पर कार्ड ब्लॉक कराने में आसानी होगी.
  • एटीएम स्लिप, कैंसल किए हुए चेक, बैंक स्टेटमेंट और क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट यदि इस्तेमाल में नहीं आ रहे हैं, तो उन्हें फाड़कर फेंक दें. यूं ही मोड़कर फेंकना ख़तरनाक हो सकता है.
  • अपने पुराने गैजेट या फोन को फेंकने/बेचने से पहले उसके सारे डेटा डिलीट कर दें. बैंक से आए एसएमएस और ईमेल से भी कोई आपकी जानकारी चुराकर आपके अकाउंट का ग़लत इस्तेमाल कर सकता है.
  • क्रेडिट कार्ड से ट्रांजेक्शन करने पर पासवर्ड डालने के लिए हमेशा वर्चुअल कीबोर्ड का इस्तेमाल करें.
  • कुछ समय के अंतराल पर पासवर्ड बदलते रहें. हर जगह एक ही पासवर्ड का इस्तेमाल न करें, क्योंकि इससे हैकर्स के लिए पासवर्ड का पता लगाना आसान हो जाता है.
  • कोई भी साइट इस्तेमाल करने से पहले उसके यूआरएल को अच्छी तरह जांच लें. यदि यूआरएल में ऽ का साइन नज़र आए, तो सतर्क हो जाइए, क्योंकि कई नकली साइट्स में इस सिंबल का इस्तेमाल किया जाता है.
  • यदि किसी वेबसाइट में डोमेन नेम की बजाय http://192.134.2.1 जैसा न्यूमेरिकल एड्रेस दिखाई दे, तो भी सावधान हो जाएं.
  • आप जिन वेबसाइट्स का हमेशा इस्तेमाल करते हैं, उन्हें बुकमार्क कर लें और अपने पर्सनल कंप्यूटर पर ही खोलें.
  • कोई भी साइट बंद करने से पहले उससे लॉगआउट हो जाएं, फिर साइट बंद करें.
  • आपने देखा होगा कि कई साइट्स खोलने पर ऊपर मैसेज आता है कि क्या आप यूज़र नेम और पासवर्ड सेव करना चाहते हैं? ग़लती से भी यस न करें.
  • आप जितनी बार लॉगिन करें उतनी बार यूज़र नेम और पासवर्ड डालें. किसी भी साइट पर ये जानकारी सेव करना आपके लिए ख़तरनाक हो सकता है.
  • यदि आप अपना कंप्यूटर अपने दोस्त या किसी अन्य के साथ शेयर करते हैं, तो ब्राउज़र केश और हिस्ट्री को हर सेशन के बाद डिलीट कर दें.
  • कार्ड से शॉपिंग करते व़क्त ट्रांजेक्शन के समय अलर्ट रहें. दुकानदार को कार्ड देते समय कार्ड पर पूरी नज़र रखें. कोशिश करें कि कार्ड आपकी निगाह से ओझल न हो.
  •  जब भी कोई ट्रांजेक्शन करें उसकी रसीद, बिल आदि को संभालकर फाइल करके रखें. महीने के अंत में इन सभी रसीदों से अपने मंथली स्टेटमेंट को मिलाकर देखें.
  • स्टेटमेंट देखने के दौरान यदि आपको लगता है कि कोई शॉपिंग आपने नहीं की है, तो क्रेडिट कार्ड कंपनी को इस संबंध में तुरंत जानकारी दें.
  • यदि कभी कार्ड चोरी हो जाए या ग़ुम हो जाए, तो तुरंत कार्ड कंपनी को इसकी सूचना दें. यदि आपने तुरंत सूचना नहीं दी, तो कार्ड से होने वाले नुक़सान के लिए बैंक ज़िम्मेदार नहीं होगा.
  • कार्ड खोने से संबंधित सूचना आप जिस कस्टमर केयर अधिकारी को दे रहे हैं, उसका नाम और नंबर नोट करके रखें.
  • यदि बैंक में शिकायत दर्ज कराने के बाद 30 दिनों के भीतर कोई सुनवाई नहीं होती, तो बैंकिंग ओम्बड्समैन के यहां शिकायत करें.
  • यदि आप बैंकिंग ओम्बड्समैन की कार्रवाई से संतुष्ट नहीं हैं, तो रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के डिप्टी गवर्नर को लिखित शिकायत दे सकते हैं.