cup

junior hockey world cup

राष्ट्रीय खेल हॉकी को शिखर पर पहुंचाने के लिए भारतीय टाइगर तैयार हैं. हर दिन जूनियर हॉकी वर्ल्ड कप में भारतीय टीम कमाल कर रही है. क्वाटर फाइनल में स्पेन और फाइनल में कंगारुओं को शिकस्त देकर भारतीय खिलाड़ियों ने साबित कर दिया है कि उनकेआगे कोई टिकने वाला नहीं.

लखनऊ में चल रहे जूनियर हॉकी वर्ल्ड कप में शुरुआत से ही भारतीय खिलाड़ियों का दबदबा नज़र आ रहा है. सेमीफाइनल मैच में ऑस्ट्रेलिया को 4-2 से हराकर फाइनल में पहुंचने वाली टीम का जज़्बा सांतवें आसमान पर है.

स्टेडियम में घरेलू दर्शकों के सामने खेलने और मैच जीतने का एहसास स़िर्फ खिलाड़ी ही कर सकते हैं. दर्शकों ने भी हर मैच में टीम का साथ दिया और हर पल उनका मनोबल बढ़ाते दिखे. गोलकीपर विकास दहिया ने अपने शानदार प्रदर्शन से भारत को जूनियर हॉकी वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचाकर पूरे देश को जश्‍न मनाने का मौक़ा दिया है. यह तीसरी बार है, जब भारत ने जूनियर वर्ल्ड कप के फाइनल में जगह बनाई है. ऑस्ट्रेलिया को भारत ने शूटआउट में 4-2 से शिकस्त देकर शानदार खेल का प्रदर्शन किया.

फाइनल में भारत का मुक़ाबला जर्मनी को हराकर फाइनल में पहुंचनेवाली बेल्जियम से होगा. 18 दिसंबर को फाइनल में दोनों टीमें एक-दूसरे के आमने-सामने होंगी. मैच बहुत ही दिलचस्प होगा. दोनों ही बराबर की टीमें हैं. फाइनल मैच के लिए भारतीय टाइगर्स को मेरी सहेली (Meri Saheli)की तरफ से बहुत-बहुत शुभकामनाएं!

 श्वेता सिंह 

 

hockey_india

घरेलू सरज़मीं पर घरेलू फैन्स के सामने प्रदर्शन करना जहां एक ओर उत्साह से भर देता है, वहीं दूसरी ओर फैन्स का प्रेशर खेल में और भी अच्छा करने के लिए बाध्य भी करता है. ख़ैर भारतीय जूनियर हॉकी टीम ने घरेलू दर्शकों के सामने दमदार प्रदर्शन करते हुए जूनियर हॉकी वर्ल्ड कप में स्पेन को 2-1 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बना ली है.

मेजर ध्यानचंद स्टेडियम पर खेले गए संघर्षपूर्ण मुकाबले में भारत ने स्पेन को 2-1 से मात दी. इस मैच में पहले स्पेन ने गोल किया. स्पेन के लिए यह गोल पेनाल्टी कॉर्नर पर सेराहिमा मार्क ने 22वें मिनट में किया. ऐसा लग रहा था कि भारत इसी अंतर से मैच हार जाएगा, लेकिन भारतीय टीम ने 57वें मिनट में गोल दागकर सेमीफाइनल में पहुंचने की उम्मीद बरकरार रखी. यह गोल सिमरनजीत ने पेनाल्टी कॉर्नर पर किया. भारत द्वारा काफी देरी से बराबरी का गोल करने के बाद इस मैच के पेनाल्टी शूटआउट तक खिंचने की उम्मीद बनती दिखी, लेकिन हरमनप्रीत की ओर से 66वें मिनट में पेनाल्टी कॉर्नर पर किए गए गोल की बदौलत भारत ने जीत हासिल की और सेमीफाइनल में जगह बनाई. भारत के अलावा, बेल्जियम, आस्ट्रेलिया और जर्मनी सेमीफाइनल में प्रवेश कर चुके हैं.

सेमीफाइनल में शुक्रवार को आॉस्ट्रेलिया से टीम का मुकाबला होगा.

– श्वेता सिंह