Dangal

अभी ज़्यादा दिन नहीं हुए, जब मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर ख़ान (Aamir Khan) की फिल्म दंगल में चीन में कमाई के सारे रिकॉर्ड तोड़कर ख़ूब सुर्खियां बटोरी थी. अब बारी आमिर ख़ान की की दूसरी फिल्म’ सीक्रेट सुपरस्टार’ की है. इस फिल्म ने भी चीन में मात्र दो दिनों में 100 करोड़ से ज़्यादा की कमाई कर ली है. जी हां, इस फिल्म ने दंगल का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है.‘सीक्रेट सुपरस्टार’ (Secret Superstar) ने पहले दिन 76 लाख डॉलर कमाए हैं वहीं ‘दंगल’ की कमाई 23.5 लाख डॉलर रही थी. वैसे भी आमिर खान की फिल्मों को चीन में काफ़ी पसंद किया जाता है. उनकी पिछली फिल्मों ने भी चीन में अच्छा बिजनेस किया था. यह अब तक की सबसे बड़ी ओपनिंग लेने वाली पहली भारतीय फिल्म है.

चीन में दुनिया भर की फिल्मों को लागू करने के कुछ कायदे कानून हैं, जिनके तहत ही फिल्में रिलीज की जाती हैं. अधिकतर ऐसी फिल्मों को चीन में रिलीज किए जाने का मौका मिलता है जो वहां की संस्कृति से मेल खाती हों. इस मामले में आमिर ख़ान बाजी मार जाते हैं क्योंकि उनकी फिल्में ऐसी बातें लेकर आती हैं जिससे कनेक्शन बनता है. फिर चाहे वह बेटियों को पहलवान या सिंगर.
ये भी पढ़ेंः जाह्नवी-ईशान की डेब्यू फिल्म धड़क की आ गई है रिलीज़ डेट…

[amazon_link asins=’B075WVVBDY,B00TZU5F1A,B00KMRPHMM’ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’2c684cf6-ff32-11e7-91a9-1559e1bcc872′]

 

Free

February 2017 ( Meri Saheli )

Rs.35 Rs.0
Quick Recipes (E-Book)

Quick Recipes (E-Book)

Rs.30

Bridal Guide (E-Book)

Rs.30

आमिर ख़ान की फिल्म ‘दंगल’ को ऑस्ट्रेलियन इंटरनेशनल मूवी कंवेंशन का प्रतिष्ठित अवॉर्ड मिला है. आमिर ख़ान पहले भारतीय कलाकार बन गए हैं, जिनकी फिल्मों को ऑस्ट्रेलिया में 3 अवॉर्ड अलग अलग सालों में मिले हैं. ऑस्ट्रेलियन इंटरनेशनल मूवी कंवेंशन में ‘दंगल’ को सबसे ज्यादा कमाई करने वाली विदेशी फिल्म का अवॉर्ड मिला है. इससे पहले, उनकी दो और फिल्मों को ये अवॉर्ड मिल चुका है.

aamir khan, Dangal movie award australiaaamir khan, Dangal movie award australia

aamir khan, Dangal movie award australiaaamir khan, Dangal movie award australiaaamir khan, Dangal movie award australia

आमिर ख़ान की ‘धूम 3’ और ‘पीके’ को भी ये अवॉर्ड मिल चुका है. इस साल ऑस्ट्रेलियन इंटरनेशनल मूवी कंवेंशन के आयोजन का 72वां साल है. ऑस्ट्रेलियन इंटरनेशनल मूवी कंवेंशन का आयोजन इस बार ऑस्ट्रेलिया के क्वीन्सलैंड में हो रहा है. ये 8 अक्टूबर से 12 अक्टूबर तक चलेगा. इस साल ऑस्ट्रेलियन इंटरनेशनल मूवी कंवेंशन के आयोजन का 72वां साल है. आमिर की जिन तीन फिल्मों को ये अवॉर्ड मिला है, उनमें से दो की प्रोड्यूसर डिज्नी यूटीवी फिल्म्स थी.

ये भी पढ़ेंः देखिए तैमूर की बहन इनाया की पहली फोटो

 

Free

February 2017 ( Meri Saheli )

Rs.35 Rs.0
Quick Recipes (E-Book)

Quick Recipes (E-Book)

Rs.30

Bridal Guide (E-Book)

Rs.30

हॉलीवुड फिल्म ‘इट’ ने महज तीन दिनों में वर्ल्डवाइड 1150 करोड़ रुपये का कारोबार किया है. जिस आंकड़े पर पहुंचने में दंगल व बाहुबली जैसी फिल्मों हफ़्तों लग गए, उस जादुई आंकड़े पर इस फिल्म में महज तीन दिन में छू लिया. फिल्म का बजट 3.50 करोड़ डॉलर (224 करोड़ रुपये) है.

हॉरर मूवी, इट, दंगल, बाहुबली, कमाई, Horror Movie, IT, Dangal, Bahubali

यह फिल्म पॉप्युलर हॉहर राइटर स्टिफ़न किंग की नॉवेल पर आधारित है. इट ने रिलीज के पहले हफ्ते में ही अपने बजट की तीन गुना कमाई कर ली है.  आपको बता दें कि आमिर खान की ‘दंगल’ ने 2 हजार करोड़ रुपये का कारोबार किया था, जबकि ‘बाहुबली’ ने 1700 करोड़ का आंकड़ा छुआ था. वहीं 8 सितंबर को रिलीज हुई हॉरर मूवी इट ने कई पुरानी हॉरर फिल्मों के रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं.  इट को आजतक की सबसे डरावनी फिल्म माना जा रहा है. यह सबसे ज़्यादा कमाई करनेवाली हॉरर फिल्म बन चुकी है. इस फिल्म को एंडी मुशिएती ने डायरेक्ट किया है.  स्टीफन ने फिल्म रिलीज होने से पहले ही कहा था कि यह आपको एक अलग अहसास कराएगी. हर लेवल पर आपको इसे देखकर मजा आएगा.  फिल्म ने पहले दिन 326.2 करोड़ की कमाई की. रिलीज के पहले दिन बंपर कमाई का रिकॉर्ड इससे पहले 2013 की रिलीज ‘द कंज्यूरिंग’ के नाम था. जिसने पहले दिन 262.2 करोड़ की कमाई की थी।

फिल्म की कहानी मैने के डेरी शहर की है. यहां के बच्चे काफी डरे हुए हैं और उनके डर का कारण पेनीवाइज नाम का शैतानी जोकर है. फिल्म दो भाग में बनी है. पहला पार्ट 8 सितंबर को रिलीज़ हुआ और दूसरा 2019 में रिलीज़ होगा.

ये भी पढ़ेंः Viral!!!रिया सेन की किसिंग पिक

फिल्म और टीवी जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Dangal-full-movie-available-for-free-on-YouTube-2 (1)

आमिर खान की फिल्म दंगल एक बार फिर दंगल मचा रही है. ओवरसीज़ में 742 करोड़ की कमाई करने वाली फिल्म दंगल ने अपने खाते में और 72 करोड़ जोड़ लिए हैं. चीन में इस फिल्म ने महज़ तीन दिनों में 72 करोड़ से ज़्यादा की कमाई कर ली है.

फिल्म समीक्षक तरण आदर्श ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी है.

चीन में Shuaijiao Baba के नाम से लगभग 9 हज़ार थिएटर्स में रिलीज़ हुई है. जिस तरह से इस फिल्म को चीन में पसंद किया जा रहा है, ऐसा लग रहा है दंगल हाल ही मे रिलीज़ हुई फिल्म बाहुबली- द कंक्लुज़न को भी टक्कर दे सकती है, जो अब तक वर्ल्डवाइड 1000 करोड़ की कमाई करके इतिहास रच चुकी है.

dangal

आमिर खान ने किया दंगल. पाकिस्तान की मांग के सामने आमिर का दंगल देखने लायक है. दरअसल, बॉलीवुड की फिल्मों पर से हाल ही में पाकिस्तान ने बैन हटा लिया था और पाकिस्तान के फिल्म डिस्ट्रिब्यूटर्स की मांग पर दंगल फिल्म वहां रिलीज़ होने वाली थी. लेकिन पाकिस्तान सेंसर बोर्ड ने फिल्म देखने के बाद ऐसी शर्तें रख दी आमिर के सामने की वो भड़क उठे. पाकिस्तान सेंसर बोर्ड चाहता था कि फिल्म से दो सीन्स, जिसमें भारत का झंडा लहराता हुआ दिखाई देता है और दूसरा, जहां अंत में भारत का राष्ट्रीय गान बजता है, को हटाया जाए, तभी वो दंगल को पाकिस्तान में रिलीज़ की अनुमति देंगे. आमिर खान ने पाकिस्तान की इस मांग को ये कहते हुए ठुकरा दिया है कि यह फिल्म स्पोर्ट्स पर है, जिसका पाकिस्तान से कोई संबंध नहीं है. आमिर ने कहा कि वो इन दोनों ही सीन्स को फिल्म से नहीं निकालेंगे, भले ही दंगल पाकिस्तान में रिलीज़ हो ना हो.

उरी हमले के बाद भारत में पाकिस्तानी कलाकारों पर बैन के बाद पाकिस्तान ने भी बॉलीवुड की फ़िल्मों की रिलीज़ पर रोक लगा दी थी. कुछ वक़्त पहले ही इस बैन को हटा लिया गया था और दंगल को रिलीज़ करने की बात चल रही थी.  ख़ैर आमिर ने फिलहाल पाकिस्तान की इस डिमांड को मानने से इंकार कर दिया है.

aamir-2 (1)

आमिर खान हो गए हैं 52 साल के. वैसे आमिर खान की फिटनेस देखकर ये कहना मुश्किल है कि वो 50 साल पार कर चुके हैं. इस साल आमिर की बर्थडे पार्टी होगी ख़ास. दंगल की रिकॉर्ड तोड़ कमाई के बाद पार्टी तो बनती ही है. सुनने में आया है कि इस बार आमिर की बर्थडे पार्टी में असली दंगल गर्ल्स गीता फोगट और उनका परिवार भी इनवाइटेड है.

दंगल की कामयाबी के बाद अब आमिर बिज़ी हैं अपनी अगली फिल्म ठग्स ऑफ हिंदोस्तां में, जिसके लुक में आमिर इन दिनों नज़र आ रहे हैं. वैसे भी ये तो मिस्टर परफेक्शनिस्ट की आदत है, वो जब भी कोई रोल निभाने वाले होते हैं, उस किरदार को वो जीना शुरू कर देते हैं. हर जगह फिलहाल आमिर इसी लुक में नज़र आने वाले हैं.

मेरी सहेली (Meri Saheli) की ओर से आमिर खान को जन्मदिन की ढेरों शुभकामनाएं.

dangal

आमिर की फिल्म दंगल बॉक्स ऑफिस पर कमाई करने के साथ-साथ दर्शकों का प्यार भी जीत रही है, लेकिन कोई है, जो इस फिल्म से बहुत निराश है. ग़ुस्सा इस क़दर है कि वो आमिर स्टारर इस फिल्म को कोर्ट में भी घसीट सकता है. आख़िर कौन है वो और क्यों दंगल को असली अखाड़े में खींचना चाहता है.

दंगल वालों ने चीटिंग की!
जी हां, वो कोई और नहीं, बल्कि गीता फोगट के रियल लाइफ कोच प्याराराम सोंधी हैं. दंगल देखने के बाद सोंधी आमिर ख़ान समेत फिल्म के बाकी मेकर्स से काफ़ी नाराज़ दिखे. सोंधी का कहना है कि फिल्म की शूटिंग पर गए थे, लेकिन इस तरह के किसी सीन की बात मेकर्स ने नहीं की. इस तरह से फिल्म में दिखाए गए कई सीन पूरी तरह से ग़लत हैं.

आख़िर किस सीन को लेकर भड़के सोंधी?
दरअसल, फिल्म के एक सीन में गीता फाइनल खेलने जाती हैं, तो कोच गीता के पिता महावीर फोगट को कमरे में बंद करवा देते हैं. कोच नहीं चाहते थे कि गीता की सफलता का श्रेय उनके पिता को मिले. सोंधी की माने, तो ऐसा कुछ भी नहीं था. फोगट परिवार से उनका रिश्ता बहुत अच्छा है और इस तरह की बात नहीं थी. ऐसा फिल्म को और रोचक बनाने के लिए दिखाया गया है. इसी तरह फिल्म के एक सीन में गीता फोगट के कोच के रूप में प्रमोद कदम को दिखाया गया है, जबकि सोंधी की माने, तो उस समय वो ही फोगट के कोच थे.

फोगट फैमिली क्या कहती है?
अगर बात फोगट सिस्टर्स और फैमिली की की जाए, तो उनका कहना अलग है. वो तो फिल्म देखने के बाद ही कहने लगे थे कि फिल्म का 99% भाग उनकी रियल लाइफ से जुड़ा है. उनकी ज़िंदगी में जो हुआ, वही दिखाया गया है.

हालांकि सोंधी की इस बात पर अभी आमिर ख़ान और फोगट फैमिली को ओर से कोई रिऐक्शन नहीं आया है. सोंधी फिल्म से इस क़दर नाराज़ हैं कि वो लीगल ऐक्शन लेने के बारे में भी सोच रहे हैं. वैसे हमें नहीं पता कि इस पूरे मामले की सच्चाई क्या है, लेकिन इतना तो ज़रूर है कि फिल्म के एक अन्य सीन को लेकर भी विवाद चल रहा था, जिसमें गीता फोगट के फाइनल फाइट को फिल्म में संघर्षपूर्ण बताया गया है, जबकि असल में वो शानदार तरी़के से जीत दर्ज करते हुए गोल्ड मेडल जीती थीं.

श्वेता सिंह 

Dangal

आमिर खान देश ही नहीं, बल्कि विदेशों में भी दंगल मचा रहे हैं. देश में तीन दिनों में 100 करोड़ के क्लब में एंट्री लेने वाली दंगल ने विदेश में भी बॉक्स ऑफिस पर रच दिया है इतिहास. वर्ल्डवाइड दंगल ने अब तक 208.59 करोड़ की कमाई कर ली है और बहुत ही जल्द 300 करोड़ के क्लब में शामिल होने वाली है.

डोमेस्टिक बॉक्स ऑफिस पर दंगल ने अब तक लगभग 133 करोड़ की कमाई कर ली है, जबकि ओवरसीज़ में लगभग 76 करोड़ तक की कमाई कर ली है.

दंगल अब तक की पहली हिंदी फिल्म है जिसे ऑस्ट्रेलिया में बड़ी ओपनिंग मिली है.

ओवरसीज़ में अच्छी ओपनिंग करके दंगल साल 2016 की चौथी सबसे ज़्यादा कमाई करने वाली फिल्म बन चुकी है. इससे पहले सुल्तान, ऐ दिल है मुश्किल और शाहरुख खान स्टारर फैन इस लिस्ट में अपनी जगह बना चुके हैं.

– प्रियंका सिंह

Uttam Mehendi Designs (E-Book)

Rs.30

Maharashtrian Receipe (E-Book)

Rs.30
Bread Recipe

Bread Recipe (E-Book)

Rs.30

आमिर ख़ान स्टारर फिल्म दंगल दर्शकों के बीच ख़ूब प्रशंसा बटोर रही है, लेकिन साथ ही फिल्म में गीता फोगट की फाइट को लेकर भी ख़ूब चर्चा हो रही है. ऐसा माना जा रहा है कि रील और रियल फाइट में बहुत अंतर है. लोगों का मानना है कि उस असली मोमेंट को फिल्म में दर्शाने में निर्देशक असफल रहे. हम आपको बता दें कि 2010 के कॉमनवेल्थ गेम्स में गीता फोगट ने गोल्ड मेडल जीतकर देश का नाम रोशन करने के साथ ही भारत की पहली महिला रेसलर बन गई थी. आप भी देखें गीता फोगट की असली कुश्ती.

Dangal Review

बॉक्स ऑफिस पर दंगल मचा रही है फिल्म दंगल. आमिर खान की फिल्म दंगल तीन दिनों में ही 100 करोड़ से ज़्यादा की कमाई कर ली है. इस धाकड़ शुरुआत के साथ दंगल ने सलमान खान की फिल्म सुल्तान का भी रिकॉर्ड तोड़ दिया है. सुल्तान ने वीकेंड पर लगभग 105 करोड़ की कमाई की थी, जबकि दंगल ने पहले तीन दिनों में लगभग 107 करोड़ की कमाई कर ली है.Cz97EY8VQAAwfNS1-580x395 (1)हालांकि सुल्तान फिल्म बुधवार को रिलीज़ हुई थी, ऐसे में फिल्म को पांच दिनों का वीकेंड मिला था, जिसकी वजह से फिल्म की कुल पांच दिनों की कमाई 180 करोड़ रूपए थी. ऐसे में अब भी दंगल सुल्तान से एक कदम पीछे ही है.

गजनी, 3 इडियट्स, धूम 3 और पीके के बाद आमिर खान की ये पांचवी फिल्म है, जो 100 करोड़ के क्लब में शामिल हो चुकी है. फिलहाल अभी अगले दो हफ्तों तक कोई बड़ी फिल्म नहीं रिलीज़ हो रही, ऐसे में अभी और दंगल मचाएगी ये फिल्म.

– प्रियंका सिंह

 

Uttam Mehendi Designs (E-Book)

Rs.30

Maharashtrian Receipe (E-Book)

Rs.30
Bread Recipe

Bread Recipe (E-Book)

Rs.30
कुछ दायरों को पार करना इतना सहज भी नहीं होता, लेकिन उनसे परे जाकर, जब सारे जहां को जीतने का जज़्बा दिल में घर कर जाता है, तो हर बंदिश को तोड़ना आसान लगने लगता है. कुछ ऐसी ही बंदिशों को तोड़कर दुनिया को अपने अस्तित्व का लोहा मनवाया है फोगट सिस्टर्स ने. महावीर सिंह फोगट ने अपनी बेटियों को दुनिया से लड़ने का हौसला दिया और उनकी बेटियों ने उनका सिर गर्व से ऊंचा कर दिया. यही वजह है कि महावीरजी से प्रभावित होकर कुश्ती जैसे विषय पर दंगल फिल्म बन रही है.
पहलवानी एक ऐसा क्षेत्र है, जहां मर्दों का ही दख़ल माना जाता रहा है, लेकिन पिछले कुछ वर्षों में गीता, बबीता, रितु, विनेश से लेकर साक्षी मलिक तक ने पहलवानी के जो दांव दिखाए हैं, उससे दुनिया स्तब्ध है. कुश्ती, पहलवानी, दंगल, महिलाओं का इसमें दख़ल… इन तमाम विषयों पर महावीर फोगट की बेटी रितु फोगट क्या कहती हैं, आइए जानते हैं-

Dangal

आपके पिताजी पर फिल्म बन रही है, क्या ख़ास व अलग महसूस कर रही हैं?
ज़ाहिर है कि अच्छा लग रहा है. हमारे पापा ने हमें बहुत हौसला दिया है. हमारे परिवार को कुश्ती को और ख़ासतौर से लड़कियों को इस क्षेत्र में बढ़ावा देने के लिए जो भी सकारात्मक प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं, उनसे गर्व महसूस होता है. इसके अलावा इस फिल्म में बाप-बेटी के रिश्ते को जिस तरह से दर्शाया जाएगा, वो भी काबिले तारीफ़ है. इससे बेटियों को काफ़ी हौसला भी मिलेगा और हमारे समाज में बेटियों के प्रति जो भी नकारात्मक सोच है, उसमें ज़रूर बदलाव आएगा. हम जैसे स्पोर्ट्स पर्सन के लिए आख़िर दंगल यानी कुश्ती ही पहचान है.

एक लड़की होने के नाते कितना मुश्किल था कुश्ती जैसे प्रोफेशन को अपनाना?
सच कहूूं तो मुझे इतनी मुश्किल नहीं हुई, क्योंकि हमारे पापा ने कोई मुश्किल आने ही नहीं दी. अगर समाज व परिवार के तानों की भी बात हो, तो उन्होंने सब कुछ ख़ुद सुना, ख़ुद झेला, ताकि हम पर कोई आंच न आए. सबसे वो ख़ुद लड़े. साथ में मेरी बड़ी बहनें भी थीं, तो उनका भी सपोर्ट था मुझे.

अगर बात करें दंगल मूवी की, तो आमिर ख़ान को मिस्टर परफेक्शनिस्ट कहते हैं, आपके परिवार के साथ उन्होंने किस तरह समय बिताया और उनका कमिटमेंट देखकर आपको कैसा लगा?
उनसे पहली बार जब मुलाक़ात हुई, तो यह लगा ही नहीं कि हम इतने बड़े स्टार से मिल रहे हैं. बहुत ही सहज और सिंपल हैं. अपने काम के प्रति ग़ज़ब का समर्पण है उनमें. हालांकि हम तो ज़्यादा नहीं मिले उनसे, पापा के साथ ही अधिक बातचीत होती थी, लेकिन जितनी बार भी मिले, हमें उनकी सहजता ने बहुत प्रभावित किया, क्योंकि हमें वो बेहद कंफर्टेबल महसूस करवाते थे.

Dangal

रेसलिंग जैसे खेल को बतौर प्रोफेशन चुनना कितना टफ होता है और कितने अनुशासन व ट्रेनिंग की ज़रूरत होती है?
ट्रेनिंग व अनुशासन बहुत ही ज़रूरी है और सच कहूं, तो पापा बहुत ही स्ट्रिक्ट होते हैं ट्रेनिंग के टाइम पर. सुबह 3.30 बजे उठना, एक्सरसाइज़ और प्रैक्टिस करना इतना थका देता है कि कभी-कभी उठने की भी हिम्मत नहीं रहती. लेकिन यह ज़रूरी है, ताकि हमें अपना स्टैमिना पता रहे और हम उसे बढ़ा सकें.

डायट और फिटनेस के लिए क्या ख़ास करना पड़ता है?
डायट तो नॉर्मल ही रहती है, जैसे- दूध, बादाम, रोटी… लेकिन टूर्नामेंट वगैरह से पहले थोड़ा कंट्रोल करना पड़ता है, जिसमें ऑयली, फैटी व स्वीट्स को अवॉइड करते हैं.

अपनी हॉबीज़ के बारे में बताइए?
मुझे तो कोई ख़ास शौक़ नहीं है, बस कुश्ती ही मेरा शौक़ भी है और जुनून भी. हां, खाली समय में पंजाबी गाने सुनती हूं या फिर कभी-कभार ताश भी खेल लेती हूं.

Dangal

उन लड़कियों से क्या कुछ कहना चाहेंगी, जो इस क्षेत्र में या अन्य खेलों में अपना भविष्य तलाशने की चाह रखती हैं?
चाहे किसी भी क्षेत्र में हों या कोई भी हो, लगन व मेहनत का कोई पर्याय नहीं है. सबमें टैलेंट होता ही है, लेकिन उस टैलेंट को मंज़िल तभी मिलती है, जब आप मेहनत और लगन से अपने लक्ष्य को पाने में जुटते हैं.

कोई सपना, जो रोज़ देखती हैं या कोई अधूरी ख़्वाहिश?
एक ही ख़्वाहिश है- ओलिंपिक्स में गोल्ड!

अन्य खेलों के मुकाबले आप रेसलिंग को कहां देखती हैं?
यह सही है कि रेसलिंग को अब काफ़ी बढ़ावा मिल रहा है, लेकिन यदि अन्य खेलों की तरह पहले से ही इसे थोड़ा और गंभीरता से लिया जाता, तो इसमें अपना करियर बनाने की चाह रखनेवाली लड़कियों को काफ़ी प्रोत्साहन मिलता. लेकिन देर आए, दुरुस्त आए.

Dangal

आपकी बहनें आपको किस तरह से इंस्पायर करती हैं? क्या आप सबके बीच आपस में कोई कॉम्पटीशन की भावना है या इतने सारे स्टार्स एक ही परिवार में हैं, तो अपनी अलग पहचान बनाना चुनौतीपूर्ण लगता है?
जी नहीं, ऐसा कुछ भी नहीं है. मेरे पापा और सिस्टर्स ने हमेशा मुझे सपोर्ट किया है, उन्हीं को देखकर सीखा है सब. हम सब एक दूसरे का सपोर्ट सिस्टम हैं, परिवार से ही तो हौसला मिलता है.

फिल्हाल दंगल मूवी रिलीज़ हो चुकी है और लोगों द्वारा काफ़ी पसंद भी की जा रही है… रितु ने भी अपना स्पेशल रिव्यू सोशल मीडिया पर शेयर किया है…

https://www.instagram.com/p/BORraPzDrNa/?taken-by=rituphogat48&hl=en

– गीता शर्मा

फिल्म- दंगल

स्टारकास्ट- आमिर खान, सांक्षी तवर, फातिमा सना शेख, सान्या मल्होत्रा, ज़ायरा वसीम, सुहानी भटनागर

निर्देशक- नितेश तिवारी

रेटिंग- 4 स्टार

Dangal Review

”मेडलिस्ट पेड़ पर नहीं उगते, उन्हें बनाना पड़ता है…प्यार से, मेहनत से, लगन से….” बस कुछ इसी डायलॉग की तरह दंगल को भी बनाया गया है, प्यार से, मेहनत से और लगन से. ये मेहनत आपको पर्दे पर नज़र भी आएगी. ये फिल्म आपको पलकें झपकाने का भी मौक़ा नहीं देगी. आइए, जानते हैं कि क्यों दंगल जैसी फिल्म आपको देखनी ज़रूरी है.

कहानी

म्हारी छोरियां छोरों से कम हैं के? इसी कॉन्सेप्ट पर है ये फिल्म. हरियाणा के पहलवान महावीर सिंह फोगट के जीवन पर आधारित है दंगल. गोल्ड मेडल न जीत पाने का अधूरा सपना अपने बेटे में देखने वाले महावीर सिंह फोगट (आमिर खान) बेटे के इंतज़ार में चार बेटियों के पिता बन जाते हैं. उन्हें गोल्ड पाने का सपना अब धुंधला होता नज़र आने लगता है, लेकिन तभी उनकी रुकी ज़िंदगी में आता है एक बड़ा बदलाव, जब उनकी बेटियां गीता (ज़ायरा वसीम) और बबीता (सुहानी भटनागर) एक लड़के को पीट देती हैं. इसके बाद ही महावीर सिंह अपनी बेटियों को कुश्ती के गुर सिखाकर उन्हें रेसलिंग के रिंग में उतारते हैं और गोल्ड का सपना पूरा होता है.

फिल्म की यूएसपी

फिल्म की यूएसपी की बात करें, तो एक्सप्रेशन से लेकर डायलॉग्स और गानों से लेकर हर सीन तक सब कुछ परफेक्ट है. इस फिल्म से आप ख़ुद को कनेक्ट कर पाएंगे. फिल्म के कुछ सीन्स, ख़ासकर कुश्ती के कई सीन्स तो ऐसे हैं, जो कुछ सेकंड के लिए आपकी सांसें रोक देंगे.

दूसरी ख़ास बात ये है कि जिन दर्शकों को कुश्ती के दांव-पेंच और रूल्स नहीं पता हैं, उनके लिए डायरेक्टर ने फिल्म में कुछ प्वॉइंट्स क्लियर कर दिए हैं, ताकि फिल्म में दिखाई गई कुश्ती के अहम् दृश्यों को वो सही ढंग से समझ सकें.

दमदार ऐक्टिंग

हर एक किरदार फिल्म में अपनी ऐक्टिंग के साथ न्याय करता नज़र आएगा. सबसे पहले बात आमिर खान की. आमिर क्यों मिस्टर परफेक्शनिस्ट हैं इसका जवाब आपको मिलेगा इस फिल्म में. पहलवान महावीर सिंह फोगट के रोल में आमिर कमाल के लग रहे हैं. आमिर का बढ़ा हुआ वज़न देखकर और उनकी बोली सुनकर आप कुछ देर के लिए भूल जाएंगे कि ये आमिर हैं, आपको लगेगा आप वाकई हरियाणा के किसी पहलवान को देख रहे हैं.

गीता और बबीता के बचपन के रोल में ज़ायरा वसीम और सुहानी भटनागर, तो वहीं बड़े होने के बाद के रोल में फातिमा सना शेख और सान्या मल्होत्रा ने ज़बरदस्त काम किया है और अपने धाकड़ अंदाज़ से लोगों का दिल जीत लिया है.

साक्षी तंवर अच्छी ऐक्ट्रेस हैं, ये हर कोई जानता है और इस फिल्म में भी उन्होंने ये साबित कर दिया है.

क्यों देखने जाएं फिल्म?

दंगल फिल्म के लिए ये सवाल बनता ही नहीं है कि क्यों देखने जाएं फिल्म, क्योंकि इस फिल्म को देखे बगैर साल 2016 को बाय-बाय कहना सही नहीं होगा. साल 2016 की अच्छी यादों में इस फिल्म को ज़रूर शामिल करिए. दंगल न सिर्फ़ एक अच्छा मैसेज देगी, बल्कि आपकी सोच को पॉज़िटिव बना कर कभी हार न मानने का जज़्बा भी देगी.

– प्रियंका सिंह