Tag Archives: Decor Ideas

टॉप वॉलपेपर सिलेक्शन आइडियाज़(Top Wallpaper Selection Ideas)

वॉल डेकोर को नया अंदाज़ देना चाहती हैं तो उसे वॉलपेपर से सजाएं और होम डेकोर को दें डिफरेंट लुक, लेकिन वॉलपेपर सिलेक्शन से पहले कुछ बातों का ध्यान रखें.

ban-680-1
वॉलपेपर सिलेक्शन टिप्स

– वॉलपेपर ख़रीदते समय अपने बजट का ध्यान रखें, क्योंकि महंगे वॉलपेपर लगाने का लेबर कॉस्ट भी अधिक होगा.
– वॉलपेपर ख़रीदते समय इस बात का ध्यान रखें कि किस रूम के लिए किस टाइप का वॉलपेपर ख़रीदना है.
– किचन के लिए ऐसा वॉलपेपर चुनें, जो इनफ्लेमेबल (ज्वलनशील) न हो.
– किड्स रूम के लिए वॉलपेपर का चुनाव करते समय उनकी पसंद-नापसंद का ध्यान रखें.
– अच्छी क्वालिटीवाला वॉलपेपर ही ख़रीदें, जो टिकाऊ भी हो.
– आप ऐसे वॉलपेपर का चुनाव भी सकते हैं, जो स्क्रैचेज़ और स्टेन रेज़िस्टेंट हो.
– वॉलपेपर के मार्केट रेट की जानकारी प्राप्त करने के बाद एक बार ऑनलाइन रिसर्च ज़रूर करें. इस रिसर्च के दौरान वॉलपेपर के टाइप, मटेरियल, क़ीमत और रिव्यू ज़रूर पढ़ें.

वॉलपेपर के प्रकार

विनायल वॉलपेपर: किचन और बाथरूम की सुरक्षा के लिए विनायल वॉलपेपर सबसे अच्छा विकल्प है, क्योंकि इन वॉलपेपर पर नमी नहीं लगती. इनकी क़ीमत कम होती है और क्लीनिंग व केयर में भी अधिक मेहनत नहीं लगती. ये वॉलपेपर किचन व बाथरूम को शाइनी व स्मूद टच देते हैं.
पीवीएफ (पॉली विनायल फॉम) वॉलपेपर: इस वॉलपेपर को घर के इन्सुलेटेड एरिया में लगाना चाहिए, जैसे- घर के उस एरिया में, जहां पर आपने होम थियेटर सिस्टम इंस्टॉल किया हो. वास्तव में पीवीएफ, साउंड इन्सुलेटर का काम करता है, जिससे बाहरी शोर अंदर सुनाई नहीं देता. इस वॉलपेपर को लगाने का एक दूसरा लाभ यह भी है कि यह कमरे में कूलिंग बनाए रखने में मदद करता है.

1e5f04c4e3d1e2dce71ef9a7d0df0e9f
फ्लोक्ड वॉलपेपर (टेक्सटाइल फाइबर से बने वॉलपेपर): सिल्क, कॉटन, वेलवेट और लिनेन से बने इन वॉलपेपर की क़ीमत बहुत अधिक होती है. इन वॉलपेपर को बहुत अधिक केयर और मेंटेनेंस की ज़रूरत होती है. महंगे होने के बाद भी अधिकतर लोग इन वॉलपेपर को अपने घर में लगाते हैं, क्योंकि ये वॉलपेपर कमरे में ङ्गविज़ुअल ब्यूटीफ जैसा लुक क्रिएट करते हैं. अमूमन डाइनिंग व लिविंग रूम में इस तरह के वॉलपेपर लगाए जाते हैं.
फाइबरग्लास वॉलपेपर: कंटेम्प्रेरी टाइपवाले ये वॉलपेपर दिखने में बहुत ही ख़ूबसूरत लगते हैं. ये फायर रेटारडेंट (अग्नि विरोधी) होते हैं. इन्हें घर पर धो भी सकते हैं.
फॉइल वॉलपेपर: घर को ट्रेडिशनल लुक देेने के लिए मेटालिक फॉइल शीट और पेपर से बने वॉलपेपर लगा सकते हैं, लेकिन मेटल शीट से बने होने के कारण इन वॉलपेपर्स को लाइट, स्विच व सॉकेट के आसपास न लगाएं.
उपरोक्त बताए टाइप के अलावा और भी बहुत सारे टाइप के वॉलपेपर बाज़ार में मिलते हैं, जिनका चुनाव आप अपनी पसंद, शौक़, बज़ट और ट्रेंड के अनुसार कर सकते हैं.

वॉलपेपर डिज़ाइनिंग आइडियाज़

 

modern-home-decor-BEDROOM-INSPIRATIONS-MODERN-VINTAGE-WALLPAPER-harlequin-poetica-wallpapers-e1432717014235

– आजकल मार्केट में विभिन्न प्रकार के पैटर्न- क्लासिक पैटर्न, ऐब्सट्रैक्ट पैटर्न, ग्राफिक्स पैटर्न, फ्लोरल पैटर्न, ज्योमैक्ट्रिकल पैटर्न, रेट्रो पैटर्न, थ्रीडी पैटर्न और मेटालिक पैटर्न आदि मिलते हैं. अपनी पसंद, शौक़ और कमरे के अनुसार वॉलपेपर का सिलेक्शन करें.
– अलग-अलग रूम के अलग-अलग थीम वाला वॉलपेपर चुनें.
– वॉल कलर से मैच करते हुए और डल कलरवाले वॉलपेपर का सिलेक्शन न करें.
– छोटे कमरे में बोल्ड कलर और बड़े प्रिंट के वॉलपेपर न लगाएं. इससे कमरा और छोटा लगेगा.
– छोटे कमरे को स्पेशियस लुक देने स्ट्राइप्स पैटर्नवाले वॉलपेपर का चुनाव करें. इससे कमरा स्पेशियस लगता है.
– किचन के लिए सॉलिड विनायल वॉलपेपर अच्छा विकल्प है. यह स्टेन रेज़िस्टेंट होता है, साथ ही रब करने पर जल्दी ख़राब भी नहीं होता.
– किड्स रूम के लिए ब्राइट कलर्स और आकर्षक पैटर्नवाले वॉलपेपर चुनें.
– कमरे की फीचर वॉल के लिए ब्राइट प्रिंट और पैटर्न बेस्ड वॉलपेपर चुनें.
– कमरे को मॉडर्न लुक देने के लिए ब्लैक कलर में क्लासिक पैटर्नवाला वॉलपेपर लगाएं.
– कमरे को बोल्ड लुक देने के लिए डीप रेड कलर के वॉलपेपर का सिलेक्शन करें.
– केवल एक दीवार पर ही नहीं, चाहें तो दो दीवारों पर ही वॉलपेपर लगाएं और बाकी दो दीवारों को पेंट करें. इससे भी डेकोर को न्यू लुक मिलेगा.

– देवांश शर्मा

किड्स कॉर्नर- कुछ इस अंदाज़ में सजाएं बच्चों का कमरा (Smart Decor Ideas for kids room)

Decor Ideas for kids room
Decor Ideas for kids room
पूरे आशियाने को सजाना आसान काम है, लेकिन जब बात बच्चों के कमरे की आती है, तो मुश्किल बढ़ जाती है. क्या करें, कौन-सी चीज़ कहां रखें, फर्नीचर कैसा हो जैसी बातें सोचकर आप भी परेशान हो जाती होंगी. आपकी इसी परेशानी को दूर करने के लिए हम बता रहे हैं बच्चों का कमरा सजाने के आसान उपाय.

 

Decor Ideas for kids room

Decor Ideas for kids room

कैसा हो वॉल डेकोरेशन?

बच्चों का कमरा सजाने में पहली चुनौती होती है वॉल डेकोरेशन यानी आपके लाड़ले/लाड़ली के कमरे की दीवारें कैसी हों. आप यदि बेटी के कमरे की दीवारों के बारे में सोच रही हैं, तो बेहतर होगा कि पिंक कलर का चुनाव करें. आमतौर पर लड़कियों को पिंक कलर ज़्यादा पसंद आता है. लड़कों के लिए ब्लू कलर बेस्ट हैं, क्योंकि उन्हें ब्लू कलर ज़्यादा पसंद आता है.

* सबसे पहले दीवारों को ब्लू या पिंक कलर से अच्छी तरह कलर करवाएं.

* पेंट करवाने के बाद तरह-तरह के वॉल पेपर्स से आप दीवारों को अट्रैक्टिव बना सकती हैं.

* कमरे की ऊपरी छत पर चांद-सितारे या इसी तरह के दूसरे वॉल पेपर का प्रयोग करें.

* कमरे की एक दीवार पर बटरफ्लाई, ट्री, बर्ड्स, जिराफ जैसी आकृतियों वाला वॉल पेपर लगाएं.

* किसी एक दीवार पर बच्चे की पसंद की सीनरी या बच्चे की कुछ स्पेशल फोटोग्राफ्स लगाएं.

यह भी पढ़ें: बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए अपनाएं ये फेंग्शुई टिप्स

[amazon_link asins=’B00XKYDZUU,B00ADZUNYK,B00K2PQZA2,B004RFQDNC,B074QZFSW7′ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’499e1ce2-c6d2-11e7-a0ae-71af5792076c’]

Decor Ideas for kids room

कैसा हो बेड?

दीवारों के बाद बारी आती है बेड की. बच्चों के कमरे के लिए बेड का चुनाव करते समय इन बातों का ध्यान रखेंः

* कार, बार्बी डॉल जैसे डिज़ाइन के बेड मार्केट में मिलते हैं. बच्चों के लिए इस तरह के बेड का चुनाव करें. ये आकर्षक दिखते हैं.

* किंग साइज़ बेड की बजाय सिंगल बेड का चुनाव करें. इससे कमरे में बच्चे के लिए ज़्यादा जगह बचेगी.

* ऐसा बेड चुनें जिसमें स्टोरेज की सुविधा हो. इससे बच्चे के कई सामान उसमें आसानी से आ जाएंगे और कमरा बिखरा हुआ नहीं रहेगा.

* एक कमरे में दो बेड रखने की बजाय डबल फ्लोर वाला बेड चुनें. ये कम जगह घेरता है और कमरे को अट्रैक्टिव लुक भी देता है.

* बेड ख़रीदते समय इस बात का भी ध्यान रखें कि उसके किनारे नुकीले न हों. इससे बच्चों को चोट लग सकती है.

Decor Ideas for kids room

कैसा हो स्टडी टेबल और चेयर?

बच्चे के कमरे में स्पेस का ध्यान रखना बहुत ज़रूरी है, क्योंकि कमरा भरा-भरा होने पर बच्चे चिढ़ जाते हैं. अतः बेड की तरह ही स्टडी टेबल और चेयर का चुनाव करते समय भी इस बात का ध्यान रखें कि वो ज़्यादा जगह न घेरे.

* बच्चों की उम्र के अनुसार ही उनके स्टडी चेयर और टेबल का चुनाव करें.

* स्टडी चेयर और टेबल सिंपल हो, तो ज़्यादा अच्छा रहता है. आप चाहें तो डिज़ाइनर स्टडी चेयर और टेबल का चुनाव भी कर सकती हैं.

* स्टडी चेयर और टेबल ऐसा चुनें जिसमें स्टोरेज की व्यवस्था हो. इससे बच्चों की क़िताबें आदि बिखरी हुई नहीं रहेंगी.

* अटैच्ड स्टडी चेयर और टेबल भी अच्छा विकल्प हो सकता है. ये जगह भी कम घेरता है.

* स्टडी चेयर और टेबल ख़रीदते समय बच्चे की उम्र और हाइट का विशेष ध्यान रखें.

यह भी पढ़ें: 5 आसान फेंगशुई टिप्सः घर को बचाएं निगेटिव एनर्जी से

Decor Ideas for kids room

कैसे सिलेक्ट करें कर्टन?

बच्चों के कमरे में वैसे तो कर्टन की कोई ख़ास आवश्यकता नहीं होती, लेकिन बाकी कमरों से तालमेल बिठाने के लिए परदा लगाना ज़रूरी है. बच्चों के कमरे के लिए परदे चुनते समय इन बातों का ध्यान रखें.

* सिल्क के परदे लगाने से बचें.

* क्रीम, व्हाइट जैसे हल्के रंग के परदों का चुनाव न करें.

* कॉटन के साधारण परदों का चुनाव करें.

* कर्टन एक्सेसरीज़ से बचें. इनकी आवाज़ से बच्चे डिस्टर्ब होते हैं और उसी में उलझे रहते हैं.

* बहुत भारी और एम्ब्रॉयडरी वाले परदे बच्चों के कमरे में न लगाएं. इसमें बच्चों के फंसने और गिरने का डर रहता है.

[amazon_link asins=’B00PSQQZ3W,B011NXA79Q,B0136U8P5M,B00004YRPE’ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’5b176103-c6d2-11e7-aef4-f775c31dd1fe’]

Decor Ideas for kids room
क्या न करें?

* बच्चों के कमरे की सजावट करते समय अपनी पसंद उन पर न थोपें, नहीं तो वो बच्चों का कमरा लगने की बजाय किसी बड़े का कमरा लगेगा.

* कमरे को लग्ज़ीरियस लुक देने की ग़लती न करें. बच्चे के व्यवहार से आप पूरी तरह वाक़िफ हैं. अतः उसी के अनुसार कमरे को सजाएं.

* बहुत ज़्यादा एक्सेसरीज़, जैसे- वॉल हैंगिंग्स, डोर हैंगिंग्स आदि न लगाएं. बच्चे इन्हें पसंद नहीं करते.

* कमरे को बहुत ज़्यादा सामान से भरने की ग़लती न करें.

* कमरे में बहुत महंगी चीज़ें न रखें. उदाहरण के लिए- महंगे वॉल पेपर्स, कुर्सी-टेबल आदि.

* कमरे में नुकीले फर्नीचर न रखें.

* कमरे में स्विच बोर्ड बच्चों की पहुंच से ऊपर लगवाएं.

* एसी का रिमोट रखने के लिए होल्डर भी बच्चों की पहुंच से ऊपर लगवाएं.

* बच्चों के कमरे में टीवी और कंप्यूटर लगाने की ग़लती न करें.

* प्रेस, हीटर आदि चीज़ें बच्चों के कमरे में न रखें.

सबसे पहले ये निश्‍चित कर लें कि आपको कमरा किसके लिए सजाना है बेटे या बेटी के लिए, क्योंकि दोनों की पसंद अलग-अलग होती है.

– श्‍वेता सिंह

यह भी पढ़ें: 5 आसान फेंगशुई टिप्सः घर को बचाएं निगेटिव एनर्जी से