Diwali celebration

दिवाली 2020 की शुरुआत हो गई है. सभी लोग दिवाली की तैयारियां कर रहे हैं. दिवाली में किस दिन क्या पूजा करें, पूजा का शुभ मुहूर्त क्या है, ये हर कोई जानना चाहता है. धनतेरस पूजा, लक्ष्मी पूजा, गोवर्धन पूजा, भाई दूज के शुभ मुहूर्त और पूजा विधि बता रही हैं एस्ट्रो-टैरो एक्सपर्ट व न्यूमरोलॉजिस्ट मनीषा कौशिक.

Dhanteras

13 नवम्बर 2020: ये हैं धनतेरस पूजा के शुभ मुहूर्त

धनतेरस का त्यौहार कुबेर देव जी, गणेश जी व माँ लक्ष्मी जी से सम्बन्ध रखता है. इस दिन कुबेर देव जी, गणेश जी व माँ लक्ष्मी जी की पूजा करने
से घर में सुख व संपन्नता आती है.
त्रयोदशी प्रारम्भ – सूर्यउदय से
त्रयोदशी समापन – 5:57 बजे
व्यावसायिक पूजा मुहूर्त
लाभ मुहूर्त – 08:07 से 9:27
अमृत मुहूर्त – 09:28 से 10:48
शुभ मुहूर्त – 12:10 से 1:29
खरीदारी के चौघाडिया मुहूर्त:
शुभ मुहूर्त – 12:10 से 1:29
लाभ मुहूर्त – 11:44 से 12:26

सांय काल में शुभ मुहूर्त
प्रदोषकाल में दीपदान व कुबेर पूजन करना शुभ रहता है.
दिल्ली में सूर्यास्त समय – सायं 5:26
प्रदोष काल का समय – 5:38 से 8:15
स्थिर लग्न / वृषभ लग्न – 5:32 से 7:28
पूजा का शुभ समय – 5:24 से 5:59

यह भी पढ़ें: राशि के अनुसार ऐसे करें मां लक्ष्मी को प्रसन्न (How To Pray To Goddess Lakshmi According To Your Zodiac Sign)

14 नवंबर 2020: दिवाली पूजा (लक्ष्मी पूजा) का शुभ मुहूर्त
कार्तिक अमावस्या प्रारम्भ: 14 नवंबर 2:18
कार्तिक अमावस्या समापन: 15 नवंबर 10:37
व्यावसायिक पूजा मुहूर्त
पूजा मुहूर्त – 2:51 से 4:11
लक्ष्मी पूजा मुहूर्त
लक्ष्मी पूजा: 5:30 से 7:25
प्रदोष काल: 5:26 से 8:08
वृषभ काल: 5:30 से 7:26
लाभ चौघड़िया सर्वोत्तम मुहूर्त: 5:30 से 7:07
निशीथ काल
निशीथ काल: 8:08 से 10:51
निशीथ काल शुभ चौघड़िया: 8:48 से 10:30
निशीथ काल अमृत चौघड़िया: 10:30 से 12:12
महानिशीथ काल मुहूर्त
लक्ष्मी पूजा मुहूर्त: 11:39 से 12:32
महानिशीथ काल: 10:51 से 25:33
सिंह काल: 12:03 से 26:19

दिवाली पूजा के लिए निम्नलिखित चार समय का बहुत अधिक महत्व
है:

  1. प्रदोष काल
  2. स्थिर लगन
  3. निशीथ काल
  4. महानिशीथ काल
    यदि ऊपर दिए गए कालों में स्थिर लगन के साथ शुभ चौघड़िया भी आ जाए अर्थात (काल समय+स्थिर लगन+शुभ चौघड़िया) तो, सभी समय की गणनाओं को ध्यान में रखते हुए लक्ष्मी पूजा उसी समय में करें. किसी कारणवश इस समय में पूजा न कर पाएं तो अन्य दिए गए समय में पूजा अवश्य करें.

यह भी पढ़ें: पूजा करते समय दीया बुझ जाने को अशुभ क्यों माना जाता है? जानें दीया बुझ जाने के शुभ-अशुभ संकेत (Why The Lamp Extinguished While Worshiping Is Inauspicious)

15 नवंबर 2020 गोवर्धन पूजा मुहूर्त
प्रतिपदा तिथि प्रारम्भ – 15 नवंबर 2020, 10:37 AM
प्रतिपदा तिथि समापन – 16 नवंबर 2020, 7:06 AM
गोवर्धन पूजा प्रातःकाल मुहूर्त – 6:44 AM से 8:55 AM
गोवर्धन पूजा सायंकाल मुहूर्त – 03:27 PM से 05:38 PM

16 नवंबर 2020 भाई दूज मुहूर्त
द्वितीय तिथि प्रारम्भ – 16, नवंबर 07:06 AM
द्वितीय तिथि समापन – 17, नवंबर 03:57 AM
भाई दूज टीका मुहूर्त – 01:16 PM से 03:27 PM
सर्वोत्तम तिलक मुहूर्त – 02:51 PM से 03:27 PM

  • कोरोना के चलते इस साल वैसे भी पटाखों का बाज़ार ठंडा है, लेकिन फिर भी कहीं न कहीं लोग निर्देशों को अनदेखा करते हैं और स्वास्थ्य से खिलवाड़ करने लगते हैं.
  • पटाखों से धुआं व प्रदूषण होता है, जो सांस की बीमारी को बढ़ा सकता है और बच्चों और बुज़ुर्गों को बीमार कर सकता है.
  • कोई भी त्योहार हो और ख़ासतौर से दीवाली में में हम खाने-पीने का हिसाब-किताब ही नहीं रखते और इसके चलते बहुत ज़्यादा मिठाई और तली हुई चीज़ें खा लेते हैं, जो नुकसान पहुंचाती हैं.
  • दिवाली में नकली मिठाइयों का बज़ार भी काफ़ी गर्म रहता है, तो सावधान रहें. जितना संभव हो घर पर ही कुछ बनाएं.
  • खोवे के मिठाइयां और सिल्वर फॉइल चढ़ी मिठाइयां न खाएं. सिल्वर फॉइल की जगह अक्सर एल्युमिनियम का प्रयोग होता है, जो शरीर और ख़ासतौर से मस्तिष्क पर बहुत बुरा असर डालता है.
  • कई मिठाइयों में केमिकल प्रिज़र्वेटिव्स डाले जाते हैं और ये आपके लिवर व किडनी को डैमेज कर सकती हैं. इनसे अस्थमा अटैक और कैंसर का ख़तरा भी हो सकता है.
Tips For Safe Diwali
  • बेहतर होगा कि ड्राय फ्रूट्स, फ्रेश फ्रूट्स और अन्य हेल्दी ऑप्शन्स रखें अपने दिवाली मेनू में.
  • इसके अलावा आजकल शुगर फ्री मिठाइयां भी मिलती हैं, जो हेल्दी ऑप्शन है आपके लिए भी और दूसरों को गिफ्ट करने के लिए भी. इस पर ध्यान दें.
  • अपने खाने पर कंट्रोल रखें, ओवरईटिंग न करें. इससे पेट की समस्या हो सकती है.
  • पटाखे और फुलझड़ियां बच्चों को बहुत अट्रैक्ट करते हैं, लेकिन बच्चों को कभी भी ख़तरनाक बम-पटाखे न दें.
  • ढीले-ढाले, सिंथेटिककपड़े दीये न जलाएं और न ही बुरी बांह के कपड़े ही पहनें. दीयों को ऐसी जगह रखें, जहां वे किसी को नुक़सान न पहुंचा पाएं.
Tips For Safe Diwali
  • जहां इलेक्ट्रिक तार हों, गैस सिलेंडर या कोई भी आग पकड़नेवाले सामान हों, वहां दीये न रखें.
  • दिवाली के दौरान पावर कंज़म्शन बहुत अधिक बढ़ जाता है, जिससे हमारा ही नुक़सान होता है. बेहतर होगा ईको फ्रेंडली दिवाली मनाएं. मिट्टी के दीयों का प्रयोग करें.
  • जितना संभव हो देश में बने प्रोडक्ट ही यूज़ करें साज-सज्जा के लिए. लोकल चीज़ों का प्रयोग कोरोना के चलते मुश्किल में पड़े लोगों की मदद भी करेंगे और आप भी देश की तऱक्क़ी में सहयोग करेंगे.
  • दीवाली के दिन चैरिटी करके उत्सव मनाएं. ग़रीब बच्चों को या किसी आश्रम में जाकर उनके बीच ख़ुशियां बांटें और अपने बच्चों को भी साथ ले जाएं, ताकि वो भी अच्छा काम सीख सकें और प्रेरित हो सकें.

यह भी पढ़ें: फिट और हेल्दी रहने के 5 बेहतरीन आयुर्वेदिक ट्रिक्स… (Top 5 Ways To Stay Fit And Healthy- According To Ayurveda)

दिवाली के दिन आपके घर का हर कोना, हर दरो-दीवार ख़ुशियों के रंग से जगमगाते रहें, इसीलिए हम लेकर आए हैं कंप्लीट क्लीनिंग गाइड. यहां हमने लिविंग रूम से लेकर, किचन, बेडरूम व बाथरूम के ईज़ी क्लीनिंग टिप्स बताए हैं. तो क्यों न आप भी इन्हें आज़माकर अपने घर ख़ुशियों का स्वागत करें.

Diwali Home Cleaning Tips

लिविंग रूम
1) सफ़ाई की शुरुआत डस्टिंग से करें. दीवारों पर लगे फोटोफ्रेम्स और आर्टवर्क को मुलायम कपड़े से साफ़ कर लें. दीवारों के दाग़-धब्बों को छुड़ाने के लिए गुनगुने पानी में 1/4 टीस्पून डिटर्जेंट डालकर कपड़े से क्लीन कर लें.
2) व्हाइट विनेगर मल्टीपर्पज़ क्लीनर है. वुडन फर्नीचर को साफ़ करने के लिए एक कप पानी में तीन टेबलस्पून विनेगर मिलाकर कपड़े से फर्नीचर साफ़ करें.
3) फर्नीचर को पॉलिश करने के लिए समान मात्रा में विनेगर और ऑलिव ऑयल को मिलाएं. उसमें कुछ बूंदें नींबू के रस की डालकर सोल्यूशन तैयार करें. कपड़े में डुबोकर फर्नीचर को पॉलिश करें.
4) पीतल के डेकोरेटिव पीसेस को इमली के पेस्ट से साफ़ करें, उनकी चमक लौट आएगी.
5) ग्लास की खिड़कियां, टेबल, डेकोरेटिव आइटम्स या फिर मिरर को साफ़ करने के लिए चार कप पानी में दो टीस्पून चाय की पत्ती डालकर उबालें. ठंडा होने पर इसे स्प्रे बॉटल में भरकर ग्लास पर स्प्रे करें और पुराने अख़बार से पोंछकर साफ़ करें.
6) समान मात्रा में व्हाइट विनेगर और पानी को मिलाकर स्प्रे बॉटल में भर लें. ग्लास पर स्प्रे करके पुराने अख़बार से पोंछें, ग्लास चमक उठेगा.
7) सोफासेट कवर को गुनगुने पानी में डालकर धोएं. घर को फेस्टिव लुक देने के लिए नया कवर भी लगा सकते हैं.
8) पंखों, लाइट्स और इलेक्ट्रिक स्विचेज़ को अनदेखा न करें. डिटर्जेंट पानी के घोल सेे साफ़ करें. बाद में साफ़ कपड़े से पोछें.
9) इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स, जैसे- कंप्यूटर, टीवी, म्यूज़िक सिस्टम आदि को मुलायम कपड़े से साफ़ करें. आप चाहें, तो कंप्रेस्ड एयर कैन भी इस्तेमाल कर सकते हैं.
10) एक बाल्टी पानी में फ्लोर क्लीनर या नमक मिलाकर फ़र्श साफ़ करें. सफ़ाई के साथ-साथ यह घर की निगेटिव एनर्जी भी दूर करता है.

Diwali Home Cleaning Tips

किचन
11) एक-एक करके रैक के सभी डिब्बों को निकालकर बाहर रखें. उसमें से एक्सपायर्ड और ग़ैरज़रूरी चीज़ें फेंक दें.
12) विनेगर में कपड़ा डुबोकर किचन प्लेटफॉर्म साफ़ करें. सफ़ाई के साथ-साथ कीटाणु भी ख़त्म हो जाते हैं.
13) गुलाबजल में नींबू की कुछ बूंदें मिलाकर किचन प्लेटफॉर्म साफ़ करने से सफ़ाई के साथ-साथ अच्छी ख़ुशबू भी आती है.
14) टाइल्स के दाग़-धब्बों को छुड़ाने के लिए तारपीन के तेल में नमक मिलाकर साफ़ करें.
15) टाइल्स पर ब्लीचिंग पाउडर लगाकर रातभर छोड़ दें. सुबह कपड़े से रगड़कर साफ़ कर लें, टाइल्स चमक उठेंगी.
16) किचन की टाइल्स पर पड़े दाग़-धब्बों को छुड़ाने के लिए 2 कप गरम पानी में 2 कप व्हाइट विनेगर मिलाकर दाग़वाली जगह पर डालकर आधे घंटे के लिए छोड़ दें. फिर ब्रश से रगड़कर साफ़ कर लें.
17) किचन की सिंक अगर जाम हो गई हो, तो नमक और बेकिंग सोडा समान मात्रा में लेकर सिंक की छेद में डाल दें. थोड़ी देर बाद 1 टीस्पून डिटर्जेंट डालें. 15 मिनट बाद गरम पानी की तेज़ धार डालें और फिर ठंडा पानी डालें. सिंक बिल्कुल साफ़ हो जाएगी.
18) रोज़ाना सिंक की सफ़ाई के लिए बेकिंग सोडा छिड़ककर नींबू के छिलके से रगड़कर साफ़ करें.
19) फ्रिज को साफ़ करने के लिए बेकिंग सोडा से बेहतरीन कुछ भी नहीं. गुनगुने पानी में बेकिंग सोडा डालकर पूरे फ्रिज को अंदर-बाहर से साफ़ करें. सफ़ाई के बाद फ्रिज के कोने में एक छोटे डिब्बे में बेकिंग सोडा डालकर रख दें, ताकि फ्रिज से महक न आए.
20) 1 लीटर पानी में आधा कप विनेगर मिलाकर सोल्यूशन बनाएं. इसमें कपड़ा डुबोकर पूरा फ्रिज क्लीन करें. फ्रिज क्लीनिंग का यह एक बढ़िया सोल्यूशन है.
21) अवन/माइक्रोवेव को साफ़ करने के लिए एक नींबू को काटकर उसमें रख दें और रातभर अवन का दरवाज़ा खुला छोड़ दें. सुबह 5 मिनट के लिए ऑन करें और ठंडा करके क्लीन करें. सारी गंदगी और महक निकल जाएगी.
22) 3 ग्लास पानी में 1 टीस्पून नींबू का रस और 1 टीस्पून बेकिंग सोडा मिलाएं. इससे माइक्रोवेव की सफ़ाई करें.
24) गैस स्टोव के दाग़-धब्बों को छुड़ाने के लिए साबुन-पानी से साफ़ कर लें.
25) गैस के बर्नर और नॉब को साफ़ करने के लिए गरम पानी में डिटर्जेंट मिलाकर ब्रश की मदद से क्लीन करें.
26)एक्ज़ॉस्ट फैन और चिमनी के ग्रीसी दाग़ों के लिए डिटर्जेंट-पानीवाले सोल्यूशन में थोड़ा-सा नींबू का रस मिलाएं. इससे ये अच्छी तरह साफ़ हो जाएंगे.
27) कैबिनेट्स पर पड़े तेल के ज़िद्दी दाग़ों को साफ़ करने के लिए विनेगर बेस्ट ऑप्शन है. अगर दाग़ हल्के हैं, तो विनेगर में थोड़ा पानी मिलाएं, वरना स़िर्फ विनेगर इस्तेमाल करें.

यह भी पढ़ें: यूं करें मेहमान नवाज़ी… 25+ आकर्षक लिविंग रूम डेकोर आइडियाज़! (25+ Best Living Room Decoration Ideas)

Diwali Home Cleaning Tips

बाथरूम और टॉयलेट
28) टॉयलेट-बाथरूम में रैक्स पर रखी सभी चीज़ों को उतारकर छांट लें. उनमें से एक्सपायर्ड/ग़ैरज़रूरी चीज़ें हटा दें और काम की चीज़ों को करीने से सजाकर रखें.
29) टॉयलेट पॉट को क्लीन करने के लिए टॉयलेट क्लीनर की बजाय आप एंटासिड का इस्तेमाल भी कर सकते हैं. दो-तीन एंटासिड की गोलियां पॉट में डालकर 15 मिनट रखें, फिर ब्रश से क्लीन कर दें.
30) सॉफ्ट ड्रिंक्स भी टॉयलेट पॉट को क्लीन करने के लिए बेहतरीन क्लीनर का काम करती हैं. कोला फ्लेवर की सॉफ्ट ड्रिंक डालकर थोड़ी देर बाद क्लीन कर लें.
31) टाइल्स को साफ़ करने के लिए दो कप पानी में दो टेबलस्पून बेकिंग सोडा मिलाकर टाइल्स पर छिड़कें. थोड़ी देर बाद ब्रश से रगड़कर साफ़ कर दें.
32) वॉश बेसिन को चमकाने में भी बेकिंग सोडा आपकी मदद करेगा. बेसिन पर सोडा छिड़ककर 10 मिनट रहने दें. ब्रश से रगड़कर साफ़ कर दें.
33) ब्रश होल्डर, सोप होल्डर और बाकी चीज़ों को भी ब्रश की मदद से अच्छी तरह साफ़ करें.

Diwali Home Cleaning Tips

बेडरूम
34) स्टोरेजवाला बेड है, तो उसके भीतर की सभी चीज़ें निकालकर ग़ैरज़रूरी सामान निकाल दें. कपड़े से पोंछकर क्लीन करें.
35) खिड़कियों के परदे निकालकर ग्रिल को साबुन-पानीवाले सोल्यूशन से साफ़ करें.
36) परदों, बेडशीट्स, चादर और रज़ाई-गद्दों के कवर्स निकालकर गरम पानी में डालकर धो लें.
37) बेड को जर्म फ्री रखने के लिए बेड कवर और पिलो कवर को निकालकर मैट्रेस व पिलो को दोनों ओर से वैक्यूम क्लीनर से साफ़ करें.
38) फर्श साफ़ करने से पहले सीलिंग और फैन की सफ़ाई करें.

Diwali Home Cleaning Tips

वॉर्डरोब क्लीनिंग टिप्स
39) वॉर्डरोब के सारे कपड़े निकालकर बाहर रखें और उन्हें तीन हिस्सों में बांटें. एक जिन्हें रखना है, दूसरा जो निकाल देने हैं और तीसरा जिनकी ऱफू या ऑल्टरेशन वगैरह करानी है.
40) आलमारी की धूल-मिट्टी और कोनों को साफ़ करने के लिए कपड़े पर थोड़ा-सा व्हाइट विनेगर छिड़ककर क्लीन करें.
41) कपड़ों को आप कलर्स के मुताबिक़ भी अरेंज कर सकते हैं. लड़कियां इंडियन, वेस्टर्न और इनरवेयर्स के मुताबिक़ कपड़े ऑर्गेनाइज़ करके रखें और लड़के फॉर्मल और कैजुअल के अनुसार रखें.
42) हैवी कपड़ों को पैक करके ट्रंक में रख दें. उसमें नेपथ्लीन बॉल्स ज़रूर डालें.

Diwali Home Cleaning Tips

फर्नीचर क्लीनिंग सोल्यूशन
अगर फर्नीचर ख़रीदने के लिए अभी आपके पास पर्याप्त बजट नहीं है, तो परेशान होने की ज़रूरत नहीं है, क्योंकि हम यहां कुछ ऐसे नेचुरल क्लीनर्स के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें आप घर पर ही आसान तरीके बना सकते हैं और चुटकी में अपने पुराने फर्नीचर को दे सकते हैं नया लुक.

यह भी पढ़ें: होम डेकोर: 55+ इनोवेटिव बेडरूम आइडियाज़, यूं सजाएं अपने सपनों का जहां! (55+ Innovative Bedroom Decorating Ideas)

लेदर फर्नीचर क्लीनिंग सोल्यूशन
43) लेदर फर्नीचर पर लगे दाग़ को छुड़ाने के लिए वहां पर टूथपेस्ट लगाएं. 5 मिनट बाद गीले कपड़े से पोंछ दें. दाग़ तुरंत साफ़ हो जाएगा.
44) स्पिरिट (रबिंग अल्कोहल) और पानी को समान मात्रा में मिलाकर स्प्रे बॉटल में डालें. लेदर फर्नीचर पर स्प्रे करके कपड़े से पोंछ दें.
45) लेदर फर्नीचर पर पड़े दाग़ को निकालने के लिए नींबू का रस और टैटार क्रीम (बाज़ार में आसानी से उपलब्ध) को समान मात्रा में मिलाएं. इस पेस्ट को दाग़ पर लगाकर कपड़े से साफ़ करें. अगर दाग़ नहीं निकलता है, तो 4-5 घंटे बाद दोबारा इस पेस्ट को लगाएं.
46) आधा कप व्हाइट विनेगर, 1 कप अलसी का तेल या ऑलिव ऑयल मिलाकर सोल्यूशन बनाएं और लेदर फर्नीचर को साफ़ करें.
47) 1 कप वोडका, 1/4 कप विनेगर और 3-4 बूंदें ऑलिव ऑयल की मिलाकर स्प्रे बॉटल में भरें. अच्छी तरह से हिलाएं. फर्नीचर को साफ़ करें.
48) लेदर फर्नीचर पर पड़े दाग़ को निकालने के लिए नींबू का रस या विनेगर का इस्तेमाल करें.
49) अगर लेदर फर्नीचर पर चिकनाईवाले दाग़ हैं, तो एक कप पानी में थोड़ा-सा बेबी शैंपू डालकर झाग बनाएं. इसमें कपड़े को डुबोकर दाग़ साफ़ करें और तुरंत सूखे कपड़े से पोंछ दें.

होममेड लेदर फर्नीचर पॉलिश
लेदर फर्नीचर पर पॉलिश करना चाहते हैं, तो पेट्रोलियम जेली, ऑलिव ऑयल या फ्लैक्स सीड ऑयल से करें. ऑलिव ऑयल और फ्लैक्स सीड ऑयल प्राकृतिक तौर पर लेदर की चमक बनाए रखते हैं.

Diwali Home Cleaning Tips

वुडन फर्नीचर क्लीनिंग सोल्यूशन
50) सोल्यूशन बनाने के लिए एक कप पानी में 3 टेबलस्पून व्हाइट विगेनर मिलाएं. इस सोल्यूशन को बॉटल में भरकर रखें. सूती कपड़े को इसमें डुबोकर वुडन फर्नीचर को साफ़ करें.
51) एक-एक कप पानी और विनेगर को मिलाएं. इसमें एक टेबलस्पून ऑलिव ऑयल मिलाकर स्प्रे बॉटल में भरें. इस सोल्यूशन को सीधे फर्नीचर पर स्प्रे करके माइक्रोफाइबर क्लॉथ से साफ़ करें.
52) 2 ग्लास गरम पानी में 1 टीस्पून ऑलिव ऑयल और आधे नींबू का रस मिलाकर जार में भरकर रखें. इस सोल्यूशन से फर्नीचर को साफ़ करें.
53) वुडन फर्नीचर पर पड़े पानी और गरम चीज़ को रखने से पड़े निशान को मिटाने के लिए वहां पर थोड़ी-सी मेयोनीज़ लगाकर 5-6 घंटे या रातभर रखें. बाद में गीले कपड़े से पोंछ दें. फर्नीचर थोड़ी देर में चमकने लगेगा.
54) स्प्रे बॉटल में आधा कप व्हाइट विनेगर, 1/4 कप ऑलिव ऑयल, 1 टेबलस्पून नींबू का रस और 20 बूंदें लैवेंडर एसेंशियल ऑयल मिलाकर शेक करें. सूती कपड़े पर लगाकर फर्नीचर को क्लीन करें.
55) 2 ग्लास पानी में 2 टीस्पून नमक मिलाकर वुडन फर्नीचर साफ़ करें. फिर सूखे कपड़े से पोंछ दें.
56) फर्नीचर पर लगे दाग़-धब्बों को निकालने के लिए ऑलिव ऑयल या नींबू के छिलके से रब करें.
57) तारपीन के तेल में सिरका मिलाकर फर्नीचर को साफ़ करें. इससे फर्नीचर में दीमक नहीं लगती.

यह भी पढ़ें: इन 11 टिप्स से करें ख़ूबसूरत और महंगी पेंटिंग की केयर (11 Tips to Care For Expensive Paintings)

Diwali Home Cleaning Tips

वुडन फर्नीचर पॉलिश
58) वुडन फर्नीचर के लिए 1 कप एक्स्ट्रा वर्जिन ऑलिव ऑयल में आधा कप नींबू का रस मिलाकर जार में भरकर रखें. नरम व सूती कपड़े को इस सोल्यूशन में डुबोकर वुडन फर्नीचर पर पॉलिश करें.
59) 1 नींबू का रस, 1 टीस्पून ऑलिव ऑयल और 4-5 बूंदें पानी की मिलाकर घोल बनाएं. इसे माइक्रोफाइबर क्लॉथ पर लगाकर फर्नीचर पर पॉलिश करें.
60) 1 कप ऑलिव ऑयल में 1/4 कप व्हाइट विनेगर मिलाकर स्प्रे बॉटल में भरें. सूती कपड़े पर डालकर फर्नीचर को पॉलिश करें.
61) फर्नीचर पर पॉलिश करने के लिए 10 बूंदें लेमन एसेंशियल ऑयल, 1/4-1/4 कप विनेगर और ऑलिव ऑयल को स्प्रे बॉटल में डालकर रखें. हर बार इस्तेमाल करने से पहले उसे शेक कर लें.
62) स्प्रे बॉटल में 1 कप पानी, आधा व्हाइट विनेगर, 20 बूंदें लेमन एसेंशियल ऑयल डालकर शेक करें. कपड़े से फर्नीचर पर लगाकर पॉलिश करें.
63) अगर पुराने फर्नीचर की चमक फीकी पड़ गई है, तो 2 ग्लास पानी में 2 टी बैग डालकर उबाल लें. 1 ग्लास रह जाने पर आंच से उतार लें. ठंडा होने पर माइक्रोफाइबर क्लॉथ को इसमें डिप करके वुडन फर्नीचर पर पॉलिश करें.
64) पुराने फर्नीचर की चमक वापस लाने के लिए उस पर थोड़ी-सी पेट्रोलियम जेली लगाकर हल्के हाथों से रब करें. अगर फर्नीचर की स्थिति बहुत ख़राब है, तो पेट्रोलियम जेली को 2-3 घंटे तक लगाकर ऐसे ही छोड़ दें. बाद में सॉफ्ट कपड़े से साफ़ करें.

Diwali Home Cleaning Tips

10 नेचुरल क्लीनर से करें घर की सफाई
साफ़-सफ़ाई के लिए हमेशा बाज़ार में मिलने वाले सॉल्युशन्स और डिटर्जेंट पर निर्भर रहने की बजाय आप घर में ही मौजूद चीज़ों का इस्तेमाल कर सकती हैं.

1) नींबू
नींबू में पाया जाने वाला सिट्रिक एसिड नेचुरल ब्लीच का काम करता है. इससे कई तरह के दाग़ छुड़ाए जा सकते हैं.

  • यदि तांबे के बर्तन में गैस या स्टोव के इस्तेमाल से कालिख लग गई है तो नींबू और नमक मिलाकर रगड़ें तांबा चमक जाएगा.
  • आपके प्लास्टिक के टिफिन में तेल के दाग़ लगे हैं और बदबू आ रही है तो टिफिन को नींबू के रस में रातभर डुबोकर रखें और अगले दिन बेकिंग सोडा से साफ़ कर लें.
  • नींबू के रस में नमक और साबुन का घोल मिलाकर किचन सिंक की सफ़ाई की जा सकती है.
  • दरवाज़े, ख़िड़कियों पर लगे स़फेद पानी के दाग़ को आप नींबू से साफ़ कर सकती हैं.

2) नमक
नमक न सिर्फ़ खाने का स्वाद बढ़ाता है, बल्कि क्लींज़िंग एजेंट का काम भी करता है.

  • बाथरूम, बाथटब या टॉयलेट सीट पर पीले दाग़ पड़ गए हैं, तो उसे नमक और तारपीन के तेल से छुड़ाया जा सकता है.
  • लोहे के बर्तन में लगे दाग़ छुड़ाने के लिए नमक में गरम पानी मिलाकर पेस्ट बनाएं और इससे बर्तन साफ़ करें.
  • यदि जींस ज़्यादा गंदी है तो एक बाल्टी पानी में एक चम्मच नमक डालकर जींस को 10-15 मिनट के लिए रखें. इससे जींस का कलर भी नहीं जाएगा.
  • कारपेट पर यदि दाग़ लग गया है, तो दाग़ वाली जगह पर नमक छिड़कें और गीले कपड़े से रगड़कर पोंछ दें.

3) बेकिंग सोडा
खाना बनाने में इस्तेमाल होने वाला बेकिंग सोडा सफ़ाई के भी काम आता है.

  • माइक्रोवेव के अंदर के दाग़-धब्बे साफ़ करने के लिए बेकिंग सोडा में नींबू का रस मिलाकर स्क्रब करें.
  • किचन स्लैब जहां आप खाना बनाती हैं वहां जमी चिकनाई और गंदगी को साफ़ करने के लिए उस जगह पर गुनगुने पानी में सोडा मिलाकर डालें. 10 मिनट बाद स्क्रब से साफ़ कर लें.
  • जले बर्तन को साफ़ करने के लिए साबुन मिले पानी में बेकिंग सोडा मिलाएं. इस घोल को जले बर्तन में डालकर रातभर छोड़ दें. सुबह रगड़कर धो लें, बर्तन चमक जाएंगे.
  • कारपेट साफ़ करने के लिए पूरे कारपेट पर थोड़ी मात्रा में सोडा छिड़कें और वैक्यूम क्लीनर से साफ़ कर लें. कारपेट से बदबू चली जाएगी.
  • गरम पानी में सोडा और साबुन का घोल मिलाकर सिंक और बेसिन की सफ़ाई करें.

4) आलू
आलू न स़िर्फ खाने में वैरायटी लाता है, बल्कि साफ़-सफ़ाई के काम भी आता है.

  • आलू की स्लाइस काटकर जंग लगे सामान पर घिसें, ये जंग को काटकर उसे बिल्कुल साफ़ कर देगा.
  • आलू की स्लाइस काटकर कांच पर रगड़ने से कांच साफ़ हो जाता है.
  • चांदी साफ़ करने के लिए जिस पानी में आलू उबाला गया है उसमें गहने या बर्तन को 20 मिनट तक रखें. चांदी चमक जाएगी.
  • यदि घर में कांच का कोई सामान नीचे गिरकर टूट जाए, तो कांच के बड़े टुकड़े उठा लीजिए और बारीक़ टुकड़े बटोरने के लिए आलू की स्लाइस काटकर उस जगह पर रगड़ें जहां सामान गिरा है, इससे कांच के टुकड़े आलू में फंस जाएंगे.

5) इमली
इमली का इस्तेमाल भी खाने के साथ ही सफ़ाई के काम के लिए भी होता है.

  • चांदी के अलावा अन्य मेटल ज्वेलरी जिसे साबुन से साफ़ करना मुश्किल होता है, उसे इमली से साफ़ किया जा सकता है. इमली मिले पानी में ज्वेलरी डाल दीजिए सारी गंदगी निकल जाएगी.
  • पीतल और तांबे के बर्तन और अन्य उपकरणों को इमली के गूदे से साफ़ करें.
  • जंग लगे हुए मेटल के नल पर इमली का गूदा रगड़ें, नल साफ़ हो जाएगा.
  • किचन की चिमनी को इमली के पानी से साफ़ करें.

6) पुराने अख़बार
पुराने अख़बार को बेकार समझकर यदि आप रद्दी में बेच देती हैं, तो अब से ऐसा मत कीजिए, क्योंकि अख़बार से कांच साफ़ करने के साथ ही आप इसे कई और कामों में इस्तेमाल कर सकती हैं.

  • कांच के बर्तन और अन्य सामान की सफ़ाई पेपर से करें. इसके लिए पेपर को पानी में भिगोएं और उससे सफ़ाई करें.
  • यदि आपके जूते गीले हैं या डेस्क पर पानी/चाय गिर गई है तो उसे सुखाने के लिए पेपर का इस्तेमाल करें. पेपर पानी को जल्दी सोख लेता है.
  • हरी सब्ज़ियों को ताज़ा रखने के लिए उन्हें पेपर में लपेटकर रखें.

7) विनेगर
चाइनीज़ व्यंजनों में इस्तेमाल होने वाला विनेगर यानी सिरका भी बड़े काम की चीज़ है.

  • सिरके के घोल में कपड़ा डुबोकर बाथरूम की टाइल्स और गंदी खिड़कियों को आसानी से साफ़ किया जा सकता है.
  • 1/4 कप विनेगर और 1 कप पानी को माइक्रोवेव प्रूफ बाउल में भरकर 5 मिनट हाई माइक्रो करें. विनेगर और पानी के भाप से माइक्रोवेव से आ रही दुर्गंध दूर हो जाएगी और दाग़-धब्बे हल्के हो जाएंगे.

8) टूथपेस्ट ट्रिक्स
सुबह-सुबह दांतों को साफ़ करने वाला टूथपेस्ट किचन की सफ़ाई के काम भी आता है.

  • किचन की दीवारों को साफ़ करने के लिए आप टूथपेस्ट का इस्तेमाल कर सकती हैं.
  • गीले कपड़े में टूथपेस्ट लगाएं और उससे दीवार को रगड़ें. चिकनाई लगी दीवार झट से साफ़ हो जाएगी
  • विनेगर और पानी के मिश्रण के ठंडा होने पर इसमें कपड़ा या स्पंज डुबोकर माइक्रोवेव सरफेस, डोर और बाकी हिस्सों को साफ़ करें.

9) बोरेक्स
बोरेक्स से आप किचन को मिनटों में चमका सकती हैं.

  • 1 कप बोरेक्स में 1/4 कप नींबू का रस मिलाएं और पेस्ट तैयार करें. अब इस पेस्ट से प्लेटफॉर्म, स्लैब, फर्श आदि साफ़ करें.

10) हाइड्रोजन पैराक्साइड
किचन प्लेटफॉर्म और टाइल्स को साफ़ करने के लिए आप हाइड्रोजन पैराक्साइड यूज़ कर सकती हैं.

  • सबसे पहले फर्श/प्लेटफॉर्म पर हाइड्रोजन पैराक्साइड की कुछ बूंदें स्प्रे करें और फिर साफ़ कपड़े से पोंछें.
  • इससे ज़िद्दी से ज़िद्दी दाग़ भी आसानी से निकल जाएगा.

फिल्मी सितारों (Film Stars) ने हर बार की तरह इस बार भी दिवाली (Diwali) फेस्टिवल का जमकर लुत्फ़ उठाया. हर कलाकार अलग मूड व मस्ती में दिखा. परिवार, साथी, दोस्तों के साथ त्योहार का आनंद लेते सितारों की कुछ ऐसी ही खूबसूरत तस्वीरों को देखते हैं…

Stars Diwali

Stars Diwali

Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali

Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali

Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Celebs Diwali Celebs Diwali Celebs Diwali Celebs Diwali Celebs Diwali

Celebs Diwali

 


Celebs Diwali

यह भी पढ़ेDiwali 2019: शाहरुख ख़ान ने एश्वर्या राय बच्चन की मैनेजर को आग से बचाया… (Diwali Bash 2019: Fire Accident At Amitabh Bachchan’s Diwali Party, Shahrukh Khan Comes To Rescue)

Bollywood's Diwali

यूं तो हर किसी के लिए दिवाली ख़ास रहती है, पर फिल्मी सितारे भी इस त्योहार को ख़ास बनाने की कोशिश करते हैं. उन्हें भी रोशनी का लुत्फ़ उठाना, मिठाइयां खाना, दोस्त-परिवार के साथ फेस्टिवल सेलिब्रेट करना अच्छा लगता है. आइए, दिवाली से जुड़ी सितारों के यादगार लम्हों के बारे में जानें. 

 

अक्षय कुमार 

दिवाली हमेशा से ही मेरे लिए ख़ास रही है. हम अपने परिवार के साथ-साथ उन परिवारों का भी ख़्याल रखते हैं, जो अपने परिवार से दूर मुंबई में रोज़ी-रोटी के लिए काम करते हैं. साथ ही मैं ट्विंकल व बच्चों के साथ उन ज़रूरतमंद लोगों के लिए तोह़फे ज़रूर ले जाता हूं, जो उस दिन भी जी तोड़ काम करते रहते हैं. उनके चेहरे की ख़ुशी हमें सुकून देती है. वैसे मेरे साथ भी तोह़फे को लेकर हमेशा से ही ख़ास होता रहा है. न चाहते हुए भी हर साल दिवाली पर अपनों और फैन्स की तरफ़ से ढेर सारे तोह़फे मिलते हैं. मैं हर बार अपने क़रीबी लोगों को गिफ्ट न भेजने के लिए कहता हूं, पर वे नहीं मानते. उनका कहना होता है कि वे मेरे लिए नहीं, बच्चों व फैमिली के लिए उपहार भेज रहे हैं. उनका प्यार व अपनापन देख दिल भर आता है. हर बार इन्हीं लोगों के कारण मेरी दिवाली यादगार बन जाती है. सभी को दीपावली की ढेर सारी बधाई और शुभकामनाएं. प्लीज़ पटाखे जलाते समय सेफ्टी का भी ध्यान रखें.

कंगना रनौत

बचपन से ही मां दीपावली पर हम बच्चों से ढेर सारे काम करवाती थीं. सबसे पहले हम सभी मिलकर घर की सफ़ाई करते थे, जिसमें हमें बड़ा मज़ा आता था. परिवार के सभी लोग मिलकर पूरे घर को सजाते थे. दीये व रंगोली से घर जगमग कर उठता था. लेकिन फिल्मों मेंं आने के बाद शूटिंग के कारण परिवार के साथ तीज-त्योहार कम ही मना पाती हूं. लेकिन मेरी हमेशा यह कोशिश रहती है कि कम से कम दिवाली पर अपने परिवार के साथ रहूं. इस बार भी मेरी कोशिश यही रहेगी. सभी मिलकर दीये जलाएंगे. मिठाइयों का दौर चलेगा. मेरी ईश्‍वर से यही प्रार्थना है कि दिवाली के उपहार के तौर पर वे मुझे हमेशा मेरे परिवार का साथ दें, क्योंकि काम के कारण मुझे उनसे दूर रहना बहुत अखरता है. सभी को दीपावली मुबारक हो!

सनी देओल

दिवाली पर हर साल मुझे पापा और भाई बॉबी से ख़ास सौग़ात मिलती है, जिसे मैं हमेशा संजोकर रखता हूं. एक अनकही-सी ख़ुशी होती है. यूं तो पापा हर त्योहार पर कोई ख़ास उपहार देते रहे हैं, पर दिवाली पर उनकी तरफ़ से विशेष गिफ्ट मिलता है. बचपन से ही मुझे उनके तोह़फे से ख़ास जुड़ाव रहा है. उन दिनों यदि वे शूटिंग के सिलसिले में बाहर होते थे, तो मां को हमारे उपहार देकर जाते थे और दिवाली पर वे सभी सरप्राइज़ गिफ्ट हमें मिलते थे. पापा के उन सभी तोहफ़ों के कारण मेरी हर दिवाली स्पेशल हो जाती थी. मेरा यह मानना है कि हमारे ये फेस्टिवल ही तो हैं, जो हमें एक-दूसरे के और भी क़रीब ले आते हैं. सभी हर्षोल्लास से इन त्योहारों को मनाते हैं. सभी का आपसी प्यार हमेशा बना रहे, इसी शुभकामना के साथ सभी को हैप्पी दिवाली.

अनुष्का शर्मा

दिवाली रोशनी का ख़ूबसूरत त्योहार है. इस समय हमें परिवार के साथ व़क्त बिताने का मौक़ा मिलता है. मैं भी सभी की तरह नए कपड़े पहनती हूं और मिठाइयों का लुत्फ़ उठाती हूं. मेरी सभी से गुज़ारिश है कि पटाखों से दूर रहें और शोर-शराबे की बजाय शांति के साथ रोशनी के इस पर्व को मनाएं.

तापसी पन्नू

मैं इस त्योहार को परंपरागत तरी़के से मनाती रही हूं. घर की साफ़-सफ़ाई, सजाना-संवारना, दीये, रंगोली सब कुछ ख़ूबसूरत व आकर्षक लगता है. सच, मैं ख़ुद को बेहद ख़ुशक़िस्मत मानती हूं कि मेरा जन्म भारत मेें हुआ है. यहां पर सभी का प्यार-अपनापन, रीति-रिवाज़, सहयोग सब कुछ दिल को छू जाता है. जाति-धर्म से परे होकर सभी मिल-जुलकर त्योहार मनाते हैं. सभी को दिवाली की बधाई!

श्रद्धा कपूर

हम सभी के लिए बचपन की दीपावली विशेष यादगार रही है, लेकिन बड़े होने पर भी इसे सेलिब्रेट करने में हम कोई कमी नहीं रखते. इस बार भी हम सभी ध्वनि प्रदूषण से दूर यानी नॉइस फ्री दिवाली मनाएंगे. ख़ूब मौज-मस्ती, खाना-पीना होगा, पर नो क्रैकर्स!

सोनम कपूर

हम पूरे परिवार के साथ हमेशा ही ज़ोर-शोर से ग्रैंड दिवाली मनाते हैं. सभी इकट्ठे होकर ख़ूब धमाल करते हैं और हमारी हर दिवाली यादगार दिवाली बन जाती है.

– ऊषा गुप्ता

यह भी पढ़ेशिल्पा शेट्टी की दिवाली पार्टी में लगा सितारों का जमावड़ा, देखें पिक्स (Salman Khan And Other Bollywood Celebs Attend Shilpa Shetty Kundra’s Diwali Party)

प्रियंका चोपड़ा को आई घर की याद. इस साल भी दिवाली पर परिवार के साथ नहीं होंगी प्रियंका. अमेरिकन शो क्वांटिको के सेकंड सीज़न में बिज़ी पीसी मिस कर रही हैं परिवार को. उन्होंने सोशल मीडिया पर दो साल पुरानी दिवाली की तस्वीरें शेयर की हैं, जब वो परिवार के साथ थीं. तस्वीरों में प्रियंका अपनी मम्मी के साथ वक़्त बिताते, दिवाली का दीया जलाते और पूजा-पाठ करती नज़र रही हैं.14595599_10157761002940691_3783641529258322456_n

14563398_10157761003145691_8141447340158313707_n

14600838_10157761002930691_8198474229396691668_n

14717046_10157761002935691_8028526521239439129_n

इस साल की अगर बात करें, तो प्रियंका दिवाली न्यूयॉर्क में ही मनाने वाली हैं. उन्होंने टि्वटर पर किसी के सवाल का जवाब देते हुए लिखा है, ”मेरे दोस्तों के लिए दिवाली पार्टी न्यूयॉर्क में.” 

प्रियंका न्यूयॉर्क में अपने घर पर दिवाली पार्टी को होस्ट करने वाली हैं, इस पार्टी को ज्वाइन करेंगे क्वांटिको सीज़न 2 के स्टार्स.

shutterstock_356559827

त्योहारों पर नवविवाहित जोड़ों का मन बहुत-सी उम्मीदों व सपनों से भरा होता है, ख़ासकर दिवाली को लेकर. ऐसे में यदि वे अपने परिवार से दूर रह रहे हैं, तो बहुत सारी ज़िम्मेदारियां अकेले नववधू पर आ जाती हैं, जैसे- घर को सजाना, बजट मैनेज करना, सारी चीज़ों की व्यवस्था करना, पूजा करना आदि. उस पर बिना परिवारवालों के पारंपरिक रूप से त्योहार मनाना थोड़ा मुश्किल-सा हो जाता है. इसलिए यहां पर हम नवविवाहित जोड़े दिवाली पर क्या करें, किन बातों का ख़्याल रखें आदि की जानकारी दे रहे हैं. इनकी मदद से वे नवविवाहित, जो परिवार से दूर हैं, बड़ी आसानी से बेहतरीन तरी़के से दीपावली मना सकते हैं.

घर की साफ़-सफ़ाई
दिवाली के दिन लक्ष्मीजी की विशेष रूप से पूजा की जाती है. ऐसा माना जाता है कि जिस घर के लोग ख़ुश रहते हैं, अमूमन उनका घर साफ़-सुथरा होता है. ऐसे घरों में लक्ष्मीजी प्रवेश करती हैं और अपनी कृपा बरसाती हैं. अत: अपने पति के साथ मिलकर पूरे घर की साफ़-सफ़ाई करें. जितनी भी बेकार व अनुपयोगी चीज़ें हैं, उन्हें फेंक दें या कबाड़ी को दे दें. अब घर के मंदिर को साफ़ करें और लाल कपड़ा बिछाएं. लाइट्स और फूलों से सजाएं.

नोट: यदि आपके घर में मंदिर नहीं है, तो परेशान ना हों. चौकी रखें या बॉक्स जैसी कोई चीज़ रखकर ऊंचा प्लेटफॉर्म बना लें. ध्यान रहे, यह उत्तर-पूर्व (नॉर्थ-ईस्ट) दिशा में हो. चौकी पर लाल कपड़ा बिछाएं.

दीपावली पूजन के लिए आवश्यक सामग्री

* कलश (तांबा, चांदी या मिट्टी का), थाली, मिट्टी के दीये, घी, चावल, हल्दी, कुमकुम, अगरबत्ती, मिठाइयां, गणेशजी व लक्ष्मीजी की मूर्तियां.  सरस्वतीजी की मूर्ति भी रखी जा सकती है. इनका रखना शुभ माना जाता है.

* पूजा की घंटी, फूल-मालाएं, कमल का फूल और अन्य फूल, पान के पत्ते/आम के पत्ते, सुपारी, फल, ड्रायफ्रूट्स, खील और बताशे, चांदी/सोने के सिक्के,  पंचामृत, दूध, दही, शहद, सूखा धनिया और जीरा, गंगाजल.

shutterstock_394080430पूजा की विधि

* मंदिर के सामने थोड़े से चावल फैलाएं, उस पर कलश रख दें.

* कलश में पानी भरें. ऊपर थोड़ा-सा खाली छोड़ दें. कलश में सोने/चांदी का सिक्का, सुपारी और एक फूल डाल दें.
* अब कलश पर पान के पत्ते/आम के पत्ते रख दें.

* पूजा की सामग्री पर गंगाजल छिड़ककर उन्हें पवित्र कर दें.

* देवी-देवता की मूर्तियों को लाल कपड़ेवाली चौकी पर रखने से पहले दूध, दही, शहद और पानी से स्नान करा लें.

* एक थाली में हल्दी से स्वस्तिक बनाएं उस पर गणेशजी, लक्ष्मीजी और सरस्वती देवी की मूर्तियां रखें.

* लाल कपड़े पर मूर्तियों के सामने पैसे, गहने और अन्य मूल्यवान वस्तुएं रख दें.

* दीयों में घी/तेल डालकर उन्हें जला लें.

* अब देवी-देवताओं के माथे पर हल्दी, कुमकुम, अक्षत का तिलक लगाएं.

* पुष्प, मिठाई, नारियल, जायफल, सूखा धनिया, जीरा, खील, बताशा, फल, चावल एवं ड्रायफ्रूट्स अर्पण करें.

* अब परिवार के सदस्यों के माथे पर भी तिलक लगाएं.

* परिवार के हर सदस्य को मौली (लाल पवित्र धागा) बांधें.

* अगरबत्ती व धूप जलाकर गणेशजी और लक्ष्मीजी की आरती करें.

* अंत में परिवार का हर सदस्य प्रसाद ग्रहण करे.

 

इस तरह पूजा संपन्न हुई. यह दिवाली की बेसिक पूजा है, जो एक जैसी होती है. लेकिन हर परिवार में पूजा के समय कुछ अलग परंपराएं भी निभाई जाती हैं. इसलिए परिवार के बड़े-बुज़ुर्गों से इस बारे में सलाह व मदद अवश्य लें.

3

यदि आप भी दीयों की रौनक से अपने आंगन में सुख-समृद्धि की बरसात चाहते हैं, तो दीपावली के इस पर्व के सही अर्थ को समझकर, पूरी आस्था से विधिवत् पूजा-अर्चना करें.


कैसे करें लक्ष्मी पूजन?

* हमेशा मुख्य पूजावाले दीये में घी और बाकी दीयों में सरसों का तेल इस्तेमाल करें.

* दिवाली की पूजा हमेशा उत्तर-पूर्व (नॉर्थ-ईस्ट) दिशा में करें.

* पूजा करते समय पूजा करनेवाले का चेहरा उत्तर दिशा की ओर होना चाहिए.

* पूजा के समय मूर्तियों का क्रम बाएं से दाएं इस प्रकार होना चाहिए- गणेशजी, लक्ष्मीजी, विष्णुजी, मां सरस्वती एवं काली माता. उसके बाद  लक्ष्मणजी, श्रीरामजी एवं मां सीता की मूर्तियां रखें.

* दिवाली की पूरी रात दक्षिण-पूर्व (साउथ-ईस्ट) कोने में घी से भरा हुआ दीया अलग से प्रज्ज्वलित करके रखें.

* दीयों को हमेशा चार के समूह में रखें. ये दीये लक्ष्मीजी, गणेशजी, कुबेर देवता और इंद्र देवता के प्रतीक हैं.

* लाल रंग का अधिक इस्तेमाल करें. इस रंग के दीये, मोमबत्तियां, लाइट्स, फूल व बेडशीट्स इस्तेमाल किए जा सकते हैं.

* दिवाली पूजा की शुरुआत भगवान गणेश की पूजा से करें. हिंदू धर्म में इन्हें विघ्नहर्ता के रूप में पूजा जाता है और कोई भी पूजा करने से पहले  गणेशजी की पूजा का विधान भी है.

* यदि आप बहीखाता (अकाउंट बुक्स) लिखते हैं, तो उनकी भी पूजा करें. इनको पश्‍चिम की ओर लक्ष्मीजी की मूर्ति के सामने रखें.

* पूजा में कमल का फूल अवश्य शामिल करें. यह लक्ष्मीजी का पसंदीदा फूल है.

* दिवाली में सुबह जल्दी उठकर अभ्यंग स्नान (शरीर पर तेल और उबटन लगाकर) करें.

* इसके बाद परिवार के बड़े-बुज़ुर्गों के पैर छूकर आशीर्वाद लें. ङ्गओम ह्रीं क्लीं श्रीं महालक्ष्मी: नम:फ मंत्र का जाप करें.

क्या ना करें?

* अपने मित्र-रिश्तेदारों को तोह़़फे में कटलरी, पटाखे, फुलझड़ियां या लेदर के आइटम्स ना दें, पर यदि इनमें से कुछ देना ही चाहते हैं, तो साथ में  मिठाई ज़रूर दें.

* दिवाली में जुआ ना खेलें.

* अल्कोहल और नॉन वेज से परहेज़ करें.

* दिवाली की रात पूजा के स्थान का ध्यान रखें यानी दीये में घी डालते रहें, ताकि दीया रातभर प्रज्ज्वलित रहे.

* दाहिनी सूंडवाले गणेशजी पूजा में ना रखें और केवल बैठे गणेशजी की ही मूर्ति रखें.

* लक्ष्मीजी की आरती तेज़ आवाज़ में ज़ोर-ज़ोर से तालियां बजाकर गाने की बजाय, मधुर आवाज़ में घंटी बजाकर गाएं. कहा जाता है कि लक्ष्मीजी  तेज़ आवाज़ और शोरगुल पसंद नहीं करतीं.

* लक्ष्मीजी की अकेली मूर्ति या फोटो की पूजा ना करें, साथ में विष्णुजी की मूर्ति या फोटो अवश्य हो.

Diwali-aarti-thali-decoration-idea

पूजा के लिए आवश्यक सामग्री

गणेशजी व लक्ष्मीजी की मूर्तियां व नए वस्त्र, सोने व चांदी के सिक्के, नए करेंसी नोट्स, चौकियां, कैश रजिस्टर/अकाउंट बुक्स, सिक्कों का बैग, पेन, काली स्याही, 3 थालियां, धूप, अगरबत्ती, शुद्ध घी, दही, शहद, गंगाजल, पंचामृत (दूध, दही, घी, शहद व शक्कर का मिश्रण), हल्दी पाउडर, रोली, इत्र, कलश, 2 मीटर स़फेद व लाल कपड़ा, गमछा, कपूर, नारियल (पानीवाला), ड्रायफ्रूट्स, कमल का फूल, अन्य फूल, दुर्वा, तांबुल पान, पुगीफल सुपारी, खील, बताशे, मिठाइयां, खांड के खिलौने, साड़ियां, आम के पत्ते, लौंग, हरी इलायची, कुमकुम, सिंदूर, केसर, मुख्यद्वार के लिए बन्दनवार, शंख, घंटी, सोने-चांदी की ज्वेलरी (यदि उपलब्ध हो), अभिषेक पात्र, अभिषेक किए गए पानी के लिए स्टेनलेस स्टील बाउल, पांच तरह के फल (आम, केला, सेब, संतरा, अंगूर, नाशपाती, पीच वगैरह), जानवी जोड़, अष्टगंध, चंदन, अक्षत (कुमकुम लगाए हुए चावल), फूल मालाएं, रुई, मिट्टी के छोटे-बड़े दीये, थालियां (पूजा का सामान रखने के लिए), तिल/सरसों का तेल और माचिस.

किस राशि वाले क्या दान करें?

दिवाली उमंग-उत्साह के साथ अपने-पराये सभी के साथ ख़ुशियां मनाने का त्योहार है. शास्त्र कहते हैं कि ग़रीब और दीन-दुखियों की मदद करने से ईश्‍वर प्रसन्न होते हैं. यदि उन्हेंं खाने-पीने की चीज़ें बांटी जाएं, तो ईश्‍वर प्रसन्न होने के साथ-साथ आशीर्वाद भी देते हैं. इसलिए यहां पर हम यह बताते हैं कि राशि के अनुसार किस वस्तु का दान किया जाए, ताकि आप पर लक्ष्मीजी की कृपा सदैव बनी रहे.

मेष- चावल व दाल
वृषभ- सरसों का तेल और थोड़े-से तिल
मिथुन- 800 ग्राम गुड़ व पीली चना-दाल
कर्क- घी और थोड़ा-सा बेसन
सिंह- शक्कर व थोड़ा-सा बेसन
कन्या- आटे के साथ चावल
तुला- 11 बेसन के लड्डू
वृश्‍चिक- अलग-अलग तरह के पांच फल
धनु- जलेबी और तिल के लड्डू
मकर- पांच तरह के अनाज
कुंभ- ड्रायफ्रूट्स, दूध और शक्कर
मीन- मिठाई और फल