Tag Archives: diya

Exclusive! टीवी एक्ट्रेस तेजस्वी प्रकाश ने किया अपनी शादी का खुलासा! (Exclusive! TV Actress Tejasswi Prakash To Romance 10 Year Old Child Artist)

स्वरागिनी सीरियल की रागिनी अब नए शो पहरेदार पिया की में नज़र आ रही हैं दिया के रूप में, जिसमें उनके पिया हैं स़िर्फ 10 साल के. तेजस्वी प्रकाश ने अपने नए शो के अलावा और भी कई दिलचस्प बातें हमारे साथ शेयर की.  

3

आपने पहरेदार पिया की शो क्यों चुना? क्या ये शो ग़लत मैसेज नहीं दे रहा है?
जब मुझे इस शो का ऑफर मिला, तो मैंने सोचने के लिए थोड़ा व़क्त मांगा. शुरू में मुझे भी डाउट हुआ था कि कहीं ये शो ग़लत मैसेज तो नहीं देगा. इससे पहले मैं स्वरागिनी जैसा हिट सीरियल कर चुकी हूं और उस शो में दर्शकों ने मुझे बहुत पसंद किया है इसलिए मैं कोई रिस्क नहीं लेना चाहती थी. लेकिन जब मुझे मेरा कैरेक्टर समझाया गया, तो मुझे ये रोल काफ़ी दिलचस्प लगा और मैंने शो के लिए हां कर दी. ये शो ग़लत मैसेज नहीं देता, बल्कि वुमन एम्पावरमेंट की बात करता है कि कैसे एक 18 साल की लड़की इतना बड़ा ़फैसला लेती है, वो कितनी बहादुर है, कितना त्याग करती है.

आपको शो में इतना मेकअप करना पड़ता है, इतने हैवी कपड़े-गहने पहनने पड़ते हैं, तो आपको तैयार होने में कितना व़क्त लगता है?
इस शो में मैं एक यंग कैरेक्टर प्ले कर रही हूं इसलिए मैं बहुत ज़्यादा मेकअप नहीं करती. मुझे स़िर्फ कपड़े और गहने पहनने होते हैं इसलिए तैयार होने में ज़्यादा टाइम नहीं लगता. मैं आधे घंटे में तैयार हो जाती हूं.

यह भी देखें: बिग बॉस 9 की सदस्य और एक वीर की अरदास… वीरा की एक्ट्रेस दिगंगना सूर्यवंशी का गृह प्रवेश

1

क्या रियल लाइफ में भी आप इतनी जल्दी तैयार हो जाती हैं?
हां, मैं बहुत जल्दी तैयार हो जाती हूं. मज़े की बात ये है कि मेरी मां मुझसे कहती हैं कि मैंने अपनी पूरी ज़िंदगी में इतनी साड़ियां नहीं पहनी होंगी, जितनी तूने पहन ली हैं. जब वो मुझे आसानी से साड़ी मैनेज करते देखती हैं, तो हैरान रह जाती हैं.

स्वरागिनी और पहरेदार पिया की शो में क्या फ़र्क़ या क्या समानता है?
मेरा शो स्वरागिनी दो साल चला था, जिसमें मैंने पॉज़िटिव और नेगेटिव दोनों रोल प्ले किए थे. मुझे एक जैसा बोरिंग रोल करना पसंद नहीं है. स्वरागिनी सीरियल में मुझे दर्शकों का बहुत प्यार मिला इसलिए मैं वो शो करके बहुत ख़ुश हूं. जहां तक पहरेदार पिया की और स्वरागिनी शो की समानता की बात है, तो (हंसते हुए) इन दोनों शो में मैं राजस्थानी परिवार की सदस्य हूं, दोनों शो में मेरा गेटअप ट्रेडिशनल है. हां, दोनों शो में मेरा रोल बिल्कुल अलग है, क्योंकि दोनों शो का कॉन्सेप्ट अलग है.

क्या इस शो में भी आगे चलकर आपका रोल नेगेटिव होगा?
इस बारे में मैं अभी कुछ नहीं कह सकती, क्योंकि स्टोरी किस तरह आगे बढ़ेगी, ये तो मैं भी नहीं जानती. वैसे भी औरत के कई रूप होते हैं और जब अपने प्यार और परिवार को बचाने की बात आती है, तो वो किसी भी हद तक आगे बढ़ जाती है, इसलिए आगे मेरा रोल कैसा होगा, ये अभी कहना मुश्किल है.

यह भी देखें: OMG! ‘ये रिश्ता क्या कहलाता है’ के कार्तिक को नायरा से हुआ इश्क वाला लव!

5

आपको म्यूज़िक का बहुत शौक है. डेली सोप के साथ-साथ क्या म्यूज़िक के लिए टाइम निकाल पाती हैं?
हां, जब भी छुट्टी मिलती है तो मैं थोड़ा-बहुत रियाज़ कर लेती हूं. मुझे डांस का भी बहुत शौक है इसलिए मैं डांस क्लास भी जाती हूं. मैं एक्टिंग के साथ-साथ अपनी हॉबीज़ के लिए भी टाइम निकाल ही लेती हूं. मैं ट्रेन्ड भरतनाट्यम डांसर हूं और गाती भी हूं.

आपने इंजीनियरिंग की है और अब आप एक्टिंग कर रही हैं. कैसे हुआ ये सब?
मैंने एक्टिंग के बारे में कभी सोचा नहीं था. मैं भाग्य और गणपति बप्पा में बहुत विश्‍वास करती हूं. इंजीनियरिंग के दौरान ही मुझे ऑडिशन के लिए कॉल आया था और मैं यूं ही ऑडिशन के लिए चली गई थी. मैं पहले ऑडिशन में ही सिलेक्ट हो गई और वहीं से मेरे एक्टिंग करियर की शुरुआत हो गई. हां, एक्टिंग के साथ-साथ मैंने अपनी पढ़ाई भी पूरी की. आप मुझे इंजीनियर कह सकती हैं.

आप गणपति की भक्त हैं, तो क्या आपके घर भी हर साल गणपति आते हैं?
हां, हमारे घर हर साल गौरी-गणपति आते हैं और उन दिनों हम सब बहुत एक्साइटेड रहते हैं. घर सजाते हैं, मोदक बनाते हैं, उनकी पूजा करते हैं, घर में मेहमानों के लिए खाना बनाते हैं.

यह भी देखें: 12 ख़ूबसूरत टीवी एक्ट्रेस का रियल लाइफ ब्राइडल लुक

2

आप अपने नाम के साथ अपना सरनेम क्यों नहीं यूज़ करती हैं?
मेरा सरनेम वयंगंकर इतना मुश्किल है कि कोई ठीक से बोल नहीं पाता इसलिए मैं तेजस्वी प्रकाश लिखती हूं. (हंसते हुए) इसमें डबल लाइट है- तेजस्वी भी और प्रकाश भी.

आप अच्छी डांसर हैं, तो आगे आप किसी डांस शो में नज़र आएंगी?
फिलहाल तो मैं अपने शो में बिज़ी हूं. अभी मैंने ऐसा कुछ सोचा नहीं है. हां, अच्छा मौका मिला और मेरे पास टाइम रहा तो ज़रूर करूंगी.

आपको टेलीविज़न इंडस्ट्री की अच्छी और बुरी बात क्या लगती है?
अच्छी बात ये है कि आपको दर्शकों का बहुत प्यार मिलता है और बुरी बात ये है कि फैमिली के लिए टाइम बहुत कम मिलता है.

क्या आप अभी भी स्वरागिनी शो की टीम के टच में हैं?
बिल्कुल हूं. हाल ही में 10 जून को जब मेरा बर्थडे था, तो स्वरागिनी शो के मेरे फ्रेंड्स और मेरा उससे भी पहले का शो संस्कार, उसके भी सारे फ्रेंड्स मेरा बर्थडे सेलिब्रेट करने आए थे.

फिटनेस के लिए अलग से कुछ करती हैं?
शूटिंग से ़फुर्सत कहां मिलती है, (हंसते हुए) खाने का टाइम ही नहीं मिलता, तो अपने आप डायटिंग हो जाती है.

क्या आपको रियल लाइफ में भी इसी तरह सजना-संवरना पसंद है?
नहीं, तेजस्वी रियल लाइफ में कभी सिर पर पल्ला लेकर नहीं घूमेगी. अगर उसे कभी ऐसा करना पड़ा, तो वो अपने पति से कहेगी कि वो भी सिर पर पल्ला ले. हां, पहरेदार पिया की शो की कैरेक्टर दिया की तरह मैं भी रियल लाइफ में अपने हक़ के लिए कोई भी बड़ा ़फैसला लेने के लिए हमेशा तैयार रहती हूं.

यह भी देखें: 13 बेस्ट डिज़ाइनर ब्लाउज़: 13 स्टनिंग लुक्स ये है मोहब्बतें फेम दिव्यांका त्रिपाठी के

4

शो में आपके छोटे-से पति आगे चलकर बड़े होंगे?
हां, बिल्कुल मेरे पति इस शो में बड़े होंगे.

शो में इतना छोटा बच्चा आपकी मांग भरता है. क्या आपको अजीब नहीं लगता?
दरअसल, वो मेरी मांग नहीं भरता, उसे तो मांग भरने का मतलब भी पता नहीं होता. मैं उसके माथे पर तिलक लगाती हूं, तो मेरी देखादेखी में वो भी मेरी मांग में सिंदूर लगाता है. इस शो में हम पति-पत्नी की तरह नहीं, फ्रेंड्स की तरह रहते हैं.

आपको अब तक सबसे बेस्ट कॉम्प्लिमेंट क्या मिला है?
बेस्ट कहूं या अजीब, मेरे एक फैन हैं, जो मुझे अपनी मां कहते हैं. वो कहते हैं उन्हें मैं अपनी मां जैसी लगती हूं. मैं समझ नहीं पाती कि इस बात से मैं ख़ुश होऊं या क्या महसूस करूं.

आप सोशल मीडिया पर कितनी एक्टिव हैं?
बहुत कम, मेरे फैन्स को मुझसे यही शिकायत रहती है कि मैं अपनी फोटोग्राफ्स पोस्ट नहीं करती. हां, अब मैं सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने की कोशिश करूंगी.

आगे चलकर क्या आप फिल्मों में काम करना चाहेंगी?
अच्छा ऑफर मिला और तो ज़रूर करूंगी. मैंने अपनी तरफ़ से कोई बाउंड्री नहीं बनाई है कि ये करना है और ये नहीं.

स्वरागिनी और पहरेदार पिया की दोनों सीरियल में आप दुल्हन बनी हैं. आप आम लड़कियों को शादी का लहंगा और ज्वेलरी सिलेक्ट करने के लिए क्या ख़ास टिप्स देना चाहेंगी?
मैं तो यही कहूंगी कि ऐसा लहंगा या ज्वेलरी सिलेक्ट करें, जिसमें आप कंफर्टेबल महसूस कर सकें. ज़रूरत से ज़्यादा हैवी लहंगा या ज्वेलरी पहनकर आप अपनी शादी के फंक्शन एंजॉय नहीं कर पाएंगी.

टीवी की अन्य ख़बरों के लिए यहां क्लिक करें 

6

आपका फेवरेट कलर क्या है?
रेड मेरा फेवरेट कलर है.

आपकी फेवरेट एक्ट्रेस
कंगना रणावत और प्रियंका चोपड़ा.
मुझे बचपन से शबाना आज़मी भी पसंद हैं.

– कमला बडोनी

फेस्टिवल होम डेकोर आइडियाज़ (Festival Home Decor Ideas)

त्योहारों पर घर को सजाने-संवारने का उत्साह हर किसी को रहता है, ख़ासकर दीपावली पर. इस विषय पर इंटीरियर डिज़ाइनर जतिन दवे ने हमें कई उपयोगी टिप्स दिए. तो आइए जानते हैं कि फेस्टिवल में होम डेकोर को डिफरेंट टच कैसे दें.

 

shutterstock_108401306

इंटीरियर स्ट्रोक्स

* घर की दीवारों को वॉल पेपर्स व सीनरी से आकर्षक अंदाज़ दें.

* फर्नीचर के साथ भी कई तरह के एक्सपेरिमेंट्स किए जा सकते हैं.

* एंटीक फर्नीचर का इस्तेमाल करें. इसके साथ विंटेज चीज़ों को भी आज़माया जा सकता है.

* नक्काशीदार कलाकृतियों से ड्रॉइंगरूम को सजाएं.

* आर्टिस्टिक चीज़ों व नेचर से जुड़े या फिर मॉडर्न पेंटिंग्स से घर को डिफरेंट लुक दें.

* फर्नीचर को रिअरेंज करके, इनडोर प्लांट्स से सजाकर, किचन को मॉड्यूलर लुक देकर फेस्टिवल में घर को ख़ूबसूरत व आकर्षक लुक दिया जा  सकता है.

 

2

कलर कॉम्बिनेशन

* होम डेकोरेशन में कलर कॉम्बिनेशन पर ख़ास ध्यान दें.

* पेंटिंग के लिए यदि आप चाहें, तो ख़ूबसूरत सीनरी दीवार पर बना सकते हैं.

* एक ही कमरे की वॉल को दो अलग कलर्स से डेकोरेट करके सिग्नेचर वॉल बनाएं. कुछ अलग लुक देगा.

* ब्राइट प्रिंटेड कलर के परदे लगाएं.

* फेस्टिवल पर हैवी व डार्क कलर के परदे लगाना बेहतर रहता है.

* सोफा कवर प्रिंटेड या फिर प्लेन कलर का ले सकते हैं.

shutterstock_319871714

दीये-कैंडल्स

* दीये के बिना दीपावली अधूरी है. होम डेकोर में दीये को ख़ास जगह दें.

* घर को डिज़ाइनर दीये व कैंडल्स से विशेष रूप से सजाएं.

* मिट्टी के रंग-बिरंगे दीये से घर के कोनों को डेकोरेट करें.

* दीये के साथ कैंडल्स का कॉम्बिनेशन भी कर सकते हैं.

* रेड, मरून, ग्रीन, यलो, ब्लू या गोल्डन कलर्स के दीये या फिर ट्रेडिशनल डार्क कलर्स के दीयों का उपयोग करें. इस तरह के कलर्स फेस्टिवल की  पहचान होते हैं.

* फ्लोटिंग कैंडल्स की डिमांड दीपावली में अधिक रहती है. ये न केवल घर की ख़ूबसूरती को बढ़ाती हैं, बल्कि माहौल को ख़ुशनुमा बनाती हैं.

* मिट्टी या मेटल के किसी बड़े बाउल में पानी भरकर कई सारी छोटी-छोटी फ्लोटिंग कैंडल्स रख दें. पानी में तैरती ये ख़ूबसूरत फ्लोटिंग कैंडल्स बेहद  सुंदर लगती हैं.

* यदि आप चाहें, तो पानी में गुलाब की पंखुड़ियां डाल दें, रोशनी के साथ यह आकर्षक दिखेंगी.

 

shutterstock_442328068

लाइटिंग अरेंजमेंट्स

* फेस्टिवल में लाइटिंग काफ़ी मायने रखती है, ख़ासकर दिवाली पर, क्योंकि यह रोशनी का त्योहार जो है.

* नेट लड़ी, हार्ट शेप, फ्लावर, फ्रूट्स आदि के तोरण, राइस लड़ी, मटकी व परियों की लड़ी से घर को सजाएं.

* ध्यान रहे कि लाइटिंग क्लासी हो, क्योंकि कई बार लाइटिंग डेकोरेशन के नाम पर ढेर सारे हैवी व चुभनेवाली लाइटिंग की जाती है, जो ठीक नहीं है.

* रंग-बिरंगी लड़ियां या फिर कलरफुल पेपर से बने कंदील घर के बाहर लगाएं.

* यदि आप चाहें, तो लाल-पीले-नीले रंगों के छोटे-छोटे बल्ब से भी घर के बाहर के दरवाज़े और अंदर के किनारों को सजा सकते हैं.

* बेडरूम में सूूदिंग व व्हाइट रोशनी रखें. इससे आप रिलैक्स महसूस करेंगे.

* घर को मॉडर्न व स्टाइलिश अंदाज़ देने के लिए फेयरी लाइट्स का भी इस्तेमाल किया जा सकता है.

* कॉर्नर्स को हाइलाइट करने के लिए ट्रेक लाइट लगाएं.

* ख़ूबसूरत फूलों व अन्य साइज़ की टी लाइट्स से घर को अनूठा अंदाज़ दें. इन छोटी-छोटी टी लाइट्स से झिलमिलाती रोशनी पूरे घर को आकर्षक  बना देती है.

* डिज़ाइनर लैंप्स से बिखरती रोशनी पूरे माहौल को रौशन कर देती है.

 

496478f01d7c8a449cc067dfbb773ed2

डेकोर एक्सटेंशन

* घर के प्रवेशद्वार, आंगन और बरामदे में रंगोली बनाएं.

* मुख्यद्वार पर फूलों की तोरण लगाएं.

* स्टील के प्लैटर के किनारे पर फ्रेश फ्लावर्स सजाकर बीच में मिठाइयां रखें.

* वुडन डेकोरेटिव बास्केट में नीचे फूल डेकोरेट करके अलग-अलग तरह की ढेर सारी चॉकलेट्स रखकर ड्रॉइंगरूम के सेंटर टेबल पर रखें.

* डेकोरेशन के लिए पुरानी व विंटेज कलेक्शन का भी इस्तेमाल करें.

* मोतियों, फूलों व पत्तियों के तोरण से घर के सभी दरवाज़ों को सजाएं.

* वैसे कपड़े के बने रंग-बिरंगे बंदनवार, जिनके किनारों पर छोटी-छोटी घंटियां लगी होती हैं, भी दरवाज़े की सुंदरता में चार चांद लगा देते हैं.

* घर के आसपास पेड़-पौधे हैं, तो उसे पेपर लालटेन से सजाएं.

– ऊषा गुप्ता