Tag Archives: dry hair

बालों की लंबाई से जानिए किसी भी महिला का राज़ (What Does Your Hair Length Say About Your Nature)

बालों की लंबाई से आप किसी भी महिला का राज़ जान सकते हैं. जी हां, ये बिल्कुल सच है, बालों की लंबाई, बालों का रंग, बालों का टैक्सचर आदि देखकर आप उस महिला के बारे में बहुत कुछ जान सकते हैं. आइए, हम आपको बताते हैं बालों से जुड़े कुछ ऐसे राज़, जिनके बारे में जानने के बाद आप किसी भी महिला के कई राज़ जान सकते हैं.

Hair Length

लंबे और सीधे बाल वाली महिलाएं (Long And Straight Hair)
लंबे बाल वाली महिलाएं पुरुषों की पहली पसंद होती हैं. यदि आपकी गर्लफ्रेंड या पत्नी के बाल भी लंबे और सीधे हैं, तो आप बहुत ख़ुशनसीब हैं. लंबे और सीधे बाल वाली महिलाएं अपनी गृहस्थी बहुत अच्छी तरह चलाती हैं. ऐसी महिलाएं जितनी चादर है, उतना ही पैर पसारने में विश्‍वास रखती हैं. यानी ऐसी महिलाएं पैसे का सही उपयोग करना बख़ूबी जानती हैं, वास्तविक दुनिया में जीती हैं और अपनी गृहस्थी को आगे बढ़ाने के लिए हर मुमकिन कोशिश करती हैं.

Long And Straight Hair

छोटे व घुंघराले बाल वाली महिलाएं (Short And Curly Hair)
जिन महिलाओं बाल छोटे और घुंघराले होते हैं, वो बहुत भाग्यशाली होती हैं, लेकिन उन्हें जीवन में कई उतार-चढ़ाव भी देखने पड़ते हैं. ऐसी महिलाएं वर्तमान में जीने में विश्‍वास करती हैं. कला-साहित्य और भौतिक सुविधाओं के प्रति इनका विशेष आकर्षण होता है. छोटे और घंघराले बाल वाली महिलाओं को मेहमान नवाज़ी का भी बहुत शौक़ होता है. ऐसी महिलाओं को जीवन के सारे सुख मिलते हैं. इनके भाग्य के कारण इनसे जुड़े लोगों को भी जीवन में आगे बढ़ने के अवसर मिलते हैं.

यह भी पढ़ें: 10 पार्टी हेयर स्टाइल बनाने का आसान तरीक़ा (10 Easy Party Hairstyles For Every Special Occasion)

Short And Curly Hair

बहुत छोटे बाल वाली महिलाएं (Short Hair) 
छोटे बाल वाली महिलाओं के विचारों में कभी समानता नहीं रहती यानी लोगों के प्रति इनका नज़रिया बहुत जल्दी-जल्दी बदलता रहता है. ऐसी महिलाएं स़िर्फ अपने बारे में सोचती हैं. छोटे बाल वाली महिलाएं मुंहफट होती हैं, इसलिए लोग अक्सर इन्हें घमंडी समझते हैं और इनकी दोस्ती भी बहुत कम लोगों से होती है. छोटे बाल वाली महिलाएं मौज-मस्ती से अपना जीवन बिताना पसंद करती हैं. करियर को लेकर ये बहुत सीरियस होती हैं और अपने काम के लिए बहुत मेहनत करती हैं.

Short Hair

रूखे बाल वाली महिलाएं (Dry Hair) 
रूखे बाल वाली महिलाएं बहुत ही शांत स्वभाव की होती हैं. इन्हें ख़ुद चाहे कितनी ही तकलीफ़ क्यों न उठानी पड़े, ये अपनी वजह से कभी किसी को तकलीफ़ नहीं देतीं. रूखे बाल वाली महिलाएं हर परिस्थिति में ख़ुद को ढाल लेती हैं इसलिए न इन्हें किसी से कोई शिकायत होती है और न ही किसी को इनसे कोई शिकायत होती है.

यह भी पढ़ें: 5 हेयर ऑयल बालों के लिए सबसे अच्छे हैं (5 Most Useful Hair Oil For Your Hair)

Dry Hair

कम और पतले बाल वाली महिलाएं (Low And Thin Hair) 
कम और पतले बाल वाली महिलाओं में आत्मविश्‍वास बहुत कम होता है. ऐसी महिलाएं भाग्य पर बहुत विश्‍वास करती हैं और कई बार अंधविश्‍वास को भी मानने लगती हैं. ऐसी महिलाएं अपनी दुनिया तक ही सीमित रहती हैं. कम और पतले बाल वाली महिलाओं को प्यार-मोहब्बत में ज़्यादा दिलचस्पी नहीं होती या यूं कह लें कि ये महिलाएं बहुत रोमांटिक नहीं होती हैं.

 

10 होममेड टिप्स से रोकें बालों का झड़ना, देखें वीडियो:

कम्प्लीट हेयर केयर गाइड (Beauty: Complete Hair Care Guide)

कम्प्लीट हेयर केयर गाइड, Beauty, Complete Hair Care Guide

कम्प्लीट हेयर केयर गाइड, Beauty, Complete Hair Care Guide

हेयर केयर… यूं रखें अपने बालों का ख़्याल!
ये रेशमी एहसास, ये मखमली राहें, खो गया हूं इन्हीं में मैं, मुझे भा गईर्ं इन गेसुओं की पनाहें… ताउम्र कैद रहना चाहता हूं मैं इनकी ख़ुशबू में, जीना चाहता हूं अब मैं बस इनकी जुस्तजू में… आरज़ू तो यही है कि इनमें सिमटकर महक जाए मेरा वजूद भी, कभी न ख़त्म हो इनके अक्स का सुरूर भी… जब भी खुलकर ये बिखरें फ़िज़ाओं में कहीं, घटाएं बरस जाएं हवाओं में कहीं… लिपटा रहूं मैं भी इनसे, करता रहूं अपने ख़्वाबों को मुकम्मल, जगाकर अरमान सारे, करता रहूं अपनी हसरतों को हासिल!

 

काले, घने, मज़बूत बाल, रेशमी एहसास… मखमली ज़ुल़्फें… आपकी भी तो यही ख़्वाहिश होगी न. तो देर किस बात की, इन हेयर केयर टिप्स को आज़माएं और अपने बालों को हेल्दी बनाएं.

स्काल्प मसाज

  1. एक भाग नींबू के रस को पांच भाग नारियल के तेल में मिला लें. इससे स्काल्प में मसाज करें और आधे घंटे बाद हेयर वॉश करें. नींबू के रस में जो एसिड होता है, वो डैंड्रफ को दूर रखता है और नारियल तेल के साथ मिलाने पर लाभ कई गुना बढ़ जाता है. डैंड्रफ होने का एक बड़ा कारण होता है स्काल्प के पीएच बैलेंस का असंतुलित होना. नींबू स्काल्प का पीएच बैलेंस बनाए रखने में मदद करता है और नारियल तेल में कंडीशनिंग और एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज़ होती हैं.
  1. सोने से पहले रोज़ाना ऑलिव ऑयल को हल्का गर्म करके उससे स्काल्प मसाज करें. बालों को कवर करके सोएं, ताकि धूल-मिट्टी चिपके नहीं. सुबह शैंपू कर लें. ऑलिव ऑयल को गर्म करने पर उसकी कंसिस्टेंसी बेहतर हो जाती है, जिससे वो ड्राई हिस्से को आसानी से ठीक कर सकता है. ऑलिव ऑयल दो तरी़के से डैंड्रफ को ठीक करता है. पहला, यह स्काल्प के ड्राई हिस्से को मॉइश्‍चराइज़ करके पपड़ी नहीं जमने देता. दूसरा, ऑलिव ऑयल पपड़ी की मोटी परत में भी एब्ज़ॉर्ब हो जाता है, जिससे डैंड्रफ की समस्या धीरे-धीरे ख़त्म होने लगती है.
  1. बालों को मॉइश्‍चराइज़ करना भी ज़रूरी है. इसके लिए पांच तेलों का इस्तेमाल करें- ऑलिव ऑयल, आल्मंड ऑयल, कैस्टर ऑयल, कोकोनट ऑयल और लैवेंडर ऑयल. सभी को समान मात्रा में लेकर मिक्स करें. हेयर वॉश करने से पहले मसाज करें और 4-5 घंटे तक लगाकर रखें. यह हफ़्ते में दो बार करें.
  1. एक शोध में यह पाया गया कि जिन लोगों ने 4 हफ़्तों तक 5% टी ट्री ऑयल का इस्तेमाल किया, उनकी डैंड्रफ की समस्या 41% तक कम हो गई. शैंपू करने से पहले स्काल्प में ऑयल से मसाज करें. यह हर दूसरे दिन करें. यह डैंड्रफ की नेचुरल रेमेडी है. इसे आप तेल की तरह इस्तेमाल करने की बजाय शैंपू के तौर पर भी यूज़ कर सकते हैं.
  2. कोकोनट, आंवला, ऑलिव, आल्मंड या कैस्टरऑयल- चाहे जो भी ऑयल आप यूज़ करें, उसमें कुछ बूंदें रोज़मेरी एसेंशियल ऑयल की भी मिक्स कर लें. इससे जल्दी फ़ायदा होगा. हफ़्ते में एक बार इनमें से किसी भी ऑयल से स्काल्प मसाज करें. बालों को मसाज करने से स्काल्प में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है और बाल भी कंडीशन होते हैं, जिससे बालों का झड़ना और टूटना कम होता है.
  3. एक टेबलस्पून कोकोनट ऑयल को गीले बालों के सिरों पर अप्लाई करें. अगर बाल बहुत ज़्यादा ड्राई हैं, तो तेल को रातभर रहने दें और सुबह शैंपू करें. नारियल का तेल बालों की भीतरी परत को पोषण देता है.
  4. बालों में बटर से मसाज करें. आधे घंटे तक शावर कैप से कवर करें, फिर शैंपू कर लें. बटर विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर होता है. यह बालों को हेल्दी शाइन देता है.
  5. आधा कप दही से बालों को मसाज करें और 20 मिनट बाद पहले गुनगुने पानी से, फिर ठंडे पानी से रिंस करके शैंपू कर लें. दही में मौजूद लैक्टिक एसिड बालों को क्लीन करता है, जबकि उसमें मौजूद फैट्स बालों को मॉइश्‍चराइज़ करता है.
  6. विनेगर से स्काल्प मसाज करें. मसाज अच्छी तरह से होनी चाहिए, ताकि स्काल्प में विनेगर एब्ज़ॉर्ब हो सके. आप चाहें, तो एक टेबलस्पून विनेगर को पानी के मग में मिलाकर फाइनल रिंस के लिए इस्तेमाल कर सकती हैं. सबसे बेहतर तरीक़ा है कि पहले दो कप विनेगर को बॉइल कर लें. ठंडा होने पर उसका आठवां भाग 1 कप पानी में मिलाकर शैंपू से पहले बालों में डालें. विनेगर में स्काल्प के फंगस और बैक्टीरिया को ख़त्म करने की क्षमता होती है. इसके अलावा यह ड्राईस्किन को भी ठीक करता है, इसलिए जो डैंड्रफ फंगस के कारण नहीं होते, उन्हें भी ट्रीट करता है. इसमें मौजूद एसिड खुजली को कम करता है और स्काल्प फ्लेकी स्किन को ठीक करता है.
  1. अदरक को छीलकर कद्दूकस कर लें. 8 टेबलस्पून तिल का तेल लें. मलमल के कपड़े में अदरक को रखकर निचोड़ लें और उसके तेल को तिल के तेल में मिला लें. इससे स्काल्प मसाज करें और कुछ देर बाद हेयर वॉश कर लें. अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं और वो हेयर ग्रोथ में भी कारगर है. अदरक में मौजूद एक्टिव कंपोनेंट-वोलेटॉइल ऑयल डैंड्रफ को दूर करता है. अदरक के तेल को जब तिल के तेल जैसे नेचुरल ऑयल में मिलाकर लगाया जाता है, तो डैंड्रफ को दूर करने में वो बहुत कारगर होता है.

कम्प्लीट हेयर केयर गाइड, Beauty, Complete Hair Care Guide

अगर डैंड्रफ है, तो ये हेयर मास्क आज़माएं
  1. अपने शैंपू में 1 टीस्पून बेकिंग सोडा मिलाकर हेयर वॉश करें. सिंगल वॉश से ही डेड स्किन और फ्लेक्स निकल जाएंगे. बेकिंग सोडा डैंड्रफ पैदा करनेवाले फंगस की क्रियाशीलता को कम करता है. यह माइल्ड स्क्रब भी है, जो स्काल्प की डेड स्किन और अतिरिक्त ऑयल को निकाल देता है. चूंकि यह डेड स्किन को निकाल देता है, तो स्काल्प नेचुरल ऑयल्स का निर्माण सामान्य रूप से करने लगता है, जिससे बाल व स्काल्प हेल्दी रहते हैं.
  1. एलोवीरा जेल को स्काल्प में अप्लाई करें. 15 मिनट बाद शैंपू कर लें. यह नियमित रूप से करें, काफ़ी फ़ायदा होगा. एलोवीरा में एंटी फंगल और एंटी बैक्टीरियल प्रॉपर्टीज़ होती हैं. यह डेड स्किन सेल्स को भी निकालने में काफ़ी कारगर है. एलोवीरा में हीलिंग प्रॉपर्टीज़ भी होती हैं, तो यह न स़िर्फ स्काल्प को क्लीन करता है, बल्कि उसको हील और सूद भी करता है, जो डैंड्रफ को दूर रखने के लिए परफेक्ट है.
  1. दो टेबलस्पून कालीमिर्च को पीसकर एक कप दही में मिला लें. इस मिश्रण को स्काल्प पर लगाएं. ध्यान रहे कि यह स्काल्प पर ही लगे, बालों पर नहीं. एक घंटे बाद रिंस करके माइल्ड शैंपू से वॉश करें. बॉडी में यीस्ट की मात्रा जब बढ़ जाती है, तो उससे इंफ्लेमेशन बढ़ जाता है. ऐसे में फ्रेंडली बैक्टीरिया इंफ्लेमेशन से लड़ने में सहायक होते हैं. दही इन्हीं हेल्दी बैक्टीरिया को बढ़ाने में मदद करता है, जिससे स्काल्प पर यीस्ट की परत नहीं जमती और डैंड्रफ से छुटकारा मिलता है. जबकि कालीमिर्च एंटीफंगल होती है. दही और कालीमिर्च का मिश्रण डैंड्रफ के लिए बहुत ही प्रभावी उपाय है, लेकिन ध्यान रखें कि दही और कालीमिर्च ताज़ा हो.
  1. नीम के पत्तों को आधा घंटा उबालें. इसका पेस्ट बना लें और स्काल्प पर लगाएं. आधे घंटे बाद बाल धो लें. नीम में एंटी इंफ्लेमेटरी, एंटी फंगल और एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं. वो स्काल्प को हेल्दी रखकर डैंड्रफ की समस्या दूर करने में काफ़ी फ़ायदेमंद है.
  2. दो टेबलस्पून सेब के रस में समान मात्रा में पानी मिलाकर स्काल्प में मसाज करें. 15 मिनट बाद बाल धो लें. डैंड्रफ से हेयर फॉल की समस्या भी होती है, ऐसे में इस प्रयोग का नियमित इस्तेमाल बालों को हेल्दी रखने में बहुत कारगर है. यह ध्यान रहे, कि जूस में पानी बहुत ज़्यादा न मिलाया जाए.
  3. बेसिल लीव्स को पीसकर आंवला पाउडर में मिला लें. इस पेस्ट को बालों में लगाएं. आधे घंटे बाद शैंपू कर लें. यह स्काल्प को हेल्दी बनाकर उसका स्ट्रेंथ बढ़ाते हैं और अपने एंटी फंगल व एंटी बैक्टीरियल गुणों के लिए जाने जाते हैं. आंवला पाउडर और बेसिल लीव्स डैंड्रफ को दूर करने के साथ-साथ स्काल्प को भी हेल्दी रखते हैं.

यह भी पढ़ें: शिल्पा शेट्टी, कंगना रनौत, सोनम कपूर… जानें इनके ख़ूबसूरत बालों का राज़

कम्प्लीट हेयर केयर गाइड, Beauty, Complete Hair Care Guide

अगर हेयर फॉल हो, तो ये मास्क आज़माएं
  1. एक प्याज़ का रस निकालकर स्काल्प में लगाएं. आधे घंटे बाद शैंपू कर लें.
  • 3 टेबलस्पून प्याज़ के रस में 2 टेबलस्पून एलोवीरा जेल और 1 टेबलस्पून ऑलिव ऑयल मिलाएं. इसे स्काल्प में लगाकर आधे घंटे बाद शैंपू कर लें. प्याज़ के रस में सल्फर होता है, जो बालों का झड़ना कम करता है, क्योंकि यह हेयर फॉलिकल्स में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाता है, हेयर फॉलिकल्स का पुनर्निर्माण भी करता है और इंफ्लेमेशन को भी कम करता है. प्याज़ के रस में मौजूद एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज़ के चलते यह कीटाणु और जीवाणुओं को ख़त्म करके स्काल्प को इंफेक्शन से बचाता है.
  1. एलोवीरा जूस या पल्प को स्काल्प पर कुछ घंटों तक लगाकर रखें. गुनगुने पानी से बाल धो लें. यह हफ़्ते में 3-4 बार करें.
  •  रोज़ाना सुबह खाली पेट 1 टेबलस्पून एलोवीरा जूस पीने से भी बाल हेल्दी रहते हैं. एलोवीरा में जो एंज़ाइम्स होती हैं, वो हेल्दी हेयर ग्रोथ के लिए बहुत फ़ायदेमंद हैं. साथ ही यह स्काल्प का पीएच बैलेंस भी बनाए रखता है, जिससे बालों का झड़ना कम होता है.
  1. कोकोनट मिल्क से स्काल्प मसाज करके 20 मिनट बाद बाल धो लें. चाहें, तो इसमें कालीमिर्च पाउडर और मेथी पाउडर भी मिला सकते हैं. कोकोनट मिल्क प्रोटीन और एसेंशियल फैट्स से भरपूर होता है, जो बालों का झड़ना कम करके बालों को मज़बूत बनाता है.
  2. हेयर फॉल और हेयर लॉस से निपटने के लिए रोज़ सुबह 1 टेबलस्पून फ्लैक्ससीड पाउडर को पानी के साथ लें. आप चाहें, तो फ्लैक्ससीड को सलाद, दही या किसी भी चीज़ में मिलाकर ले सकते हैं.
  •  फ्लैक्ससीड ऑयल से बालों में मसाज करने से भी बालों का झड़ना कम होता है. फ्लैक्ससीड्स ओमेगा-3 फैटी एसिड से भरपूर होती हैं. ओमेगा-3 फैटी एसिड्स हेयर फॉल को रोककर हेयर ग्रोथ में मददगार होते हैं.
  1. एक कप मेथी के बीज को रातभर पानी में भिगोकर रखें. सुबह पीसकर पेस्ट बना लें. बालों में लगाकर शावर कैप से कवर कर लें. 40 मिनट बाद बाल धो लें. यह उपाय रोज़ाना 1 महीने तक करें. मेथी में एंटीसीडेंट्स नाम का हार्मोन होता है, जो हेयर फॉलिकल्स के निर्माण में मदद करता है और बालों को स्ट्रॉन्ग बनाता है. मेथी में प्रोटीन और निकोटिनिक एसिड भी होता है, जो हेयर ग्रोथ की प्रक्रिया को तेज़ करते हैं.

कम्प्लीट हेयर केयर गाइड, Beauty, Complete Hair Care Guide

अगर ड्राई हेयर की समस्या है, तो ये उपाय आज़माएं
  1. एक एस्पिरिन टैबलेट को पाउडर करके थोड़े-से शैंपू में मिक्स कर लें और फिर शैंपू करें. यह उपाय दो हफ़्ते में एक बार कर सकते हैं. एस्पिरिन में मौजूद सैलिसिलिक एसिड बालों से गंदगी हटाकर शाइन वापस लाता है.
  2. थोड़े-से शैंपू में एक अंडा मिलाकर बालों में लगाएं. 5 मिनट बाद धो लें. अंडे में मौजूद प्रोटीन बालों को हेल्दी व शाइनी बनाता है.
  3. एवोकैडो को मैश करके एक अंडे में मिक्स करके गीले बालों में लगाएं. 20 मिनट बाद धो लें. यह उपाय हफ़्ते में एक बार करें. एवोकैडो विटामिन्स, मिनरल्स और एसेंशियल फैटी एसिड्स से भरपूर होता है, जो बालों की खोई चमक लौटाने में मदद करते हैं.
  4. आधा कप पानी में 1 टेबलस्पून विनेगर मिक्स करके गीले बालों पर डालें. बालों को कोम्ब करें और 5 मिनट बाद रिंस कर लें. विनेगर में मौजूद एसिड बालों की बाहरी परत को सील कर देता है. यह हेयर क्यूटिकल्स को क्लीन करके बालों को स्मूद करता है.
  5. एक टीस्पून मेहंदी में समान मात्रा में आंवला पाउडर, टी पाउडर, नींबू का रस और हेयर ऑयल मिलाएं. स्काल्प में इसे अप्लाई करें और कुछ देर बाद शैंपू कर लें. मेहंदी में केराटीन को बाइंड करने की क्षमता होती है, जिससे वो बालों पर एक सुरक्षा कवच चढ़ा देती है. यह स्काल्प के चिपचिपेपन को ख़त्म करने कंडीशनर का काम करती है और डैंड्रफ को दूर करती है. बालों को कंडीशन करके उनमें शाइन और बाउंस भी लाती है.यह भी पढ़ें: घर पर शैम्पू कैसे बनाएं: सीखें 10 प्रकार के घरेलू हर्बल शैम्पू बनाने की विधि 

कम्प्लीट हेयर केयर गाइड, Beauty, Complete Hair Care Guide

जनरल टिप्स…
  • स्ट्रॉन्ग व हार्श केमिकल्स के प्रयोग से बचें. इनसे बाल कमज़ोर होकर टूटने-झड़ने लगते हैं.
  • बालों को नेचुरली सूखने दें. हेयर ड्रायर का इस्तेमाल कम करें. इससे भी बाल कमज़ोर होते हैं
  • बालों की स्टाइलिंग ऐसी न हो, जिससे वो टूटें या कमज़ोर हों.
  • बहुत ज़्यादा स्टाइलिंग प्रोडक्ट्स का भी प्रयोग न करें.
  • अच्छा शैंपू यूज़ करें. अपने बालों के टाइप के अनुसार शैंपू सिलेक्ट करें.
  • शैंपू करना ही काफ़ी नहीं, कंडीशनर का प्रयोग भी करें.
  • बाहर जाते समय बालों को धूप से बचाने के लिए स्कार्फ बांधें या छतरी लें.
  • रेग्युलर ऑयल मसाज करें. स्काल्प मसाज से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है और बाल हेल्दी होते हैं.
  • बीटरूट के पत्तों को उबालकर पीस लें और मेहंदी के साथ मिक्स करके पेस्ट बना लें. 15-20 मिनट तक बालों में लगाकर रखें, फिर धो लें. यह उपाय हफ़्ते में 3-4 बार करें.
  • बीटरूट जूस को अपने डायट में शामिल करें. बीटरूट के अलावा आप गाजर व पालक का जूस भी अपने डायट में शामिल करें. बीटरूट जूस में कार्बोहाइड्रेट्स, प्रोटीन, फॉसफोरस, कैल्शियम और विटामिन बी व सी होता है, जो बालों के हेल्दी ग्रोथ के लिए ज़रूरी है.
  • बालों को नियमित रूप से ट्रिम करवाती रहें, ताकि दोमुंहे बालों की समस्या से बचा जा सके.
  • अगर बालों से संबंधित कोई भी समस्या हो, तो एक्सपर्ट से सलाह लें.
  • हेल्दी डायट भी हेल्दी बालों के लिए बहुत ज़रूरी है. प्रोटीनयुक्त डायट लें.

– कमलेश शर्मा

[amazon_link asins=’B074MJ3VX8,B00JHN0OMU,B00S850C5C,B008DY631U,B00CBRILZQ’ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’57f1ccb3-1873-11e8-a252-b7dd5acce5ab’]

 

ड्राय हेयर के लिए होम रेमेडीज़

3

एवोकैडो

एवोकैडो को मैश करके एक अंडे में मिक्स करके गीले बालों में लगाएं. 20 मिनट बाद धो लें. यह उपाय हफ़्ते में एक बार करें.
रिसर्च: एवोकैडो विटामिन्स, मिनरल्स और एसेंशियल फैटी एसिड्स से भरपूर होता है, जो बालों की खोई चमक लौटाने में मदद करते हैं.

एग शैंपू

थोड़े से शैंपू में एक अंडा मिलाकर बालों में लगाएं. 5 मिनट बाद धो लें.
रिसर्च: अंडे में मौजूद प्रोटीन बालों को हेल्दी व शाइनी बनाता है.

कोकोनट ऑयल

1 टेबलस्पून कोकोनट ऑयल को गीले बालों के सिरों पर अप्लाई करें. अगर बाल बहुत ज़्यादा ड्राय हैं, तो तेल को रातभर रहने दें और सुबह शैंपू करें.
रिसर्च: नारियल का तेल बालों की भीतरी परत को पोषण देता है.

एस्पिरिन

एक एस्पिरिन टैबलेट को पाउडर करके थोड़े-से शैंपू में मिक्स कर लें और फिर शैंपू करें. यह उपाय दो हफ़्ते में एक बार कर सकते हैं.
रिसर्च: एस्पिरिन में मौजूद सैलिसिलिक एसिड बालों से गंदगी हटाकर शाइन वापस लाता है.

एप्पल साइडर विनेगर

आधा कप पानी में 1 टेबलस्पून विनेगर मिक्स करके गीले बालों पर डालें. बालों को कोम्ब करें और 5 मिनट बाद रिंस कर लें.
रिसर्च: विनेगर में मौजूद एसिड बालों की बाहरी परत को सील कर देता है. यह हेयर क्यूटिकल्स को क्लीन करके बालों को स्मूद करता है.

दही

आधा कप दही से बालों को मसाज करें और 20 मिनट बाद पहले गुनगुने पानी से, फिर ठंडे पानी से रिंस करके शैंपू कर लें.
रिसर्च: दही में मौजूद लैक्टिक एसिड बालों को क्लीन करता है, जबकि उसमें मौजूद फैट्स बालों को मॉइश्‍चराइज़ करता है.

– विजयलक्ष्मी

बालों से जुड़े 10 मिथक और सच्चाई

बालों से जुड़े मिथक कई बार हमें ग़लतफ़हमी में उलझा देते हैं. ऐसा न हो इसलिए हम आपको बता रहे हैं बालों से जुड़े सामान्य मिथकों की सच्चाई ताकि आपके बाल स्वस्थ रहें और सुंदर नज़र आएं.

Hair myth and truth

 

मिथक- कंडीशनर से दोमुंहे बालों की समस्या से निजात मिलती है.

सच्चाई- कोई भी कंडीशनर दोमुंहे बालों की समस्या को ख़त्म नहीं करता.

 

 

मिथक- बार-बार धोने से बाल गिरने लगते हैं और ड्राई हो जाते हैं.

सच्चाई- इस बात में बिल्कुल सच्चाई नहीं है, बल्कि एक्सपर्ट्स तो हफ्ते में 2-3 बार बाल धोने की सलाह देते हैं.

shampoo

मिथक- कलर कराने से बाल गिरते हैं.

सच्चाई- आयुर्वेदिक और अच्छे ब्रांड के कलरिंग प्रॉडक्ट्स बालों को नुक़सान नहीं पहुंचाते. अगर हेयर टाइप को ध्यान में रखते हुए अच्छी क्वालिटी के हेयर कलर का इस्तेमाल किया जाए तो इससे बाल गिरते नहीं, बल्कि आकर्षक दिखते हैं.

 

 

मिथक- टाइट चोटी बांधने से बाल बढ़ते हैं.

सच्चाई- उलझे हुए बाल जल्दी टूटते हैं. ऐसे में बालों की टाइट चोटी बांधने से उनके उलझने की संभावना कम हो जाती है, लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि टाइट चोटी बनाने से बाल बढ़ते हैं.

 

 

 

मिथक- कंडीशनर लगाकर तुरंत बाल धो देने से उसका असर नहीं होता.

सच्चाई- ये धारणा सही नहीं है. दरअसल, कंडीशनर अप्लाई करने के 2-3 मिनट बाद बाल धोने पर बाल सिल्की और शाइनी बने रहते हैं.

hair cutting

मिथक- हमेशा बाल कटवाते रहने से बाल घने हो जाते हैं.

सच्चाई- छोटे बाल घने ज़रूर दिखते हैं, लेकिन हेयर कटिंग से बालों की नॉर्मल ग्रोथ रेट में कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता.

 

 

मिथक- एक स़फेद बाल तोड़ने पर उसकी जगह कई स़फेद बाल उग आते हैं.

सच्चाई- ये धारणा सरासर ग़लत है. स़फेद बाल को तोड़ने का असर बाकी बालों पर नहीं होता.

 

 

मिथक- सोते समय यदि बाल गीले हों तो स्काल्प फंगस होने का ख़तरा बना रहता है.

सच्चाई- स्काल्प इंफेक्शन का गीले बालों से कोई संबंध नहीं है.

 

 

hair brush

मिथक- रोज़ाना बालों में ब्रश के 100 स्ट्रोक करने से बाल स्वस्थ और मज़बूत बनते हैं.

सच्चाई- बहुत ज़्यादा ब्रश करने से बालों के क्यूटिकल को नुक़सान पहुंचता है.

 

मिथक- स़िर्फ उम्रदराज़ लोगों के बाल ही स़फेद होते हैं.

सच्चाई- इसे सच कहना ग़लत होगा. तेज़ी से बदलती लाइफ स्टाइल, खानपान एवं केमिकलयुक्त हेयर प्रॉडक्ट्स के इस्तेमाल से कम उम्र में ही बाल न स़िर्फ कमज़ोर, बल्कि स़फेद भी हो रहे हैं.

होममेड हेयर मास्क

रेशमी-मुलायम, घने बाल ख़ूबसूरती में चार चांद लगाते हैं, मगर केमिकलयुक्त हेयर प्रॉडक्ट्स का इस्तेमाल बालों को बेजान बना देता है. ऐसे में होममेड हेयर मास्क बालों की ज़रूरतों को पूरा करने के साथ ही लंबे-घने बालों की ख़्वाहिश भी पूरी करते हैं. आइए, जानते हैं हेल्दी हेयर के लिए कौन-से होममेड हेयर मास्क हैं उपयोगी.

 

hair mask

रूखी बालों को बनाएं सिल्की सॉफ्ट

  • किसी भी तेल में 1 टेबलस्पून शहद मिलाएं और बालों में अच्छी तरह लगाएं. 1 घंटे बाद शैम्पू कर लें.
  • 1 अंडे में 3 टेबलस्पून शहद डालकर फेंटें. इसे स्काल्प और बालों पर लगाएं. आधे-एक घंटे बाद शैम्पू कर लें.

ताकि बाल बनें मज़बूत

  • लोहे के बर्तन में आंवले के चूर्ण को पानी में भिगोकर रखें और इसका लेप बालों में लगाएं. इससे बाल स्वस्थ और काले होते हैं.
  • कड़वे परवल के पत्तों को पीसकर रस निकालें और उसे सिर पर लगाएं. 2-3 महीने तक ऐसा करने से बाल स्वस्थ होंगे और झड़ेंगे नहीं.
  • आंवला, मुलतानी मिट्टी, दही, शिकाकाई, रीठा और बेसन से बाल धोने से बाल स्वस्थ होते हैं.

 

alovira

बालों को दें एक्स्ट्रा शाइन

  • हेल्दी और शाइनी हेयर के लिए पानी में नींबू का रस मिलाकर बाल धोएं.
    दही और अंडा मिलाकर पेस्ट बनाएं और इसे साफ़ बालों पर लगाएं. सूखने दें और ठंडे पानी से धो दें.
  • 15 दिनों में एक बार शैम्पू करने के बाद पानी में शहद और नींबू का रस मिलाकर बालों पर डालें. इसके बाद बालों में पानी न डालें.

डैंड्रफ की कर दें छुट्टी

  • अदरक के 2 बड़े टुकड़ों को अच्छी तरह पीसकर रस निकालें. इसके1-2 टेबलस्पून रस में नींबू का रस और तिल का तेल मिलाएं. इससे स्काल्प में अच्छी तरह मसाज करें. 30 मिनट बाद धो दें. सप्ताह में 3 बार ज़रूर लगाएं.
  • स्काल्प में 3 टेबलस्पून विनेगर लगाकर मसाज करें. सूखने पर बाल धो दें. जब तक डैंड्रफ पूरी तरह ख़त्म न हो, ऐसा रोज़ करें. जल्द ही फ़ायदा होगा.

Heena

चिपचिपे बालों से पाएं राहत 

  • जब बाल ऑयली हो जाएं और शैम्पू के लिए समय न हो, तो कॉर्नफ्लोर ट्राई करें. 10 मिनट बाद कंघी से बाल झाड़ें और कॉर्नफ्लोर हटाएं. बाल फिर से खिले-खिले नज़र आएंगे.
  • अचानक ज़रूरत पड़ने पर बालों का चिपचिपा लुक हटाने के लिए थोड़ा-सा टेलकम पाउडर बालों की जड़ों में लगाएं. बाल अच्छे दिखेंगे. हां, बाद में शैम्पू करना न भूलें.

हेयर प्रॉब्लम्स के ईज़ी सॉल्यूशन्स (Easy Solutions for Hair Problems)

solution of hair problem

स्किन की तरह बाल भी तभी ख़ूबसूरत दिखते हैं, जब वे पूरी तरह से हेल्दी हों. बालों का गिरना, स़फेद होना, रूसी आदि इस ओर इशारा करते हैं कि आपके बालों को एक्स्ट्रा केयर की ज़रूरत है. क्यों कमज़ोर होते हैं बाल और कैसे करें उनकी सही देखभाल? आइए, जानते हैं.

 

Hair Problems

रूसी

हमारे सिर की त्वचा महीने में एक बार मृत कोशिकाओं की परत छोड़ती है. जब इन मृत कोशिकाओं की अधिकता हो जाती है, तो वो रूसी बन हैं. रूसी की समस्या तनाव, खाने में पोषक तत्वों की कमी, मौसम में बदलाव इत्यादि कारणों से होती है.

घरेलू उपाय

  • नारियल के तेल में छोटा प्याज़ डालकर गर्म करें और इससे हेयर मसाज करें.
  • जैतून का तेल, नींबू का रस और नारियल का तेल मिलाकर हल्का-सा गुनगुना कर लें और उंगलियों के पोरों से बालों की जड़ों में लगाएं.
  • तेल में कपूर डालकर तेल को गर्म करें. इससे बालों की जड़ों में 10 मिनट तक मसाज करें. आधे घंटे बाद बाल धो लें.
  • एक भाग नींबू के रस में दो भाग नारियल का तेल मिलाएं. इससे बालों की जड़ों में मसाज करें.
  • 1-1 टीस्पून कैस्टर, राई और नारियल के तेल को मिलाएं और बालों की जड़ों में मसाज करें. 3-4 घंटे बाद बाल धो लें.
  • सिर की त्वचा पर नींबू का रस या खट्टी दही लगाएं. इससे भी रूसी कम होती है.
  • दही और नींबू के मिश्रण को स्काल्प पर लगाएं और 1 घंटे बाद धो लें. हर दूसरे दिन ऐसा करने से 2 हफ़्तों में रूसी ख़त्म हो जाएगी.
  • 1 टीस्पून मेथीदाना को रातभर पानी में भिगोकर रखें. सुबह इसका पेस्ट बनाकर बालों की जड़ों में लगाएं और आधे घंटे बाद बाल धो लें.

बालों का झड़ना 

हालांकि रोज़ाना कुछ बालों का गिरना या टूटना आम बात है, परंतु नियमित रूप से अधिक मात्रा में बाल गिरने या टूटने लगें, तो समझ लें कि आपके बाल झड़ रहे हैं. बाल झड़ने के कई कारण हो सकते हैं, जैसे- तनाव, कुपोषण, बीमारी, तली-भुनी चीज़ों का सेवन आदि.

घरेलू उपाय

  • हरी धनिया की पत्तियों को पीसकर जूस निकालें और सिर पर मसाज करें.
    नारियल के तेल में सूखे आंवले डालकर उबालें और बालों में अप्लाई करें. यह बालों के लिए टॉनिक का काम करता है.
  • ताज़े आंवले और नींबू के रस को बराबर मात्रा में मिलाएं और इसे बाल धोने के लिए प्रयोग करें.
  • सरसों के तेल में मेहंदी की पत्तियां डालकर उबालें और बालों पर लगाएं. इससे भी बालों का गिरना कम होगा.
  • एलोवीरा जेल या जूस से स्काल्प का मसाज करें. इससे बालों की जड़ें मजबूत होंगी और बाल नहीं टूटेंगे.
  • नीम की पत्तियों को 1 घंटे पानी में उबालें और ठंडा होने दें. बालों को इसी पानी से धोएं. चाहें तो नारियल तेल में नीम का तेल मिलाकर सिर पर लगाएं.

Hair Problems

रूखे बाल

क्या बाल धोने के बाद उन्हें संभालना मुश्किल हो जाता है? ऐसा बालों में नमी की कमी की वजह से होता है. रूखे बालों में डालें नई जान कुछ इस तरह-

घरेलू उपाय

  • कैस्टर ऑयल यानी एरंडी का तेल लगाएं. इससे बालों की ग्रोथ भी अच्छी होती है और उनमें सेहतभरी चमक नज़र आती है.
  • सप्ताह में एक बार चाय के पानी से बालों को अवश्य धोएं.
  • एक अंडे की स़फेदी, 2 चम्मच कैस्टर ऑयल और 1 चम्मच ग्लिसरीन मिलाएं और बालों की जड़ों में लगाएं. कुछ समय बाद बालों को धो लें.
  • बाल धोने से एक घंटे पहले नारियल के गुनगुने तेल से मालिश करें और गर्म तौलिए से बालों को लपेट दें. एक-डेढ़ घंटे बाद बालों को धो लें.
  • दही, बीयर और अंडे से बालों को डीप कंडीशन करें. बेजान बालों में नई जान आ जाएगी.

 

Hair Problems Tips

दोमुंहे बाल

आमतौर पर कॉम्बिनेशन हेयर वालों को दोमुंहे बाल की समस्या होती है. कभी-कभी ये समस्या उन लोगों में भी दिखती है, जो कई-कई दिनों तक बालों को ट्रिम नहीं करवाते.

घरेलू उपाय

  • हर 6-8 सप्ताह में बाल ट्रिम करवाएं. इससे बाल दोमुंहे नहीं होंगे.
  • 1 टीस्पून बादाम के तेल में 1 अंडे की स़फेदी मिक्स करके जड़ों व बालों में लगाएं और 1 घंटे बाद बाल धो लें. इससे बाल दोमुंहे नहीं होंगे.
  • 1-1 टीस्पून कैस्टर ऑयल, ऑलिव ऑयल और सरसों का तेल मिक्स करके बालों की जड़ों में क़रीब आधे घंटे तक मसाज करें. फिर बाल धो लें. ऐसा करने से बाल दोमुंहे नहीं होंगे.

White Hair Problems

स़फेद बाल

वो दिन लद गए जब उम्र के साथ बाल स़फेद होते थे. बदलती लाइफ स्टाइल के चलते अब टीनएजर्स के बाल भी वक़्त से पहले स़फेद हो रहे हैं. अनियमित खान-पान, केमिकल युक्त हेयर प्रॉडक्ट्स के इस्तेमाल आदि से बाल असमय स़फेद हो जाते हैं.

घरेलू उपाय

  • बादाम और आंवले का तेल बराबर मात्रा में मिलाकर उसमें कुछ बूंदें नींबू का रस मिलाएं, इस मिश्रण को बालों पर लगाएं.
  • करीपत्ते का सेवन करने से भी बालों का स़फेद होना कम होता है.
  • नारियल के तेल में करीपत्ता डालकर उबालें और बालों पर लगाएं. इससे बाल स़फेद नहीं होंगे.
  • ताज़ा आंवलों को पीसकर पेस्ट बनाएं. इसे बालों पर लगाएं. इससे बाल जल्दी स़फेद नहीं होंगे.
  • चायपत्ती को पानी में उबालकर छान लें. इस पानी से बालों की जड़ों पर मसाज करें. 1 घंटे बाद धो दें. इससे बालों पर कलर कोट बनता है और वे स़फेद नहीं दिखते.
  • बालों की जड़ों पर नारियल तेल (नींबू सहित), बादाम तेल या सरसों के तेल से मसाज करें. इससे बालों के स़फेद होने की गति कम होती है.