Durga Puja

नवरात्र में व्रत-पूजा की तरह ही भोग का भी बहुत महत्व होता है. मां के नौ रूपों को कौन-से नौ भोग लगाने चाहिए, आइए जानते हैं.
प्रतिपदा: रोगमुक्त रहने के लिए मां शैलपुत्री को गाय के घी से बनी स़फेद चीज़ों का भोग लगाएं.
द्वितीया: लंबी उम्र के लिए मां ब्रह्मचारिणी को मिश्री, चीनी और पंचामृत का भोग लगाएं.
तृतीया: दुख से मुक्ति के लिए मां चंद्रघंटा को दूध और उससे बनी चीज़ों का भोग लगाएं.
चतुर्थी: तेज़ बुद्धि और निर्णय लेने की क्षमता बढ़ाने के लिए मां कुष्मांडा को मालपुए का भोग लगाएं.
पंचमी: स्वस्थ शरीर के लिए मां स्कंदमाता को केले का भोग लगाएं.
षष्ठी: आकर्षक व्यक्तित्व और सुंदरता पाने के लिए मां कात्यायनी को शहद का भोग लगाएं
सप्तमी: शोक व संकटों से बचने के लिए मां कालरात्रि की पूजा में गुड़ का नैवेद्य अर्पित करें.
अष्टमी: संतान संबंधी समस्या से छुटकारा पाने के लिए मां महागौरी को नारियल का भोग लगाएं.
नवमी: सुख-समृद्धि के लिए मां सिद्धिदात्री को हलवा, चना-पूरी, खीर आदि का भोग लगाएं.
यह भी पढ़ें: नवरात्रि स्पेशल- आज करें देवी शैलपुत्री की पूजा
यह भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: किस राशि वाले किस देवी की पूजा करें 
यह भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: 10 सरल उपाय नवरात्र में पूरी करते हैं मनचाही मुराद
नवरात्र पर्व की शुरुआत हो रही है. नौ दिनों तक चलने वाले इस पर्व में माता के विभिन्न स्वरूपों की पूजा की जाती है और उन्हें प्रसन्न करने के लिए विभिन्न साधनाएं भी की जाती हैं. नवरात्रि में किस राशि वाले किस देवी की पूजा करें, इसके बारे में बता रहे हैं पंडित राजेंद्रजी.
किस राशि वाले किस देवी की पूजा करें
नवरात्रि में किस राशि वाले किस देवी की पूजा करें: 
1) मेष: स्कंदमाता की पूजा करें, दुर्गा चालीसा का पाठ करें
2) वृषभ: महागौरी स्वरूप की पूजा करें, ललिता सहस्रनाम का पाठ करें
3) मिथुन: ब्रह्मचारिणी की पूजा करें, दुर्गा द्वादश का पाठ करें
4) कर्क: शैलपुत्री की पूजा करें, लक्ष्मी सहस्रनाम का पाठ करें
5) सिंह: कुष्मांडा देवी की आराधना करें, दुर्गा मंत्र का जाप करें
6) कन्या: ब्रह्मचारिणी की उपासना करें, लक्ष्मी मंत्र का जाप करें
7) तुला: महागौरी की पूजा करें, काली चालीसा पढ़ें
8) वृश्‍चिक: स्कंदमाता का ध्यान करें, दुर्गा सप्तशती पढ़ें
9) धनु: चंद्रघंटा की आराधना करें, दुर्गा कवच का पाठ करें
10) मकर: मां काली की उपासना करें, ॐ ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे मंत्र का जाप करें
11) कुंभ: मां कालरात्रि की आराधना करें, सिद्ध कुंजिका स्तोत्र का जाप करें
12) मीन: चंद्रघंटा की पूजा करें, हल्दी की माला से बगलामुखी मंत्र का जाप करें
नवरात्रि में इन पांच में से कोई भी एक चीज़ घर पर लाने से समस्याएं दूर होती हैं:
1) नवरात्रि में किसी शुभ मुहूर्त पर तुलसी का पौधा घर लाकर उसे गमले में रोपें. सुबह-शाम इस पौधे के पास दीपक जलाएं तथा इसे जल से सींचें. इससे मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है. धन तथा परिवार संबंधी सभी समस्याओं का निवारण होता है.
 2) शुभ मुहूर्त में केले के पौधे को घर लाएं. उसे गमले में लगाएं, नौ दिन तक जल चढ़ाएं. गुरुवार पूजा करके जड़ में थोड़ा कच्चा दूध भी चढ़ाएं. ऐसा करने से धन की आवक शुरू हो जाती है.
 3) शुभ मुहूर्त में बड़ का पत्ता तोड़ें तथा उस पर ताज़ी हल्दी से स्वस्तिक बनाकर घर के पूजा स्थल में रख लें. ऐसा करने से आपके सारे काम बनने लगेंगे.
 4) भगवान शिव को अतिप्रिय धतूरा मां काली की पूजा में भी काम आता है. नवरात्रि में धतूरे की जड़ को शुभ मुहूर्त में घर में स्थापित कर मां के बीजमंत्र क्रीं का जाप करें. ऐसा करने से समस्याएं कम होने लगती हैं.
 5) नवरात्रि में किसी भी शुभ मुहूर्त पर शंखपुष्पी की जड़ लाएं. इस जड़ को चांदी की डिब्बी में रखकर घर की तिजोरी या अलमारी में रख दें. ऐसा करने से कभी पैसे की कमी नहीं होती है.

ऐसी मान्यता है कि नवरात्र के लिए किए गए उपाय जल्दी ही शुभ फल प्रदान करते हैं. धन, संतान, प्रमोशन, विवाह, रुके हुए कार्य… कई मनोकामनाएं इन 9 दिनों में किए गए उपायों से पूरी हो सकती हैं. अगर आपके मन में भी कोई मनोकामना है, तो पंडित राजेंद्रजी के बताए गए उपायों से आपकी मनोकामना अवश्य पूरी होगी.

* कर्जमुक्ति के लिए करें ये उपाय
यदि लाख कोशिशों के बाद भी आपका कर्ज से पीछा नहीं छूट रहा, तो नवरात्र में सूर्य डूबने के पश्‍चात 21 गुलाब के फूल, सवा किलो साबूत लाल मसूर लाल कपड़े में बांधकर माता के सामने रखकर घी का दीपक जलाकर रोज़ाना 108 बार ये मंत्र पढ़ें- ॐ ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे
पूजा समाप्त होने के बाद अपने ऊपर सात बार उतारें व किसी को भी दान कर दें. माता से कर्ज मुक्ति की प्रार्थना करें. ऐसा करने से आपको अवश्य कर्ज से मुक्ति मिलेगी.

यह भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: किस राशि वाले किस देवी की पूजा करें

 

* मनोकामना पूरी करने के लिए करें ये उपाय
पूरे नौ दिन अखंड दीपक व घट के सामने बैठकर सिद्ध कुजिका स्त्रोत का पाठ करें. हर दिन एक-एक गुलाब का फूल बढ़ाते जाएं. नौवें दिन नौ गुलाब अर्पण कर मां से प्रार्थना करें. ऐसा करने से मनोकामना पूरी होती है.

Special Tips, Navratri Puja

* विवाह के लिए करें ये उपाय
अर्गला स्तोत्र व कीलकम् का पाठ रोज़ाना माता के सामने करें व हलवा का भोग चढ़ाकर एक कमल का पुष्प अर्पण करें. ऐसा करने से आपकी विवाह की चाहत पूरी हो जाएगी. श्रद्धा और विश्‍वास से प्रार्थना करने से मनोकामना ज़रूर पूरी होती है.

यह भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: किस दिन क्या भोग लगाएं 

* धनवृद्धि के लिए करें ये उपाय
पूरी नवरात्रि में लाल आसन पर बैठकर संध्याकाल में जो जातक विष्णु सहस्रनाम तथा ललिता सहस्रनाम का पाठ करता है और रोज़ाना एक कमल का पुष्प माता को अर्पण करता है. सात्विक रहता है, आचरण ठीक रखता है, कलह नहीं करता… ये सारे पालन करते हुए ऊपर दिया उपाय जो भी जातक करता है, मां उस पर प्रसन्न होकर धन वर्षा अवश्य करती है और उसके कष्टों को हरती है.

यह भी पढ़ें: नवरात्रि स्पेशल- आज करें देवी शैलपुत्री की पूजा

 

नवरात्र 2020 कल यानी 17 अक्टूबर से शुरू हो रहे हैं. देश में कई राज्यों में कोरोना के केसेस की अधिकता के कारण कई लोग नवरात्र पूजा के लिए ज़रूरी सामान नहीं ख़रीद पा रहे हैं, जिसके चलते लोगों के मन में निराशा का भाव भी है. इस विपरीत परिस्थिति में जो भी संसाधन उपलब्ध हैं, उनसे आप किस तरह नवरात्र की तैयारी कर सकते हैं, ये जानने के लिए हमने बात की एस्ट्रो-टैरो एक्सपर्ट व न्यूमरोलॉजिस्ट मनीषा कौशिक से. मनीषा कौशिक ने हमें कोरोना काल में नवरात्र की तैयारी करने के कुछ आसान उपाय बताए इस तरह बताए:

Navratri 2020

आश्विन मास की शुक्ल पक्ष – शारदीय नवरात्रि नवरात्र 2020 का शुभ मुहूर्त
17 अक्टूबर 2020 से शारदीय नवरात्र शुरू हो रहे हैं. नवरात्र 2020 घटस्थापना का शुभ मुहूर्त है:

पहला ब्रह्म मुहूर्त प्रातः 4 से 6 बजे तक
दूसरा मुहूर्त सुबह 6:27 से 10:13 बजे तक
तीसरा अभिजीत मुहूर्त 11:43 से 12:28 बजे तक
चौथा सबसे अच्छा और शुभ मुहूर्त सुबह 7:53 से 9:18 बजे तक
वैसे तो ये सभी मुहूर्त अच्छे हैं, लेकिन चौथा मुहूर्त सभी के लिए बहुत अच्छा है. यदि संभव हो तो, इस मुहूर्त पर पूजा-आराधना करें.

यह भी पढ़ें: नवरात्रि स्पेशल: नवरात्रि में किस राशि वाले किस देवी की पूजा करें (Navratri Special: Durga Puja According To Zodiac Sign)

कोरोना काल में ऐसे करें नवरात्र 2020 की तैयारियां
कई लोग इस बात से परेशान हैं कि कोरोना काल के चलते वो नवरात्र पूजा और घटस्थापना के लिए ज़रूरी सामान नहीं खरीद पा रहे हैं. यदि आपके साथ भी ऐसा ही हो रहा है, तो घबराएं नहीं. कोरोना काल में आप इस तरह नवरात्र 2020 की तैयारियां कर सकते हैं:

  • यदि आप नवदुर्गा को चढ़ाने के लिए नई चुनरी नहीं ख़रीद पा रहे हैं, तो आज यानी नवरात्र से एक दिन पहले घर की पुरानी चुनरी धोकर उसका प्रयोग करें.
  • यदि किसी कारणवश पुरानी चुनरी भी नहीं धो पाए, तो चुनरी पर गंगाजल छिड़ककर फिर उसे पूजा में प्रयोग में लाएं.
  • यदि आपके पास चुनरी नहीं है, तो नवदुर्गा के सिर पर मौली का एक टुकड़ा रख दें, ये भी वस्त्र का ही काम करता है.
  • यदि आप घटस्थापना के लिए श्रीफल यानी नारियल नहीं ख़रीद पा रही हैं, तो मंदिर में सिर्फ घी का दीया जलाकर भी अपने व्रत की शुरुआत कर सकती हैं.
  • कोरोना काल के चलते आपको कन्या जिमाने में भी दिक्कत आ सकती है, क्योंकि लोग अपनी लड़कियों को नहीं भी भेज सकते हैं. यदि आपको कन्या जिमाने में दिक्कत आ रही है, तो आप पूजा का भोग-प्रसाद बनाकर उसे एक थाली में नौ भागों में रख दें और उस थाली को छत में रखें. ऐसा करने से पक्षी आपका भोग-प्रसाद खाएंगे, जिससे आपको उतना ही पुण्य मिलेगा. हां, भोग के साथ छत पर पानी भी ज़रूर रखें. जिस तरह खाने के बाद हमें पानी की ज़रूरत पड़ती है, उसी तरह पक्षियों को भी प्यास लगती है, इसलिए भोग के साथ एक बर्तन में पानी भी ज़रूर रखें.

यह भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: किस दिन क्या भोग लगाएं (Navratri Special: 9 Bhog For Nav Durga)

नवरात्र 2020 का व्रत रखते समय इस बात का रखें ख़ास ध्यान
किसी भी पूजा-अर्चना, व्रत-उपवास में उसकी सामग्री से कहीं ज्यादा भक्त की भावना मायने रखती है, इसलिए आपकी पूजा या उपवास में कोई कमी रह भी जाए, तो परेशान न हों, माता रानी आपकी भावना को समझेंगी और आपको ढेर सारा आशीर्वाद देंगी. नवरात्र 2020 आप सभी के जीवन सुख-सौभाग्य-समृद्धि लेकर आए!
– कमला बडोनी

चैत्र नवरात्र 2020 कल यानी 25 मार्च से शुरू हो रहे हैं. देश में कई राज्यों में कर्फ्यू के कारण कई लोग नवरात्र पूजा के लिए ज़रूरी सामान नहीं ख़रीद पा रहे हैं, जिसके चलते लोगों के मन में निराशा का भाव भी है. इस विपरीत परिस्थिति में जो भी संसाधन उपलब्ध हैं, उनसे आप किस तरह चैत्र नवरात्र की तैयारी कर सकते हैं, ये जानने के लिए हमने बात की एस्ट्रो-टैरो एक्सपर्ट व न्यूमरोलॉजिस्ट मनीषा कौशिक से. मनीषा कौशिक ने हमें कोरोना कर्फ्यू में नवरात्र की तैयारी करने के कुछ आसान उपाय बताए इस तरह बताए:

Chaitra Navratri



चैत्र नवरात्र 2020 का शुभ मुहूर्त
25 मार्च 2020 से चैत्र नवरात्र शुरू हो रहे हैं. चैत्र नवरात्र 2020 का शुभ मुहूर्त है :

* घटस्थापना मुहूर्त सुबह 6.19 से 7.17 बजे तक
* यदि आप सुबह जल्दी घटस्थापना नहीं कर पा रहे हैं, तो सुबह 11 बजे से 12.31 बजे भी घटस्थापना कर सकते हैं. ये मुहूर्त शुभ कार्य की शुरुआत के लिए भी अच्छा है.

कोरोना कर्फ्यू में ऐसे करें चैत्र नवरात्र 2020 की तैयारियां
कई लोग इस बात से परेशान हैं कि कोरोना कर्फ्यू के चलते वो नवरात्र पूजा और घटस्थापना के लिए ज़रूरी सामान नहीं खरीद पा रहे हैं. यदि आपके साथ भी ऐसा ही हो रहा है, तो घबराएं नहीं. कोरोना कर्फ्यू में आप इस तरह चैत्र नवरात्र 2020 की तैयारियां कर सकते हैं:
* यदि आप नवदुर्गा को चढ़ाने के लिए नई चुनरी नहीं ख़रीद पा रहे हैं, तो आज यानी नवरात्र से एक दिन पहले घर की पुरानी चुनरी धोकर उसका प्रयोग करें.
* आज यानी 24 मार्च 2020 दोपहर 2. 57 बजे से प्रतिपदा तिथि शुरू हो चुकी है इसलिए आज से व्रत की तैयारियां शुरू की जा सकती हैं. जो लोग व्रत करने वाले हैं, वो आज रात से लहसुन-प्याज़ खाना बंद कर दें.
* यदि किसी कारणवश पुरानी चुनरी भी नहीं धो पाए, तो चुनरी पर गंगाजल छिड़ककर फिर उसे पूजा में प्रयोग में लाएं.
* यदि आपके पास चुनरी नहीं है, तो नवदुर्गा के सिर पर मौली का एक टुकड़ा रख दें, ये भी वस्त्र का ही काम करता है.
* यदि आप घटस्थापना के लिए श्रीफल यानी नारियल नहीं ख़रीद पा रही हैं, तो मंदिर में सिर्फ घी का दीया जलाकर भी अपने व्रत की शुरुआत कर सकती हैं.
* कोरोना कर्फ्यू के चलते आपको कन्या जिमाने में भी दिक्कत आ सकती है, क्योंकि लोग अपनी लड़कियों को नहीं भी भेज सकते हैं. यदि आपको कन्या जिमाने में दिक्कत आ रही है, तो आप पूजा का भोग-प्रसाद बनाकर उसे एक थाली में नौ भागों में रख दें और उस थाली को छत में रखें. ऐसा करने से पक्षी आपका भोग-प्रसाद खाएंगे, जिससे आपको उतना ही पुण्य मिलेगा. हां, भोग के साथ छत पर पानी भी ज़रूर रखें. जिस तरह खाने के बाद हमें पानी की ज़रूरत पड़ती है, उसी तरह पक्षियों को भी प्यास लगती है, इसलिए भोग के साथ एक बर्तन में पानी भी ज़रूर रखें.

चैत्र नवरात्र 2020 का व्रत रखते समय इस बात का रखें ख़ास ध्यान
किसी भी पूजा-अर्चना, व्रत-उपवास में उसकी सामग्री से कहीं ज्यादा भक्त की भावना मायने रखती है, इसलिए आपकी पूजा या उपवास में कोई कमी रह भी जाए, तो परेशान न हों, माता रानी आपकी भावना को समझेंगी और आपको ढेर सारा आशीर्वाद देंगी.

चैत्र नवरात्र 2020 आप सभी के जीवन सुख-सौभाग्य-समृद्धि लेकर आए!

– कमला बडोनी

शरद नवरात्रि 29 सितंबर 2019 से शुरू हो रहा है. मां दुर्गा का आशीर्वाद पाने और हर मनोकामना पूरी करने के लिए नवरात्रि कलश/घट स्थापना का शुभ मुहूर्त और पूजन विधि जान लें. पंडित राजेंद्रजी बता रहे हैं शरद नवरात्रि कलश/घट स्थापना का शुभ मुहूर्त और पूजन विधि.

Shardiya Navratri 2019

ये है शरद नवरात्रि कलश/घट स्थापना का शुभ मुहूर्त
मां दुर्गा की कृपा पाने के लिए कलश स्थापना का शुभ मुहूर्त सुबह 6 बजकर 16 मिनट से लेकर 7 बजकर 40 मिनट तक रहेगा. इसके अलावा जो भक्त सुबह कलश स्थापना न कर पाएं, उनके लिए दिन में 11 बजकर 48 मिनट से लेकर 12 बजकर 35 मिनट तक का समय कलश/घट स्थापना के लिए शुभ है. अत: इन दो मुहूर्त में आप अपनी सुविधानुसार शरद नवरात्रि कलश/घट स्थापना कर सकते हैं.

 

ये है कलश/घट स्थापना का सही तरीका
कलश/घट स्थापना करने के लिए व्यक्ति को नदी की रेत का उपयोग करना चाहिए. इस रेत में जौ डालने के बाद कलश में गंगाजल, लौंग, इलायची, पान, सुपारी, रोली, कलावा, चंदन, अक्षत, हल्दी, रुपया, पुष्प आदि डालें. इसके बाद ॐ भूम्यै नमः कहते हुए कलश को 7 अनाज के साथ रेत के ऊपर स्थापित कर दें. कलश की जगह पर नौ दिन तक अखंड दीप जलता रहे.

यह भी पढ़ें: नवरात्रि स्पेशल: नवरात्रि में किस राशि वाले किस देवी की पूजा करें (Navratri Special: Durga Puja According To Zodiac Sign)

Shardiya Navratri 2019

 

नवरात्रि में ऐसे करें मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा

1) पहला दिन: इस दिन मां दुर्गा के नौ रूपों में से प्रथम रूप मां शैलपुत्री की पूजा की जाती है. मां शैलपुत्री चंद्रमा को नियंत्रित करती हैं इसलिए इनकी पूजा करने से चंद्रमा से संबंधित दोषों का निवारण होता है.

2) दूसरा दिन: इस दिन मां ब्रह्मचारिणी की पूजा की जाती है. ज्योतिषशास्त्र के अनुसार, मां ब्रह्मचारिणी मंगल ग्रह को नियंत्रित करती हैं इसलिए इनकी पूजा करने से मंगल दोष कम किए जा सकते हैं.

3) तीसरा दिन: इस दिन मां चंद्रघंटा की पूजा की जाती है. मां चंद्रघंटा शुक्र ग्रह को नियंत्रित करती हैं इसलिए इनकी पूजा करने से शुक्र ग्रह के बुरे प्रभाव को कम किया जा सकता है.

4) चौथा दिन: इस दिन मां कुष्मांडा की पूजा की जाती है. मां कुष्मांडा की पूजा करने से सूर्य के बुरे प्रभाव को कम किया जा सकता है.

5) पांचवां दिन: इस दिन मां स्कंदमाता की पूजा की जाती है. मां स्कंदमाता बुध ग्रह को नियंत्रित करती हैं इसलिए इनकी पूजा करने से बुध ग्रह के दोषों को कम किया जा सकता है.

6) छठा दिन: इस दिन मां कात्यायनी की पूजा की जाती है. मां कात्यायनी बृहस्पति ग्रह को नियंत्रित करती हैं इसलिए इनकी पूजा करने से बृहस्पति के कुप्रभाव को कम किया जा सकता है.

7) सातवां दिन: इस दिन मां कालरात्रि की पूजा की जाती है. मां कालरात्रि शनि ग्रह को नियंत्रित करती हैं इसलिए इनकी पूजा करने से शनि दोष को दूर किया जा सकता है.

8) आठवां दिन: इस दिन मां महागौरी की पूजा की जाती है. मां महागौरी राहु ग्रह को नियंत्रित करती हैं इसलिए इनकी पूजा करने से राहु के कुप्रभाव को कम किया जा सकता है.

9) नौवां दिन: इस दिन मां सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है. मां सिद्धिदात्री केतु ग्रह को नियंत्रित करती हैं इसलिए इनकी पूजा करके केतु के बुरे प्रभाव को दूर किया जा सकता है.

यह भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: किस दिन क्या भोग लगाएं (Navratri Special: 9 Bhog For Nav Durga)

Shardiya Navratri

ये है नवरात्रि में नौ रंगों का महत्व
नवरात्रि में नौ रंगों का बहुत महत्व होता है. नवरात्रि में हर दिन का एक रंग होता है इसलिए ख़ासकर महिलाएं उस दिन उसी रंग के कपड़े पहनती हैं. ऐसी मान्यता है कि नवरात्रि में नौ रंग पहनकर सुख-सौभाग्य की प्राप्ति होती है.

शरद नवरात्रि 2019 में किस दिन कौन-सा रंग पहनें

1) नवरात्रि पहला दिन- 29 सितंबर 2019- ऑरेंज कलर (Orange Colour)

2) नवरात्रि दूसरा दिन- 30 सितंबर 2019- सफेद रंग (White Colour)

3) नवरात्रि तीसरा दिन- 1 अक्टूबर 2019- लाल रंग (Red Colour)

4) नवरात्रि चौथा दिन- 2 अक्टूबर 2019- रॉयल ब्लू कलर (Royal Blue Colour)

5) नवरात्रि पांचवां दिन- 3 अक्टूबर 2019- पीला रंग (Yellow Colour)

6) नवरात्रि छठा दिन- 4 अक्टूबर 2019- हरा रंग (Green Colour)

7) नवरात्रि सातवां दिन- 5 अक्टूबर 2019- ग्रे कलर (Gray Colour)

8) नवरात्रि आठवां दिन- 6 अक्टूबर 2019- बैंगनी रंग (Purple Colour)

9) नवरात्रि नौवां दिन- 7 अक्टूबर 2019- पीकॉक ग्रीन कलर (Peacock Green Colour)

यह भी पढ़ें: नवरात्रि स्पेशल: 10 सरल उपाय नवरात्र में पूरी करते हैं मनचाही मुराद (Navratri Special: 10 Special Tips For Navratri Puja)

नवरात्रि यानी श्रद्धा-भक्ति, रंग, उल्लास का त्योहार. भक्ति के रंग में डूबे इस कलरफुल फेस्टिवल को कैसे सेलिब्रेट करते हैं टीवी सेलिब्रिटीज़? आइए, उन्हीं से जानते हैं.

Indian TV Actors Celebrate Navratri

रश्मि देसाई (Rashami Desai)
नवरात्रि गुजरातियों का सबसे शाही और कलरफुल त्योहार है. मैं गुजराती हूं इसलिए मेरे लिए नवरात्रि रेग्युलर पूजा के साथ ही सजने-संवरने, दोस्तों से मिलने, डांडिया और गरबा का लुत्फ़ उठाने का बेस्ट टाइम है. अब मैं हर दिन गरबा खेलने नहीं जा सकती, लेकिन मैं हर साल कम से कम तीन दिन गरबा खेलने ज़रूर जाती हूं. मैं सालों से नवरात्रि में नौ दिन का व्रत रखती हूं. नवरात्रि में मैं स़िर्फ फ्रूट्स खाती हूं. इन दिनों मैं अपने फेवरेट फ्रूट्स सेब, केला और कीवी खाती हूं. नवरात्रि की यादों मेरे बचपन की सबसे अनमोल यादें वो हैं जब नवरात्रि के दिनों में मां मुझे गरबा और डांडिया की शॉपिंग के लिए ले जाती थीं. तब मैं कलरफुल कपड़े और ज्वेलरी पहनकर पूरे नौ दिन गरबा खेलने जाती थी. मैं व्रत भी रखती थी इसलिए मां मुझे व्रत में खाई जाने वाली टेस्टी डिशेज़ बनाकर खिलाती थीं. हम नवरात्रि में गरबी (मिट्टी का डेकोरेट किया हुआ छोटा घड़ा, जिसके अंदर दीया रखकर पूरे नौ दिन तक जलाए रखना होता है) भी लेकर आते थे और पूरे नौ दिन पूजा-आरती करते थे. नवरात्रि के दिनों में मैं बहुत एक्साइटेड हो जाती हूं.

यह भी देखें: Shocking!!!जूही और सचिन ने किया तलाक़ का फैसला

Indian TV Actors Celebrate Navratri

शीबा (Sheeba) 
मेरे लिए नवरात्रि फेस्टिविटी की ख़ूबसूरत शुरुआत है. इस दौरान मुझमें अपने आप ही एक अलग तरह की ऊर्जा आ जाती है. मैं नवरात्रि के दौरान हर दिन देवी का हर रंग पहनने की कोशिश करती हूं. हां, शूटिंग के लिए मुझे अपने रोल के अनुरूप कपड़े बदलने पड़ते हैं, फिर भी मैं घर से परफेक्ट कलर पहनकर निकलती हूं. मैं नवरात्रि में पूरे नौ दिन का व्रत रखती हूं और इस दौरान मैं स़िर्फ फलाहार लेती हूं. इस साल मैं नवरात्रि में दिल्ली में हूं इसलिए रामलीला का भी जमकर लुत्फ़ उठाऊंगी.

यह भी देखें: आपको उतरन की छोटी इच्छा याद है? एेसी दिखती हैं अब वो

Indian TV Actors Celebrate Navratri

सुप्रिया कुमारी (Supriya Kumari) 
मुझे बहुत ज़्यादा भीड़ पसंद नहीं है इसलिए मैं डांडिया नहीं खेलती. हां, मेरी मां दुर्गा में बहुत आस्था है इसलिए मैं पूरे नौ दिन दुर्गा पूजा सेलिब्रेट करती हूं. मैं कलर पैटर्न में भी विश्‍वास नहीं करती इसलिए मैं नवरात्रि में अपनी पसंद के कलरफुल कपड़े पहनती हूं.

यह भी देखें: Stunning! मॉनी रॉय के ये पिक्चर्स सोशल मीडिया पर लगा रहे हैं आग! 

Indian TV Actors Celebrate Navratri

जैसमीन भसीन (Jasmin Bhasin)
मेरी नवरात्रि से जुड़ी बहुत ही ख़ूबसूरत यादें हैं. मुझे याद है, हम स्कूल में नवरात्रि ऑर्गनाइज़ करते थे और सब मिलकर डांडिया खेलते थे. मुझे इस फेस्टिवल का बेसब्री से इंतज़ार रहता है. इस बार मैं नवरात्रि में मुंबई में हूं और काम में बहुत बिज़ी हूं, लेकिन काम से यदि फुर्सत मिली, तो मैं ज़रूर डांडिया के लिए बाहर जाऊंगी.

यह भी देखें: श्वेता तिवारी ने बेटे रेयांश के साथ की फोटो शेयर

Indian TV Actors Celebrate Navratri

यह भी देखें: Exclusive! टीवी एक्ट्रेस तेजस्वी प्रकाश ने किया अपनी शादी का खुलासा!

मां दुर्गा की पूजा में लीन हैं बॉलीवुड स्टार्स भी. भारतीय परिधान में सजधज कर बड़े ही धूमधाम से ये ख़ूबसूरत त्योहार सेलेब्रेट कर रहे हैं. आइए, आपको दिखाते हैं कुछ तस्वीरें, जिसमें सेलेब्स पहुंचे मां दुर्गा का आशिर्वाद लेने.

सबसे पहले बात करते हैं काजोल की, जो अपनी मम्मी तनुजा और दोनों बच्चों युग व न्यासा के साथ पहुंची मां का दर्शन करने. रेड चेक्स साड़ी में नीट बन और ख़ूबसूरत इयरिंग के साथ काजोल स्टनिंग लग रहीं थीं.

-1-1-2_100916024451 (1)

51a4e75796454f446e8b12eaf4a2b19d (1)

बिपाशा बसु ने अपने माता-पिता के साथ मनाया ये त्योहार. लाल रंग के आउटफिट में बिपाशा लग रही थीं बेहद ख़ूबसूरत.

View this post on Instagram

Mommy and Daddy's Girl Forever❤️

A post shared by bipashabasusinghgrover (@bipashabasu) on

View this post on Instagram

@baitalikee let's do Pet Puja🙈

A post shared by bipashabasusinghgrover (@bipashabasu) on

रणबीर कपूर और आलिया भट्ट भी पहुंचे दर्शन करने.

43e5bf70793d57b376f74c36bbe3d24d (1)

b1e56a5fec4001f0f2f004692fd2ac81 (1)

सुष्मिता सेन भी अपनी दोनों बेटियों रेनी और अलिशा के साथ पहुंची माता के पंडाल में और आशिर्वाद लिया. डार्क पर्पल रंग के ड्रेस में सुष्मिता लग रही थी ख़ूबसूरत.

sush-4-621x1063 (1)

sush-3-750x507 (1)