Tag Archives: Entertainment

मूवी रिव्यू- दो बेहतरीन विषयों पर बनी सार्थक फिल्म: बत्ती गुल मीटर चालू/मंटो (Meaningful Cinema: Both The Movies Will Stir Your Thoughts)

आमतौर पर लोग फिल्में मनोरंजन के लिए देखना पसंद करते हैं, लेकिन कुछ ऐसे विषय भी होते हैं, जिनके बारे में जानना-समझना भी ज़रूरी होता है.

बत्ती गुल मीटर चालू

बिजली विभाग की ग़लती और भ्रष्टाचार के चलते किस तरह एक आम इंसान को परेशानियों का सामना करना पड़ता है, इसे ही फिल्म में मुख्य रूप से दिखाया गया है. यह उत्तराखंड के टिहरी जिले में रहनेवाले तीन मित्रों- शाहिद, श्रद्धा और दिव्येंदु की कहानी है. दिव्येंदु के प्रिंटिंग प्रेस का हमेशा बेहिसाब बिजली का बिल आता रहता है. वो इससे बेहद परेशान है. कई बार बिजली विभाग के चक्कर लगाने के बावजूद न ही न्याय मिल पाता है और न ही सुनवाई होती है. आख़िरकार तंग आकर वो आत्महत्या कर लेता है. शाहिद दोस्त की मौत से सकते में आ जाता है और उसे न्याय दिलाने की ठानता है और तब शुरू होती है क़ानूनी लड़ाई व संघर्ष. चूंकि फिल्म में शाहिद कपूर वकील बने हुए है, तो वे पूरा ज़ोर लगा देते हैं अपने दोस्त को इंसाफ़ दिलाने के लिए.

श्रद्धा कपूर फैशन डिज़ाइनर हैं. दो दोस्तों के बीच में फंसी एक प्रेमिका, पर उन तीनों की बॉन्डिंग देखने काबिल है. यामी गौतम एडवोकेट की छोटी भूमिका में अपना प्रभाव छोड़ती हैं. कोर्ट के सीन्स दिलचस्प हैं. शाहिद कपूर, श्रद्धा कपूर, यामी गौतम, दिव्येंदु शर्मा सभी कलाकारों ने सहज और उम्दा अभिनय किया है. श्रीनारायण सिंह टॉयलेट- एक प्रेम कथा के बाद एक बार फिर गंभीर विषय पर सटीक प्रहार करते हैं. अनु मलिक व रोचक कोहली का संगीत और संचित-परंपरा के गीत सुमधुर हैं. अंशुमन महाले की सिनेमैटोेग्राफी लाजवाब है. निर्माताओं की टीम भूषण कुमार, कृष्ण कुमार व निशांत पिट्टी ने सार्थक विषय को पर्दे पर लाने की एक ईमानदार कोशिश की है.

मंटो

जब कभी किसी विवादित शख़्स पर फिल्म बनती है, तब हर कोई उसे अपने नज़रिए से तौलने की कोशिश करने लगता है. मंटो भी इससे जुदा नहीं है. निर्देशक नंदिता दास ने फिराक फिल्म के बाद मंटो के ज़रिए अपने निर्देशन को और भी निखारा है. उस पर मंटो की भूमिका में नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी का बेमिसाल अभिनय मानो सोने पे सुहागा. मंटो की पत्नी के रूप में रसिका दुग्गल ने भी ग़ज़ब की एक्टिंग की है. वैसे फिल्म में कुछ कमियां हैं, जो मंटो को जानने व समझनेवालों को निराश करेगी.

सआदत हसन मंटो की लेखनी हमेशा विवादों के घेरे में रही, विशेषकर ठंडा गोश्त, खोल दो, टोबा टेक सिंह. उन पर उनकी लेखनी में अश्‍लीलता का भरपूर इस्तेमाल करने का आरोप ज़िंदगीभर रहा, फिर चाहे वो आज़ादी के पहले की बात हो या फिर देश आज़ाद होने पर उनका लाहौर में बस जाना हो. इसी कारण उन पर तमाम तरह के इल्ज़ामात, कोर्ट-कचहरी, अभावभरी ज़िंदगी के उतार-चढ़ाव का दौर सिलसिलेवार चलता रहा. रेसुल पुक्कुटी का संगीत ठीक-ठाक है. साथी कलाकारों में ऋषि कपूर, जावेद अख़्तर, इला अरुण, ताहिर राज भसीन व राजश्री देशपांडे ने अपने छोटे पर महत्वपूर्ण भूमिकाओं के साथ न्याय किया है. निर्माता विक्रांत बत्रा और अजित अंधारे ने मंटो के ज़रिए लोगों तक उनकी शख़्सियत से रू-ब-रू कराने की अच्छी कोशिश की है.

– ऊषा गुप्ता

यह भी पढ़े: इस अंदाज़ में करीना कपूर ने मनाया अपना जन्मदिन, देखिए पार्टी पिक्स (Inside Kareena Kapoor’s Birthday Bash)

जन्मदिन पर विशेष- इस चार्मिंग हीरो पर शबानाजी को था क्रश… (Shabana Azmi Had A Major Crush On This Charming Actor…)

Shabana Azmi Crush

हिंदी सिनेमा जगत मेंं बेहतरीन अदाकारा में से एक हैं शबाना आज़मी (Shabana Azmi). आज उनके जन्मदिन पर उनसे जुड़ी कई दिलचस्प पहलुओं के बारे में जानते हैं.

Shabana Azmi

* शबानाजी अपने सशक्त अभिनय और बहुमुखी क़िरदारों को प्रभावशाली अंदाज़ में निभाए जाने के लिए जानी जाती हैं. तभी तो अपनी पहली ही फिल्म अंकुर में राष्ट्रीय पुरस्कार उन्होंने जीता था.

* उसके बाद तो उन्होंने कई फिल्मों के लिए नेशनल अवॉर्ड्स जीते, जिनमें विशेष तौर पर अर्थ, खंडहर, पार हैं.

* शबानाजी के पिता कैफ़ी आज़मी जाने-माने शायर रहे हैं. उन्हीं से लेखनी का सबक सीखने जावेद अख़्तर शबानाजी के घर आया करते थे, तभी ही दोनों एक-दूसरे के प्रति आकर्षित हुए.

* लेकिन उनका पहला क्रश हैंडसम-चार्मिंग शशि कपूर थे. दरअसल, पृथ्वीराज कपूर कैफ़ी आज़मी के पड़ोस में रहते थे और अपने पिता से मिलने शशि कपूर अक्सर वहां आया करते थे.

* शबानाजी उनकी इस कदर दीवानी थीं कि एक बार तो उन्होंने उनकी फोटो पर शशिजी का आटोग्राफ भी ले लिया.

* वैसे उनकी दिली तमन्ना उनके साथ बहुत काम करने की थी, पर वे एकमात्र फकीरा फिल्म में ही उनके साथ काम कर पाईं.

* शबानाजी अपने बिंदास रोल के लिए भी काफ़ी जानी जाती रही हैं. फिर चाहे फिल्मी करियर की शुरुआती दौर में मंडी फिल्म का बोल्ड सीन हो या फिर समलैंगिकता पर फायर मूवी.

* व्यक्तिगत ज़िंदगी हो या फिल्में शबानाजी ने हर भूमिका के साथ न्याय किया. तभी तो जावेद साहब की पहली पत्नी हनी ईरानी के दोनों बच्चों फरहान अख़्तर और ज़ोया अख़्तर के साथ भी उनके उतने ही मधुर संबंध हैं, जितने जावेदजी के साथ है.

* फिल्मों में पर्दापण उन्होंने श्याम बेनेगल की अंकुर फिल्म से की थी. यह हैदराबाद की एक सच्ची प्रेम कहानी पर आधारित थी. इस फिल्म के लिए उन्हें नेशनल अवॉर्ड मिला, जबकि इस रोल के लिए वे श्याम बेनेगल की पहली पसंद नहीं थीं.

* बहुत कम लोग जानते हैं कि फिल्मों में आने की ख़्वाहिश उन्हें जया बच्चन के कारण हुई. जब उन्होंने जयाजी को फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की एक फिल्म में देखा था.

* वैसे शबानाजी की मां शौक़त आज़मी रंगमंच की बेहतरीन कलाकार थीं.

* शबानाजी ने लगातार तीन साल तक यानी 1983 से लेकर 1985 तक राष्ट्रीय पुरस्कार अपने नाम किया था. इसके बाद गॉडमदर के लिए भी उन्हें नेशनल अवॉर्ड से सम्मानित किया गया.

* शायद आपको पता न हो कि फिल्म वॉटर के लिए शबानाजी ने अपने बाल भी निकलवाए थे और बिना बाल के वे बेहद ख़ूबसूरत भी लगती थीं. लेकिन कुछ कारणवश फिल्म की कास्ट चेंज हो गई.

* आज 67 की उम्र में भी वे अपनी अदाकारी के दमख़म से अच्छे से अच्छा कलाकार को भी कड़ी चुनौती देती हैं. तभी तो जज़्बा फिल्म में एक तरफ़ उनका निगेटिव शेड था, तो दूसरी तरफ़ ऐश्‍वर्या राय बच्चन और इरफान ख़ान की मंजी अदाकारी.

* शबानाजी पांच बार फिल्मफेयर अवॉर्ड्स के अलावा पद्मश्री व पद्मभूषण से भी सम्मानित हो चुकी हैं.

* अंकुर, मंडी, अर्थ, खंडहर, पार, गॉडमदर, शतरंज के खिलाड़ी, फायर, मकड़ी, जज़्बा में उनके विविधतापूर्ण सशक्त अभिनय नेे हर किसी को प्रभावित किया.

* आज शबानाजी का 68वां जन्मदिन है. मेरी सहेली की तरफ़ से उन्हें मुबारकबाद!… वे यूं ही अभिनय के रंग बिखेरती रहें.

यह भी पढ़े: Shocking: प्रियंका चोपड़ा जूझ रही हैं इस बीमारी से (Priyanka Chopra Is Suffering From This Disease)

प्रधानमंत्रीजी के जन्मदिन पर ख़ास- बधाई देने के साथ मोदीजी की सराहना की सितारों ने… (Bollywood Praises And Congratulates PM Modi)

भारत के प्रधानमंत्री (Prime Minister) हम सबके प्रिय व बहुमुखी व्यक्तित्व के धनी नरेंद्र मोदीजी (Narendra Modi Ji) का आज जन्मदिन (Birthday) है. दिनभर बधाइयों का दौर चलता रहा, जिसमें राष्ट्रपति, उप-राष्ट्रपति, नेता, अभिनेता, कलाकार, बड़े, छोटे, बच्चे आम सभी लोग शामिल थे. सभी ने अपने-अपने तरी़के से उनके प्रति अपने प्यार, मान-सम्मान, गर्व को दर्शाया. इन सब में हमारे फिल्मी सितारे भी कहां पीछे रहनेवाले थे. महानायक अमिताभ बच्चन, अक्षय कुमार, अनुपम खेर से लेकर कंगना रनौत, माधुरी दीक्षित तक सभी ने उन्हें मुबारकबाद दी.

PM Modi

अमिताभ बच्चन

वर्ष नव हर्ष नव जीवन उत्कर्ष नव… हैप्पी बर्थडे पीएम मोदी…

अपने संदेश के साथ अमितजी ने मोदीजी के साथ अपनी कुछ फोटो भी अपलोड कीं.

अनुपम खेर

नरेंद्र मोदीजी जन्मदिन की शुभकामनाएं! ईश्‍वर आपकी भारतमाता से जुड़ी सभी मनोकामनाएं पूरी करें. आप इसी तरह ईमानदारी, सच्चाई, कड़े परिश्रम व सही दृष्टिकोण द्वारा देश का प्रतिनिधित्व करते रहें. आप स्वस्थ व दीर्घायु रहें.

अक्षय कुमार

प्रधानमंत्री को जन्मदिन की बधाई देने के साथ-साथ अक्षय कुमार एक वीडियो भी शेयर किया. इसमें उन्होंने मोदीजी के कार्यों की सराहना की. साथ ही आर्मी परिवार के शहीदों को दिए जानेवाले डोनेशन, सेनेटरी नैपकिन्न, ओडीएफ आदि के बारे में सरकार द्वारा किए जानेवाले उल्लेखनीय कामों की भी प्रशंसा की.

कंगना रनौत

अपने बेबाक़ बयानबाजी के लिए मशहूर अदाकारा कंगना ने भी अपनी फिल्म मणिकर्णिका के रानी लक्ष्मीबाई के गेटअप में ख़ास अंदाज़ में पीएम को विश किया.

माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी, जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं! मैं और मेरी टीम (मणिकर्णिका फिल्म) आपकी लंबी उम्र की प्रार्थका करते हैं. साथ ही बेटी बचाव अभियान में की गई आपकी कोशिशों व कार्यों की सराहना करते हैं. भविष्य में भी इसी तरह सफल रहें. जय हिंद!

इन सब के अलावा रजनीकांत, ऋषि कपूर, माधुरी दीक्षित, प्रीति ज़िंटा, मधुर भंडारकर आदि कलाकारों के अलावा हिमा दास, साक्षी मलिक, मानुषी छिल्लर, सौरव गांगुली ने भी बधाइयां दीं. इनके अलावा विरोधी पार्टी के शख़्सियत भी उन्हें बधाई देने में पीछे नहीं रहे.

मोदीजी ने अपना जन्मदिन अपने चुनाव क्षेत्र वाराणसी में बच्चों के बीच सेवा आंदोलन की शुरुआत करके मनाया. कुछ दिन पहले स्वयं श्रम दान करके उन्होंने स्वच्छता अभियान में अपना बहुमूल्य योगदान भी दिया था.

 

जन्मदिन पर विशेष: जानिए नरेंद्र मोदी से जुड़ी ये दिलचस्प बातें! (Happy Birthday: Interesting Facts About Narendra Modi)

बधाई हो, नीना गुप्ता 59 में हुई प्रेग्नेंट? (Badhai Ho! Neena Gupta Pregnant At 59)

टीवी-फिल्मों की मशहूर अदाकारा नीना गुप्ता (Neena Gupta) उनके बिंदास अंदाज़ व साहसिक निर्णय के लिए काफ़ी मशहूर रही हैं. फिर चाहे वो क्रिकेटर विवियन रिचर्ड्स के बच्ची की कुंआरी मां बनना रहा हो.. या फिर सांस टीवी सीरियल में उनका बोल्ड अंदाज़, फिल्मों में उनका बेपरवाह अभिनय.

Neena Gupta

अब वे साठ के क़रीब की उम्र में मां बननेवाली हैं. जी हां, है ना हैरत की बात. अरे, आप तो वाकई में हैरान हो गए. जी वे हक़ीक़त में नहीं, बल्कि बधाई हो फिल्म में उम्र के तीसरे पड़ाव पर मां बन रही हैं.

नीना के अनुसार, फिल्म का विषय दिलचस्प और ट्रीटमेंट बिल्कुल अलग होने के कारण वे इस फिल्म को कर रही हैं. किस तरह युवा बेटे की मां होने के बावजूद जब वे गर्भवती हो जाती हैं, तो घर-परिवार, समाज के व्यंग्य, हास्य, आलोचनाओें का शिकार होने लगती हैं. आयुष्मान खुराना उनके बेटे की भूमिका में है.

बकौल नीना के जब उन्होंने इसकी कहानी सुनी, तो हामी भरने में बिल्कुल देर नहीं लगाई. उन्हें यह रोल बेहद चैलेंजिंग लगा.

मां के प्रेग्नेंट होने के कारण आयुष्मान खुराना और उनकी प्रेमिका सान्या मल्होत्रा की ज़िंदगी में भी कोहराम मच जाता है.

हाल ही में इस फिल्म के ट्रेलर को लोगों ने ख़ूब पसंद किया. निर्देशक अमित शर्मा का निर्देशन भी कुछ कम लाजवाब नहीं है.

नीना, आयुष्मान, सान्या के अलावा सुरेखा सिकरी और नीना के पति के रूप में गजराज राव का मनोरंजन से भरपूर अभिनय कभी हंसाता तो कभी गुदगुदाता है.

यह फिल्म 19 अक्टूबर को रिलीज़ हो रही है.

आइए देखते हैं फिल्म से जुड़े कुछ मज़ेदार दृश्य…

Badhai Ho! Neena Gupta Badhai Ho! Neena Gupta Badhai Ho! Neena Gupta

Neena Gupta In Badhai Ho Neena Gupta

Badhaai Ho

यह भी पढ़े: जानिए 46 की उम्र में अभिनेत्री लिज़ा रे कैसे बनीं मां? (Lisa Ray Becomes A Mother To Twin Babies At 46)

 

मूवी रिव्यू- मनमर्ज़ियां, लव सोनिया, मित्रों… (Movie Review- Manmarziyaan, Love Soniya, Mitron…)

ये तीनों ही फिल्में अपने अलग-अलग विषय के कारण ख़ास बन गई हैं.

Manmarziyaan, Love Soniya, Mitron

आनंद एल. राय द्वारा निर्मित अनुराग कश्यप की मनमर्ज़ियां बिंदास-मनमौजी प्रेमी-प्रेमिका के साथ-साथ त्रिकोण प्रेम को डिफरेंट अंदाज़ में पेश किया गया है. विक्की कौशल, तापसी पन्नू और अभिषेक बच्चन का ज़बर्दस्त अभिनय व अनुराग की सशक्त निर्देशन दर्शकों को बांधे रखती है. फिल्म का ख़ास आकर्षण तापसी का मदमस्त बोल्ड अंदाज़ है. अन्य कलाकारों में पवन मल्होत्रा भी प्रभावित करते हैं.

अमित त्रिवेदी का संगीत कर्णप्रिय है. हर्षदीप कौर, जाज़िम शर्मा, एम्मी विर्क, शाहिद माल्या, सिकंदर कहलोन, मस्त अली द्वारा गाए गाने भी सुमधुर हैं.

लव सोनिया फिल्म दुनियाभर में जिस्मफरोशी का फैलता मकड़जाल और उसमें कभी मजबूरी तो कभी अनजाने में फंसती जा रही स्त्रियों की त्रासदी को बयां करता है. सोनिया के क़िरदार में मृणाल ठाकुर की यह पहली फिल्म है, लेकिन अपने सहज व बेमिसाल अभिनय से उन्होंने सभी को प्रभावित किया. तबरेज नूरानी का निर्देशन ने फिल्म में अच्छी पकड़ बनाई है, जिसके कारण फिल्म में गाने की कमी भी खलती नहीं है. उन्होंने निर्माता से आगे बढ़कर इस फिल्म के जरिए निर्देशन की दुनिया में क़दम रखा है.

रिचा चड्ढा, राजकुमार राव, मनोज बाजपेयी, रिया शिशोदिया, फ्रिडा पिंटो, सई ताम्हणकर, आदिल हुसैन के साथ-साथा हॉलीवुड स्टार डेमी मूर की उपस्थिति भी फिल्म को लाजवाब बनाती है.

आज की युवापीढ़ी की बेरोज़गारी और लड़कियों की महत्वाकांक्षाओं से जुड़ी बारीक़ियों को दर्शाती है फिल्म मित्रों. फिल्म की कहानी-पटकथा और नितिन कक्कड़ का बेहतरीन निर्देशन इसे ख़ूबसूरत व ख़ास बना देता है. टीवी स्टार कृतिका कामरा मित्रों से फिल्मी दुनिया में पर्दापण कर रही हैं. जैकी भगनानी ने अपने सहज-सरल अदाकारी से दिल जीत लिया है. उनका साथ उनके मित्र के रूप में प्रतीक गांधी, नीरज सूद, शिवम पारेख ने अच्छा दिया है. सोनू निगम, यो यो हनी सिंह, आतिफ असलम के गाए गीत बेहद मधुर है और पहले से ही हिट हो चुके हैं, ख़ासकर कमरिया वाला गाना. यो यो हनी सिंह, तनिष्क बागची, अभिषेक नैलवाल, तोषी-शारीब सबरी, समीरुद्दीन- सभी संगीतकारों ने अच्छी मेहनत की है. फिल्म में ड्रामा, इमोशन, कॉमेडी सभी का मनोरंजन से भरपूर तड़का है.

– ऊषा गुप्ता

यह भी पढ़ें: हिंदी दिवस पर विशेष- हिंदी फिल्मों में हिंदी का मिक्सचर… (Hindi Mixed In Hindi Cinema)

हिंदी दिवस पर विशेष- हिंदी फिल्मों में हिंदी का मिक्सचर… (Hindi Mixed In Hindi Cinema)

हिंदी (Hindi) हमारी आन-बान-शान है. देश की आज़ादी से लेकर आपसी लगाव और एकता में भी हिंदी ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. दिलों को जोड़ने में हिंदी फिल्मों (Hindi Films) का भी बहुत योगदान रहा है. देश-विदेश यानी एक तरह से पूरी दुनिया को हिंदी फिल्मों ने एक सूत्र में बांधा है. हमारे हिंदी फिल्मों के सितारों को विश्‍वभर में प्यार-अपनापन मिला है. फिर चाहे वो अमिताभ बच्चन हो, रितिक रोशन, शाहरुख, आमिर, सलमान ही क्यों न हो. फिल्मों ने भी हिंदी के प्रचार-प्रसार में अहम् भूमिका निभाई है. हिंदी की सरलता, चुटीली शैली और हास्य व्यंग्य ने भी सभी का ख़ूब मनोरंजन किया है. आइए, ऐसे ही कुछ फिल्मों पर एक नज़र डालते हैं.

Hindi Cinema

 

* अमिताभ-जया बच्चन, धर्मेंद्र, शर्मिला टैगोर, ओमप्रकाश अभिनीत चुपके-चुपके फिल्म आज भी हिंदी के मज़ेदार प्रयोग के कारण सभी को ख़ूब हंसाती है. फिल्म में धर्मेंद का शुद्ध हिंदी वार्तालाप सुन हर कोई हंसी से लोटपोट हो जाता है. साथ ही ओमप्रकाशजी की प्रतिक्रियाएं सोने पे सुहागा का काम करती हैं.

* अमोल पालेकर-उत्पल दत्त की हास-परिहास से भरपूर गोलमाल ने हर दौर में दर्शकों को हंसने के मौ़के दिए हैं. इसमें भी अन्य साथी कलाकारों ओमप्रकाश, बिंदिया गोस्वामी, दीना पाठक, युनुस परवेज ने भी भरपूर साथ दिया. फिल्म में हिंदी के  महत्व के साथ-साथ इसकी उपेक्षा की ओर भी लोगों का ध्यान आकर्षित किया गया.

* अक्षय कुमार की नमस्ते लंदन में तो भारत देश के महत्व, हिंदी पर गौरव, हिंदी भाषा, हमारी संस्कृति, सभ्यता को बेहतरीन ढंग से महिमामंडित किया गया. फिल्म के एक दृश्य में तो अक्षय कुमार भारत की आन, परिवेश, महत्व की अपनी हिंदी में कही गई बात को लंदन में अंग्रेज़ों को कैटरीना कैफ के ज़रिए अंग्रेज़ी में जतला कर उन्हें करारा जवाब देते हैं.

यह भी पढ़ें: भक्तिमय सितारों की दुनिया (Film Stars Bring Ganapati Bappa Home)

* हिदी मीडियम फिल्म ने तो हिंदी के प्रति हमारे सौतेले व्यवहार पर ही हास्य के रूप में ही सही सशक्त व्यंग्य किया है. इसमें इरफान ख़ान व सबा कमर ने उम्दा अभिनय के ज़रिए दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया.

1918 में महात्मा गांधीजी ने हिन्दी साहित्य सम्मेलन में हिन्दी भाषा को राष्ट्रभाषा बनाने पर ज़ोर दिया था. उन्होंने इसे जनमानस की भाषा भी कहा था. आख़िरकार फिर 14 सितंबर, 1949 के दिन हिंदी को राजभाषा का दर्जा मिल. तब से हर साल यह दिन हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है.

हिंदी है हम!…

भक्तिमय सितारों की दुनिया (Film Stars Bring Ganapati Bappa Home)

Film Stars Ganpati

गणेशोत्सव (Ganeshotsav) के समय हर तरफ़ हर कोई गणेश भक्ति के रंग में रंगा दिखाई देता है. इसमें सेलिब्रेटीज़ (Celebrities) भी पीछे नहीं है. फिर चाहे वो फिल्मी सितारे हों या टीवी स्टार्स. टीवी-फिल्मों की तरह सितारे व्यक्तिगत जीवन में भी गणेश उत्सव को पूरे हर्षोल्लास व धूम-धड़ाके के साथ मनाते हैं. आज भी कलाकारों ने पूरी श्रद्धा व धूमधाम से गणेश भगवान को अपने घर में स्थापित किया है.

हर साल कपूर फैमिली, रणबीर कपूर, अजय देवगन, विवेक ओबेरॉय, सलमान ख़ान, संजय दत्त, रितेश देशमुख इत्यादि स्टार्स के यहां श्रीगणेशजी के आगमन की ख़ूब धूम रहती है.

यह भी पढ़ें: इन गानों के साथ कीजिए बप्पा का स्वागत (Ganesh Chaturthi Special Songs)

इस बार पति राज कुंद्रा व बेटे विवान के साथ गणपति बप्पा को घर लाने की ख़ुशी शिल्पा शेट्टी के चेहरे देखते ही बन रही थी. वे पूरी तरह से भगवान गणेशजी के भक्ति में रंगी थीं. उनके अलावा माधुरी दीक्षित, सोनू सूद, रश्मि देसाई, देवलीना भट्टाचार्य, कांची सिंह, शरद मल्होत्रा, रूबीना दिलेक, डेज़ी शाह कलाकार भी गणेशजी की पूजा-वंदना में मग्न रहे. सभी को गणेश चतुर्थी की शुभकामनाएं! आइए देखते हैं कलाकारों को ईश्वर की भक्ति में डूबे…

Film Stars Ganpati

shilpa shetty

shilpa shettyshilpa shetty

shilpa shetty

 Film Stars Ganpati Film Stars Ganpati Film Stars Ganpati Film Stars Ganpati Film Stars Ganpati Film Stars Ganpati

Film Stars Ganpati

Film Stars Ganpati.

Film Stars Ganpati

Film Stars Ganpati

भक्ति के साथ अनुष्का शर्मा और वरुण धवन ने अपनी फिल्म ‘सुई धागा’ का प्रमोशन भी कर डाला. सही है, बोलो गणपति बप्पा मोरया!

मूवी रिव्यू- लैला मजनूं/पलटन (Movie Review- Laila Majnu/Paltan)

Laila Majnu/Paltan

लैला मजनूं

प्रेम कहानी पर जितनी भी फिल्में बनाई जाए, लोगों को पसंद आती ही है, बस कहानी और कलाकारों के अभिनय में दम होना चाहिए. निर्देशक इम्तियाज़ अली के भाई साजिद अली यही बाज़ी मार जाते हैं. इस फिल्म के ज़रिए उन्होंने निर्देशन की दुनिया में क़दम रखा है. साथ ही फिल्म में लैला-मजनूं बने अविनाश तिवारी और तृप्ति डिमरी ने भी अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की है.
प्रेमी-प्रेमिका की नोक-झोंक, दोनों का मिलना-बिछुड़ना, परिवार-ज़माने का विलेन बन जाना… यही सब है फिल्म में. लेकिन इसके बावजूद ख़ूबसूरत लोकेशन, कलाकारों का अभिनय, भावनाप्रदान दृश्य बांधे रखते हैं.
फिल्म की कहानी इम्तियाज़ अली ने लिखी है. फिल्म के कुछ संवाद और दृश्य बेहतरीन हैं.
संगीत मधुर है. गीत लैला ओ लैला… हाफिज़ हाफिज़… पहले से ही हिट हो गए हैं.
पहली ही फिल्म होने के बावजूद अविनाश व तृप्ति डिमरी ने प्रभावशाली अभिनय किया है. दोनोंं ही सहज लगे हैं. परमीत सेठी, सुमित कौल ने भी अपने अभिनय के साथ न्याय किया है. लव स्टोरी मूवी देखनेवालों को फिल्म ज़रूर पसंद आएगी.

पलटन

जे. पी. दत्ता देशभक्ति और उस पर भी ख़ासकर युद्ध पर आधारित फिल्म बनाने के लिए जाने जाते हैं. बॉर्डर, एलओसी कारगिल… फिल्मों को दर्शकों ने ख़ूब पसंद किया था. अब वे पलटन के रूप में भारत-चीन के बीच हुए युद्ध को लाए हैं. फिल्म की ख़ासयित रही है- वॉर सीन में रियल फौजियों के साथ फिल्माया जाना.

इस फिल्म के द्वारा जे.पी. दत्ता बारह साल बाद वापसी कर रहे हैं, लेकिन फिल्म में ख़ास नयापन नहीं है.

जैकी श्रॉफ, सुनील शेट्टी, सोनू सूद, गुरमीत चौधरी, सिद्धार्थ कपूर, लव सिन्हा, हर्षवर्धन राणे, ईशा गुप्ता, सोनल चौहान सभी कलाकारों ने अपने क़िरदार के साथ न्याय किया है. लेकिन फिल्म दर्शकों उस तरह का प्रभाव नहीं छोड़ पाएगी, जैसा कि दत्ता साहब की फिल्मों के साथ होता है.

अनु मलिक और संजॉय चौधरी की संगीत भी बस ठीक-ठाक है.

 

श्वेता बच्चन का फैशन वर्ल्ड में क़दम (Shweta Bachchan Launches Her Fashion Brand MxS)

 

अमिताभ बच्चन की बेटी श्वेता बच्चन (Shweta Bachchan) अपने बेहतरीन पहनावे, ख़ूबसूरत ड्रेस सेंस के लिए काफ़ी मशहूर हैं. अक्सर पार्टियों, फंक्शन, फैशन शोज़ में उनके फैशन व दिलकश स्टाइल से हम रू-ब-रू होते रहे हैं. अब उन्होंने एक और धमाल करते हुए अपना फैशन ब्रांड (Fashion Brand) MxS (एमएक्सएस) लॉन्च किया है. इसमें उनकी बचपन की सहेली मोनिशा जयसिंह भी भागीदार हैं.


लॉन्च के समय बच्चन फैमिली के अलावा सभी सेलिब्रिटीज़ का स्टाइलिश लुक ज़बरदस्त रहा. फिर चाहे वो शाहरुख ख़ान की बेटी सुहाना का क़ातिलाना लुक हो, नीता अंबानी का गॉर्जियस आउटफिट हो या फिर पति अंगद व बेबी बंप के साथ नेहा धूपिया का ख़ूबसूरत अंदाज़. टीना अंबानी ने भी अपनी ख़ास उपस्थिति दर्ज कराई.

श्वेता बच्चन के अलावा पूरी बच्चन फैमिली किसी फैशन आइकॉन से कम नहीं लग रही थी. अमिताभ बच्चन का पठानी ड्रेस में ब्लू जैकेट किलर लुक दे रहा था, वहीं जया बच्चन एक अलग ही अवतार में नज़र आईं. नातिन नव्या नवेली भी अपने फैशन के जलवे बिखेर रही थीं. अभिषेक बच्चन व ऐश्वर्या राय बच्चन मेड फॉर इच अदर कपल ख़ास पहनावे में बेहद स्टाइलिश दिखे.
श्वेता के ससुराल के परिवारों ने भी फैशन लॉन्च में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया. रितु नंदा, नीतू सिंह, निखिल नंदा सभी एक से बढ़कर एक लगे. यूं लग रहा था पूरा परिवार फैशन के रंग में रंगा है.
करण जौहर भी रंगीले मस्ताने स्टाइल में दिखे. यूं तो सभी फिल्म स्टार्स ने अपने-अपने ढंग से बधाइयां दी, पर आलिया भट्ट ने अलग ही अंदाज़ में बधाई दी. उन्होंने श्वेता बच्चन व उनकी बेटी नव्या नवेली की तस्वीर शेयर कर उन्हें अपनी फैशन गुरु, पर्सनल स्टाइलिस्ट के साथ-साथ अपनी फैशन एडवाइजर भी बताया. आलिया ने श्वेता के नए MxS ब्रांड का प्रमोशन करते हुए उन्हें बधाइयां देने के अलावा श्वेता की ख़ूब प्रशंसा भी की.
श्वेता को अपनी इस नई इनिंग के लिए बधाई व शुभकामनाएं!

यह भी पढ़े: गोविंदा आला रे…दही-हंडी पर मचाएं धूम बॉलीवुड के इन टॉप 10 गानों से (Top 10 Dahi Handi Songs Of Bollywood)

फैशन लॉन्च के कुछ ख़ास पल...

Shweta Bachchan Launches

 

Shweta Bachchan

Shweta Bachchan

न्यूज़ टाइम- आज की 5 ख़ास ख़बरें (News Time- Today’s Top 5 News)

स्वप्ना/अरपिंदर ने रचा इतिहास
जकार्ता में हो रहे एशियन गेम्स में हर रोज़ भारतीय खिलाड़ी सुनहरी उपलब्धियां दर्ज करा रहे हैं. हेप्टाथलोन में स्वप्ना बर्मन ने और ट्रिपल जंप में अरपिंदर सिंह ने तो इतिहास रच दिया. दोनों ही खिलाड़ियों को बहुत-बहुत बधाई. 48 सालों में पहली बार देश को ट्रिपल जंप में स्वर्ण पदक हासिल हुआ है. मनिक बत्रा व अचंता शरत कमल ने मिक्स्ड टेबल टेनिस में कांस्य पदक जीता. इसके अलावा चीन को सेमीफाइनल में हराकर महिला हॉकी टीम बीस साल में पहली बार हॉकी के फाइनल में पहुंची है. पदक तालिका में भारत के कुल 54 पदक हो चुके हैं, जिनमें 11 स्वर्ण, 20 रजत और 23 कांस्य पदक हैं.

Top News

बाल वैज्ञानिकों ने बनाया एंटी लैंडमाइन रोबोट
बस्तर के नक्सलियों द्वारा भारतीय जवानों को लैंडमाइन से उड़ाने की क्रिया की प्रतिक्रिया बाल वैज्ञानिकों ने एंटी लैंडमाइन रोबोट बनाकर दी है. इसकी सबसे बड़ी ख़ूबी यह है कि यह रोबोट ज़मीन के नीचे छिपे बारूद, अन्य विस्फोटक सामग्रियों का न केवल पता लगाएगा, बल्कि बम को डिफ्यूज़ भी करेगा. बाल वैज्ञानिकों की टीम ने चार महीने की कड़ी मेहनत के बाद इस रोबोट को बनाने में सफलता हासिल की है. रोबोट में लगे सेंसर से दो सौ मीटर की दूरी पर ज़मीन के सात मीटर तक गहरे छिपे गोलाबारूद का आसानी से पता लगाया जा सकता है. सबसे पहले रोबोट लैंड माइन के बारे बें बताएगा और उसके बाद वहां जाकर बम को निष्क्रिय करेगा. देखा जाए, तो एंटी लैंडमाइन मेटल डिटेक्टर मार्केट में पचास हज़ार से लेकर लाख तक में मिलती है, पर इन होनहार बाल वैज्ञानिकों ने मात्र 6 हज़ार में बनाया है.

ऐसी दीवानगी देखी नहीं
ट्रेन की मुलाक़ात में आंखें चार हुईं. दोनों एक-दूसरे की ओर आकर्षित हुए, पर बात न हो सकी. कुछ ऐसी ही प्रेमकहानी है पश्‍चिम बंगाल के विश्‍वजीत की. अपने प्यार को पाने, बात करने और मिलने की चाहत ने उन्हें इस कदर दीवाना कर दिया कि उन्होंने पूरे शहर में क़रीब चार हज़ार पोस्टर लागा दिया. इतना ही नहीं यूट्यूब पर एक वीडियो अपलोड कर दिया, ताकि उस अनजान हसीना से एक बार फिर रू-ब-रू हो सके.

यह भी पढ़ें: न्यूज़ टाइम- आज की 5 ख़ास ख़बरें (Today’s Updates: Top 5 Breaking News)

जैक्सन को टाइगर की श्रद्धांजलि
दुनियाभर में मशहूर पॉप सिंगर माइकल जैक्सन की डांस का हर कोई दीवाना है. 29 अगस्त पर उनके जन्मदिन पर टाइगर श्रॉफ ने उनकी तरह पहनावे व स्टाइल में उनके गाने पर डांस करके उन्हें श्रद्धांजलि दी. उन्होंने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर यह वीडियो अपलोड किया था, जिसे अब तक सात लाख से भी अधिक लोगों ने देखा है. बकौल टाइगर वे माइकल जैक्सन की वजह से ही आज इस मुकाम पर है, क्योंकि टाइगर के डांस में अक्सर उनकी झलक देखने को मिलती है.
* माइकल जैक्सन का जन्म 29 अगस्त, 1958 में हुआ था.
* वे मूनवॉक, रोबोट डांस के जनक माने जाते हैं.
* रॉक, पॉप, हिप-हॉप, कंटेम्पररी, पोस्ट डिस्को आदि में उन्हें महारात हासिल थी और हर कोई उनके डांस का फैन था.
* 25 जून, 2009 को उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया.

आईटीआर न भरने पर पेनाल्टी
मात्र एक दिन रह गया है आईटीआर यानी इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए. यदि आपने अब तक न भरा हो, तो समय पर भर दीजिए, वरना पेनाल्टी भरना पड़ सकता है. क्योंकि 31 अगस्त के बाद जिन लोगों ने आयकर रिटर्न फाइल नहीं की होगी, उन्हें ब्याज़ के भुगतान के साथ पेनाल्टी भी भरना पड़ेगा. ध्यान रहे कि पासपोर्ट बनवाने से लेकर लोन लेने तक में आईटीआर काफ़ी फ़ायदेमंद साबित होता है. उदाहरण के तौैर पर यदि आपकी इनकम 5 लाख रुपए है, तो आपको आईटीआर न भरने पर कम से कम एक हज़ार तक की पेनाल्टी भरनी पड़ सकती है. यदि 5 लाख से अधिक आय है, तो एक दिन की देरी होने पर 5 हज़ार तक की पेनाल्टी भरनी होगी. साथ ही 31 दिसंबर तक आरटीआई फाइल करनी होगी. इन सब के अलावा यदि आप जनवरी से मार्च 2019 में रिटर्न फाइल करते हैं, तो दस हज़ार तक पेनाल्टी भरनी पड़ सकती है.

– ऊषा गुप्ता

न्यूज़ टाइम- आज की 5 ख़ास ख़बरें (Today’s Updates: Top 5 Breaking News)

हॉकी के जादूगर की जादूगरी
हॉकी के जादूगर कहे जानेवाले खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद के जन्मदिन पर हर साल 29 अगस्त को राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में मनाया जाता है. आज उनकी 113 वीं जयंती है. हर साल आज ही के दिन खेल में बेहतरीन प्रदर्शन करनेवाले खिलाड़ियों को द्रोणाचार्य, अर्जुन, खेल रत्न, राजीव गांधी आदि पुरस्कार दिए जाते हैं. यूं तो ध्यानचंदजी को लेकर कई क़िस्से मशहूर हैं, आइए, उन पर एक नज़र डालते हैं-
* 1936 के बर्लिन ओलिंपिक के फाइनल में मेज़बान जर्मनी को भारत ने हराकर गोल्ड जीता था. इस मैच में घायल होने व खेल के समय दांत टूटने के बावजूद ध्यानचंदजी न केवल मैदान में वापस आए, बल्कि अपनी कप्तानी में 8-1 से जीत दर्ज की. इसमें 3 गोल ध्यानचंदजी ने और 2 उनके भाई रूपसिंह ने किए थे.
* उनके बेहतरीन प्रदर्शन को देखते हुए हिटलर ने उन्हें जर्मन नागरिकता व आर्मी में कर्नल के पद का प्रस्ताव दिया था, जिसे 31 साल के ध्यानचंदजी ने विनम्रता से मना कर दिया था.
* इसके अलावा हिटलर उनका हॉकी स्टिक भी ख़रीदने की ख़्वाहिश रखते थे.
* इस ओलिंपिक सबसे ख़ास बात यह रही थी कि इसमें भारत ने कुल 38 गोल किए थे, जिसमें 11 गोल ध्यानचंद ने किए थे.
* इसके पहले इंटरनेशनल मैचों में उन्होंने 59 गोल किए थे.
* 1928 के एम्सटर्डम ओलिंपिक में ध्यानचंद ने 5 मैचों में कुल 14 गोल किए थे. फाइनल में मेज़बान हॉलैंड को 3-0 से हराकर गोल्ड जीता था. इसमें 2 गोल ध्यानचंद ने किए थे.
* नीदरलैंड्स में उनके हॉकी स्टिक को तोड़कर इसकी जांच की गई थी कि कहीं उनके स्टिक में चुंबक यानी मैग्नेट तो नहीं है.
* हॉकी के इस महान खिलाड़ी ने अपने करियर में 400 से भी अधिक गोल किए थे.
* उनके नाम साल 1928, 1932 व 1936 में जीते गए 3 ओलिंपिक गोल्ड मेडल है.

Today's News

हेल्थ इंश्योरेंस का बढ़ता दायरा
आईआरडीआई (इंश्योरेंस एंड रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया) ने हेल्थ इंश्योरेंस के ऑप्शनल कवर से कई बीमारियों को हटा दिया है. उनके अनुसार, इसमें से अब डेंटल, इंफर्टिलिटी, स्टेम सेल, हार्मोंस रिप्लेसमेंट थरेपी, साइकेट्रिक व ओबेसिटी ट्रीटमेंट, सेक्सुअली ट्रांसमिटेड आदि जैसी बीमारियों को अलग कर दिया गया है. इसके पहले अधिकतर हेल्थ इंश्योरेंस कंपनिया उपरोक्त ऑप्शनल कवर का इंश्योरेंस नहीं करवाती थीं. लेकिन अब आईआरडीआई के निर्देश पर सभी हेल्थ इंश्योरेंस कंपनियों को इन्हें शामिल करना होगा. यदि एक नज़र नेशनल हेल्थ इंश्योरेंस रिकॉर्ड पर डालें, तो अब तक देश के केवल 34 प्रतिशत जनता यानी क़रीब 43 करोड़ लोगों ने ही अपना हेल्थ इंश्योरेंस करवाया है. इसमें कोई दो राय नहीं कि इस उल्लेखनीय क़दम के कारण अब अधिक से अधिक लोग अपना हेल्थ इंश्योरेंस करवाने के लिए आगे आएंगे.

विदेशियों को ड्रोन उड़ाने की मनाही
भारतीयों को दिसंबर से ड्रोन उड़ाने की मंजूरी मिल जाएगी, पर विदेशी ऐसा नहीं कर सकते, क्योंकि उनको इसकी अनुमति नहीं दी गई है. देशवासियों के लिए रिमोटली पायलेटेड एयरक्राफ्ट सिस्टम चलाने के नियमों को भी जारी किया गया है, जो दिसंबर महीने से लागू हो जाएगा. ड्रोन उड़ान के लिए विमानन नियामक डीजीसीए से एक ख़ास पहचान नंबर (यूआईएन) प्राप्त करना होगा. इसके अलावा नागर विमानन महानिदेशालय से हर उड़ान के लिए परमिट भी लेना ज़रूरी होगा. ड्रोन प्लेन को उनके वज़न उठाने के सार्मथ्य के अनुसार 5 कैटेगरी में रखा गया है, जिसमें अति सूक्ष्म, सूक्ष्म, लघु, मध्यम व दीर्घ हैं.

यह भी पढ़ें: न्यूज़ टाइम- आज की 5 ख़ास ख़बरें (Today’s Updates:Top 5 Breaking News)

हिट होता सॉन्ग हार्ड हार्ड
शाहिद-श्रद्धा कपूर स्टारर बत्ती गुल मीटर चालू के कॉन्सेप्ट, गाने व ट्रेलर को दर्शक बेहद पसंद कर रहे हैं. इसके ट्रेलर को तो अब तक 28 मिलियन से भी अधिक लोगों ने देखा है. अब इसका रिलीज नया गाना हार्ड हार्ड ख़ूब धूम मचा रहा है. इसमें शाहिद-श्रद्धा के अलावा दिव्येंदू शर्मा की गज़ब की जुगलबंदी देखने को मिलती है. उस पर मीका सिंह व सचेत टंडन की सुमधुर आवाज़ सोने पे सुहागा है. बिजली की समस्या और उसमें होनेवाले करप्शन पर आधारित यह फिल्म 21 सितंबर को रिलीज़ होनेवाली है. इसमें शाहिद कपूर व यामी गौतम एडवोकेट के रोल में दमदार डॉयलाग्स बोलते नज़र आएंगे.

मनजीत ने जीता सबका मन
इंडोनेशिया में हो रहे एशियाई खेल में भारत के मनजीत सिंह ने तो हर किसी दिल व मन दोनों ही जीत लिया. उन्होंने 800 मीटर की दौड़ में गोल्ड जीता. साथ ही इसी स्पर्धा में भारत के ही जिनसन जॉनसन ने सिल्वर मेडल अपने नाम किया. साल 1962 के बाद पहली बार भारतीय खिलाड़ियों ने यह कमाल दोबारा दिखाया है. इसके अलावा भारतीय बॉक्सर विकास कृष्ण ने 75 किग्रा के सेमीफाइनल में पहुंच गए हैं. गौर करनेवाली बात यह है कि लगातार तीन एशियन गेम्स में मेडल जीतनेवाले वे पहले भारतीय बॉक्सर होंगे. विकास ने साल 2010 के ग्वांग्झू एशियन में 60 किग्रा कैटेगरी में गोल्ड और साल 2014 के इंचियोन में मिडिलवेट में ब्रॉन्ज मेडल जीता था. उनके अलावा अमित पंघाल ने भी 49 किग्रा में सेमीफाइनल में पहुंच अपना मेडल पक्का कर लिया है. इसी साल कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेहल जीतनेवाले विकास ने बाईं आंख घायल होने उसमें कट लगने के बावजूद चीन के तूहेता इर्बीके टी को 3-2 से हराकर जीत हासिल की.

– ऊषा गुप्ता

 

 

न्यूज़ टाइम- आज की 5 ख़ास ख़बरें (Today’s Updates:Top 5 Breaking News)

रेशमी कपड़े पर भागवत गीता
62 वर्षीया हेमप्रभा चुटिया ने रेशमी कपड़े पर संस्कृत में पूरी भागवत गीता बुन डाली है. महाभारत का हिस्सा रहे हिंदू शास्त्र गीता में संस्कृत में 700 पद हैं. असम के डिब्रूगढ़ के मोरन की रहनेवाली हेमप्रभाजी ने दिसंबर 2016 में इसे करना शुरू किया था और अब जाकर इसे पूरा किया. 150 फीट लंबा व दो फीट चौड़े मुगा रेशम के इस कपड़े पर उन्होंने एक अध्याय इंग्लिश में भी बुना है. बहुमुखी प्रतिभा की धनी हेमप्रभाजी ने इसके पहले महादेव के नाम व उनके गुणमाला को रेशमी कपड़े पर बुना था. गौर करनेवाली बात यह है कि उनके इस प्रशंसनीय कार्य को म्यूजियम में संरक्षित करके रखा जाएगा. हेमप्रभाजी को उनके उल्लेखनीय कार्य के लिए कई पुरस्कार भी मिल चुके हैं, जैसे- कनकलता अवॉर्ड, बाकुल बोन अवॉर्ड, हैंडलूम एंड टेक्सटाइल अवॉर्ड आदि.

News

विद्यार्थियों की मदद करेगा सीबीएसई
केरल में आई तबाही से अनेक स्टूडेंट्स के सर्टिफिकेट, मार्कशीट, माइग्रेशन सर्टिफिकेट आदि बाढ़ के पानी में बह गए और कईयों के तो बुरी तरह ख़राब भी हो गए हैं. उनकी इसी परेशानी को सुलझाने के लिए सीबीएसई ने सराहनीय क़दम उठाया है. अब वे उन सभी विद्यार्थियों को डिजिटल डॉक्यूमेंट्स उपलब्ध कराएंगे. इसके लिए उन्होंने डिजिटल कोष परिणाम मंजुषा बनाया है. यह डिगिलॉकर ऐप (DigiLocker) से जुड़ा है. केरल स्टूडेंट्स अपने डॉक्यूमेंट्स इस ऐप की वेबसाइट पर लॉग इन कर बड़ी आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं. फ़िलहाल केरल में क़रीब एक हज़ार तीन सौ से अधिक स्कूल सीबीएसई बोर्ड से एफिलिएटेड हैं. इसके अलावा वे विद्यार्थी जिनका मोबाइल फोन नंबर रजिस्टर नहीं हैं, वे वेबसाइट पर जाकर अपने आधार कार्ड को लिंक करके अपने डॉक्यूमेंट्स डाउनलोड कर सकते हैं.

सांप प्रकोप से बचने के लिए यज्ञ
आंध्र प्रदेश के कृष्णा ज़िले में पिछले दो महीनों से सांप के काटे जाने की कई घटनाएं हुईं. इनमें जहां दो लोगों की मौत हो गई, वहीं सैकड़ों लोग अस्पताल में भर्ती हुए. सांप के प्रकोप से लोगों को बचाने के लिए सरकार ने सर्पयज्ञम यज्ञ करवाने का निर्णय लिया है. उनके इस फैसले की मिलीजुली प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं. कुछ इसे अंधविश्‍वास को बढ़ावा देना कह रहे, तो कुछ सही कह रहे हैं. मोपादेवी के मशहूर सुब्रमण्येश्‍वर स्वामी मंदिर में सर्प दोष निवारण व सर्पयज्ञम पूजा अनुष्ठान किया जाएगा. इसके पहले भी सरकार बरसात के लिए वरूण यज्ञ कराती रही है.

यह भी पढ़ें: न्यूज़ टाइम- आज की 5 ख़ास ख़बरें (Today’s Updates: Top 5 Breaking News)

खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन बरकरार
एशियन गेम्स के दसवें दिन का आकर्षण रहा बैडमिंटन में पीवी सिंधु का रजत पदक जीतना. साथ ही तीरंदाजी में भी भारत ने रजत पदक जीता. अब तक भारत को तीन रजत और एक कांस्य पदक मिल चुके हैं. भारत ने तीरंदाजी में महिलाओं व पुरुषों की कंपाउंड टीम इवेंट में सिल्वर मेडल जीता है. टेबल टेनिस में पुरुष टीम ने ब्रॉन्ज़ मेडल जीता. वहीं हॉकी में अपने आख़री लीग मैच में पुरुषों की टीम ने श्रीलंका को 20-0 से हराया. इसके पहले नौवें दिन एथलेटिक्स में खिलाड़ियों देशवासियों को गर्वित होने के कई मौ़के दिए और एक गोल्ड व तीन सिल्वर पर कब्ज़ा जमाया. भारतीय महिला एथलीट दुती चंद व हीमा दास ने महिलाओं की 200 मीटर रेस के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है.

आमिर की महाभारत के कलाकार
आमिर ख़ान ने अक्सर ही महाभारत पर फिल्म बनाने की बात कही है और यह उनका ड्रीम प्रोजेक्ट भी रहा है. वे इस पर मूवी की सीरीज़ बनाने के भी इच्छुक है, क्योंकि उनके अनुसार, इस विषय को तीन घंटे में नहीं समेटा जा सकता, इसलिए वे इसे तीन पार्ट में बनाएंगे. सूत्रो के अनुसार, कुछ कलाकारों का सिलेक्श भी हो चुका है, जिसमें बाहुबली प्रभास अर्जुन की भूमिका में, तो दीपिका पादुकोण द्रोपदी का क़िरदार निभाएंगी. निर्देशक के तौर पर उनकी पहली पसंद एसएस राजामौली हैं. दिलचस्प होगा आमिर ख़ान का रोल और इसमें कोई दो राय नहीं कि वे कृष्ण बनाना चाहेंगे, ताकि वे इस मूवी सीरिज़ के हर पार्ट में हों. इस बनाने के लिए रिलायंस एंटरटेनमेंट राजी हो गया है. अनुमानित इस मूवी सीरीज़ की बजट एक हज़ार करोड़ लगाई जा रही है.

– ऊषा गुप्ता