Tag Archives: facebook

सावधान! व्हाट्सऐप वीडियो के ज़रिए हैक हो सकता है आपका फोन (Hackers Can Hack Your Phone By Sending A Video)

आज मोबाइल फोन इस्तेमाल करनेवाला कोई बिरला ही होगा, जो व्हाट्सऐप फ्री मैसेजिंग ऐप का इस्तेमाल न करता हो. यूज़र फ्रेंडली होने के कारण बहुत कम समय में यह ऐप बहुत ज़्यादा पाप्युलर हो गया है, लेकिन इतना सिक्योर होने के बावजूद समय-समय पर हैकर्स इसे निशाना बनाते रहते हैं. हाल ही में उन्होंने दोबारा कुछ ऐसा करने की कोशिश की है, लेकिन आप इसका शिकार न बनें, इसके लिए जानें कैसे हैक हो सकता है आपका फोन?

Hack Phone By Sending A Video

आपको शायद पता न हो, तो हम आपको बता दें कि फेसबुक ने व्हाट्सऐप यूज़र्स के लिए एक चेतावनी जारी की है कि व्हाट्सऐप पर कोई भी वीडियो डाउनलोड करने से पहले उसकी प्रामाणिकता के बारे में पूरी तरह आश्‍वस्त होने के बाद ही वीडियो डाउनलोड करें, वरना आप हैकिंग के शिकार हो सकते हैं.

फेसबुक की इस चेतावनी के बाद भारत की कंप्यूटर इमर्जेंसी रेस्पॉन्स टीम (CERT-in) ने सभी भारतीयों को तुरंत अपना व्हाट्सऐप अपडेट करने की सलाह दी है. इसके लिए आप अपने मोबाइल के प्ले स्टोर में जाकर व्हाट्सऐप सर्च करें. जैसे ही व्हाट्सऐप आए, अपडेट बटन पर क्लिक करें.

Hack Phone By Sending A Video

अब आपको बता दें कि इसमें क्या होगा. इसमें आपको एक अनजान व्यक्ति के नंबर से एमपी4 (MP4) फाइल मिलेगी. जैसे ही आप उस फाइल को खोेलेंगे, हैकिंग की प्रकिया शुरू हो जाएगी. यह वीडियो किसी सामान्य वीडियो की ही तरह प्ले होगा, लेकिन इसके प्ले होते ही हैकर को आपके फोन का एक्सेस मिल जाएगा.
हर यूज़र को अपने व्हाट्सऐप में जाकर देखना होगा कि वो अपडेटेड है या नहीं. इसका वर्जन एंड्रॉयड के लिए कम से कम 2.19.274 और आईफोन के लिए 2.19.100 होना ज़रूरी है. अपने व्हाट्सऐप का वर्जन चेक करने के लिए व्हाट्सऐप की सेटिंग्स में जाकर हेल्प पर क्लिक करें. उसमें आपको ऐप इंफो सेक्शन दिखेगा. उस पर क्लिक करने पर उसका वर्जन दिखाई देगा.

– अनीता सिंह

यह भी पढ़ें: डिजिटल पेमेंट में गड़बड़ी होने पर कहां और कैसे करें शिकायत? (What To Do If Digital Payments Go Wrong?)

यह भी पढ़ें: क्या आपके पास हैं ये बेस्ट एंटीवायरस ऐप्स? (Best Antivirus Apps For Android Phones)

यूं रीस्टार्ट करें अपनी डिजिटल लाइफ (Restart Your Digital Life Now)

हमारी वर्क लाइफ (Work Life) हो या पर्सनल लाइफ (Personal Life) सब कुछ बहुत तेज़ी से बदल रहा है. रोज़ नए-नए ऐप्स हमें बहुत कुछ सिखाने के लिए आतुर रहते हैं. हमारी डिजिटल लाइफ दिन-ब-दिन एडवांस होती जा रही है, तो क्यों न इस साल बची-खुची कसर भी पूरी कर दें और नए साल में अपनी डिजिटल लाइफ (Digital Life) को रीस्टार्ट करके ख़ुद को दें बेस्ट न्यू ईयर गिफ्ट. 

Digital Life

रीस्टार्ट करें डिजिटल लाइफ

अभी कुछ दिन पहले ही एक बहुत सुंदर-सी पंक्ति पढ़ी, जिसमें लिखा था- ‘सेल्फी ने झूठा ही सही, मगर लोगों को मुस्कुराना सिखा दिया.’ पढ़कर लगा भले ही हम डिजिटल लाइफ को कुछ भी कहें, पर आज यह हमारी पहचान बन चुकी है.

–   ऑनलाइन दुनिया में हमारा अपना एक डिजिटल आईडी कार्ड है ये डिजिटल लाइफ. फेसबुक, व्हाट्सऐप, इंस्टाग्राम, ट्विटर, स्नैप चैट जैसे सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर हमारी डिजिटल लाइफ की झलक देखने को मिलती है.

–     कभी ख़ुशी-कभी ग़म, कभी नखरे, कभी जलन, कभी भावुक होना, तो कभी ग़ुस्सा करना डिजिटल प्लेटफॉर्म पर हमारी डिजिटल लाइफ कई रंगों से गुज़रती है. भले ही सोशल मीडिया पर बहुत कुछ बनावटी होता है, पर हमारी असल ज़िंदगी की एक झलक तो सभी को मिल ही जाती है.

चेहरे पर मुस्कान लाती है डिजिटल लाइफ

ज़रा सोचिए आजकल हमारे चेहरे पर मुस्कान कब आती है-

–     जब कोई अपना हमें व्हाट्सऐप पर याद करता है.

–     जब कोई दोस्त फेसबुक की फोटो पर ईमोजी या कमेंट शेयर करता है.

–    कोई रिश्तेदार अपनी बहुत पुरानी फोटो शेयर करता है, जिसमें हम भी हों.

–    कोई आपके स्टेटस की तारीफ़ करता है.

–     कोई वीडियो कॉल करके कुछ स्पेशल शेयर करता है.

हमारी डिजिटल लाइफ ने हमें एक नया जहां दे दिया है, जहां लोग अपनी लाइफ को उस नज़रिए से सबके सामने रखते हैं, जैसा वो दिखना चाहते हैं. अपनी हसरतों को सबके सामने रखने का प्लेटफॉर्म सोशल मीडिया ने ही तो दिया है. इस डिजिटल लाइफ को नए साल में यूं रीस्टार्ट करें.

अपलोड करें फ्रेशनेस

–     एक और नया साल अपने साथ कई नए मौ़के लेकर आया है, तो इस बार इन्हें अपने हाथ से न जाने दें. फेसबुक पर अपने बचपन या स्कूल के दिनों के पुराने दोस्तों को ढूंढ़ें. नए साल में पुराने दोस्तों का साथ आपकी डिजिटल लाइफ में नई फ्रेशनेस भर देगा.

–    अब तक आप सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर बहुत कम शेयर करते थे, जैसे- महीने में एक बार प्रोफाइल पिक्चर चेंज करना, सालों तक एक ही कवर लगाए रखना आदि, शुरुआत यहीं से करें.

–    बीच-बीच में कभी कुछ स्टेटस डाल दें. कभी कोई बात, कभी कोई फोटो हमें बहुत अच्छी लगती है. उसे दूसरों के साथ शेयर करेंगे, तो उसके रिएक्शन हमें अलग ही ख़ुशी देते हैं.

–     नई-नई कम्यूनिटीज़ से जुड़ें, ताकि आपको कुछ नया जानने को मिले.

–     अपनी हॉबी से जुड़े पेजेज़ को लाइक और फॉलो करें, ताकि हर दिन आप अपनी हॉबी से जुड़े रहें.

–    अगर आपको लगता है कि कई सालों से आपका एक ही पासवर्ड है, जो दूसरों को भी पता है, तो नए साल में उसे भी नया कर दें. यह आपकी डिजिटल सेफ्टी के लिए भी बहुत ज़रूरी है.

डिजिटल कचरा साफ़ करें

–     फेसबुक के ऐसे दोस्तों को ब्लॉक कर दें, जिनकी पोस्ट आपको अच्छा फील नहीं कराती.

–     थोड़ा समय निकालकर अपनी फ्रेंड्स लिस्ट देखें और ग़ैरज़रूरी दोस्तों को लिस्ट से छांट दें. थोड़ा डिजिटल कचरा आपकी लाइफ से साफ़ हो जाएगा.

–    ऐसे कुछ लोग होते हैं, जिन्हें हम कॉमन फ्रेंड के ज़रिए जानते हैं और वो अक्सर अपनी फोटो डालकर भी 20 लोगों को टैग कर देते हैं. ऐसे लोगों से दूरी ही अच्छी.

–     व्हाट्सऐप जैसे मैसेजिंग ऐप्स पर न जाने कैसे-कैसे फोटोज़ और वीडियोज़ आते रहते हैं, इसलिए ऐप में जाकर ऑटो डाउनलोड बंद कर दें, ताकि उन्हें बैठकर डिलीट न करना पड़े.

यह भी पढ़ें: टॉप 10 टिप्स ऑनलाइन रोमांस स्कैम से बचने के (Top 10 Tips To Protect Yourself Against Online Romance Scams)

Digital Life
अपडेट करें स्टाइल और ट्रेंड

–     इस साल अपनी डिजिटल लाइफ को थोड़ा अलग बनाएं. पुराने और बोरिंग स्टाइल को कहें बाय-बाय.

–   डिजिटल लाइफ के प्रोफाइल से लेकर अपने पर्सनल प्रोफाइल तक में कुछ नया करें.

–     नया साल आपके लिए एक नया मौक़ा लेकर आया है, लीक से हटकर कुछ अलग करने के लिए. रोज़मर्रा के अपने बोरिंग रूटीन को बदलने के लिए.

–     नए साल में नए-नए गैजेट्स और स्मार्टफोन्स भी आपको लुभाएंगे, तो अपने स्मार्टफोन को अपडेट करने का समय भी आ गया है.

–     जो कुछ भी करें, यह याद रखें कि आपको अपनी लाइफ को बेहतरीन बनाना है.

रीचार्ज करें पर्सनल लाइफ

हमारी डिजिटल लाइफ सोशल मीडिया तक ही सीमित नहीं है. हमारी पर्सनल और वर्क लाइफ में भी यह काफ़ी मायने रखती है.

–     इस धरती पर ऐसा कोई व्यक्ति नहीं है, जिसे यह पता हो कि वो ईश्‍वर से कितने सालों का रीचार्ज करवा के आया है, पर इतना यक़ीन है कि यह अनलिमिटेड नहीं है. तो हर पल ख़ुश रहें और अपनों को भी ख़ुश रखें, क्योंकि ख़ुशियां ही आपकी ज़िंदगी को रीचार्ज करती हैं.

–    हेल्थ और फिटनेस सबसे ज़रूरी है, इसलिए एक अच्छा-सा फिटनेस ऐप डाउनलोड करें. योग व एक्सरसाइज़ न स़िर्फ आपकी सेहत को रीचार्ज करेंगे, बल्कि आपकी डिजिटल लाइफ भी अपडेट हो जाएगी.

–     लाइफ को रीचार्ज करने का बेस्ट तरीक़ा है, ऐसे लोगों के साथ रहें, जो आपसे प्यार करते हैं और इसके लिए व्हाट्सऐप से बेहतर क्या हो सकता है.

–    व्हाट्सऐप की मदद से आप अपनों से 24 घंटे जुड़े रहते हैं. दिल में जो आया शेयर कर दिया, आपके अपनों के लिए इससे अच्छा क्या होगा कि आप उनसे 24ु7 जुड़े रहेंगे.

–    हर रोज़ कुछ नया सीखने की कोशिश करें. आप चाहें, तो कुछ ऐप्स डाउनलोड करें और उनके नोटिफिकेशन आपको हर रोज़ कुछ न कुछ नया सिखाएंगे. यूट्यूब और पिनट्रेस्ट पर भी आपको बहुत कुछ रोज़ाना सीखने को मिलेगा.

–     गेम्स आपकी क्रिएटिविटी और फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ाते हैं. इसलिए नए साल में कुछ ऐसे डिजिटल और आउटडोर गेम्स को अपनी लाइफ में शामिल करें, जो डीस्ट्रेस करने के साथ-साथ आपके माइंड को शार्प भी बनाएंगे.

–     डायटिंग कर रहे हैं, तो ऐसा ऐप डाउनलोड करें, जो आपको बता सके कि आपने कितनी कैलोरीज़ खाई. इससे आप सचेत हो जाएंगे.

–    पढ़ने के शौक़ीन हैं, तो बुक्स के बहुत से ऐप्स ऑनलाइन मौजूद हैं. बस, उन्हें डाउनलोड करें और अपनी मनपसंद कहानियों व उपन्यास में खो जाएं.

–     कोई बिरला ही होगा, जिसे म्यूज़िक का शौक़ न हो. नए साल में अपने मनपसंद गानों का मज़ा लेना चाहते हैं, तो कोई म्यूज़िक ऐप डाउनलोड करें.

अपग्रेड करें वर्क लाइफ

–     बिज़नेस प्लान बनाना हो या लेटेस्ट प्रोजेक्ट को बेहतर बनाने के लिए भी आइडियाज़ की ज़रूरत हो, डिजिटल वर्ल्ड में ये चीज़ें चुटकी बजाते हो जाती हैं.

–     ऑफिस के काम को मैनेज करने के लिए आपका स्मार्टफोन आपकी काफ़ी मदद कर सकता है. दरअसल, आप अपनी फील्ड से संबंधित ज़रूरी ऐप्स डाउनलोड करके भी अपनी वर्क लाइफ को अपग्रेड कर सकते हैं.

– संतारा सिंह

यह भी पढ़ें: सेहत को नुक़सान पहुंचाते हैं ये गैजेट्स (These Gadgets Can Be Harmful To Your Health)

यह भी पढ़ें: प्रियंका चोपड़ा का फेमिनिस्ट डेटिंग ऐप-बम्बल: क्या है ख़ास? (Smart Features Of Priyanka Chopra’s Dating App Bumble)

सोशल मीडिया पर बचें इन 15 ग़लतियों से (Avoid These 15 Social Media Mistakes)

Social Media Mistakes

पल-पल की ख़बर देनेवाला सोशल मीडिया (Social Media) आज युवाओं के जीवन का अभिन्न अंग बन चुका है. इसके प्रभाव से कोई भी अछूता नहीं है. सोशल मीडिया जहां एक ओर हमें जोड़ने का काम करता है, वहीं कुछ धोखेबाज़ व आपराधिक क़िस्म के लोग इसका दुरुपयोग अपने फ़ायदे के लिए भी करते हैं, इसलिए सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते समय ऐसी ग़लतियां न करें, जिनका ख़ामियाज़ा आपको भविष्य में भुगतना पड़े.

web-1234

  1. सोशल मीडिया पर एकसाथ ढेरों फोटोज़ शेयर न करें. अक्सर लोग इस तरह की ग़लतियां करते हैं. किसी के पास इतना समय नहीं होता है कि वह आपकी इतनी फोटोज़ के लिए ख़ास समय निकाले. आपके फ्रेंड्स व रिश्तेदार भी केवल चुनिंदा और अच्छी फोटोज़ देखना ही पसंद करते हैं.
  2. सोशल साइट पर अपने अंतरंग व भद्दे फोटोज़ शेयर न करें, जिससे आपके फ्रेंड्स व रिश्तेदार असहज महसूस करें.
  3. अक्सर लोग घूमने के लिए जाते समय सोशल मीडिया पर अपना स्टेटस डालते हैं, जो बहुत बड़ी ग़लती है. हो सकता है, कुछ आपराधिक क़िस्म के लोग आपके स्टेटस पर अपनी पैनी नज़र रखे हों. आपके स्टेटस को पढ़कर आपकी गैरहाज़री में वे आपके घर पर किसी वारदात को अंजाम दे सकते हैं.
  4. अक्सर लोग सोशल मीडिया (फेसबुक आदि) पर धर्म व भगवान के नाम की पोस्ट शेयर करते हैं. इस तरह की पोस्ट को लाइक करने की ग़लती न करें. जैसे ही आप उस पोेस्ट को लाइक करेंगे, पोस्ट करनेवाले को नोटिफिकेशन मिलेगा और वह आपके नाम पर ‘क्लिक’ करके आपका प्रोफाइल देख सकता है. फोटो सेक्शन में जाकर आपकी अच्छी फोटोज़ को ‘सेव’ करके अश्‍लील वेबसाइट पर अपलोड करके उनका दुरुपयोग कर सकता है.
  5. इसके अलावा आपकी फोटो के साथ अश्‍लील व गंदे टाइटल लगाकर भी वह अश्‍लील वेबसाइट पर अपलोड कर सकता है.
  6. कुछ धोखेबाज़ व घटिया मानसिकतावाले लोग फोटोशॉप में जाकर आपकी फोटो को आपत्तिजनक स्थिति में लगाकर भी दूसरी साइट्स पर अपलोड कर सकते हैं.
  7. सोशल मीडिया पर धर्म से जुड़ी बातें/शहीद सैनिक/कोई प्यारा-सा बच्चा, जो किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित बताया जाता है, इस तरह की पोस्ट को लाइक और शेयर करने की भूल न करें.
  8. इस तरह की पोस्ट आपकी भावनाओं का लाभ उठाने के लिए की जाती है. आप इमोशनल होकर या देशभक्ति की भावना दिखाने के उद्देश्य से इन पोस्ट को लाइक और शेयर करके भूल जाते हैं, लेकिन इस तरह की पोस्ट करनेवाले धोखेबाज़ लोगों व कंपनियों को आपका प्रोफाइल मिल जाता है और वे आपकी फोटोज़ को सेव करके उनका दुरुपयोग भी कर सकते हैं.
  9. कुछ फ़र्जी कंपनियां अपनी मार्केटिंग के लिए आपकी फोटोज़ का दुरुपयोग कर सकती हैं. इन कंपनियों का कंटेंट कुछ ख़ास नहीं होता, लेकिन विज्ञापन होने की वजह से ये कंपनियां भरपूर कमाई करती हैं. इसलिए अपनी सेटिंग में अपनी फोटोज़ को ‘पब्लिक’ करने की ग़लती न करें.
  10. इसी तरह से सोशल मीडिया पर सस्ते दर पर लोन लेने और घर ख़रीदनेवाली पोस्ट्स आती रहती हैं. इन पोस्ट्स को लाइक और शेयर करने से बचें.
  11. न ही अपने जानकारों व रिश्तेदारों के साथ इन पोस्ट्स को शेयर करें.
  12.  इस तरह की पोस्ट में आपकी पर्सनल डिटेल्स (नाम, पता, मोबाइल नंबर, बैंक
    अकाउंट नंबर, पिन नंबर आदि) मांगी जाती हैं और आपके द्वारा पर्सनल डिटेल्स शेयर करने पर सारी जानकारी उनके डाटा बेस में चली जाती है. फिर वे बार-बार एसएमएस भेजकर परेशान करते हैं.
  13. अकाउंट नंबर और पिन नंबर शेयर करने पर फ्रॉड लोग आपके अकांउट से रुपए भी निकाल सकते हैं.
  14. सोशल मीडिया पर अंजानी डेटिंग साइट्स की भरमार रहती है. इन साइट्स पर ग़लती से भी क्लिक न करें. ये फेक डेटिंग साइट्स लड़कियों व महिलाओं की फोटो को सेव करके उनका मिसयूज़ करती हैं.
  15. सोशल साइट्स पर कोई विवादास्पद फोटो शेयर न करें, जिससे किसी की भावनाएं आहत हों.
[amazon_link asins=’B01FM7GGFI,B072LNVPMN,B01LZKSUXF,B0756VP793′ template=’ProductCarousel’ store=’pbc02-21′ marketplace=’IN’ link_id=’a8eddee0-baf3-11e7-b096-efe86ad8d658′]
यह भी पढ़ें: महिलाओं के लिए ख़ास सेफ्टी ऐप्स
web-1236
सोशल मीडिया अलर्ट
  • ध्यान रखें, अपनी फोटो को केवल अपने फैमिली व फ्रेंड्स के साथ ही शेयर करें.
  • इसी तरह से आपकी पुरानी फोटोज़ का दुरुपयोग न हो सके, उनकी शेयरिंग को भी ‘फ्रेंड्स’ कर दें.
  • फैमिली व पर्सनल फोटोज़ को स़िर्फ ‘कस्टमाइज़्ड’ ग्रुप में ही शेयर करें.
  • हमेशा अपनी फोटोज़ और जानकारियां पोस्ट करते समय ‘फ्रेंड्स’ सिलेक्ट करें ‘पब्लिक’ नहीं.
  • अनजान फोटोज़ या पोस्ट पर लाइक, शेयर या कमेंट न करें.
  • इस तरह की पोस्ट को नज़रअंदाज़ करें.
  • अपने दोस्तों व रिश्तेदारों को भी इस तरह की पोस्ट पर लाइक, शेयर या कमेंट करने के लिए मना करें.
  • उन्हें भी इस तरह की पोस्ट या मैसेज को आगे फॉरवर्ड करने से रोकें.
  • सोशल साइट्स पर अपनी पर्सनल डिटेल्स किसी के साथ शेयर न करें.
  • ऑनलाइन शॉपिंग करते समय पर्सनल डिटेल्स सोच-समझकर शेयर करें.
  • शेयर करने से पहले कंपनी की विश्‍वसनीयता ज़रूर जांच लें.
  • ऐसे पोस्ट व मैसेज आगे शेयर न करें, जिसमें ज़रूरत से ज़्यादा कम क़ीमत पर सामान बेचने का दावा किया जा रहा हो.
  • अगर किसी अंजान नंबर से कोई मैसेज आया हो, तो उसे तुरंत ब्लॉक कर दें.
– पूनम नागेंद्र शर्मा

यह भी पढ़ें: सुस्त कंप्यूटर को तेज़ बनाने के आसान टिप्स

युवराज ने सोशल मीडिया पर अपलोड की मेहंदी की तस्वीरें, फैंस ने कहा Congratulations! (Yuvraj Singh-Hazel’s pre-wedding bash!)

युवी (yuvraj singh) पर शादी का ख़ुमार चढ़ने लगा है और उन्होंने अपनी ख़ुशी का इज़हार अपने फैंस के साथ इंस्टाग्राम, फेसबुक व ट्विटर पर मेहंदी की तस्वीरें अपलोड करके किया.

Starting a new innings today ! Thank you for your love please bless the couple @hazelkeechofficial ❤️?

A photo posted by Yuvraj Singh (@yuvisofficial) on

15178136_10154728486639254_3004831723006570096_n

सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर कैसे करें प्राइवेसी मेंटेन? (maintain your privacy at social networking sites )

दिनोंदिन सोशल मीडिया का क्रेज़ युवाओं में तेज़ी से ब़ढ़ता जा रहा है. अपनी हर छोटी से छोटी पर्सनल बातों और गतिविधियों से फैमिली व फ्रेंड्स को रू-ब-रू करना उनकी आदत बनती जा रही है. मिनट-मिनट की अपडेट्स देकर वे अपनी फैमिली व फ्रेंड्स के साथ संवाद तो क़ायम रख सकते हैं, लेकिन यह भूल जाते हैं कि कोई अजनबी शख़्स उनकी प्रोफेशनल और पर्सनल प्राइवेसी में सेंध लगा रहा है, जिससे वे अंजान हैं. सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर आपकी प्राइवेसी में किसी का कोई दख़ल न हो, इसलिए ज़रूरी है कि ऑनलाइन प्राइवेसी का ध्यान रखा जाए. कैसे, आइए जानें? social networking sites

social

फेसबुक

गोपनीयता की जांच करने के लिए अपने पीसी वेब ब्राउज़र में फेसबुक पेज खोलें. फेसबुक मेनू बार (फेसबुक पर दिखनेवाली ब्लू पट्टी) के राइट कॉर्नर में दिए लॉक सिंबल (प्राइवेसी शॉर्टकट) पर जाएं. क्लिक करने पर Privacy Check-up आएगा, जिसके 3 स्टेप्स हैं:

 पहला स्टेप

आपकी पोस्ट कौन-कौन देख सकते हैं: यहां पर क्लिक करने पर यदि “Public’ आता है, तो इसका अर्थ है कि इंटरनेट पर मौजूद हर व्यक्ति आपकी पोस्ट देख सकता है. इसलिए वहां पर “Friends’ ऑप्शन सिलेक्ट करें. इससे आपके फ्रेंड्स ही देख सकते हैं.

दूसरा स्टेप

चेक करें कि कौन से ऐप्स आपकी टाइमलाइन पर इंफॉर्मेशन पोस्ट कर सकते हैं: यहां पर दिए गए ऑप्शन्स में से “Only Me’ सेट करें.

तीसरा स्टेप

अपने प्रोफाइल (ईमेल एड्रेस, बर्थडे और रिलेशनशिप स्टेटस) को दोबारा चेक करें: जिसमें फे्रंड्स को आपकी विज़ीबिलिटी दिखाई दे, अपनी कौन-सी पोस्ट गोपनीय रखना चाहते हैं- इनका सिलेक्शन करें.

कौन-से फे्रंडस आपसे कॉन्टैक्ट करना चाहते हैं, पहले उसे कंट्रोल करें.

– क्लिक करें Privacy Shortcut >Who Can Contact Me?

– वहां पर दिए गए ऑप्शन पर क्लिक करें कि आपको कौन-कौन लोग फ्रेंड्स रिक्वेस्ट भेज सकते हैं. इसके लिए Privacy Shortcut >Who Can Contact Me? को सिलेक्ट करें.

जो ऐप्स आपके बारे में जानकारी देते हैं, उन्हें चेक करें
– पीसी वेब ब्राउज़र में www.facebook.com/setting/?tab=application पर जाएं.

– Logged in with Facebook पर क्लिक करें.

– किसी ऐप पर क्लिक करके चेक करें कि आपने कौन-सी इंफॉर्मेशन (अपनी प्रोफाइल डिटेल्स, फें्रड लिस्ट आदि) शेयर की है, इस ऐप के ज़रिए आप यह जान सकते हैं कि किसने आपकी पोस्ट देखी है और किसने आपको नोटिफिकेशन भेजा है.

कैसे चेक करें कि लोग आपके बारे में क्या कहते हैं?

– फेसबुक मेनू बार के राइट कॉर्नर के आख़िर में प्राइवेसी शॉर्टकट के बाद आपको Triangular drop-down list (ट्रायएंगुलर ड्राप-डाउन लिस्ट) दिखाई देगी. इस पर क्लिक करने पर कई ऑप्शन्स मिलेंगे. उनमें से “Activity Log’ को क्लिक करें.

– फिर लेफ्ट साइडबार में जाकर “Timeline Review’ पर क्लिक करें. फिर अप्रूव/रिजेक्ट या ऐड/इग्नोर का ऑप्शन आएगा.

– फिर Tag Review को क्लिक करके अपने टैग्स को मैनेज करें.

– अंत में, “Post you are Tagged in’ में क्लिक करें. इसमें क्लिक करने पर आप सभी पोस्ट को देख सकते हैं, जिन्हें आपने टैग-अनटैग किया है.

गूगल: गोपनीयता की जांच करने के लिए

– myaccount.google.com/privacycheckup पर जाएं.

– आप Google+ पर कौन-सी इंफॉर्मेशन दूसरों के साथ शेयर करना चाहते हैं. फिर “Dont feature my publicly shared Google+Photos as background
images को सिलेक्ट करें.

– उसके बाद “Edit Your Shared Endorsement Setting’ पर क्लिक करें. वहां पर दिए गए ऑप्शन को अनचेक करें.

– फिर उन लोगों को allow/disallow करें, जो Google पर आपकी पर्सनल
इंफॉर्मेशन को देख रहे थे और आपका फोन नंबर सर्च कर रहे थे.

– इसी तरह से यूट्यूब पर भी आप अपनी गोपनीयता बनाए रख सकते हैं. उसके लिए Manage your Google Photos Settings पर क्लिक करके उसे डिसेबल करें.

ऐप्स और साइट्स की प्राइवेसी को कैसे कंट्रोल करें?

– myaccount.google.com/security#connectedapps पर जाएं.

– “Manage app’ को क्लिक करें. इससे मालूम चलेगा कि कौन-से ऐप्स आपके गूगल अकाउंट से कनेक्टेड हैं.

– जिन ऐप्स को आप ज़्यादा यूज़ नहीं करते, उन्हें डिलीट करने के लिए रिमूव पर क्लिक करें.

– अंत में Allow Less Secure Apps सेट करके उसे “OFF’ करें.

ट्विटर: गोपनीयता की जांच करने के लिए

– twitter.com/setting/security पर जाएं और Privacy सेक्शन पर स्क्रोल करें.

– Photo Tagging पर क्लिक करें कि कौन-कौन आपकी फोटो को टैग कर सकते हैं?

– फिर Tweet Privacy को लॉक करें. इससे आपकी पोस्ट को केवल आपके द्वारा अप्रूव्ड फॉलोवर्स ही देख पाएंगे.

– Tweet Location को डिसेबल करें. चाहें, तो आप अपने पिछले ट्वीट के लोकेशन संबंधी डाटा को भी डिलीट कर सकते हैं.

– यह जानने के लिए कि ट्विटर पर कौन आपको, आपका फोन नंबर और ईमेल एड्रेस सर्च कर रहा है, इसके लिए Discoverability को सेट करें.

– Personalization को डिसेबल करें. ऐसा करने पर कोई भी आपकी ब्राउज़िंग हिस्ट्री को नहीं देख पाएगा.

– Promote Content को भी डिसेबल करें, जिसमें आपके पर्सनल इंफॉर्मेशन और इंट्रेस्ट बेस्ड विज्ञापन दिखाई देते हैं.

– फिर Direct Message में जाकर “receive direct messages from
anyone’ ऑप्शन को डिसेबल करें.

ऐप्स को एक्सेस करें

– twitter.com/setting/application पर जाएं.

– अपने ट्विटर अकाउंट पर जाकर “Revoke access’ पर क्लिक करके अनट्रस्टेड ऐप्स एंड सर्विस को स्टॉप करें, जिन्हें आपने कभी-कभी एक्सेस किया हो.

इंस्टाग्राम पर गोपनीयता की जांच

कंट्रोल करें कि कौन आपकी पोस्ट देख रहा है?

अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर “Private>’ सेट करने के लिए: अपने इंस्टाग्राम मोबाइल ऐप को ओपन करें. Profile टाइप करने पर तीन वर्टिकल
डॉट्स दिखाई देंगे फिर Options में जाकर Private Account सेट करें. अब
फॉलोवर्स को आपकी इंस्टाग्राम फीड देखने के लिए आपके अप्रूवल की
ज़रूरत होगी.

टैग्ड को कैसे कंट्रोल करें?

– अपनी फोटो को अनटैग करने के लिए: इंस्टाग्राम ऐप में फोटो पर क्लिक करें. फिर Options>Photo Options>Remove Tag करें.

– अपनी सभी फोटोज़ को टैग करने के लिए Profile>Photo of you>Options करें.

यहां पर आप मैन्युअली भी अपनी इच्छानुसार किसी भी फोटो को टैग कर सकते हैं. इसके लिए Tagging Options>Add Manually करना होगा. इसके अलावा, आप उन सभी फोटोज़ को रिमूव कर सकते हैं, जो आपने कुछ समय पहले/हाल ही में टैग की हैं. इसके लिए आपको Profile>Photo of you>Options>Hide Photo करना होगा.

– पूनम नागेंद्र शर्मा

जब ऑनलाइन करें जॉब की तलाश

shutterstock_112829596l

 

एक ज़माना था, जब वेकेंसी का पता ही नहीं चलता था. जॉब पाने के लिए या तो उस क्षेत्र के लोगों से जान-पहचान ज़रूरी होती थी या फिर अख़बारों में जॉब कॉलम देखना पड़ता था, लेकिन अब ऐसा नहीं है. आज टेक्नोलॉजी इतनी आगे बढ़ गई है कि बस, एक बटन दबाते ही आप अपना पसंदीदा जॉब पा सकते हैं. 

फाइनेंस क्षेत्र में काम कर रही चांदनी घोष के अनुसार, “मैंने कई जॉब इंटरव्यू दिए, पर कहीं बात बन नहीं पाई. कुछ समझ नहीं पा रही थी कि क्या करूं? तभी मुझे किसी ने बताया कि ऑनलाइन ढूंढ़ने से काफ़ी जॉब ऑफर्स का पता चलता है. बस, मैंने वैसा ही किया. आज एक अच्छी कंपनी में काम कर रही हूं और संतुष्ट हूं.”

यदि आप भी ऑनलाइन जॉब की तलाश करना चाहते हैं, पर इंटरनेट पर दी गई ढेर सारी जानकारियों से घबरा गए हैं या कंफ्यूज़ हो गए हैं और समझ नहीं पा रहे हैं कि शुरुआत कहां से करें, तो आइए ऑनलाइन जॉब कैसे ढूंढ़ें, हम आपको बताते हैं.

क्या है ऑनलाइन जॉब सर्च?

आजकल ऐसी अनेक वेबसाइट्स हैं, जो जॉब की जानकारी देती हैं. कुछ वेबसाइट इसकी जानकारी निःशुल्क देती हैं, तो कुछ मामूली-सा शुल्क लेती हैं. इन पर अप्लाई करके मनचाहा जॉब पाया जा सकता है. सबसे पहले इन वेबसाइट्स पर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होता है. इसके बाद जॉब की जानकारी मिलती है. इसके बाद बायोडाटा यानी रेज़्यूमे पोस्ट कर जॉब पाया जा सकता है.

क्या करें?

  • यदि आप अपने लोकल एरिया में जॉब पाना चाहते हैं, तो ऐसी बहुत-सी साइट्स हैं, जो लोकल जॉब बताती हैं. इसके लिए अपने शहर और राज्य का नाम टाइप करें और अपने एरिया के मनचाहे जॉब पर क्लिक करें.
  • यदि आप कंपनी की साइट्स जानते हैं, तो उसे टाइप कर आप जॉब संबंधी जानकारी ले सकते हैं.
  • यदि आप ख़ास तरह का जॉब पाना चाहते हैं, जैसे- लेखन, अकाउंटेंसी, टेलिफोन ऑपरेटर, डाटा एंट्री या कुछ अन्य, तो आप जॉब का नाम टाइप करके मिली हुई जानकारी से जॉब चुन सकते हैं.

shutterstock_324617765

ऑनलाइन जॉब सर्च से जुड़ी सावधानियां

ईमेल से सावधान

  • जॉब के लिए बायोडाटा पोस्ट करने के बाद, एक बात का ध्यान रखें कि सही और ग़लत दोनों तरह के लोग हमेशा एक ही पैटर्न फॉलो करते हैं. यदि जॉब की इच्छा रखनेवालों को एक जैसे ईमेल भेजते हैं, उसमें सही-ग़लत की पहचान करना आपका काम है.
  • यदि आपको ऐसा ईमेल आया है, जिसमें लिखा है, “हमने इंटरनेट पर आपका रेज़्यूमे देखा. आपका कौशल हमारे लिए एकदम परफेक्ट है. आप हमारा ऑनलाइन आवेदन पत्र भरें. इसके लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.” तो सावधान हो जाएं. क्लिक करने की जल्दी न करें. पहले सोचें, क्या आपने इनको अपना बायोडाटा भेजा था? उनका वेबसाइट टाइप कर कंपनी की वेबसाइट पर जाएं. देखें, क्या ये प्रतिष्ठित कंपनी है? क्या इन्होंने सचमुच आवेदन मंगवाए हैं? ज़रूरत पड़े, तो दिए गए फोन नंबर पर बात करें.

पर्सनल जानकारी न दें

आपको भले ही कंपनी सुरक्षित और जानी-पहचानी लग रही हो, लेकिन जल्दबाज़ी न करें. यदि ईमेल में आपसे व्यक्तिगत, जैसे- आपके कॉन्टैक्ट डिटेल्स, अकाउंट नंबर, क्रेडिट-डेबिट कार्ड संबंधी जानकारी मांगी जाए, तो न दें. ध्यान रखें, प्रतिष्ठित कंपनियां इस तरह की जानकारियां नहीं मांगतीं, कंपनी सही है या नहीं, जानने के लिए उनके दिए गए पते पर उनसे मिलें.

ध्यान रहे, वेब पेज सिक्योर हो

वेब पेज सिक्युरिटी की पहचान करना एकदम आसान है. यदि वेब पेज सिक्योर नहीं होगा, तो साइट पर http की बजाय https होगा. इस तरह ध्यान रखने से आपकी व्यक्तिगत जानकारी ग़लत हाथों में नहीं जाएगी.

साइट की प्राइवेसी पॉलिसी पढ़ें और समझें

जानी-मानी प्रतिष्ठित कंपनियां अपने सदस्यों के लिए स्ट्रीक प्राइवेसी पॉलिसी रखती हैं. इसमें नाम, ईमेल एड्रेस या ज़्यादा से ज़्यादा फोन नंबर और पता पूछा जाता है. कई साइट्स एक सोशल सिक्योरिटी भी देती हैं, जो हर बार लॉग इन करने पर देना होता है. ऐसी साइट्स भरोसेमंद होती हैं.

रिपोर्ट करें

यदि किसी कारणवश आप साइट के झांसे में आ जाते हैं और अपना नुक़सान कर बैठते हैं, तो चुप न रहें. ङ्गद इंटरनेट फ्रॉड कंपलेंट सेंटरफ पर ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराएं. ज़्यादा नुक़सान हुआ है, तो पुलिस के ङ्गसाइबर सेलफ में भी शिकायत दर्ज की जा सकती है.

shutterstock_287822696

कैसे लिखें रेज़्यूमे?

  • ध्यान रहे, रेज़्यूमे/बायोडाटा बहुत ही प्रभावशाली ढंग से लिखा जाना चाहिए. कंपनी के पास ढेर सारे आवेदन आते हैं. जिनमें से केवल कुछ ही अंत में रिक्रूटमेंट बेंच के पास पहुंचते हैं.
  • रेज़्यूमे में अपनी सभी क्षमताएं अच्छी तरह से हाइलाइट करें. साथ ही यदि कोई अनुभव हो, तो उसे पहले पेज पर लिखें.
  • अपनी शैक्षणिक योग्यताओं के साथ, एक्स्ट्रा करिकुलर एक्टिविटीज़ के बारे में लिखें.
  • अपने कामों को सीनियर से जूनियर के क्रम में लिखें अर्थात् आपकी वर्तमान जॉब पहले और उसके बाद अन्य की गई जॉब्स, उसके बाद पढ़ाई की डिग्रियां और काम के दौरान यदि कोई उपलब्धियां मिली हों, तो
    ज़रूर लिखें.
  • अपनी व्यक्तिगत ख़ूबियों, जैसे- परिश्रमी, टीमवर्क में माहिर अथवा अन्य ख़ूबियों को हाइलाइट करना न भूलें.
  • यदि आपको रेज़्यूमे बनाने में कठिनाई हो रही हो, तो इंटरनेट पर कई ऐसी साइट्स हैं, जो रेज़्यूमे बनाने में आपकी सहायता करती हैं. चाहें तो प्रोफेशनल एक्सपर्ट से भी रेज़्यूमे बनवाया जा सकता है.

सोशल नेटवर्किंग साइट्स के फ़ायदे

ट्विटरः इंजीनियर की छात्रा रश्मि शर्मा कहती हैं, “पढ़ाई के तुरंत बाद जॉब करने का मन नहीं था, आराम करना चाहती थी. ऐसे ही ट्विटर पर डाल दिया- “सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट में जॉब करने की इच्छा है” बस लोगों के मैसेजेस आने शुरू हो गए. एक जॉब अच्छा लगा. बस, जॉइन कर लिया.”

फेसबुकः बी.कॉम के छात्र साकेत कहते हैं, “हम सब दोस्त बोर होने की बजाय समर वेकेशन में किसी फूड चेन में 2 महीने जॉब करते थे. मैंने इस बार कुछ अलग करने की सोची. अपनी शैक्षणिक योग्यता फेसबुक पर डालकर किसी भी क्षेत्र में काम करने की इच्छा दर्शाई. बस, फिर क्या था एचआर, रिटेल इंडस्ट्री से लेकर, होम सोल्यूशन्स, काउंसलिंग, हेल्थ केयर इंडस्ट्री के अलावा अनेक कंपनियों ने सर्वे के लिए मुझे ऑफर दिया. मुझे इतने रिस्पॉन्स की आशा नहीं थी. मैंने और मेरे दोस्तों ने कोई न कोई जॉब ले लिया. वेकेशन में हमारी पॉकेटमनी निकली ही, अनुभव प्रमाणपत्र भी मिला. अब हर साल हमने यही तरीक़ा अपनाने का सोचा है.”

यूट्यूबः यूट्यूब पर आप अपना वीडियो रेज़्यूमे बना सकते हैं. किसी प्रोफेशनल से बनवाएं, तो बेहतर होगा. मल्टीनेशनल कंपनियां इस तरह की अप्रोच पसंद करती हैं. ऑनलाइन जॉब ढूंढ़ें, मगर पूरी तरह तसल्ली होने के बाद ही बायोडाटा/रेज़्यूमे भेजें. इससे आप ग़लत झांसे में भी नहीं फंसेंगे और अपनी मनपसंद जॉब पाकर संतुष्ट भी रहेंगे.

– डॉ. सुषमा श्रीराव