Fengshui

Wind Chime

दीपावली में विंड चाइम से लाएं घर में सौभाग्य (Wind Chime For Diwali Decoration)

दीपावली (Diwali) में घर की सजावट का सामान ख़रीदते समय अपनी शॉपिंग लिस्ट में विंड चाइम (Wind Chime) को ज़रूर शामिल करें. विंड चाइम से घर की ख़ूबसूरती निखरती है और घर में सौभाग्य भी आता है. हां, विंड चाइम ख़रीदते समय कुछ बातों का ध्यान दीपावली में घर की सजावट का सामान ख़रीदते समय अपनी शॉपिंग लिस्ट में विंड चाइम को ज़रूर शामिल करें. विंड चाइम से घर की ख़ूबसूरती निखरती है और घर में सौभाग्य भी आता है. हां, विंड चाइम ख़रीदते समय कुछ बातों का ध्यान ज़रूर रखें.

* मार्केट में कई तरह की भारी, हल्की, बड़ी, छोटी और रंगीन विंड चाइम्स (पवन घंटियां) उपलब्ध हैं, लेकिन आप जब विंड चाइम चुनें, तो खोखली व पतली नलीवाली विंड चाइम ही चुनें. ये हवा में आसानी से लहराकर मधुर आवाज़ करती हैं. यदि आप घर में 6 या 7 रॉडवाली विंड चाइम लगाएंगे, तो इससे घर में संपन्नता आती है.

* धातु से बनी विंड चाइम हमेशा पश्‍चिम या उत्तर-पश्‍चिम दिशा में लगाएं. ये दिशाएं धातुओं की होती हैं, इसलिए इन दिशाओं में विंड चाइम लगाने से भाग्योदय होता है और घर में सकारात्मक ऊर्जा बनी रहती है.

* आप चाहें तो लकड़ी की बनी विंड चाइम भी ख़रीद सकते हैं. लकड़ी, ख़ासतौर से बांस से बनी विंड चाइम्स ईको फ्रेंडली होने के साथ-साथ घर-गृहस्थी के मामले में शुभ मानी जाती हैं. इसे दक्षिण-पूर्व दिशा में लगाना शुभ होता है. लकड़ी या बांस की बनी विंड चाइम में भी रॉड की संख्या बहुत मायने रखती है. इसमें रॉड की संख्या तीन या चार हो तो विंड चाइम शुभ फल प्रदान करती है. इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा बनी रहती है और हर कार्य निर्बाध रूप से पूरा होता है.

* कांच की बनी विंड चाइम भी घर की शोभा बढ़ा सकती है, लेकिन यह अगर भारी हुई तो मधुर आवाज़ पैदा नहीं करेगी.

* घर में पांच नलियों या पांच घंटियोंवाली विंड चाइम लगाना हर तरह से शुभ माना जाता है. इससे नकारात्मकता समाप्त होती है और शुभ फल की प्राप्ति होती है. इसके अलावा अलग-अलग उद्देश्यों के लिए 4, 7, 9, 11 नलियोंवाली विंड चाइम्स भी घर के लिए शुभ मानी जाती हैं.

यह भी पढ़ें: इस दीवाली पर अपने घर को सजाएं इन 5 रंगोली डिज़ाइन्स से (5 Creative Rangoli Designs To Try This Diwali)

* अगर आप अपना सोया हुआ भाग्य जगाना चाहते हैं, तो 6 या 8 रॉडवाली विंड चाइम घर में लगाएं. ये आपके भाग्योदय की बाधाओं को दूर करेगी और आपकी सोई हुई किस्मत को जगा देगी. फेंशगुई और वास्तु में इनका काफ़ी महत्व है.

* अगर आप 2 या 9 घंटियों या नलियों वाली विंड चाइम लगाना पसंद करते हैं, तो सिरामिक की बनी विंड चाइम लेकर आएं. ये विंड चाइम मान-प्रतिष्ठा और यश प्रदान करती है. इसे घर की दक्षिण-पश्‍चिम दिशा में लगाना शुभ होता है.

* आपसी रिश्तों की परेशानियों को हल करने के लिए भी विंड चाइम आपके लिए सहायक साबित हो सकती है.

* अपने बच्चों को सकारात्मक और क्रिएटिव बनाने के लिए उनके कमरे में भी विंड चाइम ज़रूर लगाएं. इसकी मधुर आवाज़ माहौल को ख़ुशनुमा बनाए रखती है.

* अगर आप अपना सामाजिक दायरा बढ़ाना चाहते हैं, तो सिल्वर कलर की विंड चाइम को घर की पश्‍चिम दिशा में लगाएं. इसमें अगर 7 रॉड लगे हों, तो यह काफ़ी लाभ प्रदान करेगी.

* नाम और पैसे की चाहत हो, तो घर की  उत्तर-पश्‍चिम दिशा में पीले रंग की 6 रॉड वाली विंड चाइम लगाएं.

* आप चाहें तो अलग-अलग कलरवाली रंग-बिरंगी विंड चाइम भी लगा सकते हैं. ये आपके घर का माहौल ख़ुशनुमा बनाए रखेगी और सकारात्मकता के साथ-साथ उत्साह का भी संचार करेगी.

यह भी पढ़ें: हैप्पी मैरिड लाइफ के लिए बेडरूम में रखें ये 6 चीज़ें (6 Things To Keep In Your Bedroom For Marital Bliss)

Fengshui
सुख, सौभाग्य, समृद्धि के लिए हर चीज़ सही दिशा में होनी ज़रूरी है. फेंगशुई में दिशाओं को बहुत महत्व है. गुडलक के लिए किस दिशा में कौन-सी तस्वीर रखनी चाहिए? आइए, जानते हैं.

तस्वीरों की सही दिशा

दक्षिण-पश्‍चिम
घर के दक्षिण-पश्‍चिम कोने का संबंध पारिवारिक रिश्तों से होता है. इस दिशा में प्रसन्नचित्त मुद्रा में खींची संयुक्त परिवार की तस्वीर लगाने से रिश्तों की पकड़ मज़बूत होती है और आपसी प्रेम में प्रगाढ़ता आती है. इसके अलावा-
* इस दिशा में पारिवारिक फोटो लगाने से परिवार के सदस्यों में एकता की भावना उत्पन्न होती है.
* दक्षिण-पश्‍चिम दिशा में संयुक्त परिवार की फोटो लगाने से उनके बीच बंटवारे की नौबत नहीं आती है.
* इस दिशा में सास-बहू की संयुक्त तस्वीर लगाने से उनके बीच नोकझोंक कम होती है और रिश्ते मधुर बने रहते हैं.
* बेडरूम के दक्षिण-पश्‍चिम कोने में पति-पत्नी की संयुक्त फोटो लगाने से उनके बीच प्यार बढ़ता है.

Fengshui

दक्षिण-पूर्व
घर के दक्षिण-पूर्व कोने का तत्व काष्ठ है और इस दिशा का संबंध धन-संपत्ति से होता है. इस दिशा में हरियाली या जंगल के चित्र लगाने से धन-संपत्ति में वृद्धि होती है, लेकिन घर का दक्षिण-पश्‍चिम कोना अगर बेडरूम में है, तो वहां पानी की तस्वीर न लगाएं, यह अशुभ होता है.

उत्तर-पश्‍चिम
घर की उत्तर-पश्‍चिम दिशा का संबंध सहायक व्यक्ति, मालिक, बॉस या आप पर उपकार करनेवाले व्यक्ति से होता है. इस दिशा में बॉस का फोटो लगाने से बॉस और एम्प्लॉई के बीच अच्छे संबंध स्थापित होते हैं और बॉस की सहानुभूति प्राप्त होती है.

पश्‍चिम दिशा
घर की पश्‍चिम दिशा का संबंध संतान और सृजनशीलता से होता है. इस दिशा में बच्चों की तस्वीर लगाने से बच्चे पढ़ाई में तेज़ होते हैं और उनका भविष्य भी उज्ज्वल होता है.

दक्षिण दिशा
दक्षिण दिशा का तत्व अग्नि है और इस दिशा का संबंध व्यक्ति के नाम और शोहरत से होता है. घर या ऑफिस की दक्षिण दिशा में मालिक का फोटो लगाने से प्रसिद्धि मिलती है, परंतु ध्यान रहे कि फोटो फ्रेम लाल रंग का तथा सुनहरे बॉर्डर वाला हो. निजी ऑफिस में अपनी तस्वीर लाल रंग के फ्रेम में मढ़वाकर दक्षिण दिशा में टांगें, इससे आपकी मान-प्रतिष्ठा और साख बढ़ेगी.

डेंज़र ज़ोन
* घर की दक्षिण दिशा में नीले रंग, पानी या बर्फ वाले प्राकृतिक दृश्य न लगाएं, क्योंकि इस दिशा का तत्व अग्नि है और जल अग्नि को नष्ट करता है, जिससे प्रसिद्धि नहीं मिलती है.
* ख़ुद को असहाय और अकेला महसूस करनेवाले व्यक्ति अपनी कुर्सी के पीछे पर्वत या पहाड़ का चित्र लगाएं, इससे उन्हें सहारा मिलता है.
* युद्ध और हिंसावाले चित्र या जंगली जानवर की पेंटिंग घर में न लगाएं, इससे आपसी रिश्तों में कटुता पैदा होती है. ऐसे चित्र घर में लगाने से सास-बहू और पति-पत्नी के बीच झगड़े होते हैं.
* घर में रोती हुई या किसी का इंतज़ार करती हुई युवती की तस्वीर न लगाएं, यह अशुभ होता है.

Fengshui
फेंगशुई के अनुसार किस दिशा में कौन-से रंग का परदा लगाना शुभ है?

* पश्‍चिम दिशा- स़फेद रंग के परदे
* उत्तर दिशा- हल्के नीले रंग के परदे
* दक्षिण दिशा- लाल रंग के परदे
* पूर्व दिशा- हरे रंग के परदे

कैसे जुड़ा है दिशाओं से आपका भाग्य?
घर की प्रत्येक दिशा आपके करियर, सौभाग्य, रोमांस इत्यादि से संबंध रखती है. आइए, जानते हैं घर की कौन-सी दिशा आपसे किस प्रकार जुड़ी हुई है?

दक्षिण-पश्‍चिम
इस दिशा का संबंध व्यक्ति के वैवाहिक जीवन से होता है.

उत्तर
करियर की दृष्टि से यह दिशा अति उत्तम है.

दक्षिण-पूर्व
यह दिशा धन-दौलत और संपत्ति से संबंध रखती है.

उत्तर-पूर्व
इस दिशा का संबंध शिक्षा से होता है.

पश्‍चिम
पश्‍चिम दिशा का संबंध संतान प्राप्ति से होता है.

FotorCreated

सुखी दाम्पत्य जीवन के लिए रिश्ते की नींव का मज़बूत होना ज़रूरी है. इससे आपसी प्रेम के साथ-साथ पति-पत्नी के बीच विश्‍वास भी गहरा होता है. आप अपने दाम्पत्य जीवन की नींव को कैसे मज़बूत बना सकते हैं? आइए, जानते हैं.

 

जीवनसाथी के साथ तस्वीर

मकान की दक्षिण-पश्‍चिम दीवार पर जीवनसाथी के साथ अपनी मुस्कुराती हुई तस्वीर लगाएं. इससे पति-पत्नी के बीच प्रेम संबंध और भी गहरा होता है और रिश्ते को मज़बूती मिलती है.

स्मार्ट टिप
मगर इस बात का ध्यान रखें कि तस्वीर में आप दोनों एकसाथ हों, दोनों की अलग-अलग तस्वीर लगाने की भूल न करें.

प्रेमी परिंदों की पेंटिंग

अगर आप अपनी तस्वीर लगाना नहीं चाहते हैं, तो मकान की दक्षिण-पश्‍चिम दीवार पर दो प्रेमी परिंदों की पेंटिंग भी लगा सकती हैं. इससे पति-पत्नी के बीच म्युचुअल अंडरस्टैंडिंग बढ़ती है. ऐसी पेंटिंग न्यूली मैरिड कपल के लिए ज़्यादा असरदार और लाभदायक होती है. आप चाहें तो न्यूली मैरिड कपल को ये तस्वीर गिफ्ट भी कर सकते हैं.

स्मार्ट टिप
इस बात का विशेष ध्यान रखें कि प्रेमी परिंदे पिंजड़े में कैद न हों. दोनों खुले आसामां में या किसी डाली पर एकसाथ हों.

डांसिंग डॉलफिन की तस्वीर

दाम्पत्य जीवन की ख़ुशहाली के लिए डॉलफिन फिश भी शुभ मानी जाती है, ख़ासकर डांसिंग डॉलफिन यानी नाचती हुई डॉलफिन फिश की तस्वीर. प्रेमी परिदों की तरह डॉलफिन फिश की तस्वीर भी जोड़ी में लगाएं, परंतु इसे दक्षिण-पश्‍चिम दिशा में नहीं, बल्कि दक्षिण-पूर्व दिशा में लगाएं.
स्मार्ट टिप
स़िर्फ एक या दो अलग-अलग डॉलफिन की तस्वीर को एकसाथ न लगाएं और ये भी ध्यान रहे कि डॉलफिन डांस करती हों.

4476080-red-rose-wallpapers

फ्रेश रेड फ्लावर्स

न स़िर्फ लाल रंग, बल्कि फूल भी प्रेम का प्रतीक माने जाते हैं. इसलिए इनकी मौजूदगी से पति-पत्नी के रिश्ते और भी मज़बूत होते हैं. आपसी प्रेम बढ़ाने के लिए ताज़े लाल रंग के
फूल मकान के दक्षिण-पूर्व दिशा में रखें. ऐसा करने से प्रेम के साथ-साथ रिश्तों में गरमाहट भी बनी रहेगी.

स्मार्ट टिप
कांटे वाले फूल न रखें और जब फूल मुरझा जाएं, तो उन्हें हटा दें. मुरझाए हुए फूल नकारात्मक ऊर्जा के संचार में सहायक होते हैं.

ब्राइट लाइट बल्ब

ख़ुशहाल शादीशुदा ज़िंदगी के लिए यदि आपके घर के सामने गार्डन है, तो गार्डन के दक्षिण-पश्‍चिम दिशा में खंभे पर ब्राइट शेड के छोटे-छोटे लाइट्स लगाएं. शीघ्र परिणाम के लिए यलो शेड का लाइट भी चुन सकती हैं.

स्मार्ट टिप
डल शेड्स के लाइट्स चुनाव न करें और जब भी लाइट में ख़राबी हो, तो उसे तुरंत ठीक करवाएं.

Duck-1

मैडरिन बत्तख की प्रतिमा

मैडरिन बत्तख भी प्रेम का प्रतीक माने जाते हैं. अपने रिश्ते को और भी मज़बूत बनाने के लिए बेडरूम की दक्षिण-पश्मिच दिशा में मैडरिन बत्तख की प्रतिमा रखें. इससे शादी के शुरुआती दिनों वाले प्रेम के लम्हें वापस लौट आएंगे.

स्मार्ट टिप
मैडरिन बत्तख भी जोड़ी में होने चाहिए. इसका ख़ास ख़्याल रखें.

स़फेद घोड़ों की पेंटिंग

तरक्क़ी का प्रतीक माने जाने वाला घोड़ा लव लाइफ के लिए भी लाभदायक होता है. मकान की उत्तर-पश्‍चिम दिशा में
स़फेद रंग के दो घोड़ों की तस्वीर लगाने से पति-पत्नी के रिश्ते को मज़बूती मिलती है और रिश्ते में गरमाहट भी बनी रहती है.

स्मार्ट टिप
घोड़ा स़फेद रंग का हो और तस्वीर में जोड़ी में हो, इस बात का ध्यान रखें.

 

 

कहानी- पासवाले घर की बहू ( Hindi Kahani – Paswale Ghar Ki Bahu )

FotorCreated

कुछआ और बांस का पौधा फेंगशुई का ऐसा लकी चार्म है, जिसे घर में रखकर आप अच्छी सेहत के साथ लंबी उम्र भी पा सकते हैं.

 

030
बांस का पौधा

फेंगशुई के अनुसार बांस का पौधा लंबी आयु और अच्छे स्वास्थ्य का प्रतीक माना जाता है. जिस तरह तेज़ आंधी-तूफान और बरसात में भी बांस अपनी जगह से टस से मस नहीं होता, उसी तरह इसे घर में रखने से यह स्थिर रहकर घर के सदस्यों की रक्षा करता है.

कैसे रखें इसे?
* बांस के एक जोड़ी तने को लाल धागे से बांधकर रखें.
* ध्यान रहे कि बांस के पौधे की लंबाई आठ इंच से अधिक न हो.

कहां रखें?
* इसे मुख्यद्वार के सामनेवाली दीवार पर टांग दें.
* अगर बांस का पौधा न मिले तो इसकी फोटो या पेंटिंग भी लगा सकते हैं. लेकिन इसे मुख्य द्वार के सामनेवाली दीवार पर ही लगाएं.
* आप चाहें तो ऑफिस में भी बांस का पौधा लगा सकते हैं, लेकिन इसकी दिशा में किसी तरह का कोई बदलाव न करें.

फेंगशुई अलर्ट
जब बांस का पौधा पीला पड़ जाए, तो इसे फेंककर नया पौधा लगाएं.

9062258-golden-tortoise

कछुआ

फेंगशुई के अनुसार कछुआ लंबी आयु काप्रतीक माना जाता है. इसकी प्रतिमा घर में रखने से आयु में वृद्धि होती है, साथ ही सुअवसर भी प्राप्त होते हैं.

कैसे करें चुनाव?
बाज़ार में कछुए की कई तरह की प्रतिमाएं मिलती हैं, परंतु धातु से बना कछुआ अधिक सौभाग्यशाली होता है. अतः धातु से बना कछुआ ही ख़रीदें.

कैसे और कहां रखें कछुआ?
* धातु से बने कछुए की प्रतिमा को पानी से भरे बाउल में डाल दें.
* इस बाउल को मकान की उत्तर दिशा में रखें. फेंगशुई के अनुसार कछुए की प्रतिमा रखने के लिए उत्तर दिशा शुभ मानी जाती है.

फेंगशुई अलर्ट
यदि मकान की उत्तर दिशा में आपका बेडरूम है, तो कछुए की प्रतिमा को पानी से भरे बाउल में डालकर न रखें. फेंगशुई के अनुसार बेडरूम में पानी रखना अशुभ माना जाता है. अतः स़िर्फ कछुए की प्रतिमा ही रखें.

फेंगशुई के अनुसार, घर में कछुए की प्रतिमा रखने से घर के सदस्यों की आयु लंबी होती है और सौभाग्य में भी वृद्धि होती है, इसलिए घर या ऑफिस में इसकी मौज़ूदगी लाभदायक मानी जाती है.

Blue-living-room1
दुख, दरिद्रता, तकलीफ़, पीड़ा इत्यादि परेशानियों का एक मात्र कारण है घर में प्रवेश करती नकारात्मक ऊर्जा अर्थात यदि इन नकारात्मक ऊर्जा के प्रवेश को रोक दिया जाए, तो ऐसी परेशानी से छुटकारा मिल सकता है.
अगरबत्ती या धूप जलाएं
घर में मौजूद नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने के लिए सुबह-शाम सुगंधित अगरबत्ती या धूप जलाएं. कमरे में फैली अगरबत्ती या धूप की पवित्र सुगंध नकारात्मक ऊर्जा को ख़त्म कर देती है.

agarbattiaroma_sticks

कमरे की स्वच्छता पर ध्यान दें
नकारात्मक ऊर्जा से बचने के लिए मकान के हर एक कमरे को साफ़-सुथरा रखने की कोशिश करें. अव्यवस्थित चीज़ों को सही ढंग से रखें. साथ ही अनावश्यक व बेकार की चीज़ों को फेंक दें, क्योंकि गंदगी व अस्वच्छता नकारात्मक ऊर्जा को सक्रिय करते हैं.

टॉयलेट का दरवाज़ा बंद रखें
टॉयलेट नकारात्मक ऊर्जा का मुख्य स्रोत होता है. अतः टॉयलेट का दरवाज़ा हमेशा बंद रखें, वरना यहां से निकलनेवाली नकारात्मक ऊर्जा अन्य कमरे में मौजूद सकारात्मक ऊर्जा को नष्ट कर सकती है.

gray_sea_salt_black_bowl

नमक मिले पानी से पोंछा लगाएं
नकारात्मक ऊर्जा को कम करने के लिए घर के हर कमरे में नमक मिले पानी से पोंछा लगाना भी एक अच्छा उपाय है. फेंगशुई के अनुसार रोज़ाना ऐसा करने से नकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव कम हो जाता है.

टॉयलेट में समुद्री नमक का कटोरा रखें
टॉयलेट में से निकलने वाली नकारात्मक ऊर्जा को कम करने के लिए टॉयलेट की खिड़की पर कांच के कटोरे में समुद्री नमक डालकर रख दें. समुद्री नमक नकारात्मक ऊर्जा को सोख लेता है. परंतु ध्यान रहे, जब नमक गीला हो जाए, तो उसे फेंक कर दूसरा नमक डालें.

Fengshui Tips for Fish Tank

फिश टैंक न स़िर्फ आपके घर की सुंदरता में चार चांद लगाता है, बल्कि ये घर के लिए सौभाग्यशाली भी होता है. ये दुर्भाग्य दूर करके आपकी क़िस्मत बदल सकता है. आइए, हम बताते हैं फेंगशुई के अनुसार कहां और कैसे रखें फिश टैंक? (Fengshui Tips for Fish Tank)

कहां रखें?
* फिश टैंक के लिए घर का दक्षिण-पूर्वी भाग बेस्ट माना जाता है. घर में संपन्नता और धन में ब़ढ़ोतरी के उद्देश्य से इस स्थान को अच्छा माना जाता  है.

* गोल्ड फिश वाले फिश टैंक को लिविंग रूम की पूर्व, उत्तर या दक्षिण-पूर्व दिशा में रखना अत्यंत लाभदायक होता है.
कितनी हो फिश?

* फिश टैंक में कुल 9 मछलियां होनी ज़रूरी है.

* इसमें 8 मछलियां लाल या सुनहरी रंग की और 1 मछली काले रंग की होनी चाहिए.

* घर में खुशहाली और करियर में तरक्क़ी के लिए आप फिश टैंक को घर के उत्तरी या पूर्वी भाग में भी रख सकते हैं. घर का उत्तरी भाग कॅरियर का  प्रतिनिधित्व करता है और पूर्वी खुशहाली को दर्शाता है.

और भी पढ़ें: धन प्राप्ति के लिए 25 Effective वास्तु टिप्स

Fengshui Tips for Fish Tank

क्यों 9 मछलियां हैं ज़रूरी?
फेंगशुई एक्सपर्ट्स के मुताबिक 9 नंबर खुशहाली का प्रतीक है, इसलिए फिश टैंक में रखी जानेवाली मछलियों की संख्या 9 होनी चाहिए.

कहां न रखें फिश टैंक?
भूल से भी फिश टैंक को बेडरूम, किचन या बाथरूम में न रखें, इससे आर्थिक नुक़सान एवं भावनात्मक असंतुष्टि फैल सकती है.

पानी का प्रवाह
फिश टैंक के भीतर बहने वाले पानी की आवाज़ घर में सकारात्मक ऊर्जा के प्रवाह के साथ ही धन, संपन्नता और खुशहाली बढ़ाती है.

और भी पढ़ें: बनना चाहते हैं अमीर, तो घर में रखें वेल्थ वाज़

 

Fengshui Tips for Fish Tank

होता है दुर्भाग्य का नाश
फिश टैंक में रखी 8 सुनहरी मछलियों में से अगर कुछ मछलियां मर जाती हैं, तो इसका मतलब है कि परिवार पर आनेवाली आपत्ति मछलियों की मृत्यु के साथ ही ख़त्म हो गई. ऐसी स्थिति में जितनी सुनहरी मछलियां मर चुकी हैं, उतनी ही मछलियां फिर से लाकर फिश टैंक में डाल दें. इससे आपका घर सदैव सुरक्षा कवच के घेरे में सुरक्षित रहेगा.

क्या आप जानते हैं?
फेंगशुई का पहला तत्व पानी है, यह पानी के ही रूप में फिश टैंक में मौजूद है, दूसरा तत्व है धरती, यह कंकड़-पत्थर आदि के रूप में फिश टैंक में रहता है. तीसरा तत्व है अग्नि जो रोशनी या लाल, पीली और नारंगी रंग की मछली के रूम में गिनी जाती है.

और भी पढ़ें: फेंगशुई के अनुसार तोह़फे में क्या दें और क्या न दें

2422401_sambl9061

हॉर्स शू अर्थात घोड़े की नाल को सौभाग्यवर्धक माना जाता है. ये घर के सदस्यों के लिए बहुत सौभाग्यशाली होता है. इसे घर में लगाने से बुरी शक्तियां व दुर्भाग्य कोसो दूर रहते हैं.

 

क्या है इसकी अहमियत?
घोड़े की नाल का आकार (यू शेप) आइडियल शेप होता है. घोड़े की नाल घर के मुख्य द्वार पर लगाने से सौभाग्य में बढ़ोतरी होती है और ऐसा कहते हैं कि जिस घर के मुख्य द्वार पर घोड़े की नाल लगी होती है, वहां बुरी शक्तियां प्रवेश नहीं कर सकतीं और ये बुरी नज़र से भी बचाता है.

कैसे करें पहचान?
घोड़े की नाल असली होनी चाहिए, जिसका इस्तेमाल घोड़े द्वारा किया गया हो. बाज़ार में बिना इस्तेमाल किए हुए नाल भी बिकते हैं, अतः नाल ख़रीदते समय यह जान लें कि घोड़े ने इसे इस्तेमाल किया है या नहीं?

कैसे लगाएं?
घोड़े की नाल को आप दो तरह से लगा सकती हैंः
* पहला यू पैटर्न में लगाया जा सकता है.
* दूसरा रिवर्स यू पैटर्न में लगाया जा सकता है.

4589191-old-rusty-lucky-horseshoe-isolated-on-a-white-background

यू पैटर्न में लगाने से लाभ
* जब घोड़े की नाल की दोनों सिराएं ऊपर की ओर होती हैं, तब उसे यू पैटर्न कहते हैं.
* इस तरह से घोड़े की नाल को लगाने से सौभाग्य की प्राप्ति होती है.
* घर एवं दुकानों में लगाने के लिए घोड़े की नाल का यू पैटर्न अत्यधिक प्रभावशाली माना जाता है.

8071497-lucky-horse-shoe-with-heart-isolated-on-white

रिवर्स यू पैटर्न में लगाने से लाभ
* यू पैटर्न को उल्टा करने पर घोड़े की नाल की दोनों सिराएं नीचे की ओर हो जाती हैं. इसे रिवर्स यू पैटर्न कहते हैं.
* घोड़े की नाल को इस तरह से लगाने से घर में नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश नहीं होता है.
* गो डाउन या बंगले के लिए घोड़े की नाल का रिवर्स यू पैटर्न अधिक उपयुक्त है. इससे नकारात्मक ऊर्जा उल्टे पैर लौट जाती है.
* ध्यान रहे, यदि रिवर्स यू में घोड़े की नाल मेन डोर पर लगी हो, तो ऊपर की दीवार पर आईना भी अवश्य लगाएं.

कहां लगाएं इसे?
* घोड़े की नाल को मुख्य द्वार पर बाहर की ओर डोर या डोर फ्रेम के ऊपर लगाएं. इसे लगाने की यही सही विधि है.
* यह उत्तर, पश्‍चिम व उत्तर-पश्‍चिम दिशा वाले मुख्य द्वार के लिए अत्यंत लाभकारी होते हैं.

कहां न लगाएं?
यदि आपके मकान का मुख्य द्वार पूर्व या दक्षिण-पूर्व दिशा में है, तो इस दिशा में इसे न लगाएं, क्योंकि घोड़े की नाल मेटल की होती है और इस दिशा में मेटल की वस्तु लगाना अशुभ होता है.


दीवारों पर टंगी तस्वीरें वॉल डेकोरेशन के साथ ही रिश्तों में मधुरता भी लाती है. फेंगशुई के अनुसार कौन-सी दिशा में तस्वीर लगाना अधिक शुभ होता है? आइए, जानते हैं.

दक्षिण-पूर्व दिशा
घर के दक्षिण-पूर्व कोने का तत्व काष्ठ है और इस दिशा का संबंध धन-संपत्ति से होता है. इस दिशा में हरियाली या जंगल के चित्र लगाने से धन-संपत्ति में वृद्धि होती है, लेकिन घर का दक्षिण-पश्‍चिम कोना अगर बेडरूम में है, तो वहां पानी की तस्वीर न लगाएं, यह अशुभ होता है.

3

दक्षिण-पश्‍चिम दिशा
घर के दक्षिण-पश्‍चिम कोने का संबंध पारिवारिक रिश्तों से होता है. इस दिशा में प्रसन्नचित्त मुद्रा में खींची संयुक्त परिवार की तस्वीर लगाने से रिश्तों की पकड़ मज़बूत होती है और आपसी प्रेम में प्रगाढ़ता आती है.

उत्तर-पश्‍चिम दिशा
घर की उत्तर-पश्‍चिम दिशा का संबंध सहायक व्यक्ति, मालिक, बॉस या आप पर उपकार करनेवाले व्यक्ति से होता है. इस दिशा में बॉस का फोटो लगाने से बॉस और एम्प्लॉई के बीच अच्छे संबंध स्थापित होते हैं और बॉस की सहानुभूति प्राप्त होती है.

यह भी पढ़ें: धन प्राप्ति के लिए 25 Effective वास्तु टिप्स

4

पश्‍चिम दिशा
घर की पश्‍चिम दिशा का संबंध संतान और सृजनशीलता से होता है. इस दिशा में बच्चों की तस्वीर लगाने से बच्चे पढ़ाई में तेज़ होते हैं और उनका भविष्य भी उज्ज्वल होता है.

दक्षिण दिशा
दक्षिण दिशा का तत्व अग्नि है और इस दिशा का संबंध व्यक्ति के नाम और शोहरत से होता है. घर या ऑफिस की दक्षिण दिशा में मालिक का फोटो लगाने से प्रसिद्धि मिलती है, परंतु ध्यान रहे कि फोटो फ्रेम लाल रंग का तथा सुनहरे बॉर्डर वाला हो. निजी ऑफिस में अपनी तस्वीर लाल रंग के फ्रेम में मढ़वाकर दक्षिण दिशा में टांगें, इससे आपकी मान-प्रतिष्ठा और साख बढ़ेगी.

डेंज़र ज़ोन
* घर की दक्षिण दिशा में नीले रंग, पानी या बर्फ वाले प्राकृतिक दृश्य न लगाएं, क्योंकि इस दिशा का तत्व अग्नि है और जल अग्नि को नष्ट करता है, जिससे प्रसिद्धि नहीं मिलती है.
* ख़ुद को असहाय और अकेला महसूस करनेवाले व्यक्ति अपनी कुर्सी के पीछे पर्वत या पहाड़ का चित्र लगाएं, इससे उन्हें सहारा मिलता है.
* युद्ध और हिंसावाले चित्र या जंगली जानवर की पेंटिंग घर में न लगाएं, इससे आपसी रिश्तों में कटुता पैदा होती है. ऐसे चित्र घर में लगाने से सास-बहू और पति-पत्नी के बीच झगड़े होते हैं.
* घर में रोती हुई या किसी का इंतज़ार करती हुई युवती की तस्वीर न लगाएं, यह अशुभ होता है.

यह भी पढ़ें: हेल्दी लाइफ और लंबी उम्र के लिए घर में रखें ये लकी चार्म

फेंगशुई के अनुसार कई लकी चार्म ऐसे होते हैं, जिन्हें ऑफिस में रखने से व्यापार में तरक्क़ी होती है. उन्हीं में से एक है ड्रैगन, क्योंकि ड्रैगन ऊर्जा का प्रतीक माना जाता है. यह व्यक्ति की क्रियाशीलता एवं सृजनात्मक क्षमता कोभी सकारात्मक रूप से प्रभावित करता है. तो आइए, जानते हैं इसे कहां और कैसे रखें?

2

क्या है ड्रैगन का महत्व?
ड्रैगन की मौज़ूदगी से सफलता और संपन्नता की प्राप्ति होती है. इसे ऑफिस में रखने से व्यवसाय में वृद्धि होती है.

कैसे करें चुनाव?
* लकड़ी, मिट्टी या क्रिस्टल से बने हुए ड्रैगन ख़रीदें. धातु से बना हुआ ड्रैगन न लें, क्योंकि पूर्व दिशा का तत्व काष्ठ है और ऐसे ड्रैगन को पूर्व दिशा में  रखना अशुभ होता है.
* आप चाहें तो ड्रैगन की पेंटिंग या ड्रॉइंग भी लगा सकते हैं. ये भी असरदार होते हैं.1

कहां रखें?
* पूर्व दिशा और ड्रैगन का आपस में बहुत गहरा संबंध है. इस दिशा का तत्व काष्ठ है. अतः लकड़ी पर नक्काशी द्वारा बनाए हुए ड्रैगन ऑफिस की पूर्व  दिशा में रखें. इससे व्यापार में तरक्क़ी होगी.
* रेस्टॉरेंट, दुकान, डिपार्टमेंटल स्टोर जैसी जगहों पर अधिक एनर्जी की आवश्यकता होती है. ऐसी जगहों की पूर्व दिशा
में ड्रैगन का चित्र लगाना बेहद शुभ होता है.

ध्यान में रखें ये बातें
* अगर आप घर में ड्रैगन की प्रतिमा रखना चाहते हैं, तो बेडरूम में ड्रैगन न रखें, क्योंकि बेडरूम आराम करने की जगह है और यहां ड्रैगन रखना उचित  नहीं माना जाता.
* ध्यान रहे, घर के हर एक कमरे में ड्रैगन की प्रतिमा न रखें केवल एक ही प्रतिमा काफ़ी है.
* बाथरूम, अलमारी या गैराज जैसी कम एनर्जी वाली जगहों पर ड्रैगन न रखें.

Love Birds

8

फेंगशुई के अनुसार लव बर्ड्स मैंडरिन बत्तख या प्रेमी-परिंदे का जोड़ा पति-पत्नी के बीच प्रेम व रोमांस का प्रतीक होता है. इनकी उपस्थिति से रोमांटिक लाइफ और भी रंगीन हो जाती है.  आइए,  इनके बारे में विस्तार से जानते हैं.

कैसे करें चुनाव?
* इस बात का विशेष ध्यान रखें कि बत्तख के जोड़े में से एक बत्तख नर और दूसरी मादा हो. दोनों नर या दोनोें मादा न हों.
* चाहें तो इन लव बर्ड्स की पेंटिंग या फोटो भी रख सकते हैं. ये भी उतने ही प्रभावशाली होते हैं.

कहां रखें?
* लव बर्ड्स को घर के दक्षिण-पश्‍चिम दिशा के कोने में या बेडरूम के दक्षिण-पश्‍चिम दिशा के कोने में रखें. दक्षिण-पश्‍चिम दिशा का कोना पारस्परिक   संबंधों और रोमांस का क्षेत्र माना जाता है. यह रोमांटिक लाइफ को रंगीन बनाता है.
* अगर आप अविवाहित हैं, तो लव बर्ड्स की पेंटिंग अपने बेडरूम में टांगें या एक जोड़ी बत्तख अपने बेडरूम में रखें, इससे आपकी शादी जल्द ही हो    जाएगी.

7

रखें इन बातों का ख़्याल:
* इस बात का ध्यान रखें कि आपको बत्तख का एक जोड़ा रखना है, न कि स़िर्फ एक बत्तख और न ही दो से अधिक बत्तख. केवल एक बत्तख रखने का नतीजा यह हो सकता है कि आप जीवनभर अकेले या अविवाहित ही रह जाएंगे और अगर आप तीन बत्तख रखते हैं, तो इसका परिणाम यह होगा कि आपके वैवाहिक जीवन में कोई तीसरा व्यक्ति आ सकता है.
* ध्यान रहे, अगर आप इन पक्षियों की पेंटिंग लगा रहे हैं, तो पक्षियों का यह जोड़ा पिंजरे में कैद न हो, क्योंकि पिंजरे में कैद पक्षी इस बात का प्रतीक  है कि वह उड़ने में असमर्थ हैं. ऐसी स्थिति में आपकी लव लाइफ ख़तरे में पड़ सकती है.

gold ship

3

फेंगशुई के अनुसार सोने के सिक्कों से भरा समुद्री जहाज़ व्यवसाय में सफलता का प्रतीक माना जाता है. इसकी मौज़ूदगी से व्यापार में वृद्धि होती है और संबंधित व्यक्ति का करियर ग्राफ़ तेज़ी से ऊंचाई की ओर बढ़ता जाता है. तो आइए जानते हैं जब रखना हो इसे घर में तो किन बातों का रखें ख़्याल?

कैसे बनाएं सोने के सिक्कों से भरा समुद्री जहाज़?
* बाज़ार में सोने के सिक्कों से भरे जहाज़ की कई प्रतिमाएं मिलती हैं. आप चाहें तो उन प्रतिमाओं को भी ऑफिस में रख सकते हैं या फिर ख़ुद ही सोने के सिक्कों से भरा जहाज़ बना सकते हैं.
* इसके लिए बाज़ार से सामान्य-सा पानी वाला जहाज ख़रीदकर ले आएं.
* इसमें कुछ नकली सुनहरे सिक्के, तो कुछ असली सिक्के व रुपए भर दें. इससे सिक्कों से भरा जहाज़ तैयार हो जाएगा.

1

कहां रखें सोने के सिक्कों से भरा समुद्री जहाज़?
सोने के सिक्के से भरे समुद्री जहाज़ को ऑफिस में इस तरह रखें, जिससे लगे कि जहाज़ बाहर से ऑफिस के अंदर की तरफ़ आ रहा है, न कि बाहर की तरफ़ जा रही है. ऐसा करने से आनेवाला सौभाग्य उल्टे पैर वापस जा सकता है और व्यापार में भारी नुक़सान हो सकता है.

कहां न रखें?
* सोने के सिक्के से भरे समुद्री जहाज को भूल से भी ऑफिस के मुख्य द्वार के ठीक सामने न रखें, वरना सारी संपत्ति दरवाज़े से होकर बाहर जा सकती है.
* इसे घर में रखने की ग़लती भी न करें.

Education Tower

1

फेंगशुई के अनुसार एज्युकेशन टावर घर में रखने से बच्चों का ध्यान केंद्रित रहता है और वो मन लगाकर पढ़ाई करते हैं. यदि आपके बच्चे का पढ़ाई में मन नहीं लगता,  तो घर ले आइए एज्युकेशन टावर.

क्या है एज्युकेशन टावर?

*  फेंगशुई के अनुसार एज्युकेशन टावर ज्ञान और शांति का मंदिर माना जाता है.
*  यह इमारत 5, 7 या 9 मंज़िल की होती है.
*  इसकी हर एक मंज़िल वेल्थ, हेल्थ, लक इत्यादि का प्रतिनिधित्व करती है.

3

क्यों है ये लाभदायक?

*  इसे घर में रखने से बच्चे पढ़ाई की ओर ध्यान केंद्रित करते हैं.
*  इस प्रतिमा में ऐसी ऊर्जा होती है, जो बच्चे के मस्तीभरे दिमाग़ को अनुशासित रखती है.
*  इसकी मौज़ूदगी से बच्चों के मन में ऐसे कोई बुरे विचार नहीं आते, जिससे कि वे ग़लत दिशा की ओर जा सकें.
*  ये प्रतिमा उन बच्चों के लिए भी बेहद लाभदायक सिद्ध होती है, जो ख़ुद पढ़ाई में आगे निकलने की सोचते हैं.
*  पढ़ाई के साथ-साथ यह इमारत करियर के लिए भी बेहद लकी है. इसकी मौजूदगी से उन्नति होती है.

2

कहां रखें?

*  इसे बच्चे के बेडरूम में उत्तर-पूर्व दिशा की ओर रखें, क्योंकि इस दिशा का संबंध शिक्षा से होता है.
*  इसे रखने के लिए स्टडी टेबल भी बेस्ट है, परंतु इसकी दिशा में कोई बदलाव न करें.