festival

हिंदुओं के त्योहारों में दीपावली का विशेष महत्व है. दीपावली का अर्थ है दीप की अवनी अर्थात पंक्ति का त्योहार. दिवाली 5 दिनों का त्योहार होता है, जो धनतेरस से शुरू होकर नरक चतुर्दशी, लक्ष्मी पूजन, गोवर्धन, अन्नकूट पूजा और भैया दूज तक रहता है. इन सभी दिनों में किस दिन किस तरह से पूजा की जाए, जिससे घर में सुख-समृद्धि और धन लाभ हो, इसके बारे में डॉ. मधुराज वास्तु गुरु ने हमें विस्तारपूर्वक जानकारी दी. वेबसाइट: https://www.madhurajvastuguru.com/

इस दीपावली इन उपायों से महालक्ष्मी देंगी आपके घर पर दस्तक…
इस दीपावली पर कुछ उपाय आपके जीवन में मां लक्ष्मी का आगमन ला सकता है. उसके पहले मां लक्ष्मी के अर्थ को जानना ज़रूरी है. ऐसा क्यों है कि महालक्ष्मी की कृपा हर एक पर नहीं होती, मगर जिस पर होती है, उस पर भरपूर होती है.
इस पर डॉ. मधुराज कहते हैं कि ऐसा इसलिए घटित होता है कि जब हम मां लक्ष्मी की बात करते हैं, तो उनके नाम में ही गहरा अर्थ छुपा हुआ है. लक्ष्मी यानी लक्ष्य पर मेहनत करना ही आपको लक्ष्मी के समीप ले जाता है. इसका तात्पर्य यह है कि आपके घर में लक्ष्मी का आगमन तभी होता है, जब आप अपने जीवन में लक्ष्य पर मेहनत करें.

diwali2020

दीपावली के दिन मां लक्ष्मी का आगमन होता है ऐसा क्यों कहा गया?..
दीपावली के दिन जो मान्यताएं हैं, उनके आधार पर दीपावली आनेवाली होती है, तो सबसे पहले घरों की सफ़ाई शुरू हो जाती है. यानी आप अपने घर को शुद्ध करना शुरू कर देते हैं. अपने घर-भवन को शुद्ध एवं साफ़ करना यानी अपने मनस को शुद्ध एवं साफ़ करना. मन को शुद्ध करना यानी आपके ज़िंदगी से भवन के तल पर, मन के तल पर, मनस के तल पर और शरीर के तल पर गंदगी साफ़ होना.

वास्तु के अनुसार, आपका घर आपका निर्माण करता है…
इसका क्या अर्थ है.. पहला नियम स्वच्छता है. अगर हम उसे हर दिन पालन करते हैं, तो हर दिन दीपावली है. दीपावली के दिन महालक्ष्मी का आना यानी लक्ष्यों पर मेहनत करना और वह वो व्यक्ति कर सकता है, जिसका माइंडसेट हो कि उसे चाहिए क्या? यानी आपको यह पता होना चाहिए कि आपको जीवन में क्या चाहिए. यदि किसी व्यक्ति का मन ही स्थिर ना हो और ना ही इस बात के लिए माइंडसेट हो कि उसे चाहिए क्या, तो भला उस पर मां लक्ष्मी कैसे प्रसन्न हो सकती हैं?
लक्ष्मीजी अपनी कृपा उसी पर करती हैं, जो व्यक्ति अपने ज़िंदगी में एक लक्ष्य लेकर चलता है और उस लक्ष्य को पाने के लिए उस पर मेहनत करता है. लक्ष्मी का आगमन दीपावली पर इसलिए होता है, क्योंकि जब आप अपने घर को स्वच्छ करते हैं, तो आपका मन-मस्तिष्क भी स्वच्छ होता है. स्वच्छ दिमाग़ के साथ जब आप काम करते हैं, तो आप सही लोगों के साथ जुड़ते हैं और जीवन में ऐसी एनर्जी पैदा करते हैं, जो आपके जीवन में प्रगति का कारक होता है.

यहां पर वास्तु गुरु डॉ. मधुराज जी कुछ सरल उपाय भी बता रहे हैं, जिसे दिवाली पर करने के बाद महालक्ष्मी की कृपा आप पर बन सकती है, मगर इसका यह अर्थ नहीं है कि आप कर्म करना छोड़कर केवल उपाय करें, इसके साथ आपको कर्म यानी काम भी निरंतर करते रहना है.

धनतेरस

  • एक चांदी का चौकोर टुकड़ा जिस पर स्वास्तिक बना हो, उसे किसी भी सुनार, ज्वेलरी की दुकान से ख़रीदकर ले आए. वज़न आपके अनुसार कुछ भी हो सकता है.
  • कुबेर यंत्र और कुबेर की मूर्ति ख़रीदना अत्यंत शुभ होता है और इस दिन उनकी पूजा करना विशेष लाभकारी होता है.
  • अपने घर के उत्तर दिशा में एक चांदी के कलश में गंगाजल भरकर रखें.
  • 5 गोमती चक्र, 3 पीली कौड़ी ख़रीदना अत्यंत लाभकारी होता है आज के दिन.
  • साबुत धनिया एवं कमलगट्टे की माला अवश्य ख़रीदें. आज के दिन इससे विशेष लाभ होता है.

नरक चतुर्दशी (छोटी दीपावली)
इस दिन भगवान श्रीकृष्ण ने नरकासुर का वध किया था और सोलह हज़ार कन्याओं का उद्धार किया था.

diwali2020
  • इस दिन यमराज के लिए दीपदान किया जाता है.
  • शाम के समय घर के बड़े-बुज़ुर्गों द्वारा दीप जलाना चाहिए.
  • इस दीये में एक तांबे का सिक्का, एक पीली कौड़ी और तिल का तेल का इस्तेमाल करना चाहिए.
  • जब दीपक ठंडा हो जाए, तो उसमें रखी इस कौड़ी और तांबे के सिक्के को अपने धन रखने की जगह या तिजोरी में रख दें.

दीपावली- प्रकाश पर्व

  • इस दिन पूरे घर की साफ़-सफ़ाई करें.
  • पूरे घर में नमक के पानी से पोंछा लगाए.
  • पूरे घर को सुगंधित द्रव्य से सुगंधित करें. जैसे-
    उत्तर-पूर्व दिशा में तुलसी के इत्र से
    दक्षिण-पूर्व दिशा में गुलाब के इत्र से
    दक्षिण-पश्चिम दिशा में लेवेंडर के इत्र से
    उत्तर-पश्चिम दिशा में लेमन ग्रास के इत्र से
    सुगंधित करें.
    इसके लिए आप एरोमा डिफ्यूजर या रूम फ्रेशनर या धूप अगरबत्ती का इस्तेमाल कर सकते हैं.
  • घर के मुख्यद्वार पर रंगोली से सजावट करें एवं तोरण का प्रयोग करें, मगर वास्तु अनुसार दिशा के हिसाब से रंगों का चयन करें, जैसे-
    पूर्व दिशा में हरे रंग का प्रयोग करें.
    पश्चिम दिशा में सफ़ेद रंग का प्रयोग करें.
    दक्षिण दिशा में लाल रंग का प्रयोग करें.
    उत्तर दिशा में नीले रंग का प्रयोग करें.
  • पूजा के लिए गणेशजी की मूर्ति लेते समय जिस मूर्ति में गणेश भगवान की सूंड उनके बाएं हाथ की तरफ़ हो, वही लें. साथ ही लक्ष्मीजी की बैठी हुई मूर्ति ले.
    *मंगल कलश की स्थापना करें. इसके लिए एक लोटे में चांदी का सिक्का, हल्दी, कुमकुम, चावल और फूल डालकर उसके ऊपर नारियल रखकर घर के ईशान कोण में रखें.
  • एक चांदी के प्लेट में पांच गोमती चक्र, तीन पीली कौड़ी और एक छोटा मोती शंख रखकर उसकी पूजा करें.
  • चांदी का चौकोर टुकड़ा, जिसमे स्वास्तिक बना है जो आप धनतेरस पर लाए हैं, उसे दीपावली के दिन 14-11-2020 को दोपहर के समय 3:16 बजे यानी तीन बजकर सोलह मिनट पर अपने घर, फ्लैट, बंगला आदि के उत्तर पूर्व (नॉर्थ ईस्ट) एरिया में यानी ईशान कोण में रखें.
    अगर व्यावसायिक स्थान या दुकान, फैक्ट्री में रखना हो, तो इस चौकोर चांदी के टुकड़े को उस स्थान के दक्षिण पूर्व (साउथ ईस्ट) एरिया यानी अग्नि कोण में रखें.
  • एक महालक्ष्मी का कमल पर बैठे हुए चित्र को ब्राउन में फ्रेम कराकर घर या प्रतिष्ठान के पूर्व की दिशा में लगाएं. इससे वर्षभर मां लक्ष्मी की कृपा आप पर बनी रहेगी.
diwali2020

गोवर्धन एवं अन्नकूट
इस दिन गोवर्धन पूजा की जाती है. भगवान श्रीकृष्ण ने इंद्र के क्रोध से ब्रजवासियों की रक्षा करने के लिए गोवर्धन पर्वत उठाया था. इसी दिन काशी में विशेष रूप से मां अन्नपूर्णा का अन्नकूट भी मनाया जाता है.

  • इस दिन मां अन्नपूर्णा की पूजा-अर्चना करने का विशेष विधान है, जिससे सालभर मां अन्नपूर्णा की कृपा-आशीर्वाद आप पर बनी रहती है और धन-धान्य की वृद्धि होती है.
  • इस दिन शाम को इंद्रजाल की भी पूजा-अर्चना की जाती है. इंद्रजाल एक तरह का जड़ी होता है, जो समुद्र से प्राप्त होता है.
  • भैया दूज के बाद इस इंद्रजाल को फ्रेम कराकर अपने घर या ऑफिस के दक्षिण दीवार पर लगा दें.

भैया दूज
इस दिन बहनों को अपने भाई के मस्तक पर अंगूठे से रोली का टीका लगाना चाहिए, जिससे उनकी सुख-समृद्धि में वृद्धि हो.

  • रोली से तिलक लगाने के बाद उस पर अक्षत यानी चावल अवश्य लगाएं.
  • भाई की कपूर से आरती नौ बार क्लॉक वाइज घुमाकर अवश्य करें.
  • भाई भी बहन को अपने क्षमताअनुसार उपहार प्रदान करें.

दीपावली का मास्टर स्ट्रोक…
इस वर्ष भाग्यांक के अनुसार अपने धन, तिजोरी या पर्स, बटुआ को निम्नलिखित दिशा में रखने से महालक्ष्मी का आशीर्वाद वर्षभर बना रहे.

  • भाग्यांक 1 वाले उत्तर पश्चिम (North West) दिशा में अपना पर्स-तिजोरी रखें.
  • भाग्यांक 2 और 3 वाले पूर्व (East) दिशा में पर्स-तिजोरी रखें.
  • भाग्यांक 4 वाले उत्तर दिशा में पर्स-तिजोरी रखें.
    *? भाग्यांक 5 वाले दक्षिण-पूर्व दिशा में पर्स-तिजोरी रखें.
    *भाग्यांक 6 वाले उत्तर दिशा में पर्स-तिजोरी रखें.
  • भाग्यांक 7 वाले पश्चिम दिशा में अपना पर्स-तिजोरी रखें.
  • भाग्यांक 8 वाले दक्षिण पश्चिम दिशा में पर्स-तिजोरी रखें.
  • भाग्यांक 9 वाले पूर्व दिशा में पर्स-तिजोरी रखें.

यहां पर आपको पूजा-विधि के नियमों के बारे में भी हम संक्षेप में जानकारी दे रहे हैं. जानिए घर पर पूजा करने की सही विधि और उससे संबंधित नियम.
अपने परिवार में सुख और समृद्धि प्राप्त करने के लिए देवी-देवताओ की पूजा करने की परंपरा वर्षों से निरंतर चली आ रही है. आज भी हम इस परंपरा को निभाते आ रहे है. भगवान की पूजा द्वारा हमारी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है. परन्तु हम सभी को पूजा करने से पूर्व कुछ ख़ास नियमों का पालन करना चाहिए, तभी हमें पूर्ण फल प्राप्त होगा!
हम आज आपको यहां पर ऐसे 30 नियम बताने जा रहे, जो सामान्य पूजन में भी आवश्यक है तथा इन्हें अपनाकर आप पूजा से होनेवाले शुभ फल पूर्ण रूप से प्राप्त कर सकते हैं.

diwali2020
Madhuraj Vastuguru
  1. शिव, दुर्गा, विष्णु, गणेश और सूर्यदेव ये पंचदेव कहलाते है. इनकी पूजा हर कार्यो में अनिवार्य रूप से की जानी चाहिए. प्रतिदिन पूजा करते समय इन पांच देवों का ध्यान करना चाहिए. ऐसा करने से घर में लक्ष्मी का वास होता तथा समृद्धि आती है.
  2. प्लास्टिक की बोतल में या किसी अन्य धातु के अपवित्र बर्तन में गंगाजल नहीं रखना चाहिए. लोहे अथवा एल्युमिनियम के बर्तन अपवित्र धातु की श्रेणियों में आते हैं. गंगाजल को रखने के लिए तांबे का बर्तन उत्तम तथा पवित्र माना जाता है.
  3. यदि घर में भगवान शिव, गणेश और भैरवजी की मूर्ति हो या आप मंदिर में इन तीनो देवताओं की पूजा करते हैं, तो ध्यान रहे की इन तीनों देवों पर तुलसी ना चढ़ाए, अन्यथा पूजा का उल्टा प्रभाव पड़ता है.
  4. मां दुर्गा की पूजा के समय उन्हें दुर्वा ना चढ़ाए, क्योंकि यह भगवान गणेश को विशेष प्रकार से चढ़ाई जाती है.
  5. सूर्य देव को शंख से अर्घ्य नहीं देना चाहिए.
  6. तुलसी का पत्ता बिना स्नान किए नहीं तोड़ना चाहिए, क्योकि शास्त्रों में बताया गया है कि यदि कोई व्यक्ति बिना नहाए ही तुलसी के पत्तों को तोड़ता है, तो पूजा के समय तुलसी के ऐसे पत्ते भगवान द्वारा स्वीकार नहीं किए जाते.
  7. शास्त्रों के अनुसार, दिन में दो बार देवी-देवताओं के पूजन का विधान है. वैसे नियमानुसार सुबह पांच बजे से छह बजे तक के ब्रह्म मुहूर्त में पूजन और आरती होनी चाहिए. यदि आपके लिए यह समय अनूकूल नही है, तो इसके बाद प्रातः छह बजे से आठ बजे तक का समय पूजन अवश्य होना चाहिए. इस पूजन के बाद भगवान को विश्राम करवाना चाहिए. इसके बाद शाम को पुनः पूजन और आरती होनी चाहिए.
    रात को छह बजे से आठ बजे (ऋतु अनुसार यह समय बदल जाता है.) शयन आरती करनी चाहिए. जिन घरों में नियमित रूप से दो बार पूजन होता है, वहां देवी-देवताओं का निवास माना जाता है. ऐसे घरों में धन-धान्य की कोई भी कमी नहीं होती.
  8. स्त्रियों व पुरुषों द्वारा अपवित्र अवस्था में शंख नहीं बजाना चाहिए. यदि इस नियम का पालन नहीं किया जाए, तो घर में बसी लक्ष्मी रूठ जाती है तथा उस घर से चली जाती है.
  9. देवी-देवताओं की मूर्ति के सामने कभी भी पीठ करके नहीं बैठना चाहिए.
  10. केतकी का पुष्प शिवलिंग पर अर्पित नहीं करना चाहिए.
  11. भगवान से कोई भी मनोकामना मांगने के बाद उसकी सफलता के लिए दक्षिणा अवश्य चढ़ानी चाहिए. दक्षिणा चढ़ाते समय अपने दोषों को छोड़ने का संकल्प लेना चाहिए. जितने शीघ्र आप अपने उन दोषों को छोड़ेगे आपकी मनोकामनाएं उतनी शीघ्र ही पूरी होगी.
  12. विशेष शुभ कार्यो में भगवान गणेश को चढ़ने वाला दूर्वा को कभी भी रविवार को नहीं तोड़ना चाहिए.
  13. यदि आप मां लक्ष्मी को शीघ्र प्रसन्न करना चाहते हैं, तो उन्हें रोज़ कमल का पुष्प अर्पित करें. कमल के फूल को पांच दिनों तक लगातार जल चढ़कर पुनः अर्पित कर सकते है.
  14. शास्त्रों के अनुसार, भगवान शिव के शिवलिंग पर चढ़नेवाला बिल्व-पत्र को तीन दिन तक बासी नहीं माना जाता, अतः हम इन बिल्लव पत्रों पर जल छिड़ककर उन्हें पुनः शिवलिंग पर चढ़ा सकते है.
  15. तुलसी के वृक्ष से टूटे हुए तुलसी के पत्तों को बासी नहीं माना जाता, अतः बासी तुलसी पत्तों पर जल छिड़ककर पुनः प्रयोग में ला सकते है.
  16. आमतौर पर फूलों को हाथों में रखकर हाथों से भगवान को अर्पित किया जाता है. ऐसा नहीं करना चाहिए. फूल चढ़ाने के लिए फूलों को किसी पवित्र पात्र में रखना चाहिए और इसी पात्र में से लेकर देवी-देवताओं को अर्पित करना चाहिए.
  17. तांबे के बर्तन में चंदन, घिसा हुआ चंदन या चंदन का पानी नहीं रखना चाहिए, ऐसा करना शास्त्रों के अनुसार, अपवित्र माना गया है.
  18. कभी भी दीपक से दीपक को ना जलाए, क्योकि ऐसा करनेवाला व्यक्ति रोग से ग्रसित हो जाता है.
  19. रविवार और बुधवार को पीपल के वृक्ष में जल अर्पित नहीं करना चाहिए.
  20. पूजा हमेशा पूर्व की ओर या उत्तर की ओर मुख करके की जानी चाहिए. पूजा करने का उत्तम समय प्रातः काल छह बजे से आठ बजे तक का होता है.
  21. पूजा करते समय आसन के लिए ध्यान रखें कि बैठने का आसन ऊनी होगा, तो श्रेष्ठ रहेगा.
  22. घर में मंदिर में सुबह और शाम दीपक अवश्य जलाए. एक दीपक घी का और एक दीपक तेल का जलाना चाहिए.
  23. भगवान की पूजन का कार्य और आरती पूर्ण होने के पश्चात उसी स्थान पर 3 परिक्रमा अवश्य करनी चाहिए.
  24. रविवार, एकादशी, द्वादशी, संक्रान्ति तथा संध्या काल में तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ना चाहिए.
  25. भगवान की आरती करते समय निम्न बातें ध्यान रखनी चाहिए. भगवान के चरणों की आरती चार बार करनी चाहिए. इसके बाद क्रमश: उनके नाभि की आरती दो बार तथा उनके मुख की आरती एक या तीन बार करनी चाहिए. इस प्रकार भगवान के समस्त अंगों की सात बार आरती होनी चाहिए.
  26. पूजाघर में मूर्तियां 1, 3, 5, 7, 9,11 इंच तक की होनी चाहिए. इससे बड़ी नहीं तथा खड़े हुए गणेशजी, सरस्वतीजी, लक्ष्मीजी की मूर्तियां घर में नहीं होनी चाहिए.
  27. घर में कभी भी गणेश या देवी की प्रतिमा तीन, शिवलिंग दो, शालिग्राम दो, सूर्य प्रतिमा दो, गोमती चक्र दो की संख्या में कदापि न रखें.
  28. अपने मंदिर में सिर्फ़ प्रतिष्ठित मूर्ति ही रखें. उपहार, कांच, लकड़ी एवं फायबर की मूर्तियां न रखें. खण्डित, जली-कटी फोटो और टूटा कांच तुरंत हटा दें. शास्त्रों के अनुसार खंडित मूर्तियों की पूजा वर्जित की गई है. जो भी मूर्ति खंडित हो जाती है, उसे पूजा के स्थल से हटा देना चाहिए और किसी पवित्र बहती नदी में प्रवाहित कर देना चाहिए . खंडित मूर्तियों की पूजा अशुभ मानी गई है . इस संबंध में यह बात ध्यान रखने योग्य है कि सिर्फ शिवलिंग कभी भी, किसी भी अवस्था में खंडित नहीं माना जाता है .
  29. घर में मंदिर के ऊपर भगवान की पुस्तकें, वस्त्र एवं आभूषण न रखे. मंदिर में पर्दा रखना आवश्यक है. अपने स्वर्गीय पितरो आदि की तस्वीरें भी मंदिर में ना रखें. उन्हें घर के नैऋत्य कोण में स्थापित करना चाहिए.
  30. हमेशा भगवान की परिक्रमा इस अनुसार करें- विष्णु की चार, गणेश की तीन, सूर्य देव की सात, दुर्गा की एक एवं शिव की आधी परिक्रमा कर सकते है.

ऊषा गुप्ता

diwali 2020

यह भी पढ़ें: राशि के अनुसार ऐसे करें मां लक्ष्मी को प्रसन्न (How To Pray To Goddess Lakshmi According To Your Zodiac Sign)

माही ने दिवाली के दिन बड़ी ही प्यारी तस्वीरें शेयर की हैं और वो हैं उनके तीनों बच्चों की- ख़ुशी, राजवीर और तारा की! तीनों दिवाली के अटायर में बेहद प्यारे लग रहे हैं और माही ने खूबसूरत कैप्शन भी दिया है कि मेरी दिवाली बेहद ख़ास है क्योंकि तुम सब मेरी ज़िंदगी के दिये हो जो हमेशा रोशनी और ख़ुशियाँ बिखेरते हो!

Mahhi Vij And Jay Bhanushali

ग़ौरतलब है कि जो लोग नहीं जानते कि माही और जय ने अपने केयरटेकर के दोनों बच्चों- ख़ुशी और राजवीर को अडॉप्ट किया है. वो ना सिर्फ़ इनकी पढ़ाई-लिखाई की ज़िम्मेदारी उठाते हैं बल्कि पूरी तरह उनकी देखभाल भी करते हैं. उनके जन्मदिन सेलिब्रेट करते हैं, छुट्टियाँ मनाते हैं. तीनों को साथ देखना बड़ा ही सुखद अनुभव है.

हालाँकि कई बार सोशल मीडिया पर माही और जय को लोग टार्गेट करते हैं कि वो ख़ुशी और राजवीर का ठीक से ख़याल नहीं रखते. इस इलज़ाम पर जय ने काफ़ी फटकार भी लगाई थी. जय ने कहा था कि क्या आप लोगों ने किसी बच्चे को अडॉप्ट किया है या किसी परिवार की कभी मदद की है. आप लोगों को अंदाज़ा तक नहीं कि कोरोना जैसी महामारी के बीच सबको सुरक्षित रखने की हमारी ज़िम्मेदारी है. मेरे दोनों गोद लिए बच्चे और उनके माता पिता हमारे साथ ही रहते हैं और इसीलिए आप चौबीसों घंटे मुझे जज नहीं कर सकते. इस तरह की बातें करने से पहले ज़रा सोच लिया करें.

Mahhi Vij And Jay Bhanushali

माही और जय ने 2017 में इन बच्चों को गोद लिया था और अब तारा भी इनके साथ है तो दोनों पैरेंट्स की ख़ुशी तिगुनी हो गई. दिवाली में देखें इनकी प्यारी तस्वीरें.

Mahhi Vij And Jay Bhanushali Kids
Mahhi Vij And Jay Bhanushali Kids
Mahhi Vij And Jay Bhanushali Kids
Mahhi Vij And Jay Bhanushali Kids

लोग भले ही कुछ भी कहें लेकिन इन बच्चों को साथ देखकर ऐसा कभी नहीं लगता कि इनके साथ कोई भेदभाव होता है. जय खुद ख़ुशी और राजवीर के साथ बैठकर उनका होमवर्क कारते हैं और सभी आपस में काफ़ी फन एक्टिविटीज़ करते रहते हैं. दोनों बच्चे भी तारा से काफ़ी प्यार करते हैं.

Mahhi Vij And Jay Bhanushali Kids
Mahhi Vij And Jay Bhanushali Kids
Mahhi Vij And Jay Bhanushali Kids
Mahhi Vij And Jay Bhanushali Kids

Photo courtesy: All Photos- Instagram

यह भी पढ़ें: 1950 के क्लासिक रेट्रो लुक में नज़र आईं जाह्नवी कपूर, लोग हुए फिदा, श्रीदेवी को याद किया! (Viral Pictures: Janhvi Kapoor Stuns In 1950’s Retro Style)

  • कोरोना के चलते इस साल वैसे भी पटाखों का बाज़ार ठंडा है, लेकिन फिर भी कहीं न कहीं लोग निर्देशों को अनदेखा करते हैं और स्वास्थ्य से खिलवाड़ करने लगते हैं.
  • पटाखों से धुआं व प्रदूषण होता है, जो सांस की बीमारी को बढ़ा सकता है और बच्चों और बुज़ुर्गों को बीमार कर सकता है.
  • कोई भी त्योहार हो और ख़ासतौर से दीवाली में में हम खाने-पीने का हिसाब-किताब ही नहीं रखते और इसके चलते बहुत ज़्यादा मिठाई और तली हुई चीज़ें खा लेते हैं, जो नुकसान पहुंचाती हैं.
  • दिवाली में नकली मिठाइयों का बज़ार भी काफ़ी गर्म रहता है, तो सावधान रहें. जितना संभव हो घर पर ही कुछ बनाएं.
  • खोवे के मिठाइयां और सिल्वर फॉइल चढ़ी मिठाइयां न खाएं. सिल्वर फॉइल की जगह अक्सर एल्युमिनियम का प्रयोग होता है, जो शरीर और ख़ासतौर से मस्तिष्क पर बहुत बुरा असर डालता है.
  • कई मिठाइयों में केमिकल प्रिज़र्वेटिव्स डाले जाते हैं और ये आपके लिवर व किडनी को डैमेज कर सकती हैं. इनसे अस्थमा अटैक और कैंसर का ख़तरा भी हो सकता है.
Tips For Safe Diwali
  • बेहतर होगा कि ड्राय फ्रूट्स, फ्रेश फ्रूट्स और अन्य हेल्दी ऑप्शन्स रखें अपने दिवाली मेनू में.
  • इसके अलावा आजकल शुगर फ्री मिठाइयां भी मिलती हैं, जो हेल्दी ऑप्शन है आपके लिए भी और दूसरों को गिफ्ट करने के लिए भी. इस पर ध्यान दें.
  • अपने खाने पर कंट्रोल रखें, ओवरईटिंग न करें. इससे पेट की समस्या हो सकती है.
  • पटाखे और फुलझड़ियां बच्चों को बहुत अट्रैक्ट करते हैं, लेकिन बच्चों को कभी भी ख़तरनाक बम-पटाखे न दें.
  • ढीले-ढाले, सिंथेटिककपड़े दीये न जलाएं और न ही बुरी बांह के कपड़े ही पहनें. दीयों को ऐसी जगह रखें, जहां वे किसी को नुक़सान न पहुंचा पाएं.
Tips For Safe Diwali
  • जहां इलेक्ट्रिक तार हों, गैस सिलेंडर या कोई भी आग पकड़नेवाले सामान हों, वहां दीये न रखें.
  • दिवाली के दौरान पावर कंज़म्शन बहुत अधिक बढ़ जाता है, जिससे हमारा ही नुक़सान होता है. बेहतर होगा ईको फ्रेंडली दिवाली मनाएं. मिट्टी के दीयों का प्रयोग करें.
  • जितना संभव हो देश में बने प्रोडक्ट ही यूज़ करें साज-सज्जा के लिए. लोकल चीज़ों का प्रयोग कोरोना के चलते मुश्किल में पड़े लोगों की मदद भी करेंगे और आप भी देश की तऱक्क़ी में सहयोग करेंगे.
  • दीवाली के दिन चैरिटी करके उत्सव मनाएं. ग़रीब बच्चों को या किसी आश्रम में जाकर उनके बीच ख़ुशियां बांटें और अपने बच्चों को भी साथ ले जाएं, ताकि वो भी अच्छा काम सीख सकें और प्रेरित हो सकें.

यह भी पढ़ें: फिट और हेल्दी रहने के 5 बेहतरीन आयुर्वेदिक ट्रिक्स… (Top 5 Ways To Stay Fit And Healthy- According To Ayurveda)

दिवाली आने को है और आप भी इसकी तैयारियों में जुटी होंगी, ज़ाहिर है बात पहनावे की हो तो आप पारंपरिक ही पहनना चाहेंगी, तो क्यों ना इस बार कुछ नए डिज़ाइंस ट्राई किए जाएं… हम आपके लिए लाए हैं 40 से भी अधिक सलवार-कमीज़ के आकर्षक डिज़ाइंस व पैटर्न.

Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Patterns
Salwar-kameez Desings
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs
Salwar kameez Designs

सौजन्य: देशी गेज़, ब्रांड: चिगी विगी, सूरत

ईमेल: [email protected]

यह भी पढ़ें: हनीमून मनाने मालदीव पहुंचीं काजल अग्रवाल, बीच पर पति संग रोमांस करतीं आई नज़र (Kajal Aggarwal Shares Glamorous Pictures From Maldives Honeymoon)

फेस्टिव सीज़न में सबसे ख़ास, सबसे ख़ूबसूरत नज़र आने के लिए आपको थोड़ी तैयारी पहले से करनी होगी. अपने ब्यूटी प्लान को यदि आप 7 दिनों में बांट देती हैं, तो आप समय की बचत भी कर पाएंगी और आपके ब्यूटी प्लान में कोई कमी भी नहीं रहेगी. आपका फेस्टव लुक सबसे स्पेशल बनाने के लिए हम आपके लिए लेकर आए हैं 7 दिन का ब्यूटी प्लान (Beauty Plan).

Festival Beauty Tips

पहला दिन
* सुबह जल्दी उठें. गुनगुने पानी में नींबू और शहद मिलाकर पीएं.
* सुबह 40 मिनट वॉक के लिए जाएं या घर में योगा व एक्सरसाइज़ करें.
* अपनी स्किन टाइप के अनुसार फेस वॉश से चेहरा धोएं.
* अल्कोहल फ्री टोनर अप्लाई करें. साथ ही मॉइश्‍चराइज़र और सनस्क्रीन लगाना न भूलें.
* मेकअप करना चाहें, तो लाइट मेकअप कर सकती हैं.
* होंठों को नर्म-मुलायम बनाए रखने के लिए रोज़ाना 3 से 4 बार होंठों पर लिप बाम लगाएं.
* घर से बाहर निकलते समय भी सनस्क्रीन साथ ले जाएं और कुछ घंटों के अंतराल पर इसे अप्लाई करें.
* धूप में जा रही हैं, तो छाता या सनग्लासेस ज़रूर साथ ले जाएं.
* घर लौटने पर या घर पर हैं तो भी, शाम के समय चेहरे पर होममेड उबटन लगाएं. इसके लिए- दूध में हल्दी और चंदन पाउडर मिलाकर उबटन तैयार करें. इस उबटन को नियमित रूप से 1 हफ़्ते तक चेहरे पर लगाएं. इससे झाइयां और कालापन दूर होता है और त्वचा की रंगत निखरती है. इस उबटन को हाथ, पैर और गले पर भी लगाएं.
* त्वचा की तरह बालों को पोषक तत्वों की ज़रूरत होती है और सबसे ज़्यादा ज़रूरत होती है ऑयल मसाज की. सप्ताह में एक दिन ऑयल मसाज के लिए ज़रूरी है इसलिए आप भी इसके लिए वक़्त निकालें. बालों की लंबाई को देखते हुए एक कटोरी में कोकोनट ऑयल यानी नारियल का तेल लें. इसमें कुछ करीपत्ता डालकर हल्का गरम करें और बालों में लगाएं. धीरे-धीरे स्कैल्प की मालिश करें.

Festival Beauty Tips

दूसरा दिन
* नींबू और शहद मिला गुनगुना पानी पीने के बाद कम से कम 15 मिनट स्ट्रेचिंग करें.
* फिर चेहरा धोकर फ्रूट फेस पैक लगाएं. इसके लिए- एक सेब को छील व काटकर ब्लेंडर में पीस लें. इसमें 2 टेबलस्पून शहद मिलाकर चेहरे पर लगाएं. चेहरे पर फेस पैक लगाकर मेडिटेशन करें. इससे आपका समय भी बचेगा और आपको दुगुना फ़ायदा भी होगा. आधे घंटे बाद गुनगुने पानी से चेहरा धो लें. फेस पैक और मेडिटेशन का ग्लो आपके चेहरे पर साफ़ नज़र आगे लगेगा.
* अगर आप वर्किंग वुमन हैं, तो ऑफिस जाने से पहले मॉइश्‍चराइज़र, सनस्क्रीन लगाना न भूलें. साथ ही छाता या सनग्लासेस भी ज़रूर साथ ले जाएं.
* चेहरे के ऑयल कंट्रोल और एक्स्ट्रा प्रोटेक्शन के लिए कॉम्पैक्ट भी लगाएं.
* मेकअप अप्लाई करती हैं, तो लाइट मेकअप भी कर लें.
* शाम को घर लौटने के बाद चेहरे को फेसवॉस से अच्छी तरह धो लें.
* आज के दिन आप पार्लर में जाकर फेशियल करा सकती हैं या फिर घर पर भी फेशियल कर सकती हैं. फेशियल करने के लिए आप मार्केट में उपलब्ध डायमंड, गोल्ड, सिल्वर या पर्ल फेशियल में से किसी को भी चुन सकती हैं. फेशियल से आपके चेहरे का ग्लो और बढ़ जाएगा.

Festival Beauty Tips

तीसरा दिन
* अपने दिन की शुरुआत नींबू-शहद मिले गरम पानी से करें.
* आज की सुबह जॉगिंग के लिए जाएं. इससे आपको चेंज भी मिलेगा और खुली हवा का पूरा फ़ायदा भी.
* आज बालों को शैम्पू भी कर लें. बालों को अच्छी तरह शैम्पू-कंडीशनर करने के बाद चाहें तो सीरम भी अप्लाई कर सकती हैं.
* घर से निकलने से पहले मॉइश्‍चराइज़र और सनस्क्रीन अप्लाई कर लें. अपनी पसंद का लाइट मेकअप भी कर लें. इतनी तैयारी के बाद घर से निकलते समय आप एक अलग ही कॉन्फिडेंस महसूस करेंगी.
* घर लौटने बाद पूरे शरीर को स्क्रब करें. स्क्रब बनाने के लिए एक चम्मच तिल के तेल में आधा चम्मच हल्दी और कुछ तिल मिलाकर स्क्रब तैयार करें. इस मिश्रण से शरीर को धीरे-धीरे रगड़ें. हफ्ते में एक बार ऐसा करने से त्वचा में निखार आता है.
* स्क्रबिंग के बाद गुनगुने पानी से स्नान करें. ऐसा करने से आप फ्रेश महसूस करेंगी.
* आज आप पार्लर या घर पर मेनीक्योर-पेडिक्योर कर सकती हैं.
* यदि घर पर मेनीक्योर-पेडिक्योर कर रही हैं, तो सबसे पहले पुरानी नेल पॉलिश निकाल दें. फिर अपने हाथ और पैर को नमक और माइल्ड शैम्पू मिले गुनगुने पानी में डिप करें. फिर नाखूनों को फाइल करें. अब स्क्रबर से डेड सेल निकालें. फिर साफ पानी से हाथ-पैर धोकर बॉडी लोशन लगा लें. नाखूनों पर बेस कोट लगा लें.
* आज आपको बहुत अच्छी नींद आएगी, जिससे आप सुबह फ्रेश महसूस करेंगी.

यह भी पढ़ें: गोरी-सुंदर-जवां दिखना है तो लगाएं ये होममेड नाइट क्रीम (Homemade Night Cream For Fair And Glowing Skin)

Festival Beauty Tips

चौथा दिन
* सुबह नींबू-शहद वाला गरम पानी पीने के बाद आज 30 मिनट दौड़ें. घर लौटने के बाद थोड़ी स्ट्रेचेस और सिट-अप्स भी कर लें. वर्कआउट के कारण ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होगा और आपकी स्किन ज़्यादा ग्लो करने लगेगी.
* स्किन को और सॉफ्ट बनाने के लिए नहाने से पहले स्किन सॉफ्टनर स्क्रब अप्लाई करें. इसके लिए सरसों के दानों में दही, शहद और आटा मिलाकर पेस्ट तैयार करें. इससे धीरे-धीरे बॉडी स्क्रब करें. इसके बाद स्नान करें. स्नान के बाद आप तरोताज़ा और एनर्जेटिक महसूस करेंगी.
* घर से निकलते समय रोज़ की तरह मॉइश्‍चराइज़र, सनस्क्रीन, हल्का मेकअप अप्लाई करें. सनग्लासेस पहनकर बाहर निकलें.
* शाम को लौटते समय पार्लर जाकर आईब्रो, अपरलिप, वैक्सिंग वगैरह करा लें.
* आज चाहें तो कोकोनट, ऑलिव और आल्मंड ऑयल मिलाकर हेड मसाज भी कर लें. ऐसा करने से आपको लग्ज़ीरियस स्पा का अनुभव होगा और आप अच्छा महसूस करेंगी.
* थ्रेडिंग की जलन दूर करने के लिए चाहें तो हेड मसाज के साथ ही फेस पैक भी अप्लाई कर सकती हैं. इसके लिए ऐलोवेरा जेल में खीरे का रस, दही और रोज़ ऑयल मिलाकर पैक बनाएं और उसे चेहरे पर लगाएं. 15 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें. ये पैक आपकी स्किन को हमेशा ख़ूबसूरत बनाए रखेगा.
* सोने से पहले बॉडी लोशन या नाइट क्रीम अप्लाई करें.

Festival Beauty Tips

पांचवां दिन
* अपने डेली डोज़ यानी नींबू-शहद मिले गरम पानी से दिन की शुरुआत करें.
* आज आप 20 सूर्य नमस्कार करें. ये एक बेहतरीन वर्कआउट है और इससे आपको स्किन व हेल्थ दोनों के फ़ायदे मिलेंगे. कई सेलिब्रिटीज़ अपने दिन की शुरुआत सूर्य नमस्कार से ही करते हैं.
* अब अपने ऑयली बालों को शैम्पू करें. शैम्पू-कंडीशनर के बाद ज़रूरत हो तो सीरम भी अप्लाई करें.
* घर से निकलते समय स्किन को प्रोटेक्ट करने के लिए मॉइश्‍चराइज़र, सनस्क्रीन, कॉम्पैक्ट आदि लगा लें. सनग्लासेस पहनना न भूलें.
* शाम को घर लौटने के बाद आज कम से कम 15 मिनट मेडिटेशन के लिए निकालें. ऐसा करने से आप रिलैक्स महसूस करेंगी.
* आज आप नेल पेंट भी अप्लाई कर सकती हैं. फेस्टिवल सीज़न में ब्राइड कलर की नेलपॉलिश अच्छी लगती है. आप अपनी पसंद और लुक के हिसाब से नेलपॉलिश का चुनाव कर सकती हैं.
* सोने से पहले चेहरे को क्लीन करना और नाइट क्रीम लगाना न भूलें.

 

Festival Beauty Tips

छठा दिन
* सुबह उठते ख़ुद को आईने में निहारें. आपको अपनी स्किन बहुत ख़ूबसूरत नज़र आएगी, आप ख़ुद को फिट महसूस करेंगी और आपका कॉन्फिडेंस बढ़ जाएगा.
* अब रोज़ की तरह अपने दिन की शुरुआत नींबू-शहद मिले गुनगुने पानी से करें.
* आज फिर से 30 मिनट दौड़ें. यकीन मानिए, आज आपको दौड़ने में बहुत ख़ुशी महसूस होगी, क्योंकि आज आप फिट महसूस कर रही हैं.
* लौटकर स्ट्रेचेस और सिट-अप्स करें.
* इसके बाद वॉर्म शावर लें, इससे आपके टॉक्सिन बाहर निकल जाएंगे. फिर ख़ुद को आईने में निहारें. यकीन मानिए, अपनी स्किन का निखार देखकर आप दंग रह जाएंगी.
* रोज़ की तरह स्किन प्रोटेक्टिव प्रॉडक्ट्स, जैसे- मॉइश्‍चराइज़र, सनस्क्रीन, कॉम्पैक्ट आदि लगाकर ही घर से बाहर निकलें.
* शाम को घर लौटने पर फेशवॉस से चेहरा धोएं और सोने से पहले नाइटक्रीम लगाएं.

यह भी पढ़ें: क्या खाएं कि चेहरा निखर जाए (10 Beauty Foods For Glowing Skin)

Festival Beauty Tips

सातवां दिन
* रोज़ की तरह नींबू-शहद मिला गरम पानी पीने के बाद 100 बार रस्सी कूदें और 30 मिनट मेडिटेशन करें.
* आज नहाने से पहले ब्रॉडी स्क्रब अप्लाई करें. इसके लिए आधा कप अलसी के बीज में तीन चम्मच शहद और थोड़ा-सा पानी व दूध मिलाकर स्क्रब तैयार करें. इससे चेहरे और बॉडी का मसाज करें. इस स्क्रब को अप्लाई करने बाद जब आप गुनगुने पानी से स्नान करेंगी, तो ख़ुद में नया निखार महसूस करेंगी.
* आज बालों को शैम्पू करें. शैम्पू-कंडीशनर के बाद ज़रूरत हो तो सीरम अप्लाई करें.
* अब नरिशिंग बॉडी लोशन अप्लाई करें.
* आज आपको फेस्टिवल के लिए तैयार होना है इसलिए आप हैवी मेकअप कर सकती हैं.

5 घरेलू फेस पैक से पाएं गोरी-सुंदर त्वचा, देखें वीडियो:

ऐसे करें मेकअप की शुरुआत
* फेस्टिवल मेकअप करने के लिए सबसे पहले मॉइश्‍चराइज़र लगाएं.
* फिर अपनी स्किन टोन से मैच करता फाउंडेशन और फेस पाउडर लगाएं.
* फेस्टिवल लुक के लिए आप स्मोकी आई मेकअप कर सकती हैं.

Festival Beauty Tips

ऐसे करें स्मोकी आई मेकअप
स्मोकी आई मेकअप के लिए सबसे पहले एक बूंद प्राइमर आईलिड पर लगाएं. इसे लगाना बहुत ज़रूरी है, क्योंकि गर्मी और ऑयली फेस की वजह से आईशैडो क्रीज़ लाइन से फैल जाता है. फिर लाइट शेड का आई कंसीलर लगाएं. इसे आंखों के नीचे और आईलिड पर अच्छी तरह लगाएं. इससे आईशैडो आसानी से लगेगा. अब आंखों के कलर से मैच करता आईशैडो लगाएं औरब्रश से स्मज करें. फिर डार्क ग्रे आईशैडो आंखों की ऊपरी आईलिड पर लगाकर अच्छी तरह स्मज करें. ज़्यादा स्मोकी लुक के लिए ग्रे आईशैडो के ऊपर ब्लैक आईशैडो लगाएं. दोनों को बड़े ब्रश से ब्लेंड करें. लैशलाइन पर आईलाइनर लगाएं. लिक्विड की बजाय जेल/स्केच आईलाइनर चुनें. ये आसानी से लग जाता है. स्मोकी लुक के लिए ये बेहतर भी होता है. अब स्मजर ब्रश या आई बड की मदद से आईलाइनर को अच्छी तरह स्मज कर लें. काजल लगाकर आई मेकअप कंप्लीट करें.

Festival Beauty Tips

ऐसे कंप्लीट करें मेकअप
* आई मेकअप के बाद पिंक, पीच जैसे लाइट शेड का ब्लश अप्लाई करें.
* आख़िर में लिपस्टिक या लिप ग्लॉस लगाकर मेकअप पूरा करें.
* लीजिए, हो गईं आप तैयार फेस्टिव लुक के साथ.
* अब अपने आउटफिट के अनुसार हेयर स्टाइल बनाएं और पाएं परफेक्ट फेस्टिव लुक.

यह भी पढ़ें: बादाम से गोरी और खूबसूरत त्वचा पाने के 10 घरेलू नुस्खे (10 Homemade Almond (Badam) Face Packs, Masks For Fair And Glowing Skin)

Festival Beauty Tips

स्मार्ट टिप्स
* ख़ूबसूरत नज़र आने के लिए पूरी नींद लें.
* सोने से पहले मेकअप रिमूव करना न भूलें.
* हेल्दी डायट को अपनी दिनचर्या में शामिल करें.
* रोज़ान 8-10 ग्लास पानी ज़रूर पाएं.
* तनाव और प्रदूषण से दूर रहें. योग व मेडिटेशन करें.

– कमला बडोनी

नील नितिन मुकेश अक्सर अपनी प्यारी बिटिया नुर्वी की क्यूट पिक्चर्स शेयर करते रहते हैं और मौक़ा जब दुर्गाष्टमी का हो तो भला छोटी सी दुर्गा के दर्शन और उसका आशीर्वाद लेना भी तो ज़रूरी है.

नील ने भी यही किया. बिटिया से आशीर्वाद किया और उसके चरणों को देवी स्वरूप मान कैप्शन भी लिखा- हमारे घर की लक्ष्मी!

Neil Nitin Mukesh Daughter Nurvi
Neil Nitin Mukesh Daughter Nurvi
Neil Nitin Mukesh Daughter Nurvi
Neil Nitin Mukesh Daughter Nurvi
Neil Nitin Mukesh Daughter Nurvi

नुर्वी अक्सर त्योहारों में ट्रेडिशनल तरीक़े से सजती हैं और बेहद क्यूट लगती हैं. गणेश चतुर्थी पर भी वो पहली बार साड़ी पहने नज़र आई थीं.

Neil Nitin Mukesh Daughter Nurvi
Neil Nitin Mukesh Daughter Nurvi
Neil Nitin Mukesh Daughter Nurvi

नुर्वी की पापा के साथ भी ग़ज़ब की केमिस्ट्री है… अक्सर दोनों एक जैसे हेयर स्टाइल में नज़र आते हैं…

Neil Nitin Mukesh Daughter Nurvi
Neil Nitin Mukesh Daughter Nurvi

नुर्वी की क्यूटनेस देखकर अक्सर लोग कहते हैं कि इसको छिपाकर रखो कहीं नज़र ना लग जाए.

Neil Nitin Mukesh Daughter Nurvi
Neil Nitin Mukesh Daughter Nurvi

यह भी पढ़ें: क्या आप जानते हैं टीवी सीरियल्स को डेली सोप क्यों कहते हैं? (Why Are TV Serials Called Daily Soap?)

नवरात्र में व्रत-पूजा की तरह ही भोग का भी बहुत महत्व होता है. मां के नौ रूपों को कौन-से नौ भोग लगाने चाहिए, आइए जानते हैं.
प्रतिपदा: रोगमुक्त रहने के लिए मां शैलपुत्री को गाय के घी से बनी स़फेद चीज़ों का भोग लगाएं.
द्वितीया: लंबी उम्र के लिए मां ब्रह्मचारिणी को मिश्री, चीनी और पंचामृत का भोग लगाएं.
तृतीया: दुख से मुक्ति के लिए मां चंद्रघंटा को दूध और उससे बनी चीज़ों का भोग लगाएं.
चतुर्थी: तेज़ बुद्धि और निर्णय लेने की क्षमता बढ़ाने के लिए मां कुष्मांडा को मालपुए का भोग लगाएं.
पंचमी: स्वस्थ शरीर के लिए मां स्कंदमाता को केले का भोग लगाएं.
षष्ठी: आकर्षक व्यक्तित्व और सुंदरता पाने के लिए मां कात्यायनी को शहद का भोग लगाएं
सप्तमी: शोक व संकटों से बचने के लिए मां कालरात्रि की पूजा में गुड़ का नैवेद्य अर्पित करें.
अष्टमी: संतान संबंधी समस्या से छुटकारा पाने के लिए मां महागौरी को नारियल का भोग लगाएं.
नवमी: सुख-समृद्धि के लिए मां सिद्धिदात्री को हलवा, चना-पूरी, खीर आदि का भोग लगाएं.
यह भी पढ़ें: नवरात्रि स्पेशल- आज करें देवी शैलपुत्री की पूजा
यह भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: किस राशि वाले किस देवी की पूजा करें 
यह भी पढ़ें: नवरात्र स्पेशल: 10 सरल उपाय नवरात्र में पूरी करते हैं मनचाही मुराद

आज दुनियाभर में ईद मनाया जा रहा है. कोरोना वायरस के कारण और लॉकडाउन के चलते घर पर रहते वर्चुअल वर्क के जिस दौर से हम गुज़र रहे हैं, ऐसे में ईद मनाने का अंदाज़ भी अलग हो गया है. सभी दूर से ही एक-दूसरे को शुभकामनाएं और बधाइयां दे रहे हैं. साथ ही संदेश भेजने के नए-नए तरीक़े भी अपना रहे हैं.
सारा अली ख़ान का अंदाज़ हमेशा निराला होता है. उन्होंने अपने बचपन की और अभी की प्यारी-सी फोटो शेयर करते हुए ईद की बधाई दी. कार्तिक आर्यन ने आकर्षक तस्वीर के साथ विश किया. अमिताभ बच्चन ने अपने लाजवाब फोटो के साथ ईद मुबारक कहा. रवीना टण्डन ने तस्वीर और वीडियो के साथ शुभकामनाएं दीं.
अनन्या पांडे ने बड़े ख़ूबसूरत अंदाज़ में साइलेंटवाला वीडियो शेयर करते हुए सभी को ईद की मुबारकबाद दी और घर पर रहकर त्योहार मनाने की भी बात कही. उन्होंने ढेर सारा प्यार, गुड एनर्जी और गले लगने का भी प्यारा-सा मैसेज किया.
सोनम कपूर ने ख़ूबसूरत लिबास में एक नजाकत भरे स्टाइल में सभी को ईद की मुबारकबाद दी. उन्होंने शुक्रिया भी अदा किया कि रमजान के पूरे महीने में आप सब लोग ने प्रार्थना की. साथ में एक बेहतर कल के लिए ही हम उसकी नींव भी रख रहे हैं. ईद आप सब के लिए ख़ुशियोंभरा हो ऐसी कामना करते हुए उन्होंने सभी भाइयों और बहनों को ईद की बधाई दी.
संजय दत्त के परिवार ने भी खूबसूरत अंदाज में त्योहार का विश किया. मान्यता दत्त अपने दोनों बच्चों के साथ बढ़िया सा फोटो शेयर किया. बच्चे भी केक-चॉकलेट के साथ ख़ुशियां मनाते हुए दिखे.
सोनाली सिन्हा ने दुआ में याद रखने की बात कही… उन्होंने कहा कि आज दुनिया में प्यार और सौहार्द की सबसे ज़्यादा ज़रूरत है. शिल्पा शेट्टी ने भी हर किसी को ईद की मुबारकबाद दी सभी के लिए प्रेम, शांति व सुख की दुआएं की.
अहाना कुमार ने बधाई देते हुए दुआ की कि इस साल हम सब लोग भले ही मिलकर एक-दूसरे को गले लगाकर ईद नहीं मना पा रहे हैं, लेकिन अगले साल हम ज़रूर बड़े ही धूमधाम से मनाएंगे. उन्होंने नसरुद्दीन शाह को टैग करते हुए कहा कि इस साल सर हम नहीं साथ है, पर अगले साल साथ मनाएंगे.
श्रद्धा कपूर ने अपनी ही फिल्म का एक सीन में जहां पर वह नमाज अदा कर रही है और प्रार्थना कर रही हैं कि वीडियो साझा करते हुए उन्होंने सभी को ईद की बधाई दी.
सचिन तेंदुलकर, इरफान पठान क्रिकेटर ने भी ईद की मुबारकबाद दी और सब को घर पर रहने और सुरक्षित रहने के लिए कहा. इरफान ने पिता और भाई यूसुफ के साथ ईद की दुआ देते हुए वीडियो भी शेयर किया. इसके अलावा इरफान ने अपने अब्बा से ईदी लेने को लेकर मज़ाक करते हुए भी पिता के साथ तस्वीर शेयर की.
कुमार विश्वास ने अपने कविवाले अंदाज़ में बहुत ही उम्दा बात कही- तेरी दुनिया तेरी उम्मीद तुझे मिल जाए.. चांद इस बार तेरी ईद तुझे मिल जाए… अब उन्होंने कविता और शेरो शायरी के साथ बधाई दी.
ट्विंकल खन्ना ने अपनी आपबीती बयां की. उन्होंने कहा कि हर साल ईद पर उनके यहां बिरयानी की जगह पर खिचड़ा बनता था. जो उनकी नानी बनाती थीं. साथ में ईदी का लिफ़ाफ़ा भी दिया जाता था, पर इस साल कमी महसूस हो रही है बहुत चीज़ों की और एक अलग ढंग से ही हम इसे मना रहे हैं.
टीवी स्टार शरद केलकर ने भी बहुत ही बढ़िया बात कही उन्होंने ईद मुबारक देने के साथ कहा सब ख़ुश रहें.. महफूज भी रहें.. और अगली बार ईद पर गले भी मिलेंगे और दावत भी करेंगे.. आमीन!..
हुमा कुरैशी ने ईद पर मीठे की ढेर लगा दी. उन्होंने ईद की ढेर सारे मीठे व्यंजन बनाएं, जिसमें शीर खुरमा ख़ासतौर से. उन्होंने उन सबकी तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर शेयर की और लोगों से रिक्वेस्ट भी किया कि वे इसे लाइक करें. साथ ही यह उम्मीद भी ज़ाहिर की कि अगली बार हम मिलकर शान से ख़ुशी के साथ ईद मनाएंगे. उनका यह अंदाज़ लोगों को काफ़ी पसंद आ रहा है.
आज ईद पर अधिकतर लोगों ने चांद और अन्य तरह की तस्वीरें शेयर करके और ईद मुबारक लिखकर बधाइयां दीं. कई ने अपने सेल्फी फोटो के साथ में ईद मुबारक लिखते हुए बधाई दी. तो कुछ ने जो उन्होंने आज स्पेशल भोजन बनाया है उसकी तस्वीरों के सोशल मीडिया पर शेयर की.
मोहनीश बहल, अरबाज ख़ान, सुशांत सिंह राजपूत, अनुपम खेर, किरण खेर, अभिषेक बच्चन, शिल्पा शेट्टी, कैटरीना कैफ, दीपिका कक्कड़, सलमान ख़ान, अर्जुन बिजलानी, भूमि पेडनेकर, दीपिका सिंह, मंदिरा बेदी, नेहा धूपिया, अंगद बेदी, कृति सेना, रणदीप हुड्डा, सानिया मिर्जा, विंदु सिंह, जय भानुशाली, माही विज ऐसे तमाम सेलेब्रिटीज ने ईद की, चांद की फोटो के साथ सभी को बधाइयां दीं.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंदजी ने ईद की बधाई देने के साथ-साथ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की सलाह भी दी. साथ अन्य राजनेताओं ने भी मुबारकबाद दी.
सभी को मेरी सहेली की तरफ़ से ईद की बहुत-बहुत मुबारकबाद हो.. ढेर सारी बधाइयां!.. घर पर रहें.. सुरक्षित रहें.. अपनों के साथ.. ख़ुशी की सौगात के साथ ईद मनाएं!..

Eid Mubarak 2020:Celebs Wish Fans On Eid
Eid Mubarak 2020:Celebs Wish Fans On Eid
Eid Mubarak 2020:Celebs Wish Fans On Eid
Eid Mubarak 2020:Celebs Wish Fans On Eid
Eid Mubarak 2020:Celebs Wish Fans On Eid
Eid Mubarak 2020:Celebs Wish Fans On Eid
Eid Mubarak 2020:Celebs Wish Fans On Eid
Jay Banushali wishes fans Eid Mubarak with his family
Eid Mubarak 2020 wishes
Eid Mubarak 2020  wishes
Eid Mubarak 2020

साल 2020 के पहले ख़ास त्योहार यानी लोहड़ी को लेकर हर तरफ़ उमंग-उत्साह बना हुआ है, ख़ासकर पंजाबी समुदाय में. भारत जैसे देश में अब कोई भी त्योहार धर्म-समुदाय तक सीमित नहीं रह गया है. यहां पर हर कोई सभी तीज-त्योहार आपसी प्रेम व भाईचारे के साथ जोश-जूनूं से मनाते हैं. वैसे इसे पंजाब, हरियाणा, दिल्ली में अधिक धमाकेदार अंदाज़ में मनाया जाता है. इससे फिल्में भी अछूती नहीं है. हिंदी फिल्मों में वीर ज़ारा फिल्म में लोहड़ी को दिलचस्प अंदाज़ में दिखाया गया है. जहां पर अमिताभ बच्चन व हेमा मालिनी की जुगलबंदी देखते ही बनती है. उस पर शाहरुख ख़ान व प्रिटी ज़िंटा के शोख अंदाज़ का तड़का मानो सोने पे सुहागा.

Lohri Special Songs

पंजाबी फिल्मों में भी इस त्योहार के कई ख़ूबसूरत रंग देखने को मिलते हैं. और पंजाबी लोकगीतों में तो इसकी अलग ही ख़ुशबू देखने को मिलती है. तो क्यों इन्हीं सब गीतों के रंगोली को देखते-सुनते हैं और लोहड़ी के रंग में सभी मदमस्त होते हैं.

 

 

Lohri
सजना, संवरना, रिश्तेदारों से मिलना, गजक, तिल के लड्डू खाने का वक़्त है ये, क्योंकि आ गई है लोहड़ी. कहते हैं कि लोहड़ी की रात सबसे ठंड रात होती है और इस रात महिलाएं और पुरुष दोनों ही सजे-धजे रहते हैं. तो चलिए आप भी अपनों के साथ मनाइए लोहड़ी और ख़ुशियां बांटिए.

लोहड़ी की कहानी
ऐसा माना जाता है कि होलिका और लोहड़ी दोनों बहनें थीं. कई जगह लोहड़ी को पहले तिलोड़ी कहा जाता था. यह शब्द तिल और रोड़ी के मेल से बना है, जो समय के साथ बदलकर लोहड़ी के रूप में प्रसिद्ध हो गया.
बॉलीवुड फिल्मों में लोहड़ी
पंजाब की लोहड़ी ने बॉलीवुड पर अपना ऐसा रंग छोड़ा कि फिल्मोंमें इसे अलग अंदाज़ में मनाया जाने लगा. फिल्म वीर ज़ारा की लोहड़ी काफ़ी पॉप्युलर हुई थी.
फुल मेकअप और ड्रेसअप
महिलाओं के लिए ये दिन बहुत ही ख़ास होता है. इस दिन कई महिलाएं अपने शादी का जोड़ा, तो कुछ नई ड्रेस ख़रीदती हैं. उनके ड्रेसअप और मेकअप में किसी तरह की कमी नहीं होती.
मेरी सहेली की ओर से सभी को लोहड़ी की ढेर सारी बधाइयां!..

फिल्मी सितारों (Film Stars) ने हर बार की तरह इस बार भी दिवाली (Diwali) फेस्टिवल का जमकर लुत्फ़ उठाया. हर कलाकार अलग मूड व मस्ती में दिखा. परिवार, साथी, दोस्तों के साथ त्योहार का आनंद लेते सितारों की कुछ ऐसी ही खूबसूरत तस्वीरों को देखते हैं…

Stars Diwali

Stars Diwali

Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali

Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali

Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Stars Diwali Celebs Diwali Celebs Diwali Celebs Diwali Celebs Diwali Celebs Diwali

Celebs Diwali

 


Celebs Diwali

यह भी पढ़ेDiwali 2019: शाहरुख ख़ान ने एश्वर्या राय बच्चन की मैनेजर को आग से बचाया… (Diwali Bash 2019: Fire Accident At Amitabh Bachchan’s Diwali Party, Shahrukh Khan Comes To Rescue)

जीवन के हर पल को उत्सव बनाना इसलिए ज़रूरी है, क्योंकि हमारे जीवन में अगले पल क्या होने वाला है, ये हम नहीं जानते. न हम अपना अतीत बदल सकते हैं और न ही भविष्य के बारे में जान सकते हैं, इसलिए जो पल हमारे पास है, उसे भरपूर जीएं. जीवन के हर पल को उत्सव बनाएं, सही मायने में सेलिब्रेशन इसे ही कहते हैं. जीवन के हर पल को उत्सव कैसे बनाएं? आइए, हम आपको बताते हैं.

Celebration Of Life

1) ख़ुश रहना सीखें
आपने अपने आसपास कुछ ऐसे लोगों को देखा होगा, जो हमेशा हंसते-मुस्कुराते रहते हैं. उन्हें देखकर लगता है जैसे उनके जीवन में कोई तकलीफ़ नहीं है और उनके लिए हर दिन उत्सव है. ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि वो लोग अपने जीवन और अपनी ख़ुशियों से बहुत प्यार करते हैं और ख़ुश रहने की हर मुमक़िन कोशिश करते हैं. जीवन के हर पल को उत्सव बनाने के लिए आप भी ऐसा ही करें.

2) ख़ुशी के मौ़के तलाशें
हम में से अधिकतर लोग ये समझते हैं कि ख़ुशी के मौ़के ही जीवन में ख़ुशियां लाते हैं, जैसे त्योहार, शादी, करियर में तरक्क़ी… लेकिन रोज़मर्रा की ख़ुशी? उसके बारे में हम सोचते ही नहीं हैं. ख़ुशी का कोई मौक़ा नहीं होता, आप चाहें तो हर पल ख़ुश रह सकते हैं और इसके लिए आपको अलग से कुछ करने की ज़रूरत भी नहीं है. आपको बस अपने जीने का नज़रिया बदलना होगा और अपने जीवन में पॉज़िटिविटी बनाए रखनी होगी. अतः त्योहार या किसी ख़ास दिन पर ही नहीं, हर रोज़ ख़ुश रहने की कोशिश करें, इससे जीवन में पॉज़िटिविटी आती है और हम जीवन का भरपूर लुत्फ़ उठा पाते हैं.

यह भी पढ़ें: ख़ुशहाल ज़िंदगी जीने के 5 आसान तरीके (5 Simple Ways To Live Life For Yourself)

Celebration Of Life

3) ख़ुशी जीवन का असली उत्सव है
सुख-दुख हर किसी के जीवन में लगे रहते हैं. आज सुख है, तो कल दुख भी हो सकता है. यदि हम दुख को अपने जीवन से बड़ा समझेंगे तो कभी ख़ुश नहीं रह पाएंगे, इसलिए दुख कितना बड़ा है इसके बारे में सोचने की बजाय ये सोचें कि इससे कैसे बाहर निकला जाए. जो लोग जीवन के प्रति पॉज़िटिव अप्रोच रखते हैं, वो मुसीबतों के बारे में कम और उनसे निपटने के रास्ते के बारे में ज़्यादा सोचते हैं, इसलिए वो बड़ी से बड़ी मुसीबतों का आसानी से सामना कर पाते हैं. अतः अपने जीवन और ख़ुशी को सबसे ज़्यादा महत्व दें और हमेशा ख़ुश रहें, क्योंकि ख़ुशी ही जीवन का असली उत्सव है.

4) त्योहार आपसे हैं, आप त्योहार से नहीं
यदि हम ख़ुशी को त्योहारों से जोड़कर देखें, तो यहां भी ख़ुशी कम और प्रेशर ज़्यादा नज़र आता है. त्योहारों की तैयारियों को लेकर, ख़ासकर महिलाएं इतना तनाव महसूस करती हैं कि वो त्योहार का आनंद ही नहीं उठा पातीं. ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि वो हर काम परफेक्ट करना चाहती हैं और ऐसा हो नहीं पाता. व़क्त के साथ महिलाओं की ज़िम्मेदारियां बढ़ गई हैं, घर-ऑफिस की दोहरी ज़िम्मेदारियों के चलते वो अपनी मां या सास की तरह त्योहारों की तैयारियां नहीं कर सकतीं. अतः वर्किंग महिलाएं और उनके परिवार के सदस्य इस बात को समझें और मिल-जुलकर त्योहार की तैयारियां करें. परिवार के सभी सदस्य न स़िर्फ रोज़मर्रा के काम, बल्कि त्योहार के समय भी घर की वर्किंग महिलाओं का हाथ बंटाएं. इससे महिलाओं का तनाव कम होगा और वो त्योहार का पूरा लुत्फ़ उठा सकेंगी.

यह भी पढ़ें: अमीर और क़ामयाब बनना है तो सीखें ये आदतें (How To Become Rich And Successful)

Celebration Of Life

5) जानें त्योहार का सही अर्थ
हम सभी त्योहार के मौ़के पर घर की साफ़-सफ़ाई करते हैं, घर को और ख़ुद को भी सजाते-संवारते हैं, पूजा-पाठ करते हैं ताकि घर में सुख-शांति-समृद्धि बनी रहे, लेकिन इन सबसे कहीं ज़्यादा ज़रूरी हमारा ख़ुश रहना है. यदि हम मन से ख़ुश नहीं हैं, तो इन सब तैयारियों का कोई मतलब नहीं है. यदि हम मन से ख़ुश हैं, तो हमें दुनिया की हर चीज़ अच्छी लगती है और हर दिन त्योहार लगता है. ख़ुशी को समझना, उसे महसूस करना और उसे दूसरों में बांटना ही सही मायने में त्योहार है.

जल्दी अमीर बनने के लिए करें ये वास्तु उपाय, देखें वीडियो: