filmy gossip

अनुराग बसु द्वारा निर्देशित फिल्म ‘लूडो’ अपने बेहतरीन सब्जेक्ट, बेहतरीन परफॉर्मेंस को लेकर काफी चर्चा में है. हालांकि पंकज त्रिपाठी, आदित्य रॉय कपूर, सान्या मल्होत्रा, अभिषेक बच्चन सभी एक्टर्स इसमें अपनी बेस्ट एक्टिंग से दर्शकों का दिल जीत रहे हैं, लेकिन फ़िल्म ने बीते ज़माने के कॉमेडियन भगवान दादा के एक पॉपुलर गाने को दोबारा बेहद पॉपुलर बना दिया है और यंगस्टर्स की ज़बान पर ये गाना चढ़ गया है.

Ludo

अगर आपने फिल्म ‘लूडो’ देखी है तो आपको पता होगा कि इसमें पंकज त्रिपाठी अक्सर भगवान दादा की फिल्म ‘अलबेला’ का गाना #किस्मत की हवा कभी नरम, कभी गरम…’ सुनते और इसमें मज़ेदार एक्सप्रेशन देते नज़र आते हैं और दर्शकों को न सिर्फ पंकज त्रिपाठी का ये अंदाज पसन्द आ रहा है, बल्कि ये गाना अब लोगों का हॉट फेवरेट बन गया है.

Ludo

इस फ़िल्म ने एक बार फिर भगवान दादा जैसे ग्रेट एक्टर को याद करने का मौका मिल गया है. उनका गाना तो ये जनरेशन खूब गुनगुना रही है, लेकिन भगवान दादा के बारे में शायद ही कुछ जानती हो. तो आइए भगवान दादा के बारे में कुछ बातें जानते हैं, जिनकी ज़िंदगी भी ‘लूडो’ की तरह कभी नरम कभी गरम ही रही.

Bhagwan Dada

-1913 में जन्मे भगवान दादा का असली नाम भगवान आभाजी पलव था. फिल्मों में भगवान दादा अपनी अलग डांस स्टाइल और कॉमेडी के लिए जाने जाते थे.
– उनके पिता एक टेक्सटाइल मिल में काम करते थे. घर की आर्थिक स्थिति अच्छी न होने की वजह से भगवान दादा को भी कुछ समय तक मजदूरी करनी पड़ी, लेकिन उनकी दिलचस्पी शुरू से ही फिल्मों में थी.

Bhagwan Dada

– उन्होंने मूक सिनेमा के दौर में फिल्म ‘क्रिमिनल’ से डेब्यू किया था.
– फिल्मों में एक्टिंग के साथ-साथ उन्होंने फिल्में प्रोड्यूस करनी भी शुरू कर दीं. साल 1951 में उन्होंने फिल्म ‘अलबेला’ प्रोड्यूस की. इस फिल्म का गाना ‘शोला जो भड़के’ आज भी फेमस है. फ़िल्म ‘लूडो’ का ‘किस्मत की हवा कभी नरम कभी गरम…’ गाना भी इसी फिल्म का है.

Bhagwan Dada

– कभी मजदूरी करने वाले भगवान दादा ने फिल्मों से खूब कमाई की.
– भगवान दादा शेवरले कारों के बहुत ज़्यादा शौकीन थे. अपने इसी शौक के चलते उन्होंने ‘शेवरले’ नाम की फिल्म में भी काम किया था.
– भगवान दादा के पास उस दौर में 7 कारें थीं. हफ्ते के हर दिन वो एक कार से सेट पर पहुंचते थे.
– उनकी रईसी का अंदाज़ा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि उनके डायरेक्शन की एक फिल्म के एक सीन में पैसों की बारिश दिखानी थी. इसके लिए उन्होंने नकली की बजाय असली नोटों का इस्तेमाल किया था.

Bhagwan Dada


–  भगवान दादा को हिंदी फिल्मों का पहला एक्शन हीरो कहा जाता था. फिल्मों में मुक्कों से लड़ाई की शुरुआत उन्होंने की थी.
– भगवान दादा हॉलीवुड एक्टर डगलस फेयरबैंक्स के बहुत बड़े फैन थे. डगलस से प्रेरित होकर भगवान दादा अपनी फिल्मों में अपना स्टंट डुप्लीकेट से कराने की बजाय खुद करते थे. उनके द्वारा किए गए स्टंट इतने असली लगते थे कि राज कपूर तो उन्हें इंडियन डगलस कहकर पुकारते थे.
– 1942 में भगवान दादा का नाम तब सुर्खियों में आया जब एक फिल्म की शूटिंग के दौरान उन्होंने अपनी को-स्टार ललिता पवार को जोर का थप्पड़ जड़ दिया. अनजाने में उन्होंने यह थप्पड़ इतनी जोर से मारा कि ललिता पवार को चेहरे का पैरालिसिस हो गया और उनकी आंख की नस फट गई. तीन साल उनका इलाज चला, लेकिन आंख सही नहीं हो पाई.

Bhagwan Dada

– अमिताभ बच्चन से लेकर गोविंदा और मिथुन समेत बहुत से स्टार्स के डांस में भगवान दादा का बड़ा असर है. ऋषि कपूर को तो खुद भगवान दादा ने डांस के स्टेप सिखाए थे. बॉलीवुड में आज तक कोरियोग्राफर्स ‘भगवान दादा स्टेप’ जैसी टर्म का यूज़ करते हैं. 

Bhagwan Dada

– लेकिन उनके गाने की लाइन है न… किस्मत की हवा कभी नरम कभी गरम…. तो लूडो के खेल की तरह ही भगवान दादा की किस्मत ने ऐसी पलटी मारी कि एक पल में वह अर्श से फर्श पर आ गए. एक के बाद एक उनकी कई फ़िल्में फ्लॉप हो गई और उन्हें प्रोडक्शन और डायरेक्शन बंद करना पड़ा.
– फिल्मों से उन्हें इतना नुकसान हुआ कि उन्हें जुहू स्थित 25 कमरों वाला अपना बंगला और सभी कारें बेचनी पड़ीं. उनकी आर्थिक स्थिति इतनी खराब हो गई कि उन्हें मुंबई के चॉल में गुजारा करना पड़ा.

Bhagwan Dada


– इस बुरे दौर में चंद लोगों को छोड़कर भगवान दादा के करीबियों ने उनका साथ छोड़ दिया.
– 4 फरवरी, 2002 को हार्ट अटैक के चलते वह इस दुनिया को मुफलिसी में ही अलविदा कह गए.

Bhagwan Dada


प्रतीक बब्बर ने छोड़ दिया था ‘बब्बर’ सरनेम

Prateik Babbar

एक्टर पॉलिटिशियन राज बब्बर और स्मिता पाटिल के बेटे प्रतीक के अपने पिता राज बब्बर के साथ संबंध एक समय अच्छे नहीं रहे थे. एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि बचपन में उनके पिता ने कभी उनका हाल-चाल तक जानने की भी कोशिश नहीं की और हमेशा अपने दूसरे परिवार के साथ बिजी रहे, जिसके बाद प्रतीक ने अपना सरनेम ‘बब्बर’ छोड़ने तक का फैसला कर लिया, ताकि सबको पता चल जाए कि उनके और राज बब्बर के बीच कोई संबंध नहीं है. हालांकि, बाद में जब प्रतीक एक ड्रग केस में फंसे तो राज बब्बर ने ही उन्हें संभाला और इसके बाद दोनों के रिश्ते सुधर गए. 2019 में राज बब्बर ने धूमधाम से प्रतीक की शादी सान्या सागर के साथ की.

अमीषा पटेल ने पिता को भेज दिया था लीगल नोटिस

Amisha Patel

‘कहो न प्यार है’ और ‘गदर’ जैसी सुपरहिट फिल्में देने वाली अमीषा पटेल के अपने परिवार से उस समय रिश्ते बिगड़ गए जब 2004 में उन्होंने अपने परिवार पर उनकी कमाई का गलत इस्तेमाल करने का आरोप लगाया था. उन्होंने अपने पिता के खिलाफ 12 करोड़ के हर्जाने का मुकदमा भी दायर कर दिया था. ये लड़ाई तब और बदतर हो गई, जब अमीषा के रिश्ते डायरेक्टर विक्रम भट्ट से जुड़े. अमीषा ने मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में बताया था, ‘मेरे पैरेंट्स नहीं चाहते थे कि मैं विक्रम से मिलूं या फिर उससे शादी करूं. वो चाहते थे कि मेरी शादी किसी पैसे वाले आदमी से हो. जब मैंने उनसे अपने पैसों के बारे में पूछा तो वो मुझसे झगड़ने लगे. इतना ही नहीं, वो मुझसे मार पीट भी करते थे. आखिर रोज-रोज की पिटाई से तंग आकर मैंने घर छोड़ दिया.’

कंगना रनौत के मेडिकल की पढ़ाई छोड़ने पर उनके पिता ने पिटाई कर दी थी

Kangana Ranaut

एक समय था जब कंगना की अपने पिता अमरदीप रनौत से बिलकुल नहीं बनती थी. दरअसल कंगना मॉडलिंग और एक्टिंग में अपना करियर बनाना चाहती थीं, जबकि लेकिन पिता उन्हें डॉक्टर बनाने चाहते थे. उन्होंने मेडिकल की पढ़ाई के लिए कंगना का एडमिशन भी चंडीगढ़ के डीएवी स्कूल में करा दिया था. लेकिन कंगना को मॉडलिंग इतनी पसंद थी कि उन्होंने स्कूल जाना ही छोड़ दिया और हॉस्टल से पीजी में शिफ्ट हो गईं. कहते हैं जब कंगना के पिता को ये बात पता चली तो उन्होंने कंगना की पिटाई भी की थी. रिपोर्ट्स के मुताबिक, इसके बाद कंगना के पिता ने उनसे सालों तक बात नहीं की थी. हालांकि, अब बेटी की सफलता से पिता बेहद खुश हैं.

फैजल खान ने भाई आमिर पर लगाये थे ढेर सारे संगीन आरोप

Aamir Khan


आमिर के भाई फैजल खान से विवाद जगजाहिर है. फैज़ल ने फिल्म ‘मेला’ से डेब्यू किया था. कुछ फिल्मों में काम करने के बाद फैजल इंडस्ट्री से गायब हो गए और इसका जिम्मेदार उन्होंने आमिर खान को बताया. उनका कहना था कि आमिर ने उन्हें घर में कैद करके रखा था. उन्हें मानसिक रूप से बीमार बताकर दवाइयां लेने को भी मजबूर किया जाता था. फैजल ने आमिर पर संपत्ति हड़पने का भी आरोप लगाया था. फैजल द्वारा आमिर पर लगाए गए इन आरोपों ने इंडस्ट्री में तहलका मचा दिया था. हालांकि, आमिर ने अपनी सफाई में कहा था कि फैजल मानसिक बीमारी से जूझ रहे थे, इस वजह से इस तरह की बातें कर रहे हैं. हालांकि, अब फैजल ठीक हो चुके हैं और आमिर के साथ उनके रिश्ते ठीक हैं.


अमिताभ बच्चन के कभी नहीं रहे भाई अजिताभ से अच्छे रिलेशन

Amitabh Bachchan

बॉलीवुड के लीजेंड बिग बी की अपने भाई अजिताभ के साथ बहुत अच्छी बॉन्डिंग नहीं है. जैसा कि अमूमन होता है, बच्चन फैमिली का कोई विवाद कभी बाहर नहीं आ पाता, तो अजिताभ के साथ खराब रिश्ते की क्या वजह है, ये आजतक कोई नहीं जान पाया, लेकिन ये सच है कि अजिताभ बिग बी के किसी भी फैमिली फंक्शन में कभी नहीं नज़र आते.

पिता ऋषि से अनबन के कारण रणबीर कपूर ने छोड़ दिया था घर

Ranbir Kapoor

रणबीर कपूर के भी अपने पिता ऋषि कपूर के साथ अनबन ही रही. ये अनबन इतनी बढ़ गई कि रणबीर अपना अलग घर लेकर रहने लगे. बताया जाता है कि ऋषि कपूर उस समय रणबीर और कटरीना के रिश्ते से ज्यादा खुश नहीं थे और रणबीर कटरीना के साथ लिव इन में रहना चाहते थे, इसी बात पर दोनों में विवाद हो गया था और रणबीर ने घर छोड़कर अलग रहने का फैसला कर लिया था. लेकिन जब ऋषि कपूर को कैंसर का पता चला और वे इलाज के लिए न्यूयॉर्क गए, तो बेटे रणबीर ने उनका पूरा ख्याल रखा था.

रेखा के पिता ने उन्हें हमेशा इग्नोर किया

rekha

रेखा अपने पिता जेमिनी गणेशन की नाजायज़ औलाद थीं और क्या आप जानते हैं कि जेमिनी ने रेखा को पहचानने से भी इनकार कर दिया था. एक इंटरव्यू में खुद रेखा ने बताया था कि उसके पिता एक बार स्कूल में अपने बच्चों को लेने आये थे, लेकिन वो रेखा के पास से ही गुज़रे, पर उन्होंने ऐसा शो किया कि रेखा को पहचानते ही नहीं. आप अंदाजा लगा सकते हैं कि ऐसे पिता से बेटी के कैसे रिश्ते होंगे.

आशा भोसले की शादी के खिलाफ थी लता मंगेशकर

Asha Bhosle

लीजेंड सिंगर आशा भोसले जैसा कि आप जानते हैं लता मंगेशकर की बहन भी हैं और ज़्यादातर लोग जानते हैं कि लता जी से आशा जी के संबंध कभी बहुत अच्छे नहीं रहे. बताया जाता है कि आशा जी ने परिवार की मर्ज़ी के खिलाफ शादी करने का फैसला किया था, लता जी उनके इस फैसले से सख्त नाराज़ हुई थीं और ये नाराज़गी उनके रिश्तों में हमेशा बनी रही.

मल्लिका शेरावत के बोल्ड सीन्स से पिता रहे नाराज़

Mallika Sherawat

इस लिस्ट में मल्लिका शेरावत का नाम भी शामिल है. उनकी फैमिली उनसे तब बहुत ज़्यादा नाराज़ हो गयी जब उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री जॉइन करने का फैसला किया. मल्लिका के बोल्ड फिल्में करने के फैसलों ने बात और बिगाड़ दी, लेकिन समय के साथ अब सब कुछ नार्मल हो गया है.

सुरवीन चावला की फैमिली को नहीं पसन्द था उनका फिल्मों में आना

Surveen Chawla

सुरवीन चावला की फैमिली बिल्कुल नहीं चाहती थी कि वो एक्टिंग को अपना करियर बनाएं. लेकिन पैरेंट्स की इच्छा के खिलाफ सुरवीन ने एक्टिंग को अपना करियर बनाया. फ़िल्म ‘हेट स्टोरी 2’ के बाद तो सुरवीन के अपनी फैमिली से रिलेशन बहुत बिगड़ गए थे, लेकिन अब उनकी फैमिली में भी धीरे-धीरे सब ठीक हो रहा है.

पिता उदित की पहली शादी से आदित्य थे नाराज़

Aditya Narayan

सिंगर उदित नारायण ने तथाकथित तौर पर एक महिला से अरेंज मैरिज की थी और उसे नेपाल में ही छोड़ दिया था. उससे तलाक लिए बिना ही बाद में उदित नारायण ने दीपा से लव मैरिज की. कहा जाता है कि आदित्य पिता की इस बात से बहुत नाराज रहते थे और इसी कारण उनके सम्बंध भी बिगड़े रहे. खैर अब पिता-पुत्र सब भूल चुके हैं और फिलहाल उदित नारायण बेटे आदित्य की शादी की तैयारियों में जुटे हुए हैं.

सुहागिनों का त्योहार करवा चौथ आज पूरे देश में धूमधाम से मनाया जा रहा है. आम महिलाएं ही नहीं, बल्कि बॉलीवुड और टेलीविजन की कई एक्ट्रेसेस भी अपने पति की लंबी उम्र के लिए करवा चौथ का व्रत रखती हैं और उनके करवा चौथ लुक से सभी इन्सपरेशन लेते हैं, लेकिन कुछ एक्ट्रेसेस ऐसी भी हैं, जो पति के प्रति प्यार जताने के लिए भूखे रहने पर यकीन नहीं रखतीं, इसलिए करवा चौथ को फ़ास्ट करने की बजाय इसे खास अंदाज में सेलिब्रेट करती हैं. आइये ऐसी ही कुछ एक्ट्रेसेस के बारे में बात करते हैं.

करीना कपूर

Kareena kapoor

करीना कपूर यूं तो पंजाबी परिवार से आती हैं और पंजाब में करवा चौथ की ज़्यादा मान्यता है. सैफ से उनकी शादी को 8 साल पूरे हो गए हैं, लेकिन करीना ने कभी सैफ के लिए करवा चौथ का व्रत नहीं रखा है. करीना का कहना है कि पति के प्रति प्यार साबित करने के लिए करवा चौथ का व्रत रखने की ज़रुरत नहीं है. वो कहती हैं कि वह कपूर हैं और भूखी नहीं रह सकतीं. हालांकि करवा चौथ के दिन को वह खास तरह से तैयार होती हैं, लेकिन व्रत नहीं रखतीं.

दीपिका पादुकोण

Deepika Padukone

दीपिका पादुकोण अब सिंधी परिवार की बहू बन गई हैं और सिंधियों में भी सुहागिनों के लिए करवा चौथ का व्रत ज़रूरी माना जाता है, लेकिन दीपिका करवा चौथ का व्रत नहीं रखती हैं. उनका भी मानना है कि भूखे रहकर पति के प्रति प्यार साबित नहीं किया जा सकता. एक दूसरे का हर पल साथ निभाना ज़्यादा ज़रूरी होता है.

सोनम कपूर

Sonam Kapoor

सोनम कपूर ने बिजनेसमैन आनंद आहूजा के साथ शादी की है और करवा चौथ के दिन पति के लिए व्रत रखने की बजाय वो उनके साथ बाहर डिनर करके इसे सेलिब्रेट करना ज़्यादा पसन्द करती हैं. हालांकि शादी के बाद अपने पहले करवा चौथ व्रत के लिए सोनम बेहद एक्साइटेड भी थीं. उन्होने पति आनंद के साथ मेहंदी भी लगवाई थी, जिसकी फ़ोटो भी उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर की थी, लेकिन उनके पति आनंद आहूजा ने सोनम के सामने व्रत रखने की बजाए बाहर डिनर करने और साथ में टाइम स्पेंड करने का ऑफर रखा, जिसे सोनम ने मान लिया था और व्रत नहीं रखा था.

ट्विंकल खन्ना

Twinkle Khanna

ट्विंकल खन्ना भी पंजाबी परिवार को बिलोंग करती हैं और अक्षय कुमार से उनकी शादी को 19 साल हो गए हैं, लेकिन उन्होंने इन 19 सालों में कभी करवा चौथ का व्रत नहीं रखा. वह मानती हैं कि भूखा रहकर पति की उम्र नहीं बढ़ती. इसी मामले में कुछ साल पहले एक ट्विट करके ट्विंकल विवादों में घिर गई थीं, जिसमें उन्होने लिखा था ‘आजकल जहां 40 की उम्र में लोग दूसरी शादी कर लेते हैं तो पहले पति के लिए फास्ट रखने से क्या फायदा जब उनके साथ पूरी लाइफ रहना ही नहीं.’ इस ट्विट के बाद ट्विंकल बुरी तरह ट्रोल हो गईं और लोग उनके प्रति गुस्सा ज़ाहिर करने लगे, तब ट्विंकल ने रिसर्च पेश करके अपनी सफाई दी थी और कहा था कि “मैंने लंबी उम्र के आंकड़े चेक किए. 100 देश ऐसे हैं, जहां पुरुष किसी के व्रत रखे बिना भी भारतीय पुरुषों से ज्यादा जीते हैं.’ तब जाकर मामला शांत हुआ.


विद्या बालन

Vidya balan

एक्ट्रेस विद्या बालन के साड़ी लुक से कई महिलाएं अपने करवा चौथ लुक की इन्सपरेशन लेती हों, लेकिन खुद विद्या भी करवा चौथ का व्रत नहीं रखतीं. वो भी पति की उम्र बढ़ाने के लिए व्रत रखने पर यकीन नहीं करतीं.